हिंदी बीएफ बिहार वाला

छवि स्रोत,काजल अग्रवाल की सेक्सी बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

पंजाबी सेक्सी वीडियोxxx: हिंदी बीएफ बिहार वाला, मुझे मम्मी की शरीर पूरा दिखाई दे रहा था, उनकी प्रत्येक सांस के साथ उनकीबड़ी-बड़ी चूचियांऊपर नीचे हो रही थीं.

सेक्सी बीएफ गाना भोजपुरी

मैंने उससे कहा- पहली बार में थोड़ा बहुत दर्द तो होगा, झेल लेगी?उसने कहा- आज तो मेरी जान भी निकल जाए, तब भी कोई बात नहीं. सेक्सी बीएफ बिहारी भाषामैंने देर ना करते हुए उसे जकड़ कर पूरा लंड उसकी नयी चूत में घुसा दिया.

खुद तो केवल चड्डी बंडी में थे लेकिन दीदी को पूरी नंगी कर दिया जिससे उनकी चुचियां और बुर दिखाई देने लगी थीं. बीएफ देसी छोरीमैंने भी पांच छह धक्के मार कर उसको भींच लिया और अपना पूरा माल उसकी चुत में अन्दर तक डाल दिया.

बल्कि एक दो बार तो मैंने महसूस किया कि जितना झटका लगता था, वो उससे कुछ ज्यादा ही उछल कर मेरी पीठ से अपने मम्मे रगड़ देती थी.हिंदी बीएफ बिहार वाला: ये मुझे भी नहीं मालूम था इसलिए मोनिका की बात सुनकर मुझे बड़ा अजीब सा लगा.

उन दिनों मेरे एग्जाम की तैयारी चल रही थी तो मैं पूरे दिन घर पर ही रहता था.कुक्कू को मैंने बेड के सिरहाने करके बैठाये हुए था और मैं खड़ा होकर उसके मुँह में लंड पेल रहा था.

कुत्ता और लड़की वाली बीएफ - हिंदी बीएफ बिहार वाला

उसने टांगें खोल कर मुझे आगे बढ़ने का इशारा किया तो मैंने धीरे से उस उंगली को चूत में पेल दी और अपने लंड को ज्योति को पकड़वा दिया.हम लोग एक दिन में 2 से 3 बार सेक्स करते थे बहुत मजा आता था।फिर सब ऐसी चलता रहा.

मुझे दर्द तो हो रहा था मगर कुछ नया करने की चाह में मैं सारा दर्द भूल गयी और चुदाई का मज़ा लेने लगी. हिंदी बीएफ बिहार वाला यह सुन कर अंकिता बोली- साली बड़ी हरामिन निकली तू तो … कितने लंड खा चुकी?अंजली हंसी और बोली- गिने नहीं.

मैंने कहा- कुक्कू, तुम्हारा शरीर बहुत लाजवाब है, इसे मैं गदरा दूंगा.

हिंदी बीएफ बिहार वाला?

साली जीजू सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी साली मेरे घर रहने आई तो मेरा लंड उसे देखकर खड़ा होता था. मतलब जितनी बेरहमी से वो मेरे मुँह को चोदता था और चोदने के बाद उतने ही प्यार से मुझसे बात भी करता था. उसकी कामुक आवाजें मुझे और ज्यादा उत्तेजित बना रही थीं और मेरा जोश भी बढ़ रहा था.

पर मेरा तो अभी शुरू हुआ था तो मैंने अपना लोअर और टीशर्ट अलग किया और अपना अंडरवियर भी उतार दिया. एक दिन नीता बोली- अंजू एक बात पूछूं?मैंने कहा- हाँ पूछ!वो बोली- तू दीप से चुदवायेगी?एक बार तो मुझे करंट सा लगा कि मेरे दिल की बात इसे कैसे पता चल गई. चाचा ने हम सभी को पूरी बात बताई और पूछा कि तुम लोगों को तो इस शादी से कोई ऐतराज़ नहीं?हम तीनों ने भी समझदारी के साथ उन्हें कह दिया कि हमको किसी तरह का कोई ऐतराज नहीं है.

आज पहली बार मैं किसी परायी बीवी को समंदर के किनारे खुले आसमान के नीचे चोद रहा था और अपनी बीवी किसी और से चुदवा रहा था. फिर जैसे ही मैंने उसके दूसरे चूचे को पकड़ा, उसने मेरा टी-शर्ट उतारनी चाही, पर मैंने उसे रोक दिया. फिर थोड़ी देर ऐसी ही बात करते करते उसने बताया- कोरोना के कारण मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड से दो हफ़्तों से सेक्स नहीं किया है और अब मुझसे रहा जाता है.

