हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो गाने के साथ

तस्वीर का शीर्षक ,

चाटने की सेक्सी वीडियो: हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला, उस दिन जब मैं पढ़ाने के बाद जब अपने घर लौटा, तो रात भर उनके चिकने बदन के बारे में सोचता रहा.

इंग्लिश चोदी चोदा

कुछ ही देर में वह भी मेरा साथ देने लगी और अपनी गांड उठाकर मेरा पूरा लंड अपनी गांड में लेने लगी. जयपुरी राजस्थानी चुनरीमुझे थोड़ा अंदाजा था कि हो सकता है कि वो अपने पति के साथ उस तरह से खुश न हो जैसे कि एक पत्नी को होना चाहिए।भाभी की जवानी तो पूरी आग थी और उनका पति भाभी के सामने बहुत ही कम था.

लगभग साढ़े पांच फिट हाइट, 34 के बूब्स और गांड भी एकदम गदरायी हुई …मैं तो देखकर ही पागल हो गया और मन ही मन सोच लिया कि इसकी तो लेकर रहूँगा. चुदाई की कहानी हिंदी मेंमम्मी पापा से तो कोई प्रॉब्लम नहीं थी क्योंकि वो तो सुबह निकल कर शाम को ही आते थे लेकिन रिया का कॉलेज बंद था.

मैं अपनी विधवा मां और तलाकशुदा मौसी के साथ पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक छोटे गांव में रहता हूं। दोनों का बदन सेक्सी चोदने लायक है भरा हुआ.हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला: भाभी का रंग गोरा, चिकनी त्वचा, मध्यम कद, और उसका साईज 28 30 32 का होगा.

फूफा जी जब भी घर आते, उनके लिए अच्छे-अच्छे पकवान बनाए जाते और अम्मी अब्बू भी उनसे बहुत खुश रहते थे.मेरा कटा हुआ लौड़ा एकदम से खड़ा हो गया और उसकी चुत में घुसने के लिए मचलने लगा था.

कट्रीना कैफ वीडियो ब्लू फिल्म - हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला

उसने मेरा लंड फिर से चूसना शुरू कर दिया … इससे मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया.हम अचानक बाजार में मिले लंबे समय के बाद; तो मैंने इन्हें चाय के लिए घर बुलाया था.

अब मैंने सोचा कि अच्छा हुआ मैंने नीता का नाम नहीं लिया वर्ना पता नहीं क्या हो जाता. हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला हमारी थोड़ी देर बात हुई, फिर उसने बोला- अब आ जाओ, हम सब रेडी हो गए हैं.

उसने एक पिंक कलर का सूट पहन रखा था, जिसमें वो बहुत सुंदर लग रही थी.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला?

वो अम्मी से इतना घुल मिल गयी कि अपनी सारी बातें अम्मी को बताने लगी. कुछ पलों बाद उसकी चुत ने अपना पानी छोड़ दिया और वो निढाल होकर लेट गई. अमिता मौसी भी अपनी मोटी गान्ड उछाल उछाल के उसका लौड़ा ले रही थी।यह दख मुझसे रहा नहीं गया और मैंने मुठ मार ली और कम्बल वहीं छोड़ घर को आ गया.

वहां चाची की बेटी के मस्त बदन को देख मेरा मन बहन की चुदाई के लिए करने लगा. गांड चुदवाने का पूरा मजा आ रहा था मुझे।चाचा मुझे गाली देते हुए चोद रहे थे- साले गांडू, भोसड़ी के, तेरी गांड मैं बहुत दिनों से मारना चाहता था. फिर मैंने अंकल को नमस्ते किया और फिर हम लोगों ने साथ में ही डिनर किया.

कुछ देर चुत चाटने के बाद मैंने उसको लेटाया और उसका गर्म सरिया जैसा लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी. उस दिन होटल में हम दोनों ने अपनी पूरी वासना निकाली; वहां पर उस दिन हम चार-पांच बार सेक्स किया और बहुत मजे किए. वह मेरे हिप्स पर बहुत तेज मारता भी था बीच-बीच में … जिससे मुझे बहुत मजा आता था.

मेरे नंगे स्तनों को गौर से देख कर वो बोला- स्थिति बता रही है कि तूने तो कुछ देर पहले ही जमकर चूत चुदाई करवाई है. फिर मेरा वीर्य निकलने को हो गया और मैं दो मिनट के बाद उसकी चूत में ही खाली हो गया.

