बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ

छवि स्रोत,मराठी शख्स

तस्वीर का शीर्षक ,

एसएस सेक्स: बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ, मैंने फुसफुसाते हुए कहा- 40 मिनट है स्टेशन के लिए, तीनों का नहीं निकाल सकती.

महिला कंडोम जानकारी

वो दर्द के मारे कराहने लगी- आह ऐसे मत तड़पा … आज इस आग से मुझे बचा ले … मुझ पर रहम कर. जापानी तेल के फायदे और लगाने का तरीकामेरी नजर बार बार बहू के होंठों पर जा रही थी जो बिल्कुल लाल लिपस्टिक से भरे हुए थे.

”सुबह उठकर आज रात की रेकार्डिंग मैंने सेव कर ली और सारिका के सामने पिछली रात की रेकार्डिंग डिलीट कर दी. हिंदुस्तान की ब्लू फिल्मकरोना की चूत की सील को बिल्कुल सलामत पाकर चिन्ना ख़ुशी से झूम उठा और उसका लण्ड ख़ुशी से इतरा कर ठुमकने लगा.

कुछ दिन बाद तो अंकित पहले जैसे क्लास में काफी देर आने लगा और देर तक रुकने की कोशिश करने लगा.बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ: अपना लण्ड आधा बाहर निकालकर जोर से अन्दर ठोंकते हुए मम्मी की दोनों चूचियां अपनी मुठ्ठियों में दबोचते हुए मैंने कहा- रेनू डार्लिंग, मेरी जान, मेरी गुलो गुलजार मैं तुम्हें जमकर चोदूंगा, मेरा लण्ड जब अपनी रफ्तार पकड़ेगा तो तुम्हारी नाभि के भी परखच्चे उड़ा देगा.

कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपको अपने बॉयफ्रेंड के बारे में बता दूँ, मेरे बॉयफ्रेंड का नाम सागर है, मैं उसे सैम बुलाती हूँ.अब नताशा मुझे जोश की वजह से मेरी पीठ को अपने नाखूनों से नोंच रही थी और मेरे बाल खींच रही थी.

बूब्स का फोटो - बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ

कार में भी बॅक सीट पर कभी उसके दूध छूता, कभी उसकी कमर पर हाथ रखता … पर प्रीति ने कोई विरोध नहीं कियाअब हम खाना बाहर खा कर घर पहुंचे, तो बात सोने की आई.फिर मैं उसके चौतीस बी के बड़े गोलाकार चूचों को दबाने लगा और उनका रसपान करने लगा.

मैं 23 साल की हूँ, मेरे पति मुकेश 25 साल के हैं, मेरी सास नीता 44 साल और मेरे ससुर हरीश 46 साल के हैं. बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ सम्भोग में जब नर और मादा दोनों बराबर सहयोग करें तो जो आनन्द दोनों को मिलता है, उसका कोई सानी नहीं.

तूने आज इसे तर कर दिया।अभी तर कहां हुआ भाभी … अभी तो आधा ही भरा है। एक बार और चुदाई करूंगा आपकी.

बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ?

इतनी देर तक मां मेरे पापा के लंड को चूसती रही लेकिन उनका लंड वैसा का वैसा रहा. मैंने धीरे धीरे हाथ को उसके पैरों के बीच में घुमाना चालू कर दिया और उसकी चूत पर चड्डी के ऊपर से सहलाना चालू कर दिया. एक दिन मामी अपने बेटे को दूध पिला रही थी, मैं उनकी चूची देख रहा था.

उसे समझ ही नहीं आ रहा था कि यह उसे क्या हो गया है, ये कैसी खुमारी चढ़ गई है।करोना चुपचाप लेट कर अपने आप को शांत करते हुए सोने का प्रयास करने लगी।अभी करोना को नींद आने ही वाली थी कि बस फिर हिलने लगी. दस मिनट की चुदाई में भाभी झड़ गईं थी और कुछ देर बाद मैं भी झड़ने को हो गया. जब मैं घाघरा नीचे सरकाने लगी, तो वो नीचे नहीं सरक रहा था … शायद नाड़ा टाइट था.

जैसे ही वो पलटी, मुझे उसकी गांड देख कर मेरा लंड शॉर्ट्स के अन्दर से ही झटके मारने लगा. उसके बाद कोमल ने मुझे अपने ऊपर से हटाया और अपनी मैक्सी लेकर बाथरूम की ओर गयी. उसने उंगली के इशारे से मुझे अपनी तरफ बुलाया और बेड पर बिठा कर कहा- कोई बात नहीं आर्यन … डरो मत मैं सब सिखा दूंगी.

