इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो

छवि स्रोत,सिरोही बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

बीपी फिल्म बीपी फिल्म: इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो, वो भी स्माइल देती हुई बोली- अब बहुत बातें हो गईं, अब कुछ मीठा हो जाए.

ब्लू फिल्म बीएफ फिल्म सेक्सी

रीना को हसित ने सोफे पर बैठने को कहा तो रीना हसित के पास सोफे पर बैठ गई. बीएफ सेक्सी हिंदी में जबरदस्तविशाल बोला- कारखाने के पास जो चाय की दुकान है, उसके मालिक को काम के लिए लड़का चहिए.

फिर मैंने सोचा अगर उन्होंने मुझे देख लिया और मम्मी से शिकायत कर दी तो बहुत मार पड़ेगी. बीएफ सेक्सी हिंदी मध्येइतना कहते हुए उसने मेरे होंठों पर और गालों पर चुंबनों की बरसात कर दी.

मैं मामा के घर गया तो सभी से मिलने के बाद मैं सूरज के साथ बैठ गया और बातें करने लगा.इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो: इसके साथ ही वो चीख पड़ीं- आह मर गई … साले कमीने मार डाला रे … इतनी जोर से कोई डालता है क्या? तेरे अंकल का तो छोटा था … जिससे पता ही नहीं चलता था कि चूत के अन्दर कुछ गया भी है या नहीं … आंह मर गई … तूने अपना ये पूरा मूसल घुसा डाला … आंह रे मर गयी मैं तो.

मैं- कोई बात नहीं, तुम एक बार मुझसे मिलो तो सही … तुम्हारा सारा डर निकाल दूंगा.मैं अभी कुछ करता कि अचानक से उन्होंने अपने होंठ मेरे होंठ पर रख दिए और मुझे चूमने लगीं.

बीएफ बता दो - इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो

अब वो सब लोग आज मेरी गांड का भुर्ता बना रहे थे और मुझे ये बता रहे थे कि मेरे पति ने ऐसा नहीं किया तो वो बेवकूफ है.करीब आधे घंटे तक मैं देखता रहा … लेकिन मुझे कोई आवाज़ सुनाई नहीं दी.

मैं- हां मैंने देखा था कि तुम कैसे थक गयी हो और साइकिल चलाने तो क्या पैदल भी नहीं चल सकती हो. इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो अपने हाथ से मैंने उनके ब्लाउज को हटाया तो मेरे सामने जन्नत की हूर के दो कसे हुए स्तन थे.

बहुत दिनों बाद भरी दुपहर में मेरी चुत और गांड की मस्त चुदाई जो हुई थी.

इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो?

इससे वो एकदम से उत्तेजित हो रही थी; मुझे अपने दूध पीने के लिए उकसा रही थी. अब सोनाली जोर जोर से अपनी गांड उठा उठाकर मेरे लंड को अपनी चूत की गहराई में लेने लगी थी. ऐस लिक हॉट स्टोरी में पढ़ें कि मैं अपनी सहेली की शादी में गई थी। वहां दुल्हे का भाई मुझ पर लाइन मार रहा था.

करीब तीन घंटे की धींगामुश्ती के बाद भूख लग आई थी और लंच टाइम भी हो गया था. मैंने जैसे ही लाइट का स्विच खोला तो रूम को एकदम सजा हुआ पाया जो अंधेरे में साफ़ नहीं दिख रहा था … और हां … लवी ने डेकोरेशन काफ़ी अच्छी की हुई थी. मैंने भी भाभी को अपनी बांहों में भींचते हुए कहा- मैं इस पल का पांच साल से ज्यादा इंतजार किया है.

मन में बहुत सारी बात आने लगीं कि कहीं उसकी अम्मी को पता तो नहीं चल गया … वगैरह वगैरह. फिर उन्होंने मेरे सामने ही तौलिया के नीचे हाथ डालकर अपनी पैंटी पहनी. यही हुआ, जैसे ही घर के सारे लोग चले गए, तो मैंने अन्दर से दरवाजा बंद किया और वहीं पर नंगा हो गया.

