हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बीएफ गाना वाला

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थानी सेक्स मारवाड़ी: हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में, संगीता ने कहा- आर्यन, मुझे सिर्फ एक लड़के के साथ आज की रात शेयर करनी थी, लेकिन मुझे तुम बहुत पसंद आए इसलिए मैं तुम दोनों को अपने साथ यहां लाई हूं.

बीएफ वीडियो सेक्सी सेक्सी वीडियो

चूंकि सारी बात हम दोनों समझ गए थे कि ये एक दूसरे के प्रति आकर्षण वाला मामला है, तो वो भी मुझसे इठला कर बात करने लगी थी. इंग्लिश में सेक्सी बीएफ एचडीइथर मैंने पोजीशन बदलकर रोशना को घोड़ी बनाया और पीछे से लंड पेल लार उसे चोदने लगा.

अब मैंने भाभी के दूसरे बोबे को मुँह में ले लिया और मजे से चूसने लगा. बुड्ढा बुड्ढी का सेक्सी बीएफमैंने चाची की पैंट के बटन बन्द करने की कोशिश की तो मेरे हाथ कांपने लगे.

उसकी बातें सुनकर ऐसा लगा जैसे वो भी शेखर की तरह ही सेक्स में काफ़ी रुचि रखती है और रोमांच भरे सेक्स को एंजॉय करती है.हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में: उनका लंड मेरे हाथ में था, तो वे रोकने लगे- नहीं बेकार दिमाग खराब होगा, रहने दो.

मैंने सर के लिए चाय टेबल पर रखी और झुकते ही मेरे बड़े बड़े चूचे उनके सामने आ गये.उनकी बड़ी बड़ी चूचियां इस कसे से ब्लाउज से बाहर को निकलने को दिख रही थीं.

पश्चिम बंगाल का बीएफ - हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में

नमस्ते दोस्तो, मैं समीर, इस कहानी का सूत्रधार हूं। यह कहानी बस मेरी कल्पनाओं का रूप है, इसमें कोई हक़ीक़त ढूँढने की कोशिश ना करें.एक बात और भी बता दूँ कि चमेली की बड़ी बहन आशा को भी मैंने ही चोद कर तैयार किया था.

तभी दीदी ने घूम कर खुद को सामने लगे आईने में देखा, तो मैंने देखा कि उनकी गांड भी बड़ी गजब ढा रही थी. हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में यदि मैं सही समय पर उनका मुँह न दबा देता, तो भाभी की तेज चीख निकल जाती और उनका बच्चा जाग जाता, जो उस वक्त छत पर ही सोया हुआ था.

थोड़ी देर बाद वो फिर से बूब्स दबाने के लिए हाथ आगे लाया तो मैंने उसका हाथ रास्ते में ही रोक दिया और उसकी तरफ झुककर उसको बोली- ऐसे कोई देख लेगा.

हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में?

बॉस ने मुझे बोला है कि मुझे उनका थोड़ा ध्यान रखना है जिससे कि मेरी डील फाइनल हो जाए. अमन ने पसीने में तर मेरी ब्रा को अपने दांतों में थाम लिया और अपने चेहरे को मेरे बूब्स में मसलने लगा. हॉट दीदी ने मेरी तरफ वासना भरी नजरों से देखा और कहा- क्यों सिगरेट पीने का मन क्यों करने लगा?मैंने उनकी तनी हुई चूचियों के देखते हुए कहा- बस अभी कुछ मूड हो गया है.

मेरी चुत बार-बार पानी छोड़ रही थी, जिस कारण निखिल का लंड आसानी से मेरी चुत में फिसल रहा था. उन्होंने होंठों को भी लाल किया हुआ था और एक छोटी सी बिंदी लगाई हुई थी. गगन ने जया को उसकी खुली टांगों में से लपलप करती चुत देखी, तो वो जया के ऊपर चढ़ गया; जया की चुत में गगन अपना लंड सैट किया और डाल दिया.

पहले वाला अंग्रेज मेरी बीवी के नीचे लेट गया और मेरी बीवी को अपने लंड पर बिठाकर धक्के मरवाने लगा. मैंने खुली छत पर रात को चाँद की रोशनी में मौसी को पूरी नंगी करके चोदा. मैंने भाभी से पूछा- कोई क्रीम मिलेगी?उन्होंने उंगली के इशारे से मुझे बताया.

