हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी

छवि स्रोत,बॉडी मसाज बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

औरतों के फोटो: हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी, (और हाँ … मैं आपको यह बताना भूल ही गया कि यह पहली कड़ी बिल्कुल फ्री है!).

बीएफ बीएफ पिक्चर सेक्सी

तभी मैंने एक तेज झटका मारा, भाभी ने गर्म सिसकारियां लेते हुए चीख निकाल दी और बोलीं- आह मर गई … धीरे डालो न … मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूँ. देसी लड़की की चुदाई सेक्सी बीएफवो मेरी चुत में उंगली भी कर रहा था जिससे मैं और भी ज्यादा मजे में अपनी गांड मरवा रही थी.

वो गप्प से अंदर ले कर चूसने लगी, मैं उसके बूब्स मसलने लगा और झटके मारने लगा।थोड़ी देर बाद मैंने उसे उठाकर घोड़ी बना दिया और उसकी चूत में लन्ड घुसा कर गपागप गपागप झटके लगाने लगा. बीएफ सेक्सी वीडियो राजस्थानमैंने कहा- पहले तू अपनी मर्दानगी दिखा मुझे!यह सुनकर उसका तो शायद जैसे अंदर को मर्द ही जाग गया.

कॉलेज गर्ल Xxx कहानी के पिछले भागदूध वाले के घर जाकर चूत में लंड लियामें अब तक आपने पढ़ा था कि दूध वाले ने मेरी चुत में अपना मोटा लंड पेल दिया था.हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी: पट्टी कुछ इस तरह की थी कि वो चाह कर भी उसे निकाल नहीं सकता था और ना ही पहनने वाले को कुछ भी नज़र आता.

पानी पौंछ लेने के बाद उसने मेरी तरफ देखा तो मैंने उससे कहा- बेटा मेरा एक और काम कर दो, जरा मेरे बाल बांध दो.फिर भाबी ने मेरे विकराल लंड को अपने मुँह में ले लिया और मस्ती से लंड चूसने लगीं.

बीएफ मूवी सेक्सी दिखाओ - हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी

जो लोग मुझे पहले से जानते हैं, वो एक बार फिर अपने लंड को हिलाने के लिए अपने हाथों में थाम लें … और जो लोग नए हैं, उनके लिए मैं अपना परिचय दे देती हूँ.दोस्तो … मैं जिस कंपनी में काम करता हूं, उसकी एक ब्रांच पुणे में भी है.

अब तो उसे भी एक साथ अपनी चूत और गांड में हथियार लेना बहुत पसंद आने लगा है. हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी मेरे लण्ड को अपनी मुठ्ठी में दबोचकर अपनी चूत पर रगड़ते हुए सितारा ने बड़ी मादक आवाज में कहा- तुम अब तक कहाँ थे?सितारा ने अपनी पैन्टी खुद ही उतार दी और ताजा ताजा शेव की हुई अपनी चूत के लबों पर मेरा लण्ड रगड़ने लगी.

शेखर ने रघु की बात का मुस्करा कर जवाब दिया और फिर वापस लैपटॉप की स्क्रीन पर अपनी नज़रें जमा लीं.

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी?

जब कुछ देर बाद मैंने उसको मेरे किचन में आते देखा, तो मैं नीचे ज़मीन पर उकड़ू बैठ गयी और एक बर्तन में आटा निकाल कर उसमें अपने हाथ फंसा कर उसको गूंथने लगी. नीरू के पति ने उसे इतनी बार नहीं चोदा होगा जितनी बार मैंने नीरू को चोदा है. 5 मिनट में ही अमित जोर जोर से झटके देने लगा तो मैं समझ गयी कि यह झड़ने वाला है.

थोड़ी देर बाद मैंने आंटी के बूब्स अपने मुंह से चूसना शुरू कर दिए और आंटी की चुत में उंगली करना शुरू कर दिया. आंटी ने हां कर दी और रूम में आ गईंउन्होंने टीवी फिर से चलाया और मुझे अकेला बैठा कर आंटी दूसरे रूम में चली गईं. मुझे अचानक से न जाने क्या आया कि मैं ठिठक कर बाहर बरामदे में ही रुक कर मां और सैम की बातों को सुनने लगा.