एक ही बिस्तर पर दो दो औरतें एक जवान लड़के के लंड के साथ खेल रही होंगी, तो कितना मज़ा आएगा.

फिर भाभी ने मुझे बताया कि उनके पति को कुछ दिन के लिए बाहर जाने का प्लान बन गया है … आप आ जाओ.

मैं नीचे उतरा और मॉम को सोफे पर बिठाकर उनके मुँह में अपना लंड घुसा दिया. मैंने उससे काफी सहज भाव से बात की थी तो वो मेरे व्यवहार से काफी खुश थी और मुझसे काफी सहज होकर बात करने लगी थी. इसी के साथ उसने अपने होंठों को खोल दिया और उसी समय मेरी जीभ ने उसके मुँह में हमला कर दिया.

दोस्तो, आपको कुवारी चूत की मेरी कहानी अच्छी लगी या नहीं? आप मुझे मेल करके इसके बारे में अपने विचार जरूर बतायें. तो छोटी बुआ बोलीं- तूने कभी मुठ नहीं मारी … इसलिए तेरा लंड इतना तगड़ा है. मैंने पूछा- आपको कितने बजे जाना है?वो बोले कि हम दोनों शाम की ट्रेन से जाएंगे.

इससे माँ की सिसकारियां थोड़ी तेज़ हो गयी और वो उम्म्ह… अहह… हय… याह… की आवाज़ करने लगी। उनकी चूत में से हल्का हल्का पानी निकल रहा था जो बहुत स्वादिस्ट लग रहा था.

अपने कपड़े उतार कर लंड हाथ में पकड़ लिया तो बाजी ने भी अपना कमीज और सलवार उतार दी. मैं अपनी कुंवारी चूत को खूब साफ़ करके संवार के चिकनी बना के ससुराल गयी थी. रात को जब मेरी नींद खुली, तो मैंने देखा कि राजीव मेरे ही पलंग पर यीशा की दूसरी साइड में लेटा हुआ है और धीमे धीमे यीशा के दूध दबा रहा है.

मैं जानता था कि वो चुदना चाहती है लेकिन खुद से नहीं बोल रही थी।एक दिन की बात है कि उसका पति काम से दो दिन के लिए बाहर गया।उसने मैसेज में ये बात मुझे बता दी थी. कुछ समय तक लंड अन्दर बाहर करने के बाद मैंने एक जोर से धक्का लगा दिया, जिससे मेरा पूरा लंड चुत के अन्दर समा गया था. फिर मुझे भी मज़ा आने लग गया। मैं भी उसका साथ देने लग गई। वो कभी मेरे बूब्स चूसता तो कभी होंठ।लगभग 15 मिनट बाद हम दोनों एक साथ ही झड़ गए।फिर जयपुर पहुँच कर हमने एक होटल में कमरा लिया.

वो कराहने लगी- आंह चाचू छोड़ दो … मुझसे सहन नहीं हो रहा है … आह्ह आंह्ह ऊह्ह्ह माय गॉड आह्ह्ह.

फिर मैंने उसे अपने ऊपर से उतारा और उसकी चूत में उंगली डाली … ताकि मैं अपना लंड उसमें घुसाने के लिए जगह बना लूं. जब भी भाभी के पति घर आते, तो वो मुझसे बात करने के लिए बाथरूम में चोरी से फोन लेकर जातीं.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला लड़की की चुदाई की पहली सेक्स स्टोरी आप लोगों को कैसी लगी मुझे अपने कमेंट्स में बताना. वह यह है कि इंसान में सेक्स की शुरुआत किस उम्र से हो जाती है यानि कि सेक्स क्रिया, कामक्रीड़ा से पहला परिचय कब होता है.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला कई बार के प्रयास के बाद उसका लंड एकदम से मेरी गांड में घुस गया और मेरी जान निकल गयी. मैं पहले भी उनको ऐसे पकड़ लेता था, तो उन्होंने कुछ रियेक्ट नहीं किया.

उसमें से एक सपना के दूर के चाचा थे, जिन्होंने मुझे ताड़ना शुरू कर दिया.

