ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,रतलाम सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू फिल्म भेजिए ना: ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो, अब मेरी बीवी थोड़ी सी परेशान होकर कहने लगी- यह तुम दोनों का ही प्लान था न हम दोनों को इस तरह सबके सामने नंगी करने का? यह तुम्हारी अच्छी बात नहीं है.

सेक्सी विडियो मूवी

हम सब 4-5 पैग पीने के बाद सब एक दूसरे को हवस की नजर से देखने लगे। मैंने खुद उनके बॉस के लिए पेग बनाए. देहाती सेक्सी पिक्चर दिखाइएउसने मेरे लंड को बहुत गौर से देखा, शायद उसके पति का मुझसे छोटा लंड था.

अब जब चुत तो वो खुद चटवा रही थी, तो मैंने भी अपने दोनों हाथ ऊपर ले जाकर उसके दोनों चुचों को पकड़ लिए और उन्हें ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा. सेक्सी वीडियो दीजिए चलने वालाऔर उसने ब्रा की स्ट्रिप्स खोल दी और साइड की मसाज के बहाने साइड से ही बूब्स की भी मसाज करने लगा.

उसका 34-30-36 का लाजवाब फिगर, भारी कूल्हे, भारी उरोज, गोरी मखमली त्वचा, थिरकते गुलाबी होंठ, मांसल पिंडलियां, कमर तक लटकते सुंदर संवरे लहराते से बाल, मासूम चेहरे पर चमकती पसीने की बूंदें, सामान्य सा सलवार सूट, जिसे मनु सलीके से पहनी होती थी, फिर भी ब्रा की पट्टी जो जिस्म पर धंसी हुई सी रहती थी, उसे महसूस किया जा सकता था.ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो: चुदाई की मदहोशी भाभी पर छाने लगी थी, जिससे वो जल्द ही कांपने लगी और बोली- दीदी, मुझसे खड़ा नहीं हुआ जा रहा है.

ये सुनते ही मैंने यशिमा की चुत से लंड को सुपारे तक बाहर निकाला और फिर से अन्दर डाल दिया.कुछ ही देर में भाई के लंड से वीर्य निकल गया और मेरी चूत से निकल कर उनके लंड पर बहने लगा.

नेपाली सेक्सी पिक्चर दिखाइए - ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो

वे यह कहकर जाने लगे तो मैंने जाकर उनके बॉस को अपनी बांहों में भर लिया.तो राज समझ गया कि पैसे के लिए आई है, राज ने कहा- उषा को बोलो जो कपड़े पड़े हैं उसे धो दे, तब तक मैं आता हूं.

मेम समझ गईं कि मैं अब उनकी गांड मारने वाला हूँ, वो भी गांड उठाने लगीं. ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो इस प्रतियोगिता में पहले तहसील स्तर, फिर जिला, फिर प्रदेश स्तर और आगे देश विदेश तक की सम्भावनाएं थीं.

दोनों के हाथ सिर के ऊपर कर दिए जाएं और दोनों पैरों को चौड़ा कर दिया जाए जिससे कि चूत लहरों के सामने खुल जाए और फिर समुद्र की लहरें उन पर आने दी जाएं.

ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो?

दीपा ने जल्दी से ढेर सारे स्नैक्स, बियर, व्हिस्की, सिगरेट और जो कुछ भी हाथ लगा पैक कर लिया. मैंने पूजा को गोद में उठाया और बेडरूम में लाकर बिस्तर में पटक दिया अब मैंने उसका लोवर निकाल उसकी चूत में चाटना शुरू कर दिया. उसने एक दिन मुझे अपने पास बुलाया और सीधा बोल दिया कि अगर मैंने शादी से पहले कुछ गलत करने की कोशिश की तो मेरे मां और पापा को मेरे बारे में सब कुछ बता देगा.

दो मिनट के बाद उसने जब लंड को बाहर निकाला तो उसकी लार से पूरा लौड़ा चमक उठा था. उस वक्त टीवी में सेक्स जैसी कुछ आवाज हो रही थी तो आशीष ने सोचा कि मैं अपने जीजा से चुदवा रही हूं. वो मुझसे इस तरह चिपकी हुई थी कि उसके दूध मेरे सीने में दबे जा रहे थे।कुछ देर इस तरह चोदने के बाद मैंने उसे दीवार से सटा कर पेट के बल खड़ा कर दिया, अब उसकी गांड की तरफ से उसके चूत में लंड डाल कर उसकी चुदाई किये जा रहा था.