पापा का गुस्सा देखकर मैं अपने पलंग पर चला गया और चुपचाप आंखें बंद करके लेट गया. आपको मेरी बड़ी बहन की चुदाई की कहानी कैसी लगी आप इसके बारे में अपनी राय जरूर दें.

मैं कुछ झुक कर पल्लू उठाने लगी, जिससे उसकी आंखें मेरे मम्मों पर टिक गईं और वो देखता ही रह गया.

लिली की शानदार खड़ी 34 साइज की चूचियाँ और सुन्दर जांघें गजब ढा रही थी.

लिली- आप ले लो, मैं थोड़ी मम्मी की हेल्प कर देती हूँ और उनको जल्दी फ्री कर देती हूँ. उनका रंग गोरा है और करीब 32-26-34 का कसा हुआ फिगर अभी भी कयामत ढहाता है. मैं- तूने ही तो अभी बोला कि पहली रात के …सीमा- अरे दिन में ही जाना है.

मैंने कहा- पहले इसे मुँह में लेकर चूसो ना!थोड़ा मना करने के बाद सुमन मामी मान गईं. मैं उसके निप्पलों पर बाइट करने लगा जिससे उसकी हालत खराब होने लगी और उसकी चुत ने पानी छोड़ दिया. उसके होंठों पर मैंने अपने होंठों को कस दिया और फिर से धक्के लगाने लगा.

मैं बोली- क्या मतलब!तो डॉक्टर बोला- रिपोर्ट के अनुसार तुम्हारे शरीर में मतलब तुम्हारी चूत में एक से ज्यादा लोगों का स्पर्म पाया गया है … मतलब बहुत ज्यादा लोगों ने मेहनत की है.

मैंने अब भी बुआ को संभलने का एक भी मौका नहीं दिया और तीसरा धक्का जो उनकी में मारा, मेरा आधे से ज्यादा लंड पूनम बुआ की गांड में था. लेकिन निधि अभी नहीं झड़ी थी तो उसने मुझे देखा और एक कंडोम मेरे हाथ में दे दिया. मुझे इसी दौरान मालूम चला कि उसका घर वहां से करीब 7 किलोमीटर की दूरी पर था.

कोई मेरी चूत में उंगली करता कोई गांड में। कोई बूब्स दबाता तो कोई चूतड़।इतने में उन अधिकारी ने अपना लन्ड मेरे मुंह में दे दिया और मुझे वो गंदा सा लंड चूसना ही पड़ा. उसकी 34 नाप की चुचियों की नोंके उसके टॉप में से ऐसी उठी हुई लग रही थीं, जैसे टॉप कप फाड़ कर उसमें छेद ही कर देंगी. बुआ मुस्कुरा रही थीं, जैसे कह रही हों कि अब आया मज़ा?मैं अब और खतरा मोल नहीं ले सकता था इसलिए मैंने पूनम को 69 अवस्था में आने को कहा.

मैंने सही सी जगह देखकर गाड़ी साइड में लगा ली और हम अपनी चिप्स खाने लगे.

थोड़ी देर बाद मैंने लंड निकाल लिया और चाची को सीधा करके बेड के किनारे ले आया. अब आगे बीवी की सहेली की चुदाई:उससे किंजल मेरे लौड़े से चुदकर इतनी संतुष्ट हो गई थी कि वो प्यार से रोने लगी.

हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में मैंने धीरे धीरे उसकी पीठ पर हाथ फेरना शुरू कर दिया और उससे कहा- डरो मत, मैं हूं ना!उसके जिस्म की गर्मी से अब धीरे धीरे मेरे लौड़े मैं करंट दौड़ने लगा था. मैं- क्या हुआ … तुम ठीक तो हो?श्वेता- हां मैं ठीक हूँ … बस थोड़ा आराम से करो.

हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में थोड़े समय बाद जब प्राची आयी, तो उसने पूछा- क्यों हो गई इच्छा पूरी!मैं ना में गर्दन हिलाते हुए प्राची के नरम मुलायम होंठों पर किस करने लगा. तो प्राची अपनी दोनों टांगें फैला कर मेरे मुँह पर बैठ गयी और झुककर मेरा लंड चूसने लगी.

