प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सरोज की सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

फुल एचडी सेक्सी बीएफ: प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ, अब मैं मेरे दूसरे मामा के यहां चला आया जहां पर तीन मामा एक साथ रहते थे.

भाई बहन का सेक्सी डांस

वो मुँह फेरकर खड़ी हो गईं, तो मैंने चैक करने के बहाने पीछे से उनकी सलवार को थोड़ा सा खींचा और मुठ्ठी में दबाई हुई चींटियां उसके अन्दर डाल दीं. सबसे बड़े लंड वाली सेक्सी वीडियोरीमा मैडम इस बात से बिल्कुल जैसे बेफिक्र थी कि उसका पति भी उसको चुदते हुए देख रहा है.

अब वो बहुत उत्तेजित हो गयी थीं और किसी भूखी शेरनी की तरह मुझ पर टूट पड़ीं. हिंदी सेक्सी गुजराती फिल्ममैं डर गया और और चचा से गिड़गिड़ाते हुए बोला- चचा गलती हो गई दारू के नशे में, हम अब ये सब नही करेंगें.

गीता- माफ़ कर दो मुखिया जी, बस कुछ दिन और रुक जाओ, उसके बाद आपको कोई शिकायत नहीं होगी.प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ: यह कहानी लड़की की वासना भरी आवाज में सुनें!उसके बाद पहले आदिल आया और मेरी टी शर्ट ऊपर कर दी.

फिर तिलक के दिन मेरे फोन पर एक अनजान नंबर से कॉल आया, तो मैंने बात की, तो पता चला कि वो अंकिता ही है.मॉम की नज़र बार बार मेरे अंडरवियर पर ही जा रही थी लेकिन जैसे ही मैं मॉम की ओर देखता था, वैसे ही वो नज़र को हटा लेती थी.

सेक्सी सेक्सी वीडियो खपाखप - प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ

एकदम से सफेद चूचियां जिनके निप्पल तनकर मटर के दाने के समान हो गये थे.मेरे देखते देखते ही उसका बदन अकड़ने लगा और उसकी चूत का पानी निकल गया.

इकबाल ने मुझे घुटने के बल बिठा दिया और दोनों अपने खड़े लंड मुझे चुसवाने लगे. प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ मगर इतने में ही वो हलचल करने लगी और मैंने घबराकर अपना हाथ तेजी से बाहर खींच लिया.

घर के बाहर वाले बरामदे में मेहमानों के लिये दरी, गद्दों, तकियों का ढेर सा लगा था कि जिसे जो चाहिए ले लो.

प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ?

सच कहूं तो मेरा उसे नंगी देखने का दिल करने लगा क्योंकि उसकी टी-शर्ट से उसके मम्मों का उभार इतना उत्तेजक था कि मन कर रहा था कि अभी ही दबाकर चूसने लग जाऊं. अगले ही पल सुरेश के लंड से वीर्य की पिचकारी निकलना शुरू हो गई और सुमन मज़े से वीर्य को गटकने लगी. सुमन- तो अब क्या होगा … आप क्या करोगे? कोई दूसरा रास्ता नहीं है क्या?मुखिया- रास्ता सिर्फ़ तुम हो सुमन, अब जो भी है … सब तुम्हारे हाथ में है.

एक दिन मैंने उसकी चूचियां देख लीं तो मैं उसकी चुदाई के लिए तड़प उठा. सुरेश- आज जितना मन है चूस मेरी जान … स्पेशल तेरे लिए दवा लेकर आया हूँ. नीचे मेरी सहेली बड़ी शिद्दत से मेरे दाने को चूस चूस कर अपने होंठों से बाहर की ओर खींच रही थी.

वो नाराज हो गयी और ये कहकर पैंटी पहनने लगी। ये सब देखकर मेरी तो जान ही हलक में आ गई। अभी भाभी ने पैंटी आधी ही पहनी थी कि मैंने भाभी की पैंटी को पकड़ लिया और खींचने लगा।भाभी बोली- ये तूने बहुत बड़ी गलत हरकत की है। मैं तुम्हें सब कुछ करने दे रही थी लेकिन तूने तो हवस की हद पार कर दी।मैं भाभी की पैंटी को खींचते हुए माफी मांगने लगा. रणजीत- ठीक से लेट जा, ऐसे चिपक क्यों गई!सन्नो- क्यों जी आपकी पत्नी हूँ, इतना भी हक़ नहीं क्या मेरा … और वैसे भी कितने दिन हो गए हैं. धीरज बोला- हां आंटी, अभी आपकी चुत में कुछ बार घुसेगा … तो बड़ा और मोटा हो जाएगा.

