हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ

छवि स्रोत,హిందీ బిఎఫ్ సెక్స్ హిందీ బిఎఫ్ సెక్స్

तस्वीर का शीर्षक ,

सबसे गंदा शायरी: हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ, मेरी पिछली कहानीसेक्स की चाहत से चुदाई तकपढ़ने के लिए आप सब का बहुत बहुत धन्यवाद.

हॉट सेक्सी स्टोरी इन हिंदी

उनके चूमने, चाटने और चूसने में उनकी भूख साफ झलक रही थी। मेरे होंठ, गाल, ठोड़ी, गर्दन सब चूस गए. सेक्सी वीडियो राजस्थान सेक्सी वीडियोउनकी उम्र करीब 40 साल से ज्यादा की नहीं थी, वो हट्टे-कट्टे मर्द थे.

दोनों टांगों को खोले हुए उसकी चूत को देखा तो मन करने लगा कि अभी जाकर चोद दूं इसे लेकिन अभी वो संभव नहीं था. फुल एचडी सेक्सी वीडियो फुल एचडीअब आगे की गर्ल हॉट सेक्स स्टोरी:मैंने देखा बिन्दू मेरे पीछे पीछे आ रही थी.

मैंने उनके कमरे में सिलेंडर रख दिया, तो आंटी ने तारीफ करते हुए कहा कि वाह भैया आप तो बड़े आराम से ऊपर ले आए.हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ: रमेश ने रीता के बाल पकड़ कर उसके मुंह को लंड से अलग कर दिया और उठ कर अपने सारे कपड़े खोल कर उतार फेंके.

मैंने नेहा की पैंट में हाथ डाला और उसको टांगों में से निकाल कर नेहा को बिल्कुल नंगी कर दिया.लेकिन कैसे? तो डेल्ही सेक्स चैट वेबकैम मॉडल ने उस सेक्सी लेडी की चुदाई में मेरी मदद की.

ಎಕ್ಸ್ ವಿಡಿಯೋಗಳು - हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ

रात को खाना खाने के बाद करीब 9 बजे सुमीना के व्हाट्सएप से मैसेज आया और हम दोनों बातें करने लगे.मेरी योगा पैंट को अर्जुन ने अपने जिम में ही निकाल के फ़ेंक दिया मैं और वो बिल्कुल नंगे होटल के लिफ्ट में 5th फ्लोर पे जा रहे थे।लिफ्ट के अन्दर वो मेरी चूचियों को चूस चूस कर न निकलता हुआ दूध पीने की कोशिश में था.

दूसरे दिन आंटी ने मुझे 4:00 बजे शाम को फोन किया कि आज तू खाना मत बनाना … मैं खाना तेरे रूम में ले आऊंगी. हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ तो मैं झट से जाली का दरवाजा खोल कर उनके ड्राइंग रूम के अंदर चला गया.

बस ये बता दो कौन सा मेरा है?अब खुशी से पहले पायल ने एक सूट की ओर इशारा किया और बोलने लगी- ये तुम्हारा है और ये मेरे दूल्हे का है.

हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ?

आप सबकी वजह से में आप लोगों को अपनी सेक्स कहानी बताने का अवसर मिला. मैंने उसको दिखाने को बाय बोला और आगे बढ़ गया।किट्टू घर में घुसी, मम्मी के कमरे की तरफ बढ़ी ही थी कि मैंने दबे पांव से घर में घुस कर दरवाज़ा लॉक कर दिया और किट्टू के वापस आने का इंतज़ार करने लगा।जब किट्टू को ऊपर कोई नहीं मिला तो वो वापस नीचे आयी. थोड़ी देर में मैंने देखा जो हरकत मैं कर रहा था वही भाभी ने शुरू कर दी.

उनकी तो ऐसी तैसी हो जाती है, पर भोसड़ी वाले मेरे से पूछते रहते हैं कि मजा आ रहा है कि नहीं. अंकल दूसरे कमरे में सोने चले गए।लगभग एक घंटे के बाद मैंने अपने कमरे के दरवाजे को बंद होते हुए देखा। मैंने देखा कि मम्मी कमरे से बाहर गयी हैं। मैं समझ गया कि अब मम्मी उन अंकल के कमरे में गयी होंगी. फिर हंस कर बोली- चलो, पहले खाना खा लेते हैं, बाकी मजे रात को करेंगे.

तो उसने पैंट अलग करके गाड़ी के अन्दर डाल दी और मेरे घुटने के नीचे से हाथ निकाल कर मेरी गांड पर सहारा देकर मुझे अपनी बाजू में उठा लिया. थोड़ी ना नुकर करने के बाद रश्मि भी उसको सेवा देने के लिये तैयार हो गयी. उसने अपनी चुत को मेरे लंड पर घिस दिया था और हम दोनों को चुदाई का पहला स्पर्श अन्दर तक झनझना गया था.

