पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,डब्लू डब्लू सेक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी बीपी पिक्चर लावा: पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर, उन्होंने मुस्कुरा कर बोला- अच्छा…‘हाँ…’फिर स्माइल देकर बोली- फ्लर्टिंग कर रहे हो.

बीएफ सेक्सी वीडियो घोड़ा वाला

तू यहाँ सोएगी, या टीवी वाले कमरे में?”वो बोली- दीदी टीवी वाले कमरे तो टीवी देखते हैं, दीदी मैं आपके साथ सोऊँगी. बीएफ 2 साल की बीएफआह… क्या गजब का हुस्न दिया है ऊपर वाले ने मेरी बेटी सी बहू अदिति को.

राहुल मोना की चुत के सामने बैठ गया और उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया. इंग्लिश बीएफ एचडी बीएफतो तुम्हारे लिए भी एक सरप्राइज़ है मेरी जान और वो आज रात को तुम्हें पता चलेगा.

फिर विनोद ने कहा कि होटल का पेमेंट वो कर चुका है, इसलिए आप लोगों को कोई दिक्कत नहीं होगी.पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर: मैंने हाँ में सर हिला दिया मगर अंदर से मेरी फटी पड़ी थी कि पता नहीं कुछ हो भी पाएगा मुझसे या नहीं।फिर चाचा बोले- तो चलो फिर शुरू करो, मैं भी देखूंगा.

धीरे धीरे मैंने अपनी जीभ और होंठों को नये आयामों, नयीं ऊंचाइयों तक पहुंचाना शुरू किया.”अच्छा तुम अपनी चुन्नी, सलवार, कमीज़, ब्रा, पेंटी सभी कुछ उतार कर चेयर पर रख दो और गोलू तुम्हारी साइज़ की नाप लेके बताएगा कि तुम कितना सच बोल रही हो.

नंगे बीएफ वीडियो - पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर

शादी के बाद से उसने अंकित को रोक रखा था लेकिन आज जो भी कुछ हुआ ऑफिस में, उसके बाद माया बहुत उत्तेजित भी थी और उसके मन में अंकित को मजा देने की इच्छा भी थी.उस हल्की रोशनी में वो बहुत ही हसीन लग रही थी और कुछ पैग का सुरूर भी था.

अंकित ने एक हाथ से माया का दाना रगड़ना शुरू किया और दूसरे से एक निप्पल खींचना मरोड़ना चालू कर दिया. पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर कुछ देर बाद जब अलग हुए तो देखा कि चादर हमारे कामरस से पूरी तरह भीग चुका था और हम दोनों के चेहरे पर संतोष का भाव था.

मैंने प्रिया का दायाँ निप्पल अपने मुंह में चुमलाते चुमलाते ज़रा अपने बायीं ओर करवट लेते हुए अपना दायें हाथ नीचे कर के अपने पजामे का नाड़ा खोल कर और पजामा घुटनों तक नीचे सरका कर प्री-कम से सराबोर अपना लिंग प्रिया के हाथ में थमा दिया.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर?

मैं उसे बुलाने जा रही थी कि अचानक अमित मेरे सामने आ गया और उसने मुझे ‘हाई. पापा जी… अब आप ऊपर आ जाओ, थक गई मैं तो!” बहूरानी बोली और मेरे ऊपर से हट गयी. दो बजे छुट्टी के बाद मैं निकल रहा था कि निर्मला जी ने आवाज दी- अतुल रुको, मुझे कमला मार्केट जाना है कुछ सामान लेना है, मैं स्कूटी नहीं लाई हूँ, तुम अपनी गाड़ी से ले चलो.

ये ड्रेस पहन का जाने का मेरा मन नहीं है लेकिन मन में आया कि मेकअप का सामान उपयोग कर लेती हूँ और एक बार इसको पहन कर देख भी लूँ कि कैसी है. मैं तैयार होकर जब घर से निकल कर जूते पहन रहा था तभी सोनी मेरे पास आई और उसने मुझसे धीरे से कहा- नवीन, अगर मम्मी को पता लग गया कि हम कॉलेज बंक करके बाहर घूमने गए थे, तो हमारी खैर नहीं. इसके बाद मैंने अपने नीचे के कपड़े उतार दिए और नंगी होकर बॉस के लंड के ऊपर चढ़ गई.

