हिंदी कुंवारी बीएफ

छवि स्रोत,सबसे हार्ड बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

देसी हॉट बीएफ वीडियो: हिंदी कुंवारी बीएफ, मैंने कहा- मेरा होने वाला है जान … किधर निकालूं?वो बोलीं- अन्दर मत निकालना.

सेक्सी बीएफ चाहिए हिंदी सेक्सी बीएफ

तभी उसकी नजर मेरे ऊपर आ गई- अरे बाप रे, ये कौन है?नेहा अपनी चूत जॉन के लंड से निकालती हुई बोली- आ आहह, मेरी सहेली है विपाशा. बीएफ सेक्सी वीडियो डाउनलोड एचडीमैं ये ऊपर कर देता हूँ।हाँ … पर आंखें बंद रखना और जल्दी करना।” वो बोलीं.

पूरा लंड चुत की गहराई में घुसा तो मामी एकदम से चिल्ला पड़ीं- आई मार डाला रे … आह्हम्म आह आह साले ऐसे कौन घुसेड़ता है … आह्हम्म आह फट गई मेरी चूत … आह्म्म ओह्म्म आह्म्म उफ्फ. 2020 की सेक्सी बीएफहम दोनों ने पहले न कभी गांव देखा था, न ही इस तरह रात कभी नहीं बिताई थी.

तभी चाची ने मेरे सिर को अपनी चुत में दे दिया और मैं उनकी चुत से टपकने वाले जवानी के रस को चूसने लगा और चाची की चुत को पिए जा रहा था.हिंदी कुंवारी बीएफ: तभी सनी को लगा कि उसका निकलने वाला है तो उसने अपने लंड को पूरा बाहर निकाला और ऋतु की आंखों में दिखाते हुए अपना आखिरी वार कर दिया.

दूध सहलाते सहलाते मैंने उन्हें चूमना शुरू कर दिया और उन पर जीभ फिराकर चाटने लगा.वो मेरे लंड को देख कर बोलीं- वाह तेरा तो तेरे मामा से भी काफी बड़ा लंड है.

सेक्सी पिक्चर बीएफ पिक्चर वीडियो - हिंदी कुंवारी बीएफ

ऋतु को अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था, लंड की रगड़ उसे पागल बना रही थी जिससे उसकी प्यास और बढ़ती जा रही थी.सुबह स्कूल में सबसे पहले मैंने संजय से बात की क्योंकि संजय हमारे ग्रुप में सबसे अनुभवी था.

फिर शैंकी ने मेरी चुत में अपना थूक लगाया और लंड को पीछे से ही चूत पर रखकर अन्दर पेल दिया. हिंदी कुंवारी बीएफ प्रिया मेरे बालों को सहला रही थी और सपना अपने हाथ, मेरे पैरों पर रखकर उछल रही थी.

मीना- आशु, वो अभी तेरा सह नहीं पाएगी, वो छोटी है और तेरा काफी बड़ा है.

हिंदी कुंवारी बीएफ?

जवान डॉक्टर सविता भाभी की जांच करते करते उत्तेजित हो गया, उसका लंड सख्त हो गया।डॉक्टर ने सविता भाभी क्की चूचियां कैसे मसली और भाभी की पैंटी उतरवा कर जांच कैसे की?यह जानने के लिए यह आवाज वाली वीडियो देखें. फिर भाभी ने फोन को चार्जर से अलग किया और उसे वो अपने साथ लेकर रसोई में चली गईं. मैंने पिंकू की दोनों टांगें फैलाई और दोबारा से अपना सख्त लौड़ा उसकी चूत में डाल दिया.

सनी भी जोश में आ गया और उसने एक जोरदार धक्का उसकी चूत में लगा दिया और लंड फिर से जड़ तक घुस कर सीधे उसकी बच्चेदानी से टकराया. अब आगे माउथ सेक्स का मजा:‘आंह आशु … बड़ा अच्छा आआअहहह लग रहा है … आआह … ईईईई …’चूची चूसने के साथ साथ मेरी एक उंगली जो उसकी चूत के रस में भी डूबी थी, वो सटासट अन्दर बाहर हो रही थी. प्लीज़ आप रुकना नहीं … आओ और चोदो मुझे … बस ऐसे हीचोदो मुझे पूरी रात… आंह.

