भोजपुरी में बीएफ सेक्स

छवि स्रोत,सट्टा किंग आज की खबर दिसावर की

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स की बात: भोजपुरी में बीएफ सेक्स, वो मेरी मां की गांड को दबाते हुए उसको जोर जोर से भींचने लगा और उसका तना हुआ लंड मेरी मां की चूत के पास बार बार टकराने लगा.

राजस्थानी sexy

थोड़ी देर बाद वो भी बाहर आ गईं और अपने कमरे में जाकर तैयार होकर किचन में काम करने लगीं. मलयालम सेक्सइतना कह कर विकास ने मेरा हाथ छोड़ा और वहीं पार्किंग में खड़ी एक फार्च्यूनर की आड़ में जाकर सिगरेट पीने लगा।विकास की बातें मेरे दिमाग में घूम रही थीं।बात तो सही थी, धोखा तो हम दे ही रहे थे और मज़ा भी आ रहा था। विक्रम का फ़ोन आने पर विक्रम से बात करते हुए विकास से अपने चूचे चुसवाने में एक अलग ही उत्तेजना होती थी मुझे.

पहले भी मेरी कई बार इच्छा हुई कि मेरे पति नमन मेरी चूत को चूमें चाटें और मुझसे अपना लंड भी चुसवाएं. सेक्सी फिल्मे इंडियन लड़कीथोड़ी देर बाद जब मुझे होश आया, तो मैंने सुनयना भाभी की ओर देखा, उनके चेहरे पर भी एक सुकून सा दिख रहा था.

अभी से मैं क्या कह सकती हूं?उसने कहा- जब करना ही है तो फिर राजीव भैया में क्या बुराई है? तुम अच्छी तरह से सोच लो और फिर बाद में मुझे बता देना.भोजपुरी में बीएफ सेक्स: फिर सुरजीत सर ने मुझे गोद में उठा कर चोदना शुरू कर दिया और मुझे उछाल उछाल कर चोदने लगे.

पहली बार मैंने किसी जवान लड़के को इतनी मस्त चुदाई करते हुए देखा था.अंकल ने अपनी बेटी की ओर देखा और उन्होंने पारिज़ा के बदन से चादर हटा दी.

हिंदी वीडियो सेक्स मूवी - भोजपुरी में बीएफ सेक्स

मैंने भी देर नहीं करते हुए अपना लंड सरिता चाची की चूत पर टिकाया और एक जोरदार शॉट दे मारा.मुखिया- व्व…वो मैं ये पूछने आया था कि रात को कोई परेशानी तो नहीं हुई ना बेटी!सुमन- नहीं नहीं मुखिया जी, वो तो आते ही सो गए थे … और दूसरा यहां था ही कौन, जो मुझे परेशान करता.

इसके बारे में फिर कभी और विस्तार से चर्चा करेंगे; फ़िलहाल अभी अपने साथ घटी एक सेक्स कहानी सुना रहा हूँ, जो शत प्रतिशत सच्ची न्यूड भाभी चुदाई स्टोरी है. भोजपुरी में बीएफ सेक्स सीमा जी के काले और मोटे भोसड़े को चोदने के बाद हम दोनों सुस्ताने लगे थे.

मैंने कहा- तब तक ऐसे ही बैठूं क्या?उसने कहा- मजबूरी है, आप एक काम कीजिए, अन्दर वाले कमरे में चलिए, वहां कोई नहीं आता.

भोजपुरी में बीएफ सेक्स?

मैं बोली- मगर ये तो नाइंसाफी है, आप कैसे भी, कुछ भी कीजिये लेकिन हमारी मदद कीजिये, मैं कुछ भी करने के लिए तैयार हूं लेकिन केस हमें नहीं हारना है. हम कभी कभी रात को साथ में घूमने भी चले जाया करते थे और बाहर ही, साथ में खाना भी खा लिया करते थे. मैंने मई 2017 में एक वकील के पास मुंशी यानि क्लर्क का काम शुरू किया.