कुछ देर मरी मम्मी की चूत को अच्छे से चाटने के बाद अंकल ने मम्मी को लिटाया और अपना लंड मम्मी की चूत से लगा दिया. मैंने रॉबर्ट से कहा- सर प्लीज आप मेरी चुत को ही चोद लो … आपके लंड से मेरी गांड में बहुत दर्द हो जाएगा.

जबकि सत्यता ये थी कि सलीम का लंड मेरी जांघों में ही उछलकूद करके झड़ गया था.

गुरजीत की चिकनी चूत पर हाथ फेरते हुए मैंने पूछा- ये शेव कब की?रात को 2 बजे.

तुम्हें ले जाएगा यहाँ से। ऐसे छुईमुई बन कर बैठी रहोगी तो क्या मैं तुम्हारा अचार डालूंगा यहां?रश्मि- नहीं, रुकिये अंकल. उस दिन मैं अपने काम से समय से पहले फ्री हो गया था, तो मैंने सोचा कि रूम पर जाकर आराम कर लेता हूँ. मैं बोला- तुम्हें अभी से पैसों की लगी है, पहले बच्चे को ठीक तो हो जाने दो.

वहां पहुंच कर मैंने गुड़िया को फोन किया, पर वो फोन नहीं उठा रही थी. उफ्फ्फ़ क्या लड़की थी … साली को मर्दों को तड़पाना और उत्तेजित करना अच्छे से पता था. मेरा मन तो किया कि अभी पकड़ कर सपना को अपनी बांहों में भर लूं … लेकिन मैंने खुद पर काबू किया.

पोर्न मूवीज, क्लिप्स, वेब सीरीज, सेक्स पर आर्टिकल्स, सेक्स क्या है, कैसे करें, क्या करें, क्या न करें … सब कुछ अब आपकी उंगलियों के इशारे में है.

और स्टोर का समान जैसे था, वैसे ही करके चुपचाप अपने कमरों में चले गए। इतनी जबर्दस्त चुदाई से मेरी चाल ही बदल गयी थी. श्लोक ने अपने हाथों को वीना के कूल्हों के नीचे लगाया और उन्हें अपने नाखूनों से जोर से दबाया।वीना- ओह्ह, फकिंग मैन… इट्स हर्ट मी। (हटाओ अपने हाथ की पकड़ को, तुम्हारे नाखूनों से मुझे दर्द हो रहा है।)श्लोक – यू वाना वाइल्ड फकिंग! इट्स वाइल्ड फक डार्लिंग. मेरे पति ने मेरी चूत में जीभ की नोक से छेड़ना शुरू किया तो मैं मदहोश होने लगी.

कुछ देर बाद बिन्दू सीधी हुई, उसकी चूत का भरता बन चुका था, जो छेद पहले दिन खोलने से मुश्किल से दिखाई दे रहा था अब वह गुलाबी रंगत लिए हुए खुल चुका था. यह बात आज से तीन साल पहले की है जब मैं अपनी परीक्षा देने के लिए भोपाल गया था. इसी सबके के चलते मैं लड़कों को अपनी तरफ आकर्षित करने के लिए बहुत ज़्यादा बोल्ड कपड़े भी पहनने लगी.

एसएचओ ने एएसआई और उस लेडी कांस्टेबल से पूछा- इनको किस से पूछ कर बुला कर लाए हो?एएसआई ने कहा- इन लोगों के खिलाफ रोहित ने शिकायत दी थी.

नतीजा ये हुआ मैं कराह उठी, मैं एक झटके में बेड से ऊपर उछल गयी। मैंने उसके हाथों पर अपने नाखून धंसा दिए। मैंने अपने पैरों की कैंची खोल दी पर उसने मेरी जांघों को दबोच रखा था, मैं पीछे नहीं जा सकी।मेरे सामने रोने के अलावा कोई चारा नहीं था। मेरी आँखों से आंसू छलक पड़े।वो आगे की तरफ झुका और मेरी गर्दन पर धीरे धीरे काटने लगा। इससे मेरा थोड़ा ध्यान भटका. उसका लंड हाथ में लेकर मैं हिलाने लगी और थोड़ी देर हिलाने के बाद थॉमस ने अपना पानी मेरे चेहरे पर भी निकाल दिया.

हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ तभी उनके पेन का बॉक्स नीचे जमीन में गिर गया और वो नीचे होकर उठाने लगे. अगर मेरी बात का बुरा लगे तो माफ कर देना।मैंने कहा- नहीं अंकल, आप कहिए तो सही.

हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ अब जाओ।रमेश ने रीता को चिढ़ाते हुए उसकी पैंटी से अपना चेहरा पौंछ लिया. अब दोनों एक दूसरे के शरीर को सहला कर एक दूसरे को सेक्स के लिए गर्म कर रहे थे.

वो मेरे पीछे पीछे सीढ़ियों से उतरने लगा। हम टीवी हॉल में पहुंचे और उसे सोफे पर धक्का दे दिया।वो सोफे पर अपने लण्ड को सहलाते हुए बैठ गया।मैंने टीवी ऑन किया और एक गाने पर उसके सामने थिरकने लगी.

सेक्सी वीडियो पिक्चर चुदाई

मेरी फैली हुई टांगें और खुली हुई सफाचट चूत देख कर वो फिर से गरमा गया. लेकिन दूसरे मर्द शरीर के हर पार्ट की अच्छे से इस्तेमाल करता है … जो चरम सुख का आनन्द देता है. मैं खुशी के मैसेज के अंदेशे से चहक उठा।तुरंत मैंने हैंगआऊट चेक किया, तो सचमुच ही खुशी का मैसेज था, उसने सिर्फ हाय लिखकर मैसेज किया था।मैंने तुरंत जवाब दिया- हैलो, क्या कर रही हो?खुशी ने कहा- मैं तो सोई हुई थी, नींद खुली तो तुम्हारी याद आई, पर लगता है तुम तो सोये ही नहीं हो, समय देखा है एक बज रहा है।मैं अपने कारण खुशी को दुखी नहीं करना चाहता था.

तेल की चिकनाई की वजह से सुपारा साली जी की गांड का छल्ला पार करके अन्दर दाखिल हो गया और मैंने तुरंत उसकी कमर मजबूती से पकड़ ली. तो अदिति एकदम से उठी और बोली- बेशर्म तू अंदर क्यों आ गयी?नीला बोली- तुम दोनों को देखना जो था बिन कपड़ों के. मैं चलते हुए अर्पित के पास पहुंची तो वो बोला- कहाँ रुक गयी थी? और वो दोनों कहाँ हैं?मैंने बोला- वो नहीं आ रहे.

मगर उन सभी पाठकों से माफी चाहूंगी क्योंकि मैं सभी से नहीं चुद सकती हूं.

इस अनचुदी चूत की पहली चुदाई कहानी के पिछले भाग में आपने अब तक पढ़ा था कि मीता मेरे लंड को चूस रही थी और अब वो 69 में होकर मजा दे रही थी. मैं चुपचाप उसके बगल से उठा और नित्यकर्म से निवृत्त हो बाहर टहलने निकल गया. परदे चेंज करके मोटे परदे लगा दिए, जिससे कमरे में काफी हद तक रात का माहौल तैयार हो गया.

मैंने बेड की साइड वाली दराज से एक डॉटेड (दानेदार) कंडोम निकाला और थॉमस के लंड को पहना दिया ताकि थॉमस का लंड मेरी गांड में जाकर गन्दा ना हो. मेरे प्यारे पाठको, आप सबको मेरा प्यार भरा नमस्कार। उम्मीद है कि आप सभी के लण्ड खड़े और महिला पाठकों की चूत गीली होगी।जैसा कि आप सबको पता है कि यह कहानी मेरी पाठिका सुरभि पांडेय की है जिसका पहला भागमेरी वासना और पागल भिखारी का लंड-1आप पढ़ चुके हैं. ”देखो बेबी … उस टॉम के साथ भी तो तुमने किया ही है … बस मैं भी एकबार अन्दर डाल कर बाहर निकाल लूंगा.

मेरी पत्नी फल खरीद कर आ गई तो हम लोगों की बातचीत बंद हो गई और कुछ ही देर में हम घर पहुंच गये. ऑफिस के बाकी दूसरे बंदर तो केवल मेरी मोटी गांड और टाइट चूचियों की निप्पलों को देख देखकर मुठ मारने के ही लायक हैं.

मेरी बात को वो भी मान गयी थी और कहने लगी कि वो गोली ले लगी गर्भनिरोधक। हम दोनों होटल में जाने वाले थे. तो मैं अपनी पोजीशन संभाल ना सका और मेरा लण्ड किट्टू की चूत से बाहर निकल गया।किट्टू रोने लगी थी और उसकी आवाज़ तेज़ होती जा रही थी।मैंने समझते देर ना लगाई कि इसकी आवाज़ घर से बाहर तक भी जा सकती है क्योंकि मैं बाहर वाले कमरे में ही चुदाई अभियान चला रहा था।तो मैंने उठ कर उसको थोड़ी सांत्वना दी और उसको अंदर वाले कमरे में चलने को कहा।बिलबिलाती हुई किट्टू ने पहले तो कुछ नहीं कहा. रमेश- शर्म आ रही है मेरी जान? रमेश उसके चेहरे की तरफ झुकते हुए बोला.

