हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी

छवि स्रोत,देसी आंटी की सेक्सी विडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गधे: हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी, मैं कभी उनके मम्मे को सहलाता, तो कभी मसल देता और मुँह से भी कभी प्यार से चूसता जाता, तो कभी हल्के से काट लेता, जिससे उनकी कभी तेज स्वर में सिसकारियां निकल जातीं, तो कभी आह निकल जाती.

वीडियो की सेक्सी वीडियो चुदाई

उसकी ब्रा जैसे खुद बोल रही थी कि क्यों मेरे ऊपर ये जुल्म कर रहे हो, मेरी औकात से ज्यादा क्यों मुझ पर वजन दे रहे हो. बेदर्दी सेक्सी वीडियोअभी तू छोटी क्लास में है, पर अभी से कितना लिपस्टिक मेकअप करके निकलती है.

मुझे अन्तर्वासना की कहानियां पढ़ कर इतना ज्ञान तो हो गया था कि अब नहीं तो कभी नहीं. कैटरीना कैफ की सेक्सी वीडियो हॉटकल्पना- पैरों की सिकाई करोगे आप?मैं- अगर दर्द पैरों में है, तो पैरों की ही सिकाई कर दूंगा.

मैंने रोहन को गुड मॉर्निंग विश किया और एक किस दी। मैंने रोहन से बोल दिया कि जिस बात के बारे में हम रात को बात कर रहे थे मैं उसके लिए तैयार हूँ.हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी: फिर उन्होंने मुझसे मेरी पिक मांगी और मेरी नंगी गांड देखने की इच्छा जाहिर की.

मैंने अब यह बात अपनी अपनी बड़ी दीदी से बता दी कि एक लड़का है आशीष, उसने मुझसे दोस्ती की है और मुझे कुछ देने के लिए बोला है, तो क्या तुम चलोगी?उसने कहा- हां वैसे भी कोई कुछ दे, तो मना नहीं करना चाहिए.तभी पटेल का दोस्त, जो मेरे सीने में टांगें फैलाए बैठा था, वह बोला- और तेज चाट बंध्या की चुत … जोर जोर से चाट इसकी चुत … अब यह गर्म हो रही है … दो चार मिनट में खुद चुदवाने के लिए बोलेगी.

सेक्सी फिल्मों की फिल्म - हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी

सोनम बेटा, तू कितनी सुन्दर दिखती है जब ऐसे अपनी चूत अपने हाथों से खोल कर लेटती है.वैसे तो पापा शराब नहीं पीते थे मगर उनके दिमाग को शांत करने के लिए वह आज पी रहे थे.

देसी गाँव की चुदाई कहानी में पढ़ें कि गाँव में एक डॉक्टर से पड़ोसन भाभी कैसे चुद गयी. हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी वहां मैंने देखा कि उसका पति जो बहुत शराब पीता था, वो दर्द से बेचैन है.

पिंकी ने एक बार फिर अमर को खींचा और उसके गालों व होंठों पर किस कर दिया.

हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी?

तो वह बोली- क्यों?मैं बोला- मैं आपको एक बार जी भर कर देखना चाहता हूं. मैंने चुपके से उसकी चूत पर लंड को लगा दिया और उसको बांहों में भर लिया. मेरा पूरा लंड अमीषी की चूत चीरता हुआ अन्दर उसकी बच्चेदानी से जा लगा.

पर्दे के बीच की दरार से मैंने देखने का प्रयास किया मतलब दो पर्दो के बीच इतना गैप था कि मैं आराम से सब देख सकता था. हालांकि कुछ लोगों को यह बेहूदा लगे मगर सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है. वो अकड़ने लगी थी तो मुझे समझ आ गया था कि जल्दी ही उसका पानी निकल जाएगा.

जो मैं चाहती थी, इतने दिनों से तपस्या कर रही थी और उस दिन जब मेरी चाहत रंग लाई तो मुझसे एक शब्द नहीं बोला जा रहा था. बहुत ही सेक्सी भाभी है शगुन, जिसकी चूत का मैं भी दीवाना हो गया हूँ. छह दिन बाद मम्मी पापा भाई भी आ गए तो अब हम दोनों कोदिन में चुदाईका मौक़ा नहीं मिलता था.

मेरी नजरें पढ़ कर राधिका ने मुझसे कहा- लगता है राज, तुमको अपनी बहन की चूचियां ज्यादा पसंद आ गई हैं. इससे पहले मैं अन्तर्वासना की कहानियाँ पढ़कर मुट्ठ मार लेता था मगर आज तो साक्षात चूत मुझे अपने पास बुलाने का न्यौता दे रही थी.