अब तो आप मुझे जल्दी से चोद डालो पापा!”अभी तो तू कह रही थी कि चुपचाप पड़े रहना है… अब क्या हुआ?”पापा, मेरी चूत में बहुत तेज खुजली मच रही है… ये आपके लंड से ही मिट सकती है… फक मी हार्ड पापा डार्लिंग!” बहूरानी अधीरता से अपनी चूत ऊपर उचकाते हुए बोली. काफी देर बाद मेरा पानी निकलने को था तो मैंने अपना लंड उसके मुख से निकाल लिया और उसे मुठ मरने को कहा. तभी बीप की आवाज़ हुई और फाइल सेंड हो गई, मैंने अपना मोबाइल उठा लिया और दीदी ने अपना मोबाइल उठा कर फाइल को देखना शुरू किया और एक ही पल में उनके हाथ से मोबाइल वापिस टेबल पर गिर गया लेकिन वीडियो बंद नहीं हुई और दीदी भी फटी हुई आँखों से वीडियो देखने लगी, यह वही वीडियो थी जिसमें दीदी अमित का लंड चूस रही थी.

मैं घंटों अपनी गर्ल फ्रेंड से फोन पे बातें करता रहता पर उसके साथ भी मैंने किस से ज्यादा कभी कुछ किया नहीं था क्योंकि साली नखरे बहुत करती थी. तो तुम कैशियर से मेरी बात करवा कर जितने रूपये लगें ले लो, और उनके लिए 10-12 ड्रेस ले आओ उन्हें पूरा गोवा देखना है और एक गाड़ी की भी कह देना कि भेज दे.

अब शादी ब्याह वाले घर में कई सारे पुरुष होते हैं पता नहीं कौन पिछली रात उनका शील भंग कर गया होगा… यही चिंता उन्हें खाए जा रही थी.

वो मेरे कान के पास आकर मेरे कान में हवा फूँकने लगीं, मुझे गुदगुदी होने लगी थी.

मैंने देरी न करते हुए उसकी मस्त गुलाबी चूत को, जो पूरी बालों से घिरी हुई थी, उसको अपने मुँह में डाल ली और आराम से चूसने लगा. बॉस- नेहा रंडी मेरे लंड का पानी निकलने वाला है, तेरी गांड को भर देगा. आख़िरकार मैं सुकुमारी भौजी के पीछे तक पहुँच गया और धीरे से झुककर बड़े झटके के साथ उनकी दोनों चूचियों को दबोच लिया.

उस ऊबड़-खाबड़ जमीन पे नंगे पैर चलना मेरी जैसी आराम से पली बढ़ी लड़की के लिए आसान ना था. जैसे ही राहुल उसके नजदीक आया, जोया ने उसके लंड को आजाद कर दिया और तुरन्त उसके लंड को अपने मुँह में ले लिया. यह सुन कर वो हंसने लगीं, मुझे बड़ा गुस्सा आया, मैंने उनसे पूछा- इसमें हंसने वाली बात क्या है?तो वो बोलीं- कुछ नहीं, बस ऐसे ही मुझे हंसी आ गई.

मैं अपनी उंगली से उसकी चूत का दाना सहलाने लगा तो वो कामवासना से चुदास से पागल होकर बोली- समीर मुझे चोद दो, अब नहीं रुका जाता.

और तब मैंने रोहण से कहा- रोहण, मेरे बदन में बहुत दर्द हो रहा है तुम मेरी वैक्स और मसाज कर दोगे?रोहण ने कहा- ओके माँ!फिर मैं वैक्स का समान ले आयी अपने बैग से और मैं बाहर स्विमिंग बेड पर लेट गयी. इधर मेरी हालत भी खराब हो रही थी तो मैंने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और पूरा नंगा हो गया. उसने अपने रूम में ज़ीरो वॉट का बल्ब जला दिया, कमरे में हीटर उसने पहले से ही चला कर छोड़ा हुआ था तो कमरे में ठंड नहीं थी.

फिर मम्मी ने हाथ मोड़ कर ब्रा का हुक खोल दिया और अपनी चूचियों के निप्पल को फूफा जी के मुँह में दे दिया. दोस्तो, मेरा नाम रवि है और मैं अहमदाबाद से ही हूँ और जयदीप जी का मित्र हूँ. दोस्तो नमस्कार, मेरा नाम प्रकाश है। मैं उत्तराखण्ड का रहने वाला हूँ। मेरी उम्र अभी 28 साल है। मेरा लंड 6.

फिर कुछ देर बाद वो दोनों ज्वार में से बाहर आये, तब तक मैं समोसे और जलेबी ला चुका था, हमने मिल कर समोसे और जलेबी खाई.

मैं सिर्फ सुबह जाकर काम करके घूमने निकलता और सैंडी के घर में जा बैठता. तो उन्होंने कहा कि मेरे हाथ में दर्द बहुत है, मैं कपड़े नहीं पहन पाऊँगी, मैं तौलिया लपेट लेती हूँ.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर उसने मेरा सिर ज़ोर से दबा दिया और मुझसे कहने लगी- ले चाट ले मेरी चुत. मैं उसे रवि कह कर बुलाती थी।फिर हम लोग रात तक अम्बाला पहुँच गए। यहाँ से हमारी ट्रेन अगली सुबह की थी.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर जैसे जैसे माया की साड़ी ऊपर जा रही थी, माया की साँसें तेज़ होती जा रही थीं. मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी और दस मिनट बाद मैं भी अपनी चरम सीमा पर पहुँच गया.

