भाई-बहन बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी ओपन सेक्सी सेक्सी ओपन सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

कुत्ता वाला बीएफ एचडी: भाई-बहन बीएफ वीडियो, मैंने सलोनी भाभी को सीधा होने को बोला, तो भाभी सीधी होकर पीठ के बल लेट गईं और मुझसे बोलीं- जादूगर, एक प्रार्थना है.

इंडियन सेक्सी बप वीडियो

मुझे बहुत शर्म आ रही थी; मैंने जल्दी से कुर्ती पहन ली और ब्रा पर्स में रख ली. सेक्सी चूत चुदाई एचडीतुम्हें इलाज कराने से मतलब है या नर्स, डाक्टर से?तो मैंने किसी दूसरे अस्पताल के लिए कहा जिसमें महिला डॉक्टर हो.

इधर मैंने अपने दोनों हाथों से नेहा के चूतड़ों को ऊपर किया और उसकी चूत और आस पास के एरिया को अच्छे से चूसने लगा. सेक्सी दिल पिक्चरमैंने भाभी से कहा- मेरी जान, मैं भी दिल से तुम्हें अपनी बीवी का दर्जा दे चुका हूं.

मैं हंसने लगा और बोला- भाई साहब, अच्छा रहेगा यदि आप कुछ न ही बोलें.भाई-बहन बीएफ वीडियो: उसने अगले ही पल खड़े होकर पेंटी निकाल फैंकी और अकड़ कर मुँह चिढ़ाते लंड पर बैठ गई.

फिर पीछे से कभी कभी संजय झटका लगा देता जिसकी वजह से गीत की चूत के अंदर मेरे लंड का झटका अपने आप लग जाता.धक्के लगाते हुए फिर मैं उनकी गांड में ही झड़ गया और फिर हम दोनों आराम करने लगे.

हिंदी में सेक्सी छूट - भाई-बहन बीएफ वीडियो

अब आगे की पब्लिक सेक्स:करीब दस मिनट की लंड चुसाई के बाद अनीता सर को पीछे ले गयी और अपनी दोनों टांगों के बीच मेरे पैर ले लिए.उसने कहा- वो कैसे?मैंने उससे कहा- जैसे तुम्हारी चूचियों को…वो- क्या … क्या नाम दोगे मेरी चूचियों को!मैं- उन्हें ना … मैं तुम्हारी दोनों बांहें कहूँगा.

मैंने भाभी से सीधा लेटने के लिए कहा, तो भाभी पैर खोल कर सीधी लेट गईंभाभी की गांड के नीचे मैंने एक तकिया लगा दिया और उनके दोनों पैरों को मोड़कर छाती पर लगा दिया. भाई-बहन बीएफ वीडियो मुझे लगा कि मेरी जानेमन सुनकर थोड़ा नखरे करेगी, पर उसने तो मुझे ही सकते में डाल दिया.

मैंने तत्काल फोन बेड पर रख दिया ताकि वो अपना फोन नंबर टाइप कर दे … तो मैं उससे आसानी से बात कर सकूं.

भाई-बहन बीएफ वीडियो?

मैं बोला- ये क्या?वो बोले- आज इसकी सुहागरात है … इसलिए शरमा रहा है. भाभी धीरे धीरे नीचे बैठ रही थी कि मैंने अचानक ऊपर की तरफ एक ज़ोर का झटका मार दिया जिससे लण्ड तेजी से भाभी की चूत में अंदर तक जा लगा और भाभी धप से मेरी जांघों पर गिर पड़ी और चीखी- हाय … कितनी बेदर्दी से शॉट मारते हो? इतना लंबा और मोटा लौड़ा है तुम्हारा, बच्चेदानी तक ठोक लगती है. बेशक औरत छोड़ने के लिए चिल्लाती रहे लेकिन आदमी उसको छोड़े नहीं और चोदता रहे.