तीसरे दिन वो मेरे पास आई और उसने मुझसे कहा- क्या तू मुझसे नाराज़ है?मैंने कहा- नहीं. मेरी छोटी बुआ बड़ी वाली से कह रही थी- अगर मीना हमारे पप्पू को पटा ले तो मैं भी अपने भतीजे से अपनी चूत की चुदाई करवा लूं. मैंने कारण पूछा, तो उसने बताया कि किसी ने भी उसकी चूत आज तक नहीं चाटी थी.

ऊऊऊ ओह … बहुत अच्छा मेघा!”सर पूरी अच्छे से मेरी चूत चूस रहे थे और मैं अब लंड अच्छे से चूस रही थी. मैंने मुस्कुरा कर कहा- हां तुम बाजारू तो नहीं हो, लेकिन कुंवारी भी नहीं हो, भोसड़ा बन गया है तुम्हारा छेद … मुझे सब पता है कि तुम गांव के कई लौंडों के लंड ले चुकी हो.

मैं बिल्कुल दुल्हन की तरह तैयार हुई और जब बाहर आई, तो प्रतीक ने मुझे देखते ही एक प्यारा सा चुम्बन किया ताकि मुझे अहसास हो जाए कि वो हर वक्त मेरे साथ है.

प्लीज छोड़ दो!मैंने उसकी एक न सुनते हुए लंड उसकी गांड में पेल दिया।उसकी तो जैसे साँसे.

लेकिन भाभी ने झेंपते हुए मुझसे कहा- मुझे ये फोटो कैसे मिलेगी?मैंने कहा- मेल आईडी या व्हाट्सअप नंबर दे दीजिए, मैं आपका फोटो भेज दूंगा. आधे घंटे की चुदाई में वो दो बार झड़ी और फिर उसके बाद मैं भी झड़ गया. अगर मेरी जगह कोई मर्द होता तो अब तक उसके लंड का बुरा हाल हो चुका होता.

मेरी जीभ निकाल कर चूसने लगा और इतना तेजी से धक्के मारने लगा कि मुझे बहुत मजा आने लगा. उन्होंने दीपा से भी कहा तो दीपा बोली- नहीं मेड आती होगी, मैं नाश्ता बनाती हूँ, तुम दोनों घूम आओ. जैसे जैसे वो मेरे लंड की तरफ होती जा रही थीं, वैसे वैसे मेरी सांसें तेज होने लगीं.

कुछ ही देर की लंड चुसाई से मेरा पानी निकल गया और उसके मुँह में चला गया.

मैं इससे ज्यादा चुदाई करवाने की हालत में नहीं थी क्योंकि मेरी चूत और गांड दोनों ही सूज गई थी. उधर सीमान्त और राहुल ने रीमा की चुत और गांड का पूरा भोसड़ा बना दिया था. इसी के साथ मैंने अपने दोनों पांव सामने बैठे जवान की जांघों पर टिका दिए.

मैं रूम में आया और नीता से पूछा- कैसा रहा, मसाज एंजाय की?नीता बोली- मस्त रही, मस्त एंजाय की. मैं गुटखा और उसकी जवानी दोनों को मजे ले कर खाने लगा … साथ साथ में मैं सरोज भाभी की चूत का भुर्ता भी बना रहा था. उसके बाद उन दोनों ने मुझे बेड पर बिठा दिया और मेरी आंखों पर एक काली पट्टी बांध दी.

उसके होंठ मेरे होंठों में ऐसे फंसे हुए थे कि मुझे सांस लेना भी भारी हो रहा था.

बाहर जब पिंकी और सीमा को होश आया कि ये दोनों क्या कर रही हैं तो उन्होंने शोर मचाया कि हमें भी नहाना है. बॉस को कुछ जरूरी काम था, तो वे जाने लगे और विनय ने भी अपना काम कर लिया था.

ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो नायरा ने शबनम के होंठों पर एक गरमागर्म किस दिया और दोनों चिपट कर नहाने लगीं. अभिजीत को वहीं छोड़ हम दोनों किचन में जा कर खाने का इन्तजाम करने लगे।सुखविन्दर ने कहा- खाना अभी रहने दो, कुछ देर से ले जाना, अभी कुछ दारू का सुरूर चढ़ने दो।उसने 3 ग्लास बर्फ सोडा और शराब लिए और हम दोनों बैडरूम में आ गए।मैंने कहा- मैं तो पीती नहीं हूँ, आप लोग इसका मजा लीजिये.

ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो क्योंकि अब अगर मैं तुम्हें लेकर ऊपर गया तो वो सब मिलकर तुम्हारी बुर का भोसड़ा बना देंगे. उसी पल मामी ने अपने हाथों से मेरे लंड को पकड़ कर धीरे से जड़ से टोपे तक फिरा दिया। अब मैंने उनकी कलाई छोड़ कर उनकी गांड को पकड़ लिया और दो उंगली उनकी पैंटी के भीतर डाल दी। वो कुछ क्षण रुकी और फिर से मेरे पूरे लंड को झटके देने लगी और मैं भी कमर हिला हिला कर उनकी चूत पर रगड़ मारने लगा।अब मामी की पैंटी भी गीली होनी शुरू हो गयी.

उसको समझाते हुए मैंने कहा कि जितना मजा आगे से चूत चुदवाने में आता है उतना ही मजा पीछे वाले छेद को चुदवाने में भी आता है.

বেঙ্গলি ট্রিপল এক্স

मेरी माँ ने फुंफकार भरते हुए कहा- अच्छा तू मादरचोद भी है … साले तेरे जैसे कई लंड मैंने अपनी चुत से छील कर बाहर निकाल दिए. सीमा हंस पड़ी … बोली- मैं तेरी तरह कमीनी नहीं हूँ … जो तय हो गया वो हो गया. शुरुवात होंठ से होंठ मिले, फिर उसने मोबाइल निकालकर मेरे साथ फोटो लिए,मैंने कहा- सिद्धू, ये फोटो किस लिए?सिद्धू ने कहा- तुम जब ससुराल चली जाओगी तो ये फोटो देखकर मैं तुम्हें याद करूंगा।फिर हम एक पेड़ के पीछे गए और चुम्मा चाटी शुरू कर दी, वो मेरे होटों को चूमते हुये बुर्के के ऊपर से मेरी गांड दबाने लगा.

आज संडे है और कॉलेज जाना नहीं होगा और उधर तुमसे मिलने का मौका नहीं मिलेगा. करीब पांच मिनट की धीमी चुदाई के बाद मेरा खून तपने लगा तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसके मुंह से गाली निकलने लगी- आह्ह … चोद दे मुझे साले … बना ले मुझे अपनी रंडी … ओह्ह … अम्मम … मां …. मैंने उसके कंधे पर हाथ रखते हुए कहा- अभी इतना काम करना ठीक नहीं है तेरे लिये, ला मैं तेरे कंधे की मसाज कर देती हूं.

उधर मैंने देखा कि राहुल रीमा के मम्मों को जोर से दबा बैठा, जिससे रीमा तड़प उठी.

जाते जाते मम्मी ने चाची को बोल दिया था कि दीपू घर पर ही है, जब तुम फ्री हो जाओ, तब उसके लिए खाना बना आना और देख लेना कि वो ठीक से पढ़ रहा है या नहीं. मेरे पति ने अपने मोटे लंड से मेरी चूत को ऐसे ठोका कि मैं पांच मिनट में ही झड़ गई. मैंने पहले एक उंगली अन्दर दी, फिर धीरे धीरे दो उंगलियां उनकी गांड में डाल दीं.

तब वो मुझे गेट से अपने रूम में खींचते हुए शायद ये बोलेंगी कि रात में जब सब सो जाएंगे, तो तुम हॉल में आ जाना. वो छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने उसके दोनों चूचों को जोर से अपने हाथों में दबा दिया और फिर उसके चूचों के बीच में मुंह दे दिया. आज उसे चोद कर ऐसा मस्त कर दो कि वो अपनी पहली सुहागरात भूल जाए और आज की रात को ही याद रखे … जाओ … जाओ ना.

हालाँकि उसका परिवार रुढ़िवादी है पर उसका पति राजीव समझदार है और अच्छा कमाता है, घर में सबका ध्यान रखता है तो इसी कारण सीमा के बाहर घूमने और ड्रेस पर कोई कुछ नहीं कहता. हालांकि दीपा की चूत पूरी चिकनी पड़ी थी पर सुनील का धक्का इतना जोर का था कि दीपा ने आँखें बंद कर ली और चीख पड़ी.