उस समय मेरी मम्मी इतनी ज्यादा गर्म हो चुकी थीं कि उनके दूध बिल्कुल सख्त और निप्पल एकदम खड़े हो गए थे. तभी मैंने रिशू के कपड़े ठीक किए जल्दी जल्दी से!उस दिन से मैं सोचने लगा कि कैसे भी करके अपनी चचेरी बहन रिशू की बुर की चुदाई करनी है।इसके बाद हम सब लोग गर्मियों की छुट्टियों में अपनी बुआ जी के घर गए.

ऐसे ही धीरे धीरे दिन बीतते गए और एक दिन मैंने उसे पकड़ लिया।वो किसी लड़के से बात करती थी तो मुझे बहुत गुस्सा आया.

फिर वो अपने पैर हवा में फैला कर मेरे लंड को अपनी चूत में घुसने का न्यौता देने लगी.

मैंने दीदी से कहा- तो एक बार फिर से हो जाए?दीदी ने कहा- क्यों तू कहीं जाने वाला है क्या?मैंने कहा- नहीं तो!दीदी ने कहा- मैं भी कहीं जाने वाली नहीं हूं. ये सुनते ही उन्होंने अपने चॉकलेट से भरे मुँह से मुझे किस किया और सारा चॉकलेट मेरे मुँह में डाल दिया. वो मेरे सीने को चूम रही थी और मेरे पेट और लण्ड‌ को सहला रही थी, मैं उनकी पीठ पर हाथ फेर रहा था।ऐसे ही लेटे लेटे हम दोनों की अब नींद लग गई, पता ही नहीं चला.

और फिर एक जोरदार वापसी के साथ भाई का लौड़ा मेरी चूत को चीरते हुए पूरा अंदर चला गया. फ्रेंड्स, मैं आज आपको सच्ची हॉट लेस्बियन सेक्स की कहानी सुना रही हूँ. वो मेरे दोनों हाथ पकड़ कर अपने मम्मों पर रख कर मुझे अपनी चूत और गांड को रगड़ रही थी.

वो कामुक सिसकारियां भरने लगीं, मैं पूरी जीभ को अन्दर तक डाल कर घुमाने लगा.

जैसे ही मैंने एक मम्मा पकड़ कर चूसा, उसकी मादक सिसकारी निकल गयी- आअ ह्ह्ह ऊऊह्ह उम्म!मैं उसके मम्मे चूसता, कभी पेट पर किस करता, कभी उसके पेट की साइड पर … जिससे वह और मचल जाती और आहें भरने लगती. दीदी ने कहा- वो क्यों बिछाना है?मैंने कहा- मालिश करते समय बेड पर तेल लगेगा, तो पूरा बेड गंदा और खराब हो जाएगा. मैं- अब आप इतना कह ही रही हैं तो गरम-गरम आलू के परांठे मिल जाएं, तो मजा आ जाएगा, इस बहाने आपके हाथ का स्वाद भी चखने को मिल जाएगा.

मेरी बुआ की काले रंग की टाईट ब्रा से चुचे बाहर निकलने के लिए तड़प रहे थे. मैं अपने हाथों से मिताली की गांड मसल रहा था, जिसे देखकर सब मानो जले जा रहे थे. हमारी बातें चलती रहीं और हम दोनों ही एक बार फिर से मिलने के लिए अधीर हो गए.

उसने भी मेरे सिर को पकड़ लिया और बड़े प्यार से चुम्मों की बौछार शुरू कर दी थी.

मैं पोर्न कजिन सेक्स करने के बाद बहुत खुश हो गई।और थोड़ी देर बाद हमने बिस्तर ठीक किया और मैं रात का खाना बनाने की तैयारी करने लगी।उस दिन के बाद हम दोनों भाई बहन ने और भी कई बार सेक्स किया है जिसमें बहुत मजा आया है. वो आंख मारती हुई बोली- ओए होए छम्मक छल्लो … क्या बात है डार्लिंग आज तो तेरी बीवी बनना ही पड़ेगा.

हिंदी बीएफ बिहार वाला इस दोहरे हमले को ज्योति संभाल नहीं पाई और उसका पानी छूट गया जिसे मैंने पी लिया. तो दीप बोला- लंड तो चूस लेती हो, या पति ने कभी लंड भी नहीं चुसवाया?मैंने फिर ना में सर हिलाया.