क्योंकि मैंने आज तक सेक्स नहीं किया था और ये मेरा पहला मौका था जब मैं किसी महिला से मिलने जा रहा था. कॉलेज में ये ही बॉयफ्रेंड थे और मेरी इनसे ही शादी हो गयी, तो किसी और से नहीं किया.

चाची के मुँह से मादक सिसकारियां निकलने लगीं; उनकी सांसें तेज़ होने लगीं.

इतने में भाभी की कॉल आई और पूछने लगीं कि उधर निशा है?मैंने कहा- हां यही है.

कुल मिला कर उनके परिवार में बुआ, फूफा, उनके तीन लड़के और उनकी पत्नियां और बड़े वाले लड़के की एक साली थी … जो पढ़ने के लिए उसी घर में आई थी. लेखक की पिछली कहानी:चलती बस में खूबसूरत भाभी के साथ चुदाईनमस्कार दोस्तो, मेरा नाम आरव है और मेरी उम्र 19 साल है. घर में इसका खाविंद होता है तो इसकी चुदाई कैसे हो सकेगी?फिर उसने बातों बातों में बताया कि उसका शौहर 8 दिन के लिए कुछ काम से मुंबई जाने वाला है.

थोड़े टाइम बाद परीक्षा परिणाम भी आ गया, जिसमें मेरे अच्छे नंबर आने के कारण पापा ने मुझे हमारे गांव से दूर उदयपुर में अच्छे कॉलेज में दाखिला दिला दिया. इस पर फूफा जी ने अपने लंड को मेरी चुत में अन्दर बाहर करना चालू कर दिया. मैंने कहा- कहां है तुम्हारी सहेली?वो मुस्कुरा कर बोली- साले दूसरी चूत के लिए बड़ा मचल रहा है.

उन्होंने मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठों को अपने होंठों में ले लिया मैं भी उनसे चिपक गई.

मैंने मालिश करते हुए उन्हें कहा- भाभी, आपका ब्लाउज तेल से खराब न हो जाए. इस वक्त मुझे झड़ी हुई चाची की चूत चुदाई में बहुत मस्त मज़ा आ रहा था. भाभी ने मुझे अलग किया और बोलीं- अभी इसका टाइम नहीं है, तुम जल्दी से अपना पानी निकाल लो.

मैंने सरिता से कहा- तुम चिंता मत करो मैं हूँ ना!मैंने उसे प्लास्टिक के स्टूल पर बिठाया और गीजर चालू कर दिया. सेक्सी दीदी की आवाजों को सुनकर मुझे एक बात का अहसास हो रहा था कि राहुल बड़े मजे से जिया दी को पेल रहे हैं. फिर वो ब्रा के ऊपर से मम्मों दबाते हुए किस करने लगा और ब्रा के अन्दर से मम्मों निकालने की कोशिश की.

कुछ देर लेटने के बाद चाची बोलीं- तू तो बहुत मस्त चुदाई करता है, अब से अपनी चाची की चुदाई तू ही करेगा.

मैंने कहा- एक रूम बुक करते हैं, वहां हम हग करेंगे और बहुत किस करेंगे. रवि के चेहरे पर कामवासना का शैतान दिख रहा था और उसकी आंखों में एक विजयी मुस्कान थी.

इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो पारुल भी जल्दी ही अपनी गांड को नीचे से हिलाने लगी थी, ऐसा लग रहा था कि दोनों एक दूसरे के पार होना चाह रहे थे. रेणु मेरे दोस्त की सैटिंग थी तो मेरे घर आ गई और वो दोनों मेरे घर में दूसरे कमरे में जाकर बातचीत करने लगे.

इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो मैंने पूछ ही लिया- मम्मी कब से आप प्यासी हो?तो वो बोली- लगभग 6 महीने हो गए. वो बोली- तुम्हारे दोस्त ने आज तक कभी इन्हें छुआ ही नहीं, तो क्या होगा.

