बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो ब्यूटी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ नंगी बीएफ बीएफ: बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो, वो मुँह इधर उधर करने की कोशिश कर रही थीं, पर मैंने दोनों हाथों से उनके गाल दबा कर उनका मुँह खोल दिया और उनके गले तक लंड ठांस दिया.

श्रद्धा कपूर सेक्सी पिक्चर

फिर उसने एक घूंट में ही आधा गिलास खाली किया और सिगरेट का कश लेकर मेरी चुचियों की तरफ घूर कर देखने लगा. सेक्सी वीडियो में ब्लूटूथअब मंजू सिर्फ घुटी घुटी सी आवाज निकाल पा रही थी ‘गूँ गूँ उ ऊं …’मीना भरे बदन की उम्र में भी मंजू से ज्यादा मस्त माल थी.

ऐसा मैंने पहले कभी नहीं किया था तो मुझे बहुत ही आह्लादित करने वाले आनन्द की अनुभूति हो रही थी. सेक्सी वीडियो पुलिस वाली कीमेरी पिछली कहानी थी:पड़ोसी और उसके दोस्तों से चुद गयीआज की हॉट गर्ल देसी सेक्स स्टोरी शुरू करने से पहले मैं कुछ बोलना चाहूँगी.

चाची दर्द से चिल्ला रही थीं- आह आह आह रुक जा हरामी … दर्द हो रहा है.बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो: मंजू- धत …मैं मंजू को अपने ऊपर खींच कर उसके रस से भरे होंठों को चूसने लगा.

दीदी ने अपने हाथ से मेरे लंड को पकड़ कर मेरे लंड के लंड को अपनी बुर के छेद के ऊपर लगा दिया.[emailprotected]इंडियन हॉट आंटी सेक्स कहानी का अगला भाग:दोस्त की मम्मी ने चूत चुदाई करनी सिखाई- 2.

राजस्थानी सेक्सी व्हाट्सएप ग्रुप - बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो

जाने कितनी बार इस दृश्य की खुद पर कल्पना की थी मैंने जो आज हकीकत में बदल रही थी और मैं आंख बंद करके उस हकीकत की गजबनाक लज्जत को महसूस कर रही थी।दस मिनट से ऊपर ही उसने लगातार इसी पोजीशन में धक्के लगाये होंगे और तब उसका पारा चरम पर पहुंचा.मुझे यहां पर ज्यादातर ऐसी सेक्स कहानियां पसंद आती हैं जो भाई बहन, कजिन भाई बहन या हमउम्र रिश्ते में सेक्स की हों.

कुछ दिनों के बाद मैंने नोटिस किया कि वो मेरी आंखों में आंखें डाल कर बात करती हैं. बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो तभी सनी ने अपनी जीभ बाहर निकाली तो ऋतु ने अपना पूरा मुँह खोल दिया और उसकी जीभ सनी के मुँह में प्रवेश कर गई.

मेरी नंगी बहन मेरा लन्ड चूसने में मस्त थी, मैं उसकी चूत चाट रहा था.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो?

वह अपनी गांड मटकाती हुई नीचे आ गई।उसके चलने के अन्दाज़ से लगता था कि मुझेचुदाई का ऑफरदे रही है।वह चाय बनाने के लिए लगी. जब मेरी पटाका माल पिंकू नहाने को जाती, तब मैं उसे छुपकर देखने की कोशिश करता. फिर मैंने मनोज से कहा- देखो, तुम मां से सुनील के बारे कुछ मत बोलना.

मनोज को मेरी चीखों से मजा आने लगा था और वो दूनी रफ्तार से मेरी चूत चोदे जा रहा था. फिर हम दोनों पूरी रात उसी हालत में एक दूसरे के साथ नंगे चिपक कर सोते रहे. मैंने उनके निप्पल को अपनी दो उंगलियों से पकड़ा तो बोलीं- हां शायद यही है कीड़ा … इसे मसल कर दबा दो.

