मराठी साड़ी वाली बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू एक्स एक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हॉट्स गर्ल्स सेक्सी: मराठी साड़ी वाली बीएफ, फिर लाइटर से सिगरेट जलाने के लिए उसकी तरफ लाईट की, तो वो अपने होंठों में सिगरेट दबा कर मेरी तरफ को झुकी.

सेकसी आदीवासी

मैं बारी बारी से उसके दोनों मम्मों को दबाता, चूसता और एक हाथ से उसकी बुर को उंगलियों से रगड़ रहा था. गरम चूत की चुदाईमेरी मम्मी की उम्र करीब 42 साल की होगी, मगर वो देखने में 35 साल से ज्यादा की नहीं दिखती नहीं हैं.

अपने पापा से अपनी चुत चुदाई की कहानी में अभी बस इतना ही लिख रही हूँ. तमिल एक्सएक्सएक्सजब मैं अन्दर गया तो मैंने देखा कि बेड के पास दो यूज्ड कॉन्डम वीर्य से भरे पड़े हुए थे.

चार-पांच मिनट तक भाभी की चूत में धक्के लगाने के बाद ही मेरे लंड से मेरा नियंत्रण छूट गया.मराठी साड़ी वाली बीएफ: दस मिनट तक उन्होंने मेरे बूब्स को चूसा और फिर मैं नीचे बैठ कर उनके लंड को चूसने लगी.

चूत खोलकर वो चुदने के लिए तैयार थी और मेरी तोप उसकी चूत की धज्जियां उड़ाने के लिए.पहाड़ी लोग सेक्स करने में थोड़े से धीमे होते हैं लेकिन अंकल बिल्कुल अलग लेवल पर थे.

गांव की देसी लड़की का सेक्सी वीडियो - मराठी साड़ी वाली बीएफ

अगले दिन फिर उन्होंने मेरी और उस लड़के मधुर की पिटाई की और उन लड़कों को रेंट से निकाल दिया.उसकी 32 इंच की गांड इतनी फूली हुई थी कि ऐसा मन करता था कि अभी उसकी गांड में लंड घुसा दूं.

एक बार मैंने उनके फोन में पोर्न ब्लू विडियो देखी तो मुझे लगा कि भाभी की वासना बढ़ी हुई है. मराठी साड़ी वाली बीएफ उसी समय जैसे ही धीरे से उमेश ने मेरी चूत पर काटा, मेरे मुँह से अहह निकल गया.

मस्त 36″ की मोटी बड़ी उभरी हुई गांड गोल-गोल कोई देख ले तो उसका माल निकल जायेगा।जब मेरी बीवी अपनी नाइटी को पकड़ कर टाइट करती नीचे के तरफ तो उसकी गांड का शेप उभर जाती जो उसे और भी सेक्सी बनाती.

मराठी साड़ी वाली बीएफ?

वो एकदम से चिल्लाई- ये सब क्या हो रहा है?मैंने काको के मुंह से लंड निकाल लिया. मैंने पूछा- प्रिया कहां है?तो नेहा बोली- प्रिया नीचे फूलगोभी लेने गयी है. बाथरूम में गर्म पानी खत्म हो गया था तो मैंने हिमानी की मम्मी से कहा- आंटी जी, ऊपर तो गर्म पानी खत्म हो गया है.

तभी एकदम से बहुत तेज़ आवाज़ से बिजली कड़की और मैं डर के मारे जाकर उमेश के सीने से चिपक गयी. और अब तो तुम मेरे मुंह में माल भी गिरा दोगे।अजय बोला- जानेमन, सब कुछ पहली बार ही होता है और अजीब भी लगता है. मुझे अब यकीन हो चला था कि ये वही आदमी है जिसके साथ चित्रा का चक्कर चल रहा है.

बिल्कुल कसी हुई चुत थी भाभी की … एक पल के लिए तो ऐसा लगा कि बिल्कुल सील पैक चूत थी. उसने मुझसे पूछा- तुमने उस चुड़ैल से ब्रेकअप कर दिया?मैंने झूठ कह दिया- हां कर लिया. तो जब मैं पहुंचा तो मैंने देखा कि चाची नंगी ही बाथरूम के बाहर नहा रही थी.

