बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए

छवि स्रोत,ससुर बहु की सेक्सी विडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बस में का सेक्सी वीडियो: बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए, श्लोक और मैंने गोआ में एक और याराना मनाया जो कि एक बहुत ही रोमांचक घटना थी जिससे मैं आपको बाद में अवगत करवाऊंगा।जिन लोगों ने याराना को अभी से पढ़ना शुरू किया है वो कृपया इस कहानी के पहले भाग से लेकर पूरी कहानी पढ़ने के बाद ही यहां पर वापस इस कहानी को पढ़ने के लिए आयें.

मोनी राय का सेक्सी वीडियो

उसने फिर से पानी छोड़ दिया।लेकिन मैंने अपना काम चालू ही रखा। धीरे-धीरे मैंने भी अपने लण्ड के धक्कों की स्पीड बढ़ा दी। मेरा लण्ड उसकी चूत में काफी तेजी से अन्दर-बाहर हो रहा था।आखिरकार मेरे झड़ने का वक्त आ ही गया, मेरी साँसें तेज़ होने लगी। पूरा शरीर पसीने से तर था। सपना भी तीसरी बार झड़ रही थी. गोवा सेक्सी वीडियो एक्स एक्सऐसा करते हुए मेरा लौड़ा फिर से खड़ा हो गया था जिसे चाची देख भी रही थीं और मुस्करा भी रही थीं.

उसे देख कर ऐसा लग रहा था कि किसी कलाकार ने संगमरमर की मूरत को मेरे सामने एकदम नग्न खड़ा कर दिया हो. कपड़े उतारनाबारिश, बादल, हवा, अँधेरा, एकांत और प्रियतम का साथ … यह सब कामदेव और रति की सत्ता स्थापित होने के इशारे हैं.

दोस्तो, आप सभी की मुस्कान हाज़िर है फिर से अपनी एक नई कहानी लेकर।मेरी पिछली सभी कहानियों को आप लोगों ने बहुत पसंद किया उसके लिए आप लोगों का दिल से धन्यवाद।कुछ दिन पहले मेरी सेक्स कहानीमेरी कॉलेज गर्ल बनी कॉलगर्ल-1https://www.बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए: दीपिका ने अपनी बांहें मेरे गले में डाल दीं और अपने मुँह को मेरी छाती के बालों से रगड़ने लगी.

उसके पति की गैरमौजूदगी में एक दिन मैंने भाभी को अपने दिल की बात बोल दी.एक साथ सेक्स करने में मज़ा आएगा, अगर आपको ठीक लगे तो बताओ?प्रियंका बोली- दिल तो करता है ऐसा करने को, बस कोई प्रॉब्लम न हो कल को कोई?मैंने कहा- इस बात की मेरी गारंटी रही.

भोजपुरी सेक्सी आर्केस्ट्रा डांस - बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए

उसने मेरी गांड के छेद के बाहर चारों तरफ बड़े प्यार से तेल लगाया और हल्के हाथ से उसने मेरी गांड के छेद में अन्दर भी लगाना चालू किया.बात उसी जगह की है जहां मैं पढ़ाता था। उस समय मैं स्कूल के हॉस्टल में ही रहता था लेकिन कई महीने बाद मैं अपनी बीवी को वहीं लेते आया और एक मकान किराए पर लिया।जिस मकान में हमें रूम मिला उस मकान का मालिक उम्रदराज था और उसकी दो शादियां हो चुकी थी.

देखा तो खून निकल रहा था।कुछ ही मिनट के बाद मैं झड़ गया और तान्या की हालत खराब थी। हम दोनों का कौमार्य भंग हुआ था।आंटी ने तान्या को साफ़ कपड़ा दिया, तान्या ने अपनी खून से लथपथ चूत साफ की और अपने कपड़े पहन कर चली गयी।मैं भी चलने लगा तो आंटी बोली- अबे … मेरी प्यास कौन बुझायेगा?तो मैं बोला- आंटी, आज नहीं, कल करूंगा. बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए मैंने अपने हाथों को दीपिका के दोनों कोमल और चिकने नितम्बों पर रखा और उन्हें अपनी ओर खींचते हुए नोंचने लगा.

समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करूँ!ख़ैर छोड़िये मेरी बात को … तो आप आ रहें हैं न?” थोड़ा संयत होते हुए वसुन्धरा ने मुझे पूछा.

बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए?

रात को तीन बजे के करीब मेरी आंख खुली, तो मैंने खुद को हल्की लाल रोशनी में बेड पर अकेला पाया. फिर मेहंदी वाली जाने लगी तो खुशी ने कहा- अच्छा सुनो अभी तुम क्या करोगी?जवाब मिला- कोई मेहंदी लगवाये तो ठीक है मैम. फिर उन्होंने अपनी एक टांग मेरे ऊपर रख ली। लेकिन मैं फिर भी एक ऐसा नाटक कर रही थी जैसे मैं सोई हुई हूं। लेकिन शायद वे जानते थे कि मैं जगी हुई हूं.

