बीएफ सेक्सी भाभी की

छवि स्रोत,दोस्ती वाली बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

घोड़ा सेक्स वीडियो बीएफ: बीएफ सेक्सी भाभी की, जब वो चल रही थी तो उसकी मटकती गांड का नजारा किसी को भी उसका जबर चोदन करने को मजबूर कर सकता था.

गांव देहात की चुदाई बीएफ

उनके करीब हुआ तो भाभी ने मेरे गालों पे हाथ फिराया और मुझे खींचते हुए अपनी गोदी में लिटा लिया. बाप बेटी के साथ बीएफमैं मसाज़ पार्लर में प्यासी औरत और लड़कियों की मसाज़ के साथ उनकी सेक्स की भूख को शांत करता हूँ, पर ये शायद पायल भाभी को नहीं पता था.

इस बार मैंने जब धक्का मारा तो मेरे लंड का सुपारा उसकी कोमल चूत में जा चुका था. एचडी बीएफ बीएफ सेक्सी वीडियोस्कर्ट और टॉप दीदी के सिर्फ चूतड़ और चूचों का कुछ हिस्सा ढक रहे थे और बाकी का बदन नंगा था.

मैंने पानी की बोतल उठाई और उनके पास गया, मैंने उनके मुँह से पट्टी खोली और उनको पानी पिलाया.बीएफ सेक्सी भाभी की: दीदी ने गुलाबी रंग का पंजाबी सूट, पैरों में पंजाबी जूती और आंखों पर नज़र का चश्मा लगा था.

लंड को घुसाने के बाद चंदर मेरे निप्पल मींजते हुए बोला- बिंदु जी, लंड पर अब आपको ही धक्के मारने हैं.जैसे ही हम फ्लैट में पहुंचे मुझसे सब्र नहीं हुआ, मैंने उसे दरवाजे से चिपका कर अपनी गोदी में उठा लिया ओर उसके गुलाबी होंठों को चूसने और काटने लगा.

बीएफ देवी - बीएफ सेक्सी भाभी की

आज पूरी रात यह आपकी ही मेहमान है या यह कहूँ कि इसकी चुत आपके लंड की मेहमान है.फिर हमने सबके लिए एक-एक जाम और बना कर सर्व किया और रंगीन शाम के नाम उसे ऊपर उठाते हुए चियर्स बोला, और एक ही घूँट में पी लिया.

दोनों छेद खुल गए है मेरे… शुक्र है कोई और छेद नहीं है, वरना और भी दर्द सहन करना पड़ता हम लड़कियों को, हर बार कुछ नया करना कितना अच्छा लगता है ना! पर अब यह नयापन ख़त्म हो जायेगा, दोनों छेद खुल चुके हैं. बीएफ सेक्सी भाभी की वो चुदाई करने से पहले अपना लंड चूसने को कहता और चुसवाते ही वो झड़ जाता.

उस बुड्डे की उम्र मेरे दादा जी से भी बड़ी थी, मगर यहाँ मैं सिर्फ एक चूत की मालकिन थी, जिसको वो चूसना चाहता था.

बीएफ सेक्सी भाभी की?

शिखा- अरे मेरे प्यारे मैगी, दीदी भी बोलता है और ऐसा भी कहेगा? वैसे भी मुझे अपने भाई से बहुत जरूरी में मिलना है. मैंने मामी को पूछा- आपको सकिंग आती है क्या?उसने कहा- वो क्या होता है?मैंने कहा- मेरे लंड को मुंह में लेकर आगे पीछे करने को सकिंग कहते हैं. यह देख मेरी हिम्मत थोड़ी बढ़ी, फिर मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसके बाल खींचने लगा और उसकी मस्त गांड पर हाथ से थपकी मारनी शुरू कर दी और बोलने लगा- देखो जान, जब तुम किसी और से चुदोगी तो वो तुम्हें ऐसे घोड़ी बना के चोदेगा और तुम्हारे बाल खींचेगा, ऐसे तुम्हारी गांड पर मारेगा!मंजू बेचारी पर हवस इतनी हावी हो चुकी थी कि वो न तो मना कर पा रही थी न ही कुछ बोल पा रही थी, बस सुन कर मजे लिए जा रही थी.

कमरे में नाइट बल्ब जल रहा था, मैंने देखा कि उसके मम्मे ऊपर नीचे हो रहे हैं. इस बार मैंने उसके जवाब का इंतजार किए बिना ही अपनी एक उंगली अन्दर डाल दी और उसकी चुत को टटोलने लगा और दूसरे हाथ से उसका दाना भी रगड़ने लगा. फिर उसने मुझसे बोला- मैं तुम्हें इस समस्या से निकाल सकता हूँ, पर मेरी एक शर्त है.

