बीएफ हिंदी में दो

छवि स्रोत,सेक्सी विडिओ मराठी सेक्सी विडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

गर्ल सेक्सी स्कूल: बीएफ हिंदी में दो, आप सभी जानते हैं कि आईटी कंपनी इंटरनेट बिना कुछ नहीं हो सकता है तो बस हम सब ऐसे ही बैठे गपशप कर रहे थे.

सेक्सी पोर्न वीडियो चोदा चोदी

इतनी ज्यादा तो मैं पीता नहीं हूँ लेकिन क्या पता कब जरूरत पड़ जाए, तो मैंने एक्स्ट्रा ही खरीद लीं और साथ में चखना और सिगरेट के 2 पैकेट खरीद लिए. चोदा चोदी चुदाई सेक्सी‘कोमल, मैं नितिन … पहचाना!’उधर से 2 मिनट बाद जवाब आया- हां बिल्कुल पहचाना.

वो कमरे का दरवाजा बंद करके बिस्तर पर आ गईं और बोलीं- तनु लो दूध पी लो. आदिवासी लड़कियों की सेक्सी फिल्महॉट गर्ल ऐस फक कहानी में पढ़ें कि लड़की को सेक्स के लिए अपना साथी मनपसन्द मिल जाय तो वह अपना सर्वस्व अपने प्रेमी पर न्यौछावर कर देती है.

मेरी भाभी लंड के लिए इतना व्याकुल हो जाएंगी, मुझे जरा सा भी अहसास नहीं था.बीएफ हिंदी में दो: ललिता भाभी की चूत ने रसधारा छोड़ दी फच्च फच्च करके लंड अन्दर बाहर करने लगा.

जैसे जैसे मेरे धक्के बढ़ने लगे, तो मेरा लंड एक एक इंच आगे बढ़ते हुए अन्दर घुसने लगा.और मुझे ये भी यक़ीन है कि मैं जो तुमसे कहने वाली हूँ तुम उसका भी मान रखोगे.

कमर सेक्सी - बीएफ हिंदी में दो

शेखर को लगा था कि अब शायद धारा उसके लंड को अपने मुँह में पूरा डाल लेगी और उसे जन्नत का मज़ा देगी.मैं एक हाथ से उनके चूचे को दबा रहा था और एक हाथ से उनकी चूत में उंगली कर रहा था.

एक मिनट तक सन्नाटा छाया रहा, मुझे समझ ही नहीं आ रहा था कि क्या कहूँ. बीएफ हिंदी में दो मैंने भी उसके सामने अपनी शर्ट के सारे बटन खोल दिए और अपनी शर्ट जैसे ही खोली, मेरे बड़े और गीले दूध छलक कर बाहर आ गए.

देविका मेरे पास खड़े होकर मेरे अधमुरझाए और वीर्य से लबालब लंड को देख रही थी.

बीएफ हिंदी में दो?

मैं जानता हूं कि उसके पेट में जो बच्चा है, वो मेरा नहीं है लेकिन मैं कभी उसे ये सब नहीं बताऊंगा कि मुझे सब पता है. मैंने कहा- बहन मेरा पानी निकलने वाला है, किधर लेगी?बहन ने कहा- तू मेरी गांड में ही अपना पानी निकाल दे. जब भैया की शादी हुई तो मैंने सोचा क्यों ना भैया की सुहागरात देखी जाए.

मैंने कहा- और रात को यहीं सो भी जाऊं न?भाभी ने आंख दबाई और कहा- सोने के लिए नहीं बुला रही हूँ. तब सुची ने हिम्मत करते हुए कहा- अभी तो हम छुपम छुपाई खेलने वाले हैं, तुम भी खेल लो. संयोग से उस समय बिजली नहीं आ रही थी, जिसके चलते मेरे भाई को शराब के नशे के कारण ध्यान नहीं रहा कि बिस्तर पर कौन लेटा है और वो कपड़े उतार कर मेरे पास सो गए.

मेरी शादी के 3 साल हो गए हैं लेकिन अभी तक मुझे बच्चों का सुख नसीब नहीं हुआ, जिसके चलते मुझे सास व ननद से बहुत ताने मिलते थे. मैं अपनी घोड़ी बनी मॉम की सवारी करने लगा और उसे घोड़ी के जैसे चोदने लगा. करीबी 10 बजे तक मुझे बेडरूम में किसी भी तरह की कोई हलचल नहीं नजर आई.