मैंने सोचा कि चलो अगर मेरी वजह से किसी का भला होता है तो कर देता हूँ किसी का भला. मेरी वासना तृप्त हो गयी थी और अब चूत में दर्द होने लगा था क्योंकि ज्ञान के लंड के धक्के बहुत ज्यादा तेज थे. मैंने हीना से कहा- क्या हुआ? तुम ऐसे खड़ी रहोगी तो पैन्ट में ही मेरा काम हो जाएगा।अब हीना पल्टी और सामने आकर घुटनों के बल बैठ गई, मेरा तना हुआ विकराल लंड पैन्ट के भीतर ही अकड़ कर भयानक रूप ले चुका था.

मैंने कहा- जब गोली खा ही है, तो अभी क्यों लगा रही हो?उसने कहा- मुझे इसका अनुभव करना है. उस ग्रुप में कई कपल भी थे जो अपनी चुदाई की कहानी शेयर करते रहते थे. मौसी की आर्मपिट्स बिल्कुल साफ चिकनी और उनकी स्किन से मिलते हुए रंग की ही थीं … उन पर कोई ब्लैक स्पॉट नहीं था.

उम्म … उम्माह …वो भी मेरे साथ लग गई और उसने भी मुझे चूमना चालू कर दिया. दरअसल हम नहीं चाहते थे कि कोई बाहरी आदमी मतलब वेटर वगैरह, हम लोगों के बीच आए.

सबसे पहले मैंने स्वीटी आंटी का हाथ पकड़ा और फिर जैसे ही मैं आंटी को लिपकिस करने के लिए आगे बढ़ा, तो आंटी ने कहा कि जिस जगह पर कपड़े नहीं हैं, उसे तो तुम्हें छूना भी नहीं है.

मैंने शादी वाली बात जीजा जी को बता दी, तो जीजा जी भी इसके लिए राजी थे.

हा … यही तो मैं पूछ रही हूँ आप यहाँ कैसे?”अरे वो दरअसल छोटा-मोटा सामान लेना था और समय बिताने के बहाने आ गया था. मैंने सीमा को किस की और उसके कान में कहा- क्यों साली? तूने मुझसे चुदना था क्या?वो हंसती हुई बोली- जैसे मर्जी समझ लो अब तो!फिर मैंने सभी को कहा- यार, हमारी पार्टनरशिप तो बन गयी. फिर बेड पर फूल से थोड़ा कलाकारी की और उसको फोन किया कि वो आ जाये।वो आयी.

कुछ देर चलने के बाद मैंने आंटी से उनके बारे में पूछा, तो उन्होंने अपना नाम सुनीता बताया. भाभी समझ गई कि मेरा पानी निकलने वाला है।तो उन्होंने अपने मुंह से लिंग निकाल दिया और बोली- तेरा पानी निकलने वाला है। अब मैं उसको पियूंगी. शीला ने मुस्कुरा के कहा- मेमसाब, अभी मेरे आने तक मेहमान की टंकी खाली मत करना और उसके बाद तो आज की रात मेहमान को मुझसे ही फुर्सत नहीं मिलेगी.

नजमा मेरा पूरा साथ दे रही थी ‘आह ओह … निचोड़ दो मेरे बूब्स को … आह … आ स स … आ.

अभी सुपारे की मोटाई को ही चुत ने झेला था कि उसने अपने हाथों से मेरी कमर को वहीं रोक दिया. गांड तो उसने भी मेरी मारी, मगर राजवीर के लिए सब कुर्बान।सीमा- तो इस तरह प्रिया एक ही रात में दो भाइयों से चुदने वाली औरत बन गयी।इस बात पर सबके ठहाके फिर से गूंज उठे. फिर दोनों ने अपनी पोजीशन बदली और दूसरे वाले काले अंकल ने नीचे लेट कर मम्मी को अपने ऊपर बिठा लिया और लंड उनकी चूत में डाल दिया.

मैं मना करती, तो कहता कि तुम्हारे अन्दर हिम्मत नहीं है क्या … डरती हो आदि आदि. मैं अपनी फ्रेंड्स के साथ कहीं बाहर जा रही हूँ … और रात को 9 बजे तक आ पाऊंगी. मुझे बाजार घूमने का मौका भी मिल जाता और भाभी को देखने का अवसर भी मिल जाता.

मैंने कहा- फिर क्या कहना है जी?उन्होंने कहा- सिर्फ और सिर्फ कविता या जानू … जो तेरा दिल करे … पर चाची नहीं कहना.

और जिस हिसाब से उसका नंबर बनता था उस हिसाब से वो घूम कर मोनू के पास ही जाने वाली थी क्योंकि उसके जिस्म पर सिर्फ ब्रा और पैंटी रह गयी थीं. मेरे मुँह से बस ‘आहह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्ह ईईई …’ निकल रहा था.

बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए उस समय मेरा लंड पूरा तना हुआ था … और खून के उच्चतम संचार से फूला हुआ था. उसकी चूचियों की वक्षरेखा इतनी गहरी लग रही थी कि उन अंधेरों में डूब जाने का मन कर रहा था.

बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए 30 मिनट तक भाभी की चूत को चोदा और फिर मैंने उनकी चूत के अंदर ही पानी निकाल दिया. मेरे अंदर कोई भी कमी नहीं थी पर मैं अपने बाबूजी के नीचे यानि की जन्म दाता के नीचे कैसे लेटूँ?यह एक बहुत बड़ी समस्या थी.

एक दिन पिताजी को तुम दोनों के बारे में पता चल गया था और उन्होंने ही जिया को तुम्हारे साथ ब्रेकअप करने को कहा था.

हिंदी बीएफ इंडिया की

सेक्स की गोली मुझे असर देने लगी थी और मेरा लंड लोहे की तरह टाइट हो गया था. एक दो पल बाद वो पलट गई, जिससे उसके पैर रोहित के मुँह की तरफ … तथा मुँह रोहित के लंड की तरफ हो गया था. जिया- अगर तुमने रिया की गांड मारी … तो ही मैं तुम्हें अपनी गांड मारने दूंगी.

ड्रॉवर से उनके अंडरगारमेंट्स ब्रा पैंटी कैमीजोल वगैरह बाहर निकल रहे थे. उन्होंने कहा- वेलकम!मैंने बोला- थैंक्स।अन्दर आते ही उन्होंने मुझे हग किया. वो एक तरफ तो अपने हाथ को मुझसे छुड़वाने की कोशिश कर रही थी और दूसरी ओर नीचे ही नीचे अपनी चूत को मेरी पैंट में तने हुए लंड से टच करवा रही थी.

जहां मैं रह रहा था, वहीं पर मैं अपने कपड़े सिलवाने के लिए एक टेलर मास्टर के पास जाता था.

दरअसल मैं देखना चाह रहा था कि जो आग मेरे अंदर लगी हुई है, क्या वो आग उसके अंदर भी लगी हुई है या नहीं?दीप्ति जिस तरीके से मुझे छेड़ती थी उससे मुझे थोड़ा विश्वास तो होने लगा था कि शायद उसके अंदर भी वही भावनाएं जन्म ले चुकी हैं जो मेरे अंदर हैं. फिर हम दोनों इमामबाड़े की एक ऐसी जगह पर पहुंच गए कि जहां पर कोई नहीं था. रीना धीरे से मेरे कान में बोली- हैप्पी न्यू ईयर … अगली बार दो लेने का मन है एक साथ.

वो जानबूझ कर पेंटी पहन कर नहीं आयी थीं, सो उनका साफ सुथरा छेद मेरे सामने था. फिर संजू का शरीर अकड़ा और उसने टाईट होते हुए अपना पेट उचकाते हुए बेतहाशा झड़ने लगी. अब तो मैं तुम दोनों को खाना खिलाने के बाद ही नहाऊंगी।रोहित मेरे होंठों पर एक चुम्बन देते हुए अपने रूम की तरफ चला गया.

इसके बाद सुहास ने अपना लंड मेरी चुत पर रखा और दो धक्के में अपना लंड मेरी चुत में उतार दिया. मैंने वो कार्ड देखे बिना देखे ही फेंक दिया और उसको बोली- मैं कोई रंडी नहीं हूँ जो ऐसे किसी होटल में जाकर मज़े करूँ.

तुझे अगर मेरा लौड़ा चाहिए और मस्ती चाहिए … तो बस कुतिया की तरह नीचे पड़ी रह … और जो मैं बोलता हूं, वही करती रह. मैंने ही अपने पैरों को पूरा फैलाते हुए कोशिश की कि फांक थोड़ा और फैल जाए, तो उंगली अपने आप अन्दर चली जाएगी. अम्मी की बात सुनकर मैं जितना चौंका, उससे ज्यादा मैं अम्मी की मांसल जांघें देखकर चौंक गया था.

मयंक ने सोनम की नाइटी के ऊपर से ही उसकी चूचियों को दबाना शुरू कर दिया.

पानी की फुहारें, जो हम दोनों के ऊपर गिर रही थीं, उसमें ही संजना ने आग में तेल डालने जैसा काम किया था. हनी जिस दिन अपने मायके आई, योजना के मुताबिक अगले दिन मेरा साला अजीत उसे हमारे घर ले आया और मेरे बेटे भरत को ले गया. तू यहां क्या कर रहा है?मैंने भी झट से जवाब दिया- मैंने कल रात को आपके कमरे से कुछ आवाज़ सुनी थीं … और मैंने सब देख लिया था.

