कोलकाता का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,सेकस मुवी

तस्वीर का शीर्षक ,

हीदी सेकसी वीडीयो: कोलकाता का सेक्सी बीएफ, सुनीता ने कहा- मनोज, तुम्हें कैसी गर्लफ्रेंड पसंद है?मनोज ने शर्माते हुए बात को टालने के लिए यह कह दिया- कैसी भी चलेगी.

एक्स एक्स एक्स डब्ल्यू

इसलिए मैंने मां को चुदते हुए ही कल्पना की और अपने अंडरवियर में हाथ डाल कर लंड सहलाने लगा. सेक्स ब्लू वीडियो ब्लूवो बोला- और अगर मेरा बड़ा हुआ तो?मैंने कहा- फिर जो कहोगे वो मैं करूंगा.

जब मेरा वीर्य निकलने को हुआ तो मैंने कहा- अबकी बार कहां निकालना है?वो बोली- इस बार भी चूत में ही निकाल दो. ट्रिपल एक्स इंडियन बीपीहम तीनों साफ हो गये और फिर मैंने सासू मां को अपनी मजबूत बांहों में उठाया और उनको बेडरूम में ले गया.

फिर मैंने उनसे मजाक करते हुए कहा- अरे कहां आंटी … मुझे आप जैसी कोई लड़की ही नहीं मिली.कोलकाता का सेक्सी बीएफ: इस तरह से हम तीनों अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों के नियमित पाठक हो गये.

जब उसने मुझे देखा, तो पूछा- ऐसे क्या देख रहे हैं?तो मेरे मुँह से ‘मस्त हैं यार.दोनों कमरों के बीच का दरवाजा खोलकर मैं ललिता के कमरे में आ गया और दो घंटे में उसे दो बार चोदा.

देसी सेक्स देहाती - कोलकाता का सेक्सी बीएफ

अब पता चल रहा है ना कितना दम है?ऐसा बोल बोल कर वो मां की गांड को चोदता रहा.कोमल ने भी कपड़े पहने और फिर मैं वहां से जाने लगा ताकि उसकी मां को मेरे बारे में शक न हो जाये.

फिर मेरे कंधे पर मेरे गाल पार, मेरे मम्मों पर कई बार ज़ोर ज़ोर से काटा।मैंने कहा- अरे काटो मत, निशान पड़ जाएंगे।वो हंस कर बोला- तो क्या हुआ, तेरे उस चूतिया पति ने कौनसा देखने हैं? अभी तो तेरे जिस्म और और रंगीन करूंगा।फिर राजेश ने मुझे घोड़ी बनाया और फिर चुदाई कम करी, मार मार के मेरे दोनों चूतड़ लाल कर दिये. कोलकाता का सेक्सी बीएफ लेकिन भैंस साइड में हट गई तो उसका लन्ड बाहर ही लटकने लगा।तभी मोसी बोली- ये ऐसे नहीं रुकेगी.

उसकी आंख बंद हुई तो मैं धीरे से वहां से उठी और आहिस्ता से अपनी नाइटी डाल कर वहां से निकल ली.

कोलकाता का सेक्सी बीएफ?

फिर निगार आंटी ने मुझसे कहा कि मां बनने के बाद वो मुझे स्पोर्ट्स बाइक गिफ्ट करेंगी. बाहर वालों की बात तो छोड़ो, मेरे करीबी रिश्तेदार तक शादी के रिसेप्शन में ऐसे ही कर रहे थे. मैं उठ कर अमिता के पास पहुंचा, जब तक चार लोग सीट कूद कर सामने की सीट पर आ गए.

टीचर के साथ सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपनी ट्यूशन वाली टीचर दीदी की चुदाई उनके घर में की. मैं स्कूल में बायलॉजी की स्टूडेंट थी तो किसी भी चीज के बारे में पूरा रिसर्च कर डालती थी. मैंने उनसे कहा- मैं आपको आपकी पसंद की आइसक्रीम लाकर दे दूंगा भाभी, तो मुझे मेरी पसंद का टेस्ट करा दोगी?भाभी ने हंस कर मना कर दिया.