आज तक मैंने जिसे भी चोदा है, वो पूरा मजा लेकर चरमसीमा पर अवश्य पहुंचती है. दोस्तो, यह मेरी और मेरी सगी मां की एक सच्ची सेक्स कहानी है जिसे मैं अपने अन्तर्वासना के एक दोस्त के माध्यम से आपके पास पहुंचा रहा हूं.

कुछ देर चोदने के बाद मैं रुका और उसके कान में बोला- क्या मैं तुम्हारी गांड मार सकता हूं?रूना- हां कर सकते हो … लेकिन मैंने कभी वहां से किया नहीं है.

सोफे के ऊपर से खड़ा होकर मैं उसको बेल्ट के सहारे से खींचने लगा तो वो भी किसी कुतिया की तरह मेरे पीछे पीछे चलने लगी और मेरे इशारे से वो बिस्तर पर चढ़ कर कुतिया बन कर झुक गई.

इस प्रेगनेंसी सेक्स कहानी में पढ़ें कि दो सगी बहनें गर्भ धारण करने के लिए मुझसे कैसे चुदी. फिर मैंने जल्दी-जल्दी अपना काम खत्म किया और नहा धोकर उसके घर चला गया. उसके गोरे गोरे उभरे हुए स्तन और उसके ऊपर भूरे रंग के खड़े निपल्स देखकर मेरे मुँह से तो पानी टपकने लगा था.

मैंने ललिता को उठाकर बिस्तर के किनारे लिटा दिया और उसकी एक टांग अपने कंधे पर रख कर चोदने लगा. निधि का फिगर 36 बी 30 40 का था।वो मेरे लन्ड को पकड़ कर अपनी चूत में घुसाने लगी. मैंने कहा- साले दूसरा लंड किसका लाएगा? क्या तेरे दिमाग में अपने किसी दोस्त से चुदवाने का विचार तो नहीं चल रहा है?वो हंस दिया और बोला- नहीं दीदी अभी तक तो सिर्फ सोचा है.

उसके चेहरे पर मुस्कान थी।कुछ देर बाद वो उठकर बैठ गयी और मेरे कंधे पर सर रखकर सो गई.

कुछ देर चूत की फांकों में लंड के सुपारे को घिसा और भाभी की आंखों से आंखें मिलाईं. दोनों हाथ से गांड फैला कर मेरे लौड़े से चुदवा रही रेशमा के भरे हुए बोबे भी आगे पीछे हिल रहे थे. मैं भी उसके चूतड़ों को दोनों हाथों से फैलाकर जोर जोर से मेरा लौड़ा उसकी फूल सी मखमली गांड में पेल रहा था.

वो भाभी पर चिल्ला कर बोलीं- इतना वक़्त लगता है क्या?भाभी चुपचाप चली गईं. दरअसल जो सर मुझे पढ़ाते थे, वो बाक़ी की ब्रांचों में भी पढ़ाने जाते थे. हमने लगभग 45 मिनट तक चुदायी की। फिर हम दोनों ने लंबी नींद ली।मैं शाम के 5 बजे उठा तो देखा कि मैं अकेला सो रहा हूं.

मैं उत्तर प्रदेश गोरखपुर का रहते वाला हूं और अन्तवार्सना का सन 2010 से नियमित पाठक हूं.

मैं- तू चिंता क्यों कर रही है डार्लिंग … तुझे तो मैं बहुत प्यार से चोदूंगा. मैंने कहा- तुम पागल हो क्या … मुझे पहले क्यों नहीं बताया?वो बोली- साली कुतिया … अगर पहले बता देती, तो क्या तू मेरे साथ आती.

बीएफ हिंदी में दो फर्स्ट सेक्स Xxx अनुभव के बाद भाभी आंसुओं से भरी आंखों से भैया को देखती रहीं. मैंने वहां कई सारे अकाउंट्स पर चैट की, कई फर्जी निकले, कई फट्टू निकले.