छह दिन ऐसे ही बीत गए लेकिन जैसा कि मैंने पहले बताया कि मैं चुपचाप ही रहता था, ज्यादा किसी से बात नहीं करता था. सनी उसके पास बैठ गया और अपने हाथ से उसके सुंदर मुखड़े को उठा कर उसे देखने लगा. भांजी की चुदाई की इतनी तड़प के बावजूद भी फिरोज अपनी प्यारी भांजी को थोड़ा और तड़पाना चाहता था।साफिया अपनी आंखों से फिरोज से विनती के स्वर में बोली- प्लीज डाल दो ना मामूजान … बर्दाश्त नहीं हो रहा है।फिरोज ने अब साफिया की चूत के छेद में अपना लंड फंसा दिया और साफिया को बोला- तुम अपना शरीर थोड़ा ढीला रखो।और फिर उसके बूब्स को दबाने लगा.

[emailprotected]रोड सेक्स कहानी का अगला भाग:लखनऊ वाली जवान मामी की कामुकता- 3. यह कहकर एक बार फिर मेरी नंगी बहन मेरी गांड को अपनी बुर की तरफ दबाने लगी.

वो कुछ तक समझ पाता कि मैंने उसका लंड मुँह में ले लिया और चूसने लगा.

हॉट सेक्स विद फ्रेंड्स कहानी के पहले भागपुराने दोस्त से सेक्स का मजा ले लियाअब तक आपने पढ़ा था कि मैं दीपक से अपने कमरे में चुद रही थी, तभी दूसरे कमरे में लेटा हुआ धीरज मेरे कमरे में आ गया और हम दोनों एकदम से चौंक गए.

मेरा मन तो करता है कि आपके मम्मों का सारा दूध निचोड़ कर पी जाऊं और आपकी गांड को मसल मसल कर लाल कर दूं. मैं तेरे भाई की आंखों पर पट्टी बांध दूंगी और तू मेरी जगह चली जाना।मैंने उससे कहा- नहीं, शेखर मेरा भाई है. कुछ ही पलों बाद भाभी के मुँह से मीठी आहें निकलने लगीं- आह आह … और तेज बेबी आह … और तेज … मजा आ रहा है बेबी पेलो और जोर से चोदो मुझे.

जरा तू देख न!इतना कहते हुए चाची ने अपने गाउन का गला लगभग खोल दिया था और मुझे उनकी रसभरी चूचियां साफ़ नजर आने लगी थीं. अब पिंकू के बड़े बड़े बूब्स मझे नजर आ रहे थे, मन तो कर रहा था इन्हें तभी निचोड़ कर पी जाऊं. समता अपनी बड़ी गांड विकास की ओर करके आंखों को बंद करके सोने का नाटक करने लगी.

हमारे बीच एक ऐसा रिश्ता उजागर होने लगा था जो शब्दों में नहीं लिखा जा सकता था.

मैंने पूछा- कैसा लग रहा है बुआ जी?वो बोली- राज, फ़ाड़ दे मेरी चूत! तेरे लौड़े में जादू है!मैं जोश में आ गया और लन्ड को तुरंत चौथे गियर में डाल दिया और झटकों की रफ्तार बढ़ा दी. मैं जाकर उनके ऊपर से चादर हटाकर उनके मम्मों को ऊपर से ही दबाने लगा. तेरे चाचा के औजार में अब दम ही नहीं बचा है कि वो मेरी आग को बुझा सकें.

मैंने बूब्स मसलते हुए एक हाथ उनकी चूत पर रखा और उनकी लैगिंग्स के ऊपर से ही सहलाने लगा. गांड में लंड जाते ही इक्शाना जोर जोर से चिल्लाने लगी और कहने लगी- प्लीज रोहन निकालो, प्लीज बहुत दर्द हो रहा है प्लीज निकालो. मेरी पिछली कहानीलॉकडाउन में जवान भांजी चुद गयी मामा सेको पढ़कर अपने बहुमूल्य कमेंट देने के लिए आप लोगों का बहुत-बहुत धन्यवाद.

इस तरह से हम दो बदन एक जान होकर एक दूसरे से गुत्थम गुत्था थे और चुत के रस से लंड लथपथ हो गया था.

सनी को भी अहसास हुआ कि ऋतु की चूचियां पहले से ज्यादा गोल और भर सी गई हैं और पूरी तरह से उसकी ब्रा में नहीं समा रही थीं. स्वाति ने बताया कि वह और शर्माजी जी रात को विस्की पीते हैं और फिर घमासान चुदाई होती है.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो कुछ मिनट ऐसा करने के बाद भाभी कहने लगीं- अब बर्दाश्त नहीं हो रहा है यार … अपना लंड जल्दी से मेरी चुत में डाल दो. बेडरूम में जाकर मैंने मामी को बेड पर लिटाया और फ़्रिज से बीयर और पेस्ट्री ले आया.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो जैसे ही वो अपने नाखून से ऐसा करती, मेरे बदन में एक तीखी सिहरन सी दौड़ जाती और ‘आह आह आह आह उफ्फ उफ़ …’ की आवाज निकलने लगती. मैंने तेज तेज शॉट मारे और अपना लंड चुत से खींच कर लंड का माल उसके मुँह पर झाड़ दिया.