वह बिल्कुल पालतू जानवर की तरह व्यवहार करती एवं मेरी हर आज्ञा का पालन करती।हमारा घर शहर से बाहर की तरफ था. शाम को उसकी मॉम आईं तो उन्होंने मुझे बुलाने दीपिका को मेरे कमरे में भेजा. कुछ देर बाद दीदी ने मेरे पजामा में अपना हाथ डाला तो मेरा लंड तो खड़ा था ही.

जब मैं वहां से निकलने वाला था, तभी अचानक से मौसम खराब होने लगा और बारिश होने लगी, जिससे मैं थोड़ी देर के लिए वहीं रुक गया. पर बहुत साल बाद समझ में आया कि मंजू मेरा इम्तिहान ले रही थी या चिढ़ा रही थी … या ये कह लो कि वो मेरे मज़े ले रही थी.

पर अब मन में एक सुकून था कि मैं अपने पति से कोई धोखा नहीं कर रही थी क्योंकि सनी भी अब मेरा पति था.

अब उसे अहसास हो रहा था कि आखिर क्यों लड़की को एक अनुभवी व्यक्ति से जरूर चुदना चाहिए.

दिन मैं वो मुझे असिस्ट करेगी और सारी शाम और रात मैं उसे रगड़ कर मजा लूंगा. चाचा के जाने के बाद भतीजा चाची सेक्स वासना शांत करने में ऐसे लीन हो जाते थे कि मानो हम दोनों पति पत्नी हों. हम घर आए तो पापा ने चाय बना कर रखी थी और वो छोटे भाई को पढ़ा रहे थे.

मैंने कहा- वो सब तू झेल लेगी … मैंने तेरी कितनी बार तो गांड मारी है. तभी सनी को भी लगा कि उसका रस निकलने वाला है, तो उसने एक बार पूरा लंड बाहर खींचा और अपने जिस्म की सारी ताकत लगाकर एक आखिरी धक्का उसकी चूत में मार दिया. मैंने बाद में अपनी बहेन से ये भी पूछा था कि उसने अपनी सील किससे तुड़वाई थी.

मामी थोड़ी उदास सी लग रही थीं तो मैंने माहौल को हल्का करने के लिए हंसकर कहा कि मामी क्यों उदास हो रही हो, मामा 2 दिन के लिए ही गए हैं और मैं भी तो हूँ आपके पास!तो मामी मुझे देखकर बोलीं तुम्हारी शादी हो जाएगी तो पता लगेगा 2 रात अकेले रहने में क्या होता है.

मैं अपना लंड पिंकू की चूत में अंदर तक डाल रहा था जिससे पिंकू की चीख निकल रही थी. हम दोनों एक दूसरे के सामने थे और कभी मैं उनसे नजर चुराता तो कभी वह मुझसे!इस तरह करीब 2 मिनट हो गए, हम दोनों के चेहरे पर मुस्कान भी थी. उसने मेरे गाल पर थप्पड़ मारे, फिर मेरा मुँह खोल कर अपना लंड मेरे मुँह में पेल दिया और मेरे मुँह की चुदाई करने लगा.

तब दीदी ने पूछा- कैसा लगा तुम्हें अपने लंड के रस का टेस्ट?मैंने कहा- दीदी, मेरे लंड का रस आपके होठों के रस के साथ मिलकर अमृत जैसा हो गया है. मैं झेम्प गया और बोला- सॉरी मामी … मैं वहां फ़ोन पर बात कर रहा था, तो मुझे आपकी आवाज सुनाई दी. मैंने उसको उसके और उसके बॉयफ्रेंड की चैट के स्क्रीनशॉट और उसकी नंगी फोटो दिखा कर कहा- मैं यह सारे फोटो मम्मी और पापा को दिखा दूंगा.

मैंने उसी लड़की के साथ माउथ सेक्स का मजा पहली बार लिया जिसे मैंने सबसे पहली बार चोदा था.

मैंने मीना को गोद में उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया और खुद उसके ऊपर आ गया. सुबह आठ बजे मैं आंटी के घर से नाश्ता करके चला गया और फिर दोपहर को आ गया.

हिंदी कुंवारी बीएफ मेरे बहन बोली- ये मेरी सहेली तेरे लिए एक सरप्राइज गिफ्ट की तरह मिलना चाहती है. अपनी चुत की वजह से मैं काफी परेशान रही हूँ, तो मैंने सोचा कि चलो आज भी इस चुत को भूखा ही रहने दो.

हिंदी कुंवारी बीएफ मैंने तेज तेज 4 शॉट मारे और अपना पूरा लंड चूत की गहराई में उतार दिया. भोसड़ी वालो, चलो खोलो अपना अपना लण्ड और शुरू हो जाओ।अंकित बोला- अरे यार, पहले थोड़ा नशा तो चढ़ने दो, सरूर तो आने दो। थोड़ी मस्ती तो बढ़ने दो.