बोले- मैडम आपके पति से तलाक हुए कितना समय हो गया है आपको?वो बोली- अभी 8 महीने हो गये हैं. सोमवार आया तो मैंने रेखा को फोन किया- मैं आ सकता हूँ?मैं कुछ कहने की स्थिति में नहीं हूँ. माँ की शारीरिक प्यास नहीं बुझ पा रही थी इसलिए उसने रघु के साथ ऐसा किया था। उसकी उसी प्यास को मैं अपने लंड से बुझा देना चाहता था.

मामी मेरे लम्बे मोटे लंड को देखते हुए बोलीं- तू पागल तो नहीं हो गया?मैंने भी बोल दिया कि हां आपकी चुत के नशे ने मुझे पागल कर दिया है मामी. दूसरे आदमी ने कहा- बड़ा ही अव्वल दर्जे का चुतिया है बे तू … आठ मर्दों के बीच में अपनी लुगाई को बैठा दिया था और एक बार भी पलट कर नहीं देखा कि वो ठीक है या नहीं.

काफी देर तक वो मेरा लंड ऐसे ही चूसती रही एक पोर्न स्टार की तरह से मेरे लंड को न केवल चूस रही थी … बल्कि मेरी गोटियों को भी चूस रही थी.

मैंने कहा- तुझे आदत नहीं है क्या किसी मर्द के साथ सोने की?मां बोली- तेरे पापा किसी औरत को संतुष्ट करने के इतने लायक कभी थे ही नहीं.

पर मैं अब भी मोनिका की नंगी चूत देख कर यूरिन गिरने वाला सीन याद कर रहा था. थोड़ी देर आराम करने के बाद भाभी मेरे लंड से खेलने लगी और मैं उनकी चूची की घुंडी को धीरे धीरे दबाने और चूसने लगा. अभी तक इसको तुमने ऐसे अनछुई क्यों रखा हुआ है, इसके अंदर किसी का लंड डलवाने में इतनी देर क्यों की हुई है तुमने?मैं बोली- ये चूत केवल आपकी अमानत है.

जिया- पहली बात तो ये है कि वो मेरा आशिक नहीं है, बस एक ऐम्पलोयी है. लोवर उतरते ही मेरा खड़ा लंड उनके सामने था, जिसे देखते ही भाभी ने अपने हाथों में पकड़ कर कहा- आह बहुत मोटा और बड़ा लंड है. अब तक मेरा लौड़ा फिर जोश में आ गया और मैं आंटी की चुत में उंगली करने लगा था.

सच मेंबहुत गर्म लड़की थीवो!कुछ सालों तक हमारा दोस्ताना रहा था। उसके बाद उसने मुम्बई में शादी करके घर बसा लिया।उसके बाद आज तक मैं उससे दोबारा नहीं मिला और न ही कोशिश की.

साथ ही एक हाथ आगे ले जा कर उसकी चूत की क्लिट को रगड़ने लगा।इस तरह 4-5 पोजिशन बदल बदल कर मैंने उसे 25 मिनट तक चोदा। इतने में 2 बार और झड़ चुकी थी. फिर मेरा निकलने को हुआ, तो मैं उनको नीचे लिटा कर जोर जोर से चोदने लगा. मैंने धीरे-धीरे उसके होंठों पर किस करते हुए उसकी चूत से अपने लंड को आधा बाहर खींचा और तुरंत ही एक झटके में पूरा अन्दर डाल दिया.

वो सिसकारते हुए बोलने लगा- आह्हह … सिमरन … तुम मुझे पहले क्यों नहीं मिली? आह्हह … सेक्सी जान … तुम मुझे पहले मिलती तो मैं तुमसे ही शादी कर लेता. एक समय की बात है मेरे एम बी बी एस का एग्जाम सेंटर गाज़ियाबाद में पड़ा था. तो क्यों न आज सासू मां की चूत चोदी जाये! ऐसा मौका फिर हाथ नहीं लगेगा.

मैं कसम से बता रही हूँ कि मुझे मौसी उस दिन इतनी मस्त माल लग रही थीं कि पूछो मत.

फिर मैं आंटी के पास बेमन से उठ कर चला गया और जल्दी ही वापस भी आ गया. जैसे ही मेरा आधा लंड उसकी चूत में अन्दर घुसा तो वह जोरों से रोने लगी और चिल्ला पड़ी.