उस इंडियन मॉडल गर्ल ने पहले मुझे अपना आइडिया बताया और फिर कुछ टिप्स भी दिये कि कैसे मैं अपने वीर्य के वेग को देर तक रोके रख सकता हूं. ऐसी मद भरी अंगड़ाई जो मुर्दे को भी उठा दे!मेरा लंड खड़ा हो गया!उसे देखकर वो मुस्कुराने लगी!मैं- क्या हुआ?ज़ारा- साहब सलामी दे रहे हैं!मैं- इसे तो सलामी देनी ही पड़ेगी! तुम इस घर की मल्लिका जो ठहरीं!ज़ारा- तो इन दो प्यार करने वालों को मिला देते हैं!अपनी चूत पर उंगली रख कर बोली और बिस्तर पर चढ़ने लगी. मैं समझ गया था लेकिन शुरुआत मैं गीतिका से ही करवाना चाहता था इसलिए मैंने गीतिका के कमर और पेट पर हाथ फिराना शुरू किया.

उस वक्त रश्मि ने एक टांग को पलंग पर रखा हुआ था और बुर की फांकों के बीच उंगली चला रही थी. ये ताबड़तोड़ चुदाई का दौर तकरीबन 15 मिनट चला … और मैं उसकी चुत में ही झड़ गया. दोस्तो … मैं चन्दन सिंह एक बार फिर से अपनी भतीजी और उसकी मौसी सास की चुदाई की कहानी में आपका स्वागत करता हूँ.

मैंने उनसे आगे पूछा- क्या अभी तक कभी भी अपनी चुत नहीं चुसवाई है?इस पर भाभी शर्मा गईं और बोलीं- नहीं, मैंने बोला तो है कि वो गंदी जगह होती है. फिर इंटरवेल में मैंने उससे कहा कि क्या तुमको बुरा लगा?वो बोली- बिल्कुल नहीं.

उस पल मैं भूल गयी थी कि बालों को खींचने से कविता को दर्द भी हो रहा होगा.

जीजू बोले- साली साहिबा उस दिन जब से मैंने तुम्हारी चूत को देखा है, तब से मैं पागल हो गया हूँ।मैंने कसकर दोनों जाँघों को चिपका लिया और चूत को छिपाने लगी.

वह बड़ी सेक्सी आवाज में बोली- चलो राज, मैं पहले नीचे थोड़ा काम करवा दूँ, बाद में मालिश करवाऊंगी. करीब दो मिनट तक मैंने अपनी चाल स्लो ही रखी, फिर मैंने अपनी कमर को थोड़ा तेज किया. तुम भाभी कहते हो तो ऐसा लगता है कि मैं बहुत उम्रदराज महिला हो गई हूँ.

फिर मैंने कपड़े डाल कर जगजीत सिंह की गजलें लगा लीं और बालकॉनी में ड्रिंक करने के लिए बैठ गया. मैंने तुरंत मेरे मुंह से चुद रही नेहा, जो अभी पूरी तरह चुदाई के लिए तैयार हो चुकी थी, को बेड पर पटका और उसकी दोनों टांगों को अपने कन्धों पर रखकर उसकी चूत में अपना लौड़ा उतार दिया. हर जगह किसी के चिकोटी काटने के तो किसी के दांत से काटने के निशान पड़े थे.

उन्हें क्या पता था कि उनकी साली उनके साथ चुदने का प्लान बना चुकी है.

मैंने भी वक्त बरबाद न करते हुए अपने कपड़े उतारे और अपना लण्ड दादी की चूत में पेल दिया. उन्होंने दादी से बात की और कहा कि अब हमें रानी की शादी कर देनी चाहिए. क्योंकि क्लास में कुछ लड़के लड़कियां आपस में ही प्यार में पड़ जाते हैं.

अपने बारे में मैं मेरी पिछली कहानियों में लिख चुका हूँ अतः मैं सीधा सेक्स की हिंदी कहानी पर ही आता हूँ. आप बताओ कि मुझसे कहां मिल सकती हो?मैंने कहा- ठीक है, आप दिल्ली आ जाओ. तब तक मैकेनिक की दुकान भी आ गया थी, इसलिए मैं और शायरा तो स्कूटी को लेकर मैकेनिक के पास रुक गए और वो औरत व लड़की सीधा बस स्टॉप के लिए आगे चली गईं.

दीदी को थोड़ा मजा आने लगा और वो अब हल्के से चूत को नीचे से ऊपर की ओर मेरे लंड की ओर उठाने लगी.

वो दोनों एकता और प्रमिला के पास आ गयीं और दो दिन तक मैंने सबको साथ में चोदा. जब मेरा मन करता, मैं उनके कमरे में जाकर उनके दोनों छेदों का मजा ले लेता.

