बीएफ सेक्सी इंडिया की

छवि स्रोत,এক্স এক্স বিএফ বিএফ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स बीएफ फोटो: बीएफ सेक्सी इंडिया की, उसकी उम्र 35 वर्ष थी, लेकिन अभी भी वो 25 वर्ष की लड़की को फेल कर रही थी.

एक्स एक्स एक्स इंग्लिश सेक्सी वीडियो

बात तब की है जब हमने अपनी क्लास की अर्धवार्षिक परीक्षा दी थी, उसके तुरंत बाद परमीत तीन दिन स्कूल नहीं आई थी. देसी चुदाई विडियोमैसेज चैट पर उसने बताया कि वो एक स्टूडेंट है और शहर में ही रहती है.

सतीश की पहली पिचकारी सीमा की चूत के अंदर जैसे ही गयी और साथ ही सतीश ने अपना लौड़ा बाहर खींचा और झड़ रहा लौड़ा पास बैठी मुस्कान के मुंह में डाल दिया. बीपी सेक्सी वीडियो ओपनहम लोग आपस में बातें ना के बराबर कर रहे थे, बस एक दूसरे की मन की बात को सुन और समझते हुए प्यार कर रहे थे.

एकाएक रोहित रोने लगा और संजू के सामने बोलने लगा- भाभी, आपका ये रूप देखकर अगर मैंने सेक्स नहीं किया, तो मैं जिन्दा नहीं रह पाऊंगा.बीएफ सेक्सी इंडिया की: एक हल्की चीख और प्रयास के साथ ही परमीत ने लंड का कुछ और भाग निगल लिया.

हमने सोचा कि अगर इसने यह वीडियो इंटरनेट पर डाल दिया तो बहुत बदनामी होगी.ऐसा ही बेबी रानी को करना है … तुम दो दो रंडियों के होते हुए मैं अलग से गिलास क्यों लूँ? फिर तुम्हारे मुंह का जूस भी तो मिक्स हो जायगा शैम्पेन में? ले एक सिप और जो बताया वैसा कर … तू भी रंडी बेबी.

हिन्दी पोर्न सेक्स - बीएफ सेक्सी इंडिया की

वैसे भी यहां पर एक रूल था कि कोई भी अपने कमरे का दरवाजा अन्दर से लॉक नहीं कर सकता था.अब वो सिर्फ पेटीकोट में थी और दोनों हाथों से मम्मे छुपाने की कोशिश कर रही थी।अब जब मैं उसका पेटिकोट उतारने लगा तो उसको शर्म आ रही थी.

मेरी बात पर रोहण ने कहा- ठीक है तुम भी जा सकती हो, मुझे कोई परेशानी नहीं है. बीएफ सेक्सी इंडिया की बाहर गरजते बादल, दहाड़ती हवा और घनघोर बारिश और अंदर काम-बाण से घायल, एक दूसरे में समा जाने को आतुर प्रणय-युगल, रति-क्रीड़ा में के प्रथम चरण को लांघते दो जवान जिस्म.

इन सब में सब में शाम होने को आ गयी।अब्बू के दोस्त हमें घर पर ही रुकने की जिद करने लगे.

बीएफ सेक्सी इंडिया की?

वो अपनी आपबीती बताते हुए बोली- मुझे अपने पति से पैसा तो बहुत मिलता है, लेकिन प्यार नहीं. पास ही कंडोम के पैकेट पड़े थे, जिसे हमारे कहने पर इस्तेमाल नहीं किया गया. जाते ही उसने निक्कर में से लण्ड निकाल लिया और कहा- ये तो पहले से ही खड़ा है।मैंने भी कह दिया- तुम्हारी गर्मी से ही खड़ा हो गया है।यह सुन कर वो खुश हो गयी और घुटनों के बल बैठ के लण्ड चाटने लगी। आंड से लेकर लण्ड चाटने के बाद मुंह में लेकर चूसने लगी तो कभी आंड चूसती.

और किसी को कुछ भी कहने का मौका भी नहीं मिलेगा।”सायरा मेरी तरफ टकटकी लगाकर देखने लगी, शायद इस समय मैं कुछ जरूरत से ज्यादा स्वार्थी हो गया था, मैं सायरा से नजर नहीं मिला पा रहा था. और हमने अपनी ड्यूटी इस तरीके से सेट करवाई कि दोनों का नाईट ऑफ एक साथ हो. एक दो बार मेरे चूतड़ों को दबा कर देखने के बाद उसने पूछा- और एक्सरसाइज़ करनी है क्या?मैंने कहा- बस लास्ट सेट चेस्ट का मारना है.