कोलकाता का सेक्सी बीएफ मैंने बाहर जाकर देखा तो पाया कि प्रिंसीपल सर प्रोग्राम को खत्म करने के बाद के कामों में लगे हुए थे और उनको अभी एक घंटा लग सकता था. लड़की वालों की तरफ से बहुत सी सुंदर-सुंदर लड़कियां भाभियां और आंटियां आई हुई थीं.

कोलकाता का सेक्सी बीएफ आकाश ने जिया के पैर को पकड़ कर ऊपर किया और अपने लंड को उसकी चूत पर लगा कर अंदर पेल दिया. मैंने चुत पर मुँह का ढक्कन लगा दिया और भाभी की पेशाब की धार को सीधे अपने मुँह में लेते हुए पी गया.

पहले ही दिन मैंने सोच लिया था कि आज बहन की चूत को एक बार तो जरूर छूकर देखूंगा.

एक्स एक्स एक्स एक्स मूवी हिंदी में

ये थी मेरी देसी गांड की कहानी दोस्तो, आपको अच्छी लगी या नहीं? मुझे कमेंट्स और मैसेज में बतायें. वो मुझे वीडियो कॉल पर भी अपने दूध चूत दिखाने लगी थी और मैंने भी उसे अपना लंड दिखा कर मजा लिया था. अगले एक हफ्ते तक मैं व्हाट्सएप पर रोमांटिक शायरी भेज भेज कर अपने प्यार का इजहार करता रहा.

वो भी थोड़ा सा मना करती रहीं पर कुछ नहीं बोलीं।कुछ देर बाद चुप्पी मैंने तोड़ी. वो धीरे धीरे अपनी गांड को नीचे नीचे चला कर लंड को एडजस्ट करने की कोशिश कर रहा था. इधर सोनम मेरे लंड को मेरे लोवर के ऊपर से ही पकड़ने लगी, जो कि बिल्कुल लोहे की तरह कड़क हो गया था.

अब अंजना ने बेड के नीचे से एक बैग निकाला और उसमें से एक रस्सी निकाली और मेरे दोनों हाथ कुर्सी के हत्थों से बांध दिए.

फिर मैंने खुद ही फोन की लाइट में अलमारी के हैंगर से नया सिल्की पेटीकोट उठाया और उसे पहनने को दिया. रोशन लाल को मैं कई बार आइटम सप्लाई कर चुकी थी, तो वो मेरी बात मानता था. फिर वो एक तरफ हो गयी और मौसा ने मुझे पकड़ कर अपने ऊपर कर लिया और खुद नीचे लेट गये.

ये मेरे लिए हरी झंडी थी कि दोस्त की मम्मी की चुदाई की सहमति मिल गयी है. मैं भाभी की टांगों को कंधे पर रखे रहा और धीरे धीरे चोदते हुए उनके होंठों तक पहुँच गया. जब अंडरवियर उतार रहा था तो आंटी मेरे लंड को हवस भरी नजर से देख रही थी.

अमन ने मेरे हाथ से मेरी ब्रा ले ली और साइड में रख दी और फिर से चुदाई का एक और राउंड शुरू हो गया. ये मुझे काफी बाद में पता लगा था कि उनके पति की उम्र उनसे काफी ज्यादा थी.

इस तरह से इंडियन कॉलेज गर्ल सेक्स के साथ मैंने बस में चुदाई का मजा लिया. बुआ ने भी चुत खोल दी और लंड को अपने हाथ से अपनी चुत के मुँह में सैट कर दिया. उफ्फ … क्या खुशबू थी उसके जिस्म की!जिसे सूंघ कर मैं मदहोश हुआ जा रहा था.

मैंने उसको सौ रूपये का नोट थमा दिया और बोला कि कोई बात नहीं, इस बारे में ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं है.

फिर मैंने उससे कहा कि अगर तुम्हें कोई दिक्कत है तो बता दो, यहां पर केवल हम दोनों ही हैं. इस दौरान मुझे जब भी मौका मिला, मैंने करिश्मा के तने हुए चूचों को बड़ी कामुकता से देख कर अपनी आंखों से नई भाभी की चुदाई की. भाभी पलटी तो मेरी नजर उनकी भीगी चूचियों और गीली सेक्सी नंगी चूत पर पड़ी.