फिर भी मैं आप लोगों की जानकारी के लिए यहां पर उसके शरीर की बनावट वगैरह के बारे में बता रहा हूं. कुछ देर तक सोचने के बाद मैंने रसोई के दरवाजे से झांक कर देखा, तो जेठजी हाल में नहीं दिखे. मैंने ऐसे ही उनसे कहा कि मेरा नाम पुनीत है और चुपके से उन्हें 200 दिए.

सोनिया- हां आता तो है, लेकिन मैंने सोचा इस टाइम का फायदा उठाया जाए.

मुहब्बत के बाद जब भी मेरे घर पार्टी होती थी, तो मैं उसको आने घर बुलाती थी और जब उसके घर पार्टी होती थी, तो वो मुझे बुलाता था. करीब 15 से 20 मिनट तक चूत को चोद कर मैंने लंड का रस उनकी चूत में ही छोड़ दिया. आशीष ने पूछा- क्यों, ऐसा कैसे हुआ?मैं बोली- किस्मत से उसी वक्त मवेशियों को चारा डालने के लिए चरवाहा वहां पर आ गया था.

मेरी पिछली कहानीजिस्म की आग बुझाई ज़िम वाले लड़के के साथको आपने काफी प्यार दिया. ”विनय अब पूरी रफ्तार में मेरी गांड मार रहा था और बॉस का लंड जोर जोर से चूत में घुस रहा था, वो बोल रहा था- मुझे तेरी चूत लेनी है नेहा रानी … बोल तो घुसा दूँ चूत में तेरे.

वहां एक कैफे में बैठ कर खाने का ऑर्डर देने के लिए मैंने अमृता की तरफ मेन्यू कार्ड बढ़ाया. मैं नाश्ता तैयार कर लूं!मैंने आँखें झुकाते हुए कहा- जी शुक्रिया!पूजा- अब बड़ी शर्म आ रही है? रात को तो जनाब बड़ा जोश दिखा रहे थे?मैं समझ गया कि पूजा अब खुल चुकी है, उसे कोई दिक्कत नहीं है. आंटी ने धीरे धीरे लंड को काफी हद तक निगल लिया और आगे पीछे होने लगीं.

सेक्सी फिल्म हिंदी में सेक्स

वो तड़फने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ मुझसे बाहर निकालने को कहने लगी.

मैंने अपने गिलास से दारू पीनी शुरू की तो उसने मेरे चेहरे पर शराब गिरानी शुरू कर दी. परमीत ने पहले कभी बीयर नहीं पी थी, हमें पता था कि वो ये सारी बातें हार की चिढ़ में बोले जा रही थी. अरे जब उनको बात ही करनी है, तो कहीं भी कर सकते हैं … घर में ही क्या जरूरी है?श्वेता दीदी- तुम इसलिए डर रही हो ना कि कोई देख लेगा … तो वो तुम मुझ पर छोड़ दो.

अब दोनों को विश्वास हो गया था कि मैं बेडरूम में सो गया हूँ जबकि मैं स्टडी रूम की विंडो से सब कुछ देख सुन रहा था और उनको डिस्टर्ब करना मैंने ठीक नहीं समझा. जब मेरे साथ बुआ की चुदाई की घटना हुई थी तब मेरे लंड का साइज इससे थोड़ा कम था. सेक्सी खातामुझसे फ़ोन में यही बात कर रहे थे!”वो बोली- ओके यार … चल मजा ले ही लूंगी मैं भी! वैसे भी मुझे कब से सेक्स नहीं मिला.

मैं अपनी छोटी के बहन के ब्लाउज के ऊपर से ही उसके कंधों को सहलाने लगी. नशे के कारण उसके पैर लड़खड़ा रहे थे। मैंने उसकी कमर को थामते हुए उसे सम्हाला।उसके जिस्म की मादक खुशबू पाकर मेरा मोटा लंड एक झटके में खड़ा हो गया। उसने लोवर और टीशर्ट पहनी हुई थी।मैंने उसे कहा- देखो, आज रात तुम मेरी हो और मैं तुम्हारा! तुम अपने दिल से निकाल दो कि हम दोनों की उम्र क्या है, बस बिना शर्म के मेरा साथ दो.

