हिंदी की बीएफ वीडियो में

छवि स्रोत,देसी गुजराती बीपी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वाले गाने: हिंदी की बीएफ वीडियो में, एक दिन सरोज मुझसे बोली- कोई गर्लफ्रेंड बनाई या नहीं?तो मैंने कहा- एक पसंद तो है, लेकिन उससे बोलने की हिम्मत नहीं है.

एक फोटो सेक्सी

फूफा जी का लंड अब भी मेरे हाथ में था और मैं लंड को पागलों की तरह अपने चेहरे और बूब्स पर रब कर रही थी. रंग सेक्सीइस बीच मैंने उसे कई बार बिना कपड़ों के देखा, एक बार तो वो बाथरूम में बेहोश हो गई जहाँ से मुझे उसे कपड़े पहना कर लाना पड़ा.

संजय का लंड उसके हाथ में आ गया, जोकि लोहे जैसा सख़्त और गर्म था। लंड का स्पर्श पाते ही वो घबरा गई और जल्दी से उठ गई।संजय को कुछ करने का मौका भी नहीं मिला. भीलवाड़ा जिले की सेक्सीसाफ़ साफ़ बोल ना?’‘मेरी वेजाइना को लिक कर दो जैसे अभी किया था!’‘वेजाइना नहीं, इसे चूत कहते हैं.

शाम को गुलशन जी भी फ्रेश होकर चले गए और जाते टाइम वो बोल गए कि उन्हें आने में देर हो जाएगी.हिंदी की बीएफ वीडियो में: जो सीधे मुद्दे की बात करते हैं। तो मैं तुम्हें बता दूँ मैं प्योर टॉप हूँ।’‘ओके ग्रेट!’‘और मेरे पास प्लेस नहीं है। यदि तुम्हारे पास हो तो चल सकते हैं।’‘यार प्लेस तो मेरे पास भी नहीं है। हाँ मेरे फ्रेंड की कार में चल सकते हैं और हम दोनों ही इच्छुक हैं।’‘ओके कोई दिक्कत नहीं है।’मैं बाइक से उतरा और उसके साथ उसके फ्रेंड की कार की तरफ चल दिया। हमारे बीच कुछ सामान्य बातें हुईं.

मैंने सांस लेने के लिए जैसे ही अपना सर उठाया, उसने एक झटके से मेरे सर को दोबारा अपनी बुर पर टिका दिया और बोली- बसस्स्स थोड़ा आआआआ और… म्म्मम्म्म.उनको परवाह ही नहीं थी।फिर वो आंटी के ऊपर आ गए और दोनों टांगों के बीच आकर बड़ा सा लंड आंटी की चुत में दे मारा।आंटी चिल्ला उठीं ‘उइइ.

सेक्सी प्रोम पोशाक - हिंदी की बीएफ वीडियो में

इतना जितना आपने कभी अपनी जिंदगी में नहीं लिया होगा।मैंने कहा- ठीक है।आदी ने फिर से अपने लंड को मेरी चूत में जोर का झटका मार कर अंदर तक पहुंचा दिया।मैं फिर से जोर से चीखी, उसने मेरा मुँह दबा दिया और कहा- प्रमिला भाभी, आप कितनी चीखती हो?मैंने कहा- तुम्हारा लंड इतना मोटा है कि चीख निकल ही जाएगी.बातों के दौरान गुलफाम कली ने अपनी साड़ी उतार फेंकी थी और अब सिर्फ स्लीव लेस ब्लाउज और पेटीकोट में थी, बातों ही बातों में उसने अपना पेटीकोट भी उतर दिया, उसकी काले रंग की पेंटी आगे से दिख रही थी लेकिन पीछे की तरफ पैंटी उसके मोटे चूतड़ों में बिल्कुल घुस गई थी.

जिस लड़की को में पिछले 4 साल से पक्का दोस्त मानता था, आज मेरे साथ वो सब कुछ बांट रही थी. हिंदी की बीएफ वीडियो में मैंने दर्द भारी आवाज में कहा- एआइईईई जानू, धीरे से दबाओ, मैं कहीं भाग नहीं रही हूँ.

मौका देखकर उसने कहा- ऑफिशियल कब करने वाले हो?उसकी बात मैंने समझ ली और बोला- यार, वो तो घर वालों पर ही है, जिस दिन होगा, तुझे भी बुलाऊंगा.

हिंदी की बीएफ वीडियो में?

एक दिन मेघा को चोद रहा था, उसी टाइम मेघा बोली- हम लोग किसी डिस्को में चलते हैं, वहां दोनों एक-दूसरे के सामने मस्ती करेंगे. अगर फूफा जी को ज़ोर से धकेलने की कोशिश करती भी तो मेरी चूत में गड़ा हुया उनका लंड उनको हिलने नहीं देता. उसने मुझे बहुत तारीफ़ भरी नज़रों से देखा और मुझे पूछा- आप ड्रिंक्स में क्या लेंगी?मैं ड्रिंक नहीं करती थी, कोल्ड ड्रिंक ही लेना चाहती थी.

नंबर एक्सचेंज किये और मैंने उसके साथ घर पहुँच कर रात भर फ़ोन सेक्स किया और अगले दिन 11 बजे मिलने का प्लान बनाया. धीरे धीरे मैं उनकी गांड तक आया, एकदम गोरी, इतने बड़े बड़े उभार कि चूत के एक छोर से होती हुई एक लाइन आगे बढ़ रही थी और आगे न जाने कहाँ ख़त्म हो रही थी. कुछ मिनट में जब पूजा का दर्द कम हुआ और वो भी अपने कूल्हे उठा उठा कर मेरा साथ देने लगी.