भीषण उत्तेजना से उसका सुन्दर चेहरा लाल हो गया था और बदन में कंपकंपी छूट रही थी. मुझे मेरी चुत के अन्दर कुछ अहसास हुआ और वो अपना लंड मेरी चुत के अन्दर धीरे धीरे हिलाता रहा.

काले वाले अंकल झड़ने वाले थे तो उन्होंने चूत में झटके देने शुरू कर दिए और 2 मिनट बाद लंड का पानी मम्मी की चूत में डाल दिया. मैंने चुपचाप आँखें बंद कर लीं लेकिन चाचा मेरी खुली आँखें देख चुके थे. या तो मौसी जाकर मम्मी को ये सब बता देतीं, जो हमारे बीच हुआ था … या फिर वो दोबारा मुझसे चुदने की इच्छा जाहिर करें.

बीएफ बीएफ सेक्सी वीडियोस

मैंने अपना लोअर और अंडरवियर एक पैर से निकाल लिया और मनीषा भाभी का भी लोअर और पेंटी एक साइड से निकाल कर लटका दी, ताकि जल्दी पहनने में कोई दिक्कत ना हो.

अब चाहे तेरी सासु या कोई भी आ जाए, अब चुदाई से पहले तेरी मुक्ति नहीं है. संजू की आंखें मुंदी हुई थीं, वो बड़े प्यार से उसके बालों को सहला रही थी. मैंने गीली चुत में से उंगली निकाली और चाटते हुए कहा- लो … आपकी चुत तो फिर से तैयार हो गयी.

संजना को गालियां देते हुए मैंने कहा- हां मेरी रंडी, तुझे पूरा चोदने के बाद इस साली रंडी शीना को भी चोद दूंगा. अपने माथे पर हाथ मारते हुए मैंने खुद से कहा- अबे चूतिये, चूत तेरे कमरे में थी और तू मुठ मार कर गुजारा करता रहा. मोबाइल रखने का स्टैंडहिन्दी सेक्स कहानी संग्रह की सरताज अन्तर्वासना साइट पर मैं ज्ञान ठाकुर सभी प्यासी चूतों और फड़फड़ाते लौड़ों का स्वागत करता हूं.

वसुंधरा का कसा हुआ सुतवां ज़िस्म नित्य योगा और क़सरत की बदौलत अभी तक तो उम्र को पछाड़ने में क़ामयाब रहा था. …हम तीनों मर्द अपने नीचे चूत चुदाई में लगे थे और तीनों चूत लंड के कहर से मचल रही थीं.

चित्रा आलिया के पास बैठ गई- हमारे लिए इतना नहीं कर सकती हो?आलिया- अगर आप दोनों को अपनी फैंटेसी पूरी करने का इतना ही शौक है, तो एक काम करो भाई के कई सारे दोस्त हैं, उनके साथ स्वैपिंग कर लो. हम दोनों ने व्हिस्की का मजा लिया और सिगरेट से मुँह का स्वाद ठीक किया. फिर दीदी के कहने पर मैं उनके मुँह पर झड़ गया और दीदी ने मेरे लंड को चूसकर साफ कर दिया.

चूचियाँ कस के दबवाने का मज़ा और चूत में मची धकमपेल का मज़ा मिल कर उसकी सुध बुध उड़ा बैठे थे. यह साइट समाज में प्रैशरकुकर में सेफ्टी-वॉल्व जैसा कार्य अंजाम देती है. मैंने नीरा से कहा- तुम इतनी हॉट हो गयी हो कि मेरा तो ऐसी ही निकल गया था.

नमस्कार दोस्तो, माफ करना मैं अन्तर्वासना के माध्यम से आप सभी के सामने बहुत दिनों बाद आ सकी हूँ अपनी नयी कहानी लेकर!मेरी पिछली कहानीबेटे को बॉयफ्रेंड बना कर चुदवा लियाआपको बहुत पसंद आई, जिसके लिए आप सभी ने मुझे मेल किए, आप सभी को धन्यवाद.

उसकी यह बातें सुनके संजना हंसने लगी और उसने कहा- हां मेरी रंडी … साली तू भी मेरे चार्ली की रखैल है और मेरी सौतन भी है रंडी. दोनों लड़के उठ कर बैठ गए और एक दूसरे के सामने घुटनों के बल खड़े होकर एक दूसरे की मुट्ठी मारने लगे.

