मराठी सेक्सी बीएफ ओपन

छवि स्रोत,बीएफ सेक्स साड़ी वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू सेक्सी पिक्चर चलाओ: मराठी सेक्सी बीएफ ओपन, चाची ने कहा- गिरने वाला है रे … रुकना मत प्लीज … ऐसे ही चोद … जोर जोर से.

बीएफ हिंदी वीडियो बीएफ हिंदी में

सुबह से रात तक काम करने में थक गई बेचारी … बस काम ही तो करती रही थी. छोटी उम्र के बीएफफिर जब मेरी शादी तय हो गई तो मुझे रोज धवन सर की याद आती लेकिन जब सुहागरात आई तो प्रिंसिपल साहब के साइज का लण्ड लेकर तेरे अंकल बैठे थे.

अपने आस पड़ोस की लड़कियों की चूचियां और मटकती गांड देख मेरा लंड खड़ा हो जाता था. बीएफ भोजपुरी में चाहिएवरना वो नंगा ही था सुबह से!अब एक घंटे बाद राजसी की कॉल आयी- नीचे आओ!मैं जब नीचे पहुँची तो वहां राजसी को मिला कर 6 लड़कियाँ थी.

अब मैंने पूरी ताकत लगा दी और दो-तीन मिनट के बाद मैं भी बोल पड़ा- आह्ह … डार्लिगं … मैं भी झड़ने वाला हूं.मराठी सेक्सी बीएफ ओपन: थोड़ी देर आराम करने के बाद मैंने फिर उसकी चूत में उंगली करनी शुरू कर दी और उसकी चूचियों को मसलने लगा.

मुझे उसी समय अपनी बेटी सोनल को नंगी चुदते देख कर उसे चोदने की इच्छा हो गई थी.जैसे ही उसके गर्म मुंह में लंड अंदर गया तो मेरी आंखें स्वत: बंद हो गयीं.

वीडियो सेक्सी बीएफ अंग्रेजी - मराठी सेक्सी बीएफ ओपन

साहिल के सो जाने के बाद मैंने दूसरी नाइटी पहन ली और साहिल को उसकी शार्ट पहना दिया.हमारे फैमिली रिलेशन अच्छे होने से मैं अक्सर उनके यहां बिना रोक टोक के आता जाता रहता था.

सायली, तुम्हें मुझ पर भरोसा नहीं है क्या?”है तो … तुम ऐसा क्यों पूछ रहे हो?”जो काम मैं कर सकता हूँ … वो काम तुमने अंकित से करवाया, इसीलिए पूछ रहा हूँ. मराठी सेक्सी बीएफ ओपन मैं- स्यू अब छोड़ भी दे यार!मामी- क्यों हटा लिया तुमने … और स्यू?मैं- क्यों स्यू कहना अच्छा नहीं लगा!मामी- नहीं बहुत अच्छा लगा, अबसे तुम मुझे स्यू ही कहना बेबी.

उसपे एक बिल्कुल टाइट छोटी कुर्ती निकाल कर बाथरूम में जाकर बदलने लगी.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन?

मां की लवड़ी इसको पूरा अन्दर ले हरामिन … पूरा उतार गले तक के अन्दर तक … आह तब मुझे सुकून मिलेगा कुतिया. हमारा चुम्बन टूटा, तो मैंने उसे अपनी बांहों में खींच लिया और उससे बोला- चलो बेडरूम में चलते हैं. उसको मैंने बोल दिया- जब लंड अब गहराई में जाने लगेगा तो थोड़ा दर्द होगा.

कुछ देर बाद मैंने लंड चुत से निकाला और उसके पैरों को हवा में उठा कर लंड चूत में झटके से जड़ तक पेल दिया. मैंने उससे पूछा- तुम लोगी?तो उसने कहा- हां क्यों नहीं!फिर हमने साथ में बियर पी. कालू- मैडम जी अगर मैंने आपको चोदते समय कुछ बुरा कह दिया हो तो माफ़ करना … मैं चुदाई के समय ऐसा ही हो जाता हूँ.

और 9 माह बाद उसने बेटे को जन्म दिया।मैं अपने बेटे को देखना चाहता था. उसने कहा- ये क्यों?मैंने कहा- यदि तुम पहली बार चुद रही हो, तो तुम्हें लंड जरूर चूसना चाहिए. और धक्के लगाने लगा।उसने तो अनीता की कमर पकड़ कर स्पीड बढ़ा दी और अनीता साली सिसकारी भर के चुदवा रही थी।तभी उसकी आवाज तेज हो गईं।और वो रुक गया शायद भाई का पानी निकलने को था।तो उसने अनीता की कमर छोड़ दी और उसके मुंह से लंड घुसा कर खड़ा हो गया.