स्वीटी आंटी ने शरमाते और मुस्कुराते हुए बोला कि बस बस … बहुत हो गई मेरी तारीफ. दोस्तो, मैं जय, फिर से आप सभी के समक्ष एक नई दास्तान पेश करने जा रहा हूँ. अब मैंने उसे बेड पर एक साईड में लिटा दिया और उसके जिस्म के एक एक अंग को जंगलियों की तरह चूसने लगा.

मेरे हाथ के स्पर्श से वो भी गर्म होने लगी थी तो उसने अपनी जांघें थोड़ी और खोल दी ताकि मेरा हाथ उसकी चूत तक पहुँच सकें. कसम से यार उसके गुलाब के पंखुड़ियों जैसे होंठ देख कर मैंने भी अपने होंठों पर जीभ को फेर लिया.

भैया बोले- पर एक बार और तो बनता है न यार … ऐसा कर थोड़ा सा ऊपर से करने दे.

एक रात जब हम फोन सेक्स कर रहे थे, तो मैंने उससे चोदने की बात कह दी.

मैं जानती थी कि संदीप से मेरा बिछड़ना तय है, तब भी मैं उसे दिल से चाहती थी, जबकि परमीत का संबंध सिर्फ लंड चूत वाला था और मनु का संबंध भी शारीरिक ही लगता था. अब मेरा लंड उनके मोटे-मोटे चूतड़ों के बीच छिपी हुई गांड से लग गया था. इसी की आड़ लेकर मैंने अपनी ज़िंदगी में खूब मस्ती की है। जवानी में पहला कदम रखते ही मुझे सेक्स का चस्का लग गया था.

बाथटब में मीना ने शावर खोला … पहले कुणाल आया और आते ही मीना को चिपटा लिया. अविनाश- आलिया आज मैं तुम्हारा ब्वॉयफ्रेंड हूँ इसलिए तुम मुझे अविनाश कहकर बुला सकती हो. भैया- तो कब कराएगी मेरी सैटिंग?तो दीदी बोली- देखूँगी पर … आपको वही टेक्नीक लगानी होगी, जो आपने मेरे साथ किया था.

चाची को इस तरह से नंगी देख कर मेरा लंड टाइट होकर बाहर आने को मचलने लगा था.

ये फ्रिज भाभी के मायके में उनके लिए किसी रिश्तेदार ने गिफ्ट किया हुआ था. मैं मोनिका मान उर्फ़ मोनी हिमाचल में रहती हूँ। मेरे स्तन 32″ कमर 28″ चूतड़ 36″ के हैं।मैं अक्सर जीन्स-शर्ट पहनती हूँ। मेरा रंग गोरा है और मैं बॉय-कट बाल रखती हूँ। मेरे घर में हैं मेरे पापा, मेरी मोम, एक बड़ा भाई, बड़ी बहन निकिता और मैं।घर में मैं सबसे छोटी हूँ। मेरी बहन निकिता पापा के साथ दिल्ली में रहती है, भाई पंजाब में जॉब करते हैं। घर में मैं और मेरी मॉम रहती हैं. मैं बॉस से मिला, तो वो बोले- देखिये, मैं 7 दिन के लिए बाहर जा रहा हूँ … आपको रविवार के दिन परेशान किया.

मैंने उन्हें नीचे लिटा दिया और जो बर्फ मैंने लाकर रखी थी, उसमें से एक टुकड़ा लिया और उनकी गर्म छाती के ऊपर फिराने लगा. बस इसकी गारंटी आप दे दीजिए। मैं उस लड़की को आप दोनों के बिस्तर में ला दूंगा. तो शीला शाम को सुनील और विशाल के साथ ही गाड़ी में होटल आ जाया करेगी.

मैंने दीदी की गांड से लंड निकालकर दीदी को हटाया और आलिया के दोनों पैरों को ऊंचे करके आलिया की गांड में लंड पेल दिया.

ऐसा ही बेबी रानी को करना है … तुम दो दो रंडियों के होते हुए मैं अलग से गिलास क्यों लूँ? फिर तुम्हारे मुंह का जूस भी तो मिक्स हो जायगा शैम्पेन में? ले एक सिप और जो बताया वैसा कर … तू भी रंडी बेबी. दीदी हंसने लगी और बोली- अब करा दूँगी सैटिंग मेरे राजा … नाराज़ ना हो.