पहले तो आप सबका बहुत बहुत धन्यवाद कि आप सभी ने मेरी पहली स्टोरीमौसी को चुत चुदवाने के लिए पटा ही लियाको इतना प्यार अधिक प्यार दिया. फिल्म के दौरान उसका खड़ा लंड मेरी गांड और चुत में हरकत करता रहा मेरी मुनिया फिर से लिसलिसी हो उठी थी. इस बार मैंने हाथ कंबल के अन्दर डाल दिया और उसकी शर्ट के अन्दर हाथ डाल कर सीने पे हाथ फिराने लगा.

जब विश्वामित्र ने मेनका की पायल की आवाज सुनी तो उनका ध्यान भंग हो गया था. उसके बाद कुछ देर तक हम लोग चूमा चाटी करके अपने अपने कपड़े पहनने लगे.

वो मुझसे बोलीं- आज रात को अपने रूम का दरवाजा अन्दर से बंद ना करना क्योंकि आज तेरी सुहागरात मनवाई जाएगी.

पहले तो मैंने वहाँ पर चूमा, फिर उतर कर फ्रिज से ढेर सारी बर्फ निकाल कर दाग पर लगाने लगी उन्हें यह अच्छा लग रहा था बर्फ और मेरे स्पर्श के कारण उनका शरीर भी कांप जा रहा था, सिहर सिहर कर रोयें खड़े हो रहे थे।तभी मुझे शरारत करने को सूझी। ढेर सारी बर्फ का टुकड़ा लेकर लंड पर फिराने लगी, वे बोले- अरे, ये क्या कर रही हो?मैं अपने शरारत में मशगूल रही… उन्हें भी अब ये अच्छा लगने लगा था.

दीदी कहने लगी- आह आज अपनी बड़ी बहन की चुत को छोटा भाई चोद रहा है… आह कितना मजा आ रहा है आह्ह… और चोद दे… अपनी दीदी की चुत चोद दे…यह सुनकर मुझे भी जोश आ गया और मैं दीदी को जमकर चोदने लगा. ऐसा करने में मुझे बहुत मजा आ रहा था पर मैं डर भी रहा था कि कहीं चाची जी जाग न जाये. मुझे मुठ मारते समय याद आया कि महक से मिलने के एक दिन पहले भी मैंने उसको चोदने के सपने के साथ दो बार मुठ मारी थी, शायद इसी लिए मुझे झड़ने में ज्यादा देर लग रही थी.

जिम जो कि घर के ऊपर ही था तो साढ़े छह तक सब रेडी होकर कसरत करने लगे. रोशनी ने उसी समय बीच में बोला कि नहीं अभी सर मेरे पुट्ठों को फुलाने का तरीका बताएंगे. मौसी ने अपनी दोनों जांघे चौडाई में फैला ली और अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ कर उसका मार्गदर्शन किया और मैंने एक हल्का सा झटका मार कर मौसी की चूत में लंड घुसा दिया.

मेरा इतना ज्यादा माल निकला कि वो पूरा रस पी ही नहीं पाई और बहुत सारा वीर्य उसके शरीर पर गिर गया.

उन्होंने साइड से क्रीम की बोतल उठाई और मेरी गांड पर और अपने लंड पर लगा लिया. उनको देख के वो लोग मुस्कुराने लगे… और उनमें से एक बोला- तू कौन है छमिया?इसके बाद वे लोग मेरी तरफ देख कर बोले- ओये हीरो तेरी आईटम है क्या??उतने में सेजल भाभी बोलीं- तुम सबकी बाप हूँ मैं… क्यों परेशान कर रहे हो इसको?उनमें से एक आदमी बोला- ये तू अपने इमरान हाशमी से पूछ कुतिया. जब पिछली शाम यह चूतड़ फोटो सेशन में सहलाए थे तो यह नहीं मालूम था कि ये इतने नायाब निकलेंगे.

मेरी चूत अब पूरी किसी कुंवारी लड़की की तरह सी हो चुकी है क्योंकि इसको सालों से कोई लंड नहीं मिला. जैसे ही उसका हाथ मेरे लंड पर आया पूरे शरीर में करंट दौड़ गया और लंड भी फूल कर दोगुना हो गया. मैं उसके लंड की चोटों पर चोटे गांड फाड़ू ठोकरें झेलता रहा… झेलता रहा… गांड चौड़ी किए लेटा रहा.

मैंने जब उसकी चूत को रगड़ते रगड़ते उसमें उंगली डाली तो वो चिंहुक गई और मेरी चड्डी में हाथ डाल कर मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर हिलाने लगी, जो अभी खड़ा था और 7 इंच लंबा औरकाफ़ी मोटा हो गया था.

मैंने धीरे से अपना मुँह एक चूची पर रख दिया और अपने एक हाथ को दूसरी चूची के ऊपर लगा दिया. ”वो मेरे होंठ चूसने लगा और बड़े प्यार से लंड अन्दर करने लगा मगर मेरे नीचे तो आग लगी हुई थी- अब नहीं रहा जाता… पूरा डालो.