उस समय हम दोनों एक दूसरे से ज्यादा बातें नहीं करते थे लेकिन धीरे धीरे हम दोनों के बीच दोस्ती हो गई. फिर जब थोड़ी दूर आ गये तो शौहर ने बताया कि जब तुम चल रही थी तो तुम्हारा बुर्का तुम्हारी गांड में फंसा हुआ था.

मैं अपना कुल नाम यहां पर नहीं लिख सकता हूं क्योंकि मेरे काफ़ी सारे प्रियजन व मित्र भी पाठक हैं यहां पर। मैं उनमें से किसी की भावनाओं को आहत नहीं करना चाहता.

मैंने लंड बाहर निकाल कर टोपे पर थूक लगाया और इस बार जोश में आकर कर फिर से जोरदार धक्का दे मारा.

मुझे पता नहीं था कि वो टीचर तलाकशुदा है। उसका नाम अज़रा था और उम्र लगभग 28 वर्ष के करीब थी. फिर थोड़ी देर बाद हम दोनों अपनी काम वासना को अधूरा छोड़ कर वापस शहर की तरफ़ आ गए. उसकी टांगें ऊपर की दिशा में फैली हुई थीं और मेरे दोनों हाथों की गिरफ्त में थीं.

मैं उसकी बुर को चाट रहा था और वो चिल्ला रही थी- आह … बस करो बस करो … मेरी जान मैं झड़ने वाली हूं … अब चोद दो मुझे … भर दो मेरी बुर को … इसका भोसड़ा बना दो आज … साली मुझे बहुत तड़पाती है … जल्दी से अन्दर डाल दो अपना लंड मेरी बुर में. मेरी भाई बहन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि शादी के बाद जब मेरे पति मुझे सेक्स का पूरा मजा नहीं दे पाए तो मैंने अपने भाई को पटाने का सोचा. तुम अपनी संतान की इच्छा लेकर ऐसा कर रही हो, सेक्स इन्ज्वॉय करने की नीयत से नहीं.

मैंने उसकी पैन्टी उतारी और 69 की पोजीशन में लेटकर अपनी साली की चूत चाटने लगा.

मैंने एक हाथ से धीरे से अपने चड्डी को उतारा और दूसरी चड्डी को पहना. मैं उसके कागजात लेकर उसके डायनिंग टेबल पर बैठकर काम करने लगा और उसे फोटोग्राफ्स खिंचवा कर लाने के लिए बोल दिया. एकदम से पता नहीं मेरे दिल में क्या हुआ लेकिन मेरा दिल कर रहा था कि मैं अपनी चाची को देखता ही रहूं।चाची ने पीले रंग की साड़ी पहन रखी थी जिसमें वह काफी अच्छी लग रही थी.

मेरे पति से भी मुलाकात कॉलेज में ही हुई थी और दूसरी मुलाकात में ही मैं अपने पति से चुद गयी थी. चूंकि मैं प्राइवेट नौकरी करता हूँ, तो मुझे पैसे लेने का पूरा हक़ है. यश ने मुझे उठाया और रूमाल से मेरी आंख भी बंद कर दीं और सोफे पर सीधा लिटा दिया.

उसकी चूत की खुशबू बड़ी मस्त आ रही थी … आह सच में मैंने आज तक ऐसी कमसिन चूत देखी ही नहीं थी.

कुछ दोस्तों की सोहबत के चलते मेरी दारू पीने की क्षमता तगड़ी हो गई थी. मैंने उसको वहीं सोफे पर गिरा लिया और उसकी जांघों से पैंटी भी निकाल दी.

मराठी साड़ी वाली बीएफ जब मेरे पति ने मेरे साथसुहागरात सेक्सकरना शुरू किया तो उसने ज्यादा मजा नहीं दिया. अंदर जाकर मैंने पहले से पहनी हुई लोअर निकाल कर बैग में रख ली और नीचे से मैंने पहले से ही अपना स्विमिंग कॉस्ट्यूम पहन रखा था.