मौसी- आह उम्म अच्छा … फिर!मैं मौसी की फिर फिर का जबाव देता गया और कुछ ही पलों में मौसी की मादक आवाजें आने लगीं. थकान और फूली हुई सांस के वजह से रीतू उसी पोजिशन में निढाल हो गयी; वो मेरे लिंग को अपने अन्दर रखे हुए ऐसे ही मेरे पैरों पर सो गई. मैंने उसकी कमर को पकड़ कर लन्ड उसकी चूत में डाल दिया और अब घुड़सवारी शुरू कर दी.

तब तक के लिए अलविदा और हां कमेंट जरूर कीजिये, जिससे सेक्स कहानी लिखने की प्रेरणा मिलती रहे. कुछ ही देर में उसकी चूत में दर्द होने लगा और वो जोर जोर से चीखने लगी.

मैंने उससे पूछा- बैग?वो- वो उधर झाड़ियों में ही रख दिया है, वापसी में ले लूंगी.

मां के चूचे देख कर ऐसा लगा, जैसे वो मुझसे कह रहे हों कि बचपन में तो बहुत चूसा है, अब चोदने के लिए चूस लो.

मैं जाकर बाथरूम में नहाने लगी मेरी चूत पर बहुत ही हल्के से बाल थे तो मैंने सोचा अपनी चूत को चिकनी कर लिया जाए. पूरे 30 मिनट बाद निखिल चाचा अपने चरम पर आने लगा था- मेरी जान, मेरा माल निकलने वाला है … कहां निकालूं?मम्मी- मेरे अन्दर ही निकाल दो जान. तभी मैं सोच रही थी कि मैं रोज़ इतने लंड लेती हूँ, पर आज मेरा पानी कैसे निकल गया.

शेखर- ओहो … मतलब अब दो सप्ताह तक हर दोपहर आपसे बात हो सकेगी!धारा- नहीं जी।शेखर- क्यूँ … क्या आप मुझसे बात नहीं करना चाहतीं?धारा- ऐसा मैंने कब कहा? मैं तो बस ये कह रही हूँ कि दोपहर में बात करने की क्या ज़रूरत है, बातें तो रात में भी हो सकती हैं ना!धारा का इशारा समझ कर शेखर की बांछें खिल गयीं, उसे अगली कई रातों तक होने वाली मस्ती के ख़्याल आने लगे. कुंवारी लड़की की सेक्सी कहानी के पहले भागफोन पर ही लड़की पट गयीमें अब तक आपने पढ़ा था कि आशा नाम की लड़की अब जीजू की जगह मेरे साथ सेक्स चैट करने लगी थी. वरना ससुराल जाने के बाद तो मेरी तरह इसकी भी ज़िन्दगी बेकार हो जाएगी.

मैंने उससे बोला- आज नया साल है और तुम कहीं घूमने नहीं गए?इस पर वो बोला- किसके साथ जाऊं … साथ चलने वाला कोई है ही नहीं.

मैं उसको सहज करने के लिए वहां से चला गया ताकि तब तक वो रोहन के पास चूमाचाटी करते हुए पूरी तरह से गर्म हो जाये. अपने दोनों हाथों को मैंने चाची की कमर के नीचे से कर लिया और अपनी बाजुओं में जकड़ कर थोड़ा सा ऊपर को उठाया और नीचे से उनकी चूत की चुदाई करता रहा. उसकी चूत का गर्म गर्म पानी मेरे मुंह में आने लगा जिसको मैं साथ ही साथ पूरा चाट गया.

उधर विवेक ने भी लूसी की चूत में माल भर दिया और हम चारों शांत हो गये. रीमा ने एक दिन निखिल को मैसेज किया कि आज मुझे किसी भी हाल में तुमसे चुदना है. भाभी की आह निकली और मुझे गाली देने लगीं- आह भैनचोद … आराम से डाल न भोसड़ी के!मैं बोला- भाभी, मैं बहनचोद नहीं हूँ.

अब तक आपने पढ़ा था कि सभी नौजवान लड़के लड़कियों में प्यार मुहब्बत चल रही थी.

फिर भाभी ने एक लम्बी सिसकारी ली और बोलीं- आज मारने का पूरा प्लान है क्या तुम्हारा?मैं- नहीं अंजू. भाभी चाय सामने टेबल पर रखी और मुझे टोकते हुए बोलीं- ये लो स्पेशल चाय रेडी है.