वो बोलीं- तुम इतने गेम्स खेलते हो … ऐसा हो ही नहीं सकता कि अब तक कोई चिड़िया फंसी ही न हो. पता नहीं सामान लेने में या जानबूझ कर उन्होंने अपने पल्लू को ढलक जाने दिया.

फिर वो धीरे धीरे मेरे ब्लाउज के ऊपर से मेरे बूब्स को दबाने लगा जिससे मैं धीरे धीरे पागल होने लगी. मेरे विरोध न करने से मौसी की हिम्मत बढ़ गई और अब उनका हाथ मेरी गांड पर आ गया और वो मेरी गांड सहलाने लगीं. मैंने कहा- आंटी हां पानी गिर गया … मगर कोई बात नहीं, अभी तो वैसे भी गर्मी है.

xxx सक्से

अब तक आपने मेरी टीचर के साथ सेक्स कहानी के पिछले भागट्यूशन टीचर के घर स्टूडेंट की चुदाई-5में पढ़ा था कि टीचर की मम्मी के घर न रहने से मैंने दीदी की चुदाई उनके घर में की और मस्ती का आनन्द उठाया था.

फिर अमन ने अपना लंड पकड़ कर मेरी चूत पर रख दिया और धीरे धीरे अपना लंड मेरी चूत के छेद के अंदर घुसाने लगा. वहां मैंने बिना कुछ बोले उनकी मांग में सिंदूर भर दिया और मां का मंगलसूत्र उनको पहना दिया. मेरी बीवी की चूत के दीवाने मेरे पिताजी अब मेरी सेटिंग मेरी मां के साथ करवाने के लिए तैयार हो गये थे.

‘ओहहह अब्बू …’मैं उसकी चूत से हल्का हल्का निकलता पानी भी चाट रहा था और जीभ भी अन्दर तक डाल रहा था. तो मैंने गुड़िया बुआ से थोड़ी बहुत डबल मीनिंग बात की, जिसका पूरा रस लेते हुए वो भी मुझे जबाव दे रही थीं. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो मूवीदो मिनट बाद ही सुनीता ने सोचा कि एक बार देखा जाए कि झाड़ियों में क्या चल रहा है.

मैं बड़बड़ाने लगा- आह्ह्ह चूत में क्या मजा आ रहा है … बड़ी टाइट चूत है मेरी बिटिया की. रोज किसी की ब्रा या पैंटी चुपके से उठा कर ले जाता था और उसको सूंघते हुए मुठ मारता था.

निगार आंटी ने मुझे उन दोनों के जाने के समय की फोटो और ट्रेन वगैरह की जाकारी दे दी. मामा मेरी टांगों के बीच आ गये और मेरी टांगें फैला कर मेरी चूत खोल दी. एक दिन की बात है कि मेरा परिवार हैदराबाद घूमने का प्लान बना रहा था.

लंड को दीदी की बुर पर सेट करने के बाद मैंने हल्का सा धक्का दिया और मेरा लंड दीदी की चिकनी चूत में आराम से चला गया. मैंने पूछा- तो अब क्या होगा?निगार आंटी- मैं तुमसे बात करने से डर रही थी यार … इसलिए अच्छा मौका मिलते ही मैंने तुम्हें कॉल किया है. मेरी पोज़िशन ऐसी हो गयी थी, जैसे कोई गर्ल चुदने से पहले घोड़ी बनती है.

अब मामा का सारा काम मैं ही देखता था, घर से लेकर बाहर तक कोई भी काम होता था … तो मैं ही करता था.

फिर मैंने उससे पूछा कि आपका कैसा चल रहा है?उन्होंने मुझे बताया कि मैंने अपने पति को छोड़ दिया है. तभी जीजा ने फिर से पूछा- हैलो राज … तुम लाइन पर ही हो न?मैंने जबाव दिया- हां जीजा जी … मैं कुछ समझ ही नहीं पा रहा हूँ.

अपनी कातिल मुस्कुराहट से किसी भी लड़की या भाभी के दिल में समा जाता हूँ।मेरे लंड की लम्बाई साढ़े 6 इंच है जो किसी को भी अपना दीवाना बना देता है. मैं समझ गया था कि ये ज़रूर कोई बात थी, मगर क्या बात थी, ये मुझे नहीं पता था. अब मैंने मनोहर का लंड अपनी चूत में डाल लिया और एक झटके में ही सारा लंड अंदर चला गया और मनोहर जोर जोर से लंड को अंदर बाहर करने लगा.