कुछ महीनों बाद मैं और नेहा अलग हो गए और मैं अब आकांक्षा के नजदीक आ गया था.

इंडियन सेक्सी वीडियो नया

मैं खुश हो गया और उससे कहा- तेरे दोनों छेदों में एक साथ लंड जाएंगे, तो सोच तुझे कितना मजा आएगा. मेरी नजर मम्मी के नीचे थी, आग के पास बैठी होने के कारण मम्मी की चुत साफ़ दिख रही थी. मेरी मम्मी पेटीकोट और ब्रा में अंकल के नीचे लेटी थीं और अंकल एक चड्डी में मम्मी के ऊपर चढ़े थे.

चाची ने भी मेरे हाथ को अपने मम्मे पर दबा दिया और सीत्कार करने लगीं. जॉन बोला- कैसे हैं मेरे ये मोटे चंगू मंगू … आज तो पहले से भी मस्त और कड़क लग रहे हैं. जाने कितनी बार इस दृश्य की खुद पर कल्पना की थी मैंने जो आज हकीकत में बदल रही थी और मैं आंख बंद करके उस हकीकत की गजबनाक लज्जत को महसूस कर रही थी।दस मिनट से ऊपर ही उसने लगातार इसी पोजीशन में धक्के लगाये होंगे और तब उसका पारा चरम पर पहुंचा.

मैंने उनसे पूछा- आपने मुझे क्यों बुलाया है दीदी?उन्होंने कहा कि तुम मुझे पसंद करते हो ना!मैं घबरा गया, तो उन्होंने कहा- घबराओ मत … मैंने तुम्हें मेरी ब्रा उठाते हुए देख लिया है.

मैंने कहा- अरे ना ना!दीदी अपना हाथ मेरे लंड पर ले आईं और लंड मसलती हुई बोलीं- आज इसको मैं तबाह कर दूंगी. आप अपने विचार मुझे अवश्य बताएं मेल या कमेंट्स के माध्यम से![emailprotected]भाई और बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:बड़े भाई और छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2. आप सब अपनी राय मेरी ईमेल आईडी पर जरूर भेजें कि आपको मेरा ये यंग हॉट गर्ल Xxx खेल कैसा लगा.

रूही भाभी सिर्फ ब्रा और पैंटी में थीं, उनके मोटे मोटे बूब्स उनकी ब्रा को फाड़ कर बाहर आना चाह रहे थे. तभी भाभी वासना से मेरी तरफ देखती हुई बोलीं- तुम आज शाम को घर आ जाना, मुझे तुमसे कुछ काम है. मैंने उसे बेड पर चित लिटाया और उसकी पैंटी के साइड में से चुत में लंड घुसा दिया.

फिर क्या हुआ?हैलो फ्रेंड्स, मैं मोना रानी एक बार फिर से आपके सामने हाजिर हूँ. इसके बाद भी हम दोनों को जब भी मौका मिलता, हम दोनों चुदाई का मजा ले लेते.

दीपक भी अपना मुँह मेरे दोनों स्तनों के बीच दबाकर कामुक सिसकारियां भरने लगा. लगभग 11 बजे हमने सोचा कि अब सो जाना चाहिए इसलिए हम दोनों एक ही कम्बल में लेट गए. मोनाली को लगता था कि मैं मजाक कर रहा हूं … और वो भी रंडी बनने के लिए हां कर देती.

तकरीबन 10 मिनट की बुर चटाई के बाद अचानक आंटी का जिस्म अकड़ने लगा और अगले ही पल चुत से जोर से पानी का फव्वारा छोड़ दिया.

नफीसा की चूत ने पानी छोड़ दिया और लन्ड फच्च फच्च फच्च करके अंदर तक जाने लगा।मेरे लौड़े ने भी वीर्य छोड़ दिया और उसके ऊपर लेट गया. मीना मेरे हर धक्के पर अपना सर कभी दाएं कभी बाएं करती और अपने एक हाथ से मेरी कमर को पकड़े हुए थी. फिर जल्दी से पलट कर अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया, जिस वजह से मेरा कुछ पानी उसके अन्दर और बाकी का बाहर गिर चुका था.