मैं टयूशन पढ़ने एक टीचर के पास जाता था, उनका घर मेरे घर से थोड़ी दूरी पर था. ‘अब क्या बताएं सक्सेना जी, अम्माजी का फ़ोन आया था, बोल रही थी कि लड्डू के भैया के बिसनेस पर संकट मंडरा रहा है. और जैसे ही मैंने उसकी पेंटी पर हाथ रखा तो मैंने देखा कि उसके पास मेरे से भी लंबा नकली लंड बंधा हुआ था। उसने झट से बाज़ी उल्टी की और अपना लंड मेरे मुँह में दे दिया। मैं साँस भी नहीं ले पा रहा था, मेरे मुँह में उसका लंड फंस गया था।उसने मुझे उल्टा करके मेरी गांड में लंड डाल दिया और बोलने लगी- भोसड़ी के… बहुत चोदने की सोच रहा था ना मुझे.

आंटी बीच बीच में लम्बी लम्बी आहें भरती रही, कभी कभी अपनी चूत को हाथ से रगड़ती भी रही. उसके बाद चाची वहाँ से चली गई और मैं तैयार होने के लिए बाथरूम में घुस गया.

वहां पर कन्डोम के पैकेट और ब्लू फिल्म की सीडी रखी थीं जिन पर ऊपर से नंगी फोटो बनी थीं.

’ ऐसे ही कितनी देर तक वो मस्ती में आ के चहकती रही और लंड लीलती रही.

और बताओ आपको कहाँ खुजली हो रही है?सुमन ने हिम्मत करके फैसला किया कि अब शर्म जाए भाड़ में, मज़ा लेना ही ठीक होगा. तो वो कुछ कन्फ्यूज हो गई।मेरे प्यारे साथियो, मेरी इस सेक्स स्टोरी का आनन्द लें और मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें।[emailprotected]कहानी जारी है।. ’ की आवाजें आ रही थीं।कुछ देर बाद मुझे भी बहुत मजा आने लगा था, तब मैं उससे चिल्ला-चिल्ला कर कह रही थी- और दम दिखा साले, फाड़ दे मेरी चूत.

फिर मैडम नीचे से कमर उठाने लगीं और मुझे जोर से पकड़ कर दबाने लगीं, बोलीं- अशोक ओह ओह ओह अशोक, अब मैं झड़ने वाली हूँ. पूजा- ठीक है मामू मगर पुरानी टी-शर्ट का क्या करोगे आप?संजय- कल बता दूँगा. चोद डालो, खोद डालो मेरी बुर को अच्छी तरह से बहुत सताया है इसने मुझे!’मैं भी पूरे तैश में था, मुझे भी झड़ जाने की जल्दी थी तो मैंने उसकी चूत में लंड से चक्की चलानी शुरू की, पहले क्लॉक वाइज फिर एंटी क्लॉक वाइज… फिर आड़े तिरछे शॉट्स मारे…‘अंकल.

उनके जाने के बाद रीना रानी ने सुलेखा से कहा- मम्मी मैं अब पिक्चर जाऊँ? मधु इंतज़ार कर रही होगी.

मुझे दर्द हो रहा था, उम्म्ह… अहह… हय… याह… उनका हर शॉट मेरी जान निकाल रहा था. अब कैसे नहीं जाएगा कोशिश कर, बैठ जा आराम से।पूजा ने बहुत धीरे-धीरे बैठना शुरू किया। उसको दर्द हुआ मगर वो सहन कर गई और पूरा लौड़ा चुत में घुस गया।पूजा- आह आह. नताशा के चेहरे पर भी मुस्कराहट खिल गई और वो लहरा-लहरा कर हमसे गांड मराने लगी.

वो मेरा सिर अपने दोनों हाथों से अपने मम्मों पर दबाने लगी।उसके ऐसा करने पर मुझे और भी जोश आ गया और अब मैं उसके पूरे जिस्म को सहलाते हुए. और बस इस मौके की तलाश में था कि इसे अब किसी भी हालत में इसकी चूत के पानी से ही अपने लंड को हरा करूँगा. मैंने जल्दी से जाकर छेद से देखा तो दोनों बेड पर बैठकर पढ़ाई कर रही थी.

मैं ठहरा फौजी, मेरा किसी लड़की से कोई भी सरोकार नहीं पड़ता, मैं चोदने के लिए लड़की कहाँ से लाऊँगा.

मेरे हज़्बेंड ने भी कभी ऐसा नहीं किया।मैं नहीं माना क्योंकि भाभी हो या लड़की. मैं- तो कोठे पर बैठ जाओ!नौकरानी- तू मेरी चूत चोदेगा भी या सिर्फ सवाल पूछेगा?मैंने जल्दी से अपने कपड़े उतार दिए और उस बुढ़िया पर कुत्ते की तरह चढ़ गया, वो मेरा लंड लोलीपोप जैसे चूसने लगी.

हिंदी की बीएफ वीडियो में अपने बन्दों की नुमाइश के लिए कभी गुलफाम कली उनके पास भी जाती तब वे लोग उसकी चूचियों को ऊपर से ही दबा कर आनन्द प्राप्त कर लेते थे. उसने इतनी ताक़त से मुझे बाहुपाश में बांधा हुआ था जैसे ज़िन्दगी में पहली बार कोई लड़की मिली हो.