फिर मैंने छाया (छाया बुआ की चुदाईके बारे में आप मेरी पहले की कहानियों में पढ़ सकते हैं) को फ़ोन किया.

एक्स एक्स एक्स व्हिडीओ

वैसे मेरे मन में भी उसे चोदने की आग लगी थी मगर फिर भी मैंने खुद पर किसी तरह से कंट्रोल रखा और उसके कॉल का इंतजार करता रहा. जैसे जैसे मैंने भाभी के चुचों को दबाना जारी रखा, तो भाभी सिसकारियां और तेज होने लगीं. दस मिनट कूदने के बाद भाभी झड़ने लगीं- यस्स … ऑय एम कमिंग्ग … हह हहह … उह हहह ओह ओह्ह आह हह!उनकी चुदाई की स्पीड इतनी तेज थी कि मैं भी ख़ुद को रोक ना पाया और मैं भी झड़ गया.

रमण ने अनीता का टॉप निकाल दिया और धीरे से जींस भी नीचे कर दी।गोरे और सुनहरे बदन की मल्लिका अनीता रेड ब्रा-पैंटी सेट में कयामत लग रही थी।पैरों में सुनहरी पायल … होंठों पर लाल लिपस्टिक, चेहरे पर लाली … कुल मिलाकर रमण का नसीब आज छप्पर फाड़ कर आया था … बाकी तो उसके लंड को ही फाड़ना था।अनीता ने रमण के कपड़े खींच दिये।रमण तो पूरी तैयारी में था।उसने लोअर व टीशर्ट ही पहनी हुई थी. उसने ड्रेस को सामने से हटाया तो उसकी सफेद ब्रा और पैंटी में उसके बदन का बीच का हिस्सा दिखने लगा. कुछ देर बाद संगीता मयंक को लिप किस करने लगी और उसने मुझको भी अपनी तरफ खींच लिया.

तभी मेरे मन में भी शरारत सूझी और मैंने भी सोची कि क्यों ना आज इन दोनों को ही अपना पति बना लूं.

मगर हम लोग मिलेंगे होटल में ही। मैं आपके लिये सारा इंतजाम कर दूंगी. मैंने उसकी गर्म चूत पर लंड रख कर उसके होंठों से होंठ जोड़ दिए और एक करारा धक्का दे मारा. निखिल- हां, मैं यहीं बाहर रह जाता हूं आप भी अन्दर कमरे में जाकर कपड़े सुखा लो … नहीं तो आपको ठंड लग जाएगी.

कभी सेक्स के बारे में बात नहीं की थी हमने।मेरे घर में भी उसको सब बहुत अच्छे से जानते थे. उसने मुझसे पूछा कि आप क्या करते हैं?तो मैंने बताया कि मैं एक बिजनेसमैन हूं. वो बोली- अरे राज जी … आप आ गये! आपको मेरी ननद तंग तो नहीं कर रही?मैंने कहा- नहीं.

उसके मुंह से चीख निकल गयी- उफ्फ … उम्म!उसे दर्द हुआ था लेकिन उसने अपने आपको सम्भाले रखा. शायरा तो मुझसे चिपके चिपके अब दोनों हाथों से मेरी पीठ को भी सहलाने भी लगी थी और मेरे गालों को चूमते हुए अपने गीले शिकवे व शिकायतें सुनाने लगी कि मैं उससे दूर क्यों गया.

अब निधि और स्वाति दोनों घोड़ी बनी हुई थीं और आलोक और मोहित उन दोनों की मस्त वाली चुदाई कर रहे थे. तभी मुझसे रहा नहीं गया और मैंने सीमा से पूछ ही लिया- सीमा तुझसे एक बात पूछूँ … प्लीज़ तू गुस्सा मत होना. निर्मला जी निआग्रा फाल्स से भी ज़्यादा गीली हो रही थीं, उनकी चूत भट्टी जैसी गर्म और अपना चिपचिपा माल छोड़ रही थी, जो उनकी कच्छी और और उनकी झांटों को भिगो चुका था.