फिर ये ध्वनि तब तक नहीं रुकी जब तक उसकी बुर में 15-20 बार मैंने उंगली से चोदकर उसको बाहर नहीं किया. अब वो मेरे गालों को चूमता और चाटता और कान भी!आखिर में उसने मेरे दोनों गालों पर अपने दांतों के गहरे निशान छोड़ दिये.

मम्मी ने उस समय एक रेड कलर की स्पेशल ट्रांसपेरेंट नाइटी पहनी हुई थी.

शायद अब इस बात को चाची ने भी नोट कर लिया था, मगर इसके बावजूद भी उन्होंने खुद को व्यवस्थित करने की कोई चेष्टा नहीं की.

कमरे में आते ही मैंने उसे बेड पर पटक दिया और भूखे शेर की तरह उसके होंठों को किस करने लगा. पापा बेटी सेक्स समारोह के बाद हम सब नंगे ही आराम से सोफा पर बैठ गए. अस्मा मेरी चुदाई देख कर बोली- आपा, मुझे भी भाई के लंड से मजा लेना है.

भाभी मुस्कुरा दीं और बोलीं- अले मेले बच्चे को भूख लगी है … दूध पिएगा. एक बड़ी रस्सी लायी गयी और कोमल के 36 के बूब्स को कसकर बांध दिया गया. अब आगे की अन्तेरवासना गेसेक्स स्टोरी:वो चिकना लौंडा प्रिंस अब कुछ नहीं कर रहा था, तो मैंने सोचा कि मुझे ही कुछ करना पड़ेगा.

भाई साहब की उंगली मेरी चूत में … और जीभ मेरी गांड में मुझे एक अलग ही मज़ा दे रही थी.

फिर मैंने उनके मुँह में से लंड बाहर लिया, तो भाभी जी लम्बी सांस लेते हुए बोलीं- क्या मेरी जान लेनी थी?मैंने उनके होंठों को चूम कर कहा- भाभी, आप तो मेरी जान हो … मैं ऐसा कैसे कर सकता था. उसका लौड़ा पूरा तन गया और वो बोला- क्या साइज है तेरा?मैं बोली- बूब्स का 28, हिप्स का 30. इंडियन सेक्सी आंटी कहानी में पढ़ें कि मेरी नजर दोस्त की मम्मी के सेक्सी जिस्म पर थी.

जैसे ही लंड छोटा हुआ … मैंने उसके लंड पर पेनिस केज लगा दिया और लॉक कर दिया. पंडित जी बोले हैं कि सेक्स पाप है सिर्फ दिन-रात पूजा में लीन रहना है जिससे सारे पाप धुल जाएंगे. सुरेश- सुनो मीता, इनको केबिन के अन्दर ले जाओ … और जैसे मैंने समझाया है, हम वैसे ही सब करेंगे … ठीक है ना!मीता- हां सर, मुझे सब याद है, आप भी साथ में आ जाओ ताकि इनको सब समझा सको.

मैंने आंड निकाल कर अपना लंड सीधा उसके मुँह में डाल दिया और कहा- इसे धीरे धीरे चूसते हुए गले में ले जाओ और हिलाओ.

संगीता भी मेरे ऊपर आती चली गई … लेकिन उसने मेरे लंड को उसके मुँह से निकलने नहीं दिया. चुत पर झांटें न देख कर मैंने चाची से पूछा कि क्या बात है मेरी जान … तेरी चुत तो एकदम साफ है.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन मेरी चूत को एक दमदार लंड भी मिल गया था और साथ में एक नयी स्कूटी भी. दर्द के मारे सुमन की चीख निकल गई- आआह आईईइ जालिम मादरचोद ने फाड़ दी रे … आह मैं मर गई रे.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन वो लम्बी सांस लेते हुए बोली- आह मर ही जाती मैं … तुम यह क्या कर रहे थे. बस दोस्तो सुमन की कालू के साथ की चुदाई की कहानी को मैं बाद में लिखूंगी.

एक बार मेरा भाई काम से गया तो भाभी ने क्या किया?हैलो फ्रेंड्स, मैं शिवम फिर से हाजिर हूँ.

