पाकिस्तानी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी में से बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

देवर भाभी का रोमांस बीएफ: पाकिस्तानी वीडियो बीएफ, मैंने कहा- शुरुआत कैसे करूं?उन्होंने कहा- मेरी एक सहेली है, जिससे मैंने तुम्हारे बारे में चर्चा की थी.

बांग्ला बीएफ सेक्स वीडियो

प्यार की क़हानियाँ तो हम सब कहते हैं पर प्यार कैसे कैसे मोड़ ले आता है जिंदगी में ये कोई नहीं बताता।मेरी कहानी भी कुछ ऐसे ही मोड़ लेती हुई उस नदी के जैसी है जिसमें उफान तो हर रोज आया पर वो कभी सागर से नहीं मिली।आदाब! मैं हूँ आपका अपना दोस्त निहार. ब्लू पिक्चर ब्लू पिक्चर बीएफपहले तो आलिया को अजीब लगता रहा, लेकिन फिर नशे की वजह से वो भी दीदी का साथ देने लगी.

जब मुझे उन्होंने इस बारे में बताया तो पहले मुझे बहुत गुस्सा आया लेकिन एक बार चुद गयी तो फिर मुझे भी रोमांच पैदा होने लगा. बीएफ पिक्चर हिंदी एक्स एक्स एक्समैंने और भी बेकरार होकर पूछा- फिर कब?मालकिन ने आँखें नचा कर अपनी चुदास बिखेरी और कहा- रात को.

मैं उसकी चूत पर जीभ फेरने लगा तो कसमसा कर बोली- ये न करो साहब, लण्ड पेलो, अब हमसे बरदाश्त नहीं हो रहा.पाकिस्तानी वीडियो बीएफ: मैंने चाची को बताया कि चाची मेरा होने वाला है … जल्दी बताओ … रस कहां निकालूं.

उसके बाद उसने मुझे बेड पर लिटा दिया और मेरे पूरे बदन को किस करने लगा.मेरे कंठ से एक मीठी सी आह निकली उम्म्ह… अहह… हय… याह… और विक्की ने मुझे चोदना चालू कर दिया.

बीएफ जंगल की बीएफ - पाकिस्तानी वीडियो बीएफ

पर मेरी बीवी को अपने जॉब से छुट्टी नहीं मिली थी, इस बात को लेकर मैं नाराज़ था क्योंकि मुझको उसे चोदना था.मैंने उसकी आँखों में देखा, तो वो फिर से मेरे हाथ से अपनी चूची सटाते हुए मुस्कुराने लगी.

मैं- क्या करूं जीजा जी आपकी बीवी है ही इतनी हॉट माल कि मेरे लंड से कन्ट्रोल ही नहीं हुआ. पाकिस्तानी वीडियो बीएफ मैंने कहा- तुम जो भी फील करना मुझे बताना, मैं समझ जाऊंगा कि तुम कितना सीख गई हो.

मैंने मामी जी को भी नमस्ते बोली और मैं वहीं आलिया के साथ सोफे पर बैठ गया.

पाकिस्तानी वीडियो बीएफ?

उस दिन हम दोनों रात में होटल में ही रुके और मैंने उनको पांच बार आगे से बजाया … दो बार चाची की गांड भी मारी. अब मैं अकेले घर में क्या करता … तो पूरे घर को लॉक कर के, खड़की दरवाजे सब बंद किए और नंगा हो गया. शादी में चूसा कज़न के दोस्त का लंडसे लेकरमेरे गांडू जीवन की कहानीतक कई गे सेक्स कहानियों की शृंखला अन्तर्वासना की कृपा से मैंने अपने समलैंगिक भाइयों तक पहुंचाई.

हेलो, मेरा नाम है मनीषा मैं दिल्ली से हूं।मेरी पिछली कहानीप्रशंसक को सेक्स का मजा दियामें आपने पढ़ा कि कैसे मैंने अपने गुजरात के दोस्त के साथ सेक्स किया।फिर बहुत समय तक हमारी बात होती रही हैं। वो मेरे ख्यालों में हमेशा डूबे रहते थे, फोन कॉल पर मुझसे बहुत अच्छी-अच्छी बातें करते थे कि मनीषा मैं आपके लिए कुछ भी कर सकता हूं. ऐसा लग रहा था जैसे वो मेरे लंड को खा जाएगी।उधर मैं सोच रहा था कि छाया बेड के नीचे है. फिर अंकल ने मुझसे कहा- मेरी एक इच्छा है!मैंने कहा- बताइए?अंकल बोले- ऊपर से शावर चल रहा हो … पानी की बूंदों में हमारे नंगे शरीर दिख रहे हों और तुम अपने घुटनों पर बैठ कर मेरा लंड चूसो।उनकी खुशी के लिए मैं घुटनों पर बैठ गई और उनके सोए हुए लंड को चूसने लगी.