उसने चिपके हुए ही अपने पैरों से खींच कर मेरा शॉर्ट्स उतार दिया … फिर मेरी टी-शर्ट भी उतार दी. मैंने उसकी कमर के नीचे तकिया लगा दिया और बोला- वीर्य बाहर मत निकलने दो. इस बात पर और शायद जुगाड़ शब्द पर वो थोड़ा सा मुस्कराते हुए कहने लगीं- तुमने गाड़ी कहां लगायी है?मैंने इधर उधर देखते हुए कहा- आप इधर ही रुको, मैं गाड़ी ले कर आता हूँ.

दो मिनट तक उसके मम्मों को सहलाने के बाद मैं उसे गर्दन पर चूमा तो पारिज़ा घूम गई. मैं उसे अपना बॉयफ्रेंड समझती थी और उसे बहुत मानती भी थी, उससे चुदना भी चाहती थी, लेकिन इस तरह से ये सब होगा, मैं सोचा ही न था. मंजिल पर पहुंचते ही मेरे लण्ड ने पिचकारी छोड़ी और मनीषा की चूत मेरे वीर्य से सराबोर हो गई.

वो भी अब फुल मजा ले रही थी और उसके मुंह से सिसकार के रूप में ऐसे शब्द निकल रहे थे- आह्ह … जानू … फक्क मी … और जोर से … और तेज … आह्ह … करो जानू।मुझे भी जोश आ गया. कुछेक तस्वीरों में वो सिगरेट के छल्ले उड़ाते हुए ब्रा पहने हुए अपनी कातिल अदाएं बिखेर रही थी.

मेरी बहन की चूत की कहानी पर अपने कमेंट्स में बतायें कि हम दोनों के रिश्ते के जैसे ही क्या और भी भाई बहन होते हैं या फिर हम दोनों में ही ये सब खुले तौर पर हो रहा था? मुझे और रिया को आपकी राय का इंतजार रहेगा.

मैंने बहुत सारे आदमियों को नंगा देखा है, पर पता नहीं क्यों इसे नंगा देखकर मेरा मन बेचैन हो रहा था.

[emailprotected]कास्टिंग काउच सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मैं हिरोइन बन गयी- 3. फिर मैंने दोबारा से उंगली डाली तो वो फिर से शरारत करने लगी और इसी शरारत में मेरी आंख में उंगली लग गयी. मैंने भी उसके लंड को पकड़ लिया और हम दोनों बेतहाशा एक दूसरे को चूमने लगे.

उधर गीता मुखिया से चुद कर बड़ी मुश्किल से लंगड़ाते हुए अपने घर पहुंची. रूम में अंधेरा था लेकिन बाहर बरामदे में से थोड़ी बहुत रोशनी आ रही थी जिसमें मुझे मम्मी और पापा की हरकतें दिखाई दे रही थीं और उनके अंग भी दिख रहे थे. मैंने पूछा- मुझे ही बताया है या किसी और को भी?नहीं, बस आपको ही बताया है.

चाचा ने उसके सारे कपड़े उतार कर उसे कम्बल से ढककर लिटा दिया और अन्दर जल रही चिमनी की आग बढ़ा दी.

मनीषा की कमर पकड़कर मैंने उसे बैक गियर लगाने को कह तो मनीषा ने अपने चूतड़ों को मेरी ओर धकेला. मैं तो अपनी किस्मत पर गर्व कर रहा था कि मौसी इतनी जल्दी पट गयी मुझसे!उसके बाद मौसी ने मेरे पूरे कपड़े उतार दिये. मेरे हाथ को लंड पर पहुंचते देर न लगी और मैं भाभी की चूचियों के बारे में सोच कर अपने लंड को सहलाने लगा.

चाची ने मुझसे खाने के बारे में पूछा, तो मैंने बोल दिया कि चाची मैं खाना खाकर आया हूँ. मेरा लंड खड़ा हो गया था, उसमें मेरा लंड फनफनाते हुए देख लिया और बोली- अभी से इतना बेकाबू! इतनी क्या जल्दी है … घर पर चलेंगे, हमारे पास पूरी दो रात और दो दिन हैं. मैंने उसकी दोनों टांगों को अपनी कमर पर रखा और लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा.

मैंने काउंटर पर जाकर कहा- सुनो ना भैया … हमारी एक सहेली की शादी है.