हॉट बॉलीवुड सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैंने एक नई अभिनेत्री को डायरेक्टर के साथ उसका लंड चूसते देख लिया.

दूसरे दिन सुबह चुत को अच्छे से साबुन लगाकर साफ किया और उस पर भी डीओ लगाया, अंकल को अच्छी खुशबू आए इसलिए.

उसने झट से अपने दोनों हाथों से मेरे चेहरे को पकड़ लिया और अपने होठों को दोबारा से मेरे होठों से मिला दिया. मायरा ने कहा- क्या हुआ चाची … क्या हाल हैं?चाची ने आंख मारते हुए कहा- पता चलेगा तुमको भी … एक बार तो ससुराल जाओ. मैंने उसका मुँह दबा लिया और फिर अपना उतना सा लंड ही आगे-पीछे करने लगा.

मैं- अपने ब्वॉयफ्रेंड का भी ऐसे ही चुसाई करती है क्या?शीतल- अरे मैं अपने ब्वॉयफ्रेंड के अलावा अपने बाजू वाले अंकल का लंड भी चूसती हूं. मगर शरीर की चाहत के लिए कभी कभी मम्मा अपनी चूत में उंगली या मूली या गाजर डाल कर खुद को संतुष्ट कर लेती थीं. यही सब सोचते सोचते एक लास्ट कोशिश करने का सोचा, अगर इस बार भी मौसी ने मेरे हाथ और पैर हटा दिया तो चुपचाप सो जाऊंगा.

मैं आगे बोला- मैंने भी कई बार अपनी बीवी के साथ कुछ अलग करने की कोशिश की, लेकिन उसने भी सिरे से नकार दिया.

मेरा पंजा उनकी चुचे और बगल के बीच में था और पैर का घुटना ठीक उनकी चूत के ऊपर था. … भईया इसको बाहर रुला के ही भेजना आज कसम है आपको …उनकी ऐसी बात सुनकर मुझमें और जोश आ गया. उसने मेरा लन्ड पकड़ के अपनी चूत पे रखा और कहा- एक बार में ही पूरा का पूरा डाल दो!मैंने उसके पैरों को कंधे पे रख के एक ही बार में अपना पूरा लन्ड उसकी गीली चूत में घुसेड़ दिया.

तुम मेरे मम्मी पापा तो मनाओ तो फिर तुम आरती की मम्मी से मिलकर कुछ ऐसा करो कि वो बिना झिझक के मान जायें. इसलिए उसके खड़ा होने भर की देर थी कि मेरी चूत ने भी रस छोड़ना शुरू कर दिया. ताऊ ने उनका हाथ उठाकर अपने लंड पर रख दिया था और अब ताई भी ताऊ के लंड को सहला रही थीं.

जब मैं शाम को छह बजे वहाँ गया और मैंने जाकर वहाँ देखा तो वो पहले से ही मौजूद थी.

जब वो ऊपर से साफ़ करती तो लंड को नीचे कर देतीं … और जब नीचे से साफ़ करतीं, तो लंड को ऊपर कर देतीं. सुषी पहले तो टाल-मटोल करने लगी, तरह-तरह के बहाने करने लगी लेकिन मैंने उससे पूछना जारी रखा और अंत में उसने मुझे अपने दिल की बात बता ही दी.

हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी मैं कोई जबरदस्ती नहीं करना चाहता था, इसलिये मैंने सोचा कि रात को इसको मना कर चोद लूँगा. लेकिन मैं रुका नहीं और उसकी आँखों से आंसू निकलने लगे और मैं कुछ देर की चुदाई के बाद उसकी चूत में ही झड़ गया और सुषी के नंगे बदन पर लेट गया.

हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी मैं धीरे धीरे चलाते हुए जैसे तैसे अपने ऑफिस पहुंचा, तो मुझे देर हो गई थी. उसके बाद ठीक से उनको अच्छी तरह नहलाया और अपनी तरफ उनको घुमाते हुए जमाई जी की गर्दन पर लटक गई.

रवि भी मेरी बात से सहमत हो गया और उसने सुषी को मेरे साथ मेरे घर पर भेजने का फैसला कर लिया.

फुल सेक्सी वीडियो सुहागरात

सर अपने हाथ से उनके मम्मों को मसलते हुए उनको चोद रहे थे, धकापेल धक्के लगा रहे थे. ये सब इतनी तेजी से हुआ कि उसे कुछ समझ न आया कि ये सब क्या हो रहा है. हुआ यूं कि मेरे नाना जी की देहांत की खबर मुझे मिली, तो मैंने पापा को फ़ोन किया और बोला कि मम्मी को मत बताना.