हिंदी बीएफ बिहार वाला मैंने नाटक करते हुए कहा- तू मेरे बारे में ये सब सोचता है!विशु- सॉरी दीदी गलती हो गयी. ये हम दोनों की ही पहली चुदाई थी, मैंने भी कभी चुत नहीं चोदी थी और दीदी ने भी कभी लंड नहीं खाया था इसलिए कुछ ज्यादा ही मजा आ रहा था.

वो भी गर्माने लगी थी और उसने अपनी गांड को एक दो बार मेरे लंड पर रगड़ कर मुझे हरी झंडी दे दी.

शेकशी मराठी

दोस्तो, मैंने दो पुलिस वालियों को लॉक डाउन में चोदने की अपनी सेक्स कहानी आपको सुनाई, आपको कैसी लगी यह लेडी पुलिस सेक्स कहानी?ईमेल करके बताएं. मैंने कहा- मैडम, ऐसे खुले में कहां जाओगी?मैडम- बस एक नंबर करना है, खाली जगह देख कर रोक लो. कुछ देर बाद बाबा जी ने भी मुझे ऐसे ही चोदा और मैं उनका भी सारा पानी पी गयी.

दोस्तो, क्या बताऊं … बहुत ही मस्त दूध थे!फिर मैंने अपनी बहन की पेंटी को नीचे कर दिया और अपना लन्ड बाहर निकाल कर पहले रिशू के हाथ में दिया. मैं बहुत धीरे धीरे अपना लंड बाहर की तरफ खींच रहा था, फिर अन्दर डाल दे रहा था. पांच मिनट बाद भाभी अपने कमरे का दरवाजा बंद करके मेरे कमरे में आ गईं.

मेरे लंड को उन दोनों की चूत कैसे मिली?मेरा नाम भोलू है। मैं एक 25 साल का हट्टा कट्टा नौजवान हूँ, गोरा चिट्टा हूँ, 5′ 10″ के कद वाला हूँ और तगड़ा तंदरुस्त हूँ।मैं नियमित रूप से कसरत करता हूँ और स्वस्थ रहता हूँ।हां मैं ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं हूँ।फिर भी अपनी X फॅमिली की चुदाई कहानी लिख रहा हूँ.

तब दीदी कुछ सोचती हुई मेरी तरफ देखने लगी और बोलीं- पागल है क्या … हमारी सुहागरात तो कई दिन बाद हुई थी. जब मेरी 12 वीं की पढ़ाई पूरी हुई थी, तब तक मैं इस पूरे खेल से बिल्कुल अंजान थी. यह देवर भाभी Xxx चुदाई कहानी तब की है जब शादी के बाद मेरे शौहर विदेश गए थे.

उसके बाद पापा ने चूत से मुँह हटाया और लंड पर थोड़ी क्रीम और थूक लगाया और चूत पर सैट कर कर धीरे धीरे दबाने लगे. मैंने कजिन सिस्टर सेक्स कहानी में ज्यादा मिर्च मसाला नहीं लगाया है, क्योंकि मेरा मकसद सिर्फ अपना अनुभव आप लोगो तक पहुंचाना मात्र था. अब आगे रियल भाभी फक स्टोरी:दोस्तो, मैं इधर आपको बता देना चाहता हूँ कि मेरी स्वाति भाभी घर में हमेशा गाउन ही पहनती हैं.

उसकी बातें सुनने के बाद मेरी समझ आया कि हम कितना भी सेक्स कर लें लेकिन वो हमेशा अधूरा सेक्स ही रहता है. सोने के कुछ समय बाद मैंने उसको जैसे ही किस की, वो जाग गयी और हल्के स्वर में कहने लगी- ये क्या कर रहे हो?मैं बोला- अब मुझसे नहीं रहा जा रहा है.

मैं उनको उनके घर छोड़ आया क्योंकि मुझे मेरे ऑफिस से बॉस का फोन आया था. मैंने स्टेशन मास्टर से मुलाकात की और एक वातानुकूलित डबल बेडरूम ले लिया. मैंने सहमति दे दी और हम दोनों उधर एक अच्छे से होटल में खाना खाने आ गए.

मेरी बीवी भी उसे बता रही थी कि इसमें इधर दर्द होता है, इधर नहीं होता है.