बरसाती सेकसी फोटो.कम

फिर वे पास में पड़ी किताब को देखते हुए बोले- तो अब तुम ये पढ़ती हो! आने दो तुम्हारे पाप को बताता हूँ।मैंने चाचा से रोते हुए कहा- चाचा, प्लीज आप किसी से मत कहिएगा. मैं अस्पताल से घर आते वक्त मेडिकल से दो कंडोम के पैकेट और शिलाजीत की कुछ टेबलेट लेकर आ गया था. सोनू बोला- क्यों साले भड़वे? तू बहनचोद बनेगा क्या जो अपनी बहन को चुदते हुए देखकर मुठ मार रहा है?मैं उससे कुछ नहीं बोला.

”नहीं, साढ़े दस नहीं … बच्चों के जाने के बाद मुझे किचन का काम और घर समेटने के बाद नहाना होता है, साढ़े ग्यारह, बारह बज जाते हैं. घी से सनी अपनी ऊंगली को अपनी गांड के छेद पर फेरकर आंटी ने मुझे इशारा दे दिया कि वो गांड मराना चाहती हैं. उन सात दिनों में भी हम दोनों ने फोन पर बहुत बातें की, वीडियो चैट की और वीडियो सेक्स भी किया.

तो मामी जी उठीं और अलमारी से अपने बैग से एक गोलफ्लैक सिगरेट की डिब्बी निकाल कर अपने होंठों में फंसाते हुए मेरी तरफ घूमी.

अम्मी बोलीं- क्या बात आज बड़ी देर तक सोता रहा?मैंने कहा- हां वो मैं रात एक बजे तक स्टडी करता रहा, अभी तुम नहीं जगातीं, तो एक घंटे और सोता. अम्मी गर्म हो गईं और बोलीं- मादरचोद अन्दर भी डालेगा या ऐसे ही रगड़ता रहेगा?मुझे ताव आ गया और मैंने एकदम से लंड पर जोर दिया और एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर घुसेड़ दिया. मैंने चुपके से देखा कि भैया का लंड देख के भाभी चुत में उंगली कर रही थीं और मादक सिसकारियां लिए जा रही थीं.

मगर कुछ देर बाद जब सुरेश को लगा कि वो नॉर्मल हो गई है, तो उसने मीता के होंठों को आज़ाद कर दिया. मैं बहुत जल्दी गुस्सा हो जाता था, इसलिए वो मुझे मना कभी करती ही नहीं थी. दरोगा- क्या जल रही मेरी रानी! आह … क्या गर्म माल है तू साली … जल्दी से बोल कि तेरी चुत में आग लगी है.

फिर मैं इसी जुगाड़ में लग गया कि कैसे शीतल को लाइन पर लाया जाये?ऐसे ही सोचते सोचते दिन बीत रहे थे और दो महीने गुजर गये. मेरा खुद का कंप्यूटर शॉप है।मेरे घर में मैं मम्मी पापा और मेरी छोटी बहन रहते हैं।यह जवान बहन सेक्स कहानी 2 साल पहले की है जो मेरी छोटी बहन श्रेया और उसके मंगेतर सौरभ का है।मेरी बहन की उम्र उस टाइम 20 वर्ष थी और पास के ही कॉलेज में पढ़ाई करती थी.

अनुराधा को मैंने सीढ़ियों के बीच में लाकर खड़ी कर दिया और मैं उसके पीछे खड़ा हो गया. फिर रूम में जाकर मैंने पावस को वही बताया जो सारिका ने बताने के लिए कहा था. मैंने चाची को आवाज़ देकर देखना चाहता था कि कहीं वो जाग तो नहीं रही हैं.

फिर जीजू ने मेरी कुंवारी चूत की चुदाई करके उसकी प्यास कैसे शांत की?हैलो फ्रेंड्स, मैं अंजलि शर्मा अपनी कुंवारी चूत की चुदाई की स्टोरी आपको बता रही थी.

ये बात शुरू तब हुई थी, जब मैं एक्ट्रेस की शिफ्ट से छुट्टी के बाद उसके रूम में उसे चोदने गया. एक घंटे बाद जब हम दोनों चुदाई से थक गए, तो वैसे ही नंगे एक दूसरे से चिपक कर सो गए. मैंने लंड हिलाते हुए भाभी से पूछा- भाभी, कंडोम?भाभी ने एक ड्रावर की ओर इशारा किया.