बीएफ सेक्सी भाभी की मैं बिल्कुल मदहोश हो गई और अब मैं भी झड़ गई और इस तरह मैं अपने होने वाले पति बालू के सामने आशीष से बहुत जम कर चूत चुदवाई. तो आप रशियन लैंग्वेज के किसी कोर्स में दाखिला ले लीजिए, सबसे आसान उपाय है!” मेरी पत्नी ने उन्हें कहा.

बीएफ सेक्सी भाभी की फिर वो कामिनी के बिल्कुल पास चला गया और उसको एकदम अपने से चिपका कर बोला- तो मेरी जान ये तो तुम्हारे पति लायक है नहीं, पर जरूरतें भी तो पूरी करनी पड़ती हैं. आईईई… मुझे डर लगने लगा है! कोई मुझे बचाओ…” नताशा अपने हाथों से अपनी आँखें छुपाती हुई नाटकीय अंदाज़ में चिल्लाई.

जो औरत अपने पति से शारीरिक रूप से संतुष्ट नहीं होती है, उसे जिगोलो संतुष्ट करता है मतलब वो उस औरत के साथ सेक्स करता है और बदले में वो उस औरत से अपनी मेहनत की फीस लेता है.

गैलेक्सी बीएफ

स्वर्ण रस के छेद की खाल को ज़रा सा ऊपर खींच कर छेद को नंगा कर दिया और अपनी जीभ अकड़ा के ज़ोर से छेद पर टुकुर करके मारी. तब उनको शायद समझ आ गया कि मैं गर्म हो चुकी हूं, वो मेरी लैगी उतारने लगे. जब भी वो ऐसा करती तो उसकी छोटी बहन मुस्कुराते हुए उधर से उठ कर चली जाती थी.

मैं जैसे स्वर्ग में था और फिर मैंने वो शीशी महक के बदन पे उड़ेल दी और उसके बदन को बेतहाशा चूमने लगा. जब मेरा पानी निकालने को हुआ तो मैंने झटके मार मार कर भाभी का मुख चोदन करने लगा. फिर वो एजेंसी आपसे आपका नाम, ईमेल, फोटो आईडी ले लेते हैं और मुफ्त में रजिस्ट्रेशन कर देते हैं.

जब लंड इतना जोर मारने लगा था कि ना चाहते हुए भी उसका पानी चुत में जाना शुरू होने लगा तो फिर उसके लंड को चुत से बाहर खींच लिया.

अंकल ने पूछा- दिल्ली में इतनी सर्दी ही होती है क्या?मैंने कहा- हां अंकल. मेरे ये कहने से वो थोड़ा डर गई और मुझसे विनती करने लगी- नहीं जीजू, मैंने कुछ नहीं किया है, आप प्लीज़ किसी को कुछ मत बताइए. फिर उसका उल्टा लिटा कर उसकी पैंटी से लेकर बिल्कुल नीचे तक दोनों पैरों पर किस किया.

मैंने धीरे से उनके बालों पे हाथ फिरा दिया, वो आंखें बंद करके साथ देने लगीं. ”मैं अब मज़बूरी में अपने घुटनों के बल बैठ गया और रोशनी के खट्टे मीठे अंगूर चूसने लगा. उसकी टाइट चूत के आगे अब मेरा लंड ज्यादा टिक नहीं पाया और वो पिघलने वाला था, इसलिए मैंने आठ दस दमदार झटके और उसकी चूत में मारे और अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकालकर सारा पानी उसकी चूचियों पर गिरा दिया और उसके ऊपर ढेर हो गया.

मैं उसके थोड़ा पास गया और स्मूच करने के लिए खींचने लगा, उसने मुझे धक्का मारा और इसी खींचातानी में मेरा हाथ उसकी चूची पर चला गया और मैंने उसे जोर से दबा दिया. मैंने पूछा- कहां चलना है?उन्होंने बताया कि बस और 4 किलोमीटर चलना है.

कितनी कड़क चूचियाँ हैं तेरी, तेरे लिए तू बहुत दमदार लड़का खोजना पड़ेगा. इसके बाद में मैंने एक झटका और दिया तो इस बार पूरा सात इंच का लौड़ा चूत की जड़ तक अन्दर चला गया. उसके गर्मजोशी से चुम्बन करने के अंदाज को देख कर मुझे भी मजा आने लगा और मैं भी मौके का फायदा उठाते हुए उसकी टी-शर्ट निकालने लगा.

फिर बोली- अच्छा एक कहानी मुझे भी भेज दीजिये… मैं भी तो देखूं थोड़ी थोड़ी नॉन वेज कहानी कैसी होती है… आपकी बातों से एक कौतूहल जग उठा है मन में कि नॉन वेज कहानी क्या और कैसी होती है… मैंने कभी पढ़ी नहीं… न थोड़ी थोड़ी नॉन वेज, न ज़्यादा ज़्यादा नॉन वेज.