फिर मैंने देखा कि कुक्कू की आंखों के वासना के डोरे लाल हो गए थे और वह मदहोश हो गयी थी. मुझे गांड मरवाने का शौक था तो सोचा कि इससे कमाई भी क्यों ना की जाए. इधर उन दोनों की आवाजों को सुन कर कुछ रानियों का ध्यान छोटी रानी के कक्ष पर गया.

मेरी तो नींद ही उड़ गई थी, मैंने कभी मैडम को इस तरह से नहीं देखा था. फिर जैसे ही मैं सीढ़ियों की तरफ मुड़ा तो मैं सातवें आसामान पर था क्योंकि वो लड़की और कोई नहीं प्रिया थी और वो भी मुझे ऐसे देख कर मूर्तिवत हो गई थी.

दीप्ति की पैंटी गीली थी यानि मेरी तरह वो भी बहुत ज्यादा गर्म हो चुकी थी. दोस्तो, वैसे तो कई लड़कियों ने मेरा लन्ड चूसा लेकिन उसके चूसने में कुछ अलग ही मजा था क्योंकि उसके नीचे वाला होंठ उपर वाले से थोड़ा बड़ा था जिसकी वजह से जब वो लन्ड को चूसती तो उसके नीचे के होंठ का दबाव लन्ड पर थोड़ा सही से होता और इतना नर्म दबाव तो मैं आनंद की अलग दुनिया में था. आप लोगों को मेरी पहली स्टोरीनए घर की छत पर चूत का मजापसंद आई, इस बात की मुझे बहुत खुशी है.

বাঙালি বিএফ সেক্স

पहले तो जेनीका ने थोड़ी व्यस्तता बताई, फिर मॉम के बेस्ट फ़्रेंड थी तो वो ज्यादा मना नहीं कर पाई.

दीदी ने कहा- वो क्यों बिछाना है?मैंने कहा- मालिश करते समय बेड पर तेल लगेगा, तो पूरा बेड गंदा और खराब हो जाएगा. रियासत में कोई भी नया माल यानि किसी की भी बहन बहु-बेटी दिख गई तो ठाकुर उसको उठा लेता और 2-3 दिन, जब तक उसका मन नहीं भर जाता, उसको सुबह शाम चोदता था. उसकी बातों से मुझे लगने लगा कि ये फंसने के मूड में लग रही है तो मैं भी उसे पटाने की सोचने लगा.

उसी रात नैना ने भी मुझे मैसेज किया और मुझे मां बनाने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद दिया. डॉक्टर बहुत देर तक मेरी पत्नी की चूत को उंगली से ऐसे चैक करता रहा, जैसे कि वो चुत चोद रहा हो. बीएफ एचडी में एचडी मेंएक दिन मेम का फोन आया और उन्होंने मुझसे कहा- मुझको कुछ पैसों की ज़रूरत है, क्या कुछ हो सकता है?मैंने कहा- मेरे पास तो नहीं है.

मैं- क्या हुआ मीना … खाना क्यों नहीं खा रही हो?मीना- जीजू, मुझसे हाथ में खाना लेते ही नहीं बन रहा है. तो मैंने कहा- आप चिंता मत करो, हम डाक्टर पास चलते हैं।हम डॉक्टर के पास गए, उसने कुछ दवाई दी और एक तेल दिया और कहा- इससे पीठ, कमर और पैर की हल्के हाथ से मालिश करनी है।फिर हम घर आए.

भाभी की आंखों में बेहद चुदास दिख रही थी और उनका पल्लू एक तरफ ढलका हुआ था. डॉक्टर भी समझ गया कि ये गर्मा गई है तो उसने सोनी से कपड़े उतार कर नंगी होने को कहा. पहले मुझे शर्म सी आ रही थी कि कैसे इन दो अनजान लोगों के साथ मैं ये सब कर पाऊँगी क्योंकि आज पहली बार ही तो मैंने इन दोनों को देखा था.

इस बार मैं दीप्ति को बीस मिनट तक चोदता रहा और तेज तेज सांस लेते हुए जड़ तक चूत में लंड पेलने लगा. देवर- भाभी आप मुझसे कुछ छुपा रही हैं, बोलो न क्या बात है? मैं आपकी कुछ मदद कर सकता हूँ क्या?मैं- क्या तुम सच में मेरी कुछ मदद करोगे?देवर- हां भाभी, आप बोल कर तो देखो. क्या गजब माल लग रही थी वो!मैंने उसको हर जगह से चूमना चाटना शुरू कर दिया.