मराठी साड़ी वाली बीएफ मैंने पति से पूछा- कैसा लगा दिन में चुदाई देखकर?मेरे पति बोले- मुझे तो यकीन नहीं हुआ कि पापा इतने ज्यादा एक्सपीरियंसड होंगे. वो बाइक से कपड़ा निकालने चला गया और तब तक मैंने अपनी साड़ी हटा दी ब्लाउज के बटन खोल दिए … और पेटीकोट भी ढीला कर दिया.

मैंने फिर से लंड को सेट किया और इस बार पूरा जोर लगाकर उसकी चूत में धक्का लगाया तो मेरा लंड उसकी टाइट सी चूत में उतर गया.

सेक्सी गंदी मूवीस

वो लोग थोड़ी सी दूरी पर थे लेकिन मुझे दिखाई भी दे रहा था और उनकी आवाज भी सुनाई दे रही थी. मैम चाय बनाने किचन में जाने लगीं, तो मेरी आंखों में उनकी बड़ी सी गांड मटकने लगी … गांड बड़ी मस्ती से ऊपर नीचे हो रही थी. इसलिए जब मुझे लगा कि मेरा काम होने वाला है तो मैंने अपना लण्ड बाहर निकाल लिया.

ये सुनकर लंड के नीचे दबी छोटी हंसने लगी- जीजी, अभी तुम्हारे थनों में दूध किधर से निकलेगा. रात के समय में तो भाभी की जवानी सही दिखाई नहीं दे रही थी लेकिन दिन के उजाले में सब कुछ साफ दिख रहा था. उस वक्त रात के 8:00 बज रहे थे तो माँ ने अपने कपड़े पहने और वह सोनू के साथ चली गई अपने मायके की ओर.

इन घटनाओं में से कुछ किस्से ऐसे होते हैं कि जिनको कभी भी भुलाया नहीं जा सकता.

तभी मैंने यह कहकर बात घुमा दी कि तुम पढ़ाई भी करते हो या सिर्फ ऐसी फिल्में ही देखते रहते हो?वह शर्माते हुए कहने लगा- नहीं यार मैं तो बस संडे को ही देख लेता हूं. ये साले टू-व्हीलर वाले गाड़ी ऐसे चलाते हैं, जैसे अगर दस मिनट में आधा शहर नहीं चला लें, तो उनका लंड कट कर गिर जाएगा. मैं पहले तो चौंक गया कि क्या मॉम को मेरे रोज मुठ मारने की बात मालूम है.

उसने मुझे टेबल पर लिटाया और मेरी चुत पर थूक लगा कर अपने मोटे और बड़े लंड से चुत की फांकों से सहलाने लगा. मैंने उसको गोद में उठाया और दूसरे हाथ से बेडशीट को खींच कर हटा दिया. भैया भी जान गये कि उनकी चुदक्कड़ बीवी एक बार फिर से गर्म हो गयी है.

मैंने उनके पैरों के पास जाकर अपनी जीभ को चुत के आस पास फिराना शुरू कर दिया. इसलिए उसने रानी की लेगिंग्स को आधा उतार कर नीचे कर दिया और चुत को चूसने लगा.

मैं और सीमा अभी भी अच्छी सहेलियाँ हैं, पर उसका बाप ही मेरा चोदू यार है. वो ऐसे मस्ती में जीभ फिरा रही थी कि मैं सोफे की गद्दी को ही भींचने लगा. अब मैंने अपना अण्डरवियर उतारकर अपने लण्ड पर क्रीम का लेप किया और ऊंगली में क्रीम लगाकर उसकी चूत के अन्दर भी फेर दी.

उसने उस आदमी को बुलाया और उससे पैसे लिये और बाइक स्टार्ट करके निकल गया.

मां बोली- सोनू, यह क्या बदतमीजी है? तुमको क्या लगता है मैं कोई रण्डी हूं … तुम और तुम्हारा दोस्त समझते क्या हो मुझे. फिर उसने पूछा- सिगरेट पियोगे?मैं कहा- हां यार, तुमने मेरे दिल की बात छीन ली. जबकि अक्सर देखने में तो यही आता है कि किसी भी कुरियर वाले को लोग अपने घर में भीतर नहीं बुलाते हैं.