सबके चेहरे पर तो मैंने, मेरे आने की ख़ुशी देखी, लेकिन बड़ी वाली भाभी का रिएक्शन मुझे निगेटिव सा दिखा.

हिंदी भाषा की बीएफ सेक्सी

मैं किसी भी औरत या लड़की को पूरी तरह से संतुष्ट करने में सक्षम हूँ. फिर एक दिन मैंने उनसे कहा- भाभी, आप उन तीनों को बुलाकर एन्जॉय कर लिया करो, आपके तो हस्बैंड वापस नहीं आए हैं. मैंने पहली बार जिस दिन भाभी को देखा था, उसी दिन सोच लिया था कि कैसे भी करके भाभी को चोदना ही है.

अगले दिन मैं लवी को लेकर श्वेता के यहां गया और वहां से आते वक्त मैंने उन इंस्पेक्टर सर को कॉल किया. भाभी ने भी एक लौंडे को इशारा किया तो उसने भाभी के लिए एक सिगरेट जला दी. अब हम दोनों 69 की पोजीशन बनाए हुए मजा ले रहे थे और एक दूसरे को चाट चूस रहे थे.

जमीला की चूत अब कुछ सूखी सी लग रही थी, जिससे लंड को चूत में आगे पीछे करना थोड़ा मुश्किल हो रहा था.

पर जैसे सासु जी जोर जोर से आवाजें निकाल रही थी, उससे समझ में आ रहा था कि ससुर जी का कितना बड़ा और मोटा होगा. हैलो फ्रेंड्स, आप मेरी सेक्स कहानी में स्वीटी की चुदाई का मजा ले रहे थे. मैं देख तो नहीं पा रहा था लेकिन जैसे कोमल की आवाजें आ रही थीं तो मैं समझ सकता था कि जीजू कोमल की डॉगी स्टाइल में ले रहा है.

उसकी चुत का चिकना पानी मेरे लंड को भिगोता हुआ बाहर निकल रहा था जिससे चादर भी गीली हो गई थी. सोनाली छटपटाने लगी और बोली- हर्षद प्लीज उसमें मत डालो, मैं मर जाऊंगी. फिर सोहल ने अपनी दो उंगलियों को हनी की गांड में डाला तो हनी को कुछ दर्द सा हुआ मगर उस स्पेशल क्रीम के कारण वो दर्द एक दो पल में ही खत्म हो गया.

जैसे ही मुझे पता चला कि चाची इसी वक्त नहाती हैं तो अगले दिन उनके नहाने आने से पहले मैंने चुपके से वह लैटर वहीं पर रख दिया. नरपत बोला- यार घर जाकर चोदने की ऐसी आदत लगी है कि ग्यारह बजते ही लौड़ा कड़क हो जाता है.

वो मुँह से मादक सिसकारियां निकाल रही थी- आह्ह … अम्म … आह्ह … इस्स … आह्ह … हांह् … करो … ओह्ह … और करो।उसकी सिसकारियों से मेरा जोश बढ़ रहा था. मामी के पैर मैंने फैला दिए और झट से अपना लंड मामी की पनियाई हुई चूत के अन्दर पेल दिया. उन सब लोगों के लिए और सभी पाठकों के लिए एक नयी कहानी मतलब चुदाई का किस्सा आपके सामने पेश कर रही हूँ.

मेरे पापा का दोस्त के यहां शादी में जाना भी जरूरी था और पार्सल लेना भी आवश्यक था.

शब्बो ने फिर से कहा- देख कुतिया, चीरो फाड़ो चोदो चुदवाओ … मगर आवाज बिल्कुल नहीं करना. इतना कहते ही भैया लूसी की चूत में से लंड निकालकर अपने भारी भरकम लंड को मेरी चूत के मुंह पर रखकर रगड़ने लगे. 4- लड़की की पहली चुदाई कब और कौन करेगा, ये बात लड़की की मां को पूरे नगर को बताना पड़ेगी.