हिंदी की बीएफ वीडियो में पर वो कहाँ रुकने वाला था। करीब 20 मिनट के बाद वो मेरी चूत में झड़ गया। उस वक्त मुझे अपनी चूत में बहुत गरम फील हुआ, वो निढाल से होकर मेरे ऊपर गिर गया। कुछ देर बाद वो जब हटा तब हमने देखा मेरी चूत और उसके लंड पर खून लगा था और कुछ चादर पर भी लग गया था।वो बोला- बधाई हो, आज तू लड़की से औरत बन गई।हम दोनों बहुत थके हुए थे तो सो गए।दोस्तो, मेरी औरत बनने की चुदाई की कहानी आपको कैसी लगी. मेरी हसीन पत्नि का ऐसा सुन्दर रूप देख कर ऊपर से चोदता हुआ चंगेज़ बहुत उत्तेजित हो उठा और जोर-जोर से हुन्कार भरता हुआ लंड को एक्सप्रेस ट्रेन की रफ़्तार से गांड में चलाने लगा.

वैसे उसका जिस्म भी बहुत आकर्षक है, उसकी बॉडी की लुक देख कर लगता नहीं है कि वो मैरिड है, अपने आपको पूरा फिट रखती है.

सपना चौधरी के गाने

अब सहलाते-सहलाते वह लड़का काम वासना में भर चुका था और उस लड़की के सूट के ऊपर से उसकी चूचियों पर अपना हाथ फेरने लगा था. मैं कुछ कहता इस पहले ही वो आगे को बढ़ी और मेरे लोअर को नीचे को खींचने लगी. मैंने कांपते हाथों से उससे डिल्डो लिया और उसके सिरे को अपनी जीभ से छुआ.

मेरी पिछली कहानीमेरी और अभिलाषा की प्रेम भरी चुदाई स्टोरीआप सबने पढ़ी और खूब सराही. मम्मी ने ऋतु के बारे में पूछा तो मैंने कहा शायद वो अपने रूम में पढ़ाई कर रही है. ऐसा कुछ नहीं करूँगा जो तू नहीं चाहती पर ये सब करने के लिए भी तो हम दोनों का कहीं एकांत में होना जरूरी है.

मेरे बूब्स देख कर उसके पायज़ामे में लंड भी धीरे धीरे खड़ा होने लगा था जो दूर से ही पता चल रहा था.

मैंने तुरंत उठ कर माला का ब्लाउज एवम् पेटीकोट उतार कर उसे नग्न किया और फिर अपनी टी-शर्ट एवम् लोअर उतार दिया. मैं धीरे धीरे अपने हाथ का दबाव बढ़ा रहा था तो अब भाभी को सब समझ में आ गया था, वो बोली- मुझे छोड़ और यहाँ से जा!पर मेरे ऊपर वासना चढ़ चुकी थी तो मैंने उन्हें बेड पर गिरा दिया और उनके ऊपर चढ़ कर उनके होंठों को चूमने लगा. पसीने से भीग रही माला हाँफते हुए बोली- बस, मैं थक गई हूँ और नहीं कर सकती.

कुछ देर बाद मैं बाहर निकला तो रिसेप्शनिस्ट रश्मि मुझे देख कर सेक्सी तरीके से मुस्करा रही थी. जैसे ही केक काटा गया, मैंने केक की एक बाईट उठाई और सुलेखा की ब्रा के अंदर डाल दी. कुछ देर उसकी चूचियों को पीता रहा और धीरे धीरे लंड को उसी जगह आगे पीछे करता रहा.

मैं उठ खड़ा हुआ, मेरा पूरा मुंह गीला था और उस पर सभी लड़कियों का मिला जुला रस लगा हुआ था. उसके बाद मैंने अपना गाऊन पहनना चाहा क्योंकि मुझे लगा कि इस राउंड से उसका पेट भर गया अब और नहीं माँगेगा.

वो वैसे ही मुझे पकड़ कर उठ गया और मुझे हवा में उठा लिया दोनों हाथों से… मेरे पैर उसकी कमर पर लिपटे हुए थे और हाथ गर्दन पे लिपटे थे. मानसी मेरा हाथ पकड़ते हुए- मान भी जा मेरी जान, बता कहाँ चलना है?मैं- कहीं नहीं जाना अब तेरे साथ ओये. हमने तय किया कि अगले दिन दोपहर को स्कूल से आने के बाद हम ये शो करेंगे… मम्मी पापा के आने से पहले.

शाम को मैंने ऋतु को बताया कि मैंने सन्नी और विकास से बात कर ली है और वो ऋतु और पूजा को एक साथ नंगी देखने के लिए ढाई हजार देने को तैयार हैं यानी एक शो के पांच हजार रूपए! और साथ ही साथ ये भी कहा है कि अगर वो ऋतु की चूत भी चाटना चाहते हैं तो उसके पांच हजार रूपए अलग लगेंगे.

उसने रुस्लान के पेट के ऊपर लेटी हुई रूसी लड़की के चूतड़ों को थोड़ा ऊपर की ओर उठा दिया और अपने लंड को बाहर निकाल कर दूसरे कोण से अन्दर घुसेड़ना शुरू कर दिया. पर भाभी मुझे चूमने नहीं दे रही थी।इतने में किसी ने दरवाज़े पर दस्तक दी और मैं दरवाज़े पर देखने चला गया तो वह कोई कोरियर बॉय आया था जिस पर मुझे बहुत गुस्सा आया।उसके बाद मैं अपने रूम में आ गया। उसके बाद मेरी भाभी से कोई बात नहीं हुई।अगले दिन भाभी मुझसे नज़र नहीं मिला रही थी। मैंने उनसे कारण पूछा तो उन्होंने बोला कि वो शाम को बताएंगी. मैंने बिना सोचे अपने घर वालों को छोड़ दिया था। आज 21 साल हो गए मुझे उनसे मिले हुए। तुम्हारे पापा के प्यार में कोई कमी नहीं थी मगर अपने परिवार से दूर होना क्या होता है.

ऐसी परिस्थिति से मैं परिचित था तो उसके दर्द की परवाह किये बगैर मैं उसे अपने नीचे दबोचे रहा और लंड को हिलाता डुलाता रहा. मगर अब दीदी नहीं हैं तो जब तक वो नहीं आतीं, मैं ठीक से आपके पैर दबा दूँगी.