मैंने भाभी के पैर पकड़ लिए और बोला- सॉरी भाभी, वो रंग लगाने में हाथ वहां चला गया. उसने मुस्कुराते हुए मुझे बिठाया और कहा तो लो आज शेफ खुद ही तुमको अपने हाथ से खाना खिलाएगी.

आपकी चूत को चोद कर फाड़ दूंगा मैं आज… आह्ह … मैं भी गया मेरी रानी … आहह ओहह!इस तरह दोनों चरमोत्कर्ष पर पहुँच गए और एकदम से जैसे कोई तूफान गुजरने के साथ ही वातावरण ठंडा पड़ने लगा. उसकी कुछ अन्य तस्वीरों से लग रहा था कि वो भी हमारी तरह काफी पार्टीज करती है और जीवन को एन्जॉय करती है. जब मैं घर वापस आया, तो घर पर कुछ मेहमान आए हुए थे, जिस वजह से मुझे मौका नहीं मिल पा रहा था.

ब्लू फिल्म वीडियो सेक्सी ब्लू पिक्चर

उसने मुझे इशारा किया कि मैं भाभी के चूतड़ों को अच्छी तरह से थाम लूं.

मैंने भाग कर उसके पास अपनी बाइक रोकी और उसको अपनी बांहों का सहारा देते हुए उठाकर हॉस्पिटल लेकर गया. अगले दिन मैं फिर उसी चक्कर में गया कि और कुछ नहीं तो कम से कम आंखें ही सेंक ली जायें. मेरी इस मस्त सेक्स कहानी पर आप अपनी प्रतिक्रिया के ज़रिए अपना प्यार देना न भूलें.

हनी ने घर में घुसते ही पूछा- जीजा जी, दीदी कहाँ है?मैंने अन्दर वाले कमरे की ओर इशारा किया तो वह अन्दर की ओर चल पड़ी. फिर मैंने एक दिन उसे प्रोपोज किया और होटल लेजाकर उसकी कुंवारी चूत चोदी. सेक्सी वीडियो बीपी वीडियोमैंने देखा प्रशांत बिल्कुल मम्मी से चिपका हुआ था, उसका लंड पैन्ट से ही मम्मी की गांड को छू रहा था.

इसके बाद मैंने भाभी की गांड भी मारी और भैया को हमारे बारे में पता भी चल गया. मैंने कहा- मुझे तो दिखाओ!पापा जी वही फोटो देख रहे थे जो मैंने अपलोड की थी.

उसके बाद टोनी ने आगे बताते हुए कहा:मैंने रानी की चूत में वीर्य छोड़ दिया था. रूम में 50 से 60 की उम्र के आदमी थे, जिसमें अधिकतर आदमी रानी के हुस्न को देख रहे थे. उसको बांहों में लेकर मैंने उसकी गर्दन को पीछे से चूम लिया तो वो आगे होते हुए अलग हो गयी.

ब्रून ने अपने लिए डियर सुना तो उसकी तो बांछें खिल गईं, उसने फॉल को लेकर बताना शुरू कर दिया कि टैक्सी से आप खुरपा ताल के ऊपर तक जा सकते हो. मैं उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से मुँह से चूसता और उसकी चूत को बारी बारी से अपने हाथों से सहलाए जा रहा था. मैंने पूछा- तुम्हें ये सब कैसे पता है?वो बोला- रात को सब कुछ अपनी आंखों से ही देख लेना.

कभी वो अपनी जीभ को चुत के अन्दर कर देता तो कभी मुँह से पूरी चुत चूस कर लाल कर देता.

साली की चुदाई का जो सपना मैंने देखा था उसको पूरा करने का मौक़ा मुझे कैसे मिला. जीन्स और टॉप पहने वो बैड पर लेटी किसी अप्सरा से कम नहीं लग रही थी और मैं उसके इस यौवन का रस पीने को बिल्कुल तैयार था.

जिस दिन उसने बिना चड्डी के मेरी पीठ पर अपनी चुत को रगड़ा था, उसके दूसरे दिन से ही त्यौहारों के दिन शुरू हो रहे थे. जो पाठक नये हैं उनके लिए बता देती हूं कि मैं सेक्स की शौकीन हूं और अपने शौहर के साथ सेक्स में प्रयोग करती रहती हूं. मैंने उनसे कहा- मुबारक हो, आप दोनों को मां बनने का सुख मिला, पर एक बात मुझे समझ में नहीं आई कि ये लॉकेट आपकी सासु मां ने क्यों दिया? क्या उनको ये सब पता था?मेरे मुँह पर उंगली रखते हुए बड़ी बोली- पूरी रात अपनी है … सब बताऊंगी.