शब्बो ने आवाज़ दी- अरे अरे जमीला, क्या कर रही है … मरवाएगी क्या?मैंने भी मन में कहा कि हां साली मरवाने के लिए ही तो पड़ी है. मैंने मुठ पूरी भी नहीं मारी और माल निकाले बिना ही मैं नहाकर बाहर आ गया.

मैं देख तो नहीं पा रहा था लेकिन जैसे कोमल की आवाजें आ रही थीं तो मैं समझ सकता था कि जीजू कोमल की डॉगी स्टाइल में ले रहा है. उसके बाद मॉम रसोई में चली गयी और मुझसे कहा कि नाश्ता करने के बाद बाजार से कुछ सब्जी और सामान ले आना. थोड़ी देर बाद मोनू ने उसे अपने नीचे ले लिया और मेरी दीदी की टांगें कंधे पर रखकर चोदने लगा.

देसी सेक्सी बीएफ हिंदी आवाज में

मगर वो अब बस सेक्स ही चाहता था और मैं उसका वही पुराना प्यार पाना चाहता था.

मैंने हंस कर कहा- हां आंटी मुझे भी आपके बारे में ऐसा ही कुछ लगता था कि आप बहुत चुप रहने वाली लेडी हैं. हम जल्दी से सेट होकर बैठ गये।मैंने उसको कहा- कल स्कूल न आकर कोई भी बहाना लगा कर मेरे घर ठीक 10 बजे पहुंच जाना।उसने कहा- मैं सोच कर बताऊंगी. सोनाली ने उठते हुए मेरे लंड के चिकने सुपारे को अपने गुलाबी होंठों से चूम लिया, तो मेरे बदन में बिजली सी दौड़ने लगी.

आपको मेरी ये इंडियन देसी गर्ल सेक्स कहानी कैसी लग रही है, प्लीज़ मेल करना न भूलें. मम्मी की मोहल्ले में और रिश्तेदारी में बहुत इज्जत है, पापा बहुत इज्जत करते हैं. भाभी की सेक्सी बीएफ पिक्चरप्रिया तेज़ स्वर से चीखी और बोली कि मेरी पीठ पर किसी कीड़े ने कुछ काटा सा है.

उसका मन आज कुछ चंचल हो रहा था तो वो क्लास में जाने की बजाए कुछ देर झाड़ियों की तरफ देखने लगी. उस दिन रोहित भैया ने कहा- सैम, अभी तुम्हारी हालत ठीक नहीं है … तो तुम फिलहाल मेरे घर पर ही खाना खाने के लिए आ जाया करो.

मैंने पूछा- ये क्या हो गया है भाभी?वो बोलीं- मैं बहुत देर से गर्म थी, तुम्हारा टच मिलते ही मेरी पिक्की ने पानी छोड़ दिया. इसी तरह से हम दोनों के बीच मौन प्यार से शुरुआत हुई … फिर धीरे धीरे बात आगे बढ़ी. आंटी मेरी तरफ देखने लगीं और मुस्कुरा कर बोलीं- और?मैंने कहा- और खुल कर बताऊं?आंटी ने आंख दबा दी और हां में सर हिला दिया.

पाठक मुझे ईमेल पर मैसेज भी कर सकते हैं[emailprotected]हॉट सिस्टर की सेक्स कहानी का अगला भाग:जीजू दीदी को पति वाला सुख नहीं दे पाए- 2. ससुर जी और मेरी चुदाई की आवाज बाहर तब आ रही थी और सासु जी उसे सुनकर तड़पने लग गयी थी. लेकिन एक दिन गलती से हार्दिक का फ़ोन हमारे दोस्त वंश के हाथ पड़ गया.

उसने अपना एक हाथ मेरी गांड पर रख कर मुझे बिल्कुल अपने से चिपका लिया.

तभी सोहल ने अपनी उंगलियां गांड से बाहर निकाल लीं और अपने लंड पर क्रीम लगाने लगा. उसने पैग बनाए और हम दोनों ने चियर्स करके शराब की चुस्कियां लेना शुरू कर दीं.