इस पर सुखबीर खुश हो गया और बोला- सारिका जी बस आप उसे अपनी तरह बना दो, मैं आपका हमेशा ग़ुलाम रहूंगा. साली हवशी रांड कमर उछाल उछाल के चुदाई करवाने लगी, मेरी पीठ पे उसने अपने नाखूनों को गड़ाना शुरू कर दिया. मिनी ने नज़रें झुका कर बहुत ही मासूमियत से कहा- वैसे तो मुझे दो साल हो गए सेक्स किए हुए.

तू मेरी बात लिख ले, तेरे से ज्यादा गंडमरी लंड लेने वाली गांड चुदवाने वाली दूसरी कोई नहीं होगी.

उसकी चमड़ी इतनी नर्म, मुलायम, नाजुक और पारदर्शी थी कि उसकी फूली हुई नसें साफ़ नज़र आ रही थीं. थोड़ी देर बाद माया भाभी रुक गयी, तो मैंने उसकी तरफ देखा तो वो आंखों ही आंखों में जैसे ये बोल रही थी कि यूँ ही देखते ही रहोगे या धक्के लगाकर चुदाई भी करोगे. मैंने उसे हाथ में ले लिया और उनकी आंखों में देख कर कामुक इशारा कर दिया.

मुझे ऐसे देख और मेरी हरकतें और चरम सुख की प्राप्ति की कामुक आवाज सुन सुखबीर भी खुद को ज्यादा देर न रोक सका. मुझे उसका लिंग बहुत सुखदायी लग रहा था और मुझे भीतर से लग रहा था कि उसे अपनी योनि से कस के जकड़ लूँ. मगर आपको भी मेरे साथ होना होगा और मैं केवल एक बार ही करूँगी!रोहन ने कहा- थैंक्स अंजलि.

मैं अपने दोनों हाथ बीवी के चूतड़ों पर रखकर उसकी चुत को आराम से चोदने लगा. दरवाजा बंद होते ही उसने मुझे दरवाजे के सहारे ही वहीं पर सटा लिया और मेरी पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड पर हाथ फिराते हुए मेरी छाती को सूंघने लगी.

उसके बाद मैंने अपना फोन नंबर नरेश की बहन को दे दिया और उससे कहा- तुम्हें कोई जरूरत हो, तो कॉल कर लेना. वो चुदाई करते करते पीछे से उनकी छातियां मसल रहे थे और ताई इन सब का मजा ले रही थीं. एक शराब का जो उसे अजय ने पिला रहा था, दूसरा वासना का जो अजय उसे उसके कोमल अंगों पर किस कर कर के जगा रहा था!तभी अजय ने मुझे आवाज दी- राज आओ, तुम भी डांस करो न!मैं उठ खड़ा हुआ और मीना का हाथ पकड़ते हुए बोला- भाभी, क्या आप मेरे साथ डांस करोगी?मीना हिचकिचाई, वो मेरे साथ में असहज हो रही थी!तभी अजय ने बोला- हाँ हाँ क्यों नहीं!और उसने मीना को मुझे सौंप दिया.

हमने कई बार मोहल्ले की आंटियों के बारे में सोच सोच कर साथ में मुठ भी मारी है.

मगर मैं कहां कुछ सुनने वाला था … किस करता रहा और लंड पेलने की कोशिश करता रहा. अब मैंने अपने मस्तिष्क में टाइम ट्रैवल मशीन बनाने की ठान ली ताकि पास्ट में जाकर मैं अपनी मम्मा सौम्या को चोद सकूं और सौम्या की जिंदगी में खुशियां भर सकूं. मैं कभी उनके मम्मे को सहलाता, तो कभी मसल देता और मुँह से भी कभी प्यार से चूसता जाता, तो कभी हल्के से काट लेता, जिससे उनकी कभी तेज स्वर में सिसकारियां निकल जातीं, तो कभी आह निकल जाती.

डॉक्टर ने रिया को उल्टा सोने को कहा और कहा कि अपनी टी-शर्ट ऊपर कर दो. मैं उनकी चुत को चूसने और चाटने लगा, साथ में चुत में 2 उंगली डाल कर लंड के लिए जगह बनाने लगा.

हल्की हल्की कंपकंपाती सी आवाज में बोलने लगीं- ये बहुत मोटा है और मस्त है. नीतू … तुम्हें कब से यहां पर बाल आने शुरू हुए?”अंकल के इस सवाल पर मैं बहुत शर्मा गयी- मैं नहीं बताऊंगी, अंकल … तंग मत करो … आप अपनी रिसर्च छोड़ कर यह क्या सवाल पूछ रहे हो?ओह सॉरी, इतना सुंदर दृश्य देख कर खुद पर कंट्रोल नहीं रहा, अब नहीं पूछूँगा. यह मैंने मजाक के लहजे में कहा, जिस पर भाभी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और रोने लगी.