तू सह पाएगी!मीता- आप चिंता ना करो साब … कितना भी दर्द हो, मैं दांत दबा कर सब सहन कर लूंगी. जब कल रात मुझे गुलचीन को चोदने का मौका मिला, तो मेरे लंड ने मेरा साथ नहीं दिया और जब मैंने अपना लंड गुलचीन की चूत से लगाया, तभी मेरे लंड से पानी निकल गया था.

मैं दोस्त की बात सुनकर फ़ौरन से बोल पड़ा- क्या प्रिंस ड्रिंक नहीं करेगा, वो भी तो थक़ गया है न … ड्रिंक भी कर लेगा और पैसा भी ले लेगा. एक बात और थी कि अम्मी बिल्कुल घरेलू महिला थीं, उनको देखकर कोई भी नहीं कह सकता कि वो इतनी कामुक तरीके से चुदवाती होंगी. जेठ जी ने मुझे दीवार से लगा दिया उनके दोनों हाथ मेरे मम्मों को मसल रहे थे और भाई साहब मेरी पीठ पर गिरते शॉवर के पानी को पी रहे थे.

चीनी सामान की सूची

मैं पागलों की तरह उसको चूमने चाटने लगा और धीरे धीरे उनको नंगी करने लगा।वो भी मेरे सिर के बालों को पकड़ कर मेरे होंठों और गालों को अपने बदन पर रगड़वाने लगी।फिर मैंने चाची को पूरी नंगी कर दिया और उनकी एक एक चूची एक एक हाथ में लेकर जोर जोर से भींचने लगा.

थोड़ी ही देर में मैंने उसकी चूत चाटने की अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसकी चूत का रसपान करने के लिए तैयार हो गया. तुम्हें लंड अन्दर पेलने में जरा मेहनत करनी पड़ेगीमैंने कहा- भाभी मैं मेहनत में पीछे नहीं हूँ … आज आपको पूरी शान्ति देकर ही हटूंगा. पच-पच … गच-गच की आवाज करते हुए भानू का लंड अपनी बहू की चूत का भोसड़ा बनाने की दिशा में बढ़ा चला जा रहा था.

अब मीता घोड़ी बन कर सुरेश का लंड चूस रही थी और पीछे से रवि उसकी चूत चाट रहा था. मैं साड़ी के ऊपर से ही उसकी चूचियां दबाने लगा।अब मुझे उसकी साड़ी परेशान कर रही थी।मैंने उससे पूछा- बेडरूम कहां है?तो उसने दूसरे कमरे की ओर इशारा किया. पाकिस्तान बीएफ सेक्सतो सन्नो बोली- आज बड़ी आग लगी है क्या?रणजीत बोला- हां … तू जल्दी से लंड चूस दे.

दरोगा- आह उफ्फ छोरी … क्या चुत जैसे गर्म होंठ है रे तेरे … मज़ा आ गया आह पूरा लौड़ा अन्दर लेकर चूस आह. चाची नहीं मान रही थीं, पर मैंने सोच लिया था कि आज चाची की गांड मारनी ही है.

सारिका भी मस्ती के मूड में थी और वो भी नाईट क्लब की रंगीनियाँ देखना चाहती थी. मैंने कुछ देर बाद मधु को दुबारा से चोदा … और अब रोज ही उसे चोदने लगा. भाभी ने मजाक में कहा- अच्छा जी … क्या कर सकते हो मेरे लिए?मैंने भी कहा- मैं आपको जिंदगी भर सिगरेट पिला सकता हूँ.

इस जीजा साली सेक्स की कहानी के पहले भागबड़ी बहन की लाइव चुदाई देखीमें मैंने आपको बताया था कि कैसे रात को मैंने अपने जीजू को अपनी बड़ी बहन की चुदाई करते हुए देखा. लगभग 2 घंटे के बाद रात में मेरे दरवाजे पर किसी ने रात को 1 बजे नॉक किया. मैं पहले भी सेक्स कर चुका हूं … तो मुझे अच्छी तरह से पता था कि आगे क्या करना है … इसीलिए मैंने भाभी को किस करते हुए बेड पर पटक दिया.

अब्बू ने देखा कि अम्मी पूरी नंगी होकर लिपटी हुई हैं और बेडरूम का दरवाजा भी बंद कर लिया है, तो वे अम्मी की विशाल गदरायी हुई मांसल गांड को दबाने लगे.