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी अब वो फिर से झड़ने वाली हो गई थीं तो उन्होंने हमारी चूमाचाटी को तोड़कर आवाज लेना शुरू कर दिया. मैं बेड पर बैठ गया और रोहन ने मेरे लन्ड पर अपनी जीभ लगाई और मेरे लन्ड के सुपारे को चाटा.

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी आपका प्रकाश[emailprotected]X गर्लफ्रेंड सेक्स स्टोरी का अगला भाग:दो गर्लफ्रेंडज़ के साथ उनकी सहेली भी चुदी- 2. उसके मुँह से चुत की बात सुनकर मैं दंग रह गयी और बोली- तुम पागल हो गए हो.

फिर हम तीनों ने अपने अपने गिलास उठाए और गिलासों को खाली करके साईड में रखी टेबल पर रख दिए.

गाणी मराठी गाणी

अगर मुझसे आपको मज़ा आया तो क्या हम दोनों फिर मिल सकते हैं?आंटी ने कहा- पहले मुझे खुश कर, ये तेरे पास एक ही मौका है. रघु ने शेखर द्वारा रात को फैलाए हुए रायते यानि शराब की बोतल, ग्लास और इधर-उधर बिखरे चखने को साफ़ करके बिस्तर की चादर को भी बदल दिया था. मुझे पड़ोस की भाभी जी ने देखा, तो बोलीं- चंदन जी इनको रूम चाहिए … आपका पोर्शन खाली है क्या?मेरी किस्मत ने यहीं मेरा साथ दे दिया.

यह विचार आते ही शेखर का दूसरा हाथ धीरे से धारा के चेहरे से सरकता हुआ पहले तो उसके कंधे तक आया फिर धीरे-धीरे नीचे की ओर सरकते हुए धारा के उन्नत विशाल उभारों पर आ गया. कुछ ही देर में उसका बदन फिर से अकड़ने लगा और एक बार फिर से उसकी चूत से पानी निकलने लगा. मेरे लेटते ही भाभी ने मुझको अपनी बांहों में जकड़ लिया और चादर में खींच लिया.

वो मेरे सबसे करीब थी तो मैं उससे सट कर खड़ा हो गया।मैंने रूपाली की कमर में हाथ डाल कर उसे खुद से चिपका लिया। मैंने अपनी एक उंगली रूपाली के मुंह डाली और उसे चुसाने लगा।मेरी उंगली उसकी लार से गीली हो गई.

अचानक संगीता की चूत का फव्वारा फूट गया और उसने मेरे लंड पर ढेर सारा गर्म माल निकाल दिया. धीरे धीरे मैं अपना लौड़ा भाभी की गांड में डालता गया और पूरा लंड गांड के अन्दर पेल दिया. उसका इतना सारा माल निकला कि रुबिका ने उसको पूरा मुँह में भरने की कोशिश की, फिर भी वो उसके मुँह से बहने लगा.

वो लेट गई तो मैंने उसके दोनों पैर ऊपर कर दिए और हाथ से चूत को दबा लिया. उस औरत ने अपना नाम फरियाल (इधर मैंने ये नाम बदल दिया है) बताते हुए लिखा था कि उसको एक बच्चा है. ज्योति लजाते हुए- पागल कहीं के … लाओ मैं इसे हाथ से ठंडा कर देती हूं.

हमारी कक्षा में कुल 38 छात्र छात्राएं थे, जिनमें 19 लड़के और 19 लड़कियां थीं. सितारा के चूसने से लण्ड मूसल की तरह कड़क हो गया तो सितारा मेरी जाँघों पर ऐसे चढ़ी जैसे घुड़सवारी कर रही हो.

मैं कभी उसके चूतड़ों को दबाता, कभी उसके बड़े बड़े मम्मों को मसलता, जो ठीक से मेरी हथेलियों में आ भी नहीं रहे थे. वो गांड हिलाने लगी तो मैंने उसकी गांड के छेद पर लंड रख कर जोर से एक झटका दे दिया. प्राची की तरफ़ देखा तो वो अपनी चूत को थूक से गीला रही थी।मैंने बिस्तर के किनारे पे प्राची को खींचा और उसकी चूत पे लंड सेट कर के धक्का दिया।पूरा लंड एक बार में अंदर घुस गया.

मौसी- अब मैंने तेरी पैंट निकाल कर फैंक दी और तेरी टी-शर्ट भी उतार दी.