लेकिन वो थी कि मुझसे अच्छी दोस्ती करके ही खुश रहती थी।कभी-कभी मैं खुशी को अपने सेक्स पार्टनर के रूप में महसूस करने के लिए तड़प उठता था.

लेकिन इस बार चुदाई डबल बैड पर हो रहीं थीं तो भैया ने 69 पोजीशन बना ली. अपना लण्ड गुरजीत की चूत से बाहर निकाल कर मैंने उस पर कॉण्डोम चढ़ाया और फिर से गुरजीत की चूत में पेल दिया. मेरे कड़क बूब्स को दबाते हुए मुझे भी मस्ती चढ़ने लगी और मेरी आंखें अपने आप ही बंद होने लगीं.

अब थॉमस भी मुझे आराम से चोद रहा था, क्योंकि रोहन कमरे से जा चुके थे. उधर राजू मेरे बूब्स बहुत जोर जोर से दबा रहा था जिससे मुझे मजा आ रहा था.

आज मेरे जीवन की एक प्रेम से भरपूर यादगार को सेक्स स्टोरी के रूप में मैं आपसे शेयर कर रहा हूँ. फिर दस मिनट बाद वो उठे और बोले- कभी गांड में लंड लिया है?मैं बोली- नहीं … गांड में भी कोई लंड लेता है क्या?मैंने झूठ बोल दिया था. कुछ देर मरी मम्मी की चूत को अच्छे से चाटने के बाद अंकल ने मम्मी को लिटाया और अपना लंड मम्मी की चूत से लगा दिया.

भोजपुरी मे सेक्सी बीएफ

अब तक मेरी बेचैनी भी शवाब पर थी, तो मैंने लंड को पूरा का पूरा एक साथ ही चूत की जड़ में बिठा दिया और ऐसा करते वक्त मैंने प्रतिभा के हवा में उठे पैर उसके चेहरे की ओर दबा दिए, जिससे चूत और भी उभर कर लंड लेने के लिए सामने आ गई.

मैंने खुशी के कमरे में किसी को नहीं देखा, तो खुशी के पास को आने लगा. तब मैं अपनी कहानियों में या अन्य चैटिंग फ्रेंडस में व्यस्त हो जाता था।खुशी के साथ अब मेरी बात हैंगआऊट पर होने लगी. वह कटाई के लिए आने वाले मजदूरों की लड़कियों और औरतों को भी मौका मिलने पर नहीं छोड़ता था.

जब बाबूजी ने तीसरा झटका दिया तो उनका पूरा लंड मेरी चूत को फैलाता हुआ अंदर धंस गया. मुझे मेल करके जरूर बताएं कि मेरी गे सेक्स कहानी कैसी लग रही है?आपका आजाद गांडूकहानी जारी है. विद्यार्थी सेक्सी व्हिडिओनसीम भाई का लंड एक दूसरे माशूक लौंडे को, जो उन्हें पंसद था … उसे अपनी गांड में डलवाना पड़ा.

तो मैंने कहा- एक बार वीडियो कॉल पर आओ … तो देख कर एक एक हिस्से की तारीफ़ करूंगा. मैं मुस्कुराती हुई और अपनी गांड मटकाती हुई नीचे आयी और थॉमस के पास आकर खड़ी हो गयी.

तभी एक तेज का धक्का देकर थॉमस ने अपना आधा लंड मेरी चुत में डाल दिया. भैया खुद भी बिल्कुल नंगे हो गये और ऊपर से कम्बल डाल लिया।ये तो मार्च का महीना था, शिमला में तो मई जून के महीने में भी कम्बल ओढ़े जाते हैं क्योंकि शिमला है ही इतना ठंडा।भैया लगातार किस कर रहे थे और भाभी भी पूरा साथ दे रही थी. ”कोई बात नहीं चलो बेड रूम में चलते हैं।”वो आप मम्मी को तो नहीं बताएँगे ना?”अगर तुम मेरा कहना मान लोगी तो बिल्कुल नहीं.