बीएफ सेक्सी इंडिया की थोड़ी देर सोचती रही फिर बोली कि आप मुझे बेबी कह सकते हैं … बेबी मेरा घर का नाम है लेकिन ये नाम इतनी लड़कियों का होता है कि कोई रिस्क नहीं है. उसने यह बात मुझको बताई थी तो मुझे लगा कि ठीक है, इससे मेरा भी काम बन जाएगा और उसकी मदद हो जाएगी.

बीएफ सेक्सी इंडिया की अगले ही कुछ पलों में मैंने सुहास का पूरा लंड अपने मुँह में अन्दर तक ले लिया और उसे जोर जोर से चूसने लगी. मैंने फिर से अपना लंड उसके मुँह में दे दिया और 69 की पोज में उसकी क्लिट को मुँह में भर कर चॉकलेट की तरह चूसने लगा.

कमीना कई दिनों से इस हसीना की रसीली चूत में घुसने को बेक़रार हुआ जा रहा था.

पटना की सेक्सी

उन दोनों के आंखें बंद कर लेने के बाद मैंने अपने बैग से बीयर की बोतलें निकाल लीं और उन दोनों को आंखें खोलने के लिए कहा. उससे बात होने के बाद मैंने रात में सोते हुए दो बार चूत में उंगली की. चुत के लिए बस एक डोरी उसकी गांड से होते हुए नीचे चुत के ऊपर चली गई थी.

अब मैं भी उसके लंड के साथ खूब मजे ले ले कर चिल्ला रही थी- आह सुहास चोदो मुझे … आह सुहास चोदो … सुहास और तेज चोदो … आह सुहास मेरी प्यास बुझा दो. मैं एक 28 साल का युवक हूँ और मेरे लंड की साइज़ भी इतनी मस्त है कि ये किसी भी लड़की या भाबी को चुदाई का पूरा मज़ा दे सके. मेरे शिश्न-मुंड के अपनी योनि के भगनासे पर हो रहे लगातार घर्षण के कारण वसुंधरा के मुंह से लगातार निकलने वाली सीत्कारों और सिसकियों में इज़ाफ़ा हो रहा था लेकिन अब मुझे इस ओर ध्यान देने की होश कहाँ थी.

और उन्होंने दरवाजा अंदर से बंद कर लिया।आंटी बोली- तुम्हें आने में तकलीफ तो नहीं हुई? और कैसा हुआ तुम्हारा पेपर?मैंने कहा- ठीक हुआ!वो बोली- जाओ फ्रेश हो लो, तुम पसीने में भीगे हुए हो.

प्लीज़ मेरी आपसे दरखास्त है कि सेक्स कहानी में हुई गलतियों को नजरअंदाज कर दीजिएगा. इसमें कोई शक नहीं कि जालान आंटी की बेटी सुमन सुन्दर थी, मनीषा की अपेक्षा बहुत सुन्दर थी. मैं अब ब्रा और पैंटी में थी लेकिन मेरी ब्रा मेरी चूचियों से नीचे फंसी हुई थी.

अलका की काली आंखें, लाली भरे होंठ, उसके 36c के मोटे और रसीले चुचे, चुचों के बीच एक गहरी नाली, पेट में भंवर बनाती गहरी नाभि, सेक्सी उभरी हुई 38 साइज की गांड और कमर पर दो गड्डे, जो उसको सेक्स की देवी मानने को मज़बूर कर देते हैं. हम दोनों ने पहले के जैसे बीस मिनट तक चूमाचाटी की और कपड़े उतारने की बेला आ गई. मैंने उसके होठों को छोड़कर उसका एक चुचा अपने मुंह में डाला और उसे जोरों से चूसने और मसलने लगा। हम दोनों सातवें आसमान का मजा ले रहे थे और वे भी स्वर्ग में अपने आप को महसूस कर रही थी।अब मैंने अपने झटके मारने शुरू किए। आशा की चूत में एक के बाद एक मैंने कई झटके मारे थे.

वो कहने लगी- प्लीज अब डाल दो! और नहीं रहा जाता!मैंने भी मौके की नजाकत को समझते हुए लंड चूत में डालना ही सही समझा. शादी में थक हारकर सोयी हुई महिलाओं के चूचों को भी खूब छेड़ा और दबाया है.

आज भी मैं रोजाना व्यायाम करके अपने शरीर की देखभाल करता हूं।जब मैं 32 साल का था तभी मेरी पत्नी का एक बीमारी में देहांत हो गया। मेरा एक बेटा है जो अब 22 साल का है और गुजरात में जॉब करता है। दिल्ली में मेरी एक दुकान है. जैसे ही मैं गया उसके चेहरे पर एक हसीन मुस्कान आ गयी, वो मुझसे हँसकर बात करने लगी. मगर एक दिन मैंने सोच लिया कि अगर मैं इसके साथ आगे बढूंगा तो इसको सब कुछ सच बताने के बाद ही.