भाभी ने पूछा- और किसने ये सीडी देखी है और क्या चाहते हो? ब्लैक मेल करना चाह रहे हो?मैंने कहा- भाभी, आप इस सोसाइटी की सबसे नेक औरत हो, किसी की तकलीफ में सबसे पहले आप आती हैं, इसलिए उसे तो आप अपने दिमाग से निकाल लें.

मां और बेटे की चुदाई

फिर एक दिन मैं व्हिस्की की बोतल लेकर घर गया और टीवी पर ब्लू फ़िल्म देखते हुए व्हिस्की पीने लगा. रोशनी की नाक पिंकी की गांड में जाके घुस गई और चूत उसके मुँह पर जाके टिक गई. दोनों ने अपनी गति बढ़ाई और कुछ ही देर में एक के बाद एक ने अपना उबलता लावा मेरे अंदर उड़ेल दिया।मैंने खुद को दोनों से अलग किया और वहीं जमीन पर गिर कर मैं अपनी उखड़ी हुई साँसें संयत करने लगी.

क्योंकि जो हुआ, उतना प्यार और प्रेमरस का पान जिंदगी में कभी किसी को नहीं मिला होगा. एक उसका सामाजिक सेवा में साथी था, जिसे मैं जानता था और दो शायद उसके फ्रेंड थे, जो थोड़े गुंडे जैसे तगड़े दिख रहे थे. और जो अभी सुबह सुबह तू मुझे थैंक्स बोल रही थी वो किसी ख़ुशी में था?”वो तो ऐसे ही आपका दिल रखने के लिये; रात में आपने इतनी कठोर मेहनत जो की थी न मेरे ऊपर चढ़ के!”और अब क्या इरादा है मेरी प्यारी प्यारी बहूरानी का?”पापा जी, जो आप चाहो… आखिर हमने हजारों रुपये रेलवे को पे किये हैं, उसमें से जितने वसूल हो जायें उतना अच्छा!”यह हुई न बात!” मैं बोला और बहूरानी को अपनी गोद में घसीट लिया.

अचानक दीदी ने करवट ली और उनका हाथ मेरे लंड पर आ गया, मेरी तो जान ही निकल गई, लगा कि जैसे जन्नत मिल गई.

चाची बोलीं- थोड़ा सब्र तो करो मेरे राजा, अब मैं तुम्हारी ही रानी हूँ. मैंने तो ये कहा कि पहला इम्प्रेशन इस सीने का ही होता है हम लड़कियों पर; मर्द का चौड़ा मजबूत सीना हम फीमेलज़ को सेक्सुअली अपील करता है. मैं यह सब लेकर मम्मी से बचा कर अपने कमरे में छुपा दिया और शांति से बाकी सारे काम करने लगा और शाम होने का इंतजार करने लगा.

पर मेरी फट रही थी तो मैंने फिर से उसे अपने से दूर किया और जाने लगा. मैंने इस विषय में कुछ सोचा नहीं था, फिर भी अचानक ही कह दिया- व्यवसाय में दिक्कत हो रही है बाबा!तो उन्होंने अपने पास एक कटोरे में रखी छोटी सी कागज की पर्ची मुझे उठा कर थमा दी और थोड़ी दूर पर एक मेज की ओर इशारा करके कहा- वहाँ चले जाओ।मैंने जी बाबा जी कहते हुए फिर चरण छुए और उस मेज की ओर बढ़ गया।कहानी जारी रहेगी. नाभि में जीभ घुमाते हुए मैं अपने हाथ उनकी कमर पर बंधी साड़ी की गांठ पर ले आया और ज़ोर से उनकी साड़ी की गांठ को पकड़ कर खींचा तो साड़ी एक झटके के खुलकर नीचे गिर गई.

आप बताइए कि आपको मुझसे कैसी मदद चाहिए?उसने कहा- आप इतने समझदार हो, आपको इतना तो पता ही होगा कि मुझे आपकी किस तरह की मदद चाहिए. प्यार से उसकी तरफ देखा तो पता चला कि वो नींद के आगोश में दुबकी हुई है.

जितनी देर वो क्लास लगा रहा है, हम चलते हैं अकीरा और शालिनी के पास जो इस समय सुल्तानपुर की बस में बैठी हुई हैं।विक्रांत ने ईशा को लंड दिखाने की शर्त पूरी कर दी थी और उसकी पूरी वीडियो भी बनाई थी, जिसे उसने अकीरा को भेज कर बता दिया कि उसने शर्त पूरी कर दी है. अपने हाथ भाबी के पेट से होते हुए मम्मों पे ले गया और जोर से दबा दिए. आप बोलिये? मैं बुरा नहीं मानूँगी, लेकिन जो भी बोलना है जल्दी बोलिए.