जब तक मंजू कुछ समझती, तब तक मैंने एक दूसरा निरोध निकाल कर लंड पर चढ़ाया और चूत में लंड उतार दिया. ऊपर से, नीचे से, साइड में लिटा कर, कुतिया बना कर … मैंने चाची की चुत की आग हर तरह से शांत कर दी थी.

ऋतु भी पूरे मजे से सनी के लंड को चूस रही थी और हाथ से उसके टट्टे सहला रही थी. मैं उन्हें बिस्तर पर ले गया और लेट कर बोला- तेल मत लगाओ, आप मेरा लंड चूस दो. मैं समझ गया कि दीदी राजी हैं और मैंने उनकी पैंटी उतारना चालू कर दी.

गुजराती नंगा सेक्सी

नमस्कार दोस्तो, मैं राजवीर सिंह, दिल्ली से एक बार फिर से अपने नए अनुभव के साथ आप सबके सामने हाजिर हुआ हूँ.

मैं- फिर!नेहा- फिर एक ही बिस्तर पर जॉन ने मुझे रगड़ा और वीर सीमा को चोदता रहा. बाद में रेखा आंटी ने मुझे बताया था कि उसने बुआ को सेक्स की गोली खिलायी थी, जिससे उसकी वासना भड़क जाए. इस बार ऋतु की एक दर्दनाक आवाज गूंज उठी, पूरे कमरे में दर्द का माहौल बन गया.

उन्होंने कहा- हां यार मेरे तेरे भैया से कहती तो हूं … लेकिन उनसे नहीं हो पा रहा है. 2 बार चूसने के बाद मैंने लंड मुंह से निकाल दिया।मैं उनको तड़पाना चाहती थी ताकि वो अपना लंड चुसवाने के लिए मेरी हर बात मानें. बीएफ मूवी चुदाई वाली फिल्मइस कहानी को और ज्यादा उत्तेजक बनाने के लिए मैंने कुछ अपनी तरफ से भी जोड़ा है लेकिन मूल रूप से कहानी जो उनके द्वारा कही गई है कि यह सच्ची कहानी है।उनकी जुबानी यह कहानी सुनिए।नमस्कार, मेरा नाम अमन यादव है.

उसकी दोनों जांघों को चूमते चूमते मैंने प्रिया की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर मुँह लगाया और उसकी पूरी फूली हुई चुत को अपने दांतों से दबा दिया. वो बोली- बड़े जालिम हो सा … अब तक मैं अपना स्खलन 2 बार कर चुकी हूँ मगर आपने मेरी सुध नहीं ली.

मैंने उनसे कहा कि अब मैं कुछ नहीं जानता हूं … मैं आज बस आपको चोदना चाहता हूं. आखिर उनकी गांड थी भी बड़ी ना … उनका फिगर 36C-30-38 था।तो वो खुद उठ नहीं पा रही थी इसलिए उन्होंने मुझसे कहा थोड़ा खींचने के लिए!मैंने ये करते वक्त अपनी आँखें खोली. चुदाई का मजा बढ़ जाने के कारण ऋतु अपना हाथ नीचे लंड पर ले गई, जैसे ही उसने लंड को छुआ, तो पता चला कि अभी तो आधा लंड बाहर है.

मैंने अन्दर जाकर देखा तो चाचा और चाची अपनी कामुक क्रियाओं में लीन थे. पर संजू को कुछ न हो इसीलिए मेरी सांस रुकने तक मैंने पूरा लंड मुँह में ले लिया. अगले दिन भैया के जाने के बाद भाभी ने ऐसी ड्रेस पहन ली, जिसमें से उनके उरोज साफ साफ दिख रहे थे.

एक मिनट के बाद उसने मेरा हाथ छुड़ाया और बोली- हाथ धोकर अन्दर कमरे में आ जाओ.

तब तक आप ड्रिंक एन्जॉय करो!”ये बोल कर वो मेरे सामने ही वो ड्रेस पहनने लगी. गोरे चूतड़ और उनके बीच में गांड का गुलाबी छेद देख कर मेरा लंड मचलने लगा.

मैंने कहा- फिर किस क्यों किया था?वो बोली- वो तो ऐसे ही, पर तुमको तो अच्छा ही लगा होगा न!मैंने बोला- हां अच्छा तो लगा था मगर तुमको शर्म नहीं आई?वो हंसी और बोली- शर्म कैसी, तुम भी तो छिप छिप कर मुझे नंगी देखते थे और कई बार मुझे वो सब करते हुए भी देख भी चुके हो. आप अपने विचार मुझे अवश्य बताएं मेल या कमेंट्स के माध्यम से![emailprotected]भाई और बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:बड़े भाई और छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2. मैंने महसूस किया कि चाची मुझसे छूटने की कोशिश कर तो रही थीं लेकिन उनकी छूटने की ताकत न के बराबर थी.