तो प्रस्तुत है बुआ की चुदाई का अगला किस्सा उन्ही की जबानी:स्कूल में टीचर की चूत चुदाई की कहानी के पिछले भागमेरी बुआ की चुदाई के किस्सेमें आपने पढ़ा कि एक दिन मैं स्कूल में थी और बारिश हो रही थी.

अपना सुझाव रखते हुए मैंने कहा- होटल में चुदाई का आइडिया कैसा रहेगा?वो बोली- होटल में चुदाई का प्लान ठीक नहीं है, अगर मैं रोज घर से निकल कर जाऊंगी तो कोई न कोई जरूर मुझे आते जाते हुए देख लेगा. लंड की प्यासी वो औरत मेरे सीने को चूमती हुई मेरे पेट से होती हुई नीचे मेरी पैंट तक पहुंच गई थी. आनन्द में चूर होकर रानी मचल उठी, प्यार से राजे राजे राजे कहती हुई वह मुझ से लिपट गई और मेरे ऊपर चुम्मियों की झड़ी सी लगा दी.

मैंने आंखें खोलीं, तो देखा नीरज मेरी बीवी या यूं कहूँ कि अपनी बहन, जो कि गहरी निद्रा में सोई हुई थी, के पास आ गया था. प्लान के मुताबिक भाभी ने भैया से झगड़ा किया, कि उन्हें गोल्ड नेकलैस चाहिए.

ये टीनऐज गर्ल की सेक्स कहानी कैसी लगी, अपनी राय जरूर भेजिएगा … धन्यवाद. दरअसल उन्होंने मेल में लिखा था कि मैं अपना चेहरा तुम्हें नहीं दिखाऊंगी और तुम अपना मोबाइल बंद रखोगे. उनके घर मैं अक्सर ही जाता रहता था, मेरी आदत थी कि मैं बिना आवाज दिए अन्दर चला जाता था.

ভাবী চোদা

उन्होंने मुझे बताया कि तुम्हारी गांड बहुत जबरदस्त लगती है, मुझे सिर्फ तुम्हारी गांड मारनी है.

इतना सुनना था कि उसने मेरी चड्डी पर हाथ रख कर कहा- हाय … आज तो मेरी चूत फटने वाली लगती है. मेरी इस बात का तुरंत तो कोई जवाब नहीं आया, पर थोड़ी देर से जवाब आया कि कहानी में मेरा नाम गीत लिखना, मैं शादीशुदा हूं, पति के साथ सेक्स लाईफ अच्छी है, पर वो बाहर रहते हैं, इसलिए कम ही सेक्स होता है. इसलिए मेरा आपसे निवेदन है कि आप बस मेरी सेक्स स्टोरी पढ़ें और मज़े लें.

मैंने आलिया की मक्खन जैसी गांड पर लंड सैट करके घुसा दिया और उसे चोदने लगा. संजू की भारी चूचियां उसके भाई के हाथों में नहीं आ रही थीं वो संजू की चूचियों की घुंडियों को घुमाने लगा. सेक्सी चुदाई सेक्सी वीडियोइस जुगत में मैं घूमते घूमते पार्क के बहुत अन्दर जाकर एक कुर्सी पर बैठ गया और अपना मोबाइल निकाल कर फेसबुक के पोस्ट पढ़ने लगा.

हम दोनों ही संजय की बात नहीं समझ रहे थे, वो लोग सरप्राइज कैसे हो सकते थे. मैंने भी वहां ज्यादा देर रुकना सही नहीं समझा और गाड़ी को फिर से एक्सप्रेस-वे पर डाल दिया.

मैंने उनकी चुदास देखी तो जल्दी से लंड को चाची के पेटीकोट से पौंछा और लंड उनके मुँह में दे दिया. शबनम- अच्छा … कहां ध्यान था तुम्हारा? कहीं किसी को पटाने के चक्कर में तो नहीं थे न!‌मैं- नहीं यार … पटाता किसे … तुमसे ज्यादा खूबसूरत कोई लगी ही नहीं. मेरे मुंह में तत्काल एक तीखा सा, नमकीन सा, चरपरा और नशीला सा स्वाद घुल गया साथ ही मेरे नथुनों से वसुंधरा के कामोद्दीपक जिस्म की वही जानी-पहचानी मादक गंध टकराई.