संजय ही क्यों … उस वक्त तो कोई भी मर्द खुद पर काबू नहीं कर सकता था. ”बॉस खुश हो गए और बोले- यार कोमल, तुम अगर सोनम को चुदाई के लिए मना लो तो तुम्हारा गुलाम बन जाऊँगा मैं! वो बहुत हॉट है यार!मैं मुस्कुराती हुई बोली- ओके सर, मैं बात करुँगी. रोहन- ओह्ह्ह्ह जान …सोनिया- आह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह … मैं भी झड़ रही हूँ जानू … मैं भी झड़ रही हूँ जानू … आह्ह्ह्ह आह्ह्ह्ह मैं गई … ई.

मेरी मां ने साफ मना कर दिया कि उस घर में मेरी शादी नहीं हो सकती है. उसने मेरा हाथ पकड़ कर नीचे चूत पर रखवाया, तो मैंने उसकी पेंटी भी निकाल दी. अमित पूजा को चुदते हुए देख उत्तेजित हो रहा था और पूजा अपने पति के सामने किसी पराये मर्द से चुदते हुए शर्म भी महसूस कर रही थी.

वो मेरी तरफ देखने लगी और बोली- चलो कमरे में चल कर देखते हैं कि नतीजा क्या रहता है.

वो मुझे पसंद करती थी तो वो मुझे किस करने लगी और तभी मेरी गर्लफ्रेंड आ गयी. वो बोला- क्यों, विक्की का तो बहुत अच्छे से चूसती हो?इस पर मैं कुछ नहीं बोली और उसका लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

मैं भगवान कसम खाकर कहती हूं कि मेरे दिल में तुम्हारे अलावा कोई और नहीं है. जॉली मुस्कुराया और रिया को अपनी गोद में लेकर अपने बेडरूम में घुस गया. उधर बॉस ने सोनम को किस करते हुए उसकी साड़ी को जांघ तक उठा दी थी और उसकी मांसल गोरी गोरी जांघों को सहला रहे थे.

अमित ने वादा किया कि वो लोग अगर देहरादून आये तो मुझसे मिलने जरूर आएंगे और मैं अगर दिल्ली आया तो उसने जरूर मिलूँगा. कई मिनट तक उस आंटी की चूत को चाटने के बाद उसकी चूत ने पानी छोड़ना शुरू कर दिया था. चूंकि मैं अन्तर्वासना पर गांड की चुदाई के बारे की कहानियां पढ़ चुका था.

ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो वो पहला अनुभव मुझे आज भी याद है और वो मेरी पहली मुट्ठी मेरे दोस्त ने ही मारी थी. पर कोई तैयार नहीं हुई उस मोटे हथियार को अपनी चूत में करवाने के लिए.

लड़की की चुदाई की वीडियो

फिर जब भी मैं अंकल की दुकाने के पास गुजरता तो वो मुझे आंख मार देते थे. अगले ही पल उसने मुझे गोद में उठा लिया और बोला- हमारे होते आप चलने की तकलीफ़ क्यों उठा रही हो जानेमन. मैं तो इसलिए खुश था कि मैं कनाडा में तीन चुदक्कड़ों को एक साथ चोदूंगा.

धीरज ने भी अपने कपड़े उतार दिए और नीचे झुक कर पिंकी की चूत में अपनी जुबान घुसा दी. थोड़ा और आगे बढ़ने पर मैंने देखा बांस के पेड़ के झुंडों के इर्द-गिर्द मिट्टी के टीले से बने थे और उन टीलों के बीच में बांस के पेड़ लगे हुए थे. शारदा सिन्हा के सेक्सी वीडियोमैंने उसको मना कर दिया- अभी रात में चुदाई करना ठीक नहीं है क्योंकि पापा अभी देर तक जगे हुए हैं.

फिर मैंने उसे सर की तरफ से हाथों को पकड़ा और पैरों को भाभी ने पकड़ लिया.

तभी आंटी ने चिल्लाते हुए मेरे मुँह को ढेर सारे रस से भर दिया और हांफने लगीं. चूंकि उसका पति तीन दिन के लिए बाहर जाने वाला था तो वो भी अपना कोई शिकार तलाश रही थी.

वो मेरे पूरे लन्ड को मुंह में लेती और झटके के साथ बाहर निकालती तो पक्क की आवाज आती. लेकिन मुझे उसकी चूत से चॉकलेट मिक्स चूतरस का इतना मस्त स्वाद आ रहा था कि मैं सब भूल ही गया था. कुछ दिनों बाद तो मेरी कमर की लचक, चलने का तरीका और माथे की सुंदर सी चमकती बिंदी देखकर कभी-कभी कुछ शरारती लड़के वो गाना भी गा देते थे.