ब्लू फिल्म ब्लू फिल्म सेक्सी वीडियो

यह सब देख कर मुझे कुछ समझ नहीं आया और मैं अपनी सांसें नियंत्रित करने लगा. एक बात और कहना चाहता हूं अगर तुम बुरा न मानो तो?मौसी ने कहा- बोलो।मैं बोला- मुझे आपकी गांड भी चोदनी है. दोनों ही थक से गये थे गर्मी के कारण।मैं पहली बार उसके घर गया था और बैठा बैठा चारों ओर नजर घुमाकर उसके घर को देख रहा था।मैंने पानी के लिए कहा तो बोली कि फ्रिज से ले लो.

मम्मी ने बड़ी वासना भरी नज़रों से उसको ऊपर से नीचे देखा जिसको सागर भी भाम्प गया।मेरी मम्मी को मैं घर में सुधा ही बोलती हूँ तो आगे मैं सुधा ही बोलूंगी आप समझ जाना।सुधा पर मुझे पिछले एक साल से शक था कि शायद इनका चक्कर बाहर किसी से चल रहा है. वो आदमी दीदी को किस करने लगा और बोलने लगा कि मैं तो तुमको देखते ही समझ गया था कि तुम मेरे लंड की जुगाड़ हो. मजा आया प्यारी सेक्सी लड़कियो और लड़को … तो जल्दी से मेल लिख कर बताओ यार.

वहां क्या हुआ? मम्मी की चुदाई करके मैंने उनकी अन्तर्वासना को शांत किया.

चूत का मजा मिलते ही धक्के अपने आप लगने शुरू हो गये और धीरे धीरे मेरी रफ्तार बढ़ने लगी. मैं अंदर ही अंदर खुश हो गया कि अगर मैं इस लड़की को चोद पाया तो मुझे एक नयी कुवारी चूत मिलेगी. तो उसने भी धीरे से कहा- आपने रवि अंकल के साथ जो किया तो उन्हें तो नींद आ गई पर मुझे नींद नहीं आ रही.

संदीप के रोके वाले दिन ही उन्होंने भी चारू की गोद भराई की रस्म पूरी कर दी थी. एक दिन मैं अपनी छत पर टहल रहा था कि तभी भाभी और उनकी बहन छत पर आ गईं. मेरी चुदक्कड़ बहन उसका चेहरा देख कर मुस्कुरा रही थी और सौरभ लगातार झटके मार रहा था.

नीचे जाकर मैंने उसकी नाइटी को ऊपर उठाया और उसकी जांघों को चूमने लगा. इससे मेरी बहन काफी घबरा गई और अपने छोटे-छोटे नींबू जैसे चूचों को हाथ से ढकने लगी.

मुझे भाभी के फोन से प्रिया का नंबर मिल गया, पर नंबर लेकर क्या कर सकता था … मैं ये सोचने लगा. मैंने कहा- ठीक है, आज जब मर्ज़ी होगी तब मैं तुम्हें बीवी वाला प्यार दूंगा. मैंने देखा तो बुआ ने बच्चों के कमरे बाहर से बंद कर रखे थे और घर के मेन दरवाजे पर अन्दर से ताला लगा दिया था.

साथ ही एकदम पागलों की तरह भाभी के मुँह पर, गरदन पर, होंठ पर किस करने लगा.

उसके चिकने पैरों को किस करते हुए मैं ऊपर बढ़ता चला गया और उसकी जाँघों को किस करने लगा. इतने में ही मैं पीछे की ओर गया और उस लड़की की चूचियों को अपने हाथों में भर लिया. उसके नर्म से हाथ के द्वारा मेरे लंड को सहलाने से मैं बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गया था.

मैं बनावटी गुस्सा दिखाता रहा और उसको काम से निकल जाने के लिए कहता रहा. जब मैंने उससे ये पूछा, तो उसने बोला- अरे यार मैं घर पर बोर हो रही, तभी तो इधर आई हूं … और अब तुम भी जा रहे हो.

फिर मामी ने मेरे कान में धीरे से कहा- पहले अपने कपड़े उतार लो।मैं बाथरूम में गया और जल्दी से अपने कपड़े वहां पर टांग कर आ गया. ऐसे कहते हुए अमित जी मेरे कंधों पे पीछे से हाथ से सहलाने लगे।उनके स्पर्श से जैसे मेरे हाथों से पसीना आने लगा और गला भी सूखने लगा. एक तरफ प्रियंका भाभी की नयी चुत मिलने वाली थी इस बात की खुशी थी … और दूसरी तरफ चाची साथ नहीं आ रही थीं, उस बात का मुझे दुख भी था.