दस मिनट तक दीदी की गांड मारने के बाद दीदी बोलीं- तेरा हुआ नहीं? अब तक मेरा दो बार हो गया है.

जिसे दीदी ने महसूस कर लिया था और वो मुझसे नहाने और खाने के लिए कहने लगी थीं. मैं- मैं कुछ नहीं जानता, प्रभात नहीं बोलेगा … इसलिए मैं बोल रहा हूं. जब चाची चलती हैं, तो उनके पीछे उठे हुए हिलते चूतड़ों को देखकर मेरा लंड एकदम से बेकाबू हो जाता है और मुझे उसको ठंडा करने के लिए तुरंत मुठ मारनी पड़ती है.

मैंने चाची के होंठों और गालों को बुरी तरह चूमते हुए 20-25 दनादन धक्के मारे और मेरे शरीर में मीठी झुरझुरी होने लगी. मेरा लंड भी नयी गांड में जगह बनाने के प्रयास में थोड़ा छिल गया था जिसका अहसास मुझे लंड के तिल्ले में हो रही जलन से हुआ.

कुर्सी पर सबेरे नहाने के बाद मैंने गीले अंडरवियर बनियान सूखने डाल दिए थे. आपने पड़ोसन की चुदाई कहानी के पहले पार्टपड़ोसन भाभी ने सेक्स की बात कीमें पढ़ा था कि मैं हेलीमा के साथ रूम में उसे चूम रहा था. अब मैंने संगीता के चूतड़ों पर हाथ रखकर प्यार से सहलाया, फिर जोर जोर से दोनों चूतड़ों पर थप्पड़ लगाए.

सेक्सी फिल्म एक्स एक्स

पल्लवी बीच में बात काटते हुए बोली- कल वापिस जाना है क्या … शिट!चिराग- ओ हैल्लो मैडम … पहले पूरी बात तो सुन लो महारानी.

लेकिन मैं ऐसे किसी अनजान के रूम में नहीं जाना चाहती थी क्योंकि वहां पर ज्यादा खतरा हो सकता था इसीलिए मैंने उनको रूम में जाने से मना कर दिया. अन्तर्वासना की सेक्स कहानियों को पढ़ने के बाद ही मैं अपनी सच्ची घटना को एक मस्त रसीली हिंदी फैमिली सेक्स स्टोरी में पिरोकर आप लोगों के समक्ष रख रहा हूँ. मैंने उसकी चूत में थूक लगाया और लंड को अन्दर घुसा कर तेज़ तेज़ चोदने लगा.

मैं- तो फिर मैं चलूँ?लिली मुस्कराते हुए- सर, आप भी कमाल करते हैं, आप ड्रिंक लेते हैं?मैं- आप घर पर रखती हैं?लिली- बियर या व्हिस्की?मैं- जो आपको पसन्द हो!लिली- मैं तो वाइन लेती हूँ. उसने अपना एक हाथ पीछे लेते हुए मानस के बाल खींचे और उसका मुँह और अन्दर अपनी गांड में दबाने लगी. हिंदी बीएफ दिखाना हिंदी बीएफये बात मेरे दिमाग में आते ही मैंने तुरन्त ममता‌ जी‌ को फिर से पकड़ लिया.

नीमून पर ही रेणु को पता चल गया था कि शेखर कितना कामुक और सेक्स के मामले में बेशर्म मर्द है. मैंने भाभी की चूत के दाने को अपनी जीभ से सहलाना शुरू किया तो भाभी की कामुक सिसकारियां निकलना शुरू हो गईं.

फिर भी मैं उससे बात करता रहा कि मुझे आपकी आवाज बहुत सुंदर लगी और सुन्दरता तो एक बहाना होती है. जिसे दीदी ने महसूस कर लिया था और वो मुझसे नहाने और खाने के लिए कहने लगी थीं. प्राची अपने पैर फैला कर सोफे पर बैठ गयी और मैं उसकी दोनों मांसल जांघों के बीच में अपना सिर घुसाए उसके यौवन रस का रसपान कर रहा था.