भाई-बहन बीएफ वीडियो उनको देखने से अंदाजा नहीं लगाया जा सकता था कि उनकी उम्र 49 साल होगी. अब मैं थोड़ा थका हुआ महसूस करने लगा था, तो थोड़ी देर आराम करना चाहता था.

भाई-बहन बीएफ वीडियो अगले रोज दोपहर को दीपिका का फोन आया- राज जी, आप आज दफ़्तर से जल्दी आ जाना, शाम को आपको डिनर पर बुलाने घोष बाबू को भेजूंगी, मना मत कीजिएगा. मैंने दीपिका से उसका कोल्डड्रिंक का गिलास लिया और उसमें आधा पेग 30 एम.

तो अभिषेक बेड पर लेट कर हल्की आवाज़ में पोर्न मूवी चलाकर देख रहा था और अपनी जींस की चैन खोल कर अपना लंड बाहर निकाल कर हिला रहा था.

कनाडा एक्स एक्स एक्स

पर्दा पूरी लम्बाई में न होकर केवल बेड को ही ढके हुए था, अर्थात उसमें आने जाने के रास्ते में पर्दा नहीं था. करीब आधे घंटे बाद उन्होंने करवट ली और सीधे अपना पैर मेरे लंड पर रख दिया. मुझसे रहा ही नहीं जा रहा था कि मौसी कब आएंगी और कब उन्हें चोदने का मौका मिलेगा.

उठते ही सबसे पहले मेरी नजर शायरा के उस कोरियर पर पड़ी, जिससे मेरे दिमाग में पूरे दिन का घटनाक्रम‌ एक बार फिर से घूम गया. बड़ी चाची ने अपना अनुभव दिखाते हुए लंड को अपने गले से नीचे तक ले लिया और पूरा मुँह में ले लिया. मैंने उसको डॉगी स्टाइल में खड़ा किया और पीछे से उसकी चूत पर अपना खड़ा लंड टिका दिया.

इंडियन विलेज भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे बैंक की लाइन में एक देहाती भाभी से मेरा नैन मटक्का हुआ.

हम ऐसे ही सो गए।जब नींद खुली तो 8 बज चुके थे।फिर काजल ने खाना तैयार किया. उनके जाने के बाद मैं दीपिका के बारे में ही सोचता रहा, उसके सेक्सी गुदाज बदन के हर अंग को मैं कल्पना में छूता रहा. उसने अगले ही पल खड़े होकर पेंटी निकाल फैंकी और अकड़ कर मुँह चिढ़ाते लंड पर बैठ गई.

अचानक भाभी ने जोर से उबासी ली तो मैं हंस पड़ा, भाभी झेंप गई और मेरे गले से लिपट गई. चूंकि लैपटॉप गारंटी पीरियड में था तो मैंने उससे एक कागज पर साइन करवाए और मैं वहां से अपने ऑफिस चल दिया. खैर … जैसे ही मेरे भाई की नज़र मेरे पर पड़ी, उसकी आंखें वासना से चौंधिया गईं.

मैं कभी गीतिका के क्लीटोरियस को चूसता, कभी पूरी चूत को मुंह में लेकर दांतों से काट कर चूसने लगा।गीतिका आनंद के सागर में गोते लगा रही थी. इस सेक्सी चालू औरत की चुदाई कहानी के अगले भागों में आपको मेरी मोटे लंड से चुदाई की कहानी का मजा मिलना शुरू हो जाएगा.

उसे इन सब चीज़ों के बारे में कुछ भी पता नहीं। कसम से!रमेश मन ही मन सोचता है ‘रन्डी तुझे झूठी कसम खाने की कोई जरूरत नहीं, मैं तुम दोनों सहेलियों के रन्डीपन को जान गया हूँ।’तभी रेहाना बोली- अंकल मुझे माफ़ कीजिये. मैंने आज खुशी का खरीदा हुआ सूट पहन रखा था, जिसकी वजह से आज मैं और भी ज्यादा हैंडसम लग रहा था. वहीं से मल्लिका की मम्मी को फोन मिलाकर बताया कि दादी फिसल गई थीं, वैसे आप चिंता न करें.

मैंने मामा के जाते ही सीढ़ियों वाले दरवाज़े को बंद किया और तुरंत कपड़े खोल कर नंगा हो गया.