मैंने टॉवल से अपना शरीर पौंछा और तौलिया बेड पर डाल कर आईने के पास नंगी खड़ी होकर बाल सुखाने लगी.

जाम के साथ नमकीन काजू, कटलेट्स, हनी चिल्ली पोटैटो, यानि कुल मिला कर पेट भरने का पूरा इंतजाम. उसके बाद हम दोनों ने अपने अपने कपड़े पहने और जाने की तैयारी करने लगे. इतने में जेठजी अपनी जगह से उठ खड़े हुए और उन्होंने मेरे पास आकर मेरे कंधे पर अपना हाथ रख दिया.

सेक्सी ऐचडीएक बार और खींच खींच कर लंड चूत का युद्ध हुआ और फिर हम एक साथ वॉशरूम में आ गए. मैं खुश था कि आज इस अप्सरा को हम दोनों मिल कर चोद चोद कर अधमरा कर देंगे.

सेक्सी वीडियो सनी लियोन एचडी

दीपा की ‘उहं … आह … मजा आ गया … और जोर से करो सुनील …’ ऐसी वासनामय सिसकारियों से पूरा कमरा भर गया. फिर साकेत भैया ने दीदी को गोद में उठा कर पलंग पर पेट के बल लिटा दिया और दीदी जो चादर लपेटी थी, उसको निकाल दिया. अब आगे की कहानी:लेडी डॉक्टर दुभाषिये से संवाद करते हुए स्थिति को समझने लगी.

डॉक्टर की पत्नी के लिए मैं गैर था और मेरी पत्नी के लिये डॉक्टर गैर था. मैं रात होने के ही बस इंतजार करूंगा और साथ ही में मेरी नजरें सिर्फ और सिर्फ शिखा मामी पर ही होंगी. भाभी ने मोना को बाथरूम में ले जाकर उसकी चूत से खून वगैरह साफ़ किया और उसे एक दर्द और गर्भ निवारक गोली भी दे दी.

उसने मेरी हरकत का कोई विरोध नहीं किया बल्कि वो मेरा साथ देने लग गयी. अब आगे:मगर वो लंड अभी भी कड़क था, वैसे ही तना हुआ। मैंने कविता की ओर देखा, उसकी आँखों में भी शरारत थी।हम अपने होटल वापिस आ गई. मेरी इस बात को वही समझ सकता है जिसने किसी गैर की बीवी के जिस्म को भोगा हो.

मेरी मम्मी मालिनी बोली- मेरे दोनों दामादों … बिल्कुल चिंता मत करो। थोड़े दिनों में जब ये मायके आएगी, मैं इसे अपने आप तुम्हारे पास ले आऊंगी. कई बार तो उनको दूर से ही देख कर अपने कमरे में छिप कर लंड को मसलता रहता था.

यह औरत चेहरे से ज्यादा सुंदर तो नहीं थी लेकिन उसके चेहरे पर एक सादगी थी.

मैंने पैग खींच कर गिलास रख दिया और अपनी दोनों बाहें उसके गले में डाल दीं. किन्नर की सेक्सी विडियोमैंने उठ कर अपना टॉप उतार दिया और विनय ने जल्दी से मेरी स्कर्ट के साथ ही मेरी पेंटी को निकाल दिया. दिपीका पादुकोन सेक्सी फोटोउन्होंने अपनी कामवाली से फोन पर जब ये कहा कि मुझे आने में देर हो जाएगी. फॉर्म जमा करने के बाद मैं कॉलेज से निकल रही थी तो अचानक से किसी ने पीछे से मेरी आँखें बंद कर दी.

मैंने होंठों से फांकों को खींचे हुए चूसना शुरू किया, तो उन्होंने मेरा सर अपनी टांगों में दबा लिया.

मेरा लंड ठंडा होने जा रहा था, उसे सबा ने चूस-चूस कर फिर खड़ा कर दिया था. अंदर बेड पर जाकर में सीधे लेट गई और उनके बॉस ने सीधे मेरी पेंटी और ब्रा मेरे शरीर से अलग कर दी. अब मैं अपना लंड गांड में अन्दर बाहर करके आराम से बीवी की गांड चोदने लगा.