मैंने देरी न करते हुए रागिनी को अपने नीचे लिटा दिया और अपने लौड़े पर थूक लगा कर रागिनी के बिल पर सेट किया. जब भी मेरे लंड के पास की जांघ का हिस्सा उसकी बुर के पास की जांघ से टकराता तो थपाक की आवाज निकलती और वह एकदम से चीख जाती.

मुझे यूं देखते हुए भाभी हंस दीं और बोलीं- आँखों से मार लोगे क्या … अन्दर आ जाओ.

तो मैं वो सब कर ही रही थी कि मौसा जी रसोई में आ गए और आते ही मुझे चूम लिया.

कहानी के पिछले भागमामी ने भाभी की चूत दिलवाई- 3में मैंने आपको बताया था कि कैसे मैंने भाभी की चुदाई के प्लान में मामी की मदद ली. बलराम- आओ भाई कालू, चलो अन्दर चलकर बात करते हैं … कैसे आना हुआ!बलराम अन्दर के कमरे में चला गया पीछे पीछे कालू भी चला गया. राहुल ने फिर पूछा- तुमने कुछ कहा नहीं?रूचि ने कहा- मैं तुम्हें बहुत पहले से ही पसंद करती हूँ.

दीदी ने तब द्विअर्थी भाषा में बात की- बहुत प्यासे लगते हो?मैंने सुरूर में कहा- क्या करें बिना पानी कोई सहारा ही नहीं है. जीभ के फिरते ही मेरी तेज सिसकारी निकल पड़ी, जिससे वो उत्तेजित हो गया. गर्म सिसकारियां लेते हुए भाभी ने अपना एक हाथ मेरे लौड़े पर रख दिया और उसे दबाने लगीं.

सुरेश जब घर पहुंचा, तो सुमन ने रेड कलर की बहुत ही सेक्सी नाइटी पहनी हुई थी, जिसको देखकर सुरेश खुश हो गया.

वो सब देख कर मेरा मन भी ललचाता कि नमन मुझे भी वैसे ही बलपूर्वक भोगें, मेरी योनि चाटें और मैं भी उनका लिंग अपने मुंह में भर कर चूसूं और चाटूं!पर अपनी लज्जावश मैंने अपनी कोई भी इच्छा कभी व्यक्त नहीं की. इस पर वो बोलीं- अभी ही निकाल लोगे, तो बाद में मेरी चुदाई कैसे करोगे! इसे अब ज्यादा थकाओ मत, आराम करने दो ताकि ये रात भर मेरी चूत को अपना पानी पिला सके. फिर वो दिन भी आ गया जब भाईसाहब को अपने ऑफिस से ही शादी में जाने के लिए निकलना था.

मौसम दोपहर बाद से ही खराब हो रहा था और आसमान में गहरे काले बादल मंडरा रहे थे. इस अहसास ने मुझसे रहा नहीं गया और मेरे मुँह से हल्की सी दर्द भरी सी आवाज निकली- आह भाभी!भाभी ने अपना मुँह ऊपर उठा कर कहा- क्या हुआ राजा!मैं कुछ नहीं बोला और मैंने अपना अंडरवियर घुटनों तक कर दिया. मैंने उनका कामरस पूरा चाटा और जोर जोर से जीभ चलाते हुए उनकी चूत को चोदने लगा.

एक दिन भाभी का कॉल आया- आज मुझे बाजार से कुछ कपड़े लेने हैं, तो साथ चलना.

उसने मुझे भड़काते हुए कहा- जीजू, अब तो आप धकापेल चोद लो … आपमें जितना दम है, चोदो. बॉस से चुदाई करवाने का मेरा मन बहुत करता था लेकिन मैं अपनी तरफ से पहल नहीं करना चाह रही थी.

प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ मैंने भी उसकी वासना को समझा और अपने कड़क लंड को उसके मम्मों के बीच रखकर दिव्या की स्तन चुदाई करने लगा. अस्मा कासिब का लंड पकड़ कर बोली- भाई, मुझे भी आपकी और अब्बू दोनों की बीवी बनना है.

प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ तुम मुझसे मिलने के लिए बोल रही थीं?वो बोली कि मैं आपको पसंद करती हूँ, बस मुझे यही बात कहनी थी. फिर मैंने भाभी की गर्दन पर किस कर दिया, लेकिन भाभी ने कुछ नहीं बोला.