इसी तरह कुछ देर तक करते रहने के बाद अब उसने कमान और मोर्चा संभाला और मेरी फ्रेंची को नीचे सरकाते हुए उतार दिया. लेखक की पिछली कहानी:अम्मी ने अपनी सहेली की चुदाई करवाईदोस्तो, मेरा नाम इकरार खान है, मैं दिल्ली में रहता हूं. मैं एकदम एक चौधरी आदमी हूं और किसी की गुलामी करना मुझे पसंद नहीं है.

कोलकाता का सेक्सी बीएफ इसी प्रकार जब उनकी तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई, तो मैंने एक हाथ उनके ब्लाउज में घुसा दिया और दूसरे हाथ से उनकी चुत को साड़ी के ऊपर से ही सहलाने लगा. ‘आहा आहा ऊह ओह आउच … धीरे … आह जोर से … ओह आउच जान प्लीज़ फक हार्ड … आह ओह …’आंटी की आवाजें और लंड की चोटों से फट फट की मधुर आवाजे कमरे में गूंजने लगी थीं.

सेक्स video xxx

बेटा खुले घर में अपनी बीवी को चोद रहा है और आप मुझे भी देखने के लिए कह रहे हो!पापा बोले- इसमें शर्म की क्या बात है. फिर अचानक नीरव ने कहा- डार्लिंग, कल तुम कॉलेज बंक कर सकती हो क्या मेरे लिए?मैंने कहा- यार, कल तो मेरा टेस्ट है. उसने मेरे कंधों से मुझे पकड़़ रखा था और मेरे लंड का पूरा आनंद ले रही थी.

मैंने पूछा- अच्छा, कितना मजा आया?वो बोला- तुम तो कमाल की चुदक्कड़ माल हो. हमारी पहली चुदाई काफी देर तक चली जिसमें मैं अमन के लंड पर दो बार झड़ गयी. बड़े लंड से चुदाई वीडियोमैंने उसकी आंखों से आंसू पौंछे और अपने सीने से लगा कर उसके होंठों पर किस किया.

थोड़ी देर तक भाभी के इसी पोजीशन में सोने से मेरी तो हालत खराब होने लगी थी.

मौसी के कहने पर मैं आहिस्ता से वहां से उठा और अपनी वाली जगह पर आकर लेट गया. इतने दिनों के बुरे वक्त के बाद आज मुझे लंड मिला था और वो भी एक नहीं पूरे तीन तीन लौड़े.

मामी हंस कर बोलीं- अरे ये तो पुराने कपड़े हैं … रंग से खराब न हो जाएं इसलिए मैं ये पहन लिए हैं. उसने कहा- अच्छा तो मेरा पाँचवाँ सवाल यह है कि तुमने कितनी लड़कियों की चूत चाटी है?मैंने कहा- एक बार फिर चूत बोलिये!उसने फिर कहा. इस तरह उन दोनों के साथ मेरे मिल जाने पर हम लोगों का थ्रीसम शुरू हो गया.

इसी बात से उत्तेजित होकर मेरा वीर्य भी छूट गया और मौसी का पूरा हाथ मेरे गाढ़े वीर्य में सन गया.

इधर ही गर्म रस पिला दो न!मामी ने कहा- हट बदमाश कहीं का …मैंने कहा- सच्ची मामी … मेरे मुँह में मूत दो … मैं आपकी चूत का पानी पीना चाहता हूँ. वो मेरे बारे में ऐसे खयाल कैसे ला सकता है, मुझे पाने के बारे में कैसे सोच सकता है?वो बोले- ठीक है फिर, तुम ये मान लो कि तुम उसकी मां नहीं हो. कुछ मिनटों तक जोरदार चुदाई के बाद मैं कुछ रुका, तो कोमल दीदी ने लंबी सांस ली.