बीएफ हिंदी में दो इस पर भैया बोले- कैसे, मेरी जान तो तुम हो, तुमको कैसे जान देने दूंगा. अब वो अपनी कमर को आगे पीछे करती हुई हिलाने लगी और लंड उसकी चूत में अन्दर बाहर होने लगा.

रूपा इसी साल बारहवीं पास करके हमारे शहर में अपनी कॉलेज की पढ़ाई करने आई थी और एक किराए के रूम में अपनी सहेलियों के साथ रहती थी.

जबरदस्ती सेक्सी वीडियो दिखाइए

मैंने अपने लंड का सुपारा चूत की दरार में रख दिया और उसकी कमर को दोनों हाथों से कसकर पकड़ रखा था. तो बहन ने कहा- अगर आपको मेरी उम्र की लड़की मिल जाएगी तो आप क्या करोगे?मैंने कहा- उसमें क्या करना … फिर तो और भी ज्यादा मज़ा आ जाएगा. कुछ देर ऐसे ही उसका मुँह चोदने के बाद मैंने लौड़ा बाहर निकाल लिया और दोनों पैर ऊपर करके सोफ़े पर रख दिए.

रेशमा इस वार को बर्दाश्त नहीं कर सकी और उसने भी गालियां निकालना शुरू कर दीं. वो मुझे देखे जा रही थी और उसके चेहरे पर एक सवालिया निशान था कि पता नहीं अब मैं उसके साथ क्या करने वाला हूं. मुझे ये सेक्स कहानी लिखने में बहुत ज्यादा समय लगा, क्योंकि मेरे पास इतना वक्त नहीं रहता.

फ्रेंड्स, मैं विराज आपको अपनी पर्सनल सेकेट्री बन चुकी रेशमा को मुंबई लाकर उसकी गांड चुदाई की कहानी सुना रहा था.

कोई पटाखा किस्म की लौंडिया खुद से दारू पीने की बात कहे तो समझो मामला लक्ष्य के नजदीक होता है. मेरा लंड अब अंदर ही हिलने लगा।भाभी बोली- ये तंबू क्यों लगा दिया?मैंने कहा- ये आपकी ही देन है।उन्होंने कहा- अच्छा!और हंस दी. फिर सर सोनी से मुखातिब हुए- सोनी, ये राजीव है, जो तुम्हारे पाठ्यक्रम में है, वही सब ये भी सीख रहा है.

मैंने हामी भर दी और अपने कपड़े पहनने के बाद मास्टर की चुम्मी लेकर वहां से घर चली आयी. कुछ 30 सेकंड तक धारा शेखर के सीने पे पड़ी हुई रही; फिर उसने एक बार शेखर के होठों को ज़ोर से चूसा और अपने चूत से निकले रस का स्वाद शेखर के होठों से लेते हुए कातिल अदा से मुस्कुराने लगी. आंटी को कसम देकर उनका देखना, उनके प्रति मेरा आकर्षण सभी कुछ बातें बता दीं और दुबारा से वादा लिया कि वो किसी से कुछ नहीं कहेंगी.

मौसी ने मादक आवाज में कहा- आहह … खा जा इन्हें राहुल … आज पूरा खा जा. इस बार उनकी रफ्तार शुरू से ही काफी तेज थी और वो दनादन मेरी चुदाई शुरू करने लगे थे.

मैंने कहा- क्या मतलब?वो बोली- मुझे भी जरूरत है जीजू … बहुत दिन से मैं भी प्यासी हूँ. मेरी कमर को दोनों हाथ से थाम लिया और लंड मेरी गांड की तरफ से चूत में डाल कर जोर जोर से चोदने लगे. काफी देर मैं उसके नंगे बदन को देखता रहा, फिर उससे पीछे मुड़ने के लिए बोला.

मैंने देखा तो पूछा- क्या हुआ, मुस्कुरा क्यों रही हो?उसने कहा- कुछ नहीं बस यूं ही.

मेघना वैसे भी काफी गोरी चिकनी है और बॉस बिल्कुल काले रंग का सांड जैसा था. मैं दोपहर का खाना खाकर भाभी के सपने देखता हुआ लंड हिलाने लगा और सो गया. जल्द ही मेरा शक और भी मजबूत हो गया क्योंकि एक दिन सुबह सुबह मैं अपनी नाइट ड्यूटी करके वापस आया था और बिस्तर पर लेटा हुआ था.