मैं आप सबको अपनी चुदाई की सच्ची देसी कहानी बताने जा रही हूँ कि कैसे मैं अपने चाचा से चुदी.

जैसे ही मैंने अपने तपते होंठो में प्रिया के उरोज़ का निप्पल लिया तत्काल ही प्रिया के मुंह से एक तीखी किलकारी सी निकली और फ़ौरन ही प्रिया ने अपना दायाँ हाथ नीचे ले जा कर पजामे के ऊपर से ही मेरा लिंग सख्ती से दबोच लिया और उसे आगे-पीछे हिलाने लगी. भला बताओ पार्टी क्या एन्जॉय करेंगे?मैं- ऐसा नहीं है तुम भी सुंदर हो. ब्रा के अन्दर से मेरे चुचे बाहर निकलने को बेताब थे और उनकी बेताबी को जल्दी ही महेश ने दूर कर दिया.

”अब तो मेरी कामोत्तेजना शिखर पर थी और मैं मम्मी को उनके नाम से गालियां दे रही थी. किशोरियों या टीन गर्ल्स जैसी कमनीयता या आभा, ग्लो, दीप्ति या नूर कुछ भी कह लो; उसके जिस्म के अंग अंग से छलक रहा था.

वो भी मेरी छाती मसल रही थी और मेरी पीठ पर अपने नाख़ून भी चुभो रही थी, जिसका आनन्द ही कुछ अलग था. नमस्कार दोस्तो, अब तक आपने प्रेरणा की चुदाई और बाबा की गिरफ्तारी तक की हिंदी एडल्ट कहानी पढ़ी. फिर हम दोनों ने एक दूसरे के गुप्त अंगों को साफ किया और कपड़े पहन लिए.

सेक्सी वीडियो आगरा

धीरे धीरे जैसे जैसे शादी की रस्में होने लगी, हम दोनों में बातें हुई, दोस्ती हो गई और दोस्ती कब प्यार में बदल गई, पता ही नहीं चला.

उसी के साथ एक तेज गंध मेरे नाक में घुसी, जिसने मेरी कामोत्तेजना को और बढ़ा दिया. इस तरह सेचाची के संग चुदाई की शुरूआत हुई, इसके बाद तो चाची की मालिश और चुदाई का काम रोज का हो गया था. वह क्लास में सबके सामने जबरदस्ती कई नमकीन लौडों के गाल काट चुका था, चूम चुका था.

मैंने पूछा- क्या हुआ?तो कहने लगी कि मैंने भी कभी गांड नहीं मराई है. उसने इशारे से मुझे फोन उठाने को कहा, मैंने कांपते डरते हुए फोन उठाया. बीएफ लड़की चोदामैं वैसे बहुत मजाक करती हूँ अपने ऑफिस में और सब लोग मुझे पसंद भी करते हैं.

ये सुमित के मुँह से सुनते ही माया के होश उड़ गए सुमित तुम भी?”माया बस इतना ही बोल पाई. हम लोग एक रूम किसी होटल में ले लेते हैं।स्टेशन के पास एक होटल में जाकर हमने कमरा ले लिया।रूम बहुत अच्छा था डबलबेड था.

भगवान ने तुम्हें क्या चीज़ बनाया है, तुम्हारा हुस्न और फिगर किसी को भी दीवाना बना दे. एक दोपहर को हम और दीदी पास पास सो रहे थे, अचानक दीदी ज़ोर ज़ोर से ‘म्म्म्मो. मेरे बेटे को होने वाली पत्नी और मेरी बीवी को होने वाली बहू पसंद आ जाए बस.

फिर आनन्द ने अपना लंड बाहर निकाला तो करीब 9 इंच का था और मोटा भी बहुत था. कॉलेज के बहुत से लड़के उसके सामने प्रोपोज कर चुके थे मगर उसने किसी को घास नहीं डाली मगर कॉलेज के पहले दिन से जब से उसने राहुल को देखा, उसे प्यार करने लगी थी पर उसके लिए पढ़ाई सब चीज़ों से पहले थी. मैं अक्सर अन्तर्वासना की सेक्स कहानी पढ़ता रहता हूँ और सोचता रहता हूँ कि मुझे भी कभी किसी चुत को चोदने का मौका मिलेगा.

इस वक्त हमें बहुत भूख लगी थी, तो स्वाति ने रूम सर्विस से खाने को स्नैक्स मंगवाये और बोल दिया कि खाना दरवाजे के बाहर ही रख दें, क्योंकि वो अभी नहाने जा रही है.