अगर मैं अपना लौड़ा उस वक्त गीत की गांड से न निकालता तो मेरा लंड भी वहीं उसकी गांड में खाली हो जाना था. गुजरते पांच साल से मेरी मामी अपनी वासना पूरी करने में मेरा इस्तेमाल करती रही. दादी की चूत पर बाल थे लेकिन ऐसा लगता है कि जैसे आठ दस दिन पहले साफ किये गये थे.

मेरे दोनों हाथों को उसने दबोचा और मेरे होंठों से होंठ चिपका मुझे चूमने लगी. उनकी 15 दिन सुबह 8 बजे से सांय 8 बजे तक ड्यूटी होती है और 15 दिन रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक होती है, अतः आज से नाईट शिफ्ट शुरू हुई है और वे 7.

मेरे लिए वैसे एक भी दिन ऐसा नहीं होता था कि जब मैंने शराब और शवाब के बिना रात गुजारी हो. अंदर कैपरी में से उसकी सुडौल जांघों के बीच उसकी चूत के दोनों बाहरी मोटे मोटे भगोष्ठ अलग से दिखाई दे रहे थे. इसी बीच यूं ही उसने मेरे बारे में भी पूछा, तो मैंने भी अपने बारे में सब कुछ बता दिया.

बीएफ हिंदी फिल्म सेक्सी

मैंने उसके सीने से अपनी नजरें हटाईं और उसके हाथ की मजबूती को महसूस करता हुआ अन्दर आ गया.

अब आगे की रंडी सेक्स कहानी:शाही सर ने शमा के मम्मे दबाए, तो बाकी सब भी अपने लंड हिलाते हुए शमा के आजू-बाजू खड़े हो गए. भैया ने कहा- संजीव मैं मार्किट से मटन ले कर आता हूं, तुम थोड़ी देर रुको. शाम को लगभग 4:00 बजे के करीब मेरी आंख खुली तो मैंने देखा कि मैं नंगी ही बिस्तर पर लेटी हुई हूं.

मुझे भी अपनी गांड की जलन में उसका गर्म पानी किसी औषधि से कम नहीं लग रहा था. वो लोग मुझे और निलेश भैया को घर में छोड़ कर अगले दिन आने की बोल कर गए थे. सेक्सी बफ बढ़िया वालीमौसी ने मुझसे पूछा- तेरी डांस पार्टनर कहां है?मैं- मौसी, अभी तो मैं ही हूँ … आप मुझे सिखा दो … मैं उसे सिखा दूंगा.

इधर मैं अपने लंड से भाभी के मुँह को चोदने लगा और उधर भाभी अपनी चूत का दबाव मेरे मुँह पर बना रही थीं. मैं उस कहानी में इतना खो गया कि मुझे पता ही नहीं चला कब मेरा हाथ मेरे लिंग पर गया और मैं उसे सहलाने लगा.

उसके जाने के बाद मैंने लाइट जला कर देखा तो बैंच की गद्दी पर हमारा वीर्य गिरा हुआ था और वीर्य से भरा पड़ा था. रश्मि ने अपनी फांकों को फैला दिया और मेरी जीभ भी उन फांकों के बीच चलने लगी. जीजू ने भी मेरी आंखों में देखा और बिना सोचे बिना रुके बोले- मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ.

रॉनी ने गांड का छेद खुला हुआ देखा, तो उसने अपना लंड मेरी गांड पर सैट कर दिया और जोर लगा दिया. इसके बाद भी हमने 3-4 बार सेक्स के लिए कोशिश की, पर हर बार सूरज शुरू में झड़ जाता था … और मुझ तक जवानी की धूप पहुंच ही नहीं पा रही थी. 2 मिनट बाद ही मेरे फ्लैट की घंटी बजी तो धीरू अंकल ने कहा कि मेरा दोस्त आ गए.

अब आगे की कॉलेज गर्ल चुदाई कहानी:आखिरकार 2-3 घंटे बाद हम दोनों वहां से ऐसे ही निकल गए.

मैंने भाभी के दोनों कंधों पर हाथ रख दिए और उनके चिकने बदन को सहलाते हुए मजा लेने लगा. दोस्तो, मैं चन्दन सिंह … आपने मेरी पिछली सेक्स कहानीसाले की अतृप्त लड़कियों की चुदाईकी कहानी पढ़ी थी.