सेक्स की जानकारी वीडियो

मेरे घर में मेरे अलावा मेरी मम्मी है जिनका नाम सुधा सक्सेना है। इनका फिगर 34D-30-46 है।मम्मी की उम्र अभी 40 की है लेकिन अभी भी वो एकदम माल है.

जब तक आप मुझे अपनी मेल लिख कर बताएं कि आपको मेरी सेक्स कहानी कैसी लगी, तब तक मैं मुठ मारके आता हूँ. वाओ … मेरी बहन केवल कच्छी और ब्रा में क्या मस्त जबरदस्त चुड़क्कड़ माल लग रही थी. आइला- यह सब तुम कैसे कर सकते हो भाई … आप तो बड़े हो और हमारे भाई भी हो.

मेरी हाइट 5 फुट 9 इंच की है, लंड का साइज इतना है कि आज तक मैंने जिस भी औरत को चोदा है, किसी ने भी मेरे लंड को लेकर कभी शिकायत नहीं की. ये बोलते हुए मैंने भाभी को अपने करीब खींचा और उसके होंठों को किस करना शुरू कर दिया. सावित्री भाभी की चुदाईअब उसके मुंह से मजे की सिसकारियां निकल रही थीं- आह्ह … उफ्फ … अम्म … आह्ह … और करो … आह्ह … और जोर से … चोदते रहो.

मैंने वीडियो बनाना ही शुरू किया था कि पिताजी अपने लिंग को सहलाते हुए बोले- लोहा गर्म है … जल्दी से आ जाओ दोनों मेरी पटरानियों … इसका मजा ले लो. जब तक वो तुम्हें हासिल नहीं हो जाती तो रात दिन, उठते-बैठते बस वो ही खयालों में रहती है.

फूफा जी ने चिकने चूतड़ महसूस करते ही कहा- लगता है तुम्हें गांड मराने में मजा आने लगा है. कुछ देर बाद उसकी मम्मी चाय बना कर लायी और मैं चाय पीते हुए उनसे बातें करने लगा।उनसे मैंने पूछा- मम्मी जी, कैसी लगी आपको मेरी चुदाई?तो वो बोली- बहुत अच्छा लगा. मगर मेरे मन में एक सवाल बार बार आ रहा था कि मैं दीदी के साथ इतना सब कुछ करता हूं लेकिन उसको जरा भी पता नहीं चलता?क्या कोई सच में इतनी गहरी नींद में होता है?मुझे इस बता का पता करना था.

मैं सुबह करीब 4:30 पर उठ कर अपने घर आ गया और पूरा दिन प्रिया भाभी से फोन पर बातें करता रहा. फिर भाभी ने मुझे यह भी बताया- मेरे पति सेक्स में उतने अच्छे नहीं हैं. जैसा उत्साह आप सभी को भी अपने किसी दोस्त की शादी होने पर हुआ होगा वैसा ही मुझे भी था.

इससे वो गरम होने लगी उसके मुख से वासना भारी आवाज निकलने लगी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ और उसकी चुत से पानी आने लगा.

मैं जानता था कि मॉम ब्रा नहीं पहनती हैं, पर पैंटी पहनती हैं, ये मैंने आज जाना था. सोते सोते ज़ोहरा आपा को पेशाब की हाजत हुयी तो वो उठ कर टॉयलेट जाकर नींद में वहीं सोफे के ऊपर सो गई.

कभी एक बार फिर मुझे ही आकर खड़ा करना पड़े!!चाची अब हर बार डबल मीनिंग बात कर रही थी. मेरी माँ मना कर रही थी; माँ कह रही थी- मत करो ना … यार अब हम कुछ नहीं कर सकते, मेरे बेटा घर पर है। अब तुम जाओ, तुम कल आ जाना, तब हम दोनों पूरी मस्ती करेंगे. मैंने पैंटी के ऊपर किस करना शुरू किया, तो भाभी की सिसकारियां निकलने लगीं और वो मेरे बालों में हाथ फेरने लगी.

