सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू

छवि स्रोत,पिता बेटीxnxx

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी भाभी बीएफ सेक्सी: सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू, इस पर नीरज बोला- क्या करूं बहना, तुम्हें देखकर बर्दाश्त ही नहीं होता है.

ब्लू फिल्म सेक्सी मूवी

वो चारों शांत समुद्र में आनन्द ले रही थीं और हम बस उन्हें देख रहे थे. देशी सेक्स विडियोमैंने जलेबी एक हाथ में ली और हल्का सा पीछे हटने का बहाना करते हुए अपने पीछे खड़े हुए सेक्सी देसी माल के लंड को हाथ में पकड़ लिया.

मैंने अपने लंड का सुपारा उनकी गांड के छेद पर रखा और धीरे धीरे धक्का लगाना शुरू किया. देहाती चूत दिखाओशायद इरफ़ान नपुंसक था, लेकिन पैसे वाला था इसलिए वो अपनी बीवी को दूसरे लंड से चुदवा कर खुश रखता था.

मैं उनके एक दूध को मुँह में रख कर चूस रहा था और दूसरे दूध के निप्पल को अपनी उंगलियों से मसलते हुए दबा रहा था.सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू: हम दोनों गले मिले, फिर चाय नाश्ता हुआ, थोड़ा आराम करने के बाद जीजू भी आ गए, वो भी मुझे देख कर बहुत खुश हुए.

अगर किस्मत अच्छी हो तो एक आध मस्त लौड़ा चूसने के लिए भी मिल जाता है.फिर थोड़ी दूर बाद रास्ते में एक मेडिकल स्टोर पड़ा, मैंने अंशी को रोका और उसे एक आइसक्रीम पार्लर के पास खड़ा कर दिया.

मोटी की सेक्सी - सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू

चाची मेरी जिद पर कुछ बोल ना सकीं और इजाजत देते हुए बोलीं कि ज्यादा गहराई में मत जाना.फिर कुछ ही पल में वो उठकर मेरे पैरों के पास बैठ गए और अपने हाथों से धीरे धीरे मेरी चड्डी नीचे सरकाने लगे.

पूरे 5 फुट 7 इंच की लड़की … कोई 65 किलो वजन वाली आधी नंगी किसी के सामने आ जाए, तो आदमी की तो जान निकल जाएगी ना. सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू अभी तो किया था?”क्या करूँ दीदी, आप इतनी सेक्सी हॉट हो कि आप को देख कर हमेशा मेरा लन्ड खड़ा हो जाता है.

जब हम घर पर पहुंचे, तब मैंने अन्दर आते ही आलिया को अपनी गोद में उठा लिया.

सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू?

मैंने उससे पूछा- मैंने तुम्हारे अन्दर अपना रस गिरा दिया है, कहीं तुम पेट से हो गई तो?उसने कहा कि तुम फ़िक्र मत करो … मैं आईपिल ले लूंगी. अब वो हर रोज किसी भी बहाने से मेरे से बात करता, जिससे मैं वहां ज्यादा समय रूक सकूँ और वो मुझे अपनी आंखों से मुझे चोद सके. ”मम्मी ने और कहर ढाया। ब्रा से थोड़ा से बड़ा जिस्म से चिपका हुआ टाइट टॉप और घुटनों तक की स्कर्ट। नीचे पैंटी के नाम पे जी स्ट्रिंग।सोफे पे बैठी तो स्कर्ट ऊपर चढ़ गयी, जाँघें नँगी दिखने लगीं।अजीत अपना ग्लास ले के सामने बैठा।अरे वहां क्यों बैठे हो, मेरे पास बैठो.

उसने आश्चर्य से मेरी तरफ देखा जैसे पूछ रही हो ‘इतनी जल्दी?’मैंने मुस्कुरा के कहा- अब तुम साथ में होगी तो जल्दी ही होगा ना!सिल्क का भी दिल नहीं भरा था तो वो भी लिपट गई और मेरे लण्ड से खेलने लगी. मैं अपना लंड फिर से उनकी चूत में डालने लगा, लेकिन इस बार चूत टाईट हो जाने की वजह से लंड जल्दी अन्दर जा नहीं पाया. कविता की टांगें फैलाकर मैंने अपना मुंह उसकी चूत पर रख दिया और जीभ फेरने लगा.