मेरे साले नीरज ने अपनी बहन संजू को चुदाई में अधूरा छोड़ दिया था, जिस वजह से संजू मेरे लंड से मेरी सलहज को हटा कर खुद बैठ गई और अपने झड़ जाने तक मेरे लंड का मजा लेने लगी. मैं- और तुम क्या करती हो?अलीना- ज्यादा खास नहीं मेरे पति एक कंपनी में मैनेजर हैं. धीरे से मैंने उसके कान में गर्म सांस छोड़ी, तो मुझे उसकी भी गर्म सांसें महसूस होने लगीं.

तभी नीरज ने भी अपना वीर्य का फव्वारा संजू के मुँह में डाल दिया, जिसे संजू पूरा पी गई.

उसके बाद मैंने सुहास से कहा- मैं रूम में रेडी होने जा रही हूँ, ज़ब मैं तुम्हे फ़ोन करूं, तब तुम रूम में आ जाना. मैं बहुत तेज तेज हांफ रही थी ‘आह सुहास आह!’वो मेरी चुत को अन्दर तक चूसे जा रहा था.

फिर क्या था … मैंने भी आंटी के फोन में पोर्न वीडियो दिखा दिए, जो उस लड़के ने भेज रखे थे. जो आपकी गर्लफ्रेंड बनने का मौका मिला वरना कुछ लोग तो किसी और से चुदवाने का मजा लेने में लगे हैं. मैं एक उंगली उसकी चूत में डालने की कोशिश करने लगा जिससे कि वो और ज्यादा उत्तेजित होने लगी थी.

सच दीदी?”हाँ शैली … तू 3/4 दिन और ऐसे ही चलने दे। मतलब चूसना नहीं और न ही गांड मरवानी. मैंने उसे बताया था कि जब तू कमोड पर बैठा करे, तो फ्रेश होने के बाद गांड में उंगली किया कर, इससे तेरी गांड को आदत हो जाएगी. फिर जैसे तैसे मैंने हिम्मत करके उसको हाय कहा, उसने भी आंखों के इशारे से मुझे हाय कहा.

बीएफ सेक्सी इंडिया की मैंने भी अपने हाथ से अलका की सलवार के नाड़े को ढीला करके अपनी दो उंगलियां उसकी चुत में डाल दी थीं और उसकी चुत का मर्दन करने लगा था. जिया- आहहह ओह चोद बहनचोद … आज तू मन की कर ही ले … फाड़ डाल मेरी गांड को … उहह याह ओह यस.

सिक्स वीडियो प्लेयर

आप लोग तो जानते ही होंगे कि उन दिनों में नैनीताल में कितनी ठंड होती है. पर मैंने सोचा कि आज अगर शुरुआत हो जाए, तो इसकी चुत तो कभी भी ले लूंगा. अभी वो रूम में घुसी ही थी कि नीरज ने उसे दबोच लिया और उसके होंठ को चूसने लगा.

मेरा नाम रॉकी राज है, मैं लखनऊ में माता-पिता और दादा-दादी के साथ रहता हूं. अपनी योनि के भगनासे पर मेरे लिंग-मुंड की बार-बार रगड़ लगने से वसुंधरा के काम-आनंद में तो सहस्र गुना वृद्धि हो गयी और वसुंधरा का काम-शिखर छूना महज़ वक़्त की बात रह गया था. नंगे नंगे नंगे नंगेआलिया- उम्म्ह… अहह… हय… याह… या ओह आहह भाई … आज दवा से आपका लंड कुछ ज्यादा ही कड़क हो गया है.

तो मैं खुश हो गया और उसकी चूत चोदनी शुरू कर दी।थोड़ी देर की चुदाई के बाद हम सब झड़ गए और नहा धोकर बाहर आ गए.

लण्ड चूत में घुसा हुआ था और गर्म गर्म रस का लुत्फ़ लूट रहा था जबकि चूत लप लप लप लप करती हुई रस छोड़ रही थी. आंटी कसमसाईं और फिर से सिसकारी छोड़ने लगीं, लेकिन धीमी आवाज़ में ही उनकी चुदास निकल रही थी.

नमस्कार दोस्तो, मेरी यह कहानी पिछले 6 महीने पुरानी है जब मेरी मुलाकात एक ऐसे लड़के से हुई जिसने लिंग परिवर्तन का ऑपरेशन कराया हुआ था. ये कहते कहते उसका गला सूख गया और वो हांफते हुए मुँह से सिसकारियां निकालने लगी. मगर कहीं न कहीं मेरे अन्दर की छिपी हुई मेरी वासना अपना असर दिखा रही थी.