ऋतु- आह सनी मेरी चूत … संभालो मुझे … आंह मर गई मैं तो!उसने अपनी बांहें सनी के गले में डाल दीं और सनी ने उसे इतना कसकर चिपका लिया कि मानो उसकी हड्डियां तक चटका देने का मन हो.

किन्नर के सेक्सी बीएफ

मैं उसके होंठों को चूमने लगा और उसके चूचों को ड्रेस के ऊपर से ही दबाने लगा. मेरे मन में भाभी के शरीर का एक एक अंग घूम रहा था और मन बहुत बेचैन हो गया था. तब उस लड़के ने उठकर बैल खोल दिए और मुझसे बोला- चल, इन्हें लेकर आगे चल.

वो ऐसे नौजवानों को अपनी तरफ खींचने में माहिर थी; उसे सब कलाएं आती थीं. ‘शनाया तू शांत लेटी रहना, नहीं तो आज तेरी दीदी जगी तो मैं उनको सारी बात बता दूँगा. अन्दर जाते ही अंजू मेरे से लिपट कर मेरे होंठ चूसने लगी और अपनी अधखिली चूचियां मेरी छाती से रगड़ने लगी.

मामी के मुँह से लगातार सीत्कार निकल रही थी- ऊम्म्म ऊउम्म आह!मैं कभी उनके मम्मों को कभी जीभ से चाटता, तो कभी उनके निप्पल को खींच का चूसने लगता.

उनको भी लगने लगा था कि मेरा मन अपनी सांवली दीदी की चूत चुदाई का था. साबुन के झाग से उनके दोनों मम्मे ढके हुए थे और वो नीचे पैंटी पहनी हुई थीं. भाभी ने कहा- नहीं, आज वो सब रहने दो … मैं आज बिना कंडोम के चुदने के मूड में हूँ.

पहले हल्के हल्के रेशम से भूरे बालों के दर्शन, फिर जांघों से कटाव की लकीर और फिर गुलाबी सी बुर, जिसमें एक चीरा सा लगा था. उस रात को भैया भाभी के बीच में सेक्स हुआभाभी ने पीरियड के मुताबिक़ गर्भवती होने की दशा में भैया के साथ जानबूझ कर सेक्स किया था. लेकिन उसके बदले हम तुम्हारे बूब्स को और चूत को छेड़ेंगे और अच्छे से देखेंगे.

मैंने उनके सिर पर हाथ रखकर अपनी आंखें बंद करके मजे लेना शुरू कर दिए. कभी मैं भाभी की जांघों पर किस करने लगता … तो कभी उनके पेट पर चूमने लगता.

जो तुम्हारे मन में है वे बता दो!जब हमारी ये बातें हो रही थी, उस वक्त भी मैं दीदी के बूब्स के साथ-साथ उनके निपल्स भी छू रहा था … पर दीदी मुझे कुछ नहीं कह रही थी. जैसे ही लंड बाहर आता, उसके साथ ही चूत के होंठ भी उल्टे होकर लंड के साथ ही बाहर आ जाते मानो चुत लंड को छोड़ना ही ना चाह रही हो. थोड़ी देर में मीना के होश ठिकाने आए तो मैंने उसको अपने लंड पर उसका हाथ रखवा कर उसको आगे पीछे करना बताया.

पर उस दर्द के बाद उसको आनन्द और सम्पूर्णता परिपक्व स्त्री होने का सुख भी मिलने वाला था.

धीरे धीरे मैं उसकी गर्दन पर किस करते हुए उसकी गांड की दरार में उंगली कर रहा था. गोरा बदन, गहरी नाभि, तनी हुई चूचियां, लम्बी गर्दन, सुर्ख होंठ … आह पूरी कयामत सी लग रही थी वो!इसमें कोई शक नहीं कि मंजू, अंजू से मीना ज्यादा खूबसूरत थी और भरपूर जवान जिस्म की थी. ऋतु का पूरा जिस्म उसके काबू से बाहर हो गया था … सेक्स के मजे के कारण उछलने लगा.