अंडरगार्मेंट्स उसको चुभते थे मगर पीरियड्स के चलते उसने सिर्फ़ पेंटी पहनी हुई थी. लगता है संदीप ने इन दोनों को भी मुझे अपने लंड चुसवाने के लिए पहले ही बुलाया हुआ है। मैंने सोचा- हिमांशु, अब तो तू भगवान भरोसे है… रात को ना तो कोई साधन है और ना दूर-दूर तक कोई आदमी…संदीप जाकर उनके पास बैठ गया और उसने भी अपनी शर्ट निकाल दी और बनियान भी… संदीप का बदन बनावट में उन दोनों से दोगुना भारी था… उसकी छाती उठी हुई और डोले भी काफी मोटे और मजबूत थे. पास में ही रामदेव मंदिर था और उसी के पास थोड़ी दूर पर उसका घर… घर के साथ में ही एक बरामदा था जिस पर लोहे के गजों का बना हुआ गेट लगा हुआ था.

नंगी पिक्चर सेक्सी सेक्सी

मैं तो अपनी जन्म-जन्मांतर की हमसफ़र के ऊपर लेटा उसकी चूत मार ही रहा था… एक बदलाव की खातिर मैंने अपने लंड को एंड्रयू के लंड द्वारा चुद रही नताशा की गांड में घुसेड़ने की कोशिश की तो हर बार मेरा लंड फिसल कर दुबारा चूत में ही घुस जाता था!इसका मतलब भगवान को ही मंजूर नहीं… और मैंने अपनी बीवी की चूत मारना जारी रखा.

तो हम सारे भाई-बहन नीचे बिस्तर डालकर सोने लगे। भैया सबसे बड़े थे और उस वक्त चूंकि ठंड का टाइम था तो उन्होंने मुझे अपने पास सुला लिया।मैं सोते वक़्त सलवार कुर्ती. मैं रात को बुझे मन से चाची के घर पहुंचा जाके देखा तो रवि चारपाई पे सो रहा था और पास में चाची का लड़का भी सो रहा था. मगर रात को तुम ऐसे कैसे सोती हो जो कमरे का ये हाल हो जाता है?मोना- तुम कहना क्या चाहते हो रात को कोई और यहाँ आता है क्या.

बस तक तक सब्र कर!फिर उसने मुझे छोड़ दिया तो मैंने अपने कपड़े ठीक किए और फिर से पढ़ने बैठ गया क्योंकि माँ पिताजी का मंदिर से वापिस आने का समय हो गया था. तभी स्वान नेगोरी की गांडसे लंड बाहर निकाल कर उसके मुंह में जाने की इच्छा जताई, और एंड्रयू ने दोस्त की इच्छा का सम्मान करते हुए अपना लंड मेरी वाइफ के मुंह से बाहर निकाल लिया. मारवाड़ी इंग्लिश पिक्चर सेक्सीअगले दिन जब मैं उठा तो कल रात की बातें सोचकर मुस्कुराने लगा, फिर कुछ सोचकर झटके से उठा और छेद में देखने लगा.

इसके होंठ देख कितने प्यारे है ना!मीना- हा हा हा तुझे किसने रोका है. यह देखकर ऋतु ने मुझे घूर कर गुस्से के लहजे में देखा और अगले ही पल हंसकर मुझे आँख मार दी.

जमीला आँख मारते हुए- राजेश जी, ऐसा क्या इमरजेंसी काम पड़ गया?जमीला ने एक हाथ से स्टेयरिंग सम्भाल के एक हाथ को मेरी जांघ पर फिराते हुए पूछा. उस गर्मी के मिलते ही मेरे लिंग ने उस योनि रस के लावा को ठंडा करने के लिए वीर्य रस की बौछार कर दी. मैंने भी अंतिम कुछ शॉट्स खेले और और फिर मैं भी झड गया, उसकी चूत अपने वीर्य की पिचकारियों से लबालब भर दी.

मैं दर्द के मारे रो पड़ा… दर्द इतना असहनीय था कि घुटने पेट में घुस गए… लेकिन दर्द कम नहीं हो रहा था. मोहन बोला- पहले बेटे को इसके मामा के घर छोड़ देते हैं, यदि मेरी ससुराल में कोई पूछे तो बता देना तुम मेरे पीसी में सॉफ्टवेयर डालने आये हो।मैं मजाक में बोला- भाई सॉफ्टवेयर भी और अपना हार्डवेयर भी!तो वो हंसने लगा. फिर जब वो झड़ने वाली थीं, तो मैंने एक आखिरी ज़ोर का झटका लगा दिया और वो झड़ गईं.

मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और जब मैं झड़ने वाला था तो थोड़ा सा घूम कर अलमारी की तरफ हो गया और खड़े होकर अपनी धारें मारनी शुरू कर दी.

बहुत छोटा सा निकर और सफ़ेद टॉप… वो जानती थी मैं उसकी मस्त, गोरी, चिकनी टांगों से बहुत प्रेम करता हूँ. मैं भाभी के सामने अपने दोनों पैरों को पूरा फैलाकर खड़ी हुई थी और वो अब नीचे बैठकर मेरी चूत के बाल बहुत प्यार से कपड़े से साफ कर रही थी।इस बीच उन्होंने मुझे खुलकर लंड और चूत की चुदाई की मजेदार बातें बताई, जिनको सुनकर मैं बहुत उत्तेजित हो गई थी और फिर मैंने उनसे भी पूरा नंगी होने के लिए बोला तो उन्होंने भी तुंरत खड़ी होकर अपनी पेंटी और ब्रा को उतार दिया.