सवा नौ बज चुके थे, हम लोग कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे और राजी खुशी शादी हो गई. मैं बोला- सर जब मैं घर से निकला था … तब बारिश नहीं हो रही थी और जब आपके घर के पास आ गया, तो बारिश तेज होने लगी. पर अभी मैं रात में आपा की चूत की चुसाई कर रहा था तो इससे ज़ोहरा को इतना मजा मिल रहा था कि वो मजे से पागल हो रही थी.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला अबकी बार जगह बन गई थी तो पूरा का पूरा लंड सीधा अन्दर तक उतरता चला गया. कभी कभी लंड दिख जाते हैं मुझे वहां!फिर मैं बोला- ठीक है, मगर अब चूस तो सही इसे!उसने मुंह खोलकर मेरा लंड मुंह में ले लिया और चूसने लगी.

सनी लीओन की फिल्म

मुझे बहुत मज़ा आ रहा था।फिर मैं झड़ गया और बाजी रुक गई।वो मेरे ऊपर लेट गई।मैंने बाजी को चूमा और हम कपड़े पहनने लगे. ये बात सुनकर मैंने उसकी चूत से होंठ हटाये और तेजी से उसकी चूत में उंगली करने लगा. जैसे ही मैंने उसकी संगमरमर जैसी मुलायम जांघों को चूमना शुरू किया, उसने मेरे सर को पकड़कर अपनी चूत पर दबाना शुरू कर दिया.

मैंने आगे बताया- मैंने एक लड़के को अपना पति मान लिया है और उसके साथ मैं अपना पूरा पत्नी धर्म निभाती हूँ. वो बोली- राज नहीं।मैंने कहा- आज तुम मेरी बीवी हो और अपने पति को खुश करना तुम्हारा काम है।फिर मैंने उसकी गान्ड में तेल लगाया और उंगली घुसा दी. सील पैक चूतफिर मैं इधर उधर की बातें करने लगा कि आप कौन सी बिल्डिंग में रहती हो, कौन सा फ्लोर है … वगैरह वगैरह.

कल फिर से आपको उल्फ़त की चुदाई के साथ साथ अपनी सगी बहन की चुदाई की कहानी को भी लिखूंगा.

इस घटना के बाद भी मुझे अक्सर आभास होता रहता था कि मम्मी उन अंकल या किसी और मर्द से चुद रही हैं. मेरा पूरा लन्ड गले तक ले जा रही थी और अपनी जीभ से मेरे अखरोट सहला रही थी। मेरे टोपे के चारों तरफ अपनी जीभ को घुमा रही थी और टोपे को चूस रही थी।मैं चुपचाप खड़ा होकर मज़े ले रहा था और कोशिश कर रहा था कि मेरी आवाज ना निकले वर्ना कोई सुन लेगा।उसने पूरे लंड को लार में गीला कर दिया था और अब वो मेरे टट्टों को भी चूस चूसकर गीला करने में लगी थी.

फिर जब सत्यम ने हम दोनों को बारी बारी से चोदा, तो ममता और सुमेधा भी जाग गईं. मैंने अपना हाथ उसकी जांघ पर रख दिया।उसके शरीर में जैसे बिजली दौड़ रही थी। मैंने अपने हाथ को धीरे से चलाया और उसकी जांघों को सहलाने लगा। दूसरे हाथ से उसकी नाइटी के ऊपर से उसके बूब्स दबाने लगा और वो भी धीरे धीरे मेरे लौड़े को लोवर के ऊपर से ही दबाने लगी।फिर मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसके होंठों को चूमने लगा. मैंने भाभी के सर को लंड से अलग करने की कोशिश की मगर उन्होंने लंड नहीं छोड़ा और वो बदस्तूर लंड चूसती रहीं.

उनका यह रूप देख कर मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं और मैं चाबी के छेद से देखने लगा.

मैंने देखा वो आदमी अपने ऊपर वाली बर्थ से दीदी की मिड्ल बर्थ में दीदी से कुछ बोल रहा था. एक मिनट बाद भाभी बोलीं- अब मत तड़फाओ … चोद दो मुझे अपने लंड से … ठोको. तेरी दीदी तो मजे से अपनी गांड चुदवाती है।”उनको करने दो, मुझे माफ़ करो।”एक बार तो कर … अगर मजा नहीं आया तो नहीं करूंगा।”किसी तरह से जीजा ने साली की गांड चोदने के लिए मना ही लिया।उस वक्त जीजा का लंड बिल्कुल ढीला पड़ा था.