मैंने पलट कर देखा तो मेरे बिल्कुल पीछे किशोर जी प्लेट लेकर खड़े थे।मुस्कुराते हुए मैंने भी जवाब दिया- आप यहाँ मुझे ही देख रहे हैं क्या? और भी तो औरतें हैं यहाँ पर।उन्होंने जवाब दिया- हैं तो बहुत … मगर आप जैसी सुन्दर कोई नहीं है।उस वक्त मैंने कुछ नहीं कहा और बस मुस्कुराते हुए आगे बढ़ गई।पूरी पार्टी में वो मुझे ही ताड़ते रहे, उनके अलावा भी कुछ लोग मुझे काफी घूर रहे थे।रात लगभग 12 बज चुके थे. मैं ऊपर वाले से प्रार्थना करती हूं कि मेरे सारे पाठकों को मेरी जैसे ही चुदक्कड़ और हॉट बीवियां मिलें और आपके और आपके लंड के साथ हमेशा खेलती रहें. तभी तुषार मेरे सामने देखकर बोला- यार रुमित … तुमने तो कार में ही नाश्ता कर लिया है.

मेरी नंगी टाँगें फैला कर मेरे बेटे ने मेरी चूत को चाटना चालू कर दिया. लेकिन जब मैं बॉस के साथ रोमांटिक हुई तो उन्होंने सब कुछ किया पर मेरी चूत में लंड नहीं डाला. मैंने बरबस ही उन अनछुए उरोजों को अपनी मुट्ठियों में जकड़ लिया और क्लीवेज की गहरी घाटी में मुंह छुपा कर आँखें मूंद लीं.

बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए लेकिन शरीर का दर्द तो दर्द ही होता है, मैं परेशानी को लेकर मां के पास गई. बाथरूम की दीवार पर तुम्हारे लण्ड की परछाई देखकर मेरी चूत ने कहा ‘चुदवा ले इससे, इस बेचारे का भी भला हो जायेगा और तू तो जन्नत के मजे लेगी ही.

पंजाबी में बीएफ भेजो

वो- नहीं … पहले तुम मेरे घर की तरफ आओ, मैं तुम्हें देखना चाहती हूँ. उस समय मेरा लंड पूरा तना हुआ था … और खून के उच्चतम संचार से फूला हुआ था. पांच मिनट तक भी मैं लंड को संभाल नहीं पाई और मेरी चूत का पानी निकल गया.

” कहते हुए उसने मेरी ओर तिरछी नज़रों से देखा।मुझे लगा वह मुझे निरा पपलू (अनाड़ी) समझ रही है।अब उसे क्या मालूम किचन में जब प्रियतमा नंगी होकर खाना बना रही होती है तो उसके पीछे खड़ा होकर उसे बांहों में भर कर उसके नितम्बों में अपना खडा लंड डालने में कितना मज़ा आता है मेरे से ज्यादा भला कौन जान सकता है।प्रिय पाठको और पाठिकाओ, आप सभी तो बहुत गुणी और अनुभवी हैं. फिर उसने ब्रा नीचे करके मेरे बूब्स शुरू कर दिये मगर ब्रा उतारी नहीं. सेक्सी सेक्सी वीडियो क्लिपअब मैं रोज उससे बातें करने लगी और थोड़ी बहुत बात करके उसे बाय बोल देती थी.

थोड़ी देर बाद वो केबिन से बाहर निकली और मेरे पास आकर बोली- राजीव बुला रहा है।मैं समझ गयी तो मैंने शालिनी को इशारे से जाने से मना किया.

पर वो सेक्स के दर्द से डरती भी बहुत थी।मैंने उसको विश्वास दिलाया कि करूंगी कोई इंतजाम तेरी चूत का उदघाटन भी कभी … पर सही वक्त आने दे।फिर कुछ दिनों बाद जीजाजी आये तो अकेले में मुझे पकड़ लिया और चुम्मा चाटी करने लगे।मैंने कहा- जीजू, कोई देख लेगा. जिसे सुनकर मेरे भाई बहन जो पढ़ रहे थे वो मेरे पास आ गए और बोले- आपी क्या हुआ आपको?मैंने चादर से बाहर मुंह निकाला और उन्हें कुछ बहाना बना दिया तो वो बेचारे चले गए.

उन्हीं दिनों मेरी माँ और पापा को किसी रिश्तेदार के यहां एक हफ्ता के लिए जाना था … तो मम्मी चाची से मेरे खाने के लिए कह कर गयी थीं. मगर आज वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी खड़ी थी और मैं उनके सामने।भाभी माँ ने जब मुझे उनके मम्मों को घूरते हुये देखा तो मेरे बिल्कुल पास आई और उनके निप्पल मेरे सीने को छू गए।वो बोली- क्या देख रहा है मेरा बाबू? मम्मा का दुदु पियेगा? हाँ … भूखू लगी मेरे बाबू को? लो पियो!और भाभी ने अपना एक मम्मा अपने हाथ में उठा कर मेरी तरफ बढ़ाया और दूसरे हाथ से मेरा सर नीचे को झुकाया. मेरी रस की गर्मी और गीलापन ज्यादा देर तक रवि झेल नहीं पाए और जल्द ही वे भी झड़ने लगे- आआआ अह्हह ह्ह्ह ह्ह्हह … मेरा भी निकल रहा है … मेरा भी निकल रहा है.