काजल राघवानी की सेक्सी व्हिडिओ

जिन दोस्तों को नहीं पता हो, उन्हें मैं बता दूं कि ज्यादातर कैफे एक ऐसी जगह होती है … जहां पर छोटे-छोटे केबिन बने होते हैं, जैसे कि हमारे साइबर कैफे में केबिन बने होते हैं.

मैं बहुत असमंजस की स्थिति में था और चुपचाप बैठ के मन ही मन बस भाभी को गाली दे रहा था और सोच रहा था कितना अच्छा मौका था और ये अपनी सहेली को लेकर आ गयी।खैर रश्मि से मेरा परिचय कराते हुए भाभी ने कहा- रश्मि तुमसे मिलने के लिए आई है. मेरे दोस्त मुझे बाबा जी कह कर बुलाते हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि मुझमें सेक्स का ज्ञान बहुत भरा हुआ है. मैंने भी उनका इशारा समझ कर उन्हें इशारों से ही बता दिया कि अब आगे वैसा कुछ नहीं करूँगा.

उसको नंगा देख कर मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे जन्नत से कोई हूर उतर आई हो. जब वो पूरी तरह गर्म हो गयी, तो मैं अपना एक हाथ उसके चूचे पे रख कर सहलाने लगा. 2 की सेक्सीमैं भी चंचल स्वाभाव की हूँ और वह भी चंचल स्वाभाव की।हंसी मजाक, गन्दी बातें, गंदे चुटकुले उसे भी खूब अच्छे लगते हैं और मुझे भी!न मैं उससे कम हूँ और न वह मुझसे कम!एक दिन मजाक मजाक में उसने कह दिया- रीमा, तू बुर चोदी आजकल बहुत उड़ रही है।मैंने कहा- उड़ तो तू रही है भोसड़ी वाली रूपाली मौसी!वह बोली- अच्छा तू मुझसे जबान लड़ा रही है.

आशीष ने अपना हाथ समीज के अन्दर से सीधे मेरी नाभि से होते हुए मेरे सीने में मेरे मम्मों पर रख दिया और मेरे मम्मों को दबाने लगा. हम जब भी मिलेंगे तब पति पत्नी की तरह एक दूसरे को प्यार और खुशियां देते रहेंगेसरिता बहुत खुश हो गयी थी, उसने मेरे होंठों को चूस लिया.

मैंने उसको अलग ले जाकर पूछा तो उसने बताया कि वह इलाज कराने को तैयार है. मैंने सुबह अपने घर बोल दिया कि मैं चाचा जी के घर स्टडी करने जा रहा हूं. पहली बार मेरी गांड में लंड गया था, मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लग रहा था.

काफी देर सन्नाटा सा रहा; फिर सलोनी बोली- राहुल जो तुम कह रहे हो वो सच है या सिर्फ मेरा दिल रखने को बोल रहे हो?”मैं बोला- मैंने जो भी बोला वो बिल्कुल सत्य है. मैं दूध पी रहा था, तब वो अपनी चूत देख कर बोली- बाबू सूज गई है … देखो ना!ये बोल कर उसने मेरे सामने अपनी नन्हीं सी चूत रख दी. कार में घर जाते वक्त या उसके घर में कुछ वक्त रुकने के समय वो जब तब मुझे टच कर देती थी.

”मेरा जवाब सुनकर वह बहुत खुश हुए, कल की तरह उन्होंने मुझे एक बड़ी सी कैडबरी दी- नीतू एक बात पूछूँ, तुम्हें बुरा तो नहीं लगेगा?अंकल की बातों से ही मुझे लगा कि कुछ नॉटी सवाल पूछेंगे.

जबकि रिम्पी के दिमाग में ये सब बातें नहीं आती थीं कि मैं उसके घर में इतनी देर से क्यों बैठी हूँ. मैं उम्मीद करता हूँ कि मेरी बाकी कहानियों के जैसे ही आप सब इस कहानी को भी अपना प्यार देंगे.

मेरा लंड भी अब अंडरवियर के अन्दर नहीं रहने वाला था … इसलिए मैंने लंड को बिल्कुल आज़ाद कर दिया और सीधा उनके जिस्म पर सटाकर हिलाने लगा. उधर फोल्डिंग वाली चारपाई रखी रहती थी और ऊंची छत होने के कारण चारपाई पर कौन लेटा है, ये आसानी से नहीं दिखता था. उसने ज़ोर से अपने मुँह पे हाथ रख कर खुद का मुँह दबा लिया ताकि आवाज़ बाहर ना जाए.