दोस्तो, मेरा नाम सविता है, मैं आज आपको मेरी सच्ची कहानी बताने जा रही हूँ. मैं बाहर से आया था और पसीने पसीने हो गया था इसलिये बाथरूम में नहाने चला गया. दोस्तो क्या माल थी वो… एकदम गदराया हुआ बदन, उसके बूब्स तो इतने मस्त थे कि मन कर रहा था कि अभी जाकर उन्हें मुँह में भर लूँ! उसका फिगर शायद 32-28-30 का होगा.

मैंने पहले भी बताया कि अनिता बहुत खूबसूरत लड़की है, फिर ऐसा यौवन किसी को भी पागल बना दे. सुमन- माँ एक बात है जो अक्सर मेरे दिमाग़ में आती है, कई बार मैंने सोचा आपको पूछूँ… फिर भूल जाती हूँ. मैं अंगड़ाई लेने लगी दर्द के कारण, लेकिन उसकी पकड़ इतनी मजबूत थी कि मैं हिल भी नहीं पा रही थी.

हिंदी की बीएफ वीडियो में ऋतु अपने एक हाथ से पूजा की चूत का दाना मसल रही थी और मैं पूजा की रसीली चूत को साफ़ करने में लग गया. मैं वैसी औरत नहीं हूँ। ये सब मुझे बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता है।मैंने बोला- ठीक है अच्छा ये सोचो कि वो बूढ़ा हमें ये सब करते हुए देख रहा है।संजना ने मेरे ऑखों में देखा और बोली- क्या आप भी ना.

सेक्सी बढ़िया फोटो

फिर एक दिन मैंने उसके घर जाने की सोची, मैंने उसको फोन किया तो वो बोली तो मैंने उसको कहा- आपके लिए एक काम है, मैं आपके घर आ जाऊँ?तो उसने हाँ बोल दिया. मैंने कहा- फोन करके पूछ लो।मोहन ने बड़ौदा वाले कपल में रफीक को फ़ोन किया, पूछा- क्या कर रहे हो?तो वो बोले- बस अभी खाना खाया है और बैडरूम में टीवी देख रहे हैं. मामाजी कभी मॉम की चूत में उंगली डालते और कभी चूमते। मामाजी ने ऐसे करके मॉम के पूरे शरीर को अपनी जीभ से चाट लिया।मामाजी ने चूत में घुसेड़ने के लिए लंड को हिलाया और मॉम ने भी अपनी टाँगे फैला दीं और मामाजी को लंड घुसेड़ने का सिग्नल दिया।इस वक्त मॉम की चूत मुझे साफ़ दिख रही थी.

मैं उन सभी पाठकों का भी बहुत आभारी हूँ जिन्होंने मेरी उपरोक्त रचना को पढ़ने के बाद अपने मूल्यवान समय में से कुछ कपल निकाल कर उस पर अपने विचार लिख कर भेजे. खाना तो हो गया अब अपनी रसीली चुत का रस भी पिला दे।मोना- आ जाओ मेरे गोपू. हिंदी देसी गांव की सेक्सी वीडियोजैसेचार फ़ौजी और चूत का मैदानको तो अपने बहुत ही पसंद किया था और मुझे बहुत सारी मेल भी आई थी.

आज मैं पहली बार चुद रही थी, वो भी दो लंड एक साथ चूत में!मुझे लगने लगा कि आज मेरी जान जाने वाली है.

हमें लगा कि शायद महक और राजेश आ रहे हैं, सो हम अलग होके अपने कपड़े ठीक कर हॉल का दरवाजा खोल कर वापस सोफे पे बैठ गए।प्रिया पूरी लाल हो गई थी, उसके गोरे निखार के वजह से पहचान में आ रहा थी कि ये बहुत रोई है।पर सोफे पर बैठने के बाद उसने मुझे किस कर थैंक्स कहा और बोलीं- रोहन आज मुझे बहुत अच्छा लगा. मैं साँवले रंग का हूँ, बॉडी स्लिम और कद मध्यम है, जिम जाने की वजह से शरीर ठीक लगता है.

मैं अंगड़ाई लेने लगी दर्द के कारण, लेकिन उसकी पकड़ इतनी मजबूत थी कि मैं हिल भी नहीं पा रही थी. 5″ लंबी और मोटी भी इतनी कि एक नॉर्मल आदमी के लंड जितनी, टीना तो उसको देखती रह गई।टीना- ओह माय गॉड. सॉरी मोना मगर बात क्या है आप समझ रही हो ना!मोना ने एकदम से खुलते हुए कहा- हाँ पता है लड़की की बात है। अब लड़की होगी तो चुदाई भी हुई होगी.

आज उसने रेड और वाइट कलर का एक गाउन पहना था, जिसमें उसका निखार अलग ही नज़र आ रहा था.

जिसे सुनकर काका खुश हुआ था।चलो वहीं से कहानी शुरू करती हूँ। आप भी समझ जाओगे।राजू- काका बस एक बार. इस बार चुदाई इतनी तेज थी कि मैं दो बार झड़ चुकी थी तब मुरुगन का लंड फटने को हुआ. नीतू बहुत शर्मा रही थी मगर मोना ऐसे बर्ताव कर रही थी जैसे ये उसका रोज का काम हो.

सरफराज के सेक्सी वीडियोउसने मेरे लंड पर कण्डोम लगाकर मेरा लंड अपनी चूत पर सेट किया और मुझे बोली- अब चोदो मुझे खूब, आज बुझा दो मेरी प्यास!मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रखकर एक ज़ोर का झटका दिया तो उसकी थोड़ी चीख़ निकल गई, फिर मैंने दूसरा झटका दिया तो आधा लंड उसकी चूत में चला गया, फिर तीसरे धक्के में पूरा लंड उसकी चूत में चला गया और उसकी ज़ोर से चीख़ निकल पड़ी. ’‘तुम्हारे चूतड़ भी बहुत मस्त हैं… इन्हें सहलाने में कितना मजा आ रहा है.