बहुत देर तक चोदने के बाद मेरा माल निकलने वाला था … तो मैंने उससे कहा. मैंने तुली की मांग में सिंदूर भरा और तुली को अपनी बाहों में भर लिया.

भोजपुरी में बीएफ सेक्स फिर वो बाहर आ गयी और मैंने उसकी सलवार की सिलाई खोल दी जहां से चूत दिख जाये. वो हांफते हुए बोलने लगी कि मैं कहीं भागी थोड़ी जा रही हूँ … आज की पूरी रात है हमारे पास … तुम तो ऐसे चोद रहे थे कि जैसे आज के बाद मैं कभी मिलूंगी ही नहीं.

भोजपुरी में बीएफ सेक्स एक बार में मेरे घर के बाहर से निकला, तो देखा कि हिना दीदी अपने घर के बाहर अकेले चबूतरे पर बैठी थीं. एक तो पहली बार सेक्स करने का जोश था और दूसरी ओर उसका हल्का विरोध तोड़ने के लिए उसके साथ जोरा जोरी करने में भी बहुत मजा आ रहा था.

ऐसे फिगर वाली लड़कियां बहुत कम मिलती हैं जिनकी बॉडी पर थोड़ी सी भी अतिरिक्त चर्बी न हो.

অ্যাডাল্ট ব্লু ফিল্ম অ্যাডাল্ট

फिर वो मेरे ऊपर आ गयी और मेरे लंड के ऊपर धीरे धीरे बैठ गयी और फिर अपनी गांड उठा उठा कर मेरे लंड को खाने लगी. मैं कोई ऐसा पार्क देखने लगा जहां पर थोड़ा अंधेरा हो और लोग भी कम हों. नंगी मां को पापा के लंड पर चुदते हुए देख कर मैं लंड को जोर जोर से मसलने लगा और दो मिनट में ही मेरा वीर्य निकल गया.

मैरिड वुमन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मेरी पड़ोसन भाभी ने मुझे मुठ मारते देख लिया. फिर पापा ने मम्मी के ब्लाउज को निकाल कर उनके दूधों से खेलना शुरू कर दिया. चाची बोलीं- हां अब डालो अपना लंड इस चूत में!मैंने भी अपना लंड चाची के चूत में डाल दिया और चाची को पेलने लगा.

मैंने उनके सर को पकड़ उनके मुँह को लौड़े से चोदना शुरू कर दिया और दनदनादन धक्के मारने लगा.

मैंने फिर से लंड को सिंदूर से लाल किया और उधर उसने अपने हाथों से अपने चूतड़ों को खोल कर गांड का छेद सामने कर दिया था. मैंने अपने दोनों कबूतरों को प्यार से सहलाया और इनकी चोंच को चुटकी में दबा दबा के दबाया तो मेरा पूरा जिस्म झनझना गया. मेरे चूतड़ों और चूचियों को देख कर सभी कामुक लोगों का लंड खड़ा हो जाता है.

पब्लिक प्लेस सेक्स स्टोरी पर मुझे आप सभी प्यारे पाठकों के फीडबैक का इंतजार रहेगा, तब तक अपने प्यासे लौड़ों और चुदासी चूतों की प्यास को शांत करते रहिए और जिन्दगी के मज़े लेते रहिए।[emailprotected]. मैंने उनसे पूछा कि क्या हुआ?तो वो बोलीं कि लता (बदला हुआ नाम) की याद आ रही है. मेरे हाथों में जितनी ताकत थी, उतने ही दम से मैं उनके मोटे बोबों को दबा रहा था … मसल रहा था.

उसके होंठों पर अपने होंठ चिपका कर मैंने उसकी जीभ को अपने मुंह में खींच लिया. मैंने उनके ईमेल पर रिप्लाई किया और अपना नंबर देते हुए कॉल करने के लिए बोला.

वैसे आपके बारे में क्या आपके बच्चों को पता नहीं है?मुखिया- अरे कैसे पता होगा. मुझे पता था कि मेरी झिल्ली या हाईमन एकदम सुरक्षित है जिसे मैंने अपनी सुहागरात को अपने पति को उपहार देने के लिए बड़े जतन से बचाए रखा था. साथ ही मैंने मोनिषा के लोवर की नीचे से सिलाई खोल दी, ताकि रात को मुझे कुछ परेशानी ना हो.