मेरी चूत गर्म थी और वो कहावत है ना कि लोहे पर हथौड़ा और चूत पर लौड़ा, तभी मारो, जब वो गर्म हो.

मैंने उसके मुस्कान देखी तो मुझे जरा साहस आया और मैंने हां में सिर हिला दिया. फिर मैंने उसको घोड़ी बनाया और पीछे से आकर उसकी चुत में लंड लगाया, तो वह लंड लेने के लिए बिल्कुल तैयार नहीं थी.

उसने ब्लू कलर की ही पैंटी पहनी हुई थी शायद उसे सैट से पहनना पसंद था. मेरी चूत को पहली बार में ही ऐसा लंड मिला था जिसने मेरी चीख निकाल दी. मैंने अपने दोनों हाथों से उसकी पैंटी की इलास्टिक पकड़ी और उसे नीचे खींचने लगा.

अचानक अम्मी थोड़ा हिलीं तो मैं डर गया और फिर से सोने का नाटक करने लगा. मैंने अपने टॉप का निचला बटन खोला और एक चूचा निकाल कर प्रसाद के मुँह में दे दिया. अब मैं जोर जोर से धक्के लगाने लगा और दीप्ति को न चाहते हुए झेलना पड़ रहा था.

हिंदी बीएफ बिहार वाला मैंने दीदी की शर्म खत्म करने के लिहाज से पूछा- मेरा वो क्या बड़ा है?दीदी शर्माती हुई धीरे से बोली- लंड … मुझे लगा था कि तुम्हारा छोटा सा होगा लेकिन इतना बड़ा … बाप रे … मैं तो मर ही गई थी. यह हॉट सिस्टर चुदाई कहानी तब की है, जब मेरी बहन ने खूब लंड पेलवा पेलवा कर अपनी चूचियां मस्त करवा ली थीं.

मां बेटे की चुदाई वीडियो हिंदी

मैंने मोनिका को नीचे लेटा लिया और उसकी गर्दन को चूमते हुए मैं उसके दोनों चूचे दबाने लगा. जैसे ही वो अन्दर आई, एक मदहोश करने वाली खुशबू हमारे घर में फ़ैल गयी. वो मेरे सर को अपने हाथों से ऐसे दबाने लगी, जैसे कि वो मेरे सर को ही अपने बुर में घुसा लेगी.

गुल्लू ने अपना एक हाथ से ग्लब्स को निकाला और मेरे लंड को शताब्दी एक्सप्रेस की तरह हिलाने लगी. उसके बाद मैं उसे मेट्रो तक ड्रॉप करने गया क्योंकि वो दिल्ली के दूसरे इलाके में रहती थी और वो मुखर्जी नगर में कोचिंग के लिए आती थी. ट्रिपल सेक्सी बीएफ पिक्चरपापा दीदी को चोदते हुए बोले- आज तुम्हारी चूत फाड़ दूंगा, साली आज तेरी रात भर लूंगा.

जब चुत से मन भर जाता होगा, तो बुआ के चूतड़ में तेल डाल कर पीछे से बुआ को झुका कर उनकी गांड भी मारते होगे.

पर अभी मेरा नहीं हुआ था तो मैंने तपिश को लोड़ा निकालने नहीं दिया और अपनी चूत से उसका लोड़ा कस कर पकड़ लिया और अपने चूतड उछाल उछाल कर उसके लोड़े को चोदने लगी।थोड़ी देर में मैंने भी अपना पानी छोड़ दिया. मेरी बीवी अनिता भी मस्त होकर चुदवाने लगी और अपनी तमन्ना पूरी करने लगी.

मैंने उसकी जांघों को पकड़ कर अपनी तरफ खींचा और दोनों पैर खोल कर उसकी चूत को नीचे से ऊपर तक चाटने लगा. मैंने तुरंत जाकर फोन उठाया और नजदीक के होटल में एक रूम बुक करवा लिया. दीप्ति को अनुमान हो गया था कि जब तक मेरा पानी नहीं निकलेगा, तब तक मैं रुकने वाला नहीं हूँ.

भाभी भी अपने हाथ से अपने दोनों चूचों को बारी बारी से मेरे मुँह में दे रही थीं और कामुक आवाजें निकाल रही थीं- आह चूस लो मेरी जान … अह प्रवीण कब से इन्हें तुम्हारे होंठों का इन्तजार था.