चूँकि मुझे उसके दर्द का मालूम था, सो पता नहीं क्यों, मुझे उस पर दया भी आने लगी थी. क्या इनके लिए भी कुछ है?” उसने अपनी चुचियों को दोनों हाथों में थामकर पूछा.

मैं उसके दाने को रगड़ता रहा जिससे वो बेहद मचलने लगी… उसे शायद दर्द भी हो रहा था. अब तो रात में हम दोनों मोबाइल पर भी मैसेज और कॉल लगा कर बात करने लगे. उनकी चुत अब गीली होने लगी थी, इसलिए मैंने चूसना बंद करके अपने मुँह को सीधे उनके मम्मों पर छोड़ दिया और फिर जो मेरे मुँह ने मम्मों की चुसाई और हाथों ने रगड़ाई की है, मानो कि मीना जी हवा में उड़ने लगी हों.

बाद में मैं बाथरूम में चला गया और मामी के नाम की मुठ मार कर कमरे में जाकर सो गया. अवी ने मुझे रोमांटिक अंदाज में पकड़ा और आगे की तरफ झुककर मेरे दोनों चुचियों के ऊपर बीच की दरार में किस कर लिया. अब मैं और जीजू किस कर रहे थे, मैं उनके अंडरवियर में अपना हाथ डाल कर उनका लंड पकड़ कर सहला रही थी.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर ये उन्होंने मुझे बाद में बताया ताकि चाची मुझसे पूछें तो मैं उनको यही बता सकूँ. मुझे बस मधु की चिकनी और गोरी गाण्ड ही दिख रही थी।मैंने सोचा शायद मधु फिर से वापस आएगी पर अगले ही पल मैंने कुछ सोचा और अपने कमरे का दरवाजा बंद करके मैं बाथरूम में चला गया और मधु की नंगी जवानी को याद करके अपने लौड़े को हिलाने लगा।मुझे पता ही न चला कि कितने समय तक मैं मधु की नंगी जवानी में खोया हुआ अपना लवड़ा हिलाता रहा।तभी बाहर से मधु की आवाज आई.

सेक्सी वीडियोxx

खाना खाकर मैं सोने लगा तो माँ दूध लेकर आयी तो मैं जान कर नहीं उठा तो वो चली गयी और कुछ देर बाद फिर आयी और मेरे सिर पे तेल लगा के मालिश करने लगी. और जैसे ही मैंने सलवार का नाड़ा पकड़ा तो उसने मेरा हाथ पकड़ कर हटा दिया और बोली- आज नी… कल करिये… आज मेरी डेट है!तो मैंने उसे छोड़ दिया. फिर मैंने ज्यादा देर न करते हुए उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया ताकि बुर ऊपर हो जाए.

थोड़ी देर बाद भाभी तैयार होकर बाहर निकलीं और मेरे पास बैठ कर इधर उधर की बातें करने लगीं. मैं- आह आह मेनका, मेरा निकलने वाला है… आह आह अहहहह… मैं आह आह गया…मेनका- आह हा आह आह अहहहा आ जा मेरे राजा, मेरे अंदर ही आ जा… मैं भी गयी बस आह आह हा अह्हहह… गयी… आह आह आह… मेरे… आह आह राजा…और मैं और मेनका एक साथ आ गये. सेक्सी बीएफ वीडियो मोटी औरत कीरोशनी ने जैसे ही चिल्लाने की कोशिश की, उसके मुँह में बाम से भरा रस टपकने लगा.

संजय ने एक ही झटके में अपना 7 इंच लंबा और मोटा लंड मेरी चुत में डाल दिया.

फिर जब वो काम करके वापस जाने लगी तो मेरे पास मेरे कमरे में आई और बोलने लगी कि क्या हुआ है, अब तो आप बात भी नहीं करते?मैं चुप ही रहा तो वो फिर से बोली- देखिए मैं ऐसी औरत नहीं हूँ. जो उसने नाईट क्लब में पहने थे।मुझसे रहा नहीं गया और मैं उसके कपड़े उठा कर चूमने लगा.

जब वो अन्दर आई तो मैं उसे देखता ही रह गया, ये बात उसने भी नोटिस कर ली थी. अब मैं ये सोच रही थी कि यहाँ 500 ही मिल रहे हैं और वहाँ मैं 40 हजार कमा चुकी हूँ. मुझे अन्दर बैठा कर वो मेरे लिए पानी लाईं ओर मेरा हाल चाल पूछने लगीं.

आनन्द ने घबराते हुए कहा- क्या हुआ जान? मुझसे क्या भूल हुई?मोना- यही कि मेरे कपड़े उतार कर मुझे नंगी कर दिया, पर खुद के कपड़े नहीं उतारे.