तभी मैं अकड़ गया और मेरी माया मॉम को अपने मुँह में जैली आती सी महसूस हुई. मैंने उसकी गांड फाड़ने के बाद उसे बिस्तर पर छोड़ा और बाथरूम जाकर लंड धोकर आ गया.

यह कहानी मेरे सच्चे प्यार की है जिसे पाने के लिए मुझे वो सब करना पड़ा जो शायद कोई भी लड़का नहीं कर सकता. पहले तो किरण मेरे साथ ज्यादा बात नहीं करती थी, फिर वो धीरे धीरे मुझसे खुल कर बात करने लगी. बार बार मैं उससे नजरें बचा कर उसे ही देखने की कोशिश करने में लगा था.

देसी मारवाडी सेक्सी व्हिडिओ

मैंने कहा- साली फटी हुई चूत में लंड लिया है तूने … दुबारा चूत कैसे फट सकती है.

उधर उसकी कसी हुई गांड को मैं भी ज्यादा बर्दाश्त नहीं कर पाया और झड़ गया. अचानक से ससुर जी रसोई में आए और पीछे से मुझे जकड़ लिया और मेरे गाउन को कमर तक उठा लिया. उसने हम दोनों के लौड़े पर जोर जोर से उछलना चालू कर दिया- आअह उहह अम्म्मीईई आआ आहह फाड़ो जोर जोर से मेरा भोसड़ा मादरचोदो, रंडी बना दो मुझे उस सुअर के सामने, देख सलमान कैसे मैं आज दो-दो लौड़ों से चुद रही हूँ मादरचोद … हहह उफ्फ!रेशमा की चूत इतना पानी बहा रही थी कि पाटिल जी के लौड़े की चुदाई से उसकी भोसड़ी से पच-पच की आवाजें निकल रही थीं.

बस फिर क्या … मैंने उसके कमीज के ऊपर से ही एक दूध को पकड़ कर मसल दिया. न्यूली मैरिड सेक्स कहानी मेरे पड़ोस में शादी के बाद आई दुल्हन की चूत चुदाई की है. मोनालिसा सेक्सी भोजपुरीमॉम बुरी तरह से छटपटा रही थीं लेकिन मैं जोरदार तरीके से लंड पेलता रहा.

मैं जल्दी से अपने कमरे में आई और अपनी एक रात वाली सेक्सी नाइटी निकाल कर पहन ली. अब आगे Xxx गांड का मजा:थोड़ी देर ऐसे ही मैं आंटी के ऊपर लेटा रहा, फिर उठकर बगल में लेट गया.

मैं उसे लेकर बेड पर आ गया और उसके मुलायम मम्मों को उसके कपड़ों के ऊपर से ही दबाने लगा. जब लड़की चुदाई के समय गालियां देती है तो चुदाई का मजा दुगना बढ़ जाता है. चाचा का वीर्य पीकर मैं बहुत खुश था लेकिन मुझे उनकी छाती, बगलों और होंठों को भी चूसना था.

हुआ यूं कि शुक्रवार का दिन था और अगले दो दिन कंपनी का काम बंद रहने वाला था. उसकी बुर का चीरा लगभग एक इंच का था, जबकि मेरे लंड की मोटाई ढाई इंच थी. उसने जींस और टॉप पहना था जिसकी वजह से मेरा हाथ आगे नहीं जा पा रहा था.

यहां तक तो सब ठीक था किंतु मेरे बगल वाले फ्लैट में एक महाशय जिनका नाम मोहन है, किराए पर रहने आए.

कुछ देर बाद मैंने उसे बेंच के सहारे घोड़ी बना कर खड़ा कर दिया और पीछे से उसकी चूत में लंड डाल देकर सुपारा फंसा दिया. कमरे की हल्की सी रोशनी में भी उसके लंड के सुपारे पे बैठी हुई उस मोटी सी बूँद चमक उठी थी.