मुझे कुछ समझ नहीं आया, मैं अपने आपको कोस रहा था कि क्यों मैंने इतना अच्छा मौका जाने दिया.

दीदी की तेज आह निकलती, इससे पहले मैंने अपने हाथ का ढक्कन उनके मुँह पर लगा दिया था. पार्टी के दूसरे दिन जब मैं ऑफिस पहुंचा तो देखा रोज़ी नाइट सूट में अपने गेट पर खड़ी थी. मुखिया- राम राम … राम राम … अरे वाह ये छोटी सी दुल्हन भी साथ आई है.

इंडियन वाइफ सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी बीवी निहायती खूबसूरत और सेक्सी है. यूं तो देखने में अंगिका उसकी दोस्त मालिनी से ज्यादा सुंदर थी मगर मालिनी के जिस्म की बनावट गांव में काम करने वाली औरत के जैसी थी.

उसकी पैंटी में मुझे उसकी मक्खन गांड का स्पर्श मिला, तो मैं उसकी गांड मसलने लगा. अभी भी करते हैं लेकिन अब उनके लंड में उतना तनाव पैदा नहीं हो पाता है. उन्होंने अपनी टांगों को पूरी तरह से चौड़ा दिया और मुझे उनकी एकदम चिकनी चूत दिखने लगी.

हिंदी पिक्चर फिल्म बीएफ

काफी समय तक बातचीत के मैंने देखा कि उसकी कुछ फोटोज भी आ गई थीं जो बहुत ही हॉट और सेक्सी थीं.

मैंने झटका देते हुए पूरा लंड चूत के अन्दर डाल दिया और संजू को किस करने लगा. सुमन- आह चोदते रहो … मेरे अन्दर ही अपना पूरा पानी डाल दो आह मेरी चुत को भर दो उफ. जवानी ऐसी कि जो भी उस कमसिन कली को देख ले तो उसके सोए हुए लंड में जान आ जाए.

मैडम ने चिकन पकने के लिए छोड़ दिया और किचन की स्लिप पर अपने हाथ रख लिए हुए गांड में लंड लेने लगीं. इतना ज्यादा क्यों पूछ रहा है?मैं- रिया तुझे मेरी कसम है, प्लीज बता दे. वीराना फिल्म वीडियोलगभग 20 मिनट तक धक्के लगाने के बाद उन्होंने अपना वीर्य मेरे अंदर ही छोड़ दिया और अलग हट गये.

मौसी की चूत इतनी गर्म थी कि मुझे उसकी चूत में वीर्य निकालने में जो मजा आया वो फिर उसके बाद कभी नहीं आया. वो भी अपने दोनों हाथों से मेरे सर को अपने मम्मों की तरफ़ दबा रही थी और हल्की हल्की आवाज़ कर थी.

जब मर्द मेरी उभरी हुई चूचियों को लालच भरी निगाहों से देखते हैं, तो मेरा रोम रोम प्रफुल्लित हो उठता है।खैर आती हूं वापस कहानी पर!मैंने उसे देखा, और अचानक से मेरे हृदय मेंकाम की ज्वालाजग गई. मैं चूत में धक्का लगाने ही वाला था कि वो बोली- कॉन्डम तो लगा लो बेवकूफ!ये बोलकर वो उठी और बेड की दराज से उसने एक कॉन्डम निकाला. महक के दोनों पैर मैंने अलग कर दिए और उसकी मस्त मखमली चूत पर अपने होंठ रख दिए.

जैसे ही मैं नीचे झुकी वकील के मुंह से स्स्स … करके एक हल्की सी सिसकारी निकली. जैसे ही उसका ध्यान होंठों को चूसने में गया तो मैंने नीचे से ध्क्का मार दिया. मैं उसके करीब लेटकर उसके कान के पास अपना मुँह लेकर गया और बोला- संजू.

फिर एक आदमी मॉम के पास आया और उसको उठा कर दूसरे रूम में ले जाने लगा.

जब तक मैडम ने मेरे ने मेरे से बातें की, तब तक मैं भी मैडम के मम्मों को देख देख कर अपना लंड हिलाता रहा. मैं उठने लगा, तो काटते वक़्त टमाटर का थोड़ा सा पानी जो नीचे गिर गया, वो दिखा नहीं.