जब मैंने रानी की चूत से लंड को बाहर निकाला तो उसकी चूत से मेरे वीर्य और रानी की चूत के वीर्य का मिश्रण बाहर आ रहा था. अब मैं उसकी छोटी छोटी चूचियों को दबा रहा था और वो कोई विरोध नहीं कर रही थी. पूरे रास्ते मैं उनको रगड़ता रहा, मसलता रहा … मैंने ऐसा कोई भी पल नहीं छोड़ा था, जिसमें मैंने मामी को छेड़ा नहीं था.

मराठी साड़ी वाली बीएफ अजय अंकल मेरी मां की जुल्फों से खेल रहे थे।तभी अंकल में माँ की साड़ी के पल्लू को नीचे किया और मॉम का ब्लाउज देखने लगे. मैंने उनकी बांह को पकड़ा, तो वो उठकर मेरी गोद में आकर बैठ गईं और मुझे किस करने लगीं.

देवर भाभी के सेक्सी वीडियो मारवाड़ी

मगर मेरे लंड को साफ करने के बाद चाची ने मेरे लंड को मुंह में ले लिया और चूसने लगी. वो मुझे लगातार प्यार करता रहा और कुछ देर बाद बिना झटके लगाए उसका लंड झड़ने को हुआ तो उसने मुझे लंड मुंह में लेने को कहा. मैंने ज़्यादा देर ना करते हुए उसके दोनों पैर उठाए और उसके बीच में आ गया.

अब पति आगे हैं तो मैं कहाँ पीछे थी, मैंने भी कई नए लड़कों के लंड चूत और गांड में लिए. उससे बात करने के बाद पता चला कि यह काम वे लोग काफी समय से कर रहे हैं. ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೊ ಪಿಚ್ಚರ್मैंने किताबें एक तरफ डाल दीं और उसके गालों को सहलाते हुए बोला- उफ्फ सुमन … तुम कितनी प्यारी हो.

अब उसका कॉल आता रहता है, हम रात भर बातें करते हैं और जब मुलाकात होगी, तो मैं आपको बताऊंगा कि उसकी गांड चुदाई का क्या हुआ, चोद पाया कि नहीं … और चोद पाया तो कैसे.

इसी बीच 25 मिनट बाद फिर से लण्ड चूत के अंदर ही फुफकार मारने लगा। मैं इसी पोजीशन में फिर से चालू हो गया।हालाँकि जब से चूत में थूक लगाकर लण्ड पेला था तब से अब तक दूसरी चुदाई शुरु कर चुके थे हम लेकिन लण्ड को चूत के बाहर नहीं निकाला था। अबकी बार सुमन को असहनीय पीड़ा हो रही थी. अभी मैं दस मिनट ही चोद पाया था कि बुआ फिर से झड़ गई … मगर मेरा अभी नहीं हुआ था.

तब मैंने पति से पूछा- आपने कैमरे लगा दिये?पति बोले- सब लग चुके हैं. इसके बाद मैं उठी, तो उमेश ने मेरे मुँह को चूसते हुए अपने लंड के रस का मजा लेना शुरू कर दिया. मैं तो मन ही मन में बहुत खुश हुई … लेकिन मैं कहने लगी- अरे नहीं, आप मेरे लिए परेशान मत होइए, मैं ऑटो से चली जाऊंगी.

फिर मैंने कमर को छोड़ कर उसके पैंटी में हाथ डाल दिया, मेरा हाथ गीला हो गया.

उन्होंने मां पर बिल्कुल रहम नहीं किया, उनके कंधों को पकड़ा और बहुत तेज़ी से अपने कंधों को और अपनी कमर को आगे पीछे करने लगे. मैं उसको घूरने लगा तो वो बोली- क्या हुआ, कहां खो गये?मैंने कहा- बस कुछ नहीं, आज आप बहुत ही सेक्सी लग रही हो. मॉम ने बहुत टाइट ब्लाउज पहना था जिसकी वजह से मॉम के बूब्स अंकल के सामने उठे हुए दिख रहे थे.