और उस के मुंह से आनंदभरी सिसकियों का निकलना तो बदस्तूर जारी था ही ‘सी … ई.

खैर, सुनील नहाकर उसके कमरे में ही आ गया, तब तक विशाल भी नहा लिया था. और रोजी ने भी अपना कामरस छोड़ दिया था।मैं हाँफता हुआ कुछ पल रोजी के ऊपर ही लेटा रहा, फिर उसके होंठों को चूमकर उससे अलग हुआ।रोजी की चूत से मेरा और उसका मिलाजुला माल निकलने लगा था. मैंने उसकी चुत पर एक किस किया, तो उसने अपने दोनों पैर फैला लिए, जिससे चुत पूरी खुल कर सामने आ गयी.

सनी लियोन का सेक्सी फुल एचडीऋतु दीदी की उजले रंग की ब्रा और ब्लू कलर की पैंटी मुझे साफ दिख रही थी. मेरे अधसोये हुए लंड को अपने हाथ में लेकर खेलने लगी, बोली- यार अजय, तुम तो बहुत ही मस्त चुदाई करते हो.

खपाखप सेक्सी

मैं- आह सुहास … यू आर सो गुड … आह उफ्फ … आह सुहास आह … मजा आ रहा है. दीदी- राज आज मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड हूँ इसलिए तुम मुझे सिर्फ चित्रा कहकर बुलाना. नीचे धक्के पे धक्का … धक्के पे धक्का … धक्के पे धक्का … फिच्च फिच्च फिच्च … फिच्च फिच्च फिच्च … बेबी रानी अब तक कई बार झड़ चुकी थी.

फिर वो लड़का भी बेकाबू सा हो गया और मुझे खड़ी कर दिया और एकदम से अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया. अब मुझसे और रेनू से रुका नहीं जा रहा था तो मैंने अपने भी सारे कपड़े उतार दिए. फिर मैंने नीलू को अपने सामने खड़ा किया और उसके बूब्स चुसने शुरू कर दिए अक्षय नीचे बैठकर अभी भी नीलू की चूत चाट रहा था.

मेरी उँगलियों की हर जुम्बिश के साथ-साथ वसुंधरा के के मुंह से निकलती प्रणय-सिसकारियों में वृद्धि होती जा रही थी और हर पल वसुंधरा के जिस्म का तापमान बढ़ता ही जा रहा था. मीना बोली- पक्का है न? भूल मत जाना?कुणाल बोला- ये राठौर का वायदा है, झूठा नहीं होगा. फिर हम चारों एक ही रूम में इकट्ठा हो गए क्योंकि अब किसी को किसी के सामने नंगा या नंगी होने में शर्म नहीं थीं।लेकिन जल्दबाजी में हम कंडोम लाना भूल गए.

चारों छोकरियां बहुत मस्त और सेक्सी आइटम थीं, पर मेरी यह कहानी पहली मंजिल पर रहने वाले परिवार से जुड़ी है. मैंने पूछा- हम चारों में से तुम्हें किसका लंड पसंद आया है?जिया- क्यों?मैं- बताओ तो सही.

लेकिन उन्होंने अपने आपको इतनी अच्छी तरह से सँवारा था कि वो बिल्कुल एक नयी नवेली दुल्हन की तरह लग रही थी।वो मोटी-मोटी आँखें, दूध सा गोरा चेहरा, टमाटर जैसे गाल और पतले पतले सुर्ख लाल लिपस्टिक से रंगे हुए होंठ और बहुत कड़क से लग रहे थे.

शीला ने आकर पूछा- खाने में क्या बनाऊं?क्योंकि राशन तो कुछ नहीं था तो सुनील बोला कि हमें रात को ड्रिंक करने की आदत हैं, पर इससे तुम्हें कोई परेशानी नहीं होगी, तुम खाना बनाकर सोने चली जाना. मारवाड़ी सेक्सी करते हुए वीडियोउसको मेरी कुछ हेल्प चाहिए थी।एक बात और मैं आपको बता दूँ कि जब मैंने अपना वाइफ स्वाइपिंग क्लब शुरू किया था, तब एक बार मेरी पत्नी ने शीराज और ज़ायरा के बारे में भी बात करी थी. x वीडियो हिंदी hdजीजा जी- रुको उस रात को उन तीनों ये हमारा वीडियो रिकॉर्ड किया था, जो एक पेनड्राइव में है और वो यहां पर मौजूद होगा. मैंने सर उठाकर जेठजी को देखने का सोचा, पर जैसे ही मैंने अपना चेहरा उनके चेहरे की तरफ किया.