दिनकर- मुझे मालूम है बेटा … अब तू प्रियंका की बात छोड़ और मुझे अपनी मां चोदने का मजा लेने दे. मैंने कुछ जोर के धक्के मारकर सोनाली की चूत में अपने लंड का गर्म लावा छोड़ दिया. दीदी की चुत गीली हो चुकी थी और लंड को पुन: छूते ही वो मदहोश हो उठीं, उनकी गांड ने ऊपर उठ कर लंड को चुत से रगड़ दिया.

जैसे ही बस रुकी तो मैं नीचे उतरा और मुजफ्फरनगर की बस की खोज में सड़क पार करके पूछताछ की ओर बढ़ा. क्योंकि मैंने लोवर पहन रखा था इसलिए उनको उभार साफ साफ दिखाई दे रहा था. उसकी गांड देख कर मेरा हाथ मेरे लंड को सहलाने लगा था तो उसने एकदम से अपना सर पीछे किया और मुझे लंड सहलाते देख कर वो चली गई.

इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो एक ने कहा- भाभी, कल ही रिकार्डिंग ही आपका काम करने के लिए काफी है, पर ये तो हम अपने पर्सनल कलेक्शन के लिए कर रहे हैं. अब मुझे बेड पर लिटा कर आंटी मेरे ऊपर आ गईं और लौड़े को चूत पर सैट करके एक ही झटके में सीत्कार के साथ पूरा चूत में निगल लिया.

ऑनलाइन सेक्सी वीडियो बीएफ

मैंने कहा- जैसी तुम्हारी मर्जी सरिता!मैंने उसका गाउन तकिया पर बिछा दिया. धीरे धीरे मैं भी उसे भूलने की कोशिश करने लगा लेकिन उसे भूलना मेरे लिए इतना आसान नहीं था. उसने घड़ी देखी, तो शाम के साढ़े छह बज चुके थे- बाप रे … बहुत देर हो गयी हर्षद.

उसी रात को 12 बजे उसका व्हाट्सैप पर मैसेज आया- आई थिंक आई एम इन लव … आई एम हेल्पलैस. जिया दीदी- मतलब?मैं- मैं आपकी उम्र का होता तो जीजाजी को आपको पटाने ही नहीं देता क्योंकि मैं आपको अपनी गर्लफ्रेंड बनाता और आज आप मेरी बीवी होतीं. बीएफ 2016 काउनका लंड मेरी चुत में दाखिल तो हुआ लेकिन मुझे हल्का दर्द हो रहा था.

उनकी बीवी यानि मेरी भाभी का नाम रूपाली है।उनकी उम्र लगभग 24 साल होगी.

वो एकदम से शांत हो गई थी पर मैं फिर से उसकी कमर को पकड़ कर उसकी चूत का पानी चाटने में लगा रहा. मेरे बहुत डराने धमकाने पर बोलने लगा- यार, मुझे तुम्हारी अम्मी बहुत पसंद हैं.

उसकी हाइट 5 फीट 4 इंच है और उसका फिगर साइज़ 32-28-34 का है जो काफ़ी अच्छा साइज़ है. जैसे ही उसका मुलायम और मखमली हाथ मेरे हाथ से छुआ, मेरे लंड में जैसे कोई करंट लग गया और वो झटके से खड़ा हो गया हो. वो मेरे लिए खाना लेकर आई ही थीं कि मैंने उन्हें खींच कर उनके चूतड़ पकड़ लिए.

कुछ देर बाद हम एक दूसरे को बांहों में लिए हुए ही फिर से किस करने लगे और इस तरह दूसरी बार भी सेक्स हुआ.

ऐसा करने में उसके स्तन मेरी पीठ से दब जाते थे और मुझे इसका अहसास होता था. मैं आंटी से बोला- आंटी, मैं एक बात पूछूं, मेरी मम्मी आपसे क्या बोल रही थीं?तो वो बोलीं- तुम्हारी मम्मी ने जब से तुम्हारा लंड देखा है, तब से उसके दिमाग में तुम्हारे ही लंड चुदने की बात चल रही है. भाभी की चूत की मादक गंध मुझे पागल कर रही थी और मेरे चाटने से वो भी पागल हो रही थीं.