सी … आह … ह … ह … ह!”अब तक तो मेरी उंगली ने वापसी का सफर शुरू कर दिया था. मुझे पेशाब लगी थी तो मैं रूम से बाहर चला गया, सुसु करके वापस आ गया. ताई हंस कर बोलीं- क्यों ज्यादा गर्मी चढ़ गई थी क्या?ताऊ बोले- हां … अब जल्दी से आ जा.

हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी ब्लाउज का गला घटा होने से उसके दोनों स्तनों के बीच की दरार भी बड़ी मस्त दिख रही थी. मैं धीरे-धीरे से लंड को आगे-पीछे करने लगा और वह भी मेरा साथ देने लगी.

सेक्सी वीडियो चाहिए ब्लूटूथ

चाची कुछ ही देर में अपनी गांड उठा कर मुझसे कहने लगीं कि हाँ और ज़ोर से … मैं आज तुम्हारे लंड आह्ह्हह्ह को अपने अन्दर लेकर बहुत खुश हूँ … हाँ आईईई ईईइ … और ज़ोर से चोदो मुझे उह्ह्हह्ह माँ हाँ … और थोड़ा और अन्दर डालो. मैंने उसकी चूत के दाने को जैसे ही सहलाना शुरू किया, वैसे ही निशा की सांसें तेज होने लगीं. मेरी रगड़ाई में कभी लंड उसकी चूत पर जोर से लग जाता, तो वो कराहने लगती.

उधर नीचे से पिंकी भाभी ने अपनी चुत पर लंड का स्पर्श महसूस किया तो उसने अपनी टांगों को खोल कर लंड को रास्ता दे दिया. मैंने उससे पूछा- क्या पूरा दिन आरती की चूत चोद कर तुम्हारा दिल नहीं भरा?वो बोला- नहीं यार, यह लंड साला चुदाई के बाद भी खड़ा रहता है. ऐश्वर्या राय बच्चन की सेक्सी फोटोभाभी ने मुझे सहारा दिया और मेरे एक हाथ को अपने गले में डाल कर मुझे बेड तक लेकर आईं.

उसके दोनों हाथ अब अपने आप ही मेरी कमर पर से रेंगते हुए मेरी पीठ पर आ गये थे और उसने अपने दोनों हाथों से मेरी पीठ को सहलाते हुए मेरी जीभ को हल्का-हल्का चूसना शुरू कर दिया.

तो इस बार मैं जिस लोहे के ड्रम से चढ़ रहा था तो उसके ढक्कन से आवाज होने से वो दोनों चौंक गए औऱ कुछ देर के लिए रुक गए. माँ बेटी दोनों नंगी नंगी जब एक ही लण्ड मिलकर चाटती हैं तो उसका मज़ा कुछ और ही होता है।अम्मी बड़े सेक्सी मूड में थीं तो बोली- बुर चोदी रेहाना, तेरी माँ का भोसड़ा … आज मुझे तेरे साथ लण्ड चाटने में बड़ा मज़ा आ रहा है। मुझे लगता है कि मेरी जवानी लौट आयी है।मैंने कहा- हाय मेरी हरामजादी रुखसार … तू तो अभी मुझसे ज्यादा जवान है.

सोनू बोली- ठीक से चल … मरवायेगी क्या साली … कोई देखेगा तो क्या कहेगा. उसने मेरी टी-शर्ट उतारी और मेरी बनियान उतारते हुए बोली- इस सर्दी में मेरे कपड़े तो सारे उतार दिए, खुद पहने खड़े हो. अब भाई मुझ पर कुछ ज़्यादा ही मेहरबान हो गया तो मुझे मस्त करके चोदा करता था और बोलता था- पुन्नी, तुमने सच में मस्त चूत दिलवाई है.

जब मुझे आपकी चूत चुदाई करने मिलती रहेगी, तो मैं आपको रुसवा क्यों करूंगा!मम्मी बोलीं- हां वो तो है.

प्लीज़ उठा लो न फिर से!मैंने उसे फिर से उठा लिया और कहा- बहुत नटखट हो तुम. फिर मैंने कहा- बताइए पम्मी आंटी, आपको मुझसे क्या काम था?उन्होंने कहा- तुम 10 मिनट बैठो, मैं झाड़ू लगाना खत्म कर लेती हूं. उसी तरह मेरी हालत थी कि जब कभी भी मैं अपनी बीवी को ओरल सेक्स करने के लिये कहता, तो वो मना कर देती.