मैं कुछ देर रुकने के बाद ज़ेबा को गुडनाइट बोल कर अपने कमरे में आ कर सो गया. ”तो क्या मैं तुमको और जोर से चोदूँ?”जी हां सर … चोदिए ना!”बहुत टाईट है तेरी फुद्दी!”तुम्हारा लंड भी तो बहुत मोटा है. गांड में लंड घुसते ही मॉम चीखी और वो अंकल के लंड को निकालने के लिए अपने हाथ से उनको पीछे धकेलने की कोशिश करने लगी.

जैसे ही मैं पानी पी कर पलटा, मैं देखता हूँ कि निधि के हाथ में रस्सी थी. नई उमर की लड़की थी, सब कुछ जानती थी, और शायद इस पल में वो कोई मुरव्वत नहीं बरतना चाहती थी।मैंने भी उसकी उलझन न बढ़ाते हुए अपनी आँखें बन्द रखी और जो वो सुख मुझे इतने वर्षों के बाद दे रही थी, उसी अहसास में मैं डुबा हुआ था।सायरा काफी देर तक मेरे जिस्म से खेलती रही और अब मेरी बारी थी.

उसने अपनी आंखें बंद कर लीं और एक मर्द के स्पर्श का वो अपनी नंगी चुचियों पर मजा लेने लगी.

मैंने कहा- अब से आप मेरी वाइफ हो गई हो … जब चुदवाने का मन हो, बुला लेना.

इससे वो एकदम गर्म हो गई और मुझे खुद से चूचे पिलाने की कोशिश करने लगी. मेरे हाथों की लगाम को पकड़ो और अपनी चूत की सवारी मेरे लौड़े पर शुरू कर दो. अब 2 मिनट बाद वहाँ से ट्रेन चली गयी और मैं स्टेशन से थोड़ा दूर आ गयी सन्नाटे में!वो दोनों चोदू मर्द अब भी मेरे पीछे आ गए थे। अब उसमें से एक आदमी ने मुझे पीछे से पकड़ लिया और मुझे चूमने लगा पीछे से!अब आगे वाला मेरे सामने आया और मेरे ब्लाउज में हाथ डाल कर मेरे दोनों बूब्स को दबाने लगा और बोला- बहुत तड़पाया है रानी तुमने! अब तुम्हारी सारी जवानी चूस डालूँगा.

भाभी सेक्स से भरी आहें भरते हुए बोलीं- गर्दन पर आराम से करो … निशान पड़ जाएगा. रात को जब हम घर आ रहे थे, तो मैंने कहा- तुम आज ड्रिंक करोगी?वो बोली- ओके तुम्हारे साथ ड्रिंक भी कर लूँगी. मैंने कई बार दीदी के गहरे गले से दिखती हुई मस्त क्लीवेज को भी देखा, उनको आधा नंगा भी देखा था.

और उसने मुझे एक मेट्रो की जगह बताई कि वहाँ उतर जाना, मेरे शौहर लेने आएंगे तुमको।मैं बोला- ठीक है।वहाँ पहुँचने के बाद मैंने उसको कॉल किया कि जहाँ तुमने बताया वहाँ पहुँच गया हूँ।वो बोली- ठीक है, ये आ रहे हैं.

मैं नंगी उठ कर बाथरूम में चली गई, पर जब मैं बाथरूम से लौटी, तो दीदी गहरी नींद में सो चुकी थीं. अब मेरा खुद पर से कंट्रोल छूट गया, मैंने खुद को एकदम ढीला छोड़ दिया … या यूं कह लीजिए कि मैंने खुद को पूरी तरह से जेठजी को सौंप दिया. जैसे ही वो अंतिम छोर पर जा कर बच्चेदानी से छुआ मेरे मुंह से निकला- ऊऊऊ ऊऊईई ईईईई मम्मी!क्या हुआ मेरी जान? मोटा है क्या?”हाँ मोटा तो है ही … मेरी चूत में समा नहीं रहा.

मैंने समय नहीं गंवाते हुए अपने लंड का सुपारा चाची की चुत पर रख दिया और धीरे से अन्दर पेल दिया. अभी मैं किसी तरह की पहल करने से डर रहा था क्योंकि मुझे भरोसा नहीं था कि श्वेता का रिएक्शन क्या होगा. मैंने उसको हमेशा भाई की नजर से ही देखा था और आज वो इस तरह से बेशर्म होकर मेरी चूत में झांक रहा था.