पर मैं उस पर ध्यान नहीं देता था।एक दिन वो मेरे घर पर आई तो उस टाइम मेरे घर पर मैं अकेला था और फोन में यूट्यूब पे वीडियो देख रहा था।उसने पूछा- शैलेश, तुम्हारी मम्मी कहाँ है?तो मैंने कहा- वो तो बाहर गई हुई हैं. मॉम ने आंटी के ब्रा में हाथ डाल कर दोनों मम्मों को मसलना शुरू कर दिया. मैं 3 दिन तक अपने घर से बाहर नहीं निकली लेकिन उसके बाद जब उससे मिली, तब मैं अपनी नजरें चुरा कर उसे देख रही थी.

मेहर की सेक्सी बीएफमेरा लन्ड फिर खड़ा हो गया और मैंने 20 मिनट तक फिर से उसकी चूत चुदाई की।फिर हम दोनों ने कपड़े पहने, उसे खड़ी होने में थोड़ी दिक्कत आ रहा थी।उसने कहा- अब तुम घर जाओ. मैं उंगली करता और निकाल कर उसकी चूत के मक्खन से सनी उंगली चाट लेता.

बांगला सेक्स बांगला सेक्स

मैंने पूछा- अब दर्द कैसा है?ज्योति मायूस आवाज में बोली- हां, पहले से तो काफी ठीक है. अब तो मैं जब जब गोवा आता हूँ, तब तब खूब जम कर वाइफ स्वैपिंग करता हूँ. BDSM सेक्स कपल स्टोरी में पढ़ें कि मैं हर वीकेंड पर पड़ोसी कपल से सेक्स का मजा लेने जाने लगी.

[emailprotected]सेक्स ट्रेनिंग का स्कूल का अगला भाग:कॉलबॉय कॉलगर्ल बनने का ट्रेनिंग सेंटर- 2. उधर से आवाज आई कि अभी तक पता नहीं लगा सके, तो सजा कैसे दोगे?मैंने कहा- जिस दिन मौका मिलेगा, उस दिन ऐसी सजा दूंगा कि गांड फट जाएगी. मैंने अन्दर जाकर रोते हुए सुहानी दीदी से माफी मांगना शुरू कर दिया और अपने सारे कारनामे उसके सामने बताने लगा.

इसके बाद मैंने उसकी ब्रा और पैंटी भी उतार दी और अपने कपड़े भी उतार दिए. उसने मुझे हड़काते हुए कहा- अंकल आप उतारते हो या मैं रात वाली बात डैड को बताऊं!मैंने मजबूरन अपनी टी-शर्ट उतार दी. मैंने उसकी चूत का और उसकी टांगों का मधु अपनी जीभ से चाट चाट कर उसे जन्नत का अहसास करा दिया.

मैं उसके साथ सेक्स भी कर चुका था जिसकी वजह से मुझेसेक्स की तलबहोने लग जाती थी. उस दिन तीन बजे तक उसे मैंने चार बार रगड़ा और उसे दर्द की गोली खिला कर उसके घर के पास छोड़ आया.

उन्होंने मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर अपनी चूत में घिसना शुरू कर दिया.

कांच में मैंने देखा कि मेरी साली चुपके से मेरे अंडरवियर की तरफ देख रही थी. बीएफ फिल्म इंग्लिश मूवीउस दिन मैंने उससे कहा- तुम मुझे बहुत अच्छी लगती हो क्या मैं तुम्हें आई लव यू कह सकता हूँ!मैंने पहली बार किसी को अपनी फीलिंग बताई थी क्योंकि मैं शर्मीला स्वभाव का होने की वजह से कभी किसी से अपनी फीलिंग बता ही नहीं पाया था. देवर और भाभी की सेक्सी वीडियो बीएफमुझे नहीं पता था कि उसे ये बात दिल में ऐसी लग जाएगी कि मेरी फंतासी पूरी हो जाएगी. वहां जाकर हमने बहुत से चाट पकौड़ी के अलावा बहुत सी चीज खाईं जिससे मेरा पेट भर गया.

तकरीबन दस मिनट और धक्के मारने के बाद मुझे लगने लगा कि मैं भी झड़ने वाला हूं.

और यश तुम भी नेहा को लंच पर बुला लो। ये लोग नेहा से भी मिल लेंगे। अगले हफ्ते हम नेहा को यहां लंच के लिये बुला लेंगे. मम्मी की चुत से चाचा के काले मोटे लंड से निकला हुआ वीर्य इतना सफेद और गाढ़ा था कि मानो वीर्य नहीं कोई क्रीम हो, एकदम फेवीकोल जैसा पदार्थ बह रहा था. आप लोगों को मेरी पहली स्टोरीनए घर की छत पर चूत का मजापसंद आई, इस बात की मुझे बहुत खुशी है.