सेक्सी ब्लू फिल्म खपाखपउसको दर्द होने लगा तो मैंने तुरंत उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया. भैया ने आशा के भाभी के बालों को पकड़ा और अपने लंड की गोलाई पर भाभी के होंठों को फिराने लगे.

बंगाली सेक्सी वीडियो जंगली

और एक बार फिर से मुझे नीचे पटक के खुद से मेरी चुदाई करना शुरु कर दी. माँ बेटी दोनों नंगी नंगी जब एक ही लण्ड मिलकर चाटती हैं तो उसका मज़ा कुछ और ही होता है।अम्मी बड़े सेक्सी मूड में थीं तो बोली- बुर चोदी रेहाना, तेरी माँ का भोसड़ा … आज मुझे तेरे साथ लण्ड चाटने में बड़ा मज़ा आ रहा है। मुझे लगता है कि मेरी जवानी लौट आयी है।मैंने कहा- हाय मेरी हरामजादी रुखसार … तू तो अभी मुझसे ज्यादा जवान है. मम्मा मुझे देख कर बोलीं- क्या हुआ अंकित, इतना बेचैन क्यों है?मैं अपनी मम्मा सौम्या को क्या बताता कि मेरा उनको बुरी तरह से चोदने को मन हो रहा है.

आशीष बोला- बहुत ज्यादा मत एक्साइटेड हो बंध्या … अभी तेरी सील टूटेगी. वो बोला- बंध्या साली तू बहुत चुदक्कड़ है … मुझे ऐसी ही बीवी चाहिए थी, पर तेरी चुत तो बहुत गहरी है … मेरा लंड पूरा घुसने के बाद भी अन्दर पूरा नहीं पहुंच पा रहा. तब तक अम्मी ने मेरी मैक्सी उतार कर फेंक दी तो मैं भी बहनचोद पूरी तरह नंगी हो गयी।मुझे नंगी देख कर लण्ड साला और सख़्त हो गया।मैंने घूम कर देखा तो अम्मी जान भी एकदम नंगी हो चुकीं थीं। उनकी मस्तानी चूत और बड़े बड़े दूध देखकर मैं तो फूली नहीं समा रही थी।मुझे अम्मी जान की खूबसूरती पर गुमान होने लगा।फिर हम दोनों माँ बेटी नंगी नंगी अंकल का लण्ड चाटने लगीं और एक दूसरे को लण्ड का टोपा भी चटाने लगीं.

आह … सोनम बेटा, शाबाश … बस ऐसे ही चाटती रहो और फिर चूसो इसे!” अंकल जी खुश होकर बोले. नीतू तुम्हारी जांघों के बीच में हाथ रखा था, तब मुझे महसूस हुआ था, इसलिए पूछ रहा हूँ, तुम्हारी पैंटी गीली हो गई है क्या?”अंकल की बेशर्मी की हद हो गई थी. वो मेरे ऊपर झुक गई, उसने अपने हाथों से अपना एक दूध पकड़ कर निप्पल मेरे मुँह में दे दिया और कहा- लो मेरा दूध पियो.

एक दिन की बात है … शूटिंग के बीच में आन्या को डायरेक्टर ने अपने रूम में बुलाया, पर तभी सैट की लाइट चली गई. ”अगले पांच दस मिनट में नितिन ने मेरे पूरे बदन के बाल साफ करके मुझे पूरा चिकना बना दिया, मुझे बहुत हल्का सा लग रहा था.

… भईया इसको बाहर रुला के ही भेजना आज कसम है आपको …उनकी ऐसी बात सुनकर मुझमें और जोश आ गया.

भाभी चौंक गईं और मेरे हाथ ब्लाउज से बाहर निकालने की कोशिश करने लगीं. सेक्सी सॉन्ग सेक्सी सॉन्ग सेक्सी सॉन्गलेकिन दिल में एक उम्मीद भी थी क्योंकि पहली बात वो मेरी मां थीं, तो ज्यादा से ज्यादा क्या होता … कुछ उल्टा सीधा सुना देतीं, मार देतीं या कुछ दिन बोलना और खाना देना बन्द कर देतीं. डिंपल चौधरी की सेक्सीमैंने लंड को नीरजा की चूत पर लगाया और पूछा हां नीरजा बोलो … डाल दूँ?वो बोली- अब डालो भी ना. कोई दो-तीन मिनट बाद वो चुपचाप मेरे पास आयी और कटोरी देते हुए बोली- लो दूध.

रिम्पी के मम्मी पापा दोनों लोग जॉब करते थे इसलिए वो बस अपने भाई से बचती थी.