वो दर्द से फिर तड़फ़ी, लेकिन मैं इस बार नहीं रुका और लंड पर दवाब बनाता चला गया. यकायक बहुत ही तेज़ चुदास से बेकाबू होकर बेबी रानी ने लौड़े को बेसाख्ता चूमना शुरू कर दिया. उधर संजू नीरज को नीचे लिटाकर 69 पोज में उसके लंड को चूस रही थी और अपनी चूत को नीरज से चुसवा रही थी.

आज वो प्रकाश को सेक्स के मजे देना चाह रही थी ताकि प्रकाश ज्यादा कुछ न पूछे. मैं अपने रूम में फोन इस्तेमाल कर रहा था, और कुछ देर आंखें मूंद कर सो सा गया.

मेरे निप्पल पर जब उसकी जीभ लगती तो मैं उसका सिर जोर से अपनी चूचियों पर दबा देती थी.

मैं कुछ पलों के बाद सिल्क के बदन से हटने लगा पर सिल्क ने मुझे हटने नहीं दिया, वैसे ही लिपटाये रही अपने बदन के ऊपर! वो मेरे बालों को एक हाथ से सहला रही थी.

थोड़ी ही देर में मेरा लंड फटने वाला था और मुझे पता था कि वो इतना पानी गिराने वाला है कि आज मेरी गाड़ी में जलजला आ जाएगा. उसने अपनी चूत को मसलते हुए कहा- मेरी चूत में खुजली हो रही है, मैं क्या करूं?मैंने उससे कहा- अभी तो भाई बोट पर हैं और उनको देख कर ही तेरी चूत में फिर से खुजली होने लगी है. आह … बहुत ही कयामती जिस्म था उसका! जांघों को देख कर ऐसा लग रहा था कि उनको फुरसत में तराशा गया है.

अलीना दिखने में एकदम हॉट और सबसे ज्यादा सुंदर थी और उसके बात करने के अंदाज से लग रहा था कि वो बहुत स्टाइलिश और मॉडर्न थी. एक रविवार के दिन मैंने संजू को बोला- चलो आज कोई मूवी देख कर आते हैं. मेरा लंड थोड़ा-थोड़ा अन्दर जाने लगा औऱ शायद अब अंकल को भी मजा आने लगा था.

मुझे देखकर बृजेश मेरे पास आया और मुझसे बोला- आपका ही इंतज़ार कर रहा था.

मैंने अपना लंड उसके मुँह से बाहर निकाला, तो वो जोर जोर से सांस लेने लगी. संयोगिता ने प्रतीक्षा से कहा कि वो एक कटोरी लेकर आये तो प्रतीक्षा नंगी ही उठकर किचन से एक कटोरी ले आई. मैंने भी हंसते हुए उसे समझाया कि जान जब इस छेद से दो-ढाई किलो का बच्चा निकल सकता है तो नौ इंच के लंड से डरने की क्या जरूरत है.

तब जब मैंने रेनू को जीन्स और टॉप में देखा तो उसका जवान जिस्म देख के मैं काफी एक्साइट हुआ. कुणाल उठा और नीचे जाकर मीना की दोनों टांगों को फैलाकर अपने लंड का टोपा उसकी चूत पर रख कर धीरे धीरे आगे पीछे करके उसे तरसाने लगा. चूंकि विदेशियों के लंड तो लाजवाब होते ही हैं, ये सोचकर ही मेरे मन में बेचैनी होने लगी थी.

वो मुझे अपनी ओर खींचते हुए मेरे होंठों में किस करने लगे और एक हाथ से मेरी मोटी चिकनी जांघों को सहलाने लगे.

दिव्या ने भी बताया कि उसकी बोट पर जो लड़का था वो भी उसके साथ मस्ती करना चाह रहा था मगर दिव्या ने कुछ नहीं किया. लण्ड मेरा अभी भी उसकी चूत में था क्योंकि मेरा तो अभी हुआ नहीं था मैं उसके बाल में प्यार से उंगली फेर रहा था.

सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू मैंने कराहते हुए कहा- उई … आह … नहीं लेना मुझे कोई आनन्द वानन्द … छोड़ो मुझे. उन्होंने मेरा लंड पकड़ कर देखा तो लंड ने हिनहिना कर भाभी को नमस्ते की.

सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू मैंने उसे पीछे से खींच कर अपने ऊपर ले लिया उसकी दोनों चुचियों को दबाते हुए उसकी गांड में लंड रगड़ने लगा. गोपनीयता बरक़रार रहने दें और कहानी के मजे लें।धन्यवाद[emailprotected].

वो दूध का कार्ड हाथ में देते हुए बोला- हिसाब अभी करोगी या बाद में?तब अनिषा बोली- भाभी जी से पूछ लो.