फिर भाभी ने फोन को चार्जर से अलग किया और उसे वो अपने साथ लेकर रसोई में चली गईं. विकास समता के और करीब हो गया और अपना हाथ समता के कमर में डालकर उसके होंठों पर अपने होंठ रख कर धीरे धीरे होंठ चूसने लगा.

मैं थी न … तुम्हें खुश करने के लिए!मैंने कहा- भाभी मैं कुछ समझा नहीं!भाभी दबी हुई मुस्कान से कहने लगीं- कुछ नहीं … तुम समझोगे भी नहीं. उसने मेरे पैंट में बने हुए तंबू के बंबू को पकड़ लिया और बोली- देख रही हूँ कि ये साला कब से टनटना रहा है. मम्मी चाचा की बात समझ गईं और उन्होंने अपनी सलवार का नाड़ा ढीला कर दिया.

सुंदर लड़की के बीएफ

आज मैं आपके साथ अपने जीवन से जुड़ी एक मस्त सेक्स कहानी शेयर करने जा रहा हूँ.

पापा खुश हो गए और मुझसे बोले कि चढ़ जाओ और लंड इसकी गांड में पेल दो. ‘अह्ह्ह आशु बड़ा अच्छा लगा रहा है … करते रहो उफ्फ अह्ह्ह … प्यार से चूसो ना …’मेरे हाथ उसकी चूत तक पहुंच रहे थे, पर मैं उसकी चूत को छू नहीं रहा था. मैंने पूछा तो बोली- ब्वॉयफ्रेंड से टेंशन हो गई है, वो मुझे अकेले में मिलने बुला रहा है … लेकिन मुझे डर लग रहा है.

मैंने उन्हें मना करते हुए उनके माथे पर एक प्यारी सी किस दी और हग किया. इससे उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया।उसकी मालिश से मुझे चरम आनंद की प्राप्ति हुई।उसके बाद हम दोनों ने एक साथ एक दूसरे को नहलाया, पूरे बदन पर साबुन लगा कर एक दूसरे को साफ किया।मैं सुमन के साथ 1 महीना उसके घर पे रहा. सेक्सी प्ले वीडियो सेक्सीउस दिन मैं पूरी रात तुम्हारे साथ रहूंगी, जो मर्जी वो कर लेना … लेकिन आज मान जाओ.

उसमें जो डीवीडी लगी हुई थी, मैंने उसी को देखने का सोचा और चालू कर दी. सलीम आहह आहहह आहह करने लगा।उसने नफीसा की चूचियों को पकड़ लिया और दबाने लगा.

मैंने तो सोचा था कि तेरे बाप की रात गर्म करूंगी, लेकिन यहां तो मेरी चुत चोदने जवान लंड खड़ा था. प्रकाश भी निडर होकर मीना की साड़ी में से दिख रहे उसके खुले पेट को छूने ही जा रहा था कि मीना ने प्रकाश को रोक लिया. राजेश अंकल बोल रहे थे- आंह बबीता … तेरी गांड मार मार कर लाल कर दूँगा.

वो मुझसे बोला कि ये लड़की कहां है … इसे जल्दी बुला, जो भी पैसे कस्टमर से मिलेगा … आधा उसका … आधा हमारा होगा. मैं चाहती हूं कि तुम्हारा यह सपना भी पूरा हो! कल तुम मेरी गांड में तेल लगाकर मेरी गांड में मारना! पर आज मेरी चुदाई करो मेरे भाई … मैं झड़ने वाली हूं. पैंटी का चूत पर का हिस्सा सरकाया और उसकी चूत को अपने हाथ से मसल दिया.

ऋतु ने तिरछी नजरों से सनी के लंड को देखते हुए उसे इशारा किया तो सनी ने आगे बढ़कर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा.

मैंने- तुझे कैसे मालूम?वो- यार, एक दिन मैं तेरे घर आया था और मैंने आंटी से तेरे बारे में पूछा था, तो आंटी ने बोला था कि तू अपने कमरे में है. आंटी का पेट थोड़ा बाहर को था, उसको भी मैंने अपनी जीभ से चाटा और पसीने का स्वाद लिया.