मैं रात में सिर्फ निक्कर ही पहनता था … निक्कर के अन्दर चड्डी नहीं पहनता था.

मदर्स+डे+

थोड़ी देर बाद उसको भी मज़ा आने लगा और वह नीचे से अपनी गांड उठा कर चुदने लगी और बोलने लगी- मामा और तेज … और तेज मामा … चोदो मुझे भी, जैसे आप अम्मी को चोद रहे थे, वैसे ही मुझे भी चोदो … मैं भी आपके लंड से चुदना चाहती थी. इसलिए मैंने मोबाइल को साइड में पटका और सीमा मामी के ऊपर टूट पड़ा। मैंने उनको पलंग पर पटक कर अच्छी तरह से दबोच लिया। अब मैं उनके ऊपर चढ़ गया।वो अपने आपको छुड़ाने के लिए झटपटाने लगी लेकिन मैंने उनको अच्छी तरह से दबोच रखा था। अब मैं बेतहाशा उनके स्तनों को मसलने लगा। उनकी चूचियों को जोर जोर से दबाने लगा. भाभी ने मेरा सारा रस निचोड़ लिया और लंड को चाटकर अच्छे से साफ भी कर दिया.

मामी ने मुझे कसकर पकड़ लिया और मेरा 7 इंची लंड मामी की चूत में अंदर बाहर होने लगा. फिर हमारे घर के लोगों ने उनसे बातचीत की और रिश्ता लगभग पक्का हो गया. मैंने कहा- अम्मी, भाई का लंड तो बहुत बड़ा है … और मुझे इससे चुदवाने में बहुत डर भी लग रहा है.

एक बार तो सुमन ने मुखिया के लंड को चूस कर उसका पानी भी अपने मुँह में निकलवा लिया था और वो सारा लंड रस गटक गई थी.

फिर सवेरे सवेरे नहाकर हम दोनों अपने गांव के लिए निकले। उसके बाद जब भी मौका मिलता मैं भाबी के साथ चुदाई में लग जाता। ये सिलसिला 2 सालों तक चलता रहा। इस बीच मैंने भाबी की छोटी बहन की चुदाई भी कर डाली. सुमन- लेकिन दोपहर में तो सुरेश आ जाएंगे, तो उनको क्या कहूँगी?मुखिया- तुम तो बहुत होशियार हो. इतना बोलते ही उसने मेरे लंड को पकड़कर मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

उसकी साड़ी उसकी नाभि के काफी नीचे तक रहती है जिससे उसकी नाभि से नीचे का पेट का हिस्सा दिखता रहता है और किसी भी मर्द की नज़र सबसे पहले वहीं पर जा टिकती है. मैं पूरा लंड ले भी नहीं पा रही थी … मगर वे दोनों जबरदस्ती लंड पेले दे रहे थे. मैंने उनसे कहा- मुझे कोई दिक्कत नहीं नही, लेकिन आप वहां क्या बताओगी कि मैं कौन हूँ.

आपको प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी के लिए क्या कहना है, प्लीज़ मेल से बताएं कि आपको इस कहानी में रस मिला या नहीं?[emailprotected]प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी का अगला भाग:मैं तेरा तू मेरी- 2. एक मिनट बाद ही मैंने अपनी कैपरी और कच्छी नीचे सरका दी और पूरी मस्ती में अम्मी अब्बू की चुदाई देखने लगी.

यहां तो हम बस ऊपर का मज़ा ले सकते हैंमीता मचलते हुए बोली- तो बाबूजी कहीं और चलते है ना!सुरेश- अब तुझे कहां लेकर जाऊं … मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा है. बालों में प्याज का रस लगाने के बाद मैंने कहा दीदी- जैसे नाई मसाज करते हैं, वैसे कर दूँ. उन्होंने अपने ब्लाउज के दो बटन खोले और बायां स्तन बाहर निकाल कर मेरे होंठों में ऐसे रख दिया, जैसे वे अपने बच्चे को दूध पिला रही हों.

कुछ टाइम बाद मोनिषा पानी पीने के लिए उठी और सीधे पानी पीकर वापस आयी.