बुर्का चोदालंड अंदर जाते ही भाभी की चीख निकल गई और वह लेट गई जिससे मेरा लंड बाहर निकल गया. उस वक्त मुझे एक गीत के बोल याद आए- आज मैं ऊपर … आसमान नीचे, आज मैं आगे … ज़माना है पीछे.

बीएफ सेक्स वीडियो सेक्स

मैंने हंसते हुए कहा- चारू क्या बात है … संदीप ने रात को कुछ ज्यादा ही प्यार कर दिया जो अपनी निशानी तुम्हारे गले पर डाल दी।चारू शर्माते हुए बोली- हां अन्नु भैया … बाकी तो इनसे कुछ होता ही नहीं है, बस यहां वहां ऐसे निशान ही बनाते रहते हैं. मगर मैंने उसकी कमर को कस कर पकड़ा हुआ था और एक जोर का झटका देकर पूरा लन्ड उसकी गांड में डाल दिया।वो जोर से चीख उठी- भ. फिर भाभी ने मेरे लंड पर सिर्फ हाथ ही लगाया था कि मेरा लंड तो फिर से खड़ा हो गया और पत्थर की तरह एकदम कड़क हो गया.

रिंकी का दाखिला तो हो गया था लेकिन घर वाले रिंकी को अनजान शहर के कॉलेज के हॉस्टल में रखने में परेशान थे. मैंने बोला- ऐसा करो, तुम अपनी सहेलियों को बुला लो और उनसे बात कर लो. दोस्तो, कुछ समय बाद उसने मोहल्ले की ही एक बहुत गरीब परिवार की निहायत खूबसूरत लड़की को भी अपने जाल में फंसा लिया.

लेकिन ना तो मुझे उसका नाम मालूम था और नहीं मैंने उसको कभी देखा हुआ था. मुझे अच्छी तरह याद है कि मेरे जीवन में मेरे जन्मदिन पर एक ही बार किसी ने मुझे सरप्राइज दिया था. अगले ही पल एक जोर के झटके के साथ दोबारा उसकी बच्चेदानी से जा टकराया.

उसकी मोटी गांड और बड़े बड़े चूचे देख कर कोई भी उसको चोदने के लिए रेडी हो जाये. अब मैंने दोनों को नंगा देख लिया, तो सोचने लगा कि क्या करूं … कुछ बोलूंगा, तो दीदी भी बदनाम हो जाएंगी.

भाभी जी की चुत चुदाई कहानी में पढ़ें कि कैसे एक भाभी ने मुझसे सम्पर्क किया कि उसे माँ बनना है.

मैं एक सामाजिक कार्यकर्ता हूं। एक अधिकारी के माध्यम से मेरी पहचान बैंक की असिस्टेंट मैनेजर से हुई. ब्लू पिक्चर देखना है वीडियो मेंफिर एक बार मैं ट्यूशन खत्म कर के हमारे घर की तरफ जा रहा था तो वो भाभी रास्ते में मुझे मिल गयी और मुझे देख कर स्माइल करने लगी. सोनी पटेलफिर मैंने खुद अपने कमीज़ उतार दी और अपनी ब्रा भी।मैंने उसको अपने ऊपर खींचा और उसे अपने बूब्स चूसने का इशारा किया. उसने मुझे आगे वाली सीट पर घोड़ी बना लिया और मेरी चूत में लंड को रगड़ने लगा.

उसने अपना नम्बर एक छोटे से पत्थर पर लपेट कर मेरे घर की बालकनी में फेंक दिया.

शायद मान जाए!जीजा जी से हुई बातचीत के बाद से मेरा दिमाग स्थिर नहीं हो पा रहा था क्योंकि जिस अवनीत को मैं सीधी सादी लड़की समझता था, बहुत बड़ी खिलाड़ी निकली. अम्मी हंस कर बोली- ज़ोहरा, आज तुझे भूख नहीं है? चल उस तरफ अशफ़ाक के बगल में बैठ जा. अब तो मुझे चाची का इशारा मिल गया था और मैंने उनकी गांड को थाम लिया और अपनी लोअर में से ही उसकी गांड पर लंड को रगड़ने लगा.