बीएफ सेक्सी पिक्चर बीएफ बीएफ बीएफहम होटल के बाहर टहलने जाने लगे, तो मैंने कहा- अब तुम लोग घूमो, मैं सोने जा रहा हूं. दोनों मिरर बिल्कुल आमने सामने लगे थे, जिससे बाहर का नजारा साफ दिख जाता था कि गेट पर कौन खड़ा है.

सेक्सी बीएफ ओपन वाली

ये सुनते ही मैंने भी हंस दिया और भाभी की छोटी बहन से वादा कर दिया कि तुमको भी मां बना दूंगा. कुछ देर बाद जब मेरी बीवी सो गई तो मैंने उसे फर्श पर अपने पास ही सोने को बोला. अब उसने अपने दोनों हाथ मेरे सीने पर रख दिए और अपनी कमर की स्पीड बढ़ा दी थी.

फिर थोड़ी देर बाद आंटी बोलीं- अब मैं ये तस्वीरें सोशियल मीडिया पर डाल दूँगी, यही तुम्हारी सज़ा होगी. बहुत बुरा हाल कर दिया तुमने!उसने अपनी पैंटी निकालकर मेरा लंड अपनी पैंटी से साफ कर दिया और मेरी ब्रीफ से अपनी चूत और जांघें साफ कर दीं. मैंने कहा- तुम्हारे लिए मैं अपने से भी ज्यादा मजबूत मर्द खोज दूंगा गुलाब.

ये कहते हुए वो अपनी चूत पर रखे एक हाथ को, जिसकी वजह से ही लंड चूत में पूरा न जा सका, हरकत में ले आई. मैंने कई बार दीदी को मेरे लंड का पानी ब्रेड पर लगा कर भी खिलाया है. शुरू में हसित धीरे धीरे धक्के मार रहा था, तो रीना बोली- जल्दी कीजिये न प्लीज!हसित ने रीना को किस किया और जोर जोर से धक्के मारने शुरू कर दिए.

कुछ ही देर में वह अपनी चरम सीमा पर पहुंच गया और उसने भी अपना सारा वीर्य मेरी गांड में ही निकाल दिया. और वैसे भी मैं उससे उसका प्यार छीन थोड़ी रही हूं, प्यार बांटने से बढ़ता है कम थोड़ी होता है। संतोष और रागिनी तो इस बात को समझे नहीं … तुम तो समझो।मैं भी अब इस बात को समझ चुका था कि ये आज कैसे भी मुझे सैक्स के लिए मना ही लेंगी.

दोस्तो जैसे ही मेरी टी-शर्ट निकली तो उसका मुँह खुला का खुला रह गया.

और मेरे कहने के मुताबिक सैकड़ों लोगों ने अपने हथियार की फोटो मुझे मेल किए और उनको देख देख कर कई दिनों तक चूत में उंगली की और अपना पानी निकाला. बीएफ सेक्स एक्स एक्स एक्स एक्स एक्सवो मुझे देख कर मुस्कुराया और कहा- साली रंडी, नौटंकी करती है, अब तक गांड भी तो नहीं मरवाई थी … तो आज लंड भी चूस ले साली. बीएफ हिंदी भाषा में वीडियोमैं उनकी गदरायी गांड देख कर खुद को रोक नहीं पाया और उनकी गांड को चूमने लगा. सरिता बोली- सच कहते हो हर्षद?इतना कहकर सरिता ने नीचे चुत के आसपास हाथ लगाया तो उसके हाथ को खून लगा था.

मेरी साली ने मेरे लंड को छुआ और कहा- कि मैंने कल आपका खड़ा लंड उस समय देखा था, जब मेरी बहन आपके लंड की मालिश कर रही थी.

मेरे मुँह से एक शब्द निकला- मामी आप!सही पढ़ा आपने, वो मेरी मामी थीं. वो मेरे लंड से हुए दर्द से आगे की तरफ होने लगीं पर मेरी पकड़ भी मजबूत थी इसलिए वो हिल भी नहीं पाईं. इधर आंटी टुन्न हो गई थीं, वो अपनी दुखभरी कहानी सुनाने लगीं और रोने लगीं.