उस चपरासी का काला मूसल लौड़ा देख कर उसकी चुत ने अपना आपा खो दिया था. मैंने उनकी गांड के नीचे तकिया रखा और उनकी चूत के छेद पर लंड टिका दिया. फिर मैं करीब 10 मिनट बाद उठी और बोली- तुम लोगों ने आज अपने दोस्त की बीवी को मसल ही दिया ना!तभी प्रशांत बोला- यार भाभी, मज़ा आ गया.

वो भी इतने प्यार से कपड़े उतार रही थी … जैसे सालों बाद चुदने वाली हो. उसने मुझे लिटाया और फिर मेरे दोनों पैर पकड़ कर मुझे हवा में उल्टा लटका दिया.

मैंने उससे डॉक्टर को पापा का नाम बताने को बोला और बताया कि आज मेरी मम्मी का चैकअप होना था. धक्का लगते ही मैं एकदम से गिरने लगी तो जाकर सीधे समीर की गोद में गिरी. लेकिन उस दिन जब पीटीएम में स्कूल गया और सितारा से मुलाकात हुई तो दिल दिमाग में कुछ चलने लगा.

सेक्सी वीडियो नंगी आदिवासी

फिर मैंने शीना को खड़ा किया और उसकी दोनों टांगें थोड़ी चौड़ी की और उसकी उसकी चूत को कच्छी के ऊपर से ही चाटने लगा.

इससे भाभी की मस्ती अपने पूरे चरम पर थी और वो गांड उठा कर मुझे और तेज चुत चूसने को उकसा रही थीं. इस बार चुत में रस भी था … तो लंड को चिकनाई मिल रही थी और लंड सटासट चुत में अन्दर बाहर अन्दर बाहर होने लगा था. दफ़्तर से घर तक पहुँचते-पहुँचते शेखर को क़रीब डेढ़ घंटे का समय लग गया.

ऊपर बेडरूम में जाकर मैंने पूछा- जब आपके पति यहाँ होते हैं तो आप लोग दिन में कितनी बार सेक्स करते हैं?दिन में कितनी बार? क्या पूछ रहे हैं, सर. कभी मैं अपने दोनों हाथों से चाची की कमर को कस लेता था तो कभी उनके चूतड़ों पर हाथ रख लेता. कोलकाता बीएफ सेक्सीमैं उसकी चूत के लिए कहीं भी जा सकता था क्योंकि अभी इस समय सिर्फ यही मेरी गर्लफ्रेंड थी.

[emailprotected]अब आप सभी मुझसे अपने विचार फेसबुक पर भी साझा कर सकते हैं।लड़की लड़की का सेक्स कहानी का अगला भाग:मौसी और उनकी जेठानी का लेस्बियन सेक्स- 2. मैं विशाल को बोली- तू कुर्सी पर बैठ … मैं तुझे जन्नत की सैर कराती हूं.

उसकी आँखें खुलीं थीं लेकिन आँखों के सामने धारा का कामुक बदन ही घूम रहा था।जितनी भी झलक उसने वेब-कैम के ज़रिए देखी थी वो काफ़ी था धारा के कँटीले बदन का अनुमान लगाने के लिए।शेखर भी अपने ख़्यालों में बस उसी झलक को अपने तरीक़े से सोच-सोच कर उत्तेजित हुआ जा रहा था. मेरे हर शॉट पर चाची आगे से अपना सिर उठाती और कमर को नीचे की तरफ झुकाने लगती. तभी मैंने एक ज़ोर का झटका देकर फिर से बच्चेदानी पर लंड से चोट मारते हुए कहा- खुश नहीं रहोगी क्या मुझसे?मनोज … मुझे बहुत अच्छा लग रहा है जल्दी करो तेज़ तेज़.

इस बीच मैंने अपनी दोस्त प्रभा के गाल पर एक हल्का सा चुम्बन कर दिया. भाभी की आंखों में चमक आ गई और उन्होंने मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया. तो उन्होंने कहा कि मैंने शादी से पहले किसी भी लड़के से दोस्ती नहीं की थी.

तू यहाँ क्या कर रही है?मैंने बोला- अरे, मेरे फोन की बैटरी डाउन हो गयी तो चार्जिंग पे लगाने आई थी।भाभी ने बोला- मेरी ब्लाउज़ की डोरी बांध दियो.