বাংলা ট্রিপল এক্স ভিডিওवो कहने लगी- अब्बू अब देरी मत करो … मार दे आज अपनी नाजुक बिटिया की गांड. ये सब मुझे पागल कर रहे थे। वो मेरी जांघों से होता हुआ मेरे पैरों तक पहुँच गया और मेरे पैरों की उँगलियाँ चूसने लगा।फिर वो मेरे जांघों को सहलाने लगा और फिर मेरी टाँगों को खोल कर मेरी चूत के आसपास चूमने लगा और पैंटी के ऊपर से ही मेरी चूत चाटने लगा।मेरी पैंटी पहले से ही गीली हो चुकी थी।फिर उसने मेरी पैंटी भी उतार दी और मेरी चूत पर उँगलियाँ टहलाने लगा.

सनी लियोन सेक्स बीपी

मैं दोस्त की मम्मी की चुदाई करता रहा और आंटी बीच बीच मुझे अपने ऊपर खींच कर मेरे होंठों को चूसने लगती. मुझे आज आनन्द की अनुभूति अलग ही हो रही थी। मौसा अपनी जीभ से बड़े ही शालीन तरीके से मेरी चूत चाट रहे थे. मैंने उन्हें पानी की बोतल दे दी और उन्होंने पानी पी कर बोतल वापस दे दी.

मेरी कहानी के पहले भागसेक्सी बहन को बीवी बनाया-1में आपको मैंने बताया था कि मेरी बहन मेरे पास ही रहने के लिए आ गयी थी. और वे बोल रहे थे कि अब इस जगह बाल दोबारा नहीं आ सकेंगे।अपने आपको इतनी चिकनी देख कर मुझे बहुत अच्छा लग रहा था।इसके बाद मेरा मैनीक्योर और पेडीक्योर किया गया. उनके गहरे गले के ब्लाउज से झांकती उनकी 36 साइज की कड़क चूचियां बहुत खूबसूरत लग रही थीं.

इस तरह से मैं पांच दिन वहां रहा और मैंने निशा बहू की चूत कई बार बजाई. मैं फिर से उसके होंठ चूसने लगा और वो मेरी छाती से चिपक कर अपनी चूचियां मुझसे रगड़वाने लगी. जब मम्मी नीचे काम कर रही थी तो हम दोनों पीछे वाले कमरे में गये और नंगे होकर एक दूसरे को चूमते हुए आवाजें करने लगे.

मौसी की चूत में लंड घुसा घुसा कर चोदने में मुझे स्वर्ग सा आनंद मिलने लगा. ये सुनकर मैंने निगार आंटी को बधाई दी तो आंटी बोलीं- लेकिन सलमान मुझे डर लग रहा है.

मैं कुछ कहता उससे पहले वह घुटने पर होकर घोड़ी बन गई।तो मैंने पूछा – तुम्हें कैसे पता मुझे यही पोज चाहिये?पूजा- ज्यादातर मर्दों को डॉगी स्टाइल पसंद होती है। चलो रुको मत, बजाओ मेरी चूत का बाजा।मैंने बिना वक्त गंवाए पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया। अब मैंने झटके शुरु कर दिए। मैंने उसकी कमर को कस कर पकड़ा और चोदने लगा.

प्रिया और प्रीति को बताए बगैर मैंने छुट्टी ली थी और मोबाइल भी स्विच ऑफ कर रखा था. ब्लू फिल्म नंगी चोदते हुएइससे पहले तो मुझे अपनी दीदी को चोदने के लिए बहुत जोर लगाना पड़ता था. भाभी की जबरदस्त चुड़ैएक हफ्ते झांसी में रहकर ललिता भी पन्द्रह बीस दिन के लिए मायके आ गई और हमें चुदाई के मौके मिलते रहे. मैं अच्छी तरह जानती हूं कि जब मर्द और औरत के जिस्मों के बीच में इतना कम फासला हो तो इस तरह की भावनाएं आना स्वाभाविक है.

मैंने थोड़ी और हिम्मत की और उसकी चड्डी को लांघ कर मेरा हाथ उसकी चूत को छू गया.

फिर मैं अपने लंड को बाहर निकालने लगा … लेकिन मंजू ने लंड के सुपारे को मुँह में ही रखा और मेरे लंड को निचोड़ने लगी. दीदी इस समय बहुत अच्छा ब्लो-जॉब दे रही थीं, जिसमें वो बहुत सेक्सी लग रही थीं. मैंने उनकी चूचियों को कस कर भींच लिया और उनके ऊपर झुक कर पूरी ताकत से उनकी चूत को फाड़ने लगा.