उसने अपने होठों को अपने दांतों के बीच दबा लिया और मेरा मुँह अपनी चूत पर पूरा दम लगा कर दबा रही थी।कुछ देर चाटने के बाद उसकी चूत ने अपना पानी छोड़ दिया और मैं सारा पानी पी गया।फिर सोनम ने अपना मुँह कम्बल में करके मेरी पैन्ट से मेरा लंड बाहर निकाल कर अपने मुँह में भर लिया।वो मेरा 6. ये देख कर मैंने आंटी की कमर से अपने हाथ उसकी चूचियों पर रख दिए और जोर से दबाने लगा. फिर मैं अपने बूब्स को रगड़ने लगी और अपनी बुर को भी उंगली डालकर साफ़ किया.

मेरे हाथ का दारू का गिलास लेते हुए उसने एक ही घूँट में पूरा गिलास खाली कर दिया और फिर से मेरे लौड़े को चूसने के लिए मेरे सामने आकर बैठ गयी. शेखर का लंड पहले ही धारा के चूसे जाने से पने चरम पे था और लोहे की तरह सख़्त हो चुका था. उस दिन उसने लन्ड खूब जोर से चूसा और जैसे ही पानी निकला उसने सारा का सारा पी डाला।प्रिया– अरे वाह मजा आ गया। क्या टेस्टी रस रहता है ये तो! अच्छा हुआ आज मेरी सहेली का फोन आया और उसने मुझे सीमेन पीने की सलाह दी.

बीएफ हिंदी में दो चूत में उंगली करने के कारण मौसी बेकाबू हो गई थीं और मेरे होंठों को काटने लगी थीं. उसका सिर मेरे कंधे तक ही था, उसके बूब्स मेरे पेट को टच हो रहे थे और मेरा लंड उसके पेट को.

बफ फिल्म वीडियो सेक्सी

मॉम का रंग बिल्कुल गोरा है और वो दिखने में ऐसी कामुक माल हैं कि उन्हें देख कर किसी का भी लौड़ा खड़ा हो जाए. दोस्तो, मैंने गीता की चूत चोदकर उसमें अपने बीज को बो कर उसे सन्तान सुख देने का जिम्मा लिया था. फिर भाभी उठीं और रूम के बगल किचन से सरसों का तेल लेकर आईं और मुझे देती हुई बोलीं- जान, तेल लगा कर चोदो.

सोनम के मुँह से निकलने वाली सिसकारियां ‘उ … उई … उई … ई … हई … और जोर से …फक मी हार्ड बेबी … फक मी …’ में बदल गई और मेरे जोश को और बढ़ा रही थी।मैं उसे जोर-जोर से चोद रहा था।सच में लग रहा था कि मैं स्वर्ग में हूं. मेरे सामने ही मेरी पत्नी एक अधेड़ आदमी के नीचे दबी हुई चुदाई करवा रही थी. देसी देहाती सेक्सी चुदाईअजय मेरे पास आया और उसने अपना 7 इंच का लौड़ा मेरे मुँह के ऊपर लगा दिया.

मैंने कहा- आंटी हिजाब सेक्स करते हैं, आप हिजाब ले लो!आंटी ने मेरी बात मान ली और अपने सर पर, गर्दन पर हिजाब डाल लिया.

वो बोला- जी हां, मतलब तुम जानो कि अपना भाई घर से बाहर क्या कर रहा है. रविवार को मेरा ऑफ होता है तो ज़्यादातर मैं दोस्तों के साथ होता हूँ या घर पर!नवम्बर में मेरी फॅमिली दीदी के घर प्रोग्राम में गयी थी.

वो पहली बार ये सब अनुभव कर रही थी इसलिए गीता का शरीर जल्द ही अकड़ने लगा था. अपनी जीभ से रेशमा की गर्दन को चाटते हुए मैंने दो उंगलियां उसकी चूत में फिर से नचानी चालू कर दीं. लच्छो ने अपने दोनों हाथ से मुझे पकड़ लिया और अब मैंने बहुत तेजी के साथ उसकी चुदाई शुरू कर दी.

उसने कहा- ओ हैलो … कहां?उसने गुस्सा दिखाते हुए पूछा, तब मुझे होश आया.

जब इसकी ज़्यादा जानकारी मैंने नेट पर ली तो इसका कोर्स सिलाई कढ़ाई से संबंधित था. आगे उभरे हुए उसके स्तन, पीछे निकली हुई गोल मटोल गदरायी सी गांड और उसकी 34-30-36 की फिगर देखकर मेरा लंड तनाव में आ गया था. मैं शरीर पर साबुन लगा कर मल रहा था, तभी पीठ पर किसी औरत का हाथ आया.