‘तू ही मेरी सब है … सुबह है, तू ही मेरी दुनिया …’इस गाने पर मैं मस्त होकर डांस किया. हमेशा से यही होता है, औरत को हमेशा एक अच्छा इंसान ही चाहिए होता है.

मैं आपका सरस एक बार फिर आपके सामने अपनी एक नई टॉयलेट सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूं. तो मैंने बांध दी और ये पूछने को हुई कि ये खोली क्यूँ?पर तभी मेरा फोन बज गया. लेकिन मुझे ऑफिस के लिए देर हो रही थी तो मैंने उनको जाने के लिए बोला.

मैं उनके ऊपर कुछ इस तरह से लेट गया था कि मेरा पूरा शरीर उनके शरीर पर था. ”मैंने गाड़ी निकाली और कोकाकोला चौराहे पर पहुँचा, सामने से छाता लिए सितारा चली आ रही थी. मुझे तो, खैर कोई भी माल हो, उसकी बस चुत चूची और गांड ही दिखाई देती हैं.

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी मेरी सांसें बहुत तेज तेज चल रही थी और मैं पूरा जोर लगा लगा कर चाची के ऊपर आधा झुका हुआ ठुकाई कर रहा था. जब हर तरफ कोरोना का प्रभाव था, तब मेरे पास एक महिला का फ़ोन आया- हैलो.

பிரதர் சிஸ்டர் செக்ஸ்

उसके पकड़ते ही कुछ ही क्षणों में लन्ड में अकड़न आ गयी, नतीजन वो तन गया. उनकी परेशानी समझते हुए मैंने पूरा लंड बाहर निकाला, जिससे उन्हें एक गहरी सांस आयी. मैं तो कई बार ऐसी जगहों पर भी केएलपीडी बोल चुकी हूँ, जहां मुझे नहीं बोलना चाहिए था.

मुझे जोश आ गया और मैं तेज तेज झटके लगाने लगा- हां ले साली रंडी कुतिया … छिनाल … अम्मी ले मेरा लौड़ा … भोसड़ी वाली तेरा बेटा ही तेरे लिए लंड लाया है … ले साली अम्मी चुद हरामन. एक छोटे बैग में अपने दो जोड़ी कपड़े रखे ताकि अगर कोई इमरजेंसी हो तो बदलने के लिए हो जाएंगे. नंगी सेक्सी पिक्चर बीएफप्राची की तरफ़ देखा तो वो अपनी चूत को थूक से गीला रही थी।मैंने बिस्तर के किनारे पे प्राची को खींचा और उसकी चूत पे लंड सेट कर के धक्का दिया।पूरा लंड एक बार में अंदर घुस गया.

ये देखते हुए प्रिया ने अपनी चुत पर हाथ लगा कर फिर से चिल्लाना शुरू कर दिया.

इससे मैं और भी उत्तेजित हो गया और मेरा बुल्ला अब और ज्यादा फड़ फड़ करने लगा. भला कोई औरत किसी दूसरी औरत के साथ वो सारी हरकतें कैसे कर सकती है जो एक मर्द के साथ की जाती हैं?तब मैंने ये आश्वासन देकर रूपाली को मना लिया कि तुम एक बार कोशिश तो करके देखो.

उसकी आंख से आंसू बह निकले पर इन आसुओं में दर्द से ज़्यादा आनन्द के भाव थे. मैंने भी सुपारा सैट होते ही ठोकर मार दी और लंड का सुपारा चुत में फंस गया. मैंने एक रफ जींस ओर गहरे गले वाला टॉप पहना था जिसमें से मेरी क्लीवेज साफ़ दिख रही थी.

आप सभी ने मेरी आपबीती के पहले भागलॉकडाउन में भाभी ने मेरी प्यास बुझायीमें देवर ने भाभी को कैसे चोदा, यह पढ़ा और बहुत पसंद किया, उसके लिए शुक्रिया.

उसने बिना देरी किए मेरी पैंटी को निकाल दिया और सीधे मेरी चूत पर अपना लंड रखकर एक जोरदार धक्का दे मारा. फिर मैंने उसे घोड़ी बना दिया और उसकी गांड में थूक लगा कर अपना लौड़ा घुसा कर उसे चोदने लगा. या यूं कह लो कि कुछ ही महिलाओं को लन्ड चूसने में मज़ा आता है जिसे वो दिल लगा कर चूसती हैं, बाकी बस औपचारिकता के लिए मुंह में लेती हैं और कुछ तो मुंह में लेने से साफ मना ही कर देती हैं.