फाड़ डालूँगा तेरी बुर मादरचोद!हाय मेरे राजा … मुझे अपनी बीवी समझ कर चोदो … पूरा लौड़ा पेल पेल के चोदो … मर्दों की तरह चोदो … भोसड़ी के लौड़ा पूरा पूरा निकाल निकाल कर घुसेड़ो!तुझे चोदना भी नहीं आता … अगली बार अपनी माँ चोद कर आना!हाय रे क्यामस्त लौड़ा है तेरा… यार तुम तो बिलकुल रॉबर्ट की तरह चोद रहे हो. मेरे लौड़े के नीचे पड़ी जुबैदा आंटी भी गांड उठा उठा कर मजा लेने लगीं. आज सनी बहुत तेज धक्के लगा रहा था जिस कारण उसका पूरा जिस्म हिल रहा था.

हिंदी कुंवारी बीएफ तभी उसकी आवाज़ें निकलनी शुरू हो गईं- आ आ अहह आ आआ अहहः ऊऊहह!कुछ ही देर में मंजू एक बार फिर से टपकने को हो गई ‘उह्ह्हह इईई … श्श्श्शश … ईईईई … मम्मीईईईई …’मैंने धीरे धीरे लंड को चूत के अन्दर बाहर करना शुरू किया, तो मंजू की चूत ने ढेर सारा रस छोड़ दिया. दोस्तो क्या बताऊं … भाभी गजब की कांटा माल लग रही थीं और मेरा तो मन कर रहा था कि साली को यहीं पकड़ कर चोद डालूं.

www सेक्सी video com

मैं सोचने लगी कि जब तक ये फट्टू मुझसे खुद बात नहीं करेगा, मैं भी इसे लिफ्ट नहीं दूंगी. मैंने उससे पूछा- चीना, तुम खुश नहीं लग रहे हो, क्या बात है?उसने बोला- ऐसा कुछ नहीं है यार … सब बढ़िया है. और उसके आम जैसे बड़े बड़े उरोज क्या गजब ढाते हैं यार … मेरा मन तो करता है कि अभी ही उन रसभरे आमों को चूस लूं.

दोस्तो, अगर आप के मन भी कोई शंका है तो आप ईमेल से पूछ सकते हैं या किसी भी सोशल एप पर मुझसे बात कर सकते हैं. मैंने चुटकी ली- पहले क्या फाड़ना है … आगे से या पीछे से शुरू करूँ?वो हंस दी और बोली- साले हरामी … पहले आगे की तो फाड़ ले, फिर बाद में कुछ और बात करना. सी बीएफ वीडियो भोजपुरीहां मैं डर रही हूँ … बहुत कुछ लिखना चाहती हूँ, बहुत कुछ बोलना चाहती हूँ … पर समझ नहीं आ रहा है कि कैसे क्या कहूँ और किससे बोलूं.

अब मेरी चुत अपनी मां की जैसी चुदी-पिटी चुत तो थी नहीं कि किसी का लंड भी आराम से खा जाए.

‘ऊम्म्म मम्म ऊउम्म ऊउम्म ऊउम्म ऊउम्म ऊमह उमह …’मामी को किस करते करते मैंने उनके मम्मों पर हाथ रख दिए और दबाने लगा. मैंने कुछ देर तक मालिश की, सुमन को बहुत आराम मिल रहा था, उसे नींद आने लगी तो वो सो गई।मैंने मोबाइल में थोड़ा टाइम पास किया और मैं भी सो गया।शाम में मैं सोकर उठा तो देखा कि सुमन किचन में चाय और पकोड़े बना रही थी.

दीदी मुझे हर एक बात बता देती थीं कि जीजू किस तरह से उन्हें चोदते हैं. मैंने उसे देखा तो देखता रह गया और उसे घोड़ी बना कर चोदने के सपने देखने लगा।उसका भतीजा उसे बुआ बोलता तो सब उसे बुआ बुलाने लगे. मैंने जाना कि मेरी बहन भी अब पूरी तरह से चुदाई के तैयार हो चुकी है.

इस बार भी वो अकेली ही आई।जन्मदिन से 1 दिन पहले तो मैं उसे बस स्टैंड पर लेने के लिए गया.