फुल सेक्सी वीडियो चोदी चोदाजैसे ही मैंने अपनी आंखें खोलीं तो उसने झट से मुझे इशारे से वहां से हटने को बोल दिया. जब तब मैं अपने ऑफिस के बॉस से भी चुद जाती थी, जिससे मुझे चुदाई का मजा तो मिलता ही था, साथ ही मेरा ऑफिस में कुछ दबदबा भी बन गया था.

सेक्सी कामवाली ऑंटी

मैं चाहता था कि मॉम खुद ही मुझसे चुदवाने को बोलें इसलिए मैं प्लान करने लगा. मुझे बहुत खीज हुई क्योंकि मुझे उसके बूब्स टच करने थे और अब वो उस साइड मुँह करके सो गई थी. मैंने उसका ध्यान हटाते हुए उसको अपना परिचय दिया कि मैं पूनम पांडेय हूँ और मेरा भाई आपका स्टूडेंट है.

वो बोली- भैया रहने दीजिए, इतना बड़ा मेरी चूत में घुस ही नहीं सकेगा. उसके बाद हमने दिन भर में 3 राउंड चुदाई की जिसमें उन्होंने मुझे अलग अलग पोजीशन में चोदा. Xxx मौसी पूछने लगी- तनु (मेरे घर का नाम) तूने कभी सेक्स किया है?मैंने कहा- नहीं, लेकिन मॉम डैड को मैं बचपन से ही अपने सामने सेक्स करता देखता आ रहा हूं.

आपको मेरी देसी मां और Xxx मौसी सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे मेल और कमेंट करके जरूर बताएं. पर मैं अब कुछ नहीं कर सकता था, मुझे क्रॉसड्रेसर बनना था वरना फातिमा को हमेशा के लिए खो देता. वो बोली- कितना बड़ा है तुम्हारा!मैंने पूछा- पसंद नहीं आया क्या?वो शरारत भरी नजरों से मेरी आंखों से देखने लगी और मेरे लंड को मुँह में ले लिया.

दोस्तो,मेरी पिछली कहानीपड़ोसन भाभी के बाद उसकी कुंवारी ननदआपने पढ़ी और पसंद की, धन्यवाद. आंटी की चूत चोदते हुए मुझे ऐसा लग रहा था, जैसे मैं किसी 18 साल की लड़की को चोद रहा हूं.

अब मैं सुबह ही नहाकर अपने काम पर निकल जाता था और शाम को खाना खाकर सो जाना, यह मेरी दिनचर्या थी.

भाभी ने अपनी बहन की जान पहचान करवाते हुए हम दोनों को एक दूसरे के बारे में बताया. नंगा सेक्सी वीडियो मारवाड़ीइधर मैं नोटिस कर रही थी कि वो किसी न किसी बहाने मुझे देखते रहते थे. सेक्सी चुदाई वाली इंग्लिशमैंने पूरा लौड़ा निकाल लिया और गांड में घी लगाकर एक झटके में पूरा अन्दर डाल दिया और चोदने लगा. एक हाथ से बेल्ट और दूसरे हाथ से किरण का सर मेरे लौड़े पर दबाते हुए मैं मुखमैथुन का मजा लेने लगा.

मैं आंटी की गांड में हाथ फेरने लगा और आंटी को घोड़ी बना कर गांड में थूक लगाने लगा.

उसके बाद भैया ने मुझे कसकर पकड़ लिया और मेरे हाथ से केक के टुकड़े को लेकर मेरी फ्रॉक के पीछे की ज़िप को पूरी तरह से खोलकर लगाने लगे. और उन्होंने हॉल में ही मुझे नंगी कर बिना नहाए धोए, जमीन पर पटक के चोदा. कभी उसके बड़े बड़े चूचों को हाथ लगाया, कभी उसको बड़ी सी गांड पर हाथ फेर दिया, कभी चूतड़ दबा दिए.

काफी दुकानों पर घूमने के बाद जब हमें मिलने का मौका नहीं मिला तो मैंने मां से कहा कि मैं और आरती दूसरी दुकान पर जाकर सामान देखते हैं. मेरा नाम निखिल है और मैं कॉलेज से स्नातक यानि ग्रेजुएशन कर रहा हूँ. मैंने तुरंत तेल का डब्बा खोला और भाभी के पूरे बदन पर तेल टपका कर उन्हें चमका दिया.