बीएफ ब्लू फिल्म वीडियो हिंदीमैंने उनको नमस्ते की और उनके किसी सवाल के आने से पहले ही वहां से निकल आया. मैं भाभी के आंसू पौंछते वक्त अपना हाथ उनके मम्मों पर टच कर रहा था मगर भाभी ने कुछ भी नहीं बोला.

एक्स एक्स वीडियो सेक्सी वीडियो सेक्सी

आखिर में बेल्ट को चूमकर मेरी पेंट और अंडरवियर भी निकाल दी और एक ही झटके में उठकर बिस्तर पर जा लेटी. दुकान में मौजूद सारे मर्द उसे घूर कर देख रहे थे जैसे उसे अभी मिल के चोद देंगे।तब मैंने बिल का पेमेंट किया उन लोगों ने थोड़ी देर और अलग अलग दुकानों से सामान खरीदे. ये शर्ट वाकयी इतनी चुस्त थी कि उसके बटन के बीच में से मेरे सीने के पास से खुल सा गया था.

इसके तुरंत बाद मैंने अपने शौहर को फ़ोन करके उन्हें बताया कि मेरी एक सहेली कार से जा रही है. एक दो बार उसने चुत लंड पर पटक कर एडजस्ट की और मयंक से बोली- हां जान … आ जाओ … मेरी गांड बहुत ज्यादा टाइट है, प्लीज धीरे से फाड़ना. मौसी- हां हां … बड़ी देर से भनभना रहा है न तेरा लंड … ले अब मैंने तेरे लौड़े को मुँह में ले लिया है.

मैं उसी के सामने झुक कर तौलिया से अपना सिर पौंछते हुए उसका हाल-चाल पूछने लगी. इतना कह कर वो पूल से बाहर निकली और साईड में बने शॉवर रूम की तरफ चली गई. ममता 20 साल की 34 इंच की मस्त चूचों और 36 इंच के ही मस्त चूतड़ों वाली पटाखा लड़की है.

मैं भी जोश में आ गया और पैंटी के अन्दर हाथ डालकर भाभी की चूत सहलाने लगा।अब धीरे धीरे दोनों ने एक दूसरे को नंगा कर दिया और 69 की पोजीशन में आ गए और दोनों चूत और लंड चूसने लगे थे।थोड़ी देर बाद मैंने पिंकी भाभी को बोला- भाभी, कैसे चोदूं?वो बोली- राज, तुम मुझे पिंकी बोलो, भाभी नहीं!मैंने पिंकी को बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर आ गया. उसने उठकर मेरा लंड साफ किया, अपनी चूत, गांड धोयीं और हम एक-दूजे के आगोश में लिपटे सो गये.

वो भी लगातार ‘आह आह आह आह …’ कर रही थीं और कमर हिला हिला कर अपनी चूत को मेरे मुँह पर रगड़ रही थीं- आह … आह … आग लगा दी आह!अब उनके चेहरे से साफ पता चल रहा था कि वो अब बहुत तेज तेज लंड मांग रही हैं.

अब मैंने अपना लौड़ा उसकी कोमल चूत पर सैट किया और ज़ोर से धक्का दे दिया. अंग्रेजी में बीएफ अंग्रेजी बीएफगजेंद्र सिंह एक 45 साल का मजबूत कद-काठी वाला पुरुष है जो नेहा स्नेहा और चिराग का मामा है. सेक्सी बीएफ एचडी में भेजोफ़लक- धीरे धीरे पूरी …मैं- उंगली से कितनी बार किया?फ़लक- मुझे नहीं पता. वह बड़बड़ाने लगी- आह अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है … प्लीज डाल दो मत तड़पाओ प्लीज डाल … दो डाल दो ना जान … मत तड़पाओ … इतने समय से तड़पा रहे हो … प्लीज डाल दो.

उसका पूरा मुँह उस पानी से भीग कर चमक रहा था और ये यही बयां कर रहा था कि आज सोनम बरसों बाद ऐसे खाली हुई है.

तभी मॉम की तेज तेज आवाजें आने लगीं, तो मैंने सोचा एक बार देखते हैं. कुछ और देर बीत गई और करीब साढ़े बारह बजे शहज़ाद ने मुझसे चलने के लिए बोला. उसने देखा कि उसकी माँ पूरी नंगी होकर मेरा लन्ड अंडरवियर से बाहर निकालती है.