एक्सएक्सेक्सदिल कर रहा था कि एक ही बार में उनकी सारी हुक निकाल दूं। लेकिन हिम्मत नहीं हो रही थी क्योंकि चाची मुझे अपने बेटे जैसा मानती थी. दोपहर का कार्यक्रम खत्म होने के बाद वो दोनों निकल गईं, पर जाते जाते बोलीं- हे मेरे धनजुज्जी के मालिक … रात में फिर कबड्डी का खेल खेला जाएगा, दरवाजा मत लगाइएगा.

सेक्सी वीडियो मास्टर सेक्सी

‘हां क्यों नहीं बड़े शौक से …’ये बोलते हुए छोटी भी पूर्ण नग्न मेरे बगल में आकर लेट गयी. शायद उसको अपनी फटी हुई चुत से लगने लगा था कि ब्रून का लंड मोटा और लम्बा है और उससे चुदने का मजा ज्यादा आएगा. उसके बाद मैंने उसको सोफे पर पटका और उसकी चूचियों को जोर से दबाने लगा.

इसलिए मैंने भी जल्दबाजी करना ठीक नहीं समझा और धीरे धीरे अपना लंड अन्दर-बाहर करने लगा. यश ने आगे बढ़ कर मेरी कमर पकड़ ली और प्यार से मेरे होंठों पर किस करने लगा. इसके बाद मैं अपने एक हाथ को नीचे ले गया और उसकी चूत पर पैंटी के ऊपर से ही चुत रगड़ने लगा.

मैंने अपनी टांगें खोल कर एक बार में ही पूरा लंड फिर से उसकी चूत में उतार दिया. मैं नहीं चाहता था कि रानी और मेरे बारे में लोगों के मन में कोई गलत बात आये. मैंने दूसरी बार हाथ ले जाकर उसके चुचों पर रख दिया और जरा सा सहला दिया.

मैं उसके बर्थडे वाले दिन उसके लिए केक और एक प्यारा सा गिफ्ट लेकर चला गया. कुछ देर ऐसा ही चला, तो बड़ी ने कहा- चल छोड़ इसको … मुझे इसकी जवानी का उद्घाटन करना है.

उस रात शोभा की 2 बार और चुदाई हुई और एक दूसरे के सीक्रेट शेयर किये.

वो मुझे अपने कंधे पर सहारा देकर बाथरूम से रूम तक लेकर आई और बिस्तर पर लिटा दिया. चूत लंड की सेक्स वीडियोअब मैंने अपने दोनों हाथ टी-शर्ट के ऊपर से ही उसके सुडौल मम्मों पर रखकर दबाने लगा. xxx बीडीयोमैंने उसके होंठों को अपनी ओर किया और दोनों ही एक दूसरे की जीभ को एक दूसरे के मुंह में खींचने लगे. आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी मुझे इसके बारे में अपनी प्रतिक्रियाओं से जरूर अवगत करायें.

उन्होंने 2 मिनट वो वीडियो देखा और पापाजी का भी लंड उसे देखकर खड़ा होने लगा था.

तब उसकी मम्मी ने कहा- यहाँ पास में कहाँ कोई अच्छा कॉलेज है।मैंने उसकी मम्मी से कहा- पीहू को बाहर भेज दो पढ़ने के लिए!तो वो बोली- अकेली लड़की को कैसे बाहर भेज सकते हैं।मैंने उसकी मम्मी से कहा- आप परेशान क्यों हो रही हो? आप पीहू को वाराणसी भेज दीजिये. उन्होंने इसका मतलब हाँ समझ लिया और अपना चैन खोल कर अपना लण्ड बाहर निकाल लिया।उनका लण्ड देख कर मेरे मुँह से निकल गया- इतना बड़ा!उनका लण्ड बहुत बड़ा था. इससे पहले मेरे मन में भी कुछ धारणाएं थीं जो इस घटना के बाद से बदल गयी हैं.