हिंदी सेक्सी एक्स

उनके बीच में काले झाँट, झाँटों के बीच में लटकता उसका मस्त लंड और उस पर लिपटा लाल लंगोट देख कर मैं तो अपने होश जैसे खो बैठा था. फिर हम दोनों ने 69 भी किया।हम दोनों एक दूसरे के यौन अंगों को खाने की कोशिश कर रहे थे।बातों ही बातों में उसने मुझसे कहा- मैंने कभी आपके जैसी भाभी की कल्पना नहीं की थी जो सेक्स से इतनी भरी हुई हो।फिर उसने मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और मुझे दबा कर चोदने लगा. मिताली भाभी जोर से चिल्ला पड़ीं- आह … थोड़े धीरे … साले मारेगा क्या?मैंने कहा- तुम ही तो बोली थीं कि फाड़ दे ना …मिताली भाभी- आह साले … मैंने इतने जोर से पेलने को थोड़े ही बोला था.

सुबह उठ कर हाथ मुँह धोकर जब नीचे हॉल में आया, तो मैंने देखा कि सभी नीचे कबसे मेरा इंतजार कर रहे थे. ‌शबनम ने मेरे चेहरे पर अपनी एक उंगली फिराते हुए कहा- पर किसी को पता चल गया तो?‌मैंने भी उसकी बांह को सहलाते हुए कहा- क्यों तुम किसी को बताने वाली हो क्या?‌शबनम- मेरे चेहरे पर अपनी गरम सांस छोड़ते हुए बोली- ना जी ना … मैं क्यों किसी को बताने जाउंगी … मरना है क्या मुझे. फिर आठ दस जोरदार शॉट के बाद अपना सारा वीर्य प्रीति के चूत में डाल दिया और प्रीति भी साथ में ही झड़ गई.

उसको तो मैं बाद में देख लूंगी, मगर अभी मेरी चूत में जो आग लगी हुई है उसको मुझे किसी भी हाल में शांत करना है.

एक दो बार उसने रॉड को उठाने के बहाने से मेरी नाक पर लंड को छुआ दिया. इधर रजत ने लंड डाल कर शांति बनाई रखी और उधर संजय ने हसन से सीख लेकर गांड को धीरे धीरे तैयार कर लिया. कल सुबह सूरज चढ़ने के साथ ही हम दोनों की जिंदगियों के रास्ते विपरीत ध्रुवों की ओर मुड़ जायेंगे और जिंदगी में दोबारा मुलाक़ात की संभावना क़रीब-क़रीब न के बराबर होगी.

जिस तरह मेरी नजर सेक्सी लड़कों को ढूंढती रहती थी, वैसे ही वो सेक्सी लड़कियों को पटाने की फिराक में रहता था. मैंने प्रीति से पूछा- क्या बात है जान … आज बड़ी हॉट लग रही हो … तुमने इतना हॉट कपड़े क्यों पहने हैं? मैं तुम्हारे मुँह से सुनना चाहता हूं. थोड़ी देर ऐसे ही चोदने के बाद मैंने अपना लंड निकाला और उन्हें घोड़ी बनने को कहा.

आपको ये कहानी कैसी लगी, बताइएगा जरूर … अभी मैं गुरुग्राम में रहता हूँ. ऑफिस में चर्चा थी कि मीना को सिगरेट और हल्की ड्रिंक्स से भी परहेज नहीं है.

मैंने उसकी बाजू पर वोलीनी लगाई। हालांकि कोई सूजन नहीं थी।फिर मैंने उससे पूछा- कमर पर कहाँ लगी? वहाँ भी लगा दूँ।तो उसने अपनी कमर पर छू कर बताया. उसने फ्रेंची उतार दी और उसके लंगोट के अगल-बगल उसकी गोरी जांघों से निकल रहे झाँटों के बीच में तने अपने लौड़े को लंगोट समेत ही वो मेरे होंठों पर धकेलने लगा. फिर सुहास ने मेरी ब्रा की लेस पकड़ कर खींच दी और मेरी ब्रा कंधे से होते हुए नीचे गिर गयी.

उसने मुझे पूरी तरह चूस डाला, एक झटके में मेरी शर्ट फाड़ दी और मेरी छाती पर किस करने लगी.