बात को जल्दी खत्म करने के लिए मैंने कहा- कोई नहीं, जो होगा देखा जायेगा. जब पता चला कि जीजाजी का एक्सीडेंट हो गया है, तो खुशी ने मुझे भाभी के साथ भेज दिया. नमस्कार दोस्तो, मैं आपका दोस्त राज शर्मा, हिंदी सेक्सी कहानी पढ़ने वाले सभी पाठको को मेरा प्यार भरा नमस्कार। मुझे आशा है कि मेरा ये प्रयास आपको पसंद आयेगा.

उसमें से तेल अपने 7 इंच लंबे और 3 इंच लंबे लंड पर लगाया और थोड़ा तेल अपनी उंगलियों से मेरे छेद पर लगा दिया. उसके बाद रेशमा और मिकी (कॉल गर्ल्स) किसी और के साथ रहने लगीं और उनके जाने के बाद फिर मैं ऊपर वाले फ्लोर पर बंगाली भाभी के पड़ोस में शिफ्ट हो गया.

उसकी ये बात सुनते ही अशोक ने बोला- किशोर, ला इस कुतिया को अब मेरे हवाले कर दे. सुमन- आह सस्स आराम से जानू उफ … कौन सी गोली खा ली ये तो बहुत मोटा हो गया है. मैंने उसे हॉल में बिठाया और अन्दर जाकर नीला को गोद में उठाकर ले आया.

मराठी साड़ी वाली बीपी

कुछ देर के बाद मेरा निकलने को हो गया तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.

उन्होंने पलट कर कहा- मुझे लगा पूरी रात चुदाई होगी, तो तुम्हें प्यास न लग आए. मैंने उनकी ब्रा खोल दी … जिसे उन्होंने आगे से हाथ लगाकर संभाल लिया. जैसे ही उसने अपनी कमर ऊपर की वैसे ही मैंने उसकी पैंटी भी उसके बदन से अलग कर दी.

उनकी नजर मेरे तने हुए लंड पर टिक गयी जो कि गीले अंडरवियर को उठाये हुए था. मैंने अपने स्तनों को नीचे से सहारा देकर थोड़ा और ऊपर की ओर कर लिया जिससे मेरे स्तनों की घाटी और भी स्पष्ट रूप से नज़र आने लगी. लड़कियां की सेक्सी वीडियोआधे घंटे के बाद सोनिया अपनी क्लास से वापस आ गयी और रूम का दरवाजा खटखटाने लगी.

उसका अंगूठा मेरी गांड के रिम को ढीला करने में लगा हुआ था और मैं उसके लन्ड का जूस निकालने में बिजी था।कुछ देर बाद उसने बोला- थोड़ा रुक जा यार … नहीं तो मेरा निकल जायेगा. अगर कई दिन तक मेरे पति का हाथ मेरे बूब्स पर नहीं लगता था तो चूचियों में कुलबुलाहट मच जाती थी.

हम दोनों को थकान कुछ ज्यादा ही थी और ऊपर से तेज बियर का नशा भी हावी हो रहा था, तो हम दोनों ऐसे ही नंगे चिपक कर सो गए. आगे क्या क्या हुआ, हमारी वो रात कैसे गुजरी और उसने मेरे साथ क्या क्या किया, वो सब मैं आपको कहानी के अगले भाग में बताऊंगा. अब तक मेरे मतलब का काफी काम निपट चुका था, तो मैं सबको देखते हुए छत पर चला गया.

तभी एक दिन अंशुमन भैया ने बताया कि अगले 3 हफ्तों में उनके सेमेस्टर की परीक्षाएं खत्म हो जाएंगी और अगला सेमेस्टर शुरू होने से पहले एक महीने की छुट्टियां हैं. मैं गांड मारने वाला होने के बावजूद उसनेमुझे कैसे चोदा, अगर आप ये जानना चाहते हैं तो प्लीज़ मुझे मेल करें … बॉटम गे लव स्टोरी के नीचे कमेंट करें. आज नहीं तो कल बुला लेगा, चल एक बात बता, अगर आज मैं तुझे तेरे भाई का चुसवा दूं, तो कैसा रहेगा?मुनिया- सच भाभी, लेकिन ये कैसे होगा!उसका चेहरा शर्म से लाल हुआ जा रहा था, जिसे देख कर सन्नो मुस्कुरा रही थी.

दोस्तो, कैसी लगी आपको यह फॅमिली चुदाई स्टोरी? उम्मीद है कि आपको भी आनंद आया होगा.

मैंने बोला- अगर तेरी गोली ने कमाल न किया तो!वो बोला- तो फिर तू जो मांगे वो. तभी आदिल बोला- यार, ऊपर तो अच्छी तरह से लगा दिया लेकिन नीचे तो पूरा सूखा ही रह गया.