पापा ने कहा- वो लड़का अभी यूएस में है कुछ दिनों बाद आ जाएगा, फिर प्रोग्राम बनाता हूँ. तो बोली- इसे चुप कौन कराएगा?मैं बोला- आपका पति।तो वो बोली- अभी तो तू ही मेरा पति है, देख कब तक मैं तुमसे आज चुदती हूँ। एक बात जानते हो, मैंने अपनी शादी में किसी भी मित्र को नहीं बुलाया।मैं बोला- मुझे पता है।प्रियंका ने तो अंतिम विदाई के समय तक मेरे लिंग को चूसा और चूत चुदवाई। शादी की रस्मों के बाद आराम करने के बहाने से वो रूम में आ गई थी और चुदाई का एक दौर पूरा कर गयी थी. मैं इस पिचकारी के लिए बिल्कुल भी तैयार नहीं थी और मुँह मेरा खुला हुआ था.

मैं- अरे नहीं स्टार्टिंग में थोड़ा दर्द होता है… फिर बहुत मज़ा मिलता है. मैंने अपना लंड सैट किया और एक धक्का दे मारा, लेकिन उसकी चूत इतनी टाइट थी कि मेरा लंड फिसल गया.

मैंने राय देते हुए आर्थर की तरफ देख कर कहा- हमारा डबल बेड दूब की लकड़ी से बना हुआ बेहद मजबूत बेड है और नताशा के अलावा सिर्फ वही हमारी आज की फाइट को सह सकता है!आर्थर हंस दिया और सहमत हो गया. मम्मी ने मौसी को फोन किया और दो दिन बाद मेरी मौसी का बेटा मुझे लेने आ गया. सुहानी मुझे चोदते हुए देखा तो छूट मसलते हुए बोली- तुम दोनों ने मेरा मूड ख़राब कर दिया है, जब देखो चुदाई में लगे रहते हो.

एचडी बीएफ सेक्सी बीपी

मैंने कहा- चलो… आखिर आपने मुझसे नजरें तो मिलाई!औऱ हम सब खिलखिलाकर हंस पड़े।उसने शरमाते हुए फिर से नजरे झुका ली।तब लग रहा था जैसे वह भी मुझे पसंद करती है।यह हमारी पहली मुलाकात थी और पहली मुलाकात में ही हमारा प्यार परवान चढ़ने लगा था।इसके बाद मैंने रोज क्लास अटेण्ड करना शुरू कर दिया, हम साथ बैठने लगे, ढेरों बातें होने लगी.

जैसे प्यास लगते ही हम पानी पी लेते हैं, उसी तरह से चूत में लंड भी डलवा लेती हैं. मैंने भी जिद नहीं की लेकिन मैंने बोला कि फिलहाल इस खड़े लंड का क्या करूं?दीदी बोली कि इस खड़े लंड को मेरी दोनों चूचियों के बीच में डाल कर इसे चुत समझ कर चोद लो और रस टपका दो. अपने मुँह से मेरा बड़ा लंड कब तक सहतीं, सो लंड बाहर निकाल दिया और मेरे ऊपर आकर मेरे लंड पर बैठने को हो गईं.

नगमा की माँ जोर-जोर से आवाजें निकालने लगी- आह चोदो मुझे और चोदो अहा अहह अहा रुकना नहीं, कितना बड़ा लंड है तुम्हारा. जिसका नतीजा होता था कि लंड को पानी निकालने के लिए और टाइम मिल जाता था. बीएफ वीडियो में चोदने वालीउन्होंने कहा- मुझ पर विश्वास करो मेरे फ्लैट में मैं अकेला रहता हूं.

और चुप होकर मेरी आँखों में देखने लगी, मेरे जवाब का इंतज़ार करने लगी. वैसे रोशनी के पीठ पीछे भी विक्की और गोलू पिंकी की चूत का पूरा आनन्द उठा रहे थे.

मैं थोड़ी देर लेटा रहा और मेरे दिमाग में उसके साथ सेक्स करने के विचार आने लगे. उसके मम्मों को अपने दोनों हाथों से जितना मसल सकता था, खूब मींजा और लंड को उसकी चुत के संग कबड्डी खेलने की छूट दे दी. मैंने उससे पूछा- तुमने ये कोल्ड ड्रिंक किसके लिए मंगवाई है? तुम्हारे घर में तो कोई भी नहीं है.

मेरा लंड एक लोहे की रॉड की तरह हो गया, जिसे भाबी ने चूस चूस कर और कड़क कर दिया था. नताशा संग हमने भी पैदल मार्च में शामिल हो शहर में घूमते हुए रेड स्क्वायर तक जाकर परेड देखने जाने का प्लान बनाया. यह बात 2 साल पहले की है जब मैं एक इवेंट कंपनी में मार्केटिंग की जॉब करता था जो साउथ दिल्ली में है.

थोड़ी देर ऐसे ही मैं अपनी उंगली अन्दर बाहर करता रहा और वो आराम से मजे लेती रही.

क्या नज़ारा था…!!! साक्षात् रति भी इतनी सुन्दर ना होगी जितनी उस वक़्त प्रिया लग रही थी. मेरे पास और कोई चारा नहीं था और वो भेनचोद बिना चोदे आने वाला नहीं था.