फिर उसने अपनी चड्डी को खींचकर उस डिल्डो को अपनी चूतड़ों की दरार में अंदर घुसाने की कोशिश करने लगी. मैंने भाभी से कहा कि मेरी जान आपको थोड़ा सा दर्द होगा … झेल लोगी न?भाभी ने कहा- मेरी जान, तुम्हारे लिए मैं कुछ भी कर सकती हूं. मेघा (कुछ सोचते हुए)- ठीक है, मैं ट्राई करती हूं, मगर आप ज्यादा उत्तेजित न हो जाना प्लीज!इतना बोलकर उसने एक रबर का डिल्डो निकाल लिया और उसको अपनी जांघ में चूत के करीब रख लिया.

बड़ी ने भी वीर्य चखा और मेरे लंड को मुँह में लेकर उसका बचा हुआ रस भी खा लिया. इस बार जीजू ने बीस मिनट तक चोदा।उस दिन जीजू ने मुझे ढाई घंटे में चार बार चोदा. वो लड़की व औरत मुझसे और भी बातें करतीं … मगर उस दिन भी बारिश का मौसम‌ बना हुआ था और कभी भी बारिश आ सकती थी.

भाई-बहन बीएफ वीडियो अब व्हाट्सएप पर चैट के दौरान कई बार मैं प्यार और रोमांस की बात करने लगा था. मैं उस समय पूरी चुदाई के नशे में थी तो मैंने कहा- हां, जिसको बुलाना चाहो, बुला लो.

ब्लू फिल्म सेक्सी देना

नेहा को मैंने बैठने के लिए कहा तो नेहा मेरे सामने ही बैठ गई जिससे मुझे उस लड़की को देखने में दिक्कत होने लगी।मैंने नेहा को साइड होने का इशारा किया, नेहा साइड तो हो गई पर उसने भी पलट के देख लिया कि आखिर मैं देख क्या रहा हूँ।नेहा समझ गई कि मैं क्या देख रहा हूँ, नेहा ने मुस्कुराते हुए कहा- सर खाना हो गया, या कुछ लाऊं?मैंने कहा- ला सकोगी??नेहा जानती थी कि मैं क्या कह रहा हूँ. मेरे हाथ में मेरा लंड था जो पूरा तना हुआ था और मैं जांघों तक नंगा था. अब हम बस में साथ होते, कॉलेज में पूरा टाइम होते और पढ़ाई में सबसे आगे रहते.

मैं उम्मीद करता हूं कि तीन-चार दिनों में आपको थोड़ा सा मेरे ऊपर विश्वास हो गया होगा. एक दिन मैं उसके घर गया तो …दोस्तो, मैं आपका अपना लव एंजल अपनी इंडियन गे बॉयज सेक्स स्टोरी लेकर आया हूँ. ओपन सेक्सी खुलेआमदिल्ली सेक्स चैट की इस दिलकश हसीना, हॉट सेक्सी वेबकैम मॉडलमेघा से बात करने के लिए आप इस लिंकपर क्लिक कर सकते हैं.

आपने मेरी पिछली कहानीऑटो ड्राइवर ने सारी रात चोदाको बहुत पसंद किया.

मैं तुरंत घोड़ी बन गई और विजय ने एक बहुत जोरदार झटका लगाया जिससे मैं पलंग पर उलटी गिर गई. बस फिर क्या था … कविता मेरी जुबान को मस्ती भरे अन्दाज में चूसते हुए खेलने लगी और मेरे स्तनों को मसलने लगीमुझे ऐसा नहीं लग रहा था कि कोई औरत मेरे साथ सेक्स कर रही है, बल्कि कोई मर्द ही मेरे साथ मस्ती कर रहा है.

इससे मेरा पूरा लंड भाभी की गांड को चीरता हुआ अन्दर गहराई में घुस गया. मैंने अपने दोनों हाथ भाभी की बड़ी बड़ी चुचियों पर रख लिए और उन्हें भींचता दबाता रहा. जब वो थोड़ी नॉर्मल हुई तो उठकर मेरी जांघों के पास आ गयी और मेरे तने हुए लंड को हाथ में लेकर हिलाने लगी.

वो बोलीं- यार, रात में ये दोनों भी थीं तो हम तुम्हारे लंड का पूरा मजा नहीं ले पायीं.