कहते कहते उन्होंने अपना कुर्ता उतार दिया व अपनी श्वेत श्याम रंगों वाले बालों से भरी छाती का प्रदर्शन करने लगे. मगर दोस्तो, मैं दो बाइक का क्या करूंगा, इसलिए मैंने निगार आंटी को बाइक का मना कर दिया. तभी पूजा आंटी की आवाज आई- देखो दीपक, अगर तुम सपोर्ट करोगे, तो तुमको कम दर्द होगा और अगर तुम सपोर्ट नहीं करोगे, तो तुम्हें ज्यादा तकलीफ़ होगी.

सेक्सी पिक्चर नंगी नंगी

वो बोली- तो मेरे यहां से ले गये होते?मैंने बोला- हां भाभी, बस यही तो गलती कर दी. ‘क्या स्वाद था उसके चूतरस का!’जब मैंने अपना लंड उसकी चूत में डाला तो इस बार पूरा लंड एक बार में ही चूत में समा गया. आकाश सर खड़े हुए और डांस के लिए तैयार होते हुए जिया मेम की तरफ अपना हाथ लंबाने लगे.

इस इरोटिक ब्लोजॉब से जैसे ही मेरे लंड का पानी छूटा, तो उसने शायद बदला लेते हुए अपनी बीच की दो उंगलियों को मेरी गांड के छेद में डाल दिया.

उसकी आंख बंद हुई तो मैं धीरे से वहां से उठी और आहिस्ता से अपनी नाइटी डाल कर वहां से निकल ली.

घर आया तो सबसे पहले मैंने बाथरूम में घुस कर जोर जोर से लंड की मुठ मारी और वीर्य गिराने के बाद ही मुझे और मेरे लौड़े को चैन मिला. फिर पापा ने मुझे बुलाया और कहने लगे- तुम्हारी मां की शिकायत है कि तुम उनकी चूचियों को घूरते रहते हो. घड़ी एक्स एक्समैंने उसकी चूचियों को मुंह में भर लिया और एक एक करके जोर जोर से पीने लगा.

मामी के मुंह से निकलने वाली मादक सिसकारियों में अब मजे के साथ दर्द भी था. तभी पूजा आंटी की आवाज आई- देखो दीपक, अगर तुम सपोर्ट करोगे, तो तुमको कम दर्द होगा और अगर तुम सपोर्ट नहीं करोगे, तो तुम्हें ज्यादा तकलीफ़ होगी. मुझे याद है कि उनकी सफेद टीशर्ट के अंदर उनकी लाल ब्रा साफ साफ दिख रही थी.

पर उन्होंने कहा- नहीं … ऐसा कुछ नहीं है … बस ऐसे ही घर में कभी कभी तो कुछ अनबन हो ही जाती है. मैं भी उनकी चुत के झड़ने से जरा हैरत में आ गया कि इनका रस इतनी जल्दी कैसे निकल गया.

आह क्या मज़ा आने लगा था दोस्तो … मेरे दोस्त की सास लंड बहुत अच्छा चूसती थीं.

ताई बोली- ऐसा भी करते हैं क्या, ये तो इसके पीछे भी डाल रहा है, मैंने तो आज तक कभी अपनी गांड नहीं मरवाई. फिर मैंने दीदी की ब्रा को भी निकाल दिया और दीदी की कमर पर हाथ रखकर दीदी को वासना से देखा. मुझे उनकी हंसी से राहत मिली और मैं समझ गया कि लौंडिया हंसी मतलब फंसी.

हिंदी सेक्सी वीडियो नंगी सीन तो दोस्तो कैसी रही मेरी नंगी चुत की चुदाई की सेक्स स्टोरी … आप लोग ज़रूर बताइएगा. अपने हाथों से मुझे बांहों में भर लिया।वहाँ बिस्तर पर मैंने उनका ब्लाउज निकाला, फिर उनका पेटीकोट निकाला और फिर ब्रा के ऊपर से ही उनके वक्ष चूमने लगा.

जब मैंने रिसेप्शन रूम की ओर देखा तो पाया कि उन दो लड़कों में से एक जाग रहा था और मुझे ही देख रहा था. चूदाई का भरपूर मजा लेने के लिए मैंने रेखा के चूतड़ों के नीचे एक तकिया रखा. अमन अब मेरी चूत पर टूट पड़ा और मेरी चूत को कुत्ते की तरह जुबान से चाटने लगा.