वो मुझे देखकर थोड़ी सी हंसी तो मैं शर्मा गया और मैंने अपना सिर नीचे की ओर झुका दिया. ज्योति के पति बैंक में नौकरी करते थे और उनकी बेटी अहमदाबाद में नौकरी करती थी. मैं सोचने लगा कि अब मामी की चूत के भी दर्शन हो जाएं तो जिंदगी में बहार आ जाए.

स्वाति ने उन्हें मोहिनी और मेरे से मिलवाया।हमने उन्हें हमारे घर आने का निमंत्रण दिया।स्वाति और मोहिनी फ़ोन पर बात करते रहते. उसकी बात को जल्दी से नकारते हुए मैंने कहा- ये क्या कह रही हो तुम? मुझे यह सब पसंद नहीं है. उसकी गोरी चिकनी टांगें कहर ढा रही थी, उसके गोर मोटे चूचे जो आधे नंगे थे उसकी ड्रेस फाड़ कर बाहर आने की बेचैन हो रहे थे.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो उसके हर झटके पर मेरी सांस रुकने सी हो जाती और गर्म वीर्य सीधा गले में भरता जाता. छत पर उन्होंने गेहूँ सुखाने के लिए डाला हुआ था, तो उसी को समेटने के लिए आंटी छत पर आई थीं.

एचडी क्वालिटी बीएफ

मैंने उसे लंड चुसवाया, फिर उसकी बुर की सील खोली?कहानी के पिछले भागसेक्सी दीदी को चुदाई के लिए मना लियामें आपने पढ़ा किअब आगे नंगी बहन की बुर चुदाई:मैं दीदी की बुर पर किस करने के लिए बढ़ा. मैं किसी तरह उस पर चढ़ कर बैठ गया और खुद को एक सामान की बोरी के पीछे छिपा लिया. इस तरह के कमरे के बारे में उन लोगों को अधिक पता होगा, जो किराए पर ऐसे किसी कमरे में रहे हैं.

उसका बदन कांपने लगा था तो वो फुसफुसाती हुई आवाज में बोली- आशु, कोई आ जाएगा!मैं बोला- ऐसे ही खड़ी रहो वरना हम पकड़े जाएंगे और आऊट हो जाएंगे. मैंने थोड़ा घबराते हुए पूछा- तुम ठीक तो हो न … मुझे बताओ बात क्या है?उसने रोते हुए बताया- विनोद भैया ने सब कुछ देख लिया और रिकॉर्ड कर लिया. राजस्थानी सेक्सी पिक्चर चुदाई वालीवो मेरे लंड पर बैठकर कैसे कूदी?हैलो मित्रो, मेरी इस देसी मामी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत है.

वो मेरे लंड को अपने हाथों से सहलाती रही, फिर मेरे ऊपर आकर लंड चूसने लगी.

भाभी के मोटे मोटे बूब्स साफ़ नजर आ रहे थे और बारिश में भीग कर उनकी कुर्ती उसकी गांड से बिल्कुल चिपक गयी थी, जिससे उनकी मस्त गांड का आकार एकदम साफ दिख रहा था. [emailprotected]शीमेल सेक्स कहानी का अगला भाग:धर्म से धारा बनने तक का सफर- 2.

मेरे इतना कहते ही चाची ने अपने गाउन का ऊपर का एक बटन खोल दिया और हाथ डालकर चूचों को मसलने लगीं. आकांक्षा ने मुझसे कहा- मैं तुम्हें बर्तन घिस कर देती हूं, तुम पानी में डाल कर उसे अल्मारी में रखते जाना. कमरे के अन्दर जाने के बाद वो दोनों किस करने लगे और उस लड़के ने शिल्पा दीदी की ड्रेस उतार दी.

उसने मेरी ज़िप को दांतों से खींचा, तो मैंने जींस को थोड़ा नीचे कर दिया.

यह बात सुनकर पिंकू हंसने लगी।मैंने उसको गोद में उठा लिया और किस करने लगा. पति गाँव गए तो अकेली रहने पर मैंने अपने मामा के बेटे को अपने घर बुला लिया. पिंकू ने मेरे सामने कपड़े चेंज किए और एक पतली ढीली सी टीशर्ट और नीचे सलवार पहन लिया।मैंने भी अपने कपड़े चेंज किए और टी-शर्ट और लोअर डाल लिया.