अब मैं अपनी न्यू अन्तर्वासना कहानी मतलब चुदाई के किस्से पर आती हूँ. उसी रात में सनी ने मेरी दोनों आर्मपिट में लंड फंसा कर मेरी बगलों की चुदाई की. मैं बोला- मैं कैसे भी करके हर महीने आपको चोदने आ जाया करूंगा मेरी कप्पो रानी और आपकी चुदाई किया करूंगा.

सारी वाली सेक्सी मूवीये देसी गर्ल की चुत कहानी मैंने स्पेशली आप लोगों के लिए ही लिखी है. रश्मि मेरे लंड को, अंडों को, जांघों को यहां तक की गांड तक चाट-चाट कर मेरी हालत खराब कर चुकी थी.

बिहारी भाभी सेक्सी

मैं इतनी सुंदर, सेक्सी और हॉट दिखती हूँ कि आस पड़ोस के सारे मर्द (जवान और बूढ़े) मुझे चोदने के लिए बेकरार हैं. मैंने दूसरी ब्राण्ड पसन्द की और गार्ड को बोला कि आप भी पीने वालों में से हैं. एक बार मैंने फिर से उसको पकड़ लिया और गालियां देते हुए उसके मुंह पर थप्पड़ मारने लगा.

फिर हम दोनों बाथरूम में चले गये और वहाँ लाइट जला कर वो मेरी फुद्दी को देखने लगा और फिर से मेरी फुद्दी को चाटने और चूमने लगा. कुछ देर बाद मामी ठीक हुईं … तो हम दोनों वापस बाथरूम में जाकर साथ में नहाये. विजय ने मुझे सीधा किया और मेरी टांगों को पकड़कर मुझे अपनी गोद में उठा लिया.

मेरी जांघें तो साफ थीं मगर मेरे लंड पर काफी खून लगा हुआ था और बेडशीट पर भी‌ एक‌ दो‌ जगह कुछ खून लगा हुआ था. भाभी की बात सुनकर मैंने भी अपने घर पर दूर के दोस्त की शादी का बहाना कर दिया और घर से निकल गया. लड़के तो क्या बूढ़े भी मुझ पर मरते थे, जब मैं बाहर जाती थी तो लोग आहें भरते थे.

पहले ही महंत ने बुरी तरह उसकी चुत को चूस कर रगड़ दिया था … इसलिए उसकी चुत में जलन होने से रो रही थी. इस समय सिर्फ और सिर्फ प्यार ही होता है जो हम एक दूसरे से जता रहे थे.

मैंने उसको, जहां हम कपड़े खरीद रहे थे, उस दुकान का नाम बताया और लोकेशन बताकर कहा- तुम तुरंत हमें लेने के लिए यहां आ जाओ!अगले 10 मिनट में विजय हमारी दुकान के आगे आ गया और हम दुकान के बाहर खड़े खड़े उसका ही इंतजार कर रहे थे.

और मैंने तुरन्त फोन काट दिया।फिर जीजू बोले- तुम्हारी चूत पर दाने बिल्कुल ठीक हो गये हैं मैं भी तो देखूं जरा?और इतना कहते ही जीजू ने मेरा हाथ पकड़ लिया. फिल्म सेक्सी ब्लू पिक्चरहमारी क्लास में मेरी ही बेस्ट फ्रेंड ने सबसे पहले ब्वॉयफ्रेंड बनाया था क्योंकि वो भी बहुत स्मार्ट थी. देसी मुस्लिम सेक्सीबैठने के दरम्यान जब लंड उसकी बुर में गया, तो उसकी दर्द भरी आह निकल गयी. वहां तो फिसल कर आगे के छेद में घुसने की नौबत नहीं आई लेकिन शिवम का साईज मेरे मुकाबले हैवी था तो वह फंस गया और जोर लगाने पर एकदम टाईट अंदर घुसा।उसके चेहरे पर फिर दर्द दिखने लगा तो मैं पास हो कर उसके एक निपल को होंठों में ले कर चुभलाते हुए एक हाथ से उसकी योनि मसलने लगा।वह कुछ क्षण के लिये थम गयी थी कि छेद शिवम के लिंग के हिसाब से एडजस्ट हो जाये.

इस पर उसने भी साफ साफ कह दिया कि मैं ऐसा कुछ नहीं चाहती हूँ … शादी की बात तो क्या, मैं तो मिलना भी नहीं चाहती हूँ.