उसने मेरे शर्ट के बटन तोड़ डाले, वो अपनी एक्साइटमेन्ट को हैंडल नहीं कर पा रही थी।उसने मेरी गर्दन और कंधे पे काटना शुरू कर दिया. उसने बहुत ज़ोर से मुझे पकड़ा और अपने नाख़ून ज़ोर से मेरी पीठ पे गड़ा दिए. मैंने कहा- मेरा पहली बार है, इसलिए मैं तुमसे बिल्कुल अकेले में मिलना चाह रहा हूँ.

मैंने कहा- अरे वाह … तो फिर शांत कैसे करती हो खुद को?वह बोली- मैं तो उंगली करके शांत हो जाती हूँ. मैं उसके हर प्रोजेक्ट को सबसे पहले करके दे देता, ये देख कर उसको अच्छा लगता. अब वे दोनों एक दूसरे के होंठों को फिर से चूसने चूमने लगे; दोनों ही अपनी अपनी लाज शर्म खो चुके थे.

इंसान और जानवरों का सेक्सी

फिर उसने मुझे वहीं बस स्टैंड के पास सवेरा होटल के नीचे पहुंचा दिया, वहीं पर मेरी सहेली नीलू मिल गई. इस लहंगा गिरने वाले हादसे पर क्षण भर के लिए वसुंधरा ने अपनी आँखें खोली और मेरी आँखें अपने तन के निचले भाग (जोकि करीब-करीब निर्वस्त्र था) पर जमी पाकर फ़ौरन दोबारा बंद कर ली और जल्दी से मेरी तरफ़ पीठ कर ली. बुर के निचले छेद वाला हिस्से से थोड़ा थोड़ा हल्का सफेद पानी निकल रहा था.

मैंने ठान लिया था कि कॉलेज में एक सुन्दर लड़की को ही अपनी गर्लफ्रेंड बनाऊंगा.

मैंने उन्हें समझाया कि सेक्स के दौरान शर्म, झिझक नहीं करते, वरना आप सेक्स का पूरा मज़ा नहीं ले पाओगी.

बोली- क्या सिर्फ देखते ही रहोगे या कुछ करोगे भी?फिर अपने मुख को उसकी चूत के पास ले जाकर मैंने अपनी जीभ से उसकी चूत को चाटना शुरू कर दिया और जीभ से उसकी चूत को चोदने लगा।वो अभी भी शरमा रही थी लेकिन मैं पागल हुआ जा रहा था। एक भरी-पूरी जवान लड़की मेरे सामने नंगी खड़ी थी। फिर ऊपर आकर मैंने उसके बोबों को चूसना शुरू कर दिया। उसे भी मजा आने लगा. रोहित मस्ती में सिसकारियाँ ले रहा था ‘स्स्स … आह्ह … चाची … उफ्फ … चूसो इसे!’ उसके मुंह से कुछ इस तरह के शब्द निकल रहे थे. मम्मी और बेटी का सेक्सी वीडियोआरती को चार बार चोदा है इसने आज … मगर फिर भी दिल नहीं भरा, तुम्हारी चूत के पीछे पड़ा है.

फाड़ दो मेरी चूत को बहुत परेशान कर रही थी … आज निकाल दो इसकी सारी अकड़. अंदर पहुँचा तो देखा भाभी की बहुत ही करीबी फ्रेंड रश्मि साथ में बैठी हुई थी. आप अपने सुझाव व जवाब मुझे मेल या फेसबुक पर इसी आईडी पर दे सकते हैं.

पापा के गुजर जाने के बाद मम्मा को उनकी जगह बैंक में नौकरी मिल गई थी. आज की चुदाई केवल अपने बदले हुए साथी के साथ अर्थात एक रात के लिए बदले हुए पति के साथ कीजिए। हम भी एक रात के लिए बदली हुई बीवी को चोद लेते हैं। सामूहिक याराना अगली बार करेंगे।अतः सबकी सहमति के अनुसार आज हमने अलग-अलग ही चुदाई करने का फैसला किया इस तरह मैं वीणा को अपनी गोद में उठाकर दूसरे कमरे अर्थात विक्रम और वीणा के कमरे में ले गया.

फिर एक दिन ऐसा भी आ गया कि मुझे मेरी बहन की चुदाई करने का मौका मिल गया.

उस दिन के बाद भी हमें कई मौके मिले जब मेरी चूत की कुटाई हुई, एक दो बार तो सुबह सवेरे मोर्निंग वाक पर पेड़ से टिक कर चुदी मैं!कहानी जारी रहेगी. हालांकि वसुंधरा की पीठ थी मेरी ओर लेकिन उसे इस बात का बाखूबी अंदाज़ा था कि मेरे ज़ेहन पर क्या गुज़र रही थी. देसी गर्लफ्रेंड की Xxx कहानी मेरे पड़ोस में रहने वाली एक लड़की की है.