मैं भाभी के कान के पास मुँह ले गया और पूछा- और मजा करना है?भाभी ने सर हिलाया और हां का इशारा किया. दूसरे दिन सुबह दिनकर ने देखा कि नगर के लोग उसकी बीवी जया को चोद कर उसके घर के सामने नंगे ही सो गए थे. पूनम बुआ की चुत उनकी उम्र की महिला के हिसाब से बहुत टाइट थी और इसका कारण मुझे पता था कि उनको कई सालों से एक मुरझाये हुए लंड के साथ गुज़ारा करना पड़ रहा था.

तब तक मैंने भी अपना शॉर्ट्स पहन लिया और जाकर प्राची के बाजू में सोफे पर बैठ गया.

जो दो एक मेरे साथी लौंडे उनके लंड का मजा लेने से बच गए थे, उन्हीं में एक मैं भी था. सेक्स स्लेव पोर्न कहानी में पढ़ें कि लिफ्ट में एक लड़के ने मेरी गांड पर अपना लंड लगा दिया.

कुछ देर चोदने के बाद मैंने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत को चोदने लगा. उसके बारे में सोचते हुए सुबह से शाम हो गयी, पर समझ नहीं पा रहा था कि किस बहाने से उनके घर जाऊं और उनके साथ वक़्त बिताऊं. मैं अंदर गया, पैंट की चैन नीचे करके फ़लक की गांड में पीछे से लण्ड लगा दिया और अपने हाथों को उसकी बाजुओं के नीचे से ले जाते हुए उसकी दोनों चूचियों को पकड़ लिया.

मुझे उसकी बालों से ढकी चूत बहुत प्यारी लग रही थी।मैंने पीछे से उसकी ब्रा के हुक खोल दिये. वहां जाकर मैंने संगीता को बेड पर लेट दिया और उसकी गहरी नाभि में जीभ डालकर चूमने लगा. लंड की लंबाई 7 इंच के आस पास ही है, लेकिन मोटा इतना है कि किसी भी चूत में आसानी से नहीं जाएगा … सामने वाली की आंखों में आंसू ला देगा.

हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में मैंने अपनी एक टांग को आँटी की जांघों पर रखा और एक हाथ से उनके गुदाज़ शरीर को सहलाने लगा. संगीता ने हम तीनों के गिलासों में व्हिस्की डाली और तीनों गिलास में सोडा डालकर पैग तैयार कर दिए.

चुदाई विडियो हिंदी में

ज्योति- छोड़ साली … मेरे साथ लेस्बियन करेगी क्या?इसी तरह मस्ती करते हुए दोनों सो गईं. शायद उसकी चूत से खून निकल आया था … जिस वजह से मुझे कुछ गीला गीला सा लगा. अब आगे Xxx भाभी चुदाई कहानी:अब भाभी मेरा विरोध भी नहीं कर रही थीं और बिना कुछ बोले चुपचाप लेटी हुई थीं.

दीपक यानि दीपू के जन्मदिवस के आमंत्रण पर 23 दिसम्बर को मैं मौसी के घर से निकला. मैंने दीदी को 69 की पोजीशन में लेटा दिया और दीदी को अपने नीचे कर लिया. वीडियो सेक्सी बीएफ वीडियो एचडीसादिका मुझे सिर्फ देखती थी, उसकी तरफ से कुछ भी रिस्पॉन्स नहीं मिलता था.

अब मुझे सच में कण्ट्रोल करना बहुत मुश्किल हो रहा था तो मैंने उन चारों को रोक दिया और उनसे कहा- देखो तुम लोग अब रुक जाओ.

अब उसकी गोरी भरी हुई गांड जिसे ऑफिस में देखकर अक्सर मेरा लौड़ा खड़ा हो जाता था, मेरे सामने थी. वहां पर दस बारह लड़के हाथ पर कोई ना कोई रंगीन कपड़ा बांधकर खड़े हुए थे.

इतना कह कर चाची ने अपने गाउन के बटन खोले और अपनी एक चूची कशिश के मुँह से लगा दी. ये नजारा देखकर मैं सोच रहा था कि उसने नीचे से थॉन्ग भी पहना होगा लेकिन ये केवल उसकी लैगिंग ही थी जिसमें उसकी गांड इतनी सेक्सी शेप में दिख रही थी. दीदी की मदभरी आह निकल गई- आह आराम से चूस बेटू … लगती है … आराम से कर … आज ये दोनों आम तुम्हारे लिए ही हैं.