उसका रंग एकदम दूध सा गोरा था, छोटी छोटी आंखें, आंखों में काजल, माथे पर छोटी सी बिंदी, होंठों पर लाल लिपस्टिक. मेरे धक्के तेज होते गए और पूरे 20 मिनट बाद मेरा पानी निकल गया और मैं रानी के ऊपर गिर गया.

पर जब बाकि लोगो से पूछा तो एक ने भी हाँ नहीं की क्योंकि सबको ही पढ़ना था.

जब मेरा वीर्य निकलने हो गया तो मैंने पूरा लंड अंदर घुसाते हुए अपना वीर्य छोड़ दिया.

मैंने पहली बार उसे दूध देखे थे … तो मुझ पर कण्ट्रोल नहीं हो रहा था. अभी तो सिर्फ शुरूआत है दोस्तो … आप सोच भी नहीं सकते कि आगे की सेक्स स्टोरी में क्या क्या हुआ. लेकिन मैंने उसकी एक न सुनी और उसको टेबल पर फिर से झुका कर थोड़ा और जोर लगा अपना एक इंच लंड और अन्दर डाल दिया.

कविता भी मेरी ओर ध्यान से देखा करती थी लेकिन वो जाहिर नहीं कर रही थी. बेटा अपने दोस्तों के साथ और बहू अपनी कुछ फ्रेंड्स के साथ बिजी हो गयी. मैंने भी उनको रोका नहीं क्योंकि जब चूत में ससुर का लंड ले चुकी थी तो गांड में भी ले लिया.

अगर किसी लेडी की गांड सेक्सी और बड़ी हो तो वो मुझसे सेक्स में कुछ भी करवा सकती है.

लेकिन वास्तव में वह एक पक्का औरतखोर है।अपने शोध के दौरान उसे पता चला कि उसके निर्वाचन क्षेत्र के सामान्य लोग उससे बहुत खुश हैं और कोई भी उसके खिलाफ नहीं बोलता है।अपनी कहानी जारी रखने से पहले मैं अपनी कहानी मुख्य पात्रों करोना और चिन्ना खान का परिचय करना चाहता हूं।करोना एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी की इकलौती बेटी है. दो मिनट हम ऐसे ही एक दूसरे के ऊपर पड़े रहे, एक दूसरे को किस करते, चूमते चाटते रहे. मेरा दोस्त जिसका नाम पार्थिव है, वो एक होटल में मैनेजर है तथा मेरे मकान से करीब आधे किलोमीटर की दूरी पर ही किराये के मकान में रहता है.

मुझे यकीन ही नहीं हो रहा था कि मेरी दीदी इस समय मेरे लंड को चूस रही हैं. और जैसे ही मैं उसकी चूत चाटने के लिए आगे बड़ा तो उसने मुझे रोक दिया।मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो बोली- मुझे ये सब पसंद नहीं; तुम बस चोद दो मुझे!मैंने भी देर ना की और अपना लंड उसकी चूत पर रख के रगड़ने लगा. मैं बहुत कामुक अवस्था में हो गई थी मेरा पिछवाड़ा बहुत उभर के निकल आया था फिर इस अवस्था में उसने मुझे काफी देर तक सहलाया.

इसी बीच मैंने उससे बातों ही बातों में पूछ भी लिया कि वो तुम्हें खुश भी नहीं कर पाता होगा?उसने बोला- अब क्या बताऊं आपको … आप तो सब जानते ही हैं.

यही सोच कर मैंने नसरीन की दोनों टांगों को पकड़ कर उसके पेट से सटा दिया. बहू अपने रूम में चली गयी और रानी मुझे किस करने लगी और मेरा लंड लोअर के ऊपर से ही दबा दिया जो थोड़ा हार्ड हो चुका था.

बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ मैं सीधे उसके ऊपर टूट पड़ा और अपनी बॉडी को उसकी बॉडी के ऊपर रगड़ने लगा. होटल पहुंचे तो देखा बड़ा आलीशान होटल था, खाना खाकर हम लोग अपने अपने कमरों में चले गये.

बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ हम दोनों के बीच में शादी के 6 महीने के बाद ही मन-मुटाव होना शुरू हो गया था लेकिन घर की इज्जत की वजह से मैंने शादी को खींचे रखा. उससे मेरी बातें इतनी घनिष्ठता से हो रही थीं, मानो हम दोनों न जाने कब से एक दूसरे से परिचित हों.