मगर मुझे समय नहीं मिल पाया था कि मैं अपनी पहली सेक्स कहानी को लिख सकूं. धीरज ने भी अपने कपड़े उतार दिए और नीचे झुक कर पिंकी की चूत में अपनी जुबान घुसा दी. ’मैं लगातार उनकी गर्दन के पास, उनके कानों की लौ को चाटे जा रहा था और हाथ से उनके चूचों को, कभी निप्पल को रगड़े जा रहा था.

हरियाणवी सेक्सी गाने

रात का ड्रेस कोड पहले से ही तय था, बस एडीशन ये हुआ कि सभी रेड नेल पेंट और रेड लिपस्टिक लगा कर आएँगी. मैंने ऐसा इसलिए भी कहा था ताकि मुझे थोड़ा देर के लिए आराम मिल जाएगा और सबा को भी रिलैक्स होने का समय मिल जाएगा. कभी उनके बॉस मेरे कूल्हों पर मारते, कभी मेरी कमर पर किस करते!मैं भी उनका भरपूर साथ दे रही थी.

अब वो भी नंगी थी और मैं भी … मैं उसके मम्मों को लगातार मसलता रहा, चूसता रहा.

अन्तर्वासना की फ्री सेक्स कहानी साईटनयी हिंदी सेक्स स्टोरीज़ साईटआशा करता हूँ कि आपको मेरी रियल सेक्स स्टोरी आपको पसंद आई होगी.

लेकिन वो पीछे हटने की बजाय मुझे और आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित करने लगी कि कुछ नहीं होगा. इस तरह से हम दोनों ने सुबह 4 बजे तक अलग अलग आसनों में 4 बार चुदाई की. इंग्लिश पिक्चर सेक्सी इंडियनतभी आंटी ने चिल्लाते हुए मेरे मुँह को ढेर सारे रस से भर दिया और हांफने लगीं.

दीदी- कुछ नहीं मतलब!श्वेता दीदी- वो बोले हम होटल में नहीं मिलेंगे … अगर मिलना हो तो घर बुलाओगी, तब ही मिलेंगे. मर्दों को तो सुहागरात में अपने मन और अपने लंड की शांति के लिए जो भी करना होता है वो सब करते हैं. जैसे ही चड्डी नीचे की, लंड महाराज बाहर निकलते ही उनके चेहरे से जा टकराए.

मैंने कहा- अगर भाभी को कुछ दिक्कत नहीं, तो आपको क्यों दिक्कत हो रही है?वो कुछ नहीं बोलीं. ससुर और बहन तो नंगे ही थे, मैंने बहन को रोका और अपना लंड निकाल कर मूतना शुरू कर दिया.

इस से टाइम भी बचेगा।नीरू ने अपने बैग से कपड़े निकाले और वाशरूम में जाने लगी तो मैंने उसे कहा- अरे अपने कपड़े तो उतार दो।नीरू- नहीं, मैं अंदर ही उतारूंगी।मैं- मैं तुम्हें पूरी नंगी होने को नहीं बोल रहा हूँ, यहां अपनी लेगिंग और शर्ट उतार दो, देखो वन्दना भी तो पेंटी में ही है।नीरू ने रूम में ही अपने कपड़े उतार दिए.

छह घंटे बीत गए थे, लेकिन अभी तक उसकी तरफ से कोई मैसेज या कोई भी कॉल नहीं आया था. उधर भैया भी भाबी की साड़ी उतार चुके थे, वो सिर्फ ब्लाउज और पेटीकोट में थीं. मैंने पूछा- क्या हुआ, रूक क्यों गये?वो बोला- मेरा मन तेरी गांड मारने को कर रहा है.

mp4 सेक्सी हिंदी कुछ पल यूं ही पड़े रहने के बाद मैंने बाथरूम में जाकर चेहरे को साफ किया. ड्राइवर से हमने ऐसे किसी बीच पर ले जाने के लिए बोला जहां एकांत हो, मस्ती का माहौल हो। वो हमे अंजना बीच पर लेकर गया.

फिर मैंने कुछ देर चाची के चुचे दबाये और थोड़ी देर लंड चुसवा क़र चाची को खड़े होने का इशारा किया. कुछ देर बाद मेरे लन्ड से जोर से वीर्य की पिचकारी निकली जिससे दोनों बहनों के मुंह और बालों को भर दिया. उनके बॉस मुझे नीचे से मेरी चूचियों को पीते और मुझे चोदते और पीछे से मेरे हस्बैंड मेरी कमर पर किस करते और मुझे चोदते!मैं एक साथ बहुत नोची जा रही थी.