मैंने अपनी दोनों हाथों में मां के दोनों मम्मे पकड़ कर रगड़ते हुए मोर्चा सम्भाल लिया. मैंने उठना चाहा तो उन्होंने मुझे नीचे दबा लिया और मेरी चूचियों को पीने लगे. कल फिर मिलता हूँ, मेरे गांडू भाइयों आपकी गांड में चुनचुनी हो रही होगी.

जब लगभग 6 इंच लण्ड घुस गया तो ऐसा लगा जैसे अन्दर और जगह नहीं है और कोई रुकावट आ गई और इससे आगे छेद तंग हो गया है.

बस यही समय था, जब हम डराकर पुरूष पुलिस वालों को भगा देना चाह रहे थे. ’अब बॉस ने गर्लफ्रेंड के एक दूध को अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगा.

फरवरी के महीने में भी सुंदर भाल पर पसीने की बूंदें उसका शृंगार कर रही थीं. पूजा- तो तुम शेव क्यों नहीं कर देते?मैं- जरा पैर उठाकर मेरे कंधे पर रख लो. मैं भाभी को चोदते चोदते ऊपर वाले कमरे में ले गया और सबसे पहले उन्हें बिस्तर में फेंक कर उनकी कमीज उतार दी.

उनके घर से निकल कर थोड़ी दूर जाकर मैंने बाइक रोकी और गुड़िया को फोन करने लगा कि उसको बता दूं कि अब जा रहा हूँ. उसके सामान्य होते ही मैंने उसे बिस्तर से उठाया और मैंने खुद को नीचे लिटाते हुए उसे अपने ऊपर ले लिया. मैंने बात बनाते हुए कहा कि मेरी सहली एक बेटी का भी डांस का प्रोग्राम है, तो मैं उसी को देखने आई थी.

हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ अब तक आप लोगों ने पढ़ा था कि कैसे मेरे और मामी के बीच बातचीत होना शुरू हुई और मेरे मामा की सूरत से नौकरी छूटने के बाद वो दिल्ली आ गईं. मैंने एक मिनट के लिए थॉमस के लंड को पकड़ कर रोक दिया और गहरी सांस ली.

विदेशी सेक्सी वीडियो भेजो

मैं जमीन पर खड़ा था और नीरा बिस्तर में पेट के बल लेट मेरा लन्ड चूस रही थी. कुछ देर की घमासान चुदाई के बाद वो अकड़ने लगी और लंड को उसकी चुत में गर्माहट महसूस होने लगी. मेरी जुबान ने अम्मी की चूत का स्पर्श किया तो आह क्या नमकीन पानी मेरे मुँह में आ गया था.

जिम काफी बड़ा था और चारों तरफ ग्लास लगी थी और सामने की तरफ एक बड़ी बालकनी थी जहाँ से पूरा शहर दीखता था. ये लंड तो मेरी बच्चेदानी से टकरा रहा है … आह मेरे लंडूऊऊ … आज मुझे चोद चोद कर ठंडा कर दो तुम … मेरी जान. गावाकडचीझवाझवीउनकी तो ऐसी तैसी हो जाती है, पर भोसड़ी वाले मेरे से पूछते रहते हैं कि मजा आ रहा है कि नहीं.

फिर भाभी को कस कर पकड़ लिया और अपने सीने से लगाकर किस करने लगे। किस करते करते भैया ने भाभी की ब्रा का हुक खोल दिया और पैंटी भी निकाल दी.

मैंने बिन्दू को मजा देने के लिए उसकी चूचियों को और होंठों को चूसना शुरू किया तो दो ही मिनट बाद बिन्दू एकदम मुझसे लिपट गई और आ… आ… आ… ई. चूंकि मैं एक बिजनेस कंसल्टेंट्स हूँ, इसलिए मेरी इस तरह की मीटिंग्स चलती रहती हैं.

वो थोड़ा ऊपर उठ के बोलने लगा- आह्ह्ह चाहत … उम्म्म मैं आ रहा हूँ!”मैं भी अर्जुन … अह्ह्ह जोर से चोदो … ओह्ह्ह!”और एक जोरदार ऐंठन के साथ वो मेरे अन्दर झड़ने लगा. भाभी ने दूसरे मम्मे को भी बाहर निकाल लिया और मेरे दाहिने हाथ को उठा कर उस पर रख दिया. मैंने मां से बोला- हां मेरी जान अब मेरा भी निकलने वाला है … क्या मैं अपना वीर्य अन्दर ही छोड़ दूँ?मां बोलीं- हां अन्दर ही छोड़ दो … बहुत प्यासी है मेरी चुत, तुम्हारा अमृत जैसा वीर्य पीकर तृप्त हो जाएगी.

फिर मैंने भाभी के ऊपर चढ़कर पीछे से हाथ डालकर स्तनों को पकड़ा और मथने लगा.