अब मैं आपका ज्यादा समय ना लेते हुआ सीधा अपनी नयी आपबीती पर आता हूँ. उधर नीरज ने अपनी बीवी के लिए गालियां सुनी तो वो भी जोरों से दीदी को गाली देते हुए चोदने लगा- ले साली रांड … तेरी मां को चोदूं. आज तक मैंने सिर्फ सुना है, पोर्न फिल्मों में देखा है कुछ रंडियां भी बुलाई हैं चुदाई करने के लिए.

रूमानी जी ने पूरी सेक्स कहानी सुनाने के लिए कहा, तो मैंने पूछा कि आप सेक्स की बात खुल कर सुनना पसंद करेंगी … या छिपे हुए शब्दों में सुनना चाहेंगी. उनकी उम्र 34 साल, फिट और स्लिम बॉडी, रंग गोरा और साइज 34-30-34 का है.

सुबह जब मेरी नींद खुली, तो देखा कि दीदी उठकर घरेलू कपड़े पहनकर चाय बना रही थीं. अब बस जल्दी से चूत को भोसड़ा बना दे … चोद चोद बहन के लोड़े पूरी ताक़त लगा दे धक्के में … जब तक चूत का कचूमर नहीं निकलता मुझे न तसल्ली होने वाली हरामी पिल्ले … हाय हाय हाय … प्लीज राजे प्लीज … आ आ ऊँ ऊँ … हाय मेरी माँ देख कुतिया क्या हाल हुआ है तेरी बेटी का. जिया के चूचे हवा में झूल रहे थे और मैं बिना रुके उसकी गांड चुदाई कर रहा था.

ब्लू दिखाएं सेक्सी

वो एकदम गर्म हो गई और धीरे स्वर में ‘आह आह … यू आर सो गुड … डू इट मोर.

वो टॉयलेट सीट पर बैठ गयी और फिर बहाने से अपनी चूत धो ली और अंदर उंगली कर क राजन की निशानी को साफ़ किया. अब रवि के पास एक ही रास्ता था कि या तो वो अपना ट्रान्सफर करा ले!पर ऐसी स्थिति में रवीना तो उसे जिन्दगी भर ब्लैक मेल करेगी. अगले ही कुछ पलों में मैंने सुहास का पूरा लंड अपने मुँह में अन्दर तक ले लिया और उसे जोर जोर से चूसने लगी.

मुझे काफी शर्म आ रही थी परंतु मेरी कामुकता मेरी शर्म पर हावी हो चुकी थी. मेरी फ्रेंड्स ने मुझे पोर्न वीडियोज भी बताए और दिखाए थे, तो मैं सेक्स के बारे में तो काफी कुछ समझ गई थी. लडकी की चुदाईमैं आलिया के गाल पर किस करके उसके पास बैठ गया, लेकिन जीजा जी कहीं दिख नहीं रहे थे.

भैया ने दिव्या की चूत में लंड पेलना शुरू कर दिया और वहीं पर उसकी चूत को चोदने लगे. [emailprotected]सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी बीवी ने जवान लड़के से चूत चुदाई-2.

फिर भैया बोले- ऋतु अब आ जाओ … पहले एक बार खल्लास हो जाते हैं, फिर आगे का करेंगे. उसकी एक दर्द भरी कराह निकल गई- उम्म्ह… अहह… हय… याह… उई माँ मार दिया कमीने …उसे काफी दर्द हुआ, पर मैं उसके होंठों पर किस करने लगा, साथ ही उसके मम्मों को मसलने लगा. मैंने एक पल के लिए उसके चेहरे की ओर देखा, तो वो आंख बंद किए हुए बस लंड का इंतज़ार कर रही थी.

तभी मेरी उसी चाहत ने मुझे फिर से झंझोड़ दिया और मेरा मन चुत पर किस करने का हो गया. तब मैंने उससे उसका नंबर ले लिया कि कल जब आऊंगा तब पहले फोन कर दूंगा तैयार रहना तुम!क्रिया- ठीक है।उसके बाद अगले दिन जब मैं उसे लेने गया तब वह पीले रंग के सूट में क्या गजब लग रही थी क्या बताऊं आपको।बस उस दिन के बाद से ही हम दोनों की कहानी चल पड़ी। हम लोग काफी देर तक एक दूसरे से बातें करते साथ कोचिंग आते जाते. मुझे लगा था कि शादी के बाद मेरे पति से मुझे बहुत सुख मिलेगा लेकिन मेरी मन की इच्छा मेरे मन में ही रह गयी.

अंशी मेरे लंड का पूरा पानी पीने के बाद बोली- तुमने मुझे लंड का पानी पीना सिखा ही दिया.