తమిళ్ బ్లూ ఫిల్మ్

मीना- वैसे तुझे ज़्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी, वो ऐसी है कि गोपाल खुद उसको चोदने का प्लान बना लेगा. मैंने भी उसकी हाँ में हाँ मिलाई और कहा- हाँ, हाँ वही!वो बोला- रेलवे लाइन पार करके सीधे हाथ को एक रोड जा रहा है उस पर सीधे-सीधे चला जाइयो… जब तक मंदिर ना आए. बस दीपा से मिलने आई थी।’आंटी ने ज्यादा बातें नहीं की और चुपचाप अपने घर वापस चली गईं।दूसरे दिन अंकल भी बड़े प्यार से बातें कर मस्का मार रहे थे। मैं उनके लंड को देख चुकी थी। अंकल को देखते ही मेरा मन मचल गया था। भले ही वो 2 बच्चे का बाप था.

कभी लंड की स्पीड को कम कर देता तो कभी एकदम तेज़ जिससे उसके और मेरे चुदाई की एक्साईटमेन्ट ख़त्म न हो और बढ़ जाये. मेरे दबे हुए मुंह से ऊंह… ऊंह… की जोर-जोर की आवाजें आने लगीं लेकिन जग्गी ने मेरे मुंह पर अपने हाथ का दबाव और ज्यादा बढ़ा दिया. लड़की हल्का सा जागी और ‘ऊं… हटो’ बोली मगर उसने अपनी आँखें नहीं खोली.

थोड़ी देर बाद संजय वापिस आया तब तक कुछ बहाना स बनाकर सी ए साब मेरी दायीं ओर बैठ चुके थे. बात उस समय की है जब मैं पहली बार मुंबई आया था और अपने नए किराए के मकान में रहने आया था. मेरे पास इनके फ्लैट की डुप्लीकेट चाबी है, सोचा कि तुम लोग आओगे, तब तक नहा लूंगी और दिन भर दोनों ननद भाभी तेरे मस्ताना का मजा लेंगे.

उसका टॉप बैकलेस था… पूरी बैक शो हो रही थी और चूचे भी बहुत ज्यादा दिखाई दे रहे थे. ‘पैंटी ब्रा वगैरह नहीं पहनती घर में?’ मैंने उसकी झांटो में उंगलियाँ पिरोते हुए पूछा.

चुची के क्या कहने! बहनचोद बड़े बड़े मर्दों को बहका देने वाली चुची… मादरचोद कम से कम 42 की ब्रा डालती होगी और वो भी डी कप वाली.

मोना समझ गई कि अब खेल खत्म हो गया… तो वो बाहर मेन गेट के पास गई और नीतू को आवाज़ लगाने लगी. ब्लू पिक्चर आजा सेक्सीहम वहाँ बैठे रहे, आते जाते लोगों को देखते रहे, एक से एक बढ़िया गाड़ी, एक से एक बढ़िया नौजवान लड़के लकड़ियाँ, शानदार कपड़े पहने हुये, महंगे परफ्यूम लगाए हुये. सेक्सी वीडियो हिंदी फुल एचडी मेंइतने में खरखौदा का स्टैंड भी आने ही वाला था और कुछ देर में बस खरखौदा स्टैंड पर पहुंच गई. जो करना है कर लो मगर प्यार से करना।साहिल- विक्की साली को एक साथ चोदेंगे.

सभी चूत वालियों को भी धन्यवाद जिन्होंने मेरी कहानियाँ पढ़ कर अपनी चूत खोल कर मुझे इमेल भेज कर और अपनी चूतों में उंगली करके प्यार दिया.

चूँकि किचन मेरे कमरे में ना होकर बाहर बरामदे की तरफ है तो हम दोनों किचन में बिना लाइट जलाए चले गये. उसकी 34 बी साइज़ की सफ़ेद रंग की चूचियाँ तन कर खड़ी थी और उन स्तनों की शोभा बढ़ाते दो छोटे निप्पल किसी हीरे की तरह चमक रहे थे. तुम्हारे भैया तो कभी भी मेरी चुत नहीं चूसते। अभी तो बहुत दिनों से उन्होंने मुझे चोदा भी नहीं है।करीब दस मिनट तक मैंने उनकी चुत को चूसा, फिर मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए। अब मैं भाभी से बोला- मेरा लंड भी अपने मुँह में लीजिए।वो मना कर रही थीं.

फिर दूसरे दिन उसने मुझसे पूछा- बताओगे नहीं?तो मैंने कहा- एकांत में. बाक़ी बातें लंच के टाइम कर लेंगे।गोपाल सो गया और मोना अपने काम में लग गई दोपहर को भी यहाँ कुछ खास नहीं हुआ बस वही कामवाली को लेकर बातें हुईं।मगर दूसरी तरफ सुमन की जिंदगी में आज नया मोड़ ज़रूर आएगा. यह कहानी सिर्फ मनोरंजन के लिए लिखी गई है, इससे किसी व्यक्ति, नाम, स्थान से कोई सम्बन्ध नहीं है.

कपड़ों में खुलेआम देखते हुए सेक्सी फोटो

चाची ने आश्चर्य से बोली- हाँ रे अशोक, ये तो सच में, अरे बाप रे…!चाची और आगे देखने लगी. उसने पूछ ही लिया तो टीना ने कहा कि ऐसी बातें बताते वक़्त चुत में आग लग जाती है, जिसे बुझाना ज़रूरी होता है, इसलिए मेरी जान पीरियड खत्म होने दे, सब बता दूँगी. मैंने देखा कि लड़के का लंड उसकी पैंट की चैन के पास एक साइड में किसी मोटे डंडे की तरह तनकर साइड में निकला हुआ है.