मैं फराह के होंठों को चूसने लगा और दोनों एक दूसरे की लार को एक दूसरे के मुंह से खींचने लगे. फिर मैं भी कुछ देर रुका एक सिगरेट फूकी और अपनी सीट पर जाकर बैठ गया. उसने भी अपना हाथ नीचे बढ़ा कर मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ लिया और वो लंड को सहलाने और दबाने लगी.

इसलिए जैसे ही मेरे हाथ में उसकी पैंटी आयी तो मैंने उसको छेड़ते हुए कहा- आखिर कितने कपड़े पहन कर सोती है तू? इसके नीचे पैंटी पहनना ज़रूरी था?ये सुन कर वो धीरे से मुस्करा दी. फिर उन्होंने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ा और उस पर किस करते हुए बोलीं- तुमने मुझे आज खुश कर दिया है. मुझे थोड़ा दर्द भी हो रहा था, पर लंड के स्पर्श से मजा भी बहुत आ रहा था.

भोजपुरी में बीएफ सेक्स मौसा जी? कौन है तू? संध्या नहीं तू … ??” मौसाजी ने आश्चर्य चकित होकर कहा और मुझे झिंझोड़ डाला. वो भी किसी प्रकार का कोई विरोध नहीं कर रही थी।उसका कुर्ता निकालने के बाद मैंने भी अपनी शर्ट निकाल दी और मेरी छाती नंगी हो गयी.

एक्स एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो देसी

मैंने कहा- सुषमा मैडम जी … आप रहने दो … ऐसे तो कपड़े और ख़राब हो जाएंगे. मुझे जब भी उसे देखने का मौका मिलता तो मैं उसे जरूर देखता था नहाते हुए. दस मिनट की चुदाई के बाद मेरा निकलने को हो गया और मैं तेजी से उसकी चूत में धक्के लगाने लगा.

उसने एक एक करके डोरी बांधना शुरू की, तीन डोरी में अंदाजा हो गया कि ये ब्लाउज थोड़ा टाईट है. मेरी हालत यह थी की मैं कमर से नीचे बिल्कुल नंगी थी और मेरी तीन उंगलियां मेरी योनि में अब भी घुसी हुयीं थीं जैसे की मौसा जी के आने से ठीक पहले मैं अपनी योनि में तीनों उंगलियां अन्दर बाहर करके झड़ने के करीब पहुँचने ही वाली थी. తమిళ సెక్స్ వీడియోतभी भाभी मेरे सामने आ गई और बोली- विशु, क्या मैं तेरा लंड चूस सकती हूँ?ये बोल कर वो घुटनों के बल बैठ गई और पलक झपकते ही उन्होंने मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया और लॉलीपॉप के जैसे चूसने लगी.

उसकी चूत में मेरा लंड, गांड में उंगली और मेरे होंठों पर दिशा के सॉफ्ट होंठ थे.

ऐसा पहली बार ही हुआ था कि हम दोनों भाई बहन घर में अकेले हों और वो भी रात के समय में।गर्मियों के दिन थे. ऐसा पहली बार ही हुआ था कि हम दोनों भाई बहन घर में अकेले हों और वो भी रात के समय में।गर्मियों के दिन थे.

डॉक्टर बाबू ने ठीक से चोदा भी नहीं है क्या? उनका कितना बड़ा है … बता तो जरा!सुमन- वही चोदते तो आपको क्यों बुलाती. यदि आप लोगों ने मेरी पहले की सेक्स कहानीचाची को चोदापढ़ी होगी, तो आप सरिता चाची के बारे में आप जानते होंगे. चूंकि मुझे डर लग रहा था … इसलिए मैंने जल्दी करना ही ठीक समझा और अपने पैंटी को नीचे खिसका कर सीधे उससे लंड चूत में डालने को बोल दिया.

धीरे-धीरे मैं उसकी चूत के अंदर तक चाटने लगा और उसके हाथ जो पहले उसके बूब्स पर थे, अब मेरे सिर को नीचे उसकी चूत पर दबा रहे थे.