फिर भी मैंने दरवाजा अन्दर से बंद किया और एक नाईट बल्ब चालू कर दिया. कुछ ही पल में मेरी ब्रा मेरे जिस्म से अलग हो गई और मेरे बड़े बड़े गोरे दूध उछल कर उनके सीने से लग गए.

तो दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरे भाई की दो लड़कियों को एक साथ चोदने की कहानी?अपने विचार आप मुझे मेल[emailprotected]पर भेज सकते हैं। साथ ही आप सभी facebook पर fehmina. चाची ने खुद सहयोग करते हुए अपने पैरों से चड्डी निकाल कर दूर फेंक दी. और वो खँडहर जहाँ उसका बाप मुझमें समाया हुआ था और भूरे अपना लिंग मेरे हाथों में पकड़ा कर मेरे स्तनों को मसल रहा था मेरे शरीर पर नाम मात्र के कपड़े थे.

बीस मिनट बाद मैंने आंटी की चूत से लंड खींचा और आंटी के मुँह में लगा दिया. मैंने तो ऊपर से कम ही जोर लगाया था, पर नीचे से रजत ने पूरी ताकत लगा दी थी. मैंने कदम थोड़े से और पीछे सरकाये तो उसके लंड पर मेरे हाथ की उंगलियां छू गईं.

सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू मैंने अपनी एक उंगली को मिताली भाभी की चूत के अन्दर डाल कर उनके ‘जी स्पॉट’ को सहलाना शुरू कर दिया. वे चुत चोदने में माहिर खिलाड़ी हैं … वरना उनके लंड की फोरस्किन इतनी पीछे कैसे हो गई थी.

முஸ்லிம் செக்ஸ்மூவி

ये कहानी आज से करीब 3 साल पहले की है, जो कि मेरे और मेरी एक शादीशुदा महिला मित्र के बीच की है. उनके जाते ही परमीत ने मुँह बनाते हुए कहा- तुम ऐसे लोगों से दोस्ती करते हो?तब संजय ने कहा- नहीं यार वो तो जिगोलो ही हैं, बड़ी मुश्किल से जुगाड़ हुआ है. तभी उसके गांड का छेद मुझे दिखाई दिया जो हल्की रोशनी में मेरे लंड को बुला रहा था। मैंने भी कुछ कहे और कुछ पूछे बिना अपना लंड उसकी गांड में घुसा दिया।उसकी गांड का छेद इतना टाइट नहीं था, शायद वह पहले भी कई लंड गांड में ले चुकी होगी.

और वो भी अक्सर अपनी हर ड्रेस में चाहे वो साड़ी हो या सूट, अपना थोड़ा सा क्लीवेज हमेशा दिखा कर रखती है।मैं और शीराज अक्सर एक दूसरे को मज़ाक करते थे. बाबू हंसने लगे और मेरी चूचियों को मसल कर मुझे दर्द से निजात दिला दी. सेक्सी लड़कियों के वॉलपेपरमुझे तो अब खुद ही कपड़ों से परेशानी होने लगी थी, सो मैंने कपड़े निकाल कर सोफे पर रख दिए.

पहले अक्षय नीचे लेटा तो सरीना अपनी चूत में लंड सेट करके बैठ गयी और पीछे से मैंने लन्ड सरीना की गांड में फिट करके चोदना शुरू कर दिया.

तो देखने सुनने दो, इसमें क्या है?अविनाश- आलिया रहने दो, यह अभी तुम्हारी बात नहीं मानेंगे. मेरे मुँह से अचानक निकल गया- किस बारे में?वो मुस्कुरा के बोली- आपके बारे में.

चूत के रस और लौड़े केलावा का मिला जुला एक तरल चूत से निकल निकल कर उसकी जांघों और मेरी झांटों को भिगोने लगा. मेरे पति जब भी घर पर होते, तो ऐसी कोई रात नहीं होती … जिसमें मेरी चुदाई न होती हो. ये बोल कर मैंने उसे गोद में उठा लिया और उसकी थोंग के साइड में से उसकी चूत में उंगली देने लगा.

मैंने फिर से अपने होंठों को उसकी गर्दन पर घुमाना शुरू कर दिया और बेतहाशा चूमने लगा.