फिर हम दोनों सोफ़े पर एक दूसरे की बगल में बैठे और दोनों ही अपनी अपनी सोच में डूब गए. जब मैं कॉलेज में गया, तो मुझे एक से बढ़कर एक लड़कियां दिखने को मिलीं.

कंडोम का पैकेट देख कर जैसे ही अब्बू सीधे हुए, अम्मी झट से उनके ऊपर लेट कर पूरी लिपट गईं. हालांकि हम एक्टिंग कर रहे थे, तो वो जानती थी कि मैंने वाह क्यों कहा. उन्होंने मेरे होंठों को चूसने के बाद मेरे चेहरे को चूमना और चाटना शुरू कर दिया.

हाउस मेड सेक्स कहानी के पिछले भागदरोगा को मिली चूत की दावतमें अब तक आपने पढ़ा था कि दरोगा और गीता चुदाई की तैयारी कर रहे थे. मगर ये अनुभव मैंने कई बार लिया था, तो मरियल जेनिल से ज्यादा कुछ नहीं हो सका. शालू को अब ससुर के लंड से असीम आनंद मिलने लगा और उसकी पलकें भारी होने लगीं.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन ऐेसे ही कुछ मिनट बहन की गांड मारने के बाद मैंने स्पीड बढ़ा दी और बहन से पूछा- अब बताओ … कहां पानी छोडूँ?बहन बोली- अन्दर ही निकाल दे, यहां कोई खतरा नहीं है. वो बोली- वो कैसे?देर किये बिना मैंने दीदी की चूत पर मुंह लगा दिया और उसकी चूत को जीभ से चाटने लगा.

रेड ट्यूब

मैं- संगीता, क्या मुझे तुम्हारा नंबर मिल सकता है?सेक्स डॉल संगीता हंसते हुए बोली- क्यों मुझे ब्लैकमेल करना है?मैं- अरे नहीं, ऐसा कुछ नहीं है. अब मैं मजबूर हो गया और लन्ड को तुरंत निकाल कर उसे बिस्तर पर लिटा दिया. उनके छोटे छोटे चूचे … उनको मुँह में भर के चूसने का सभी का मन करता है.

आपको मेरी Girl Chudai Sexx कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करके जरूर बताएं. हाय फ्रेंड्स, मैं सोनू सैम आपको हीरोइन के साथ दो और फ़िल्मी दुनिया से जुड़ी लौंडियों की चुत चुदाई की कहानी के संसार में गोता लगवाने के लिए हाजिर हूँ. एचडी में सेक्स बीएफमुझे अब पूरा विश्वास हो गया था कि मेरे जाते ही अम्मी पक्के में चुदवाएंगी क्योंकि जब उनको लगा था कि मैं दोस्त के घर जा रहा हूँ, तो वो साड़ी उतार कर सिर्फ पेटीकोट ब्लाउज में ही खाना बनाने लगी थीं.

मैं बस ये चाहता था कि एक बार मैडम आकर लंड देख लें, बाकी बाद में मैं देख लूंगा.

इस पर जेनिल कुछ नहीं बोली, शायद मेरी चुसाई ने उसे रोक दिया था और वो उसी समय खुद चुदना चाह रही थी. तकरीबन दस मिनट बाद भी साहिल ने अपनी रफ्तार एकदम अंतिम कांटे तक पहुँचा कर मुझे 8-10 झटके देकर मेरी चूत पर अपना सारा लन्ड का माल खाली कर दिया।इस राउंड की चुदाई के बाद हम दोनों ने कुछ देर आराम किया.

भाई साहब बोले- क्या हुआ था अनु?मैंने कहा- बेटी रो रही थी … अभी बस दूध पिला रही हूँ. कभी वो मेरी बुर के ऊपर अपनी जीभ फिरा रहे थे तो कभी अपनी जीभ मेरे बुर के अंदर डाल कर चूस रहे थे. कुछ ही देर बाद मेरा लंड फिर से फनफनाने लगा और गुलचीन मेरे सामने अपनी टांगें खोल कर लेट गई.

आपको क्या चाहिए मुझसे?वो बोले- जान … एक बार मेरा लंड चूस ले बस!अब मैंने पुष्टि करने के लिए खान अंकल से सवाल किया- आपने ये कैसे सोच लिया कि मुझे ये लंड चूसने वाले काम पसंद हैं?वो बोले- आ … अंदर आ, बताता हूं.