वैसे सुमन तुमको तो बड़ी चम्मच से ये खीर खानी चाहिए तभी खाने का असली मज़ा आएगा. अब मैं समझ गया था कि सोनिया क्यों 15 दिन की जगह 1 महीने बाद आने के लिए कह रही थी. उसने नशीली आंखों से मुझे देखते हुए मेरी टी-शर्ट को नीचे से उठाया, मैंने अपने हाथ ऊपर कर दिए और उसने मेरी छाती को नंगा कर दिया.

मैं दीदी की ब्रा और पैंटी लंड पर लगाए अपनी मैडम से सेक्सी बातें कर रहा था. कोई आधे घंटे तक लगातार चुदाई के बाद दिव्या रोने लगी- हाय रब्बा, मेरी जान निकल जाएगी, थोड़ा धीरे चोद साले. कुछ देर बाद जब मेरी आंखें खुलीं, तो देखा कि भाभी आंखें बंद करके अपना नंगा बदन मेरी बांहों में दिए हुए हैं.

प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ सुहागरात की बातों में मैं विस्तार से न जाकर मैं संक्षेप में ही कहूंगी की जब कुछ देर के फोरप्ले के बाद नमन का लिंग मेरी सील तोड़ कर पूरी तरह से मेरी योनि में प्रवेश कर गया. हरी- बहुत खूब … इतनी खूबसूरत परी आज मेरे सामने बैठी है, यकीन नहीं होता.

indian मछली के नाम और फोटो

इस तरह से मेरी मां की करतूतें मुझे काफी समय पहले से ही पता लगनी शुरू हो गयी थीं. मैंने उसको उठाना जरूर नहीं समझा क्योंकि रात भर उसने मेरी गांड चुदाई की थी. इस बार जब मैंने लंड डालने की कोशिश की, तो सीधे अन्दर तक घुसता चला गया.

मुनिया- लेकिन भाई को पता लग गया तो!सन्नो- कैसे लगेगा, तू छिप कर सब कुछ देखना. अगली दोपहर मेरी इच्छा पूरी हो गई। मैंने अपनी खिड़की से देखा कि राहुल हमारे घर की ओर आ रहा था. सेक्सी मूवी भेजो वीडियो मेंउन्होंने भी मेरी पीठ से हाथ फेरते हुए मेरा निक्कर नीचे सरका दिया और अपनी टांगें को और चौड़ा लिया.

सुरेश- आह उहह … तेरी चुत की गर्मी आह … इसका अलग ही मज़ा है … उफ्फ ले मेरी रानी.

आपकी पिंकी सेन[emailprotected]ओरल सेक्स फ्री सेक्स स्टोरीज का अगला भाग:गाँव के मुखिया जी की वासना- 10. मैं फिर से भाभी के गुलाबी होंठों को चूसने लगा। अब वो भी पूरी शिद्दत से मेरे होंठों का रस पीने में लग गयी थी.

मैंने अचानक से अपनी पट्टी खोल दी और देख कर हैरानी जताने लगा, जैसे मुझे कुछ पता ही न हो. मॉम ने कुछ नहीं कहा।विक्रम की हिम्मत इससे बढ़ गई। वो मॉम के पिछवाड़े से बिल्कुल चिपका हुआ था। तभी उसने काफी रंग हाथ में लिया और हाथ मॉम के गाऊन में डाल दिये।उसने मॉम की चूची पर रंग लगना शुरू कर दिया।मैं चिल्लाई- ये क्या कर रहे हो?तो उसने कहा- अगर आंटी बुरा मान रही हैं तो बस मैं इससे आगे नहीं खेलूंगा. प्रेम रोग हॉट लव स्टोरी में पढ़ें कि कॉलेज में वैलेंटाइन-डे पर एक लड़के ने एक मस्त सुंदर लड़की के समक्ष प्रेम प्रकट किया तो … उस लड़की ने क्या किया?ये स्टोरी एक सेक्स स्टोरी के साथ साथ एक लव स्टोरी भी है.

चादर में घुसकर मैंने पीठ को दीवार से लगा लिया और पेट तक चादर ओढ़कर शार्ट्स नीचे कर दिया.