और फिर वो स्पीकर ऑफ करके बात करने लगी और कुछ देर बाद बात खत्म करके मुझे फ़ोन देते हुए बोली- आइये साहब!वो मुझे फार्महाउस के उस कमरे में ले गई जहाँ साजो सामान से सजा हुआ कमरा अंदर से कोई राजमहल जैसा लग रहा था। उस कमरे में सभी सुख सुविधा का हर साधन मौजूद था. तो बहुत मजा आ रहा था। चॉकलेट खाते खाते हम दोनों दूसरे के लब आपस में जुड़ गये और हम एक दूजे को किस करने लगे. और किसी को कुछ भी कहने का मौका भी नहीं मिलेगा।”सायरा मेरी तरफ टकटकी लगाकर देखने लगी, शायद इस समय मैं कुछ जरूरत से ज्यादा स्वार्थी हो गया था, मैं सायरा से नजर नहीं मिला पा रहा था.

மலேசியா செக்ஸ்नीरज ने ये देखा तो बोला- क्या मार डालने का इरादा है … इतनी कातिलाना जवानी … उफ्फ …इस बात पर संजू फिर से मुस्कुराई और बोली- अच्छा बाबा अब इतनी भी तारीफ नहीं कीजिये … मैं बस फ्रेश होकर आ रही हूँ. हुआ ये कि मैं आंटी के मोबाइल को देख रहा था, उसी बीच न जाने किस समय आंटी ने मेरा फोन मेरे पास से ले ले लिया.

भोजपुरी ब्लू फिल्म हिंदी में

मेरे द्वारा पूर्व में लिखी सत्य घटना पर आधारित सेक्स कहानीपतिव्रता बीवी की चुदाई गैर मर्द से करवाने की तमन्नाको सभी लोगों ने सराहा. मैंने करीब 15 मिनट तक इस तरह से ही किस किया, तो आंटी ने कहा- अब बस कर दे ना … क्या चूमता ही रहेगा. दरअसल उन्होंने मेल में लिखा था कि मैं अपना चेहरा तुम्हें नहीं दिखाऊंगी और तुम अपना मोबाइल बंद रखोगे.

अब क्योंकि मैं बहुत गर्म हो चुका था तो मैंने लन्ड उसकी गांड के छेद में टिकाया और धीरे धीरे दबाव डाल कर पूरा लन्ड उसकी गांड में उतार दिया. वहां गांव में हमारी दादी, चाचा और चाची के साथ चाचा जी का एक लड़का ही रहते हैं. वो उठी और नीरज के लंड को अपनी चूचियों के बीच में लेकर रगड़ने लगी, जिससे नीरज को असीम आनन्द की अनुभूति होने लगी.

रजत ने अपने खुरदुरे हाथों से मम्मों को बेरहमी से मसला और कहा- तू अभी इन खिलौनों से खेल मेरी रानी … फिर तेरी गर्मी मैं शांत करूंगा. जब गाड़ी आई, तो सामने गाड़ी के गेट से उतरती स्वीटी आंटी अपने बेटी के साथ दिखाई पड़ीं. मैंने दोनों हाथों से चादर को जकड़ लिया और अपने आप मेरी गांड हवा में उठ गई.

उसके आते ही ना सीधा हमारे बीच में सेक्स हुआ और ना कुछ!और जैसे जैसे हुआ, वैसे आपको बता रही हूं।फिर हमने बहुत सारी बातें की. मैं हमेशा डीप क्लीवेज के कपड़े ही पहनती हूँ, जिसमें से मेरे मम्मों की पूरी दरार दिखाई देती है और बूब्स भी लगभग आधे से ज्यादा दिखाई देते हैं.

मैंने भी मौका देखते हुए उसको कह दिया कि फ़िक्र ना करो, इंसेंटिव तो मुझे ही देना है, मैं सब संभाल लूंगा.

अब उन्होंने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए और मुझे सिर्फ अंडरवियर में छोड़ दिया. मोटे लंड की चुदाई वीडियोपर आपको काल्पनिक कहानी ही पढ़नी है … तो अंतर्वासना पर हजारों अच्छी कहानियां पड़ी हैं. हिंदी बीफ वीडियोमेरा लंड उसके चूतड़ों की दरार से होता हुआ उसकी चूत तक मसाज कर रहा था. राजन निढाल सा पड़ा था, वो उठा और एक बार फिर शावर के नीचे खड़ा होकर फ्रेश होकर आया.

वो आह हहह उहह हह उई की आवाज़ निकाल रही थी मगर लगातार वो अक्षय के लंड को देख रही थी और मैं नंगी पड़ी सरीना को!मैंने नीलू से पूछा- अक्षय से भी चुदने के मन है क्या?तो वो बस मुस्कुरा दी.