उसकी मक्खन सी चूचिया ऐसी लग रही थीं, जैसे किसी छोटे से गुब्बारे में हवा और पानी भरा हो.

नवीन सेक्सी बीपी मराठी

जब मैंने तेरे लंड को लोअर में तना हुआ देखा तो तब मुझे भी चुदने का मन किया और मैंने आगे कदम बढ़ाया. कामवाली मेरे लंड को कुल्फी के जैसे मस्ती में चूसने लगी और अम्मी ने उसके कपड़े उतार कर उसको नंगी करना शुरू कर दिया. मम्मी से नजर मिलाने की हिम्मत नहीं हो रही थी और मम्मी भी नजरें चुरा रही थी.

और कहा कि चूंकि उनका निर्वाचन क्षेत्र बहुत पिछड़ा हुआ है और दौरे के दौरान रहने के लिए कोई रेस्टहाउस या होटल नहीं हैं, इसलिए यह व्यवस्था की गई है. वह मुझसे पूछने लगा कि आप कहां जा रहे हो?मैंने उसे बताया कि मैं अपने मामा के यहां दिल्ली जा रहा हूं. दो घंटे बाद वापस आते समय मैंने अनवांटेड 72 की एक टॅबलेट खरीद ली और एक पैकेट कंडोम भी ले लिया.

यहां तक कि मसाज का अनुभव भी काफी सुखद और बिना किसी झिझक या असुविधा के पूरा हो सकेगा.

शाम की ट्रेन थी, तो मैंने उसे दर्द खत्म करने की और गर्भनिरोधक दवा लाकर दी. मैंने कहा- आवाज भी नहीं आयी गेट खुलने की?बहू बोली- आप आपने रूम में थे इसीलिए नहीं आयी होगी. उस समय वो 43 वर्ष की थी।थोड़ी मोटी होने की वजह से मॉम जीन्स टॉप में बहुत हॉट लगती थी.

लेकिन मैं भी जवान लड़का … भाभी को दीवार में रगड़ रगड़ के चूसा मैंने. भैया भाभी कहीं जाते तो मैं व आंटी ही घर पर होते थे जिस कारण हम लोग आपस में काफी खुल गये थे. मैं बहुत खुश हुआ और कल्पना से कहा- लेकिन ऐसा कैसे?कल्पना ने कहा- मैं जिस चॉल में रहती हूँ, वहां मेरे पड़ोस में मेरी एक सहेली है.

मैं वहीं कमरे में बैठा हुआ सोचने लगा कि आकांक्षा को यहां लाऊं या ना लाऊं. मैं कोलकाता का रहने वाला हूं पर अभी मैं दिल्ली में हूं और मैं किसी बैंक का कर्मचारी हूं.

कमर से ऊपर तनी हुई चूचियों का नाप 36 इंच है और बीच की बलखाती हुई कमर 32 इंच की है. मैं बोली- अच्छा कितना डिस्काउंट दोगे मुझे?अब उसका हाथ मेरे टॉप के अन्दर बूब्स तक पहुँच गया और मेरे निप्प्लेस को अपनी दो उंगली से दबाने लगा. आज इस रियल घटना को एक दिलचस्प सेक्स कहानी का रूप देकर मैं अन्तर्वासना के अपने साथी पाठकों को भेज कर रहा हूँ.

पर इसके आगे बढ़ने का मौका हमें नहीं मिलता था।रात में फोन पर कई कई घण्टे बातें किया करते थे.

बस फिर क्या था, मैंने चाची को अपनी बांहों में ले लिया और उन्होंने भी मुझे कस लिया अपने आगोश में, हम दोनों एक दूसरे से लिपटने लगे और एक दूसरे के होंठों को चूसने लगे. उसने मुझे सोफे पर बिठाया और खुद अपनी चूत को लंड पर सैट करके सोफे को पकड़ कर बैठ गई और ऊपर नीचे होने लगी. बहू एक ब्रा में खड़ी थी मगर उसके पूरे बूब्स बाहर थे और बूब्स की गोलाई पर स्ट्रेप थे.

इतना ही नहीं, तुम मेरी सौतेली नानी को चोदोगे तो मुझे और ज्यादा मजा आयेगा. फिर मैंने कहीं से वशीकरण के बारे में पढ़ा कि इससे हम अपना प्यार पा सकते हैं। इसके लिए मैंने एक ऑनलाइन बाबा जी की मदद ली लेकिन उनको देने के लिए मेरे पास पैसे नहीं थे.