मैं खाना खाकर हाथ धोने ही वाला था कि अम्मी ने मुझे कहा- आज शाम को तू एक बार फिर ज़ोहरा को मजार पर दुआ के लिए ले जाना. लंड को अंदर डालकर मैं मौसी के ऊपर लेट गया और उसकी चूत में धक्के लगाने लगा. पति पत्नी का अलग अलग कमरा देख कर मुझे कुछ अजीब लगा, पर मुझे क्या करना था.

साउथ बीएफ सेक्सी

उसके नर्म से हाथ के द्वारा मेरे लंड को सहलाने से मैं बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गया था. अब तो आलम ये ही गया था कि रोज रात को दोनों बुआएं बच्चों को सुला कर उनका कमरा बाहर से बंद करके मेरे कमरे में आ जाती थीं और हम चुदाई करते हुए मजा लेने लगते थे. क्या आप मेरे से मिलने के लिए तैयार हैं?वह पहले तो थोड़ा हिचकिचाई मगर बाद में वह मान गई.

बात आगे बढ़ाते हुए मैंने पूछा- उसने तुम्हारे साथ कुछ किया नहीं?वो बोली- नहीं साहब, वो साला तो नामर्द था.

मुझे याद है कि यह प्रस्ताव सुनकर मैं बहुत ही ज्यादा खुश और रोमांचित हो गया था.

मेरा ये कुर्ता छोटा था लेकिन उसमें गला काफी खुला हुआ था, जिस वजह से सामने से मेरे मम्मों की क्लीवेज काफी खुली दिख रही थी. अब मैंने उसके निप्पल को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया जिससे वो और ज्यादा मचलने लगी. फिगर सेक्सीमैंने उसे वापस अपने लौड़े पर बिठाया और किस करने लगा।दोनों बहनों की टाइट चूत इस बात की गवाह थी कि इनकी खातिरदारी किसी ने काफी वक्त से नहीं की है।मैंने मेघा की नंगी पीठ पकड़ी और फिर हल्के हल्के लण्ड अंदर करने लगा.

उसकी पीठ पर अपने दांत गड़ा कर उसे काटने लगा और उसकी गांड पर थप्पड़ जड़ दिया. उसी दिन वो रात में मेरे रूम में आ गई और मेरे लंड को मुँह में लेकर ब्लोजॉब देकर चली गयी. मैंने तुम्हें इतना डरा दिया, सॉरी तो मुझे बोलना चाहिए।मैं– कोई बात नहीं।शिल्पी– तुम अपना सामान रख लो.

मौसी ने मुझे छाती पर चूमा, मेरी चूचियों के निप्पलों को चूसा और फिर पेट पर चूमा. उसके सामने वाले सोफे पर मैं बैठ गयी और बगल वाले पर क्लास टीचर बैठ गया.

आज पहली बार मैंने उसको एक गुलाब का फूल दिया, जिसे देखकर वो बहुत खुश हो गयी और उसने मुझे कसकर गले लगा लिया.

जैसे ही दो लेक्चर्स के बाद मैं लाइब्रेरी के पास गया तो वहाँ पर मुझे कोई दिख नहीं रहा था. मैं उस बीच भी उसके शरीर को सहलाता हुआ उसके निप्पलों पर चुटकी काट रहा था. दस मिनट पेलने के बाद वो पूरी तेजी से कमर हिलाने लगे और ‘आह आह …’ करते हुए मेरी गांड में झड़ गए.

सेक्सी चोदा चोदी का वीडियो वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी- घर की मुर्गी दाल बराबर!अपनी घरवाली कितनी ही सेक्सी हो परन्तु सामने वाली ज्यादा सेक्सी लगती है।पता नहीं इन्सानी फितरत का … एक चूत कई बार मार लो तो धीरे धीरे उसका रस फीका लगने लगता है. बीच बीच में मेरे हाथ मौसी की चूत की ओर भी बढ़ जाते थे लेकिन चूत गहराई में थी इसलिए चूत को छूना संभव नहीं हो पा रहा था.

भाभी का खिला चेहरा देख कर मुझे उसमें बीमारी वाली कोई बात नहीं दिखी. फिर पिता जी ने अखिर में उन दोनों के वक्ष स्थलों के ऊपर अपने वीर्य का छिड़काव कर दिया. मैंने उन्हें घोड़ी बनने को कहा, तो वह तुरंत दो हाथ और दो घुटनों के बल घोड़ी बन गईं.