चूंकि उसकी चुत कसी हुई थी और पानी निकलने के कारण काफी फिसलन ही रही थी. मेरी साली भी अब अगले कदम के लिए तैयार थी, उसने भी अपनी टांगें चौड़ी की और मुझे अपनी बांहों में भर लिया. एक बार मैं अपने दोस्त के साथ अवंतिका से मिलने गया, तब अवंतिका के साथ उसकी फ्रेंड रीटा भी आई थी.

और उसने पजामे के ऊपर से ही मेरा लंड पकड़ लिया और उन दोनों को आवाज दी तो वो दोनों आ गई।फिर प्रीति ने मेरे दोनों हाथ मजबूती के साथ पकड़ लिये और दीक्षा ने मेरे दोनों पैर पकड़ लिये और हवा में उठा दिया तभी दिशा ने मेरा पजामा खींच दिया. मैंने बिना समय गवाएं उसको चित लिटाया और चुदाई की पोजीशन में आकर गरम भाभी की चूत पर लंड रख दिया. मैं ये सुन कर बहुत खुश हो गया और मैंने उससे पूछा कि कब मिलना है?उसने कहा कि कल मेरे एरिया में नाइट का प्रोग्राम है, तुम कल रात 8 बजे पहुँच जाना.

बीएफ सेक्सी भाभी की उसकी पेन्टी से ही मैंने उसके खून और उसकी चुचियों से अपने वीर्य को साफ किया. गांड पर लण्ड का टोपा घिसते घिसते मैंने अचानक लंड को उसकी चूत में ही ठोक दिया, वह मजे से अन्दर ले गई.

नई लड़कियों की बीएफ हिंदी

कैसे मैंने अपनी बहन को चोदा, उसको अपनी रानी बनाया ये जानने के लिए मेरी सेक्स स्टोरी का अगला भाग ज़रूर पढ़ें. अब अंकल ने मेरी पैंट का हुक खोल दिया और हाथ पीछे ले जा कर मेरी गांड को दबाने लगे. अब आगे हमारी मस्तियों को कहानी मेरी जुबानी!मैं और अर्पिता एक दूसरे से बहुत करीब आ गए, रोज़ फ़ोन पे बात होना और विडियो कॉल पर सेक्स करना हमारा प्रिय शगल बन गया था.

मैं- मैं भी उसी साइड रहता हूँ!भाभी- अच्छा, कहाँ पर?मैं- रोहिणी में!इतने में दूसरा प्लेटफार्म आ गया. उसकी चूत पर हल्के हल्के से बाल थे, जो उसकी चूत को और खूबसूरत बना रहे थे. गुजराती बीएफ सेक्सी गुजरातीअब उसे भी मजा आने लगा था- आअहह… आह… मैं ये चुदाई कभी नहीं भूलूंगी आह… आह… मम्माआ… बहुत जुल्मी हो तुम… आह… ऐसे ही करो… आह… हां ऐसे ही आह…अब मेरा लंड भी झड़ने वाला था.

देखते ही देखते हम नंगे हो गये और बिस्तर में एक दूसरे को पागलों की तरह चूमने लगे.

सारे दिन लड़कों की निगाहों को मैं रात को सोते समय याद करके अपने बोबे सहला कर चुत पर हाथ फेरती थी और अपनी जवानी पर खुद झूम उठती थी. अभी मेरी ट्रेनिंग चल रही है तो मुझे अपने खर्च के लिए रूपये की जरूरत थी.

जब मैंने फ़ोन रिसीव किया तो सामने से एक सेक्सी आवाज आई- मैं निशा बोल रही हूँ. ” कहते हुए मैं अपने पैर नीचे कर के बैठ गया, मेरे चेहरे पर हल्की सी स्माइल थी, वो मेरे बाजु में बैठ गया. मुझे तो यही बात याद आती कितेरी जांघों के सिवा,दुनिया में क्या रखा है.

इसी लिए रांड ने सेनेटरी पैड लगाया हुआ था वर्ना साली की पैंटी और सलवार में पिच्च पिच्च हो जाती.

अगर आपके पास चूत या लंड का इंतज़ाम नहीं है तो लड़के मुट्ठ मारेंगे और लड़कियां अपनी चूत में उंगली डालकर अपनी चूत का पानी निकालेंगी. उन्होंने दरवाजा खोला, मैं तो उसको देखता ही रह गया यार… क्या मस्त माल थी. फिर अंकल ने पोजीशन चेंज की और मेरी दोनों टांगें अपने कंधे पर रख कर फिर से स्टार्ट हो गए.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ चोदने वालीथोड़ी देर में मॉम अपनी चुत को लंड पर आहिस्ता आहिस्ता ऊपर नीचे करने लगीं. मकान मालिक ने मुझे चोदते हुए रुक कर कहा- अब दूसरे तरीके से चोदूँगा.