मेरी चुदाई कहानी में आपको मजा आया या नहीं? मुझे आपकी मेल का इंतजार रहेगा।करन[emailprotected]. और वो मेरे ऊपर आ गई, ऊपर बैठकर लंड अपनी चूत के अंदर लेकर उस पर कूदने लगी, उचक उचक के लंड लेने लगी. तो दोस्तो, आपको हमारी सेक्स कहानी कैसी लगी? कृपया आप हमें जरूर बताएं.

इस फिल्म सेक्सी

उनकी बड़ी बड़ी आंखें … आह … उस खूबसूरत जवानी को याद करके ही लंड हिलाने का मन करने लगता था.

मेरे शौहर को जरा भी अफसोस नहीं था अपने कारस्तानियों पर!जैसे तैसे कार्यक्रम निपटा और हमने वापसी का प्रोग्राम बनाया. मैंने कहा- मामी आपके दूध इतने बड़े कैसे हो गये?वो बोली- मुझे भी नहीं पता. वो बोली- हां भइया बोलिए … इतनी सुबह सुबह … कैसे आना हुआ!उसकी आवाज़ से जैसे मैं जागा, मैं बोला- पार्थिव है घर पर!वो बोली- हां यही हैं, वो सो रहे हैं.

मैं तो उसमें इतना खो गया कि पूरा रस पी गया और मेरा पूरा चेहरा भी गीला हो गया. पहले तो उसने मुझे इधर उधर की बातों में उलझा कर रखा पर कुछ देर बाद उसने हाँ कह दिया।उस दिन के बाद से हमारी प्रेम कहानी परवान चढ़ने लगी. bf वीडियो youtubeइधर मैंने बर्फ और शहद दोनों को अपने हाथ में एक साथ लेकर उसकी चूत पर मल दिया.

मैंने उनके रस को चाटा, तो मजा आ गया … वाह क्या नमकीन पानी था … मैं सारा का सारा चुतरस पी गया. मेरे ये कहने पर पता नहीं क्यों, इस बार वो थोड़ा सा शर्मा गयी और उसने हाथ पीछे कर लिया.

मैं बर्दाश्त ही नहीं कर पा रहा था, इसलिए मैंने अपना एक हाथ पीछे रखा और दूसरे हाथ से दीदी के बाल पकड़ लिए. कुछ माल भाभी के होंठों पर गिरा, कुछ चेहरे पर! और वे सारा वीर्य इधर उधर से साफ कर कर पी गई. करोना- अंकल नहीं हींहीं ईईई …चिन्ना कसी हुई चूत का मजा लेते हुए- आह … मजा आ गया आज तो।और इस प्रकार चिन्ना के लण्ड ने करोना को लड़की से औरत बना दिया.

उसने अपनी साड़ी पेटीकोट उतार दी और अपनी पेंटी उतार कर मेरे मुँह में ठूंस दी. अजय ने देखा कि उसकी बीवी गैर मर्द के लंड की चुसाई इतनी मस्ती में कर रही है तो वो भी मेरे करीब आकर खड़ा हो गया. मैंने सिम्मी के होंठों को जोर जोर से चूसना शुरू किया, साथ ही उनके स्तन जोर से दबा रहा था।मैंने गौर किया कि सिम्मी ने इस समय ब्रा नहीं पहनी थी.

वो रविवार का दिन था नसरीन आंगन में लगे पानी के नल पर पूरी तरह निवस्त्र होकर नहा रही थी.

आकांक्षा अभी सिसक रही थी और कराहते हुए कह रही थी- आआईई ईईईई उफ़्फ़ अह हहह … उई मां मर गयी … प्लीज कुणाल तुम्हें मेरी कसम … इसे निकाल लो प्लीज. कविता भी मेरी ओर ध्यान से देखा करती थी लेकिन वो जाहिर नहीं कर रही थी.

फिर मैंने उससे अपना लंड मुँह में लेने को कहा, तो वो राज़ी नहीं हुई. भाभी भी शायद मूड में थीं तो वो भी बिंदास अपनी चूचियों को दिखा कर मजा ले रही थीं. डिस्चार्ज के समय जब लण्ड का सुपारा फूलकर मोटा हो गया और बहुत फंसकर अन्दर बाहर हो रहा था तो हनी को एक बार फिर से कष्ट हुआ और बोली- बस करो फूफा जी, अब बस करो.