এডাল ছবির ভিডিওभैया उसके आने से किसी तरह का एतराज़ भी नहीं करते हैं क्योंकि नेहा (हितेश की बड़ी बहन) मेरे भाई की गर्लफ्रेंड है. मैंने जैसे ही अपना हाथ नीचे उसकी चुत की तरफ बढ़ाया और उसके पेट पर फेरते हुए नीचे ले जाने लगा, तो देखा कि उसने सिर्फ सलवार पहनी हुई थी.

सेक्सी देसी बीएफ हिंदी में

जैसे ही अनलॉक शुरू हुआ, मैंने अपनी पैकिंग कर ली और कुछ दिनों के लिए अपने बड़े पापा(ताऊ) के लड़के के यहां मुम्बई घूमने को आ गया. मैंने कहा- दीदी मेरे नीचे गोली दर्द कर रही है … तो मैं अभी आराम करूंगा. तभी चाची बोलीं- अरे प्रतीक, आज सुबह सुबह कैसे आना हुआ?मैंने कहा- कुछ नहीं चाची, आज कॉलेज की छुट्टी थी … तो सोचा आपके यहां आ जाऊं.

वह उसे जान बूझकर तड़पा रहा था ताकि उसकी चूत ज्यादा रस छोड़े और लंड घुसाने में आसानी हो. मैं चाची के सामने आने में कतराने लगा था लेकिन मैं अभी भी चाची को पाना चाहता था. कुछ ही देर में उसने अपने लंड के मोटे सुपारे को मेरी चुत की फांकों में सैट किया और एक झटके से अन्दर पेल दिया.

मैंने लंड हिला कर भाभी को ललचाया, तो भाभी मेरे करीब आकर घुटने के बल बैठ गईं और मेरे लंड को पकड़ कर चूसने लगीं. कुछ देर यूं ही चुदाई के बाद मैंने चाची को अपने ऊपर ले लिया और उन्हें लंड पर बैठने का इशारा कर दिया. मैंने आंटी से पूछा- अब यह बड़ा हो गया है तो क्या यह ठीक है?आंटी ने बताया- अब यह लगभग 7 इंच का लग रहा है.

पहले दीदी कुछ सोचती रही फिर उन्होंने कहा- ठीक है रात में मालिश कर देना. मैंने अब दो उंगलियां उनकी गांड में डाल दीं … उन्हें दर्द हो रहा था तो मैंने अपना लंड उनके मुँह में दे दिया.

आज मैंने भी सोचा कि मैं अपने साथ घटित एक सेक्स कहानी आप लोगों के साथ साझा करूं.

मैंने पैंट और चड्डी रसोई के बाहर ही उतार दिए और अचानक से उनके पीछे आ गया. தமிழ்sexyकुछ देर चूत उसके मुँह पर रगड़ने के बाद मेरा ज्वालामुखी आखिर फट पड़ा; लावा की धार बाहर निकल पड़ी. देवर भाभी चुदाई सेक्सी वीडियोमैं बोला- दीदी, मैं मालिश कर दूंगा तो शायद आपको आराम मिल जाए!ठीक है पेन रिलीफ जेल ले आओ और मालिश कर दो!”मैंने मन में सोचा कि अगर जेल से मालिश की तो मालिश 5 मिनट में ही खत्म हो जाएगी. तुम भी तो अब चुदने लायक हो गई हो … तुम्हें लंड की जरूरत तो होती ही होगी?सन्नी मेरे जीजू से बोला- अबे साले, इस मस्त लौंडिया के सामने फ़ालतू का ज्ञान मत चोद … साली को पटक कर यहीं पेल दे.

पहले भागसेक्सी भाभी ने नंगा जिस्म दिखायामें अब तक आपने पढ़ा था कि तनु भाभी ने दिन में मेरा लंड चूस कर रस पी लिया था और वो रात को चुदाई के लिए मिलने का कह कर चली गई थीं.

जब मैं अब्बू, फहीम चाचू को ऊपर चाय देने गया, तो वो लोग रात के बारे में बात कर रहे थे. मैं हांफने लगा था क्योंकि मैंने कुछ ज़्यादा ही रफ्तार से शॉट लगा दिए थे. प्रकाश मेरी पतली सेक्सी साड़ी को हटाकर मेरी गहरी नाभि में उंगली करने लगा, तो मेरे मुँह से सीत्कार निकलने लगी- आह … ओह … अहम्म!मेरी वासना में डूबी हुई मादक आवाजें निकलने लगीं.