शेखर ने अपनी कमर से हाथ हटाकर अपने हाथ सामने हवा में लहरा कर धारा के सर को पकड़ने की कोशिश की ताकि उसके मुँह में अपना लंड ठूँस सके लेकिन उसकी कोशिश बेकार गयी. देसी हॉट गर्ल सेक्स कहानी मेरी सहेली की अपने जीजा के साथ टांका भिड़ने की है. सितारा ने अपने होंठों से मेरे होंठ पकड़े और पंजों के बल उचककर मेरे लण्ड का सुपारा अपनी चूत के होठों में फँसा लिया.

सेक्सी+ब्लू

के इंदौर में रहता है। वो शादीशुदा है और अपनी शादीशुदा बहन को भी चोदता है. कंडोम चढ़ जाने पर मुझे अन्दर लंड पर और बाहर दोनों तरफ डॉट का अहसास हुआ. मैं- वो बात तो ठीक है शीना, पर क्या तुमने पहले कभी सेक्स किया है किसी के साथ?शीना- मम्मी कसम … अंकल मैंने आज तक ऐसा कुछ नहीं किया, पर मैं इसके बारे सब जानती हूं.

इस बात से जया बेहद खुश थी कि अब उसे अपनी चुत और गांड के लिए दिनकर से कई गुना मजबूत लंड मिल गया है.

मैंने उसकी चुत को देखा तो उसकी वैक्सिंग ऐसी लगी जैसे कुछ दिन पहले ही चुत की झांटें साफ़ की गई हों.

मैंने समझ लिया कि अब देरी करना उचित नहीं है, इसलिए अपनी टी-शर्ट और अपना लोअर भी निकाल दिया. मैं एक बार आपको चखना चाहता हूँ क्योंकि अब मेरी बीवी तो गांव में रहती है और इधर काफी साल से मैं उसके पास गया भी नहीं हूँ. देवर भाभी का बीएफ एचडीतेरे मुंह में लंड दे देंगे … तेरी मां चोद देंगे … तेरी बहन चोद देंगे!और पता नहीं राज ने गुस्से में क्या-क्या कहा.

ये सेक्स कहानी तब की है … जब मैं सीनियर मैनेजर था और जयपुर का कार्य भार मुझ पर हुआ करता था. मैंने आशारा के पैरों को हाथों से संभाला था तो उसने खुद अपने स्तन संभाल रखे थे. हम दोनों ने क्या गुल खिलाये?दोस्तो, मेरी पहली कहानीज़ारा की मोहब्बतअन्तर्वासना पर प्रकाशित होने के बाद मुझे बहुत से पाठक-पाठिकाओं के मेल्स आये!उन्हीं में एक मेल आई तमन्ना की!पहले हैंगआउट पर बात हुई, फिर फेसबुक और फिर व्हाट्सएप्प पर! धीरे-धीरे फोन पर बातें होने लगीं!तमन्ना, देवास (मध्यप्रदेश) के एक छोटे से गांव में एक प्राइमरी टीचर है.

इतने दिनों से प्रिया का शरीर लंड के सुख से दूर था तो वो कुछ ज्यादा ही झड़ने लगी थी. तब मैंने उसकी पैंटी को खोला, तो देखा की एकदम चिकनी पाव की तरह फूली हुई चूत थी.

मयंक ने अपने लंड की गति को और तेज कर दिया और गांड को तेजी से चोदने लगा.

उसने डिजिटल पेमेंट की हामी भर दी, तो महिला ने उसकी मशीन से कार्ड स्वैप कर दिया. मेरे और मयंक के लंड से ढेर सारा गर्म माल निकला, जो संगीता की जीभ और मुँह पर जा लगा. उसने मुझे नीचे बिठा दिया और उसने अपनी चूत को मेरे मुँह पर लगा कर जोर जोर से धक्के देने लगी.

रंडीखाना बीएफ यह देवर भाभी की सेक्सी कहानी मेरी अन्तर्वासना पर पहली कहानी है, अगर कोई गलती हो तो माफ कर दीजिएगा. जैसे मैं उनके पास गई, मैं हैरान रह गई क्योंकि वे नीचे से एकदम नंगे थे.