मैं कुछ देर परेशान होती रही कि इसे कैसे पहनूं, तब तक स्वाति तैयार हो चुकी थी और वो मेरे पास आई और उसने कहा- मिनी पहनो भी, क्या इतनी देर लगा रही हो?तो मैंने भी कहा- ये कैसे पहनूं?स्वाति ने कहा- आज पहली बार इस तरह की ली है क्या?मैंने हां में सर हिलाया तो उसने कहा- अपने दोनों हाथ ऊपर करो. कुणाल आँख मारते हुए बोला- क्या कल्याणी, मेरे दोस्त ने अच्छे से सम समझाए कि नहीं?सब हंसने लगे. दीदी ने अपने घुटनों को ऊपर करके मोड़ लिया और मुझे सलवार उतारने से रोकने लगी लेकिन दीदी की कोशिश नाकाम रही और कुछ ही देर में सलवार सोफे से होते हुए ज़मीन पर गिर गई थी.

बीएफ सेक्सी खतरनाकजिस दिन से मैंने तुमको रमेश के लिए पसंद किया था, उसी दिन से हमेशा ही सपना देखा है कि काश मुझे तुम्हारी ये गांड मारने को मिल जाए. कुछ देर बाद मुझे महसूस हुआ कि उसकी बुर में कुछ हलचल सी हो रही थी और जैसे गर्म लावा निकाल रही हो, मतलब वो झड़ रही थी.

बच्चों की कहानियां कार्टून

चाची तड़फ कर लंड बाहर निकालने की क़ोशिश करने लगीं, लेकिन मैंने उनको जकड़ किया और उनके होंठों से होंठ चिपका कर उनकी चूचियों को मसलने लगा. पहले चाची कुछ सोचने लगीं, फिर मान गईं और कहने लगीं- तेरा बहुत बड़ा लंड है आराम से करना. फिर ऐसे ही वीडियो देखते वक्त उनके शादी की वीडियो आई, तो मैं उनसे पूछने लगा- आपकी शादी कब हुई और आपके बच्चे किधर हैं?इस सवाल से मधुरा का थोड़ा मूड खराब हुआ और वो बोलने लगीं कि उनके पति मुझसे प्यार नहीं करते, वो बस अपने जॉब और पैसों से प्यार करते हैं.

मैं भी थोड़ा भावुक हो गया था और मैंने उससे सॉरी कहा, पर उसने मेरी कोई बात नहीं सुनी. ये कहते हुए उसने मुँह छिपा लिया।मैंने उसके हाथ हटाते हुए बोला- कभी मना तो नहीं करोगी?नहीं. गांड मारते मारते लंड को चूत में घुसेड़ देना और फिर गांड में घुसा देना.

तब पता चला कि यहाँ काफी अच्छे अच्छे नाईट क्लब हैं।ऑफिस से आकर फ्रेश होकर अपने दोस्तों से पूछा. मैं भी उसका साथ देने लगी, क्या करती कई दिनों से मैं लंड की भूखी थी. मैंने फिर अपना लण्ड पूरी ताकत के साथ उसकी कुंवारी बुर में डाल दिया, वो बहुत ही जोर से चीखी लेकिन मैंने इसकी परवाह न करते हुए कई धक्के लगा दिए। उस बुर की सील टूट गयी थी, वो लगभग अधमरी से हो गयी थी, कुतिया वाली पोजीशन की वजह से हर धक्के के बाद वो आगे की तरफ गिर जाती.

मेरे पापा बोले- ठीक है सुरेश भाई, अपनी बीवी को छोड़ दो, मैं आरती की शादी तुझसे कर दूंगा. मेरी कामुकता अपनी चरम पर आ चुकी थी, मैंने छाया के होंठों के ऊपर अपने होंठ रख दिए और चूसने लगा, उसके मम्मों को भी दबाने लगा.

उसने जाते जाते मुझे इनडायरेक्ट्ली बस इतना कहा कि कुछ ग़लतियों की कोई माफी नहीं होती.

इसके बाद उसने अपना लंड मेरी गांड के छेद पर रख कर धक्का दिया तो मुझे बहुत ज़ोरों से दर्द हुआ. बीएफ सेक्सी यूपी कीजोया भी हमारी बातें गौर से सुन रही थी और इस तरह से अलग तरह के मुँह बना रही थी. बीएफ सेक्सी वीडियो बीएफ देसीमैंने उससे हाथ मिलाया और कहा- इतने लम्बे हो, झुकने में प्रॉब्लम होगी. तब मैं बोला कि यदि आपको बोलना होता कि आप अपनी दे दो, तो मैं अपने लिए बोलता.

थोड़ी ही देर में मैं झड़ने वाला था, मेरे झड़ते ही उसने सारा रस बड़ी आसानी से पी लिया और लंड को चाट चाट कर साफ कर दिया.