वो- नहीं … पहले तुम मेरे घर की तरफ आओ, मैं तुम्हें देखना चाहती हूँ.

और घबराती भी क्यों ना … उन दोनों ने यह मेरा रूप तो पहली ही बार देखा था. सुमन भी मजे लेती, कहती- उनका भी लेगी क्या?मैंने भी कह दिया- मिले तो जरूर लूंगी, क्या बुराई है. मैंने बिना सोचे उससे कह दिया कि कल सुबह दस बजे मैं तुम्हें कुतिया बना कर चोदूंगा और अपना पानी पिलाऊंगा.

पहले सेक्सी वीडियोमुझे नहीं पता था कि मेरी मम्मी इतनी बड़ी वाली रंडी हो सकती हैं, दो दो लंड ही साथ ले रही थी. वासना में उत्तेजित हुई दीपिका ने एकदम पोजीशन बदली और उसने बैठे बैठे अपने दोनों घुटनों को चौड़ा करके मेरे दोनों पटों के बाहर से कर लिया और अपनी चूत को मेरे उल्टे मुड़े लौड़े पर टिका कर बैठ गई.

बंगाली बीएफ वीडियो सेक्सी

उधर मैंने अपना लोअर निकाल कर देखा, तो लौड़े ने पैंट में उत्पात मचा रखा था. तो मैंने कहा- अरे अकेले अकेले शुरू भी हो गये, सतीश कहाँ है?उन्होंने बताया कि सतीश अपने रूम में गया है और आ ही रहा है. जब मुझसे नहीं रहा गया तो आखिर मैंने कविता से पूछ ही लिया- जीजू के जाने के बाद भी तुम दोनों इतना खुश कैसे हो? क्या तुम्हें जीजा जी के जाने का कोई गम नहीं है?उसने बोला- पति को मैं वापस नहीं ला सकती हूँ.

वो मेरे घर के बारे में, मेरे बारे में कुछ नमक मिर्च लगा कर ही बोलती, पर साथ ही आह भी भरती कि इतने घरों में काम किया, पर ऐसा भौंदू राम न देखा. चाचा ने मेरा हाथ अपने लण्ड पर रखकर सहलाने का इशारा किया तो मैं सहलाने लगी, थोड़ी ही देर में चाचा का लण्ड टाइट हो गया तो चाचा ने मेरे मुंह में डालकर कहा- इसे गीला कर दे. लाइट जलाकर वापस मुड़ा तो नंगी आशा को देखकर मैं दंग रह गया, वो बहुत गोरी और सुन्दर थी.

तभी पहले वाले अंकल ने दोनों को रोका और खुद नीचे लेट गए और उनकी चूत में लंड डालकर उन्हें अपने ऊपर लेटा लिया और दूसरे वाले अंकल को पीछे से गांड में लंड डालने के लिए बोला. तुझे जितनी ज्यादा तकलीफ होगी मुझे उतना ही ज्यादा मज़ा आएगा।ये कह कर रमेश ने रिया की गांड में थूक दिया और अपनी दो उंगलियों से रिया की गांड के छेद को ढीला करने लगा. कोमल के चूचे हवा में हिल रहे थे और मैं तेज़ी से उसकी गांड मार रहा था.

इसका यह परिणाम था कि रोहित और मेरी सांसे पहले से तेज और गरम हो गयी थी।मेरा सारा ध्यान अब रोहित के लण्ड पर था जिससे मेरी काम करने की तेजी भी बहुत कम हो गयी थी. वो बोली- कोई देख लेगा … बाद में सही जगह करेंगे।मैंने उसे जाने दिया और मैं वापस आने लगा तो आंटी (नाईट गॉर्ड की पत्नी) ने मुझे देख कर बुला लिया.

कमरे की लाइट बन्द थी तो मैं धीरे से सोफे से उठी और बिस्तर पर आकर बैठ गयी।मैंने अपने गाउन की चैन खोलकर अपने गाउन को मम्मों तक नीचे किया.

उसके वीर्य की धार लण्ड से निकलकर सीधे रोहित के पेट कमर के नीचे के हिस्से पर गिर रही थी. हॉट सेक्सी चुदाई वालाफिर मैं बोली- मैं एक बात कहूँ, तू कुछ बुरा तो नहीं मानेगा न?वो बोला- नहीं आंटी … आप बोलिए न!मैं बोली- तूने बोला कि गर्लफ्रेंड देखने मैं भी मॉम टाइप की हो … मैं ये बात समझी नहीं. डॉक्टर की सेक्सी वीडियो पिक्चरतभी तुषार मेरे सामने देखकर बोला- यार रुमित … तुमने तो कार में ही नाश्ता कर लिया है. मैंने वीडियो नहीं देखा, बस मोबाइल अपनी जेब में रखा और बाथरूम से बाहर आ गया.