फिर मैं उसकी गर्दन पर किस करते हुए नीचे आया और उसकी एक चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा. एक दिन मैंने सभी छात्रों के सामने उससे अपने पेरेंट्स के साथ आने को बोला. मालिश के लिए मालिश वाला आया है, आप अपने बैडरूम में जाकर अच्छे से मालिश करवा कर तरोताज़ा हो जाएँ.

बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ नहा कर मैंने घर के सारे खिड़की दरवाजे चेक किये कि सब अच्छी तरह से बंद हैं. उसकी कड़क चूची और उन पर तने हुए निप्पल देख कर मेरे लंड में झटके लग रहे थे.

कॉलेज ट्रिपल एक्स सेक्सी व्हिडीओ

मैं उसको पकड़ने चला, तो बोली- अभी नहीं … मुझको खाना बनाना है … और मुझे भी नहाना है. अपने बाएं हाथ की चुटकी से करोना की बायीं चूची के निप्पल को हल्के-हल्के मसलने लगा. मैंने उससे पूछा- शिप्रा मज़ा आ रहा है ना!उसने कहा- भाई काफी दिन से कोई बॉयफ्रेंड नहीं था … इसलिए मजबूरी में तुमसे करवाने को तैयार हुई, पर तुमने पूरा मज़ा दे दिया या.

वो बड़ी नाराज हुई। लेकिन मैंने उसको मना लिया और अगले संडे के दिन आने का वायदा किया।फिर आखिरकार वो दिन आ ही गया. ” मेरी वाली ने कहा।काफी देर तक इधर उधर की बातें करने के बाद मेरे वाली भाभी ने कहा- आपको तो तैरना आता है, मुझे भी सिखा दीजिये। वरना हम ऐसे ही किनारे पर डर डर कर नहाते रहेंगे।भाभी के मुँह से ऐसी बातें सुनकर मैं तुरंत बोला- इसमें क्या है, मैं आपको अभी सिखा देता हूँ।ऐसा बोलकर मैं तुरंत भाभी के पास गया और उनको बताने लगा. चुदाई का ऑडियोउधर लण्ड पर कुंवारी चूत के लगातार रगड़ों की वजह से करोना के छक्के छूटने लगे थे और उसकी साँसें भारी हो चली थी और वो झड़ने के करीब आती जा रही थी.

मेरा 6 इंच का लंड चूसते हुए चाची मजा ले रही थी और दस मिनट के अंदर फिर मैं भी चाची के मुंह में ही झड़ गया.

मुझसे अश्लील भाषा में बात करो, मुझे चोदो, मेरी चूत की धज्जियां उड़ा दो, मेरी चूचियां नोचो, काटो. मेरे पूछने पर अंजू ने बताया कि उसके सास, ससुर व पति बहुत अच्छे हैं.

तभी मेरी फ्रेंड का कॉल आया कि तुम्हारी फिटिंग का यहां घर में सूट था, तो तुझे भिजवा दिया है. मोहन ने कहा- साले इनको अच्छी तरह रगड़ और दबा … इसके मुँह से दर्द की आवाज तो आनी चाहिए. एक दो मिनट तक मैंने आंटी की चूत में लंड को अंदर बाहर किया और आंटी ने मेरा साथ दिया.

पांच मिनट तक ऐसे ही धक्के लगाने के बाद मैंने उसकी गांड को तेजी के साथ चोदना शुरू किया.

जब करीब आधा घंटा बीत चुका था और बस अभी तक नहीं मिली थी मुझे और कॉलेज के सभी छात्र भी जा चुके थे. चेकअप के दूसरे दिन जब सब लोग खाना खा रहे थे, तब मम्मी ने कहा कि जोधपुर में उनकी एक सहेली है, जिसके लड़के की शादी है, उसमें उन्हें जाना है तो वो आज ही निकल रही हैं. दीदी का कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं था … यह तो मुझे पता था, लेकिन दीदी ऐसा भी कर सकती हैं … यह मैंने कभी सोचा नहीं था.

लड़की चुदवातीअब मुझे भी ये सब अच्छा लगने लगा था, तो मैंने भी कह दिया कि तेरा ही तो है … पकड़ ले. उसके बाद हम दोनों ने कैसे चुदाई का मजा लिया?मेरी सेक्स कहानी के पहले भागक्लब में मिली प्यासी भाभी की चुत चुदाई-1में अब तक आपने जाना कि जो भाभी मुझे क्लब में मिली थी, वो मुझसे चुदवाने के लिए मुझे अपने बंगले पर ले आई थी.