मां की चुदाई का बीएफ

जैसे आप सब जानते हैं कि लड़की के बदन के सबसे कामुक हिस्से कान और गर्दन होती हैं तो मैं उसकी गर्दन और कान को चूमने लगा और हल्का हल्का काटने लगा. ह!!!”इस दोहरे काम-आक्रमण को झेलना प्रिया के लिए हर्गिज़ आसान न था; प्रिया के जिस्म में रह रह कर काम-तरंगें उठ रही थी और प्रिया के मुंह से आनन्ददायक सिसकारियों की आवाज़ ऊँची… और ऊँची होती जा रही थी और प्रिया की बेचैनी पल प्रतिपल उसके क़ाबू से बाहर होती जा रही थी. दीदी सिर्फ अपनी भूरी डिज़ाइनर चड्डी में मुझसे किसी बेल की तरह चिपक गयी थीं.

एक बार मैं अपने दोस्त के साथ अवंतिका से मिलने गया, तब अवंतिका के साथ उसकी फ्रेंड रीटा भी आई थी. वो एक जोरदार चीख के साथ झड़ने लगी- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआ… आआहह…फिर कुछ पल शिथिल रहने के बाद वो उठी और मेरे कपड़े खोलने लगी. तुझे सब सिखाने ही तो यहां लाई हूं, अगर तुम्हें पहले आता होता तो यहां क्यों आते, घर में कभी भी चुपके से कर लेते.

हम लोग (मैं और मेरा रूममेट) सड़क एक किनारे से चले जा रहे थे, तभी एक लड़की हमारे पास से निकली… वो साइकिल से थी. चुत को खोल कर उसने चुत के होंठों को अपने मुँह में लेकर खींचना शुरू किया. फिर मैं उसे अपनी गोदी में उठा कर कमरे में ले गया और पूजा मेरी गोदी में ही मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल के मेरे होंठ को चूसने लगी, किस करती रही.

और यही मेरी क्वालिटी है कि मैं नाम भले ही भूल जाऊं पर चेहरा कभी नहीं भूलता. मेरी चुदाई की हिन्दी कहानी के पिछले भागमेरी सहेली की मां बनने की चाहत-1में आपने पढ़ा कि कैसे मेरे पति ने मुझे अपने बिजनेस को बढ़ाने के लिए मेरे कामुक जिस्म का इस्तेमाल करना चाहा, मैं भी यह काम ख़ुशी खुशी कर रही थी.

मैं इस वक्त भूल चुकी थी कि शुरुआत मैं मैंने उसके साथ ये सब ऊपर ऊपर से ही मजा करने की सोची थी.

तभी भाभी ने अपनी चुत का पानी छोड़ दिया और मैंने उनकी चूत का सारा पानी मुँह में ले लिया. बीएफ इंग्लिश सेक्सी वालीउसकी गर्लफ्रेंड बहुत सेक्सी माल थी, उसके चुचे उसकी गांड सब मस्त थे. बीएफ सेक्सी फिल्म सुहागरात वालीफ़िर वो वीडियो बंद करके बोलीं- अगर तुम चाहते हो कि मैं ये वीडियो अंकल को ना दिखाऊं, तो तुम वही करोगे जो मैं करने को कहूँगी, वो भी बिना कोई सवाल किए…मैंने डरते हुए बोला- जो आप कहोगी, मैं वो ही करूँगा, लेकिन प्लीज ये वीडियो डैड को मत दिखाना. मैंने कहा- पर तुम कुछ भी कहो, तुम्हारी चूत अगर अनचुदी होती तो इतनी ढीली नहीं होती, मेरी उंगली आसानी से अन्दर बाहर हो रही थी.

मैंने भी लंड पर थूक लगाया, सुपारा उसकी गांड पर रखा ही था, मैंने धक्का दे दिया.

फिर उसके एक बोबे पे हाथ रखके उससे पूछा- इन्हें चूसा है उसने?उसका जवाब हाँ था. जब वो प्लेट रखने के लिए नीचे झुकी तो मुझे उसके मम्मों के दीदार हो गए. अचानक प्रिया ने मुझे अपने से थोड़ा परे किया और अपने बाएं हाथ से मेरे नाईट-सूट के बटन खोलने की कोशिश करने लगी लेकिन एक हाथ से बटन खोलना और वो भी बाएं हाथ से… थोड़ी टेढ़ी खीर थी.

फिर शाम को मैंने सारी बात अपने रूममेट को बताई, तब उसने मुझे बताया कि अरे उस लड़की की बात कर रहा है, उसका नाम ऋतु है और वो इलेक्ट्रीकल ब्रांच की है और हाँ… उसके पीछे कई लड़के पागल हैं. मेरा मन करने लगा कि अभी के अभी भाबी की चुत में लंड पेल कर चुत फाड़ दूँ. जब कि सच तो यह था कि मेरी ये गरम साँसें पिंकी अपने मुँह में मेरे लंड में भर रही थी.