वीडियो फिल्म ब्लू सेक्सी

उसकी चीख निकल पड़ी- आहह आहह ऊईई आहह ऊईई ऊईई सीईई आहह!वो बोली- राज, मैं मर जाऊंगी निकाल बाहर!मैंने उसकी एक न सुनी और झटके पे झटके लगाने लगा. इशा- और जो मेरी चूत फाड़ कर रख दी है, उसका मैं विशाल को क्या जवाब दूंगी?राजीव- कुछ नहीं होगा यार. मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूं और बहुत दिनों से चाहता था कि मैं भी अपनी सेक्स कहानी आप सब लोगों के साथ साझा करूं.

उस दिन मैंने भाभी पर ध्यान दिया, तो मुझे वो बहुत ही मस्त माल लग रही थीं. मेरी उम्र 29 वर्ष और मैं मध्य प्रदेश के इंदौर का रहने वाला हूं। मेरी हाइट 5’5″ है और लन्ड का साइज 6.

मैंने उससे पूछा- क्या हुआ?वो ज्यादा कुछ नहीं बोली तो मैं समझ गया कि ये घर से दूर रहने आई है इसलिए दुखी है.

मुझे ऐसा लग रहा था मानो मैं जिसे सपनों में चोदता था, आज उसे हकीकत में चोदूंगा. अब मेरा लौड़ा सटासट सटासट अंदर बाहर करने लगा।20 मिनट बाद मैंने उसे बिस्तर पर सीधा लिटा दिया और उसकी चूत के अंदर लंड घुसा दिया और गपागप गपागप चोदने लगा।अब चूत लंड का जवाब देने लगी थी और आहह आहह ऊईई ऊईई करके वो अपनी क़मर चलाने लगी थी।उसकी आवाज तेज हो गई और उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया. फिर मैं अपने लंड को उसकी गांड पर चलाने लगा, जिससे वह उत्तेजित हो गई और अन्दर डालने के लिए कहने लगी.

कुछ देर मैएँ उसके होंठों को चूसा, फिर उसका ब्लाउज खोल कर उसकी चूचियां चूसी. फिर हमने थोड़ी देर बातें की।उसके बाद हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसना शुरू किया. मगर न वो कभी मुझसे कह पायी … और न मैंने कभी उससे अपने प्यार का इजहार किया.

उनके जाते ही मैंने उल्फ़त को पकड़ कर बेड पर लिटाया उसकी चूत में लंड डालकर चुदाई करने लगा.

हिंदी में सेक्सी बीएफ चलने वाला: फ़िर मैंने माही की गांड भी मारी,गांड मारने की कहानीमैं अगली बार लिखूँगा. उसने मेरे बालों में हाथ डाल लिये और मैंने उसकी चूत चाटनी शुरू कर दी.

इस पर टीना ने कहा- अच्छा जी!मैंने कहा- जी … हम तो पहले भी आपको बोल चुके हैं, अगर आप हां करें तो!उसने कहा- जॉगिंग के समय मिलना … फिर बताती हूँ. आपको ट्रक ड्राईवर कीबीवी की चुदाईकी मेरी यह सेक्स कहानी कैसी लगी? आप मेरे को मेल करके बताना. उसकी चूत के पानी से चिकना होकर मेरा लंड पकापक उसकी चूत में जाने लगा और मैं दोगुने जोश से उसको चोदने लगा.

लड़की के मुंह से तेज तेज आवाजें निकल रही थीं- आह्ह … ओह्ह … और तेज … आई … याह … चोदो, मेरी चूत को फाड़ दो तुम… जल्दी।अब मैंने उसकी चूत को चोदने की स्पीड को बढ़ा दिया था.

मेरी भतीजी की कुंवारी चूत की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी? आप मुझे ईमेल कर सकते हैं. उसकी बुर इतनी टाइट थी कि मेरे लण्ड में भी काफी दर्द हो रहा था, शायद छिल गया था. फिर खाना खाने के बाद भाभी मुझसे बोलने लगीं- मैं तुम्हें एक जादू दिखाऊं क्या?मैंने बोला- अब क्या दिखाना चाहती हो?वह मेरे पास आईं और मेरा लंड जोर से खींच कर ऊपर नीचे हिलाने लगीं.