बुआ को पहले ये थोड़ा अजीब लगा, पर बाद में उन्हें भी ये अच्छा लगने लगा. वो मेरे लंड को पूरा गले तक लेने की कोशिश कर रही थी और मैं कहीं आनंद के आसमान में उड़ रहा था. उसका पहले एक ब्वॉयफ्रेंड था, लेकिन उससे ब्रेकअप के बाद उसने सोच लिया था कि अब उसे लव के चक्कर में पड़ना ही नहीं है … न लव होगा, न धोखा खाना पड़ेगा.

सेक्सी देसी वीडियो फिल्मयारो, अगर कोई भी चूत किसी भी लंड को इस तरह से अंडरवियर में देख लेती है तो फिर उस चूत को बार बार लंड का नज़ारा याद आता है और फिर वो चूत चुदने के लिए धीरे धीरे तैयार होने लग जाती है।उसी दिन सीमा मामी ने पूछा- बात कहां तक पहुंची?मैंने कहा- अभी तो भाभी को केवल लंड के ही दर्शन करवाए हैं।मामी बोली- ये तो अच्छा किया. दर्द और मजे से उनकी सिसकारी निकल रही थी। उनके मुंह से निकल रहीं अजीब सी आवाजें ही बता रही थीं कि उनको भी अपनी चूचियां चुसवाने और निप्पल कटवाने में बहुत मज़ा आ रहा था.

गन्दी फोटो

थोड़ी देर बाद मैंने होंठ हटाए और पूछा- चिल्लाई क्यों?भाभी बोली- तुम्हारे भैया ने मुझे अपने काम के चक्कर में तीन महीनों से नहीं चोदा है और तुम्हारा उनसे लम्बा और मोटा है. उसको पकड़ कर मैंने अपने पास कर लिया और उसका चेहरा उठाकर उसके होंठों से होंठों को मिला दिया. वो ‘आह आह आह आह मर गई … आह चोद डालो … आह अन्दर … और अन्दर प्लीज़ डालो.

फिर राहुल ने रूचि की सलवार उतार दी और अपने हाथ उसकी पैंटी में फंसाकर वो भी उतारनी चाही. मुझे चोदने के बाद मौसा जी का फोन अक्सर आता रहता और कई बार वो किसी न किसी बहाने से हमारे घर भी आ के दो तीन दिन रुक जाते और मौका देख हम चुदाई के अपने अरमान पूरे कर लेते. अब मैं जो देसी चूत चुदाई स्टोरी आप सबको बताने जा रहा हूँ, वो एक सच्ची कहानी है.

सुमन स्पीड से हरी के देसी लंड पर चुत पटक रही थी और चुदाई के मज़ा ले रही थी. अब मेरे लौड़े ने अपनी सख्ती बढ़ा दी और दो चार तेज झटकों के बाद मेरे लंड ने वीर्य की पिचकारी छोड़ दी. मेरे बारे में तुम क्या सोचते हो!उसने जब इतना खुल कर पूछ लिया तो मैंने भी बिंदास कह दिया- तुम कमाल की सेक्सी हो.

वो एकदम से उठ गई और उसने मेरा हाथ अलग कर दिया और कहने लगी- जीजा जी, आप ये क्या कर रहे हो?मैंने उससे धीमे से कहा कि चुप रहो नहीं तो तेरी व्हाट्सएप वाली बात तेरी दीदी को अभी बता दूंगा. वो 19 साल की है और उसकी ब्रा का साइज 30 है और पैंटी भी 30 के साइज की है.

जब वो किसी काम से कहीं जाती हुई मुझे दिखतीं तो बस उनको देखता ही रह जाता था.

पिछले भागएक फूल दो माली- 1में जैसे मैंने बताया था कि मैंने कैसे नीला भाभी की चूत और गांड मारी. सेक्सी छोटी छोटी छोटी छोटीमैंने हंसते हुए उन दोनों को अपने 36 के मस्त भरे हुए दूध दिखाए और बोली- ठीक है, मेरे पति का कर्जा चुकाने के लिए मैं राजी हूँ. शादीशुदा लेडीस की सेक्सी वीडियोमैं वैसे हमेशा 3-4 कंडोम अपने पास रखता था, पर उस दिन नहीं ले गया था. पहली बार मेरा लंड किसी चूत में गया था और सच कहूं दोस्तो तो कितनी भी मुट्ठ मार लो लेकिन चूत में जब लंड जाता है तो उस जैसा मजा और किसी चीज में नहीं है.