इंडियन बीएफ एडल्ट

सोनिया- भैया ये गलत है अगर किसी को पता लग गया तो बहुत बेइज्जती होगी. कुछ देर बाद उसने अपना हाथ पीछे कर मेरे लंड को पकड़ा और अपनी गांड को हिलाने लगी. पिछली कुछ मुलाकातों जहाँ बड़े-बड़े लंड वाले लड़कों ने नताशा की गांड की ठुकाई की थी, को याद कर मेरा रोम-रोम ख़ुशी से सिहर उठा और मुझे लगने लगा कि आज की चुदाई भी उसी दिशा में जा रही थी!हाँआआआ… तुझे इसी की जरूरत है! और ऐसे ही चोदूंगा मैं तुझे! लेकिन चिंता मत कर मेरी जान, तेरी गांड इतनी आसानी से नहीं फटने वाली…” आर्थर कुटिल मुस्कान के साथ बोला.

फिर बोली- अच्छा एक कहानी मुझे भी भेज दीजिये… मैं भी तो देखूं थोड़ी थोड़ी नॉन वेज कहानी कैसी होती है… आपकी बातों से एक कौतूहल जग उठा है मन में कि नॉन वेज कहानी क्या और कैसी होती है… मैंने कभी पढ़ी नहीं… न थोड़ी थोड़ी नॉन वेज, न ज़्यादा ज़्यादा नॉन वेज.

और थोड़ी देर बाद मैंने नीचे झुक कर मौसी की तपती चूत पर अपना मुंह लगा दिया और उसे चाटने लगा.

मैंने झटके से फ़िर से सर बिस्तर पर पटक दिया और सर लेफ्ट राइट घुमाने लगी. मैंने देखा कि मेरे पापा बिंदु माँ की चूत को खोल खोल कर चाट रहे हैं और माँ उनके लंड के सुपारे का मजा नीचे करके मुँह में लंड लेकर चूस रही थी. जागृति बीएफउसके बाद मैंने चाची जी की पूरी बॉडी पर किस किया। वो अभी भी सो रही थी, अब मैं उनका हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रखने ही वाला था कि मैंने अचानक बाहर से आवाज सुनी। मैं डर कर साइड हो गया और बाहर जा कर देख तो वहाँ बिल्ली के दो छोटे बच्चे खेल रहे थे.

थोड़ी ही देर में मेरी चूत ने उनके मुँह में योनि रस की बरसात कर दी जिसे सर ने अपने मुँह में ले लिया. वैसे भी मुझे ही चादर धोनी पडे़गी।मैंने कहा- क्यों सर, आपके तो कपड़े धोने वाली काम करती है।सर ने कहा- अरे पगली, तेरी सील टूटने का बाद इस पर खून लग जाएगा। ऐसे ही रख दी तो तेरी आंटी को शक हो जाएगा।मैं हंस दी और कहा- आज के बाद वो मेरी आंटी नहीं रही मेरी सौतन बन जाएगी।सर भी हंस पडे़ और बोले- बिल्कुल सही कहा शिल्पा।जवान स्कूल गर्ल की चुदाई कहानी जारी रहेगी. मैंने तुरंत मेरा मुँह उनकी चुत पे रखा और जीभ से उनकी चुत चाटने लगा.

वह साला गाँव की भाषा में इतनी चोदू और सेक्सी बातें बोल रहा था कि मुझसे अब रहा नहीं गया और मैंने भी अपने कदम रोक दीये और उसके सामने खड़े होकर उसके लंड को तेज दबा दिया और मसल कर उसके जिस्म से लिपट गया. वो बोली- बहनचोद भड़ुए… असली मर्द जब पिचकारी छोड़ते हैं, तो चूत से बहती रहती है.

वो मेरे चूचों पर कोई रहम नहीं करने वाला था क्योंकि वो मेरे चुचों के अंगूरों के कवर्स को खींच खींच कर ऊपर लेकर छोड़ता था, इससे मुझे बहुत दर्द होता था.

उसने कहा- जी पूछिए?उसने कहा- मेरी एक चाची की लड़की है वो भी आपकी उम्र की ही है. बातों बातों में उन्होंने बताया कि उनकी एक सहेली भी एन्जॉय करना चाह रही है… क्या उनके साथ भी एंजाय करना चाहोगे?मैंने कहा- कोई बात नहीं आप उनको भी बुला लो. मम्मों को मसलते हुए पीने में जो मजा आ रहा था… उसका आनन्द ही अलग था.

जवान लड़की की बीएफ वीडियो उनमें से इतनी मादक और मस्त खुशबू आ रही थी कि मैं 5 मिनट तक तो उनको सूंघता ही रहा, फिर मैंने ब्रा को अपने लंड पर रख कर मुठ मारी. उसकी गांड काफी टाइट होने की वजह से मेरी एक उंगली भी ठीक से नहीं जा पा रही थी.

जैसे ही मैंने गर्म कहा उसने होंठों पर होंठ रख दिए और 5 मिनट तक किस किया. उसके साथ में पढ़ने के लिए हम एक दूसरे के घर ग्रुप स्टडी के लिए जाया करते थे. थोड़ी ही देर की चुदाई के बाद उसने अपने पानी में मेरा पूरा लंड गीला कर दिया.