दोस्तो … मेरी पिछली कहानियांदोस्त का स्वागत बीवी की चूत सेऔरअधूरे मिलन की तड़पआपने पसंद की.

उसने डिल्डो खुद थाम लिया और चूत पर रगड़ते हुए मुझे अंतिम क्षण तक सुख पहुंचाती रही. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था क्योंकि आज तक किसी ने भी ऐसे पागलों की तरह मेरे लंड को नहीं चूसा था. जिया के चूचे हवा में झूल रहे थे और मैं बिना रुके उसकी गांड चुदाई कर रहा था.

हमारी बातचीत में नॉर्मल बातें होती थीं, जैसे घर की, जॉब की आदि बातें ही होती थीं. बाहर आकर मैंने शालिनी से पूछा- उसने मेरे साथ कुछ किया क्यों नहीं?तो शालिनी बोली- वो एक पक्का मर्द है, वो पहले लड़की को तड़पाता हैं, जब लड़की बर्दाश्त नहीं कर पाती तब वो उसे सही समय आने पर चोदता है. जब-जब वो पुलइन कर रही थी नवीन उसकी गांड में लौड़े को पुश कर रहा था.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीपी वीडियो

वो मुझे सहलाते हुए बोलने लगे- तूने आज मेरी लंड की प्यास शांत की है, बोल तुझे क्या चाहिए. अब परमीत को तो हड़बड़ी छाई थी, सो हम शाम को छह बजे ही संजय के फार्म के लिए निकल गए. जब मम्मी डैडी जॉब पर चले जाते थे, तब हम दोनों कॉलेज और स्कूल से आने के बाद घर पर बहुत मस्ती करते थे.

मैं- घूँघट उठाने की इजाजत है?नेहा- अमित आज तुम्हें सब करने की इजाजत है, पर मेरी बात को ध्यान से सुनो.

15 मिनट के बाद मैं उसकी गांड में ही झड़ गया और फिर साइड में लेट गया.

वो बड़बड़ाने लगी- आह्ह … आ रही हूं, और जोर से … आह्ह चोदो, पूरा घुसा दो. हम दोनों काफ़ी देर तक एक दूसरे से ऐसे ही लिपटे रहे, जैसे कि हम दोनों को एक दूसरे को सालों से मिलने की प्यास हो. सेक्सी वीडियो भाभी वालीममता मुस्कुरा के बोली- अब इसे छिड़काव की नहीं … पूरी धुलाई की जरूरत है.

उसने पूछा- तुम लोग किस टाइम आते हो?मैंने कहा- हम तो शाम को आते हैं. खैर … मेरा लम्बा लंड देखकर सुहानी डर गई और बोलने लगी- इत्ता बड़ा … ये मेरे अन्दर नहीं जा पाएगा. कुछ देर बाद सुहास और मैं फिर से झड़ गए और हम दोनों बेड पर ही नंगे सो गए.

मम्मी न केवल मान गईं … बल्कि उन्होंने खुद भी मिताली भाभी से कहा- मिताली, तूने मेरी बड़ी समस्या हल कर दी है. पता नहीं उसने क्या सोचा, लेकिन जवाब आया कि ठीक है … अब जब भी रात को हमारी बात होगी, मैं आपको सब कुछ बता दिया करूंगी.

वो तोप की तरह टाइट था।वैसे तो मुझे लंड चूसना पसंद नहीं था लेकिन उसके मदमस्त लन्ड को देख मेरे मुँह में पानी आ गया। हालांकि उसने दोबारा नहीं पूछा। वो झुका और उसने अपने नीचे गिरी लोअर से कंडोम का पैकेट निकाल लिया.

तभी नीरज के लंड से वीर्य का फव्वारा छूटा, जिसे संजू पूरा मुँह में लेकर गटक गई तथा नीरज के पूरा लंड को वीर्य रहित कर दिया. अब क्या होगा?दोस्तो, आगे अगले भाग में, कृपया अपना फीडबैक जरूर भेजे. इन सबके बीच सिल्क कहीं से भी परिपक्व, परित्यक्ता नारी नहीं लग रही थी.

इंग्लिश सेक्सी आंटी अब उनका हाथ मेरी कमर से होता हुआ मेरी पीठ को सहलाने लगा और वो धीरे धीरे मेरी ब्रा का हुक खोलने लगे. मेरा जिस्म पतला है, लेकिन मैं देखने में बहुत आकर्षक हूँ और फुर्तीला हूँ.