हॉट मूवी सेक्सी मूवी

कभी गर्दन, तो कभी गाल तो कभी होंठ … मैंने उसके चेहरे के किसी भी हिस्से को नहीं छोड़ा, हर जगह को जी भरके चूमा और चाटा. मेरे हर धक्के के साथ मेरी अंडगोटियां गीता की गांड के गीले छेद पर ठोकरें दे रही थीं. एक ओर धारा उसके कड़क लंड को चाट रही थी और दूसरी तरफ़ अपनी चिकनी चूत और मांसल नितम्बों को दिखा-दिखा कर उसकी हालत और भी ख़राब कर रही थी.

मैं भी चिल्ला उठी- आंह क्या कर रही है?वह बोली- चुप साली, तुझे पता नहीं था कि आज तेरी चूत की चुदाई होने वाली है और इसे साफ करना जरूरी है.

एक दिन की बात है, मैं और फातिमा क्लास के बाद भी क्लास में अकेले बैठे बातें कर रहे थे.

मैंने भाभी से पूछा- ये कौन हैं?तो भाभी ने बताया कि वो उनकी बड़ी बहन हैं और हम दोनों एक साथ मजा लेना चाहती हैं. हर झटके के साथ दोनों की सिसकारियां तेज़ होने लगी थीं और मेरा लंड टाइट होने लगा था. सेक्सी आलममैं भी मॉम को किस करते करते उनकी चूचियों को मसलने लगा और मैंने जोश में आकर मॉम के होंठों को काट दिया.

उसने कहा- क्या?मैंने कहा- हां तुम तो सिर्फ मेरा लंड चूसोगी, मैं तो तुम्हारी चूत गांड और चूची भी चाटूंगा. उसकी चूत 15 दिनों की प्यासी थी, उसने जल्दी ही पानी छोड़ दिया और मैं गटगट करके पी गया. लेकिन भाभी ने मुझे ताकत के साथ नीचे सरका दिया और खुद ऊपर आ गई, मेरा लंड हाथ में लिया और चूत में खुद ही घुसाने लगी.

मतलब धारा अब धीरे-धीरे सरकती हुई पहले शेखर के पेट फिर शेखर की छाती तक आ चुकी थी. मैं आंटी को घोड़ी की तरह जबरदस्त तरीके से चोद रहा था और उनकी चोटी खींच रहा था.

मैंने छुट्टी भी ले रखी थी तो सोचा कल दिन में भाभी को खुल कर लंड दिखाया जाएगा.

मेरा पूरा लंड उसके गले में घुसा जा रहा था, पर साली बिना किसी शिकायत के पूरा लौड़ा निगल गयी. वो मुझे भींच कर बोला- क्या सच में मनीष, मैं तुम्हारे साथ जो चाहूं कर लूं, तुम मुझे मना तो नहीं करोगे और न रोकोगे!मैं बोला- हां अजय, आज बस हम दोनों हैं और मैं बस तुम्हारा हूं. इसी बीच मेरी मुलाकात एक साइट पर एक लड़के अजय से हुई जिसकी उम्र 21 साल थी और वो भी मुझसे मिलने का इच्छुक था.

सेक्सी वीडियो दो हजार अट्ठारह की उस समय मेरी हालत एकदम किसी सस्ती रांड की तरह हो रही थी क्योंकि मैं पूरी तरह से भीगी थी और उस आदमी की चुदाई के बाद मेरा मेकअप भी फ़ैल गया था. गीता ने तेज आवाज करना बंद कर दी मगर उसकी दबी आवाज में ‘उन्ह आंह …’ निकलता रहा.