जब वह सीढ़ियों से नीचे उतर रही थीं, तब ऐसा लगा कि आसमान से कोई अप्सरा उतर रही है.

आशा के गाउन के बटन खोलकर उसके शरीर से अलग किया तो आशा पूरी तरह से नंगी हो गई, उसने ब्रा और पैन्टी नहीं पहनी थी. उसकी गांड में लंड क्या घुसा, वो ज़ोर से चिल्लाने लगी और उसकी आंखों से आंसू आ गए. com/chudai-kahani/college-girl-bani-callgirl-1/प्रकाशित हुई थी अन्तर्वासना पर.

धीरे धीरे मैंने दीपिका की स्कर्ट को पूरा ऊपर उठा कर उसके चूतड़ों को नंगा कर दिया. अगले भाग की प्रतीक्षा करे और तब तक आप मुझे मेल कीजिएगा कि यह गर्म कहानी आपको कैसी लगी?. फिर मैंने उसकी कमर पर हाथ रख दिया और कोमल के गाल पर किस करके हम दोनों सो गए.

बीएफ फिल्मxxx

मुझे लगा कि कहीं मेरी वजह से तेरी नींद न ख़राब हो जाए तो यहीं बैठ गया. आलिया ने जीजा जी के हाथ से स्कॉच का बैग ले लिया और रसोई में चली गई. चाची बोलीं- मेरी जान इतनी जानदार चुदाई से तेरा मन नहीं भरा क्या, जो तेरा ये मूसल फिर से खड़ा हो गया है?मैंने कहा- मेरी चाची जान, आपका ये सेक्सी बदन है ही इतना लाजवाब कि मेरा दिल ही नहीं भरता.

फिर अचानक जीजा के मुंह से निकला- आह्हह्ह… आआआ… हाह्हह… होह्हह… करके जीजा ने मेरी सेहली की चूत में अपना वीर्य छोड़ दिया.

[emailprotected]कहानी का अगला भाग:बीवी की मेरे दोस्त से चुदने की चाहत-2.

पहली बार शान्ति भाभी जब मुझे चोदने का ज्ञान दे रही थीं, तो मैंने उनके मम्मों को पीते पीते ही सुर्ख गुलाबी कर दिए थे. संजना और शीना के छेद से पानी निकल रहा था, जो उनकी जांघों तक पूरा निकल रहा था और नीचे जमीन पर भी गिर रहा था. जुदाई हिंदी में सेक्सीमैंने पूछा- कभी आप इंडिया में भी आते हो क्या?वो बोले- हाँ, अगले महीने ही आ रहा हूँ.

अच्छा खिला खिला सा रंग, फिगर एसी कि मॉडल लड़कियां शर्म खाएं, बड़ी बड़ी आँखें, त्वचा बिल्कुल साफ और रेशम जैसी चिकनी. हालांकि कहानी मेरी ही है, मगर मुझे कभी ख्याल ही नहीं आया कि मुझे मेरी पहली चुदाई की कहानी लिखनी चाहिए. अब आगे की बंगालन भाभी Xxx स्टोरी:दीपिका का ड्रिंक खत्म होता देख कर मैंने सोचा कि मैं उसके लिए और कोल्ड ड्रिंक ले आता हूं.

मुझे मजा आने लगा, मेरा पानी निकलने लगा तो उसने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और दबाकर मेरा पानी निकाल दिया।फिर मैंने अपने बदन को ढीला छोड़ दिया और उससे चिपक गई लेकिन वह तो मुझे बराबर चोदे जा रहा था और उसने भी अपना सारा पानी मेरी चूत में ही निकाल दिया।तब हम दोनों आराम करने के लिए बैठ गए. मैंने कहा- भाभी, अब आप बुरा मानो या अच्छा, आप के हुस्न का मैं दीवाना हो गया हूं। अब तो लगता है कि अभी के अभी इसी जगह सीढ़ी पर खड़े खड़े आपके इस मदमस्त हुस्न के सागर में डुबकी लगा दूं। कसम से आप भी कहोगे कि किस मर्द से पाला पड़ गया!मेरी बातों से अब तक बसंती भाभी को ये अहसास हो गया था कि मेरे अंदर उसके हुस्न की आग भभक रही है.

अम्मी की बात सुनकर मैं जितना चौंका, उससे ज्यादा मैं अम्मी की मांसल जांघें देखकर चौंक गया था.

वो रह रहकर अपनी चूत को झटके देती रही और मेरी कमर को नोंचती खसोटती रही. मेरे दोनों हाथों में अपना हाथ थमाये होठों पर किंचित सी मुस्कराहट लिए वसुंधरा हल्की नींद में सच में कोई अप्सरा लग रही थी. मैंने फिर कहा- घबरा मत डार्लिंग, प्रियंका से पूछ कर देख कितना मज़ा आता है.