मैंने चाची के चिटकनी वाले बटन को खींचा, तो एक बटन चट से खुल गया और उनकी चूचियों की दरार जन्नत के दीदार होने लगे. वो भी अब काफी गर्म हो गयी और मेरे होंठों को जोर जोर से किस करने लगी. मौसी बोलीं- बेटा मैं तो नहीं आ सकती, मेरी नींद बहुत पक्की है, जब तुम्हें मेरी जरूरत हुई … तो हो सकता है मेरी नींद ही न खुले.

इंग्लिश वीडियो एचडी बीएफअब जब कुछ देर बाद उसके लंड में हरकत हुई तो मैं समझ गयी कि वो अभी जाग रहा है. उस दिन मैं मुठ मारते समय बुदबुदा रहा था- हाय शीला की जवानी … तुझे तो मैं रगड़ कर चोद दूंगा.

hd सेक्सी video

चुत मारी कहानी में पढ़ें कि जब मुझे पता चला कि मेरी बहन सगी नहीं है तो मेरी नजर उसके सेक्सी बदन पर पड़ने लगी. मैंने जैसे ही अपना मुँह खोला की संगीता ने अपनी लार से मेरा मुँह भर दिया और फिर अपने होंठों को मेरे होंठों पर जड़ दिया. परीक्षक महोदय ने मेरा अच्छी तरह से मुआयना किया और मिठाई की प्लेट मेरी ओर करते हुए बोले- लो बेटा मुँह मीठा कर लो, तुम्हारा काम सफल होगा.

वो इतना अच्छा लंड चूसती थी कि मुझे अपना लंड उसके मुँह से निकालने का मन ही नहीं कर रहा था. मैं भी बाथरूम में गया और अपना लंड साफ करके वापिस आकर उसके साथ लेट गया. मैं और हस्बैंड उन्हें बहुत समझाते, मगर आंखों की रोशनी जाने का दर्द इतना गहरा था कि उनको सम्भलने में काफी वक्त लग गया.

मयंक सर ड्रिंक में इतने ज्यादा लोड थे कि मेरी बात और मेरा दर्द समझ नहीं पा रहे थे. उनकी इस बात से मैं पूरे जोश में आ गया और उनके ऊपर चढ़ कर उनके साथ मस्ती करने लगा. ‘ओह्ह जीजू … आह्ह … उम्म … ओह्ह …’ करते हुए मैं जीजू के सिर को अपने बूब्स में दबाने लगी.

दोपहर का खाना खाना खाने के बाद बच्चे सो गए … मगर मुझे अब सब जगह भाई साहब का लंड दिख रहा था. मैंने नीचे झुक कर देखा, तो चाची की चूत बिल्कुल साफ़ थी और गीली हो चुकी थी.

मैं पताया गया ही नहीं … दोस्तों को मेसेज करके मैंने अपने ना आने के बारे में बता दिया था.

बाक़ी परिवार दूसरे शहर में है।30 साल की उम्र और एक एथलेटिक बॉडी का मालिक हूँ मैं … जिसके साथ एक चोदू दिल है जो ख़ूबसूरती की क़द्र भी करता है और रसपान भी।कई बार ख़ुद पर यक़ीन नहीं होता. सेक्सी बीएफ गर्ल की चुदाईउनको देख कर हमारा छोटू बड़ा हो जाता और सब अपने हाथों से मेहनत करने लग जाते. बीएफ वीडियो चुदाई बीएफ वीडियोअब मैं उससे ये सब कैसे करूं?तब रेशमा आंटी बोलीं- देख रौनकी शौकीन मर्द है, अब तू उसे मस्त कर दे … या उसके पैसे लौटा दे. मैं उससे बोले जा रही थी- आह … मेरे कुत्ते … और जोर से चुत चाट … मेरे गुलाम आह चूस जोर से … ओहहह … हम्मम बेबी … और जोर से!वो पूरे मनोयोग से चुत चाटता रहा और मैंने अकड़कर अपनी चुत से रस झाड़ दिया.

फिर अब्बू ने अपनी एक टांग उठा कर अम्मी की कमर को भी पूरी तरह से जकड़ लिया, जिससे अम्मी उत्तेजना में सिर्फ कमर गांड और पैर हिला पा रही थीं.