मेरा ध्यान हसन पर था और पता नहीं कब रजत मेरी मालिश करते हुए मेरी जांघों तक पहुंचने लगा. हमने सोचा कि अगर इसने यह वीडियो इंटरनेट पर डाल दिया तो बहुत बदनामी होगी. मैं उठने को हुयी, तो बाबू ने हमें माई समझ कर हाथ खींचा और अपने बगल में लिटा लिया.

यही सब बातें करते करते नींद आ गई।2 दिन बाद क्रिया का मैसेज रात को आया कि मेरी नानी की तबीयत खराब है तो मम्मी पापा के साथ जा रही हैं और मैंने कोचिंग का बहाना बना लिया है. ऊपर से हम सभी नग्न अवस्था में आ गए थे, बस लेडीज ने ब्रा पहन रखी थी. आकाश- सुन ले राज … हमें भी हनीमून में बुला लेना … हम भी तेरी बीवी को चोदने में तेरा साथ देंगे.

सद क्सक्सक्स

वो बोली- ये क्या कर रही है संजना?आखिर वो भी तो जन्नत का मजे ले रही थी. मैंने उसके कपड़े उतारे और अपने से चिपका कर मैं उसके होंठों को चूसने लगा. मेरे स्तन कसे हुए होने के बावजूद चुदाई में गति की वजह से बेतरतीब हिलने लगे थे.

मेरी इजाजत के बिना ही विशाल ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को चूसने लगा.

आप सबका बहुत बहुत धन्यवाद, जो आपने मेरी पिछली सेक्स स्टोरीसहेली के ससुर से चुद गई मैंको पढ़ कर मुझे मेल किए … जिससे मालूम हुआ कि आप सभी को मेरी सेक्स कहानी बहुत पसंद आई.

कुछ देर बाद नीलू ने सरीना के मुंह स मेरा लन्ड निकाल लिया और अपने मुँह में डालकर चूसना शुरू कर दिया. बुर से रस निकले जा रहा था जिसके कारण लण्ड के अंदर बाहर आने जाने से ज़ोर ज़ोर से फिच्च … फिच्च … फिच्च … फिच्च की आवाज़ें कमरे में गूंज उठीं. देसी चाची कीGigolo Sex Storyअपनी नंगी गांड को आगे पीछे करते हुए मैंने उसकी चूत चुदाई शुरू कर दी.

लंड खड़ा करके दीदी उठ कर मेरे पास बैठ गईं- आलिया मैंने तो अपने भाई से चुदवा लिया. फिर सोचा कि आज तो इसे सारी रात ही चोदना है, तो मैंने उसकी नंगी गांड पर हाथ फेरते हुए नीतू को जगाया. मैंने शरारती लहजे में पूछा- मैम लेडीज मसल्स ही सॉफ्ट होंगी ना?डॉक्टर ने हंसते हुए कहा- सुमन तुम्हारा हसबैंड बहुत फनी है.

मैंने आंटी से कहा- अबकी बार अपने मुँह में जाम भर के मुझे पिला देना. उन्होंने कहा- आंह … अब चैन मिल रहा है … अब तुमको जैसे करना है … करो … अब मेरा दर्द कम हो गया.

परमीत खुद मदहोश हुए जा रही थी और इसलिए उसने स्पीड को किसी रेल की भांति तेज कर दी.

वो क्या बोल रहे थे?मैं- डैड मेरे रिश्ते के बारे में बता रहे थे कि राजीव अंकल पांच दिन बाद रिश्ते की बात करने के लिए आ रहे हैं. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था क्योंकि आज तक किसी ने भी ऐसे पागलों की तरह मेरे लंड को नहीं चूसा था. मैंने सुमित को दिन में फोन करके कह दिया- आज मैं शाम को जिम नहीं जाऊंगा.

सेक्सी वीडियो एमएमएस जिस लड़के को पटाने के सपने मैं देख रहा था वो दरअसल उस लड़की की चूत चोदने की फिराक में था. पहले तो मुझे विश्वास नहीं हुआ मगर जब वो लोग कहने लगे तो मुझे मेरे दिन याद आ गए कि किस तरह मैंने भी अपने कितने ही बॉस के साथ सेक्स करके प्रमोशन लिया था.

मनोज की शादी के दो साल बाद तक उनके कोई बच्चा पैदा नहीं हुआ तो जालान आंटी के कहने पर मनोज व कविता डॉक्टर से मिले. अलसुबह के किसी समय मेरा साला नीरज उठ गया था और वो अपनी बहन की मस्त जवानी को देख रहा था. मेरा कसा हुआ सुडौल बदन और लचकती कमर ही तीनों के लंड के लिए फड़फड़ाने हेतु काफी था.