चाचा और भतीजी का सेक्सी वीडियो वाइफ सेक्स स्टोरी इन हिन्दी आपको कैसी लग रही है? आप मुझे हेंगआउट्स पर, मेल पर और फेसबुक पर भी मेसेज कर सकते हैं. फिर अपनी अपनी बीवियों के साथ मिलकर सफर की थकान उतारी। उसके बाद रात का खाना अपनी अपनी बीवियों के साथ ही खाया.

वो चिल्लाते हुए बोलने लगी- आंह साले हरामी है तू मादरचोद … साले लगता है तू आज मेरी चूत को भोसड़ा बनाएगा. फिर मैंने एक दिन मैंने स्नेहा भाभी से बोला- यार अब कितना इन्तजार करवाओगी?भाभी बोलीं- किस बात का इन्तजार है. तभी मैंने उन्हें धक्का देकर हटाया और बोली- ऐसे नहीं यार … आपका बहुत मोटा है, मेरी फट जाएगी.

इंडियन विलेज बीएफ

रानी के मुंह पर एक मुस्कान सी खेलने लगी और बुर में फिर से रस बहने लगा जिससे लंड को भी मज़ा आने लगा. आपका दिल क्या कहता है?” मैंने वातावरण थोड़ा हल्का करने की गरज़ से पूछा. ”गुड … पर … अकेली? मेरा … मतलब बनर्जी साहेब नहीं आए साथ में?”नहीं वो 3-4 दिन के लिए कोलकता गए हैं।”ओह … और सुहाना?”वो भी 2 दिन के लिए अपने कजिन के यहाँ चली गई है मैं आजकल अकेली ही बोर हो रही हूँ.

बाबू के दिमाग में क्या चल रहा था, ये न तो मेरे … और न माई को पल्ले पड़ रहा था. वह तो मुझे सुबह पता चला जब मेरे साथ श्लोक था। उसने मुझे बताया कि यहां सब हैं और सबके साथ ऐसा खेल खेला है। तब मैं थोड़ी नॉर्मल हो पाई हूं.

आआहह … उसकी गोदी में बैठकर मुझे उसका लंड चुत में लेते हुए बहुत मज़ा आ रहा था.

ये सुन कर मैंने नीतू को खड़ा किया और पहले उसकी ब्रा उतारी, तो उसके 34 साइज के मोम्मे मेरी आंखों के सामने उछलने लगे. कुछ देर मुझे लगा कि अब ससुर जी अपना वीर्य निकालने वाले हैं, तो मैं झट से सामने आ गई. तो लाइट बंद करके वो दोनों बिस्तर में लेट गए और थोड़ी देर बाद शायद सो भी गए.

बाकी सब तो परसों सवेरे 10-11 बजे के आस-पास दिल्ली से स्कूल की बस से वापिस डगशई के लिए निकलेंगे. मैंने सुधा को अब अपनी गोदी में उठाया और ध्यान रखा कि इसकी चूत में से लंड ना निकले. तभी उन्होंने एक धक्का मारा और मेरे मुंह से आह्ह … करके हल्की चीख बाहर आ गयी.

मैंने उससे उसका पता व फोन नम्बर देने के लिए कहा तो उसने मना कर दिया.

बीएफ हिंदी वीडियो भेजिए: शरीर पे मात्र एक पेटीकोट था।मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया।मैं बाल्टी रख कर आने लगा तो उसने मुझे बुलाया और मेरी पैंट पर हाथ रख कर बोली- मैं तेरी शिकायत नहीं करूँगी अगर तुम मुझे अपना लंड दोगे।मैंने कहा- मैं कैसे … मुझसे नहीं होगा।वो बोली- सोच लो. और बातों ही बातों में मैंने उनको कह दिया कि मैंने हमारी बातें मेरी सहेली नज़मा को बता दी हैं.

दीपिका पूछने लगी- राज, साइज क्या है?मैंने कहा- पता नहीं, तुम्हीं नाप लो. हम चारों ही एक साथ ड्रिंक कर चुके थे … मगर हम कभी खास मौके पर ही ड्रिंक्स करते थे. फिर अपना लन्ड मेरी दोनों जाँघों के बीच रगड़ते हुए मेरे होंठ चूसने लगे.

बहुत दिनों बाद मैं आप का अपना राजवीर एक बार फिर से हाज़िर हुआ हूँ, अपनी क़लम से निकली एक और दास्तान लेकर!लेकिन पहले अपनी बात!मेरी पिछली कहानीएक और अहिल्याकी ऐसी चौतरफ़ा वाहवाही की तो मैंने कल्पना भी नहीं की थी.

परन्तु ये कहाँ से शुरू होगा?मैंने कहा- सभी जैसे बैठे हैं, वैसे ही बैठे रहें. मैंने रुकैय्या की चूत से अपना लण्ड निकाला और अम्मी की गांड में उतार दिया. अब मुझे वो पंच मारना था कि उसकी उंगलियां सीधे उसकी चुत पर पहुंच जाएं.