बाहर आकर मैंने अंजान बनते हुए अपना तौलिया एकदम से खोला और खड़ा लंड चाची को दिखाते हुए फिर से पहन लिया. मैंने भी पूनम की गांड को अपनी तरफ़ घुमाया और 69 की पोज़िशन में आकर एक दूसरे को चूसने लगे. पूरी क्लास को हमारी प्रेम कहानी के बारे में पता था और कोई परेशानी नहीं हो रही थी.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो चला

ये कहते हुए उसने तकिया का कवर और बेडशीट निकाल दिया और बोली- अब चलो दोनों बाथरूम में मेरे साथ आओ. एक दिन वो छत पर थीं तो मुझसे बोलीं- मुझे भी वजन कम करने का मन है, क्या तुम मेरी मदद कर सकते हो?मैंने कहा- बिल्कुल, पर आपको वजन कम करने की क्या जरूरत है, आप तो ऐसे ही इतनी सुंदर हो. मैंने भैया के साथ वीडियो बनाने में एक थोड़ा ज्यादा रोमांटिक गाना चुना.

अधखुली नजरों से मैं भाभी को देख रहा था लेकिन देविका को कुछ पता नहीं था. दोस्तो, मेरी ये लेडीबॉय सेक्स कहानी आपको कैसी लगी, आप सब मुझे कमेंट और मेल करके जरूर बताइएगा.

उसी गीली उंगली को अपनी चूत की दरार में ऊपर नीचे करके धारा ने अपने चूत को गीला करते हुए थोड़ा सा खोल दिया और चूत का पूरा दबाव शेखर के मुँह पे दे दिया.

मुझे अचानक से उनकी चूत का दाना याद आया और मैंने अपने होंठों से उसकी चूत का दाना पकड़ कर खींचना शुरू कर दिया. मैंने कहा- रुको भाभी अभी आपको बहुत कुछ ऐसा मिलेगा, जो आपको पहली बार मिलेगा. दीदी ने उसको देखा और पूछा- तू इससे कब मिली?मैंने बोल दिया- पिछली बार छुट्टियों में जब गांव आई थी, तब मिली थी.

मैं अब छत की साईड की छोटी सी दीवार पर अपनी दोनों कलाईयों के सहारे झुक कर बाहर का नजारा देखने लगा था. मैं अपने लंड को तेजी से अन्दर बाहर अन्दर बाहर करके चूत की गहराई तक उतारने लगा. कहानी के पहले भागमैं अपनी सेक्सी बीवी को मजा नहीं दे पातामें अभी तक आपने पढ़ा था कि मेरी बीवी ने बॉस की चड्डी में हाथ डाल दिया था और वो उसका लंड सहलाने लगी थी.

आज मैं जो Xxx कहानी बताने जा रहा हूँ, ये मेरे साथ तब घटी थी, जब मैं विदेशी भाषा सीखने मुलुंड जाता था.

बीएफ हिंदी में दो: हालाँकि शेखर के मुँह में अब भी धारा की उंगली थी और वो अपनी ज़ुबान से उसकी उंगली के साथ अठखेलियाँ कर रहा था लेकिन फिर भी अपनी सिसकारी नहीं रोक सका. आप मुझे मेल करना न भूलें कि आपको Xxx गांड का मजा मिला या नहीं?[emailprotected]आगे की कहानी:.

सोच सकते हो जिसने एक लम्बे अरसे से जिस्म को हाथ न लगवाया हो, उसका क्या हाल हुआ होगा और उसकी चूत का. कुछ देर तक हल्के हल्के से दूध सहलाने के बाद मैंने उसके एक मम्मे को अपनी पूरी मुट्ठी में भरकर थोड़ा जोर से दबा दिया जिससे उसके मुँह से आह निकल गयी. वह बोली- मुझे रस तो पीना है लेकिन ऐसे नहीं … जब तक मैं लन्ड को मुंह में लेकर उसका रस नहीं निकालती, तब तक मुझे मजा नहीं आता है.

उनने लगभग 10 से 15 मिनट तक मेरे लन्ड को लॉलीपॉप की तरह चूस कर एकदम टमाटर की तरह लाल कर दिया.

इस बीच धारा ने अपना एक हाथ नीचे ले जाकर अपने नितम्बों को हल्का सा उठा कर शेखर का लंड पकड़ लिया और अपनी गीले चूत पे रगड़ने लगी. बाद में चूत चुदाई में मजा आता है कि नहीं … इसी तरह से अब आपको हमेशा अपनी गांड मरवाने में भी मजा आएगा. मैंने फिर से उसकी बुर पर हमला कर दिया और उसकी नंगी बुर को अपनी जीभ से चाटने लगा.