अब मैं दो लंड एक साथ लेना चाहती थी, इसलिए मैंने गौरव को इशारा करके गांड में लंड डालने कहा, तो सबने मुझे चौक कर देखा और कहा- अरे यार, ये साली तो हर तरफ से चुदी हुई है.

ऐसी ही लेटी रहने दो मुझे!’‘लेकिन अभी मेरा पानी तो निकला ही नहीं ना’ मैंने शिकायत की.

मैं नंगा खड़ा था, ऋतु आगे आई और मेरा लंड पकड़कर मुझे अपने रूम में ले गई और अपनी नंगी सहेलियों के सामने ले जा कर खड़ा कर दिया. मैंने जगह बदली, अब मैं नीचे और वो मेरे ऊपर चढ़ कर चुदवा रही थी, फिर से पहले जैसा नजारा था, उसका एक हाथ मेरे छाती की बाल पर और दूसरा हाथ उसके सर पर था, 20-25 धक्के लगे होंगे कि वो फिर से झड़ गई और निढाल हो गई. एक्स एक्स सेक्सी व्हिडिओ सेक्सी व्हिडिओस्नेहा अभी भी अपनी चूत फैलाये हुए थी और मैं लंड को सटासट उसकी चूत की दरार में चलाये जा रहा था.

और यह बोल कर मैं वहां से आ गया।अब मैं भाभी से बात नहीं कर रहा था और दो दिन निकल चुके थे तो शाम के टाइम भाभी का मेरे पास फ़ोन आया और बोली- मेरे रूम में आओ।मैं काफी गुस्से में था तो मैं जाकर बोला- अब क्या काम है?भाभी बोली- क्या बात है तुम मुझसे बात क्यों नहीं करते?तो मैंने साफ़ साफ़ बोल दिया कि आपने मेरे साथ ठीक नहीं किया।भाभी बोली- तुझे क्या चाहिए?मैंने बोल दिया- मुझे तो आपकी सेवा चाहिए. मानसी- जो मज़ा तुम्हारी हालत पतली करने में आ रहा है, वो और किसी चीज़ में नहीं आ सकता जस्सी!मैं- तुमने अभी तक लंड का मज़ा नहीं भोगा इसलिए ऐसे कह रही हो. !सोनी- ठीक है उसको बोल दूँगी।सौरभ- भाभी को कब चुदवाएगी?सोनी- अगली बार जब तू आएगा तो चुदवा दूँगी।सौरभ- तूने कभी गांड भी मरवाई है?सोनी- हाँ.

वो हर धक्के का मजा ले रही थी और हमारी चुदाई का मजा हर धक्के में साथ बढ़ता जा रहा था. फिर अचानक से चाची ने तेज़ चूसना शुरू कर दिया, मैं भी जोर से चाची की चूत चाटने लगा.

अब तू मज़े ले।काका को ऐसी मस्त चुत मिल गई, वो अब कहाँ रुकने वाले थे.

मरियम के मुंह से ‘आह…’ निकला, मुझे ऐसा लगा कि मेरा लंड किसी बहुत ही गर्म जगह पर जाकर फंस गया है, मेरे हाथ-पाँव काम्प रहे थे, मुझे लगा कि कोई चीज मेरे अन्दर से बाहर आना चाहती है।उसके मुंह से बस वो हल्की सी आह निकली, मरियम ने मेरी तरफ देखा और फिर वो सुधा के मम्मों को पीने लगी. पड़ोस में एक भाभी अपनी रिश्तेदारी में आई हुई थी, भाभी ने मुझे पटा के अपनी चुत की चुदाई कैसे करवाई, इस सेक्स स्टोरी में…मेरा नाम जय है और मैं दमन का रहने वाला हूँ, मेरा कलर फेयर है और बॉडी स्लिम है। यह चुदाई की कहानी मेरे पड़ोस में रहने आई एक भाभी के संग की है।ये बात पिछली गर्मियों की है। मेरे पड़ोस में एक भैया-भाभी रहते हैं। उनकी शादी को एक साल हुआ था। अब भाभी प्रेग्नेंट थीं. मैं- मैं तुझे बहुत प्यार करता हूँ मानसी पर मैं तेरे ताने नहीं सुन सकता.

सनी लियोन पिक्चर सेक्सी जल्दी कर ना!मैंने फिर भी उनकी चूत को चाट-चाट कर गीली कर दी, फिर उनकी चूत में ज़ुबान डाल कर चाटने लगा. नमस्कारमोना रानी के शब्द समाप्ततो पाठक पाठिकाओ, आपने इस इंडियन चूत चुदाई कहानी में पढ़ा कि कैसे इस बदमाश मोनारानी ने अपने पति के सामने मुझसे चुदाई का सपना पूरा किया.

मीना- अब वो तेरी मर्ज़ी है तू इसे क्या दिलाती है, चल मुझे बाहर तक छोड़ दे. उसका लंड अभी भी खड़ा था… जाहिर सी बात थी यह सब मेरे नंगे बदन के कारण ही था। उसका खड़ा लंड देखकर मैं समझ गई कि रोहित क्यों इतना शर्मा रहा है. मैंने उसके मम्मों को दबाते हुए एक हाथ से उसकी पैंट के साथ पैंटी भी निकाल दिया.