उसको जलन होती थी क्योंकि उनके ग्रुप में वो एकदम लकड़ी की तरह पतली थी, देखने में भी साधारण ही थी.

मैंने उसके मुंह में लंड दिया तो उसने चूसने से एक बार भी मना नहीं किया. फिर वो एक हफ्ते तक अपने घर रही और इस बीच मैंने उसकी चूत उसके घर में ही दो बार चोदी. मैंने कहा- मुझे नहीं पता, बस तुम रात को कुछ भी करके मेरे कमरे में आ जाना.

डॉग वाली सेक्सी बीएफतब भाई साहब बोले- साहब को जानते हो?दोनों ने कहा- नहीं, हम साहब को नहीं जानते. अब मैंने अपने हाथों के बल अपने शरीर को ऊपर उठा‌ लिया और नीचे से अपनी पूरी तेजी व ताकत से ममता जी चुत में लंड के धक्के लगाने शुरू कर दिए.

બ્લુ સેક્સ

अपनी पसंद की वजह से शेखर अक्सर उस रूम में लोगों से बातें करता रहता।शनिवार की रात तो जैसे उस चैट रूम में लोगों की बाढ़ सी आ जाती थी. थोड़ी देर बाद मैंने पापा के लंड को अपने मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. कुछ देर उसी अवस्था में चोदने पर श्वेता का शरीर अकड़ेने लगा और वो झड़ गयी.

फिर उन्होंने मुझे गोदी में उठाया और मेरी चूत अपने लंड पर सेट की और वो मेरे वज़न से अंदर चला गया और मेरी जान निकल गयी।वो मुझे ऐसे ही लेकर सोफे पर लेट गए और जोर जोर से चोदने लगे. मैं उसको हग करने के लिए आगे बढ़ा लेकिन उसने मुझे बीच में रोक दिया और बोली- रुकिये एक मिनट!वो अब भी थोड़ी हिचक रही थी. आपको दर्द हो रहा हो तो लंड बाहर निकाल लूं?दीदी- नहीं … मुझे गांड में प्लग लेने की आदत है.

हमने कपड़े पहने और हॉल में आ गए। मैं अपने रूम में आ गया और सो गया।मैं चुदाई करके थक चुका था इसलिए मुझे गहरी नींद आ गयी. फिर उसने अपने लंड को मेरे हाथ से छुड़ा लिया और बोला- मत करो … जल्दी झड़ जाऊंगा, तो पूरा करवा नहीं पाऊंगा. उधर भाभी सुबह 6:30 बजे उठती हैं और भाई तो आराम से 9 बजे तक उठते हैं.

कुछ देर बाद वो कुछ शांत हुई, तो मैंने कमर हिलानी शुरू कर दी और मेरे लंड ने चुत के अन्दर रह कर अपनी जगह बनानी शुरू कर दी. मैंने कम से कम दस मिनट तक उसके होंठों को खूब चूसा लेकिन तब भी उसके होंठों का रस कम नहीं हुआ.

मैंने आज तक बहुत सी महिलाओं के साथ सेक्स किया है लेकिन आपमें मुझे जो बात नजर आ रही है … वो अब तक किसी में देखने को नहीं मिली.

प्राची भी अपने दुधारू मम्मों से पंप निकाल कर कमीज डालकर बाहर आ गयी. बीएफ सेक्सी आवाज वालाउसी रात मैंने हिम्मत करके उन्हें मस्त चुदाई का सेक्स वीडियो देखने को दे दिया. फिल्में बीएफ सेक्सीएक हाथ से मैं उस परी के मम्मों को मसलते हुए उसके होंठों का रसपान कर रहा था. तो लिली ने मुँह बनाते हुए मुझसे मेरे कपड़े छीन लिए और मुझे अपने ऊपर खींच लिया.

” मैंने कहा।मैंने उसके लंड को ऐसे थाम लिया जैसे मैंने रस्सी पक़ड़ी हुई है और मैं उसके सामने जा खड़ी हुई.