सेक्सी गांड में लंड कहानी में पढ़ें कि मेरी बिल्डिंग में रह रही कॉलगर्ल की चुदाई का मुझे मजेदार अनुभव मिला. मैं अपने हाथ पर लगे वीर्य को धोना चाहती थी … क्योंकि मुझे ये पसंद नहीं था. 7-8 सालों के बाद आज वो सब कुछ होने जा रहा था जिससे मैं अपने आप को बचाता फिरता था.

सेक्सी पिक्चर फुल हद वीडियोयदि आपको भी चाची की गांड मारने का मौक़ा मिल जाएगा, तो आप भी मेरी चाची की गांड जरूर मारे बिना नहीं रह पाएंगे. पांच मिनट हो चुके थे उसकी चूत में लंड फंसे हुए और उसको मेरे लंड पर अपनी गांड चलाते हुए.

सेक्सी देहाती देसी

राज ने अपना लंड मेरी चूत पर लगाकर अन्दर कर दिया और मेरी चुदाई करने लगा. उनकी तरफ से कोई भी प्रतिरोध न पाकर मैं उनके मम्मों को भी दबाने लगा. दीदी- अच्छा सिर्फ कपड़े देख रहा है या कपड़े के अन्दर भी कुछ और देख रहा है.

वरुण और राज साथ में दारू पी रहे थे और रुचि मेरे बगल में लेटी थी, शायद वो भी थोड़े नशे में थी. वैसे तो हम तीनों आपस में एक दूसरे से खुल चुके थे लेकिन बात अभी गाली गलौच तक नहीं पहुंची थी. परन्तु …इस हॉट जवानी की कहानी के पिछले भागअब और न तरसूंगी- 2में आपने पढ़ा किअब आगे की हॉट जवानी की कहानी:काफी मेहमान तो विदाई के बाद जा चुके थे लेकिन ख़ास ख़ास मेहमान अभी भी बहुत सारे थे जिन्हें सोमवार को कथा के बाद ही जाना था.

फिर उसे अच्छे से साफ करके उसको वापस सुखा दिया और नहा कर बाहर आ गया. पारिज़ा- अब्बू क्या बात करनी है?अंकल- पारिज़ा बेटा, तुम्हें एतराज ना हो तो क्या तुम मेरे साथ सो सकती हो. महक मेरे हाथ से गुलाब लेते हुए बड़े प्यार से बोली- ओह्ह्ह गुरू … बस इतना कहने के लिए कितना टाइम लगा दिया तुमने … आय लव यू टू गुरू.

मैंने कहा- यार जरा कॉफ़ी पीने का मन हो रहा है, पहले कॉफ़ी पी लें?वो बोली- हां चलो, इधर एक अच्छी कॉफ़ी शॉप है. कोई 5 मिनट के बाद पूरा लंड आसानी से अन्दर बाहर होने लगा और श्वेता को भी मजा आने लगा.

उसका हाथ पीछे की ओर मेरी पैंट तक आकर मेरे लंड को सहलाने लगा और मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा.

सेक्सी सिस्टर की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैंने अपनी छोटी बहन की चूत चाट ली थी. सेक्सी फिल्म 12 सालफिर उसने बोला- अब तुम मेरी गंदी पसीने वाली बगलें चाटो … जिसके मैंने 1 महीने से बाल ही नहीं बनाए हैं. लड़की कुत्ता सेक्ससच में दोस्तो, एक अलग ही आनंद की अनुभूति हुई मुझे मिकी की चुदाई करके. तो मैं अचकचा गया कि अब इस वक्त ऐसी ड्रेस में ये शादी करने मन्दिर कैसे जाएगी.

मैंने उसका नाड़ा खोल दिया, पर उसने अपने पैर फैला कर पेटीकोट को गिरने से रोक लिया.

वो तड़पने लगी- साले कुत्ते डाल ना इस लंड को … फाड़ दे रे मेरी चूत को!ऐसा सुन कर मुझे गुस्सा आ गया. मैं उसके साथ सेक्स करना चाहती थी, पर अगर वो होश में आया तो शायद ना करे … या मुझे गलत समझ ले. आज अंकल पहले से ज्यादा जोश में लग रहे थे और पूरे जोश में अपनी बेटी पारिज़ा की चुत पेल रहे थे.