दोनों टांगें फैलाकर सीधे लेटती हुई वो बोली- रोहित अब सहन नहीं हो रहा, जल्दी से अपना लम्बा लंड मेरी चूत में डालो और चोद दो. मैंने बेड पर ही मामी को घोड़ी बना कर उनकी चूत में अपना लंड फिट कर दिया. दस मिनट बाद वो झड़ऩे लगी, तो वो भी अपनी कमर को जोर से मेरे मुँह पर घिसने लगी और मैं भी अपनी कमर जोर से हिलाने लगा.

सुहागरात में सेक्सी फिल्म

मेरे बाहर आते ही पूजा भाभी भी अन्दर घुस गईं और वो भी नहा कर बाहर आ गईं. अन्तर्वासना के मामले में पुरुष ही सदा दोषी माना जाता है कि पुरुष ही हर वक्त सेक्स के लिए लालयित रहता है. वो एक हाथ से मेरी कमर पकड़ कर मुझे किस करते हुई अपनी ओर खींच रहा था और दूसरे हाथ से मेरी गांड मसलने में लगा था.

मैंने फिर से हिम्मत की … और पहले दिन की तरह हाथ से बढ़ा कर दीदी के अन्दर हाथ डाल दिए उनके दूध दबाए, पर आज मैं हाथ नीचे जल्दी नहीं ले गया.

वहीं दो ऑफिस छोड़ कर एक कंस्ट्रक्शन एजेंसी का ऑफिस था, वहां एक हॉट सा लड़का बिल्कुल मेरी तरह पार्ट टाइम जॉब कर रहा था.

फिर मैंने एक हाथ थोड़ा सरकाते हुए उसकी चूत की तरफ किया, तो वो इतनी गरम हो चुकी थी मानो उसको बुखार हो. ’ कहते हुए मेरे लंड से खेलने लगी और लंड की खुशबू से पागल होकर सुपारे को चाटने लगी. தமிழ் குரூப் செக்ஸ்थोड़े देर में मेरा लंड एक जबरदस्त वीर्य का फव्वारा छोड़ते हुए पुच्च से चूत के बाहर निकल गया.

फिर मैंने अपना मुँह उसकी गर्दन पर लगाया, जिससे वो सकपका गयी और धीरे धीरे ‘म म म. पापाजी मेरे बगल में बैठ गए, बोले- बहू सच बताओ कि क्या बात है?मैंने कहा- पापाजी, अभिजीत का किसी के साथ अफेयर चल रहा है. यहां पर ममता की वासना का भी बढ़ जाना लाजमी था क्योंकि उसने पर-पुरुष से नया-नया सेक्स अनुभव लिया था.

मैं उल्टा हो गया और अपना लंड उसके मुँह में देकर चुसवाने लगा और उसकी गुलाबी चुत पर मुँह लगा कर चुत को भंभोड़ने लगा. वो बोली- आपका यूं इस तरह से शर्माते हुए मुस्कराना बहुत अच्छा लगता है.

फिर वो मुझे रोकने लगी और कहने लगी कि बस … बस … अब और नहीं बर्दाश्त हो रहा है.

क्योंकि जिस एरिया में हम दोनों आए थे, उसकी पहचान के बहुत सारे लोग उस एरिया में रहते थे. तभी हमारी और ब्रून आ गया उसने हम लोगों से आज के प्रोग्राम के लिए पूछा. मैंने बातों ही बातों में उससे पूछा कि तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड है?उसने बोला कि नहीं.

सेक्स ब्लू फिल्म नंगी उसने मेरे लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही चूम लिया और अगले ही पल उस पर एक बाइट दे दी. मगर वो बहुत ही लचीले अंदाज से नर्म से लहजे में बोली- राहुल, बहुत गर्मी हो रही है.

लेकिन यह मज़ा बहुत दिनों तक नहीं चला क्योंकि उन्होंने इसी शहर में दूसरा घर ले लिया था जो मेरे घर से काफी दूर था. मैंने उसके सामने ही ब्लाउज हटाया और ब्रा का हुक खोल कर पलटते हुए ब्रा हटा दी. सबसे पहले अपने हाथ उसके पीछे से ले जाकर उसके पेट को पकड़ते हुए उसको अपनी और खींचा.