वह तो लौंडिया भी चोदता है … कुत्ता, पटाने में एकदम एक्सपर्ट है, बहुत बातें बनाता है. मैंने अपनी चुदाई की रफ्तार जारी रखी और यामिना को जगह जगह से नोचता काटता रहा. मुठ मारने के इस तूफानी दौर से गुजरने के बाद मैंने कुछ दिन का ब्रेक दिया.

उस रात के बाद से पूरे लॉकडाउन में विधि भाभी सोनल भाभी और मैं मस्ती से चुदाई का मजा लेने लगे थे. समीर से सटकर बैठने की वजह से मेरा पूरा हाथ उसकी गोद में था जिससे मुझे उसके मोटे नेवला, जो उसकी पैंट में था, का अहसास भी हो रहा था. उसके बाद दो तीन दिन तक मैं मौके की तलाश में रहा … लेकिन मौका नहीं मिला.

देसी चुदाई वीडियो सेक्स

मैं उनकी गांड को हाथों से भरकर दबाता, तो मोना भाभी ऊपर की तरफ उठ जाती थीं और उनकी नंगी चुचियां मेरे सीने से कस कर मसल जा रही थीं. कहानी पर आप सब के सुझाव भी मिले और इस बार की कहानी में मैं कोशिश करूँगी कि आपको पसंद आने वाली बातें ज्यादा लिखूं।आपका मनोरंजन करने का मैं पूरा प्रयास करूंगी. उनके घर के पास एक नाला था … उसमें मैंने भाभी की फटी हुई नाईटी को फैंक दिया.

मैंने यामिना को उसके घर से थोड़ा पीछे एक पेड़ के नीचे अंधेरे में उतार दिया और एक किस करके उसे जाने दिया.

जिसको देखकर किसी का भी लंड मचलने लगे।जब वो चलती थी तो उनकी गांड ऐसे मटकती कि नज़र हटाने का मन नहीं करता था। खन्ना जी के घर में उनकी बूढ़ी मां और उनका एक बेटा था।बेटा स्कूल जाया करता था और उनकी माता जी की नजर बहुत कमजोर हो चुकी थी.

किंजल की चूत में जैसे ही लंड झटके से घुसा, वो जोर जोर से चीखने लगी. एक-दो महीनों तक रोज रात को रेणु का फ़ोन आ जाता और दोनों फ़ोन पर बात करते-करते या स्काइप के ज़रिए एक दूसरे के साथ सेक्स चैट और डर्टी वीडियो चैट करके अपना दिल बहला लिया करते थे. वीडियो बीएफ सेक्सी फुल मूवीफिर मैंने डिल्डो पर थोड़ा सा थूक लगाया और उनकी गांड पर भी लगा दिया.

मैंने दो चार मिनट लेटे रहने के बाद लिली को अपनी मन पसन्द पोज़िशन में नीचे लिटाया, उसकी टाँगों को जांघों से मोड़ा और एड़ियों को अपने कंधों पर रखकर लण्ड को चूत के छेद पर लगाया. मैं रीना की चुत के भीतर तक जीभ डाल रहा था, जिससे ‘ऊई माई … आईईईई मर गई आह्ह सी. पापा मम्मी से कह रहे थे- उधर चलो मेरे पलंग पर … प्रोग्राम करते हैं.

मैं लगातार संगीता की चूचियों को पी रहा था और दांतों से हल्के हल्के से काट भी रहा था. अगर तुम उन्हें खुश कर दो तो मैं तुम दोनों को नहीं निकालूंगा बल्कि तुम दोनों की तनख्वाह और बढ़ा दूंगा.

अगर आपको कोई प्रॉब्लम न हो, तो आप मेरे साथ चुदाई करके अपनी चुत की चुदाई की प्यास बुझा लीजिएगा.

कहीं आना जाना होता नहीं था, तो बड़ी भाभी के साथ धीरे धीरे पुरानी बातें चलने लगीं. फिर उसने पति को नीचे लिटाया और उसके लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी. मैं कुछ पल के लिए रुक गया और उनके दोनों चुचों के निप्पलों से खेलने लगा, उन्हें बारी बारी से चूसने लगा.

देसी फुल सेक्सी बीएफ अब जब कि प्राची मेरे कन्ट्रोल में आ चुकी थी, मैंने प्राची को सोफे पर बैठने के लिए बोला. इससे पहले कि मैं वाइब्रेटर उठाकर लाती, मेरा ध्यान लिफ्ट वाले लड़के अमन की हरकतों पर चला गया.