मेरी भी उंगलियों को उसके मनमाने स्थान पर जाने व छूने की मानो जैसे अनुमति मिल गयी थी. संजय ने मुंह बनाते हुए अपने ऊपर के कपड़े पहने और धीरे से थोड़ा सा दरवाजा खोल कर वेटर से चाय की कैटल पकड़ ली और उसे वापस जाने को बोल दिया. मैंने मन ही मन खुश हो रंजू को जमीन से उठा कर अपनी गोद में खींच लिया और उसके साथ चूमा चाटी करते हुए फोर प्ले करने लगा.

पूरा गिलास खत्म होने के बाद मैडम बोलीं- तुम कमरे में चलो … मैं आती हूं. कुछ देर तक मैं भी उन दोनों को ही देखती रही, उसके बाद मैं नहाने चली गयी. कसम से शायरा के साथ इस तरह बारिश में भीगते हुए पैदल चलने में इतना मजा आ रहा था कि बस लगा कि मैं उसके साथ ऐसे ही पैदल चलता रहूँ.

इंग्लिश फिल्म ब्लू सेक्स

वह मेरा हाल-चाल पूछने लगी तो उसको अपने स्तन के आपरेशन वाली बात बताने लगी. वो- लेकिन हम एक दूसरे को अपने घर का या गांव का एड्रेस बता देना चाहिए … कहीं हम आस पास के निकल आये तो!मैंने कहा- वैसे भी मेरा नंबर तुम्हें कैसे मिला!वो- अभी बताया तो!मैं- ओ हां. मैंने भाभी की चूत की पूरी दरार, आसपास और पटों पर फैला सारा रस अपनी जीभ और होठों से चाट कर साफ कर दिया.

मैंने उससे कहा- कोई बात नहीं जानेमन … आ जाओ … मैं तुम्हें ये सुख दे देता हूँ.

यह लिंग बहुत कठोर था, मगर बेजान सा … न तो उसमें मर्दों की तरह गर्माहट थी, न नसों में हलचल थी.

कसम से शायरा के साथ इस तरह बारिश में भीगते हुए पैदल चलने में इतना मजा आ रहा था कि बस लगा कि मैं उसके साथ ऐसे ही पैदल चलता रहूँ. काफी देर तक हम अपने मुँह में ली हुई मलाई को एक दूसरे के मुँह में थूक थूक कर एक्सचेंज करते रहे और बाद में मैंने उस रस को पी लिया. बिहार की सेक्सी लड़कियांनॉर्मल होने के बाद शायरा उठकर बैठ गयी थी मगर मैंने उसके हाथ को पकड़ कर फिर से अपने पास खींच लिया‌.

मैंने उसको आगे भेज कर एक बार सभी को गौर से देखा, सब बेसुध सो रहे थे. गीतिका मुझे बिल्कुल भी नहीं रोक रही थी, मैंने गीतिका को घोड़ी बनने के लिए कहा, गीतिका झट से बेड के ऊपर घोड़ी बन गई. मैंने जल्दी से बरमूदे को ठीक करने की कोशिश की, लेकिन लौड़ा कहां मानने वाला था.

अब आगे:ममता जी ने अपनी चुत से हाथ निकाल कर देखा और कहने लगीं- ओय ये क्या कर दिया तूने?उन्होंने मुझे‌ हिलाते हुए कहा. इतने में ही गुड़िया आंटी आईं, जो कि मेरे बगल वाली बिल्डिंग में रहती हैं.

आप लोगों ने मेरी कहानीबस में मिली लड़की के साथ सेक्स का मजापढ़ी और काफी सराहना की.

मैंने कमल को बोला- कंवर सा, एक एक पैग सभी के लिए बनाओ, तो सर्दी भगाने का काम हो. आंटी पूछने लगी- क्या बात है, कुछ हुआ है क्या?मैं- आंटी मैंने सुबह नहाने के बाद गलती से तुम्हारी पैंटी पहन ली. पहले तो वे धीरे-धीरे धक्के दे रहे थे; फिर उन्होंने मेरे बाल पकड़े और जोर-जोर से लंड मेरे मुंह में घुसाने लगे.

गूगल एक सेक्सी शायरी सुनाओ अगले दिन सुबह जब मेरी आंख खुली, सुबह क्या दोपहर का डेढ़ बज रहा था और वो भी शमा ने आ कर मुझे जगाया, मुझे एक कप चाय दी. मैंने उसकी टीशर्ट में हाथ दे दिया और उसकी ब्रा के ऊपर से चूची दबाने लगा.