सेक्सी बीपी ओपन हिंदी

और फिर उनकी चूची पकड़ कर तेज तेज उसकी चूत में धक्के लगाने लगा क्योंकि मैं ज्यादा देर नहीं टिक सकता था. जब वो औरत चली गयी तो वो जमीन पर लेट गया और मुझे उसने अपने ऊपर खींच लिया. मेरी वासना बढ़ती ही जा रही थी, सो मैंने अपने रूम का गेट खोलकर बैठना शुरू कर दिया.

मामी उनके लंड पर बैठ गईं और अपनी चूत को लंड के ऊपर रख कर गांड हिलाने लगीं. जल्दी ही अपनी अगली कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी रंडी बन चुकी मां की चूत को चोद चोद कर शांत किया.

मैंने भी हंस कर जवाब दिया कि हां आपको जब भी मेरी जरूरत हो, आप मुझे बता देना.

धीरे धीरे मैं नीचे आया और उसके मम्मों को बारी बारी से चूसने लगा और वो होंठों को दांत से दबाकर आवाज नहीं निकालने की कोशिश कर रही थी. धीरे धीरे से मैं उस लड़के के लंड को अपने हाथ से हल्का हल्का दबा कर सहलाने लगी. उसके कातिलाना नैन नक्श और मस्त उभारों से लग रहा था कि उसकी चूची की साइज 36 इंच की तो होगी ही.

तो आज मैं अपने जीवन की एक सच्ची घटना लिख रहा हूँ और आशा करता हूँ कि आपको अच्छी लगेगी. सुनीता ने फोन निकाला और मेरे अब्बू के पास फोन मिलाया और उनसे कहा- भाईजान, हम आने में लेट हो जायेंगी क्योंकि यहां से हम बहुत देर में निकले हैं और जाम लगा हुआ है. बात आगे बढ़ाने से पहले अपने बारे में आपको मैं सामान्य जानकारी दे देता हूं.

उसने फिर एक जोरदार झटका देकर अपना पूरा लंड मेरे अंदर डाल दिया।मैं उसकी बांहों में बेबस पड़ी थी और चाह के भी कुछ नहीं कर पा रही थी।उसका बड़ा सा लंड मेरी चूत चीरता हुआ अंदर चला गया.

कोलकाता का सेक्सी बीएफ: मैं चल कर वापस से अस्पताल में आयी और देखने लगी कि किसी ने मुझे वहां से आते हुए देखा तो नहीं. सामने भी ध्यान रखना पड़ रहा था कि कहीं कोई मेरे हाथ को उसकी जांघों के बीच में उसके लंड पर चलता हुआ न देख ले.

उस रात पापा ने मालिश करवाते वक्त लवली से कहा कि कमर के नीचे दर्द हो रहा है. पिंकी के बाल साफ करते करते मैंने अपना लंड पिंकी की गांड से रगड़ना चालू कर दिया. टिप 1- जब आप दिन में नहाने जाओ तो एक ऐसे समय पर जाओ जब आपके घर में आपके और आपके भाई के अलावा कोई न हो.

मैं सोचने लगा कि मैं तो यहां चुत चोदने आया था … लेकिन अब लग रहा था कि मेरी नंगी गांड मारी जाएगी.

फिर मेरा ब्लाउज़, ब्रा, मेरी साड़ी, पेटीकोट, कब उतार दिये गए, मुझे कुछ पता नहीं।मैं बिलकुल नंगी सोफ़े पर फैली पड़ी थी और राजेश जी मेरे मम्मों को निचोड़ते, मेरे निप्पलों को मसलते। मेरी चूत के दाने को कभी काटते तो कभी चूस जाते।शादी के 10 साल बाद ये नया अनुभव मेरे लिए अकल्पनीय था।बड़ी मुश्किल से 4-5 मिनट ही मैं टिक पाई. जैसे ही उजाला हुआ तो देखा कि एक आदमी जो कि लगभग 35 साल का था, वो मेरी सासू मां की चूचियों को मसलने में लगा हुआ था. फिर मैंने लंड जैसे ही उसकी गांड पर लगाया तो वो चिल्लाई- मेरी गांड मत मारो.