कुछ देर बाद मैंने प्रिया को खड़ा करके पीछे से चोदते हुए चुचियां मींजने लगा. कुछ देर तक तो मैं उसकी जवानी को देखता रहा मगर जब वो खुद अपने हाथ से अपने दूध सहलाने लगी और चूत सहलाने लगी तो मैं कण्ट्रोल नहीं कर सका. अब मैंने थोड़ा सा लंड पीछे लेकर उनके कंधे पकड़कर तेजी से धक्का मारा तो मेरा पूरा लंड मामी की चूत में घुस गया.

एक्स एक्स देहाती बीएफ वीडियो

आप अपने रिव्यू मुझे मेल कर सकते हैं … और हां मैंने सेक्स विद फ्रेंड स्टोरी आपके साथ शेयर की है तो इसका मतलब ये नहीं है कि मैं किसी के लंड से चुदने के लिए रेडी हो जाऊंगी. इधर होंठों को चूस चूसकर लाल करने के बाद इस लड़के को मेरी नाइटी राह का रोड़ा लगने लगी थी तो उसने दोनों छातियों के बीच हाथ लगाया और नाइटी नीचे तक फाड़ दी. फिर मैंने गर्दन हिलाकर सहमति दी और नीचे अपने दोनों चूतड़ ऊपर उठा लिए.

तू सच में मुझे रंडी बना ले साले … आंह मेरी शादी के बाद भी तू मुझे चोदते रहना.

तब मैंने ध्यान दिया कि दीदी ने उस समय ब्रा नहीं पहनी हुई थी क्योंकि टीशर्ट के नीचे ब्रा की पट्टी उभरी हुई नहीं पता चल रही थी.

मुझे भी इतना ज्यादा मजा आ रहा था और लग रहा था कि यह पल कभी खत्म ही न हो. नेहा ने एक बार मुझसे सीधे बात ना करते हुए एक दूसरी लड़की आकांक्षा (बदला हुआ) से मेरे लिए पूछा. सेक्सी लंड वाली चुदाईमैंने आंटी से पूछा- आप अपनी बगल और चूत के बाल क्यों नहीं काटती हैं?आंटी ने कहा- खून निकलने के डर की वजह से.

फिर मैंने मामी के बालों को पकड़कर उनके मुँह में पूरा लंड दे दिया और गांड उठा कर उनके मुँह को चोदने लगा. वो इतनी ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही थीं कि आह मेरे राजा आज मेरी जवानी का रस पी जाओ … आह मेरीजवानी का पूरा मज़ाले लो. दोनों पैरों को फैला कर उनके बीच बैठ गया और लंड चूत के अन्दर डाल दिया.

फिर मैंने तुम्हें सीधा करके तुम्हारे लंड को 20 मिनट तक चूस कर खड़ा किया. मैंने मोनाली को गुजरात से दिल्ली की फ्लाइट की टिकट भेज दी और मोनाली से कह दिया कि वो आने से पहले अपनी पूरी बॉडी वेक्स करवा ले.

इस पर वह हंसी और बोली- क्या भैया, आप भी मेरी मजा ले रहे हो?लेकिन मेरा नजरिया उनके प्रति कुछ और था.

आज सब कुछ अजीब था, नया था … जिसकी मैंने कभी सपने में भी कल्पना नहीं की थी. मामी के मुँह से और तेज कामुक आहें कराहें निकलने लगीं- उई माँ … उम्म्ह … अहह … हय … याह … क्या कर रहे हो … आग लग गई है. हॉट सेक्सी गर्ल हिंदी कहानी शुरू करने से पहले मैं आप लोगों को खुद के बारे कुछ बताना चाहती हूं.

खेसारी लाल सेक्सी फिल्म मैंने कहा- बाल साफ क्यों नहीं करती हो?मम्मी बोलीं- टाइम ही नहीं मिलता. मैंने कहा- आया को सब मालूम है, इसका क्या मतलब है भाभी?भाभी ने हल्की सी स्माइल देते हुए कहा- वो ही मेरी सहारा है.

जब हमने छुप्पन छुपाई खेलना शुरू किया तो मैं उसका हाथ पकड़ कर उसे उसी फ्लोर पर ले आया और उसी अलमारी के पीछे छुप गया. गांड और चूत के आस-पास सब सफ़ेद सफ़ेद सा हो गया था और उसकी जांघों से होता हुआ नीचे गिर रहा था. कुछ देर रुक कर मैंने सिगरेट मसल दी और फिर से धक्के लगाना शुरू कर दिए.