सेक्स वीडियो ब्लू पिक्चर दिखाएं

जब किसी बहुत सुंदर मूर्ति या चित्र को कलाकार अपनी कल्पना से बनाता है, तब उसकी कल्पना में ऐसी ही कोई अपसरा की छवि मुद्रित रहती होगी. ठीक है मैं उनको देखती हूं, तब तक तुम दोनों ड्रिंक खत्म करो … फिर खाना खाएंगे. कैसी थी मेरी यह कहानी? मुझे ईमेल पर जरूर बताएं ताकि मैं आप लोगों के लिए फिर ऐसी ही गर्मागर्म कहानी लाता रहूँ।[emailprotected].

पर 10 दिन बीत गये, वो नहीं आयी। मैंने सोनू को उसे लाने के लिये भेजा, पर वो उसके साथ भी नहीं आयी और बहाना बना दिया कि उसकी तबीयत ठीक नहीं है।इस तरह एक महीना बीत गया।इस बीच मैंने मेरे बेटे को 2-3 बार सायरा को बुलाने के लिये कहा लेकिन जैसे वो आना नहीं चाह रही थी।इधर मेरे दोस्त यार जो मेरे घर अक्सर आ जाया करते थे, बहू के बारे में पूछते थे. उसके सामने ही इरफान बैठा था, जो मुझे समझ आ गया था कि उसका हस्बैंड ही था.

इधर मैं भी अब झड़ने वाला था, सो जोर से बोला- संजू बेबी … मैं झड़ने वाला हूँ.

मैंने सुमित को दिन में फोन करके कह दिया- आज मैं शाम को जिम नहीं जाऊंगा. भाभी लंड लेते ही जोर से चीखने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… उई माँ मार दिया … आहहह उईई … फट गई … प्लीज धीरे करो … आह जान!मैं चुत में लंड पेलने के साथ ही उसके होंठों को चूस रहा था. मैंने अपनी चूत से निकला हुआ चूत के रस से भीगा हुआ गीला लंड अपने मुंह में ले लिया और दबा कर चूसने लगी.

अब मैं बिना आदी से डरे, उसके सामने ही विक्की से बात करने लगी … क्योंकि अब मैं आजाद थी. वे अभी भी आंखें बंद करके लेटी हुई थी और सोने का नाटक कर रही थी।मैंने उनका चेहरा थोड़ा सा अपनी तरफ किया और अपने होंठ उनके होंठों पर रख दिए. मैं कविता के बेडरूम में पहुंचा तो हैरान हो गया, उसने बेडरूम फूलों से सजा रखा था.

अच्छा सुनो अगर तुम्हें सेक्स नहीं करना, तो मत करो, पर इन्हें नचवा तो सकते हैं और मर्दों का तमाशा बना कर मजा तो ले सकते हैं.

सेक्स सेक्स बीएफ ब्लू: मेरे लौड़े से भी इतनी उतेजना बर्दाश्त नहीं हुई और साथ ही मेरे लौड़े ने पिचकारी छोड़ दी. इसके बाद मैंने पूरे कमरे में मोमबत्तियां जला दीं और हमारा पूरा बिस्तर और रूम भी गुलाब के फूलों से सजा हुआ था.

मेरी इस उत्तेजना भरी रिश्तों में सेक्स की कहानी के लिए आपकी मेल का स्वागत है. कुणाल बोला- सिर्फ मेरे लिए या आप भी यहीं हैं?तो मीना हंस के बोली- नहीं सर, मैं तो चली जाऊंगी पर रवि सर आपको कंपनी देंगे. कुछ देर तक लंड चूसने के बाद सुहानी को भी मजा आने लगा और वो जोर जोर से मेरा लंड चूसने लगी.

इस पोजीशन में एक ही शॉट में पूरा लण्ड उसकी छोटी सी गांड में सूत दिया.

लेकिन दूधवाले ने नीचे से मेरी चुत देख ली थी, वो बोला- मेमसाहब आपकी नाइटी से संगम घाट दिख रहा है. लेकिन अभी टोपे से आगे ही गया होगा कि उसकी आवाज निकली- अरे बाबा रे।उसने बस ये कहा- शाहब, मैं मना थोड़ी करती … बस एक बार बता देते. मैं उनको पकड़ कर उनके गले में किस करने लगा और उनके गले में किस करते हुए मैंने उनकी साड़ी को निकाल दिया.