सुरेश- ये हुई ना बात … तो चलो मीता तुम लेट जाओ … रवि को जो करना है, उसे करने दो. मैंने तुरंत उसकी साड़ी और साया और ऊपर कर दिया और अपना लंड ऐसे ही अंदर घुसेड़ दिया. उसकी मादक आवाजों से मेरा जोश बढ़ता जा रहा था और स्पीड बढ़ती जा रही थी.

मैं उसकी तरफ देखा और कहा- निचोड़ने का एक बढ़िया तरीका है मेरे पास, इससे डबल मेहनत नहीं होगी. मैं उसके स्तनों को दोनों हाथों में लेकर भींचने लगा और वो मेरे लंड पर हाथ फिराती हुई मेरे होंठों को चूस रही थी. उसी बहाने मुझे तुम्हारी कंपनी भी मिलेगी और परिवार के बारे में थोड़ा जान भी लूंगी.

पानी रगरत बानी

मैं भी उनको गाली देने लगा- रुक रंडी साली और कितना तड़पेगी … कितने लंड चुत में ले चुकी भैन की लौड़ी … फिर भी तुझे सब्र नहीं है छिनाल. सोना ने एकदम से मेरे सिर को पूरा अपनी चूत में दबा दिया और वो झड़ने लगी. तभी उसने धीरे से मेरी पैंट के अंदर सो रहे मेरे छोटू पर हाथ फेर दिया और कान में बोली- आज मैं तुम्हें गर्ल्स टॉयलेट में देखना चाहती हूं छुट्टी के बाद.

उनकी एक बेटी (सलोनी) और एक बेटा था।उनका बेटा मुंबई में जॉब करता था.

इस समय मुनिया ऐसी लग रही थी जैसे कह रही हो कि आओ भाई मेरे मुँह में अपना खड़ा लौड़ा घुसा दो … मैं आपके लंड के लिए बहुत प्यासी हूँ.

अब सर ने एक तकिया मेरे चूतड़ों के नीचे रखा, उसपर अपना तौलिया बिछाया और घुटनों के बल खड़े होकर अपने लण्ड पर हाथ फेरने लगे. अब उसके घर जाने का टाइम हो गया था, तो वो नंगी लड़की वॉशरूम में ऐसी ही हालत में चली गयी. एक्स एक्स मूवी बीएफ वीडियोउसी बीच मैंने अन्दर बैठ कर बीयर खोली और दो गिलासों में भरके उससे कहा- पहले पी ले, फिर पढ़ लेना.

मैंने तभी इशारा किया कि नहीं और लंड बाहर निकालकर उसकी चूत चोदने का इशारा किया. वो पलट कर मेरे सीने से लिपट गयी और हम नीचे से नंगे ही दोनों एक दूसरे के चिपक गये. मैं मानता हूँ कि मैं भी ग़लत हूँ … लेकिन क्या करूं, मेरी लाख अच्छाई के बावजूद मेरे अन्दर यही एक बुराई है.

वो आयी और बोली- क्या हुआ रियांश? सोये नहीं तुम?मैंने कहा- नहीं यार, इनके रिश्तेदार नहीं, लाऊड स्पीकर हैं. तो मेरे प्रिय पाठको, आपनी मेरी बुआ सेक्स की हिंदी कहानी कैसी लगी? आप मुझे ई-मेल करके बता सकते हैं।मुझे फैमिली सेक्स बहुत पसंद हैं।इसके बाद मैंने कैसे मेरी मम्मी को चोदा, ये भी बताऊंगा।[emailprotected].

सुमन ने अपने हाथ फैलाए और अदा से बोली- क्या सोच रहे हो कालू जी … आ जाओ … मेरी जवानी बेकरार है.

मैंने बिस्तर पर बैठते हुए उनकी आंखों में झांका, तो चाची ने भी मुझे नजर भर कर देखा. वो उसकी कमर सहलाते हुए उसके पतले रसीले होंठों को चूमने लगा और उसकी कमर को सहलाने लगा. वो मेरे साथ चल दी पर बोली कुछ नहीं।हम जब आ गए तो मैंने पूछा- तुम क्या देख रही थी?तो वो अब भी सिर झुका कर खड़ी थी।मैंने कहा- डरो नहीं सोनम … बोलो तो?उसने मेरी तरफ देखा और बोली- तुमने भी तो देखा.

बीएफ सेक्सी चोदने वाली बीएफ सेक्सी अब मेरे मुंह से ऐसे शब्द निकल रहे थे- आह्ह अंकल … चोदो ना … और जोर से चोदो. हम ऑफिस के पांच-छह दोस्त बहुत दिनों से कहीं बाहर घूमने का प्लान कर रहे थे.