रॉन भी उसके सिर को पकड़ कर याह्ह … याह्ह … करता हुआ अपना लंड मेरी बीवी के मुंह में पेलता रहा. ये दिन कैसे बीते?मेरी प्रिय साईट अन्तर्वासना के प्रिय पाठको और पाठिकाओ, नमस्कार!आशा है आप सब पूर्ण स्वस्थ और सुखी होंगे. उन्होंने पहले ही मेरे कंधे पर और फिर पीठ पर अपना हाथ फेरना शुरू कर दिया.

सेक्सी वीडियो हिंदी साड़ी वाली भाभीमैंने उससे कहा- कोई बात नहीं, तुम मेरे बेटे के कमरे वाले बाथरूम में बाथरूम में चले जाओ. अब खुल कर मस्ती करने के कारण मैं मजा तो ले ही रहा था … तो मैंने वाइट रसगुल्ला उठाया और नीचे झुक गया.

ब्लू फिल्म वीडियो में चोदने वाली

उसने कहा- वैसे तो मेरी किसी दिन छुट्टी नहीं होती है, मैं छुट्टी लेती भी नहीं हूँ … क्योंकि में अकेली रहती हूँ. मैंने भाभी की चूत के दाने को अपने होठों से चूस लिया तो भाभी का सारा शरीर इकठ्ठा हो गया. चूत की झिल्ली फाड़कर गुरजीत को कली से फूल बना कर मेरा लण्ड रुका नहीं बल्कि पूरी शिद्दत से अपना काम करता रहा.

” मैंने उसे समझाते हुए कहा।घर वालों ने मेरी जिन्दगी बर्बाद कर डाली।” उसने सुबकते हुए कहा।मुझे कुछ समझ ही नहीं आ रहा था इसे कैसे समझाया जाए।लैला की भी यही हालत थी उसे तो मैंने पूरी रात अच्छी तरह समझाने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी थी. भाभी धीरे से मेरे कान में फुसफुसाई- राज तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड है?मैंने कहा- नहीं भाभी. इस मौके का मैंने फायदा लिया और मौसी के पास जा कर बोला- कल रात के लिए शुक्रिया, शायद मैं कल नहीं बोल पाया था.

ये देख कर उसने मेरी चूची चूसते हुए मुझसे कहा- बाजी, कपड़े उतारो न!तब मैंने अपनी मैक्सी उतार दी. उसके बाद उसे पोर्न वीडियो भी दिखाए, जिससे मेरी कुंवारी गर्लफ्रेंड भी बहकने लगी. परिणाम स्वरूप मुझे हीना जैसी शानदार लड़की की चूत चोदने के लिए मिली.

विन्नी दोनों टांगें शांत रख मज़ा लेने की कोशिश कर रही थी लेकिन उसे जो मज़ा आ रहा था वो उसकी टांगों को शांत नहीं रहने दे रहा था. और वैसे भी आज कल खूबसूरत लड़कियों को कौन सही सलामत छोड़ता है।उसके जवाब में मैंने हाँ में सिर हिला दिया और चप्पल उतार के गद्दे पे बैठ गयी।भले ही वो मेरा बॉयफ्रेंड ना हो पर ऐसे हालात में मन तो करने ही लगता है।सुनील ने कहा- चलो शुरू करते हैं.

उसने फिर से मेरे होंठों को उसी तरीके से चूसा और नज़रें नीचे करके मुस्कुराने लगी.

बच्चा होने के बाद लेडीज का शरीर वैसे ही लंड की डिमांड करने लग जाता है. అనుష్క తెలుగు సెక్స్फिर हम दोनों ने दोस्ती का हाथ मिलाया।कहा छोड़ दूँ तुम्हें?”आज कोचिंग की छुट्टी. सेक्सी वीडियो चोदने वाला चोदने वालामैंने कहा- टिकट तो दोनों 50 रुपये की ही आई हैं तो आँटी कहने लगी- कोई बात नहीं है, रख लो, हाफ टाइम में कुछ खाने का सामान ले आना. इस बार मैंने थॉमस को बेड पर लेटा दिया और उसका लंड अपने हाथ में लेकर मुँह में ले लिया और चूसने लगी.

रश्मि के मुंह से सच सुन कर रमेश हँसने लगा और बोला- तो झूठ बोलने की कोई वजह?रमेश ने उसे गोद से नीचे उतार कर कहा।रश्मि- पैसे ज़्यादा मिल रहे थे, इसलिए बोल दिया था.