कमेंट्स में अपनी राय दें और आप मुझे नीचे दी गयी ईमेल पर मैसेज भी कर सकते हैं. मैंने धीरे धीरे उसके पूरे नंगे बदन पर लोशन लगाया और हाथ से रगड़ने लगा. छुकपुक चलती ट्रेन में भाबी गांड देख कर तो मेरे लंड ने धुकपुक करना शुरू कर दी थी.

बीएफ चाहिए सेक्सी वीडियो बीएफ

डर के मारे मेरी तो सांस ही रुक गयी, मेरी तीन उंगलियां योनि में मेरे भीतर घुसीं थीं वो वहीं घुसीं हुई ठहर गयीं. उसने धीरे से मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया और तेज़ी से ऊपर नीचे करते हुए लंड को चूसने लगी. उन्हीं रिश्तेदारों में एक भाभी की बड़ी बहन थी जिनका नाम प्रेरणा (बदला हुआ) था.

फिर घुटनों पर आकर मेरे लंड पर झुक गयी और लंड को मुंह में लेकर मेरे लंड के रस को चूसते हुए मुझे चुसाई का मजा देने लगी.

मेरा लंड अंगिका की चूत में लगातार कोल्हू के बैल की तरह पिलाई कर रहा था और अब मैं मालिनी की चूत को अपनी जीभ से चाट रहा था.

उस वक्त मैं दिल्ली में आ गयी और कमाने के लिए मेरे पास कोई और जरिया नहीं था. सुमन की साड़ी भी नेट की थी यानि ऐसी जालीदार साड़ी, जिसमें से उसका गोरा बदन स्पष्ट झांक रहा था. कल्याणी ब्रावो अपने हाथ में मेरे लंड की मुठ मारते हुए इतनी मस्ती से मेरे सुपारे पर जीभ चला रही थी कि मेरी आंखें बंद होने लगी थीं.

जैसे ही उसके घर में घुसा, तो उसने मेरे हालातों को देख कर मुझे अन्दर आने दिया और जल्दी से घर का दरवाजा बंद कर दिया. मैं बोला- जब हम दोनों शौहर बीवी बन जायेंगे तो तुम मुझे सहन कर पाओगी?वो बोली- हां, मैं सहन कर लूंगी. हालत पतली हो गई। मैंने फोन नहीं उठाया।फुल रिंग होने के बाद मैंने तुरंत मोबाइल ऑफ कर दिया। डर के मारे मेरा लंड भी मुरझा गया.

मैंने बोला- अभी तो मैंने छोटी उंगली डाली है … फिर बड़ी उंगली फिर अंगूठा और लास्ट में लंड डालूंगा. फिर एक दिन दीपावली से एक हफ्ते पहले फ्राइडे के दिन उसने मुझसे कहा- क्यों ना आज हम दोनों नाइट आउट करें, पार्टी करते हैं.

गर्लफ्रेंड लंड देख कर बोली- उई मम्मी … तो बहुत बड़ा है … ये तो एक बालिस्त से भी बड़ा लग रहा है.

मैंने मुश्किल से बरमूडा की जेब में हाथ डाल कर उसको लंड वाली जगह से ऊपर उठाया ताकि मेरा तना हुआ लंड किसी को महसूस न हो. मुझे गिरता देख मॉम वहां से मेरी मदद के लिए दौड़ी और जल्दी से आकर मेरे हाथ पकड़ कर मुझे उठाने लगी. लंड बाहर निकलते ही पानी उसकी गांड से बहने लगा। मैंने जेब से रुमाल निकाला और उसे पोंछने लगा। फिर अपना लंड पोंछा.

हिंदी जंगल सेक्स वीडियो उसे होटल में जाने की सुनकर पहले तो डर लगा … मगर मैंने उसे मना लिया. मैं उसके सामने जाकर खड़ी हो गई और उससे बोली कि तुम्हारी एक ओर चोरी पकड़ी गई.

डर के मारे मेरी तो सांस ही रुक गयी, मेरी तीन उंगलियां योनि में मेरे भीतर घुसीं थीं वो वहीं घुसीं हुई ठहर गयीं. इस तरह से मेरी ऑफिस वाली भाभी ने मुझे खूब मजे दिये और उसने भी मेरे लंड से चुद कर खूब मजे किये. अब आगे की सामूहिक चुदाई कहानी:हम दोपहर का खाना खाकर फिर से होटल जाने को तैयार थे.