फिर मॉम ने बाजार चलने के लिए कहा तो मैं उनके साथ चलने को तैयार हो गई. इस पूरे दिन उसको कई बार हैलो लिखा मगर उसने मेरे किसी मैसेज का जवाब नहीं दिया. मैंने अपनी स्पीड और बढ़ा दी और चाटें मार मार भाभी की गांड लाल कर दी.

बड़ी चूत वाला बीएफ

मेरा लंड एकदम कड़ा हो गया था और वो उस नाजनीन लौंडे की गांड में जाने को बेताब हो गया था. तो मैंने पूछा- भाभी आप बर्थडे में नहीं जा रही हैं क्या?उन्होंने कहा- आपके भाई घर पर नहीं हैं. प्रिया- अच्छी बात है, लेकिन मैं आपकी बहन हूँ, तो आगे का कुछ नहीं हो सकता.

फिर मैं उसके मम्मों पर आ गया और टीना की टी-शर्ट के ऊपर से ही उसके मम्मे चूसने लगा.

बाय आई लव यू … उम्म्म्मा बाए!मैं- अरे मेरी बात तो सुनो!मगर जमीला हंसती हुई चली गई.

चूंकि मेरी दीदी मुझसे सब कुछ बिंदास बता देती हैं, तो उस रात भी उन्होंने बिना संकोच के मुझे फोन पर बता दिया कि इस समय तेरे जीजाजी मेरे ऊपर चढ़े हुए हैं, तो तू अभी फोन रख … हम कल बात करते हैं. ये सुनकर हंस कर बोली- अच्छा ये बात है … तो इस समय पीने के लिए मैं कुछ और लाती हूँ. फुल एचडी नेपाली बीएफदो दिन बाद उसका मैसेज आया ‘आज मूवी देखने चलें?’मैंने हामी भर दी और कॉलेज से बंक करके हम दोनों मूवी देखने आ गए.

जब भी मुझे मौका मिलता, अपने घर में मैं लड़कियों के कपड़े पहन कर देखा करता था. कुछ ही देर की मदमस्त चुदाई के बाद दोनों मर्दों के लंड का पानी छूट गया और सुम्मी की चुत और गांड में रस टपक गया. भाभी बहुत खुश हुईं और उन्होंने मुझे धन्यवाद कहते हुए कहा- थैंक्यू सो मच … तुम मेरे लिए भगवान की तरह हो.

मैं उसके होंठों को कभी कभी अपने दांतों से दबा कर मसल देता, तो वो हल्की सी आह करके और गर्म हो जाती. मैंने पूछा- क्या हुआ तुझे … तू दिखावा कर रही है बस … ऊपर से ही हंस रही है न!फिर निशा बताते बताते रोने लगी- हां मुझको इस शादी से खुशी नहीं है.

उसने हाथ मुँह धोए, कपड़े पहने और वो सच में जाने के लिए तैयार होने लगी.

फिलहाल मेरे पास ट्रेन ही एक आखिरी साधन था, मैं उसको छोड़ना नहीं चाहता था. भाभी के मुँह से मादक आवाज निकलने लगी- हम्मम हम्मम उम्म उम्म्म!उनकी गर्म आवाज भईया को और उकसा रही थी. दस मिनट किस करने के बाद हम दोनों एक दूसरे से दूर हुए और अपने कपड़े उतारने लगे.

बीएफ वीडियो खचाखच मैंने अपनी गांड पर एक बार हाथ घुमाया और सीधा जाकर हॉल में सोफे पर पांव पसार कर बैठ गया. मामी- आह मादरचोद मैं रंडी जरूर हूँ मगर अब तक इतना बड़ा लंड मेरी चुत में गया ही नहीं है.