उसका कारण यह है कि उसे देख कर कोई भी यही कहेगा कि ये 20-21 साल की चंचल बाला है. कभी मेरी गांड को दबा रहा था तो बहनचोद कभी मेरी चूचियों को जोर से दबा देता था. यदि आपके पास भी ऐसी कुछ अलग सी घटना हो तो बेझिझक मुझसे संपर्क कर सकते हैं.

सेक्स पॉर्न विडिओ

मेरी गांड के छेद पर लंड रखते हुए अपने लंड के आगे की चमड़ी को खींच कर पीछे की और उंगली की मदद से पहले सुपारे को गांड के अन्दर फंसा दिया. मैंने सूखा लंड इसलिए डाला कि उसने आज मुझे दुख दिया था, बस इसी लिए आज मैं बहुत गुस्से में था. वो बोला- बहुत मस्त संतरे हैं तेरे …मेरे मम्मों से जो दूध आ रहा था … वो उसे चाट लेता.

अब मैंने करवट ले कर उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और उसके होंठों को चूसने लगा. इस बात पर हम जीजा-साले मुस्कराने लगे, जिससे दीदी को भी रात हुई चुदाई की वजह से हमारी बात समझ आ गई.

कुणाल बलिष्ठ था, उसने मीना को बाँहों में उठा लिया और तौलिया में लपेटकर बेड पर आराम से पटक दिया.

आपको मेरी हिंदी सेक्सी स्टोरी पसंद आई? मेरी स्टोरी पर अपने कमेंट के जरिये अपनी राय देना न भूलें. ” और मम्मी उससे छूटने की नकली कोशिश करने लगीं।वो और ज़ोर से चूचियाँ मसलने लगा।बेटा छोड़ो, मुझे छोड़ दो, ये मत करो. मैंने भी एक हाथ उसके सूट के अन्दर कर उसके चुचों को दबाना शुरू किया और उसको हल्के से अपने लंड पर दबाव बनाने का इशारा किया.

फिर मैंने लौड़ा चूत में घुसाये घुसाये ही गुड्डी को चूचियों से पकड़ के घसीट के अपनी तरफ झुकाया और लपक के अपना मुंह उसके मस्त स्वादिष्ट चूचियों पर लगा के बेसाख्ता चूसने लगा और साथ साथ बेबी रानी को हौले हौले धक्के लगाने लगा. तब भी मैं खुश थी कि मेरा पहला अनुभव इतना दर्दनाक, पर मज़ेदार हो रहा था. वो भी मेरे सिर को पकड़ कर मेरे मुंह को अपने झाँटों के गुच्छे के नीचे लंड की जड़ में लटक रहे अपने आण्डों में दबाने लगा.

अंकल मेरे लंड को धीरे-धीरे सहला रहे थे और साथ में मेरे होंठ चूस रहे थे.

बीएफ सेक्सी इंडिया की: इसी की आड़ लेकर मैंने अपनी ज़िंदगी में खूब मस्ती की है। जवानी में पहला कदम रखते ही मुझे सेक्स का चस्का लग गया था. हम दोनों अपनी जगह पर जम से गए थे … कुछ देर चुप रहने के बाद जेठजी ने फिर से बोलना शुरू किया.

उसने मुझे अलग किया और बोली कि नीतू को कम चोदना … कहीं ये कल ढंग से चल भी न पाए, क्योंकि कल रात को मम्मी जी और साहिल वापिस आ रहे हैं … और कल आप जल्दी आ जाना … क्योंकि कल का सारा दिन शाम तक मैंने आप के साथ बिताना है. अब आंटी पूरी तरह से चुदने को तैयार थी लेकिन मैं उनकी चूत का रस ही पीने में मस्त था।आंटी बोली- मुझे भी तो मौका दो. वो एकदम गर्म हो गई और धीरे स्वर में ‘आह आह … यू आर सो गुड … डू इट मोर.

मैं बोला- ठीक है मादरचोद वेश्या … अब बोल और क्या क्या जान लिया मेरे बारे में, हरामज़ादी रंडी?बेबी हँसते हँसते बोली- तुझे लड़कियों की सुस्सू पीना पसंद है ना? तू इसको स्वर्ण अमृत कहता है … तुझे लड़कियों के पैरों से बहुत लगाव है.

उसके चेहरे पर आ रहे लट ऐसे लग रहे थे … मानो कि वो मेरी गीत के लिए वाद्ययंत्र पर संगीत देने के लिए आतुर हो रहे हों. चूंकि मैं पिछले कई सालों से अन्तर्वासना की सेक्स कहानियां पढ़ता आ रहा हूँ. उसका मुंह मेरी छाती में घुस गया और उसके मस्त मम्मे मेरे पेट को दबाने लगे.