लेकिन खुशी के साथ सच्चे प्यार और रोमांस वाली फिलिंग आती थी जिसे मैं कभी खोना नहीं चाहता था. शुरुआत में तो उसे दर्द हो रहा था मगर धीरे धीरे उसकी स्पीड बढ़ गई और वो मस्ती से चुदाई का मजा लेने लगी. मेरा मतलब वो वाहियात सी मसाज चेयर ही सारा मजा क्यूं लें!मैंने उसकी ओर आंख मारकर कहा.

तो उसने हाथ से रुक कर इशारा किया और और मुझे एक साइड में चलने का इशारा किया. वो भी कहाँ पीछे रहने वाला था। मेरी जाँघ को देखकर तो वो और जोश में आ गया। वो मेरे पीछे भगा। मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था। फिर मैं हॉल में आ गयी. डिनर के बाद हम लोग थोड़ा टहलने के लिए घर से बाहर निकल गए और आधा पौन घंटा यूं ही एक दूजे का हाथ पकड़े टहलते रहे.

xxx कुमारी

फिर मैंने भाभी की एक टांग उठा कर अपना लंड चूत में डाल दिया और फिर चूम चूमकर चोदते हुए अपनी सपनों की कहानी आगे बढ़ा दी. मैंने उसकी पतली कमर पर हाथ रख कर अपनी ओर खींचा और सबसे पहले उसकी सुराहीदार गर्दन पर चुंबन अंकित किया. मैंने अपनी दोनों हाथों में मां के दोनों मम्मे पकड़ कर रगड़ते हुए मोर्चा सम्भाल लिया.

ममा के पास डस्टर गाड़ी है, तो ममा ज्यादातर अपनी गाड़ी से ही जाती हैं.

एक दिन पानी भरते समय पानी छलक जाने से मेरा पैंट गीला हो गया, तो लखन बोला- इसे यहीं सूखने डाल दो … गर्मी है … अभी सूख जाएगा.

चूत के नीचे के भाग में नेहा की सुंदर गुलाबी गांड का छेद था जिसके बाहर दो सुडौल सुंदर और गोरे नितंब थे. कोई प्रेम से चुदवा रही है, कोई जिगोलो समझकर, तो कहीं किस्मत से चुदाई नसीब हो रही है. తమిళనాడు సెక్స్ వీడియోमैंने ऐजेंट से कहा कि एक यंग सा बंदा चाहिए और उसको 30 हजार का रेट बताना.

कुछ देर होंठों की चुसाई के बाद अब मैं उसकी गर्दन पर आ गया और उसने मेरे सर को पीछे से पकड़ कर अपनी उंगलियां मेरे बालों में डाल दीं. तो पापा ने अपने एक परिचित वाले की गारमेंट की शॉप पर बात करके उनकी नौकरी वहीं लगवा दी. आखिर एक न एक दिन यह सब उसी का तो होने वाला है और तब उसका यह एक्सपीरियंस काम आएगा।रति- हां हां! समझ गयी.

पापा ने मामा से तो कुछ कहा नहीं, पर मामा इस बात को समझ ज़रूर गए थे कि अब उनका यहां ज़्यादा दिन रहना ठीक नहीं है. साली जी के मुंह से कामुक कराहें फूट पड़ीं और उसने मेरा सिर अपनी चूत में जोर से दबा दिया.

मैंने उससे कहा- इसे खा लेना … नहीं तो नौ महीने बाद मेरे बेटे की मम्मी बन जाओगी.

थोड़ी ही देर के बाद प्रिंसीपल सर ने अपना पानी निकाल दिया जो मेरी चूचियों और मेरे मुंह पर आकर लगा. आप सब आफ्टर-प्ले जानते हैं ना? लो कर लो बात … आफ्टर प्ले नहीं जाना, तो कुछ नहीं जाना. फिर बॉस ने एक जैली वाली टॉफी निकाली और उसको आधा अपने मुँह में और आधी मेरी गर्लफ्रेंड की चूत में लगा दी.

𝐭𝐞𝐥𝐮𝐠𝐮 𝐬𝐞𝐱 तो सनम ने पहले तो मना कर दिया, बोली- अगर इसने किसी से बोल दिया तो सारे में बदनामी हो जाएगी. मैंने अपने द्वारा लिखने का बहुत प्रयास किया, पर उस याद को सोच कर ही मेरे हाथ खुद ब खुद चूत पर चले जा रहे हैं और चुचे के निप्पल कड़क हुए रहे हैं.