कुछ देर बाद उसने लंड मुँह से बाहर निकाला और कहने लगी- अब रहा नहीं जा रहा है … मुझे जल्दी से चोद दो सलीम. सेक्स फंतासी स्टोरी में एक काल्पनिक नगरी है जिसमें जवान होते ही हर लड़की और लड़के को किसी के साथ भी सेक्स करने की खुली छूट थी. वे पहले से कुछ ज्यादा मोटे हो गए थे जांघें व बांहें मोटी भारी हो गई थीं.

माधुरी सेक्सी वीडियो बीएफ

वहां हम दोनों ने एक दूसरे को पूरा साफ़ किया और फिर बाहर निकलने पर तो वो लग ही नहीं रही थी कि कोई नौकरानी हो. देसी लड़की की चूत का मजा लिया मैंने अपनी बुआ के घर में! वो लड़की वहां काम करती थी. फिर उसके चेहरे पर किस करते हुए गले में किस किया और रीना के कान के पास अपने होंठों से प्यार करने लगा.

वो चादर को धोते समय उसे अपने हाथों से फुलक रही थीं इससे उनकी चूचियां मस्त हिल रही थीं. फिर मैंने देर न करते हुए अपने जीभ को नुकीला करके भाभी की चूत पर रख दिया.

खैर … ये क्लीवेज दिखाना बहुत दिनों तक चला, लेकिन आगे मामला मैंने बढ़ने नहीं दिया.

एक दो पल बाद मुझे सांस आई तो मैंने अपनी भुजाओं से बल से अपना भार चाची के ऊपर से हटा लिया. बच्ची को बेडरूम में सुलाया हुआ था, इस वजह से हम बेडरूम का इस्तेमाल नहीं कर सकते थे. मैंने पैंटी के ऊपर से ही अपनी नाक की नोक से उसकी चूत को सहला दिया और उसी पल उसने भी अपनी चुत उठा कर मेरे सर को अपने हाथों में भर कर दबाने की कोशिश की.

इस पर मैंने बोला- लेकिन जीजू तो घर पर हैं नहीं!वो बोली- हां ये भी अभी चले जाएंगे … और तू भी इन्हें जीजू ही बोलना क्योंकि ये तेरे जीजू ही लगते हैं. अब फूफा जी का लंड मेरी चुत में घुस चुका था, मुझे काफी दर्द हो रहा था. मैं लगभग दस मिनट तक चूत के साथ खेला और अपनी जीभ को चुत के अन्दर तक पेल पेल कर मैंने भाभी की चुत से रस निकाल कर चाट लिया.

मैं वहां से उठ कर अम्मी के सर के पास आ गया और अपना लंड अम्मी के मुँह के पास रख दिया.

इंडियन सेक्सी बीएफ भेजो: कुछ पल बाद हम दोनों ही बस में चढ़ गए थे और चूंकि भीड़ ज़्यादा थी तो सर मेरे पीछे खड़े थे. उन्हें देखकर मुझे यकीन हो गया था कि अब मेरा यह सप्ताह काफी मस्ती के साथ कटेगा.

मैं- चाची क्या देख रही हो, चाचा का इतना बड़ा नहीं है क्या?चाची- साले मैं देख रही हूं कि यह लंड है या मूसल?मैंने कहा- चाची, आज से आपका ही है, इसे पकड़ कर प्यार से सहलाओ. मैं उसकी चूचियों पर टूट पड़ा और ब्रा के ऊपर से ही तेज तेज दबाने लगा. मैं उसके गले को किस कर रहा था, वो चुपचाप मज़ा ले रही थी और साथ दे रही थी.

लंड चुत में सैट होते ही मैंने अपनी गांड उठा दी और पूरा लंड चूत में पेल दिया.

सीधे जाकर मैंने प्राची के मस्त गुलाबी निप्पल को मुँह में भर लिया और उसके उरोजों से दूधपान करने लगा. उस टाइम मेरे माइंड में कुछ चल तो रहा था पर मैंने सोचा कि अभी इसके साथ चला जाता हूँ. उसने प्यार से सोनम का घूँघट उठाया और कहा- मेरी सोनम बहुत सुंदर दिख रही है.