विक्रम साइड में बैठ गया और मैं सीधी हो गई।आदिल का लण्ड मेरी गांड में था, मैं उस पर कूदने लगी।उसका लण्ड मेरी गांड में अन्दर बाहर होने लगा।थोड़ी देर में वो चिल्लाया- बहन की लौड़ी मैं आने वाला हूं!इतना सुनते ही मैं और तेजी से उछलने लगी.

5 इंच मोटा है। मैं पिछले 4 साल से हिसार में एक निजी बैंक में कार्यरत हूँ।यह तो था मेरा परिचय. मेरी चूत पर हाथ फेरते हुए वो बोला- रानो, तुम्हारी गुलरिया तो बिल्कुल कोरी है. वो जिस तरह से मेरे आस पास इस तरह के कपड़ों में अपने अंग दिखा रही थीं, तो मेरी खोपड़ी ने काम करना बंद कर दिया था, मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था.

अब उनको कैसे सब्र हो? उन्होंने फिर हरकत करना शुरू किया और धीरे-धीरे पेलने लगे. बातों में ही पता चला कि पिछले एक साल से भाभी की चूत की खुजली नहीं मिटी है. मेरी फुल चुदाई की स्टोरी के बारे में आप अपनी राय अपने कमेंट्स में बता सकते हैं.

पत्नी का दूध पीने के फायदे और नुकसान

सेब जैसे कड़क चूचे, जिनपर छोटे छोटे से भूरे रंग के निप्पल और पतली कमर के नीचे एकदम नोकदार चुत, जो एकदम क्लीन चमचमाती हुई थी. भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- इसे तो मैं अभी शान्त कर देती हूँ, बाकी कबड्डी बाद में खेलूंगी. इसी बीच राजेश ने अपने अँगूठे से मेरी गांड के छेद को रगड़ना शुरू किया.

तू रोज चुदवाया कर न!अभि- हां रोज चुदवाने के लिए मैं तो राजी हूँ, पर मैं रांड थोड़े ही हूँ.

मैं इस हालत में इतनी मस्त हो गयी कि दिमाग समझ ही नहीं पा रहा था कि कौन सा मर्द ज्यादा अच्छी चुसाई कर रहा है.

इतने सुंदर और रसीले चूचक मैंने आज तक किसी औरत या आंटी के नहीं देखे थे. मुझे यकीन है कि ये भाभी की चूत Xxx चुदाई कहानी पढ़ने के बाद आप लोग भी अपने आप पर काबू नहीं रख पाएंगे और जहां भी आपको चुदाई जुगाड़ मिलेगा, आप उसका भरपूर लाभ लेंगे. अमेरिका सेक्सी वीडियो अंग्रेजीउनके साथ में एक टूरिस्ट भी घायल हुआ था, लेकिन उसकी हालत ज़्यादा खराब नहीं थी.

मौसा जी ने भी धक्के लगाने बंद कर दिए और मेरे निप्पलस चूसने लगे फिर होंठ चूसने लगे. लेकिन मैं हैरान इस बात से था कि ये न्यूज़ सुनकर सिमरन को बिल्कुल फर्क नहीं पड़ा. मैं बोला- जब वो शाम को क्लास से लौटकर आये तो आप नहाने का बहाना कर लेना और दरवाजा मत खोलना.

रवि- देखो डॉक्टर साहब मैं सब बता तो दूंगा … मगर आप किसी को कुछ बताना मत!सुरेश- मैं डॉक्टर हूँ. गांव से कोई लड़की गायब नहीं हुई और ये गूंगा बोल रहा है कि उसने खुद देखा है.

मॉम की नज़र बार बार मेरे अंडरवियर पर ही जा रही थी लेकिन जैसे ही मैं मॉम की ओर देखता था, वैसे ही वो नज़र को हटा लेती थी.

उसकी इस सुंदरता को और भी ज्यादा बढ़ाने वाले उसके 28 इंच साइज के बड़े बड़े समोसों जैसे चूचे बड़े ही कामुक दिखते थे. सुजाता भी अब गर्म होने लगी थी और उसके हाथ मेरे सिर के पीछे आ गये थे. अचानक से संगीता का मुझ पर गिरना हुआ, तो मैं भी खुद को नहीं संभाल पाया और रवि को बेड पर धक्का देकर मैं संगीता को सम्भालने लगा.

चूत चोदने की सेक्सी फिल्म उसने नशीली आंखों से मुझे देखते हुए मेरी टी-शर्ट को नीचे से उठाया, मैंने अपने हाथ ऊपर कर दिए और उसने मेरी छाती को नंगा कर दिया. सुमन- ओये होये … क्या बात है आज लगता है पूरे मूड में हो, तो चलो फिर जल्दी से खाना खा लो, उसके बाद मुझे खा लेना.