चोदा चोदी सेक्सी वीडियो चोदा

मुझे सिरहन सी हो रही थी और मेरा शरीर कांप रहा था … क्योंकि मेरे पापा मुझे पहली बार हाथ लगाने वाले थे. ये मुझे ऐसे मालूम हुआ था कि वो जब भी किसी काम के लिए झुक कर उठती थीं, तब उनकी नाइटी पीछे से उनकी गांड की दरार में घुस जाती थी. ” मैंने उसकी चूत को सहलाते हुए कहा।वो मेरी और देख कर मुस्कुराने लगी.

मैंने अपना हाथ सूट के ऊपर से ही उनकी चूत पर रखा, तो वो ओर नीचे हो गईं. और इस बार भगवान की या फौजी साहब की कृपा से तकरीबन 9 महीने बाद सेजल को एक लड़का हुआ जिसका नाम उन्होंने कपिल रख दिया. आनन्द का उन्माद इतने चरम पर था कि पता ही नहीं चला कि कब मैंने उनका टॉप उतार दिया और सिम्मी की पिंक ब्रा के ऊपर से उनके स्तन दबाने लगा।सिम्मी के स्तन एकदम कड़े हो गए थे, ऐसा महसूस हो रहा था कि स्तन नहीं बल्कि कोई टेनिस की गेंद को दबा रहा हूँ। मैं उसके गले पर किस करते हुए उसके पीछे चला गया और उसकी ब्रा की स्ट्रिप पर किस करने लगा.

सुबह के चार कब बज गए, मुझे और सिम्मी को इस बात का पता ना चला।अब तो रोज का यही काम हो गया, रोज रात को घंटों फोन पर बात!सिम्मी थी तो वैसे काफी मासूम पर वो काफी नटखट और बच्चों की तरह काफी शरारती, जिद्दी थी. इसके बाद कपड़े पहनने के लिए अपनी ब्रा पैंटी उठाई, तो उसने कहा- अपनी ब्रा और कच्छी मुझको दे दे और भाग जा. वह बहुत गर्म हो चुकी थी और जोर जोर से सिसकारियां ले रही थी। वह मेरे बालों पर हाथ भी फेर रही थी और साथ में मेरे होंठों को चूस रही थी.

उसके चाय लेकर आने पर मैंने तौलिया इस तरह से सैट किया कि मेरा लंड थोड़ा दिखता रहे. मैंने उसकी दोनों चूचियां चूस कर लाल कर दी थीं। फिर मेरा भी पानी निकलने के करीब हो गया था.

इसके लिए मैंने आंटी को चेक करने के लिए आंटी को अपना लण्ड खड़ा करके दिखा कर गर्म करने का प्लान बनाया.

मैंने अपनी जुबान को सीधा उसकी गांड के छेद पर लगा कर उसकी गांड को चाटने लगा. हस्तमैथुन करना चाहिए या नहींमेरा तो मन कर रहा था कि बस यह रात खत्म ही ना हो … और मैं बस उसकी चूत को यूं ही चूसता रहूँ. सनी लियोन हॉट वीडियोदो मिनट तक वैसे ही लेटने के बाद मेरा लंड अपने आप ही उसकी चूत से बाहर आ गया. लेकिन शायद उन औरतों को तैरना नहीं आता था इसलिए वे किनारे ही नहा रही थीं।उस दिन तब तक हम उन औरतों को दिखा दिखा कर नहाते रहे जब तक की वो नहाकर चली नहीं गयीं।अब तो यह रोज का काम हो गया था हम लोग रोज निर्धारित समय पर नहाने जाते और वो भी उधर से नहाने आती.

माया एक एक बूंद को चूस चूस के पी गई, लेकिन इसके बावजूद वो मेरे लौड़े को चूसती रही.

पर चिन्ना अभी ये नहीं चाहता था क्योंकि उसे अभी अपनी करोना बेटी को और गर्म कर के तड़फाना था. ये कहते हुए मैंने अपनी बहन की बुर को चूम लिया और एक गहरी पप्पी एकदम बीचों बीच, दाने के पास जीभ से छू लिया. अब मैं सीधा लेट गया। अब लड़की की बारी थी वह मेरे ऊपर आ गई और मुझे किस करने लगी.