जब मैंने उसकी तरफ देखा तो वो तृप्त और संतुष्ट लग रही थी।मगर मैं अभी पूरी तरह से प्यासा था. लेकिन दारू अपना कमल दिखा रही थी और मेरा लंड झड़ने का नाम नहीं ले रहा था. सोनम अब किसी भी पल अपनी चुत को इस युद्ध में हरवाना चाह रही थी ताकि इतने दिनों से उभरी हुई उसकी जवानी किसी के काम आ सके.

देहाती सैक्स

उन्होंने आगे बढ़ कर मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरी गर्दन पर किस करने लगे. कभी मेरे होंठों को अपने मुँह में लेकर चूसते … तो कभी मेरे कान की लटकन को चूसते. कुछ देर यानि लगभग दो मिनट के बाद उसके पति का पानी साक्षी की चूत में निकल गया और वो चोदता हुआ रुक गया.

उसने दरवाजा खुला रखा था, तो मैं झट से अन्दर घुस गया और दरवाजा बन्द करके उसकी बांहों में समा गया. मैं अपने हाथ फ़लक की चूचियों के नीचे ले गया और चूचे पकड़कर जमकर चुदाई की.

पापा जब फोरप्ले कर रहे थे, तभी में चुपचाप उठा और पापा के पलंग के पास पहुंच गया.

दूसरी तरफ बिना किसी संकोच के कमरे में दो सगे भाई बहन मिलकर अनु दीदी को बगल के बिस्तर पर बुरी तरह चोद रहे थे. उसने अपना पैंट उतार कर हैंगर पर टांग दिया और अंडरवियर घुटनों तक करके खाट पर लेट गया. मैं- चाची, पिलाओ न!चाची ने मेरे सिर को सहलाया और बोली- फिर कभी पिलाऊंगी, अब ये गिलास वाला दूध पी कर खेलने जा.

मैंने बहुत कंट्रोल किया कि मेरी आवाज ना निकले … लेकिन मदहोशी के कारण थोड़ी सी आवाज निकल ही गयी. इतने में प्रशांत बोला- आप जैसी भाभी के लिए हम लोग बीवी तो क्या, अपनी बहन भी शेयर कर सकते हैं. अहा … उसके दूध से भरे हुए दूध के ही रंग के दो अमृत कलश जिनका साइज मैंने पहले ही बताया है कि ये 34 साइज़ के रहे होंगे.

अब किंजल का शहर मेरे शहर के नजदीक ही था और उसको कुछ भी काम होता था तो मेरे शहर ही आती थी.

हिंदी में देसी बीएफ हिंदी में: हमेशा लापरवाही से रहने की वजह से मैंने कई बार उनके खुले चूचे देखे हैं. अपने दोनों हाथों से मैंने आँटी की चुचियों को पकड़ा उन्हें जोर जोर से मसलते हुए धक्के लगाने शुरू किए.

ये देख कर मैंने चूत से हाथ हटा लिया और संगीता के ऊपर आकर उसके रसीले होंठों को चूमने लगा. इसलिए मैं घर के माल को घर में ही खुश रखूं, यही सोच कर पहली बार उनकी सील पैक चुत चोद कर दीदी को मैंने मज़ा दे दिया. तभी मैंने भी अपने मन में ठान लिया था कि पिंकी भाभी को हर हाल में चोदना ही है.

मैं यही बात प्राची को बताने के लिए उसके घर गया, तो घर का दरवाजा खुला ही था.

भाभी बहुत ज्यादा शर्मीले स्वाभाव की हैं … शायद इसलिए नहीं बोल पा रही थीं कि मैं आपकी भाभी हूँ बीवी नहीं. फिर पापा ने अपने जेब से रूपये निकाल के मुझे दे दिए, तो मैंने उसमें से सिर्फ शर्मा जी का कमीशन निकाला और बाकी पापा को वापस दे दिए. संगीता ने हम दोनों के लौड़े सहलाते हुए कहा- आर्यन मेरी जान तुम दोनों जुड़वां तो नहीं हो … दोनों के लौड़े बिल्कुल सेम हैं.