सेक्सी बीएफ देहाती भाषा

अब मैंने भी हार नहीं मानी और उसकी चुत चाटना शुरू कर दिया, वो पागल हो गयी थी, उसे मोटा लन्ड चाहिये था और मैं उसे चूस चूस कर बेचैन कर रहा था. मैंने उनसे उनका साइज़ पूछा तो उन्होंने बिना शरमाए कह दिया कि 32 नम्बर है. उस वक़्त जितना गुस्सा मुझे अपने आप पर आ रहा था उतना गुस्सा मुझे आज तक किसी पर नहीं आया होगा.

इतने में डॉली बोली- अरे नो टेंशन, अभी तू यहाँ है, हमारा सेवक किसी का दिल नहीं तोड़ता, सबको खुश करता है. आह… उह… डार्लिंग…मैं उसके बूब्स की टोपियों को काट रहा था, कितना मजा आ रहा था। उसने अपने नाखून मेरी पीठ पर गड़ा दिये आह… उम्म्ह… अहह… हय… याह… आहहह… या… यस…वो सिसकारियां भर रही थी और पुकार रही थी- अब डाल दो… जानू औऱ सब्र नहीं होता। मार ही डालोगे क्या तड़पा तडपाकर…मैं उसे क्या कहता कि मैं कितना तड़प रहा हूँ…उसने मेरा लण्ड पकड़ लिया मेरा 6.

मैंने मेरे दोस्त से कहा- यार अगर मैं इसको सच में अपने घर का नंबर दे देता तो आज तो ये मुझे मरवा ही देती.

जो मैंने 32 इंच के छोड़े थे, आज वो 36 इंच के हो गए थे और काली ब्रा में क़यामत ढा रहे थे. अब भाभी उसको चुप करवाने की कोशिश कर रही थीं, लेकिन वो चुप ही नहीं हो रहा था. मैं सीधा जिम में गया और दरवाज़ा बंद कर दिया और अपनी तैयारी करने लगा.

इसी दरमियान उसने मेरे लंड का उभार भी देख लिया, लेकिन वो कुछ बोली नहीं. आआहह… दर्द हो रहा है… स्सस्सस्स आआह… इस्सस्स… रुको जानू… अब तुम लेटो, मैं ऊपर आती हूँ… आआह… इस्स्स…”मैं उसके लंड पर कूदने लगी और किस करने लगी. ऊपर जैसे जाकर नाक किया मकान मालिक निकला, मुझे देख कर ऊपर से नीचे तक घूरने लगा और बोला- वाह वन्द्या, क्या मस्त हो, सच में बहुत मस्त माल हो!और गेट खोला।मैं बोली- अंदर तब आऊंगी जब यह सुरेंद्र जीजा भी अंदर रहेंगे.

वहां क्या हुआ?पूरी कहानी यहाँ पढ़िए…जो लोग xxx पोर्न फिल्मों जैसा सेक्स करना चाहते हैं, पर शर्मिंदगी की वजह से या गंदे सीन की घृणा की वजह से यदि ऐसा नहीं कर पाते हों.

बीएफ सेक्सी भाभी की: यह सुनकर मेरे आंखों में स्माइल आ गई और मैंने पूछा- सच्ची?वो बोलीं- मुच्ची!उन्होंने अपने बेबी को एक तरफ लिटाते हुए एक फ्लाइंग किस मेरी तरफ़ उड़ा दी. मुझे देखते ही दोनों अपने अपने कपड़ों की तरफ भागे और जल्दी से कपड़े पहनने लगे.

कोई बात है तो मुझे बता दो?चाची ने बड़े दोस्ताना भाव से पूछा तभी मुझे लगा कि ये चाची ही मेरी मदद कर सकती हैं. इसके बाद खाना आदि खाने के बाद दिन में उसने मेरी एक बार और चुदाई की. इसी बीच हम दोनों ने थोड़ी दारु भी पी ली जो पूल के किनारे पर ही रखी थीहम दोनों के कपड़े धीरे धीरे हमारा साथ छोड़ रहे थे, मैं उसके और वो मेरे कपड़े उतार रही थी, ठन्डे पानी में भी हम एक दूसरे के जिस्म की गर्मी महसूस कर रहे थे.

थोड़ी ही देर की उसकी चूत चुसाई और चुचियां दबाने के बाद ही वो झड़ने लगी.

’शर्म से रेखा का गोराबदन सुर्ख हो गया, वो भर्रायी सी आवाज़ में बोली- आप बड़े वो हैं… जाइए मैं नहीं आपसे बात करती. भाभी बड़े प्यार से मेरे बालों पर हाथ चलाते हुए अपना दूध मुझे चुसाने लगी थीं. मेरी साली की जवान बेटी के साथ सेक्स की कामुकता भरी कहानी के पिछले भागस्त्री-मन… एक पहेली-3में आपने पढ़ा कि प्रिया मेरे घर में मेरे साथ अकेली है, रात हो चुकी है, वो मेरे बेडरूम में मेरे बेड पर है.