ब्लू फिल्म वीडियो सेक्सी वाली

रफ़्तार बढ़ने के साथ ही मैंने अपने बदन को और कड़ा कर लिया, मामा को और ज़ोर से लॉक कर लिया, इससे मेरी चूत और कस गई, मामा जी का लंड मेरी चूत के अंदर कस कर रगड़ खाने लगा. क्या चूची थे… एकदम दूध जैसी और बड़ी बड़ी… क्लीवेज तो मानो कोई घाटी हो!मैं आंटी की चूची देखता ही रह गया. मैं पहली बार ब्लू फ़िल्म देख रही थी और मैं अभी तक गर्म ही थी, इसलिए वो फ़िल्म मेरे बदन में सनसनी पैदा करने लगी.

फिर भी डरते डरते कई बार उसे कोचिंग के टाइम बाइक पर बैठा कर दूर जंगल में ले जा के या पास में बांध की तलहटी में चोद कर उसकी प्यास बुझाई भी!इसके लिए मैंने उसे टिप्स दीं थी कि वो सिर्फ सलवार कुर्ता पहन के आयेगी और इनके नीचे ब्रा या पेंटी नहीं पहनेगी साथ में मैंने उसे ये भी सिखाया कि चूत के सामने जो सलवार का हिस्सा होता है वो वहाँ की सिलाई उधेड़ दे जिससे बिना कपड़े उतारे उसकी चूत में मैं लंड पेल सकूं. लगभग दस मिनट के बाद जब दोस्त चला गया तब मैं कमरे में गया तो चाची को कंप्यूटर पर एक वीडियो देखने में तल्लीन देखा.

यह समझ ही नहीं रहा है।फिर 5 मिनट में वो तेल लेकर आ गया और मेरे पैरों पर तेल लगाने लगा और उसने हिम्मत करके मुझसे कहा- भाभी नाइटी थोड़ी ऊपर उठा लो.

वो ऊपर वाले कमरे में सो रही है।उसने कहा- कोई प्राब्लम तो नहीं होगी ना?मैंने कहा- नहीं. मोना के शब्दकोष में इतनी गहराई नहीं है कि आपका वर्णन भली भांति कर सके. बिल्कुल भी ज़ाहिर नहीं होने देगा कि कमीना तुझे दो सौ बार चोद चुका है.

नौकरी पे बनती आई तो उसको मेरी कुछ बात समझ आई- देख जस्सी, तेरी सब बातें ठीक हैं पर मैं सेक्स नहीं करना चाहती और कमरे में पता नहीं तू क्या करेगा और क्या नहीं? फ़ोन पे सेक्स करना अलग बात है और असल में ऐसा करने का मतलब है कि मैं अपने घर वालों को धोखा दूंगी और मैं कुछ भी गलत नहीं करना चाहती. बड़ी आग लगी हुई है।इधर राजू की जीभ भी अपना कमाल कर गई थी, राधा भी उत्तेजित होकर चुदने को बेताब हो चली थी।राधा- आह. बस फिर क्या था, मैं उठा और उसे कहा- चारपाई पकड़ और किचन में चल!और फिर हम दोनों चारपाई किचन में ले गये.

बीच-बीच में उस की कमर और शरीर के सभी हिस्सों को छूना और किस करना जारी रखा.

हिंदी की बीएफ वीडियो में: उसने भैंसों के चारा डालने वाली जगह पर बंधीं बेलों को दोनों भैंसों के गले में डालते हुए उनको खूंटे से बांध दिया. सुमित- अरे सब सोच समझ लिया मोना डार्लिंग… तू फोन लगा ना राज को!मैंने फोन मिलाया और जैसे ही रिंग जानी शुरू हुई मैंने फोन सुमित के हाथ में थमा दिया.

मैं पहले उसकी दोनों टांगों को फैला कर अपना मुँह चूत पर ले गया और मैंने उसकी चूत को चूमा, फिर चूत के बालों को होंठों में दबा कर ऊपर खींचने लगा, फिर उसके योनि-लबों को अपने होंठों में दबा लिया. ’‘तुम्हारे चूतड़ भी बहुत मस्त हैं… इन्हें सहलाने में कितना मजा आ रहा है. इतने में उस लड़के की नज़र फिर मुझ पर चली गई लेकिन मैंने भी इस बार नज़र नहीं हटाई और वो मेरी तरफ देखकर मुस्करा दिया और बदले में मैं भी…अब उसने लड़की का सिर पकड़कर ऊपर नीचे करना शुरु कर दिया और बड़े प्यार सेलड़की उसका लंड चूसने लगी.

फिर थोड़ी देर में उनका बदन अकड़ा और वो झड़ गईं। मैंने भी और 8-10 धक्के लगा कर उनकी चुत की गहराई में माल झाड़ दिया और आवेश में आकर जी भर के भाभी की चूची चूसी।हम दोनों की साँसें फूली हुई थीं, भाभी आँखें बंद किए एक मुस्कान लिए लेटी थीं और मैं उनके वक्ष पर सिर पटक कर हाँफ रहा था।वो मेरे बालों में उंगली फिरा रही थीं। भाभी- आई लव यू सओ मच अक्की.

मेरे वीर्य की बूदें उछल कर सीधा माँ के ऊपर उसकी साड़ी और पेट पर जा गिरी जो मेरे सामने खड़ी हो कर डांट रही थी. रुचिका की ऐसी चुदाई से मेरे टट्टे अब जवाब दे रहे थे, मैंने देखा कि रुचिका की चूत की धार बह रही है, उसने मेरे ट्टटों से लेकर नीचे तक सब कुछ भिगो दिया था. उसका लंड अब पूरा टाइट था- नाउ बेबी… थिस बुल विल राइड ओन यू… आर यू रेडी नाऊ?और वो मेरे करीब आया, मेरे दोनों पैरों को उसने उठाया और दोनों को एक दूसरे से दूर कर दिया, इसकी वजह से मेरी चूत काफ़ी खुल गई थी.