उसका असली नाम यहां पर नहीं लिखूंगा लेकिन मैं उसको प्यार से ज़ूबी ही बुलाता था. बाहर वाले भी हमें बुलाने लगे और अपने झगड़ों में हमारा इस्तेमाल करने लगे. उसके बाद एक महीना आराम करना होगा … क्योंकि इनकी एक टांग फ्रेक्चर हो गयी है, तो उसे रिकवर होने में समय लगेगा.

बबीता की एक्स एक्स एक्स

गीता आगे कुछ और बोलती, मुखिया ने उसका हाथ पकड़ा और अपने पास खींच कर गोदी में बैठा लिया. मुझे उसकी अकड़न से कुछ दुखने सा भी लगा था, पर मैं हिल भी नहीं सकता था. तूने कभी अपनी रसीली चूत की सफाई नहीं की क्या?मैं भाई के मुँह से चूत सुन कर शर्मा गई और चुप रही.

बुआ भी जोर जोर से सिसकारियां लेते हुए कह रही थीं- अअअ … आहह समीर बस करो. मैंने उनसे कहा कि ये आप क्या कर रही हैं मम्मी जी!उन्होंने कहा- यही तो आज की परीक्षा है बेटे जी, आपको मुझे पांच दिन तक अपने इसी लंड से संतुष्ट करना होगा.

हो सकता है कि शायद कुछ लड़कियों ने अपनी चूत में उंगली करके अपना पानी भी निकाल लिया हो.

स्तनों की चोटी के ऊपर तने काले काले चूचक स्पष्ट आकृति में उभरे हुए थे. कारण ये था कि संजना बहुत दिनों से चुदी नहीं थी, तो उसकी चुत एकदम टाइट थी. मैं बोला- बेटा असली मजा तो अभी लेना बाकी है, नेक्स्ट राउंड में तू उसकी चुत मारेगा.

मेरी ये सेक्स कहानी आपको पसंद आ रही हो तो अपने मैसेज में जरूर बतायें. इस बीच न ही कोई लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी, ना ही ज्यादा दोस्त बने थे. कुछ देर बाद जब मेरी आंखें खुलीं, तो देखा कि भाभी आंखें बंद करके अपना नंगा बदन मेरी बांहों में दिए हुए हैं.

एक तो मॉम की टांगें देखकर ही मैं गर्म हो रहा था और अब चूत की पैंटी भी दिखने लगी थी.

प्रियंका चोपड़ा हीरोइन की सेक्सी बीएफ: मैंने उसे संगीता कहकर बुलाया, तो उस वजह से उसके चेहरे पर एक हल्की सी मुस्कान आ गई. मधु ने मुझसे यह सब बताया और कहा कि आज तुम्हारी किस्मत है, तुम संजना की भी ले लेना … लेकिन तुमको अपनी आँखों पर पट्टी बांध के उसकी लेनी पड़ेगी.

तुम मुझसे मिलने के लिए बोल रही थीं?वो बोली कि मैं आपको पसंद करती हूँ, बस मुझे यही बात कहनी थी. वो बोली- देखो, मैं समझ सकती हूं कि तुम बड़े हो रहे हो और तुम्हारे अंदर भी मर्दों वाली भावनाएं पैदा हो रही होंगी लेकिन इस तरह से मेरी पैंटी में ये सब करने की क्या जरूरत थी?मुझे कोई जवाब नहीं सूझ रहा था. अचानक उसके तो स्वर ही बदल गए; उसने तो गालियाँ देना शुरू कर दिया- साला कैसा हरामखोर है तू, जवान लड़की अकेली होटल के रूम में है और साला तू चोद ही नहीं रहा है? मर्द है या नहीं?ये सुन कर मुझे गुस्सा आ गया.

ये सुनकर कासिब मुझे अपने कमरे में ले गया और मुझे बिस्तर पर पटक दिया.

आपको मेरी यह स्टोरी कैसी लगी, मुझे अपने कमेंट्स और मेल में जरूर बतायें. उसकी चूचियों पर तेल की बूंदें डालीं और लंड को रगड़ते हुए चोदने लगा. कासिब ने जोर से मेरा चूचा मसल दिया और बोला- साली छिनाल रंडी कुतिया … मेरा लंड चूसने से मना करती है.