जब मैं वापिस आया और उसे आँखें खोलने को कहा, वो मुझे देख कर खिलखिला कर हंसने लगी. उसने अपनी उंगलियों से मेरी चूत को खोलते हुए अपना लंड डालना शुरू कर दिया. अब शाम हो चुकी थी, तभी कूपे के दरवाजे पर किसी ने नॉक किया, मैंने खोल कर देखा था पेंट्री कार का स्टाफ चाय नाश्ता लिए खड़ा था.

मैंने अब लंड उसकी चूत की बजाय उसकी गांड पर रखा तो वो मना करने लगी तो मैंने उसे समझाया और वो मान गयी. छोटे टमाटर के आकार जैसा मेरा टोपा बहूरानी की चूत में जा के फंस गया. ” कहते हुए ममता जी ने दोनों हाथों से मेरे सिर को‌ पकड़ लिया और तुरन्त उठ कर बैठ गयी.

छोटी चूत में मोटा लंड

पहले भी मैंने कई बार ट्राय किया, मेरी बीवी कभी भी मुझे पहचान नहीं पाई थी. मैंने खड़े खड़े अपनी टी-शर्ट और बनियान निकाल दी और ऊपर का जिस्मा नंगा कर दिया. मेरे 2 बच्चे हैं, बड़ा बेटा 10 साल का है, उसका नाम साहिल है और छोटी बेटी है, जो अभी 5 साल की है, उसका नाम समीना है, उसे हम प्यार से गुड्डी बुलाते हैं.

इसी तरह दिन बीतते गए और एक महीने में तो संजय हमारी फैमिली में काफी एडजस्ट हो गया.

इस बीच में मैं उसके मम्मों को भी मसल रहा था और उन्हें चूस भी रहा था.

शुरुआत में मुझे कुछ अच्छा नहीं लग रहा था क्योंकि उधर, मुझे छोड़ कर बाकी सब किरायेदार फैमिली वाले थे. मैंने कहा- भाभी आप दर्द का कारण बताएंगी, तब ही तो दर्द का इलाज होगा. सेक्सी फिल्म देखना है बीएफहर धक्के पे मोना के चेहरे पर प्यास और बढ़ रही थी और थोड़ी सन्तुष्टि का भाव भी दिख रहा था.

हम लेडीज को पुरुष की चौड़ी छाती ही सबसे ज्यादा अटरेक्ट करती है, आदमी की चौड़ी छाती हमें एक सिक्योर फीलिंग देती है फिर आपके इस चौड़े चकले सीने के तले पिसते हुए आपके लम्बे मोटे लंड की ठोकरें चूत को वो मजा देती हैं कि आत्मा तक तृप्त हो जाती है. मम्मी की कसम, दीदी मुझे पता नहीं जवानी में चूत की तड़प ऐसी भयानक होती है, दीदी तुम चुदाती हो, यहाँ वहाँ मुँह मारती हो. मैंने अपने हाथों से उनकी कमर पकड़ी और अपना लंड उनकी गांड पर सैट करके एक करारा झटका मार दिया.

लेकिन मैंने आगे बढ़ कर उसके कंधों पर हाथ रखा और उसकी आँखों में देखते हुए बोला कि भाभी आप मुझे अच्छी लगती हो, क्या आप मुझे दोगी?ममता ने हकलाते पूछा- क्या?अब मेरी भी हिम्मत बढ़ गई थी. मैं कॉलेज बाइक लेकर जाता हूँ तो जैसे ही मैं घर से निकला तो वो लड़के उससे कुछ कह रहे थे.

हम दोनों अभी बात कर ही रहे थे कि किचन से वह बला की खूबसूरती से भरी हुई मदमस्त भाभी हाथ में चाय का ट्रे लिए हुए हम लोगों के पास आई और मुस्कुराते हुए मुझे चाय का कप पकड़ाने लगी.

”अगले दिन सुबह पहले रोशनी रूम में अपनी चमेली सी महक लेकर आई, फिर पिंकी की गुलाब की खुशबू के साथ, पूजा की चन्दन की महक रूम में छा गई. करीब 2 मिनट के किसिंग के बाद मैंने कहा- बस बस, कोई आ जाएगा, छोड़ो मुझे प्लीज़. कुछ देर बाद मेरा फिर से खड़ा हुआ तो मैंने कहा- हो जाये एक और राउंड?उसने साफ मना किया और कहा- अगली बार करेंगे! मुझे लेट हो रहा है.

लड़की और कुत्ते की बीएफ सेक्सी वीडियो वो मादक सिसकारियां लेते रहीं और इतने में भाभी का एक बार काम हो गया. मैं धीरे धीरे उनके पेट को चाटते हुए उनकी नाभि पर आया, नाभि में जीभ घुसा कर कहता तो उनको मजा आया.