एक्स एन एक्स एक्स हिंदी मूवी

पर मेरी बात को सुने बिना उसने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और अन्दर कमरे में बेड पर लेटा दिया. उसका कोमल हाथ मेरे लंड के जरिये मेरे पूरे शरीर में करंट पैदा कर गया. फिर मैंने उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगाया और अपने लंड पर थोड़ा सा थूक लगाया.

फिर मैंने उठकर उसकी टांगों को फैलाकर चूत को देखा और अगले ही पल उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख लिया. कालू- क्या बात है मालिक बहुत देर लगा दी आपने!मुखिया- साले कच्ची कली को भोग के आ रहा हूँ.

विभा भाभी को बहुत मजा आ रहा होगा, ऐसा मुझे उनके चेहरे से लग रहा था.

विभा भाभी को बहुत मजा आ रहा होगा, ऐसा मुझे उनके चेहरे से लग रहा था. मेरे दिमाग में खुराफात सूझी कि क्यों ना भाभी को किचन में ही चोदा जाए. उसने इठलाते हुए लिखा- हां पापा, आज तक मुझे इस तरह दुनिया में किसी ने नहीं देखा.

मैं खुद हैरान था इस बात से कि आज मुझे ये हुआ क्या जो मैं अभी तक झड़ नहीं रहा हूं। इससे पहले मैंने आज तक बस रंडियों को ही चोदा था तो बस एक बार ही कर पाता था। मगर ये मेरा पहली बार था ज़ब मैं लगातार दूसरी बार किसी को चोद रहा था. फिर श्वेता ने कहा- अब मेरी गांड में लंड डालो … और फिर से दो फेरे लो. मैंने उसी पल अपनी नज़रें नीचे कर लीं, पर ये बात मैं अपने दिल और लंड को कैसे समझाता.

जब उससे रहा न गया तो वो एकदम से उठी और मुझे नीचे गिरा कर मेरे लंड पर झुक गयी और उसने मेरे लंड को मुंह में भर लिया.

भोजपुरी में बीएफ सेक्स: मैंने हिम्मत करके भाभी से कहा कि भाभी आप मेरे आगे पेट छाती कर लीजिए और पीठ की तरफ़ से मुझसे चिपट जाओ और दोनों हाथ मेरे गले में डालकर पकड़ लो, इससे आपको मुझे उतारने में आसानी होगी. उस समय मेरी शादी नहीं हुई थी तो हर लड़की को देख कर मन काफी मचल उठता था। रोज़ी तो फिर अप्सरा थी.

थोड़ी देर बाद जब मुझे होश आया, तो मैंने सुनयना भाभी की ओर देखा, उनके चेहरे पर भी एक सुकून सा दिख रहा था. अब पापा मम्मी की चूचियों को दबाने लगे और उन्होंने धीरे धीरे करके मम्मी के ब्लाउज़ के बटन खोल दिए और ब्रा को चूचियों के ऊपर करके चूसने लगे. फिर भैया मुझसे बोले- विशु जल्दी से जा और डॉक्टर अंकल को लेकर आ।!उनके कहने पर मैं भी तुरन्त अपनी बाइक उठा कर डॉक्टर अंकल को लेने चला गया और उनको अपनी बाइक पर बैठा कर ले आया.

तू अब दूर हो जा मेरे से।मगर मैंने भी सोच रखा था कि अडल्ट वाला प्यार करना ही है.

उनमें से सबसे बड़ी का नाम था शायना। वह 22 साल की थी और कॉलेज में पढ़ रही थी. उसका रंग थोड़ा सांवला था लेकिन उसके चूचों की शेप मिकी से ज्यादा सेक्सी थी. उससे आगे चुदने की आशंका में मैंने अपने बॉय फ्रेंड डॉक्टर अनीश को बताया तो उसने मुझे बुला लिया और वहाँ एक कोचिंग सेंटर में मुझे सरकारी जॉब के लिए परीक्षा की तैयारी में लगा दिया.