मियां खलीफा एक्स एक्स एक्स बीएफ

यदि आप सभी को और विशेषत: भाभियों को मेरी हॉट भाभी की गांड मारने की कहानी अच्छी लगी होगी. पापा खुश हो गए और मुझसे बोले कि चढ़ जाओ और लंड इसकी गांड में पेल दो. बजाज सर ने मेरे पास आकर कहा- तुम्हें कुछ मेकअप वगैरह करना है, तो कर लो.

देसी कॉलेज गर्ल सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे कहने पर एक लड़की जो मुझसे कई बार चुद चुकी थी, ने दूसरी लड़की की चुदाई के लिए जुगाड़ किया. तो उसने मेरे सामने ही उससे पूछा कि ये कौन है?उसने उसे सच बताया- यार, ये मेरा ब्वॉयफ्रेंड है.

यह मैंने अपनी आँखों के सामने देखा जन मेरे भाई की गर्लफ्रेंड अपने किसी दूसरे यार के लम्बे और मोटे लंड से चुद रही थी.

हुआ यूं कि मुझे लखनऊ में अपनी सहेली की शादी में जाना था, तो मैं शादी में होकर अपनी दीदी के घर उनके बुलाने पर पहुंच गई. वे शादीशुदा हैं और उनका कोई बच्चा भी नहीं है।तो यह नवम्बर के आसपास की बात है. उनके तने हुए लंड ने बता दिया कि अभी भी मेरी चूत और गांड के ख्यालो में खोये हुए थे।फिर वे मेरी बगल में आये, बोले- कुछ चाहिये क्या?क्या?”करन चार महीने से नहीं आया है। तुम्हें कुछ चाहिये तो नि:संकोच बताना।”ठीक है पापा जी, मैं बता दूंगी।”कहकर मैं फिर अपने काम में मगन हो गयी.

फिर मेरे पूछने पर उसने बताया कि उसके पति का बिज़नेस, उसके देवर व जेठ ने धोखा देकर हड़प लिया. तू ऐसे क्यों कह रही है कुतिया … तू भी तो हितेश से चुदवाती है … सब पता है मुझे!मैं- हां नेहा, लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि मैं और लड़कों के साथ भी लग जाऊं. मामी- आह्ह आह्ह आउच … वो छेद मत छेड़ो बेबी … उसमें मैंने कभी नहीं करवाया.

अभी कोई 5 मिनट ही हुए थे कि मामी को अब मज़ा आने लगा और वो गांड हिला-हिला कर चुदने लगीं.

बीएफ हिंदी वीडियो सेक्सी वीडियो: मैंने कहा- दिखाऊं?वो हंस दी लेकिन तभी उसके पापा के आने की आहट हुई और हम दोनों ने बातचीत का विषय बदल दिया. मैंने धीरे से अपना हाथ उनकी चूत की तरफ बढ़ा दिया और चूत पर हाथ फेरने लगा.

मामी- आह्ह … आह्ह … मज़ा आ रहा है मेरे राजा आह्ह … आह्ह … मार लो गांड … कर लो अपना अरमान पूरा. यहां मैं फिर से याद दिला दूँ कि यदि लड़की या स्त्री यदि चाहे तो आपको हज़ार मौके दे देगी कि आओ मुझे चोद दो. ऋतु ने तिरछी नजरों से सनी के लंड को देखते हुए उसे इशारा किया तो सनी ने आगे बढ़कर अपना लंड उसकी चूत पर टिका दिया और ऊपर से ही रगड़ने लगा.

आज मुझे माफ़ कर दो, ये लो देखो, अच्छे से देख लो … जितना मर्ज़ी देखो.

ये कह कर जीजू मेरे पीछे आ गए और मेरे कान में बोले- अब तक कितने लौड़ों से चुद चुकी हो?मैंने उनको बताया- जीजू, मैंने सिर्फ अपने ब्वॉयफ्रेंड से ही सेक्स किया है या आपने अपने दोस्त के साथ मुझे चोदा था. मम्मी ने पहले शर्ट उतारा और फिर सलवार उतार कर मुझसे कहा- ये बाहर रख दे. खैर 2 दिन तो ऐसे ही निकल गए पर मेरी कुछ करने की हिम्मत नहीं हो रही थी क्योंकि दीदी मुझसे बड़ी थी.