मैं सोच रहा था कि ये टेस्ट कहां से बीच में आ गया? फोन पर तो ऐसी कोई बात नहीं हुई थी. अगर आप लोग भी गांड मारने के शौकीन हैं तो ग्लिसरीन लगाकर गांड मारें … आपकी बीवी या जीएफ को दर्द कम होगा. वो अपनी जीभ से चूत को चाटने लगा … संगीता हद से ज्यादा पागल हो रही थी.

ಬಫ್ ವಿಡಿಯೋ

वह कह रही थी- आह … अब मत सताओ … प्लीज जल्दी से डाल दो, मुझसे रहा नहीं जा रहा. उसके पापा जी शिक्षक थे और इस वजह से भी उसके घर का माहौल कुछ अलग किस्म का था. मैं- आह आह मेरी जान कितनी गर्मी है तेरे मुँह में!उधर से मौसी की सिर्फ चप्प चप्प की आवाज आ रही थी.

एक दो बार मैंने वैसे ही अपने फ़ोन से ट्राई किया, फिर मोहन से उसका फ़ोन मांगा तो मोहन बोला कि उसका फ़ोन अंदर रह गया है, तुम नीरू के फ़ोन से कॉल कर लो. इसी सोच के बीच मुझे ये बात भी मन में आयी कि जिस तरह मेरी शादी जल्दी हो गयी, हर बस मैं बच्चे पैदा करने और घर संभालने के अलावा कुछ ना कर सकी.

वो मुझे एक किनारे ले गया और जब मैंने उसके सामने अपना बुरका उतारा, तो वो तो मुझे देखता ही रह गया.

मेरा दिल जोर जोर से धड़क रहा था और डर लग रहा था कि कहीं आंटी सब कुछ मेरी मां को ना बता दें. कभी वो एक निप्पल को अपने मुँह में लेता … तो दूसरे को अपनी उंगलियों में दबा कर मींज देता. मैंने पूछा- क्या हुआ मना क्यों कर रही हो आप?उन्होंने बताया कि उनकी चूत को आज तक किसी ने भी हाथ से नहीं छुआ है.

वो अपनी चूत में लंड सैट करके बैठ गईं और गांड हिलाते हुए चुदाई करने लगीं. शेखर ने उस मद्धम सी रोशनी में अपनी दाहिनी ओर टटोलते हुए टेबल पर रखी उस पट्टी को ढूँढा. मेरा मकान दो मंज़िल का है तो हमारी फैमिली नीचे वाले फ्लोर पर रहती है और ऊपर का फ्लोर खाली था.

हम सबने खाना खाया और मैं ऊपर आकर अन्तर्वासना की एक सेक्स कहानी पढ़कर सो गया.

हिंदी सेक्सी बीएफ बिहारी: ”मेरे जिस कंधे पर दीदी का सिर था, उसी हाथ से उनके बाल सहलाते हुए और दूसरे हाथ से उनके निप्पल घुमाते हुए मैंने पूछा. मैंने लंड चूसने में देरी न करते हुए तुरंत उसका लंड मुंह में ले लिया और चूसना शुरू कर दिया.

इस साड़ी में उनके चूचे बड़े ही मदहोश करने वाले और कातिलाना लग रहे थे. पर मैं ये नहीं समझ पाया था कि सैम को मेरी मां पसंद आ गयी थी या मेरी मां को सैम पसंद आ गया था. कभी वो एक निप्पल को अपने मुँह में लेता … तो दूसरे को अपनी उंगलियों में दबा कर मींज देता.

थोड़ी देर शेखर की पीठ से खेलने के बाद धारा आगे आ गयी और अब उसकी उंगलियां सामने से शेखर के गले और फिर धीरे-धीरे उसके सीने पर चलने लगीं.

मैंने भगवान की प्रतिमा के सामने कहा- सितारा, मैं यहाँ इसलिए आया हूँ कि मैं भगवान के सामने कह सकूँ कि मैं तुमसे अपना रिश्ता पूरी ईमानदारी से निभाऊंगा. अब फ़्रेंची तो फ़्रेंची है, पहले से ही टाइट होती है ऊपर से शेखर का लंड जो पिछले आधे पौने घंटे से वासना के सागर में डूब कर अकड़ू हो गया था, वो लगभग फ़्रेंची में फँस ही गया था. उन्हें वहीं छोड़ कर मैंने कहा कि मैं यहां करीब में ही अपने एक फ्रेंड के पास जाकर आता हूँ, फिर घर वापस चलेंगे.