अब मैं सोचा करता था कि किताब की फोटो में तो लंड चूत में जाकर गायब हो जाता है. मैं उसी समय उस टेंट में चली जाती … लेकिन उस झोपड़ी के पास काफ़ी लड़के और मर्द थे, तो मैंने सोचा कि शाम को आऊंगी, जब कोई आस-पास नहीं होगा. मैंने अन्तर्वासना की फ्री सेक्स स्टोरी साईट पर जो सेक्स मूवीज आती हैं, उनको देखने लगी.

बीएफ दिखाएं करते हुएमैंने मन में सोचा कि अब बात आगे बढ़ाने का मौका आ गया है! अब दीदी की चूत बस कुछ ही पल दूर है!तो मैंने दीदी से कहा- दीदी बोलकर बताने की तो हिम्मत बिल्कुल नहीं हो रही है. पहले मैंने उससे पूछा- आपके पति तो विदेश में हैं … तो आप किसी और के साथ अपनी जरूरत पूरी करती हैं?आंटी- नहीं यार … मैंने आज तक अपने पति के अलावा किसी से सम्बन्ध नहीं बनाया.

ट्रिपल सेक्सी बीपी व्हिडिओ

थोड़ी देर में अंजू तैयार होने चली गई और जैसे ही मैं वापस जाने को हुआ तो मंजू ने आकर मेरे से कहा- स्कूल से आकर तुम मेरे घर आ जाना. ’‘ओके …’फिर मैंने उनके टॉप में नीचे से हाथ डालकर टॉप बूब्स तक ऊपर कर दिया और ब्रा के ऊपर से ही उनके बूब्स दबाने लगा. फिर वो कांपने लगी और काफी सारा रस उसकी चूत से निकला और मोहिनी वह पी गयी।अब मोहिनी मेरी धोती खोलकर मेरा खड़ा लंड चूसने लगी.

मतलब आंटी ने मुझे देख लिया कि मैं राहुल के कंप्यूटर में सेक्स वीडियो देख रहा था और मुट्ठ मार रहा था।मैंने डर की वजह से अपने लंड पर ध्यान ही नहीं दिया कि वह अभी भी खड़ा है. ये सब देख कर मेरे मन में मेरी सौतेली मम्मी के लिए गंदे ख्याल आने लगे. उसके दोनों मदमस्त कर देने वाले चुचों के मैंने भरपूर दीदार किए और मुठ मार कर बाहर आ गया.

उस दिन हम दोनों ने एक बार ही चुदाई का मजा लिया और रात में बुआ ने मस्त पार्टी की. तभी भाभी मेरी ओर देख कर बोलीं- जाओ जल्दी … साफ करके आओ यहां क्यों खड़े हो. फिर जल्दी से पलट कर अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया, जिस वजह से मेरा कुछ पानी उसके अन्दर और बाकी का बाहर गिर चुका था.

इतनी देर से ब्लू-फिल्म देखने के कारण मेरी चुत लंड के लिए तरसने लगी थी. भाई ने कहा- अब तुम ऊपर आओ।फिर भाई ने लंड निकला, मेरी चूत से निकला खून थोड़ा सा भाई के लंड पर भी लगा था।भाई ने तौलिये से अपना लंड और मेरी चूत साफ़ की और लेट गए.

अब मैं उससे रोज पढ़ाने लगा और इसी बहाने मैं उसको छूने लगा।कभी-कभी उसकी उभरी हुई गांड पर हाथ फेर देता था.

पर दूसरी मुलाकात में आपको ये अवश्य दर्शा देना चाहिए कि आप उसकी कद्र करते हैं. बीएफ दिखाइए एचडी बीएफराजेश बगल के कमरे में था तो चचा ने उसे भी बुला लिया और साथ में ही सोने को बोले. शिल्पा शेट्टी के सेक्सी बीएफसुमन को भी 8 बजे का टाइम बता दिया।मैंने उससे पूछा कि मुझे कुछ लाना है क्या?मैं कॉन्डम के लिए उसे घुमा कर पूछ रहा था. अब दिव्या ने भी अपने हाथों से मुझे अपनी तरफ खींचने के लिए हल्का जोर लगाया और अपने चेहरे को मेरी तरफ बढ़ा दिया.

अरे बाप रे यह जन्नत मेरे हर रोज साथ थी, फिर भी मैं उसे महसूस नहीं कर पाया.