रचना से मैंने पूछा- फिर कब दोगी?वह बोली- अभी जरा रुको,!रचना अभी कपड़े पहनने गई थी. वह भी पूरे जोश में मुझे चूम रही थी। कभी कभी वह अपनी जीभ से मेरी जीभ चूस रही थी। मैं उसकी लार को अपने मुंह में खींच रहा था और वह भी ऐसा ही कर रही थी. निशा ने मेरी और वासना भरी निगाहों से ऐसे देखा, जैसे कह रही हो कि अब मेरी बारी उसकी चुत को ही चूसने की थी.

देहाती बफ सेक्सी हिंदी

मैं उनकी चूत चाट रहा था और वह मेरा लंड! हम दोनों ही जैसे वर्षों के प्यासे एक दूसरे को खा जाना चाहते थे. ब्रा के ऊपर से उसकी चुचियों का उभार काफी मस्त लग रहा था।मैं इंतजार नहीं कर सकता था तो ऊपर से ही उसके बूब्स को दबाने लगा।मैंने अपना हाथ उसके अंदर डाल दिया. पर मैंने उसे कस कर पकड़ा था और वैसे ही आज बहुत दिनों बाद ये कुंवारी चूत लंड के नीचे आयी थी तो इतनी जल्दी मैं उसे अपनी से कैसे अलग कर सकता था।मैंने थोड़ी देर उसके ऊपर वैसे ही अपने आप को रहने दिया थोड़ी देर उसके होंठों को चूसा उसकी चूचियों को मसलने लगा।वह धीरे से बोली- बाबू, प्लीज बहुत दर्द हो रहा है.

मैं कुछ देर सोच कर बोली- ठीक है पापा, अभी लगा दो बहुत दर्द हो रहा है.

मेरे इतना कहते ही वो और ज्यादा इमोशनल हो गयी और मेरे सीने से लग गई.

मगर मेरा लंड देखने में थोड़ा लम्बा था और दोनों के ही लंड की मोटाई लगभग एक जैसी ही थी. उसकी बात सुन कर मीनू ने वहां रुकने के लिए कहा।पहले तो मैंने मना किया, फिर उसकी जिद के आगे मुझे झुकना पड़ा और हम वहीं रुकने के लिए तैयार हो गए।जब मैंने उस लेडी से किसी होटल के बारे में पूछा तो उसने कहा- यहाँ कोई होटल नहीं है, आप को किसी के घर पर रुकना पड़ेगा. सेक्स सेक्सी ब्लू पिक्चरजैसे ही स्टेशन आया टी टी ने दरवाजा खोल कर मुझे उतार दिया और हाथ हिला कर मुझसे विदा ली.

उसने कहा- यार आईसक्रीम इतनी ठंडी है कि मेरी चूत में अब और भी ज्यादा खुजली हो रही है. मैंने तेल लगे लंड को चुत की दरार पर सैट करके नसरीन की पतली कमर को दोनों तरफ से पकड़ लिया. दोस्तो मैं अजय, आपके सामने अपने जीवन की एक सच्ची घटना लेकर आया हूं.

उन्होंने मुझे अपनी कहानी बताई कि वो ज़िन्दगी में बहुत अकेलापन महसूस कर रही हैं. इसी वजह से इस क्षेत्र में पुरुष कलाकार अधिक देखने को मिल जाते हैं, बजाय कि महिला कलाकारों के.

तब भी एक ख़ास बात ये थी कि रोते रोते भी अपनी बहन को देखकर मेरा लंड टाइट हो रहा था.

अपनी मां की मोटी चूचियों और उनके नंगे बदन के बारे में सोच कर लंड को रगड़ता था और फिर वीर्य छोड़ कर सुकून मिलता था. चिन्ना ने धीरे-धीरे आगे बढ़ाते हुए अपना मोटा लण्ड जड़ तक करोना की नाजुक सी चूत में बैठा दिया. मीनू ने मुझे कहा- मैं आपके बच्चे की माँ बनना चाहती हूँ शादी के बाद![emailprotected].

प्रेग्नेंट की चुदाई वो ये सुनकर डर गई और बोली- नहीं भाई … गांड नहीं मारना … बहुत दर्द होता है. विश्व स्वास्थ्य संगठन की साईटपर इस बारे में आप और जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

जैसे ही उसने हां कहा तो मैंने उसकी चूत में जीभ से चाटना शुरू कर दिया. वो पहले तो मना करने लगी क्योंकि घर पर चाचा की देखभाल के लिए कोई भी नहीं था. हम दोनों हजरतगंज में मिले और फिर वहां से सीधे केसरबाग रूबी के रूम पर आ गए.