नंगा सेक्स करते हुए

मैं जल्दी से बेडरूम में गया और वहाँ से निकल के सामने आया और पूछा- कैसी रही मसाज? मज़ा आया?प्रिन्स बोला- मस्त रही … भाभी जी ने बहुत एंजाय किया और अब वो आपको बुला रही हैं. सुनील ने चाहां कि वो अपना लंड दीपा की चूत में कर दे पर अचानक दीपा को जाने क्या हुआ … वो तेजी से बाहर आ गयी और अपने वाश रूम में जाकर दरवाजा लॉक कर लिया. बाथरूम से बाहर निकल कर वापस जाते वक़्त वो रुकी और उसने कहा कि आप टीसी से बोलकर कोई सीट ले लो.

मुझे ऐसा लगा कि मैं दर्द से मर जाऊंगी।अभय बोला- यार भले इसका जीजा कुछ बोला हो कि यह बहुत चुदक्कड़ लड़की है मगर अभी इसकी चूत बहुत टाइट है. बगल में टेबल के ऊपर एक ट्रे रखी थी, उसको एक कपड़े के अन्दर छिपाया हुआ था.

शान- अरे लेकिन …वो आगे कुछ कहे, उससे पहले मैंने फिर से उसके लंड को दबाया और कहा- क्यों चिंता कर रहे हो.

फिर एक दिन मेरे बड़े पापा की छोटी बेटी के पति जो रिश्ते में मेरे जीजा लगते हैं वो आये हुए थे. आपको मेरी दीदी की ये सेक्स कहानी कैसी लग रही है … प्लीज़ मुझे मेल करें ताकि मैं अपनी दीदी के साथ आपके मेल पढ़ कर मजा कर सकूँ और उसकी मदमस्त चुदाई की कहानी आपके लिए लिख सकूँ. अगर जानवर की तरह उस पर चढ़ाई कर दी जाये तो उसको दर्द ज्यादा झेलना पड़ता है.

अगर कमर तक पानी रहेगा तो वहां जाकर हम आराम से अपना अंडरवियर उतार सकते हैं. मैंने फिर उन्हें अलग करके सुनीता की चूत में अपना लौड़ा डाल दिया और धक्के मारने लगा. उसको गुदगुदी हो रही थीवो बोली- दीदी इनको रुकवा दो, बड़ी गुदगुदी हो रही है.

रास्ते में सर ने पूछा- ये कौन है?मैं बोली- सर, मेरी बहन है मामा की बेटी … मंडी हिमाचल से आई है कुछ दिनों के लिए!वो कार में लगे शीशे से सोनम को देखे जा रहे थे.

ससुर पुत्रों के बीएफ वीडियो: मेरी साली ने अपनी चूत को लंड पर लगाया और मेरी गोद में बैठ कर मेरे होंठों को चूमते हुए अपनी चूत में लंड को लेने लगी. उसके बाद से भी जब भी उसका पति टूर पर जाता है या मेरी बीवी कभी मायके या कहीं और जाती है, तो हम दोनों अपना मिलन कर ही लेते हैं.

मैं- ठीक है, मैं उसे बुलाऊंगी और जैसा पहले विक्की और राहुल के साथ किया था … इस बार भी हम वैसे ही करेंगे. तभी चाची बाहर आईं और बोलीं- अब क्या करें?मैंने कहा- कुछ नहीं होगा जान, मैं हूँ ना. हम दोनों ही आपसी सहमति से ये रिश्ता बरकरार रखना भी चाहते थे, इसलिए हम लोग जब भी टाइम मिलता, साथ में वक्त गुजार लेते हैं.

मैंने उनकी जांघों को किस किया, तो उन्हें मानो करंट सा लगा … वो सिसकारते हुए हिल गईं.

सारी बातें बकवास लगीं और कुछ कहानियां तो अंग्रेजी में लिखी हुई आ रही थीं, तो मैंने कुछ सोचा और हिन्दी सेक्स स्टोरी टाइप कर दिया. राहुल भी पूरे जोश में आ गया और अपने लंड को धकाधक रीमा के मुँह में पेलने लगा. कुछ पल के बाद मैं उसके ऊपर से उठा, तो भाभी जी उसके गले लग गईं और उसे किस करते हुए बोलीं- कैसा लगा मेरे राजा का लंड?मोना ने शर्म से आंखें झुका लीं.