भाभी मुझे अपनी बांहों में भर कर चूमने लगीं मैं भी उनके मम्मों को चूसने लगा. वो बोलीं- सारे दिन से कहां था?मैंने बता दिया कि फ्रेंड्स के साथ था. साथियो और भाभियो, मैं अमित एक बार फिर से तनु भाभी की वासना से लबरेज देसी भाभी सेक्स कहानी का अगला भाग लेकर आपके सामने हाजिर हूँ.

ये सुन के मीना ने अपनी दाहिनी मांसल टांग उठा कर प्रकाश की टांगों के बीच रख दी. ज़िन्दगी अच्छी चल रही थी, फिर जो मेरे साथ हुआ … वो चर्चा आपके सामने लिख रही हूँ. मैं समझ गया कि मम्मी यहीं कहीं पर हैं, पर कहां हैं ये नहीं मालूम था.

सेक्सी पिक्चर वीडियो नंगी वीडियो

अब वो बोल रहे हैं कि सबको बता दूंगा कि मेरे पीठ पीछे तू घर में रंडी लाया है और कॉलेज भी नहीं जा रहा. उन्होंने उससे ये भी कहा- जब तक मैं ना बुलाऊं … तब तक कोई हम दोनों को डिस्टर्ब ना करे. वो मुँह इधर उधर करने की कोशिश कर रही थीं, पर मैंने दोनों हाथों से उनके गाल दबा कर उनका मुँह खोल दिया और उनके गले तक लंड ठांस दिया.

राजेश बगल के कमरे में था तो चचा ने उसे भी बुला लिया और साथ में ही सोने को बोले.

उसने कहा- साली लंड खोर रंडी, चाट न लंड … बहन की लौड़ी क्यों नखरे कर रही है.

फिर मैं उठी और डोर खोला तो देखा कि जीजू और उनका वो दोस्त सन्नी बाहर खड़े थे. मैं उसकी पैंटी को साइड करके उसकी गुलाबी चुत में उंगली करने लगा और उसे सूंघने लगा. साड़ी वाली भाभी की बीएफ सेक्सीमैं सोचने लगी कि जब तक ये फट्टू मुझसे खुद बात नहीं करेगा, मैं भी इसे लिफ्ट नहीं दूंगी.

हम दोनों की इतनी गहरी दोस्ती थी कि हम दोनों हर तरह की बातें कर लेते थे और बहुत कुछ शेयर भी कर लेते थे. फिर मैंने उन्हें मदद की चेंज करने में!उनकी कमीज उन्होंने खुद ही निकाल ली और सलवार निकालने के लिए मेरी मदद मांगी।अब वो ऊपर से सिर्फ ब्रा में ही थीं. एक दो मिनट तक चुत को उंगली से चोदने के बाद वो सामान्य हो गई और मेरी उंगली से चुत की खुजली शांत करवाने लगी.

इसी बीच मेरे दिमाग में ख्याल घूम रहा था कि हमारे बीच कल रात जो हुआ था, वो मेरे लिए जन्नत से कम नहीं था. इतने दिनों के सेक्स का खेल और किताबी ज्ञान एवं संजय के दिए ज्ञान से मैं काम कला में माहिर होता जा रहा था.

मैंने हाथों से उसकी चूचियां दबाते हुए उसको अपने पास खींचा और अपने लंड को उसकी गांड से चिपका लिया.

मेरा भी उत्तेजना के मारे बुरा हाल था, पर घबराहट इतनी थी कि कुछ समझ में नहीं आ रहा था. अजीब सी फीलिंग थी … मंजू का तो पता नहीं, पर मुझे अचानक थकान सी महसूस हुई. मोहिनी गांड उछाल उछाल कर चुदने का मज़ा लेने लगी।काफ़ी देर बाद मैं मोहिनी की चूत के अंदर झड़ गया.

ब्लू पिक्चर बीएफ वीडियो ब्लू पिक्चर मैं अब झटकों पे झटके लगाने लगा और थोड़ी देर बाद लंड ने नफ़ीसा की गांड में वीर्य छोड़ दिया. अंतिम पलों में बिस्तर की चादर दबोचते हुए मैंने योनि भी सिकोड़ते हुए उसके लिंग पर कस दी और नली में रहा बचा-खुचा वीर्य भी खींच लिया।गर्मी उबल कर निकल गई तो दोनों को ही बड़ी राहत मिली।फिर वह अलग हुआ और वीर्य और मेरे रस से नहाया अपना फुंतड़ू बाहर खींचा.