हमारे गांव के अन्दर हाईवे रोड से लग कर हमारी अपनी जमीन थी, इसलिए मैंने बैंक से लोन मांगा और चौड़े रोड पर जमीन होने के कारण बैंक ने मुझे लोन से दिया. चूंकि स्कूल का टाईम 8 बजे का था बाकी लोग आने वाले थे तो किसी ने देखा नहीं. मैंने पूरे कपड़े निकालने के लिए बोला लेकिन उन्होंने मना कर दिया और बोलीं- कोई आ गया तो प्रॉब्लम हो जाएगी.

सेक्सी पिक्चर दिखाओ नंगी

मैं खुश होकर बेड पर आ गया और दीप्ति को बेड पर लेटाकर उसे किस करने लगा, उसकी गर्दन को चूमने लगा, उसके रस भरे मम्मों को मसलने लगा. मैंने उसे कहा- अब तुम्ही रोज मेरी ब्रा का हुक लगा दिया करना, मुझे हाथ पीछे जाने में प्रॉब्लम होती है।वो हामी भर कर वहीं खड़ा रहा, जैसे वो बुत बन गया हो, जैसे उसे कुछ समझ ही ना आ रहा हो. मुझे दर्द सा महसूस होता तो मैं आह्ह ह्ह करके रह जाती, पर मुझे भी चुदाई का मजा लेने की बहुत जल्दी थी.

चूँकि हम लोग किराए के मकान में रहते हैं तो उधर और भी किराएदार रहते हैं.

इस बार मैं अपनी जीभ को हल्का हल्का अन्दर की तरफ करने लगा और मेरी ममेरी बहन के मुँह से कामुक सिसकारियां निकलने लगीं.

एक जगह बैठ कर मदन बोला- तो राजीव, तुम बिना दर्द के गांड मरवाना सीखना चाहते हो, जिसमें तुम्हें मज़ा भी आए और बहुत कमाई भी हो?मैं- हां मैं पुरुष वेश्या बनना चाहता हूँ … और बहुत कमाई करना चाहता हूँ. फिर एकाएक मैंने अपने हाथ से उसकी टी-शर्ट उतार दी और अगले ही पल उसकी शॉर्ट्स भी उतार दी. बीएफ सेक्सी वीडियो दिखाएं बीएफपर मैंने यह किस जारी रखा और कुछ ही देर में उसके होंठों ने अपना कमाल दिखाना शुरू कर दिया.

थोड़े देर बाद मैंने उसका एक हाथ पकड़ कर अपने लोवर में डाल दिया और अपना लंबा मोटा लंड उसके हाथ में पकड़ा दिया. फिर हमारे बीच वो लंबा किस चला जिसमें भाभी और मैंने एक दूसरे के होंठों को खूब चूसा. उसने बहुत नखरे दिखाए और बाद में बोला कि उसे मेरे साथ सेक्स करना है.

इस नर्स सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आगे लिखूंगा कि डॉक्टर ने मुझे क्या बताया और नर्स की सहेली को कैसे चोदा. इस बीच मैं झड़ने को हुई तो मैंने सुनील को कस कर मेरी बाँहों में जकड़ लिया और उससे जोर जोर से झटके मारने को कहने लगी.

तो मैंने उसे बोला- माफ तो मैं कर दूंगा … पर एक शर्त पर कि तुम्हें मेरे साथ सब कुछ करना होगा.

मैं कई बार उससे मिली हूँ और वो मेरी काफी इज़्ज़त भी करता है लेकिन अभी मुझे उसका आना पसंद नहीं था।कुछ ही दिनों में अजय घर आ गया।वो 19 साल का बड़ा लड़का हो गया था, कद काठी भी अच्छी हो गई थी. मुझे विश्वास नहीं हुआ कि मेरे साथ उस अनन्या ने बात की जिससे मैं बात करने को तड़प रहा था. तब हमने पहले खाना खाया और उसके बाद उसने बर्तन साफ करे और उसके बाद हम जीजा साली अपने बेडरूम में आ गए।अब हमारा सेक्स का खेल शुरू हो गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो छत्तीसगढ़ी में वो घुटनों के बल बैठ गयी और उसने मेरे लंड के टोपे पर जीभ फेरी, फिर धीरे धीरे लंड को चूसने लगी. रियल भाभी फक स्टोरी में पढ़ें कि मेरे भाई अपनी पत्नी को चुदाई का सुख नहीं दे पाए तो भाभी को मैंने सहारा दिया अपने लंड का.