थॉमस अगले ही पल मेरे ऊपर चढ़ गया और अपने मोटे मोटे होंठ मेरे गुलाब जैसी पंखुड़ियों वाले होंठों पर रख कर चूसने लगा. भाभी ने अपनी चूत को अपने दोनों हाथों से ढक लिया और धीरे से फुसफुसा कर बोली- तुम यहाँ क्या कर रहे हो, मैं तो समझी थी तुम चले गए?मैं भाभी के पास गया और बोला- भाभी, आप बहुत सेक्सी और हॉट हो. हैलो फ्रेंड्स, मेरी देसी Xxx सेक्स कहानी के पिछले भागजेठजी ने मेरा चुदाई काण्ड कर दिया- 2में आपने पढ़ा कि मैं अपने जेठ के साथ एक बार चुदवा कर उनके लम्बे और मोटे लंड से दुबारा चुदने का मन बना चुकी थी और उनके वापस आने का इन्तजार कर रही थी.

जीजा साली का सेक्स बीएफ

मैंने भी ये महसूस किया, तो अपनी गांड थोड़ी बाहर को निकाल कर खड़ी हो गयी. लेकिन इससे पहले कि मैं उन्हें फिर से मना करती, मेरी भरपूर जवानी की उठान उनकी हथेली में कैद होकर रह गयी थी. मैंने झट से दांव बदला और लण्ड को गांड से अलग करके झट से अपने मुख में भर लिया।अगले ही पल 5 से 7 झटकों के बाद उसके लण्ड ने गर्म पिचकारी छोड़ दी और उसका सारा गर्म लावा मेरे मुंह के अलावा मेरे होंठों पर आ गिरा। मैंने उसके वीर्य की एक एक बूंद को चाट कर साफ कर दिया।चूंकि अब रात हो गयी थी तो अब खाना बनाने का वक्त आ गया था.

थॉमस मेरे पीछे आ गया और उसने अपना लंड मेरी चुत पर रखकर हल्का सा घिसा. तभी सर फिर उठ कर सामने चले गए और कुछ ही सेकंड बाद मुझे आवाज दी कि तुम यहां आ जाओ.

और मुझे तुम्हें चोद कर जन्नत नसीब हो रही है!”और हम दोनों हंस पड़े।तो क्या मेरे राजा का लंड अब और नहीं चोद पायेगा?” मैंने उसके शांत लंड पे हिलते हुए कहा.

उसने अपना अमृत बहा दिया था … चूत से अब फच फच खच खच खच की आवाज आने लगी थी. मैंने कल्पना की कि मैं और क्लेरिसा ऑफिस के टैरेस फ्लोर पर देर रात तक काम कर रहे हैं. आंटी हंस कर बोलीं- तू तो पूरा मर्द हो गया है … इतना गाढ़ा माल निकल रहा है.

उसका वर्णन मैं अनचुदी चूत की पहली चुदाई कहानी के अगले भाग में करूंगा और अभिसार के अगले दौर का मजा आया, उसे भी लिखूंगा. उधर अम्मी ने मेरी जीभ का टच अपनी चूत पर किया, तो वो और जोर जोर से तड़फने लगीं और अपनी गांड उठाती हुई मादक सिसकारियां भरने लगी थीं. रॉबर्ट ने अपना माल सारा मेरी चुत में ही निकाल दिया और मेरी पूरी चुत रॉबर्ट के माल से भर गयी.

मैंने उसकी गर्दन पर किस करते हुए उसको लिटा दिया और लिटा कर होंठों पर किस किया.

हिंदी इंडियन सेक्स बीएफ: … आपने ही तो कहा था कि आप मेरी बड़ी बहन जैसी हो!मौसी- मतलब तू मुझे प्रीति समझ कर चोद रहा था. और बुरा न मानो तो क्या पूजा को एक दिन के लिए अपना साथी बना सकता हूँ.

जैसा कि आप जानते है कि मैं दुकान वाले की चुदाई के बाद लंड की आदी हो गयी थी, लेकिन यहां रांची में 6 महीने से कुछ नहीं मिला था. उनकी टांगें ऊपर करवाईं और अपने लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर रख दिया. भाभी जी का नाम पल्लवी था और वो एकदम सिंपल सी लड़की लगती थीं, उनकी फिगर भी कोई ज्यादा भरी हुई नहीं थी.

आँटी कहने लगी- नहीं, तुम नहीं दोगे, पैसे मैं दूंगी दोनों टिकटों के.

उसने लंड को चिकना करके रीता की चूत में पेल दिया और उसको पकड़ कर चोदने लगा. मैं पानी पीने को उठा तो मेरा तना हुआ लन्ड देख नीरा बोली- ये तो शांत ही नहीं हुआ. ये सब बातें जानकर मुझे मजा भी बहुत आ रहा था और थोड़ा अफ़सोस भी हो रहा था.