दीदी झट से रजाई मुँह से हटा कर छोटी बहन से बोली- सो गई तू?छोटी बहन ने कुछ जवाब नहीं दिया. पर दिमाग था, महत्वाकांक्षा थी, चतुराई थी, बस पढ़ाई ठीक से नहीं की थी. अब फच्च फच्च फच्च फच्च की आवाज तेज होने लगी।बुआ लंड पर मस्ती से उछलने लगी और बोली- राज, मुझे अपने लौड़े पर बैठाकर जन्नत की सैर करवा दो.

हिंदी सेक्सी पिक्चर आदावासी

मम्मी ने कहा- चल अन्दर हाथ सेंक ले … बहुत ठंड है और जल्दी से सो जा!मैं कहां टिक कर रहने वाला था. मामी अपनी चूत पर उंगली फिरा रही थीं उनकी चूत से रस बहकर उनकी जांघों तक फैल रहा था. कहते हैं ना कि सेक्स किसी को सिखाना नहीं पड़ता … ये खुद ब खुद आ जाता है.

समता को देखकर विकास की नज़र उसके मन्त्रमुग्ध कर देने वाले शरीर से हट ही नहीं रही थी. सेक्स करने के बाद उसने बताया कि उसके मम्मी पापा 5 दिन के लिए बाहर गए हैं.

मेरा काम भी होने वाला था, मैंने उनका सिर पकड़कर लंड पर दबा लिया और उनके मुँह में 5-6 धक्के लगा दिए.

फिर मैंने देखा कि हम जिस रूम में गाड़ी रखते थे, उस रूम से कुछ आवाज़ आ रही हैं. अपने दोस्तों को गर्लफ्रेंड के साथ घूमते और बात करते देख कर मैंने सोचा कि मुझे भी एक लड़की दोस्त बनाना चाहिए. मैंने बुआ को लंड से नीचे उतार दिया और अपने होंठ उसके होठों पर रख कर दोनों चूसने लगे.

भाभी निढाल हो गईं और मेरी तरफ प्यार से देखने लगीं और मेरे सर पर हाथ फेरने लगीं. [emailprotected]शीमेल सेक्स कहानी का अगला भाग:धर्म से धारा बनने तक का सफर- 2. अब मैं समझ गया कि मामी को भी मजा आ रहा है इसलिए ये कुछ नहीं कह रही हैं.

फिर बिना कंडोम के ही राहुल ने इक्शाना की चूत पर अपना लंड टिकाया और एक जोर का धक्का दे मारा जिससे इक्शाना की गीली चूत के राहुल का पूरा लंड एक बार में ही घुस गया.

हिंदी कुंवारी बीएफ: अभिषेक ने जल्दी से उसका फोन उठाया और बोला- तुम यह क्या कर रही हो?तो नीतू बोली- तुम्हें इससे क्या मतलब? तुम अपना काम करो. मेरा नाम रूचि है।अभी मेरी उम्र 23 साल है। मेरा कद 5′ 6″ है।मेरा रंग गोरा है और फीगर 30-27-32 है।मेरे परिवार में माँ पापा के अलावा एक भाई है रोहित जो मुझसे 3 साल बड़ा है.

नीता सिर्फ इतना ही बोली- पूरी जिंदगी अब आपको मुझे भी मम्मी की तरह संभालना पड़ेगा. मैंने पूछा- क्या मतलब?भाभी बोलीं- वो सब मैं बाद में बताती हूँ … अभी मुझे चोद दो प्लीज़. हम दोनों को नीतू बहुत डरी हुई लग रही थी इसलिए मैंने नीतू से कहा- ठीक है, हम किसी को नहीं बताएंगे.

मैं अपनी गीली चुत में अपने भैया की उंगली पाकर निहाल हो गई और मेरे मुँह से तेज तेज स्वर में मादक सिसकारियां निकलने लगीं- उम्म भैया आंह मर गई आंह उम्म्म!भैया अब बहुत तेज तेज अपनी उंगली से मुझे चोदने लगे.

भाभी- अह्ह्ह उम्म्म् लग रही है … कितना अन्दर तक पेल रहे हो विक्की … आह मजा आ रहा … और जोर से पेलो … आंह और पेलो … आज मेरी चूत फाड़ दो!कुछ देर बाद जब भाभी झड़ गईं तो मैंने भाभी की चुत से लंड निकाला और उसे कपड़े से पौंछ कर उनसे पोज बदलने को कहा. सनी ने बहुत प्यार से मेरे माथे पर एक चुम्बन लिया और मेरी आंख में देखने लगा. फिर हमने बेड पर जाकर चुदाई शुरू कर दी जो पूरी रात चलती रही और आज भी चल रही है.