भाभी के साथ सेक्सी वीडियो देहाती

उसने अपनी जांघों से अपनी सलवार नीचे करते हुए उसे बिल्कुल ही अलग कर लिया. बस फिर तो मैंने अपनी टांग उठाकर उसकी जांघों पर रख दी और मेरे हाथ उसकी चूचियों पर पहुंच गये. उसके बाद मैंने उसके चाचा की दूसरी बेटी अनु की चूत चोदी और साथ ही उसकी बुआ की दूसरी बेटी मीनू की चूत भी फाड़ दी.

उसने अपनी जांघों से अपनी सलवार नीचे करते हुए उसे बिल्कुल ही अलग कर लिया. उसने मुझे कैब बुक करने को कहा और कैब आने में अभी कुछ मिनट की देरी थी.

लगभग 40 साल की उम्र, गोरा चिट्टा भरा बदन, बड़ी बड़ी चूचियां और भारी भरकम चूतड़.

उसने मुझे कहा कि मर्द किसी औरत का एक बार ही स्खलन करवा दे तो बड़ी बात मानी जाती है. उसकी बात सुनकर मैंने कहा- हां क्या गिफ्ट मांग रही हैं वो?मैंने कहा- तेरा लंड!मैं बोला- तू पागल हो गया है क्या, ये क्या बोल रहा है तू? रानी और काको तेरी बहनें हैं और इस वजह से मेरी भी बहन जैसी हैं. कुछ देर बाद उसने पानी छोड़ दिया और मुझसे बोली- भैया बस करो!तो मैंने कहा- बस थोड़ी देर और!मैं जोर से धक्के लगा कर उसको चोदने लगा।कुछ देर बाद मेरा शरीर अकड़ने लगा, मैं पीहू के ऊपर लेट कर और जोर से धक्के लगाकर उसे चोदने लगा.

मैम ने भी ये देख लिया और उन्होंने अपना हाथ मेरे लंड पर रख कर दबा दिया. मैंने क्रीम की शीशी व कॉण्डोम का पैकेट लिया और उसकी चूत की चुदाई की तैयारी कर दी. हम दोनों रूम में आ गए और अन्दर जाते ही आपस में लिपट गए और एक दूसरे को ऐसे किस करने लगे, जैसे हमारे अन्दर जन्मों की प्यास छुपी हुई थी.

मैं अपनी प्रेमिका और भाई की शादी व नयी भाभी के आने की उमंग में कुछ ज्यादा ही उत्साहित था.

मराठी साड़ी वाली बीएफ: अब उसका कॉल आता रहता है, हम रात भर बातें करते हैं और जब मुलाकात होगी, तो मैं आपको बताऊंगा कि उसकी गांड चुदाई का क्या हुआ, चोद पाया कि नहीं … और चोद पाया तो कैसे. उसके बाद उसने मेरी गांड के छेद पर रख कर जोर से धक्का मारा तो उसका सुपारा मेरी गांड को चीरते हुए अंदर घुस गया।मैं दर्द से चिल्लाने ही वाला था कि उसने अपना हाथ मेरे मुँह पर रख दिया.

चाची ने कहा- कोई बात नहीं, तू हमारे साथ ही सो जाना डबलबेड तो है, इतनी तो जगह रहती है. फिर वो बोली- तुम तो बहुत मस्त हो यार… ऐसा मजा तो मुझे कभी नहीं आया. उसने नीचे से पैंटी पहनी हुई थी और मेरा हाथ अनायास ही साली की पैंटी पर चला गया जिसमें उभर रहा गीलापन मेरी उंगलियों को छू रहा था.

कुछ जोरदार झटकों के बाद वो मेरे मुंह में ही झड़ गया और मैं उसका सारा माल पी गयी.

वॉचमैन- हैलो राजश्री, क्या बात है, आज तो तुम्हारे चेहरे में अलग ही चमक है. दीदी का कुरता उसके मम्मों तक ऊपर लाने के बाद मैंने दीदी के हाथ को पकड़ कर अपने बरमूडे में डाल दिया. उसकी नज़र मेरे खड़े लौड़े पर चली गयी जिसे देखकर वो थोड़ा सा मुस्कुरा कर रह गयी.