भैया और बहन की सेक्सी फिर उसके बाद मैंने अपना पूरा बोझ जूली के जिस्म के ऊपर डाल दिया और उसके होंठों को चूसने लगा. मैंने अस्पताल पहुंच कर रिया को सहारा देकर नीचे उतारा और कहा- तुम यहीं रुको … मैं कार पार्क करके आता हूं.

वैसे हमारे बीच बातें तो होती थीं … लेकिन मैंने कभी उससे कभी सेक्सी बातें नहीं की थीं. मैंने उसे ज़ोर ज़ोर से चोदना चालू किया और मैं उसकी चुत में झड़ गया. फांकों के बगल का क्षेत्र भी सूज गया था … उनकी काफी अच्छे से चुदाई हुई थी.

सेक्सी फिल्में नंगी सेक्सी

एक दिन जब दीदी घर से बाहर गयी हुई थी तो हमने मौके का फायदा उठाया और अपनी हवस को पूरी करने की सोची. हालांकि कुछ लोगों को यह बेहूदा लगे मगर सबकी अपनी-अपनी पसंद होती है. ऐसे ही बातों बातों में मैंने उससे कह दिया- अगर आपको कोई काम हो, तो बता देना.

उनकी फुसफुसाहट भरी बातें भी सुनी जिसमें मेरा बाप कह रहा था- आख़िर धीरज मेरा बेटा है, उसे मैं किसी चीज़ की कमी नहीं होने दूँगा. मेरी उत्तेजना चरम पर थी और मैं बिना वक्त खोये लण्ड चाह रही थी अपनी चूत में.

पर वे रूके ही नहीं, उन्होंने मेरी कमर पकड़ कर अपना पूरा पेल ही दिया.

सवेरे वे जाने लगे, अपनी पैंट पहन ही रहे थे कि मैंने कहा- तबियत हो, तो एक बार फिर हो जाए. उसके बाद एलेक्स अब मेरे तने हुए चूचों के पास आ गया और जॉन मेरी चूत के पास चला गया. बातों बातों में उसने बताया कि अगले दिन मेरा जन्मदिन है, पर मैं किसके साथ मनाऊंगी … हस्बैंड तो ड्यूटी पे है.

अ… अ…अ की लंबी सीत्कार के साथ झड़ गई और पेट के बल ही बेड पर पस्त हो गई।मैं बोला- मेरा अब तक नहीं हुआ है. एक दिन हमारे स्कूल में नवरात्रि के दिनों में गरबा का प्रोग्राम रखा गया. नफीसा ने कराहते हुए कहा- उम्म्ह… अहह… हय… याह… मर गई … बहुत दर्द हो रहा है जुल्फी.

मैंने उसकी चूत के दाने को जैसे ही सहलाना शुरू किया, वैसे ही निशा की सांसें तेज होने लगीं.

हिंदी बोलने वाली बीएफ सेक्सी: डॉक्टर ने रिया को उल्टा सोने को कहा और कहा कि अपनी टी-शर्ट ऊपर कर दो. मैं आशीष में खो गई थी, मेरी सांसें और सीना इतना तेज गति से चलने लगे कि मैं बता नहीं सकती.

फिर जब कुछ देर वह मेरे लंड पर बैठ कर चुदी तो मेरा मन उसको खुद ही चोदने को हुआ और मैं उठ कर उसके ऊपर आ गया. अगर वह दोबारा मिली ही नहीं तो फिर उसकी गांड मारना तो दूर मैं तो उसकी चूत के दर्शन भी नहीं कर सकता था. मैंने उसको बताया कि जिस प्रकार आदमी का वीर्य छूटता है उसी प्रकार लेडी का भी वीर्य छूटता है.

मैं आईने के सामने खड़ी हुई, घर में मैं अकेली ही थी, इसलिए किसी से शर्माने की कोई बात ही नहीं थी.

अब मैंने उनकी कमर को पकड़ कर उनके कूल्हे ऊपर करके उन्हें डॉगी पोजीशन में कर दिया. आज भी मैंने अपने लंड की मुट्ठ मारनी पड़ी और सो गया। फिर जब तक 2-3 दिन वह घर पर रही तो यही सब चलता रहा पर इससे आगे कुछ नहीं हो पाया. मैंने अपना चेहरा ठीक उनके चेहरे के सामने करके और अपना हाथ उनके मम्मे से हटा कर उनकी चूत पर रखते हुए कहा.