मगर माई डिअर … आपका इतना बड़ा लंड जब मेरी गांड में जाएगा … तो मेरा क्या होगा! यह फट कर चीथड़े हो जायेगी. पांच मिनट में ही हम दोनों के होंठ एक दूसरे के होंठों से जुड़ चुके थे. थोड़ी देर बाद हमने मम्मी पापा के रूम के बाहर देखा, वो दोनों भी खुश थे और साथ में चुदाई की बात कर रहे थे.

अच्छा अच्छा गेम दिखाइए

मैं सोचने लगा कि अगर बबीता आंटी की चूचियां चूसने को मिल जायें तो मजा आ जाये. खैर … जब अम्मी ने जांघ ऊपर रख दी तो अब्बू अब अम्मी की गांड पकड़ कर दबाने और मसलने लगे. अब मेरा प्लान चालू होने को था कि कैसे इसे पटाऊं ताकि मैं रेखा को चोद सकूं.

मैंने पूछा- कैसा लगा?तो वो बोली- सोडा वाले फ्लेवर की डकार आ रही है. उसकी चूत में लंड को अंदर बाहर करते हुए सुयश अब समता को किस करने लगा और चोदने लगा.

ये इस लिए भी किया था कि अगर उसकी फैमिली का कोई अन्य व्यक्ति भी आ जाता, तो वो उसे हैंडल कर लेता.

दोस्तो, लंड के इस कामुक सफर में हम मिलते रहेंगे, आपको यह Xxxx हॉट सेक्स स्टोरी कैसी लगी. पहले से ही अंकित के लंड से प्री-कम बाहर आया हुआ था, अब सहलाने से उसके पूरे लंड पर प्री-कम लग गया और पूरा लंड चमकने लगा. मैं उनकी बात सुनकर मस्त हो गया कि हो न हो आज लंड की किस्मत में इनकी चुत लिखी है.

मैंने जाकर फट से वो कम्बल हटाया और उनकी पैंटी के ऊपर से चुत पर हाथ फेरने लागा. ये कहकर चाची हंस दी और गांड हिलाते हुए मेरे लिए दूध लाने अन्दर चली गईं. जब मेरा छूटने को हुआ तो मैं बोला- आह्ह … मीनाक्षी, मेरा निकलने वाला है … आह्ह … धीरे करो ना … आह्ह … मेरी जान।उसने मेरी बात जैसे अनसुनी ही कर दी और उसी स्पीड से मेरे लंड को चूसती रही.

सेक्स तो रंडियां भी करने देती हैं मगर संतुष्टि नहीं मिलती बल्कि भूख मिट जाती है.

मराठी सेक्सी बीएफ ओपन: उसके बाद धीरे-धीरे करके मैंने अपना पूरा लंड उनकी बुर में घुसा दिया और उनकी चूचियों से खेलने लगा. सुमन- आह कालू कितना मोटा लौड़ा है तेरा … उफ्फ आज तो ये पक्का मेरी चुत का भुर्ता बना देगा.

वो लम्बी लम्बी सांसें ले रही और अपने बूब्स को मेरी छाती पर दबाये जा रही थी. जिस पाठक या पाठिका ने इससे पहले की दोनों कहानियां नहीं पढ़ी हैं … वो उन्हें पहले पढ़ लें. मैं धीरे धीरे से उसके नजदीक जाने लगा और अब मुझे उसकी गोरी गांड बिल्कुल साफ साफ दिखने लगी.

दरोगा- अरे तू डरती क्यों है साली … वैसे भी तेरी चुत देख कर मुझे पता लग गया है कि तू चुदी हुई तो है … लेकिन तूने अभी सिर्फ एक या दो बार ही लंड लिया है.

हमारा चुम्बन टूटा, तो मैंने उसे अपनी बांहों में खींच लिया और उससे बोला- चलो बेडरूम में चलते हैं. सुरेश- अरे गीता … तुम्हें क्या हुआ है … अन्दर आकर दिखाओ तो जरा!गीता- कुछ नहीं बाबूजी, बस थोड़ा सा बुखार है. वो ‘अअअह ऊऊह … अंकित रुको अअह प्लीज़ रुको … अअअअ बसस्स अब नहीं … ऊऊउ अअअह …’ कर रही थी.