अब क्योंकि मैंने कपड़े थोड़े अश्लील से पहने थे … इसलिए मैं सबकी नज़र बचा कर घर से निकल गयी और चुपचाप सूरज की गाड़ी में आकर बैठ गयी. थोड़ी देर में उसने मेरे दोनों हाथों को छोड़ दिया और झट से मेरे सिर के बालों को पकड़ चूमने लगी. मगर फिर भी थोड़ी देर शायरा के मम्मों को चूसने के बाद मैं नीचे आ गया और शायरा के पेट पर किस करने लगा.

लड़की ने उतारे कपड़े

मैंने कहा- फिर कर लो!भाभी बोली- चलो थोड़ी देर सो लेते हैं, लेकिन सोयेंगे आपस में चिपक कर. उन्होंने कहा- बच्चे जब से बड़े हो गए हैं और अपने दुनिया में व्यस्त हो गए हैं. अब्बू और चाचा को ऑफिस के काम से फ़ुर्सत ही नहीं मिलती है, इसलिए अम्मी और चाचियां अपने काम या खरीदी के लिए खुद ही अपनी कार लेकर बाज़ार चली जाती हैं.

मेरे हाथ में मेरा लंड था जो पूरा तना हुआ था और मैं जांघों तक नंगा था. मोहन भी मेरी चुत में ज़्यादा वक्त टिक नहीं पाया और अगले एक मिनट में ही वो मेरी चूत को अपने माल से भर कर मुझसे उतर गया.

मैं तो बस शायरा का हालचाल पूछने और उसके साथ पहले के जैसी दोस्ती करने आया था.

अब आगे:अब मेरी साली रश्मि मेरे लंड को चूसने के साथ ही मेरे खड़े लौड़े सुपारे पर जीभ का फिरा देती. अभी हम लोग आपस में बात ही कर रहे थे कि तभी दीदी बोलीं- ऐसा करते हैं … परसों रविवार है. लेकिन आपके द्वारा उसे दी गई उतेजना में जो मज़ा उसे मिलेगा तो वो न नहीं कर पायेगी.

जब भी मुझे ऐसा लगता कि लंड झड़ने को है, तो मैं चूत से लंड निकाल देता. मैंने मोबाईल को को एक जगह स्थिर करके उनकी वीडियोग्राफ़ी चालू कर दी और उन दोनों के साथ बेड पर मैं भी कूद पड़ा. जब दीदी ऑफिस में थीं, तब मैंने उन्हें अपने लंड की तस्वीर भेजी और उनसे उनकी चूत की फ़ोटो मांगी थी.

कहानी में अपनी बीवी की दूसरे मर्द से चुदाई के बारे में सुन मेरे मन में नीरा का ख्याल आया.

भाई-बहन बीएफ वीडियो: मैंने उससे पूछा- क्या आपकी सहेली आ गई है?उसने उदास मन से कहा- अभी तक नहीं आई … शायद ना भी आए … उसका भी अभी कोई भरोसा नहीं है. दोस्तो, मुझे मालूम था कि किसी लड़की को गर्म कर दो, तो वो बिना चुदे नहीं रह सकती.

इससे पहले कि मैं कुछ समझ पाती, उसके लंड ने वीर्य छोड़ दिया और इसके बाद ढीला पड़ कर छोटा हो गया. वो बोले- तू बता तो सही, मैं कसम खाता हूं कि मैं वैसा ही लड़का लाऊंगा तेरे लिये. मुझे गेस्ट हाउस में सोने का बिस्तर पर सोने को बोल कर अनीता चली गयी.

उनके फोन काटने के बाद मैंने धीरू अंकल से पूछा- किसका फोन था?तो वे बोले- मेरे दोस्त का फोन था वे लोग मेरे घर आए हुए हैं मुझे जाना होगा.

भाईजान ने मेरी झरती चूत में मुंह लगा दिया और मेरी चूत का सारा रस पी गये. साली जी, देखो हम यूं प्यार करते करते अब इतनी दूर आ चुके हैं कि अब वापिस लौटना असंभव है. छोटी चाची मेरे वीर्य को उंगली से लेकर टेस्ट करने लगी और बोलीं- इसका टेस्ट तो बड़ा अच्छा है.