मैं- कैसे … बताओ?मीना- आप अपनी बीवी का ज्यादा ख्याल रखते हो और साली का नहीं. सच बोलूं तो मुझे भी अच्छा लग रहा था कि एक इतना हैंडसम बंदा मेरे बदन के मज़े ले रहा है. दस मिनट की चुदाई में ही मेरी पत्नी ने दो बार अपना पानी छोड़ दिया था.

বিএফ বিএফ ভিডিও

उसने कहा- हां हां बिल्कुल करो, मैं मिलवा दूंगा क्योंकि कल मैं चला जाऊंगा. एक एक पैग दारू पीने के बाद अब्दुल और राहुल ने सिगरेट सुलगा ली और धुंआ उड़ाने लगे. मैं- तू मेरी साली नहीं है क्या?मीना- जीजू, आप भी न बहुत ज़िद्दी हो … चलो अब.

मेरा मन कर रहा था कि पूरी चूची मुँह में भर लूं … पर चूची मोटी थी तो पूरी अन्दर आई नहीं. मैं नहा कर ऊपर गई तो देखा कि विशु मोबाइल में पोर्न देख रहा था और दबी आवाज में ‘रिंकी दीदी … आंह रिंकी …’ बोल बोलकर अपने लंड को सहला रहा था.

मैंने उसकी तरफ देखा, तो मुझे ऐसा कुछ भी नहीं लगा कि रात में हुए किसी भी खेल का उसे अहसास था.

काम के दौरान मेरी मुलाकात एक व्यक्ति से हुई जिसकी उम्र तो पचास के पार थी पर वो भाई भी काफी रंगीन मिजाज था।उसका नाम धर्मेश था।एक दिन शाम को काम ख़त्म करने के बाद मैं और धर्मेश चाय की एक दुकान में बैठकर बातें कर रहे थे. अब वो ‘आहह हह आह हहह … राज चोदो मुझे … आहहह … और तेज़ … और तेज़ … राज चोदो मुझे चोदो चोदो चोदो चोदो चोदो’ चिल्लाने लगी. मैंने घबरा कर कहा- निकाल लूं क्या?वो बोलीं- नहीं, मेरे ऊपर लेट जाओ.

अंकित ने कुछ ही मिनट में अपना सारा माल मेरे मुँह के अन्दर झाड़ दिया. ज्योति गर्म होने लगी और उसके चुचे ऊपर नीचे होने लगे, उसकी चूत से प्रीकम आने लगा. अशोक ने रेशम की रस्सी रानी को दे दी और उनसे कहा- आप इसे लपेट कर नाप दे दीजिए हुजूर … दो दिन में करधनी बन कर आ जाएगी.

छोटे कस्बों में मिलने के लिए होटल तो होते नहीं हैं, शहर पास में था भी, तो भी हम लोग कभी हिम्मत नहीं जुटा पाए.

हिंदी बीएफ बिहार वाला: रात को खाना खाने के बाद दिनेश ने पूछा- क्या सोचा तुमने?मैं बोली- इतनी जल्दी क्या है … कल परसों बताऊंगी. दोस्तो, यह मेरी पहली सच्ची सेक्स कहानी थी, जो मेरी गर्लफ्रेंड के साथ हुई थी.

भाभी बोलीं- सागर, क्या आप मुझसे शादी करेंगे?मैं कुछ सोच कर बोला- ओके मेरी जान … मैं आपसे अभी शादी करने को तैयार हूँ. वो चुत उठाने लगी थी तो मैं धीरे से उसकी चूत मैं जीभ डाल कर चाटने लगा. उसके बाद मैंने उसे अपनी गोद में उठा लिया और इसी तरह उठा कर उसे बेड पर ले गया.

शाम को मैं मम्मी पापा को रेलवे स्टेशन छोड़ कर आया था तो अनन्या अपनी छत पर खड़ी थी.

नेहा दीदी- आहह हहह ऊईई ईईई ऊईई मां … मर गई भाई प्लीज धीरे धीरे करो. मैं लेकिन कहां मानने वाला था … मैंने फिर से अपना लंड बाहर करके एक और जोरदार स्ट्रोक दे मारा. उस दिन उसने वो चुदाई की वीडियो देखी और खुद को किसी तरह से शांत कर लिया.