रियल सेक्स स्टोरी जारी है, कहानी पर अपने विचार दे सकते हैं।मेरा ईमेल है-[emailprotected]. माया अब पूरी तन्मयता से टट्टों से लेकर सुपारे तक अंकित का लंड चाट रही थी और टट्टों को अपने कोमल हाथों से दबा भी रही थी. मैंने नोट किया कि प्रिया का इकहरा शरीर आकर्षक रूप से थोड़ा भर गया था, वक्ष थोड़े ज्यादा सख़्त और ज्यादा उभर आये थे, फ़िगर भी शायद 34-26-34 हो चला था.

बेवफा वीडियो

यह बहुत दिनों तक चला, इसी बीच दोस्त को दूसरी आंटी मिलीं तो वो बोला इधर का कुछ नहीं हो सकता. ”इधर मेरी उत्तेजना दिन रोज बढ़ती जा रही थी। एक दिन मैंने खुद शर्म छोड़कर यश के साथ सेक्स करने की सोची। परन्तु वो मुझे सन्तुष्ट तो क्या. कुछ देर बाद ही उसने फिर से मेरा सर पकड़ा और मेरे सर को अपने बुर में दबाने लगी.

मैं बोली- सुरेंद्र साले, और चोद बहुत!दोनों तरफ से मेरे अंदर लंड फचाफच घुस रहे थे और मैं पूरी तरह मस्त चुदवा रही थी, भाभी के पापा रगड़ के कम से कम 15 मिनट मुझे चोदे और बोले- मैंने 50 साल में आज तक इतनी मस्त चुदाई नहीं की, मुझे सुहागरात में भी इतना मजा नहीं आया जो आज तुझे चोदने में आया. करीब बीस मिनट के फोरप्ले में रीना के सब्र का बांध टूटने लगा परन्तु मैं जल्दबाजी नहीं करना चाह रहा था क्योंकि कल रात मैंने देखा था कि 21 साल की इस जवान ठण्डी लड़की के लिए दो मर्द कोई मायने नहीं रखते थे.

पर ऐसा हुआ नहीं, उसको लंड का सुपारा ही मुँह में अच्छे से नहीं लिया जा रहा था तो बेचारी पूरा लंड कहाँ से ले पाती.

जो भी लौंडिया मेरा लंड एक बार देख ले वो मेरे लंड की दीवानी हो जाती हैं. संजय ने मुझे अपनी गोद में उठा कर बेड पर डाल दिया और मेरे ऊपर आ गया. ” माया ने अपना सर नीचे किया और उसे लगा जैसे सुमित अब भी अपने घुटनों के बल नीचे बैठा है.

जैसे ही मैंने भाबी की चुत पर एक किस किया, भाबी मछली जैसे तड़पने लगीं. उसने मना कर दिया और बोली कि मैं जिसके साथ शादी करूँगी, उसी के साथ सब कुछ करूँगी. जब उनकी कामवासना चरम पर थी तो वो पूरे जोश से मेरा लंड चूसने लगी थी लेकिन एक बार झड़ने के बाद उन्होंने मेरा लंड अपने मुख से निकाल दिया.

फिर भाभी खड़ी हुई और बाथरूम से ऑयल ले आई और खुद ही अपनी चुत और मेरे लंड पर लगाने लगी.

पंजाबी सेक्सी बीएफ पिक्चर: इसलिए मैंने बहन की साड़ी उसके शरीर पे रहने दी और बहन की नंगी चुत के साथ खेलने लगा. अचानक प्रिया ने मेरे सर के पीछे के बाल अपने बाएं हाथ में कस कर जकड़ लिए और दाएं हाथ से अपना वक्ष पकड़ कर निप्पल बिलकुल मेरे होंठों पर रख दिया.

भारत में काफी परिवारों में सोने के जेवर पैरों में नहीं पहनते लेकिन हमारे घर में ऎसी कोई रोक नहीं है. इसलिए मैं भाभी के कमरे में दोपहर को टीवी देखने जाता था, तो किसी को कोई आपत्ति नहीं होती थी. जहां तक महिलाओं का सवाल है, बच्चे हो जाने के बाद जिम्मेदारियों की वजह से उनका धीरे धीरे सेक्स से लगाव कम हो जाता है.

”ऐसे ही दिन निकलते रहे। मुझे ये तो पता चल ही गया था कि चुदने में बहुत मजा आता है.

अब घर आकर मैं फ्रेश होकर नाश्ता करने के बाद अपने रूम में आ गया और क्या सरप्राइज़ दूं, यही सोचने लगा. मैंने कुछ नहीं कहा तो उसने चॉकलेट मेरे होंठों पर फिराई और बोली कि कैसी है?मैंने कहा कि मुँह में तो गई ही नहीं. आंटी भी इस मौके को छोड़ती नहीं थीं, वो लड़कियों से रिक्वेस्ट करके मुझसे और कुणाल से अपनी चूत की अन्तर्वासना को बुझवा लेती थीं.