इंडियन सेक्सी व्हिडिओxxx

उसके बाद उसने एक एक करके मेरी शर्ट के सारे ही बटन खोल दिये और मेरी पैंट तक मुझे नंगा कर लिया. लगभग 15 मिनट की चुदाई के बाद सर ने अपने लंड का पानी मेरी चुत में गिरा दिया और मेरे ऊपर ही ढेर हो गए. यह सब बात हो रही थी तब मैं देख रही थी कि नवीन जी मेरी 36 इंच की चूचियों को बड़ी कामुक निगाहों से देख रहे थे.

लेकिन उन्होंने यह नहीं किया और मैं कामुकता की चरम सीमा तक पहुंच गई थी और निढाल पड़ गई. अब मैं अपना हाथ उसके पेट नाभि और नीचे सलवार के नाड़े के अन्दर करने की ताक में था.

शायद उसके पति में ही कुछ दिक्कत हो। मेरे से एक महीने की जोरदार चुदाई के बाद ही वो प्रेग्नेंट हो गयी।उसके पति को शायद उस पर और मेरे पर शक हो गया था। अब यहाँ ठहरना ठीक नहीं था इसलिए मैंने यहाँ से रूम चेंज कर लिया अब फिर से नई चूत की आशा में!आपको मेरी लिखी इस शृंखला की पाँच कहानियां कैसी लगी? आप मुझे जीमेल जवाब दे सकते हैं।[emailprotected].

अंधेरा होने के कारण कुछ ज्यादा दिखाई नहीं पड़ रहा था लेकिन मां की चूचियां लटकती हुई दिख गयी थीं. मैंने उनसे पूछा कि क्या ये नम्बर आपके पास ही रहता है?वो बोलीं- हां. उन्होंने मुझसे बोला- मैं आंटी दिखती हूं?मैंने बोला- नहीं नहीं, गलती हो गई.

उसने मुझे लेटते देखा, तो वो मेरे खड़े लंड की तरफ लालसा से देखने लगी. तभी मेरी नजर कंडोम पर पड़ी और मेरे मन में कुछ होने लगा, पर मैंने सोचा इतना कुछ नहीं होने वाला, इसकी कोई जरूरत नहीं पड़ेगी. क्या तुम उसे चोद सकते हो?मैंने कहा- हां भाभी बिल्कुल! आप बात कर लो उनसे!तो उन्होंने कहा- ठीक है, मैं बात करके बताऊंगी.

वो मान ही नहीं रही थी, तो मैंने अपना एक पैर उसके सर पर रखा और उसे माल चाटने के लिए कहा.

बीएफ वीडियो पिक्चर बीएफ: मुझे भी आंटी के साथ चुदाई का पूरा मजा मिला और इस तरह से मैं औरतों को खुश करना सीख गया. ये सेक्स कहानी कैसी लगी, जरूर बताएं मैं पहली बार कहानी में लिख रहा, कुछ गलतियां होना लाजिमी हैं.

जैसे कि भैया का घर छोटा था, उनके एक कमरे में ही सोने की व्यवस्था थी. मैं अपने सास-ससुर से अलग दिल्ली में अपने पति के साथ एक बड़े से फ्लैट में रहती हू. मैं एक अच्छी डांसर हूं इसलिए उनकी सोच से भी ज्यादा उत्तेजक तरीके से मैं अपने पति के सामने कामुक नृत्य करते हुए अपने जिस्म से शादी के जोड़े को हटाकर अपने जिस्म की नुमाइश से करते हुए नग्न होती चली गई.

जैसा कि आप सबको पता है कि मैं कामुक कहानियाँ लिखने के अलावा अन्तर्वासना के पाठक पाठिकाओं की सेक्स जिज्ञासा, सेक्स समस्याएं एवम् सेक्स सलाह भी मेल या वाट्सएप्प पे देता हूँ.

तभी वो सामने वाला वेटर भी मेरे पास आया और बोला- क्या मैं भी आपको चोद लूं?मैं कुछ नहीं बोली. मैंने भी अपने हाथ उनके कंधों पर रख लिए थे और मैं उनके होंठ चूसने लगी. मैंने उनको सीधी लिटा कर उनके चूतड़ों पर लंड सटा और उनकी चूत में अपना लंड उतार दिया.