मैंने सोचा क्यों ना मैं भी अपने जीवन की असली घटना को आप लोगों के साथ शेयर करूं.

बॉस ने मुझे बैठने को बोला और फिर बताया- परसों तुम्हें एक एड शूट करने एक हफ्ते के लिए लुधियाना जाना है. मनु और मैंने कॉलेज से ही संदीप के घर जाने का प्लान बनाया था, क्योंकि परमीत ने अपने जाने के लिए पहले ही मना कर दिया था.

पाकिस्तानी वीडियो बीएफ इस पर वो जोर से चीख कर बोली- छी: ये क्या कर रहे हो गन्दे …मैं बोला- सेक्स में कुछ भी गन्दा नहीं होता. फिर एक दिन मैंने प्रीत से पूछा- तुम्हारे फार्महाउस पर कौन रहता है? उधर फैमिली वाले जाते है क्या?प्रीत- हां जाते हैं, लेकिन अभी तो सब पंजाब गए है.

पाकिस्तानी वीडियो बीएफ कहानी के बारे में आपको यदि कोई सुझाव देना है तो उसके लिए आपका स्वागत है. [emailprotected]चुदाई की कहानी का अगला भाग:फ़ेसबुक से वाली भाभी की जिस्म की आग-2.

मैं दीदी की चूत के ऊपर डिल्डो को रगड़ रही थी और बीच बीच में चूत के अलावा मांसल टांगों कूल्हों को चूमती हुई मन ही मन सोच रही थी कि दोनों डिल्डो का अलग-अलग आनन्द कैसा होगा.

न्यू सेक्स ब्लू

वैसे तो हमें बहुत बुरा लगा, पर सर पर तो संदीप की धुन सवार थी, इसीलिए हम दोनों सामने ही एक तीसरी दुकान पर उपहार छांटने पहुंच गए. निधि समझ गई कि उसके पतिदेव बहुत गुस्से में हैं और लवड़ा पकड़ कर मुठ मार रहे हैं … इसलिए इतने भड़के हुए हैं. वो जब आयी थी, तो उसने सबसे हाथ मिलाया था … और मेरी तरफ हाथ बढ़ाए खड़ी थी.

अन्दर बाहर करते करते मैंने संगीता से कहा- अभी जैसे अपनी हथेली से तुमने अपना मुंह दबाया था, एक बार फिर दबाओ, देखूं कैसी लगती हो. मैंने झपट कर फ़ौरन वसुंधरा के जिस्म को खड़ा कर के अपने आगोश में ले लिया. मैंने उनको हौसला देते हुए कहा- मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं है … और वैसे भी हम कौन सी शादी कर रहे हैं.

हमारे घर के ताल्लुकात, उनके घर से बहुत अच्छे थे, जिसके कारण मैं उनके घर में कभी भी आज आ जा सकता था.

वो चैट में इससे लंड चुसवाता था, इससे ब्रा पैंटी में इसकी पिक्स मांगता था. फिर विक्की खड़े हो कर चोदने लगा और दस मिनट बाद वो मेरी चुत के बाहर झड़ गया. तुम एक काम और कर दो तो मैं तुम्हें पांच नहीं बल्कि छह हजार दिया करूंगा.

इसलिए पहले तो मैंने खुद को, अपने मन को, अपने बेतरतीब श्वासों को एकाग्रचित्त किया और फिर गहरे-गहरे सांस अपने फेफड़ों के ऊपरी सिरे तक भर कर अपने मुंह के रास्ते वसुंधरा की योनि के ठीक ऊपर जोर से छोड़ने लगा. वो- और …मैं- तुम्हारी मोटी मोटी आंखें एकदम वाइट और बीच में मटकता काला गोला … आह … आज भी नशीला है … जो एक बार देख ले, तो नशे में हो जाए. उससे संबंधित और भी वीडियो नीचे अपने आप ही सूचीबद्ध तरीके से दिखाई दे रहे थे.

इस बार मेरा पूरा लंड उसकी चुत को चीरता हुआ अन्दर घुस गया और मैं डोली के ऊपर पूरा लेट गया. दो-तीन बार उसने ऐसा ही किया और वो चूत पर लगी मेरी मलाई को साफ कर गयी।फिर सायरा ने अपनी गीली पैन्टी को एक बार फिर उठाया और बाहर आयी.

संजू थोड़े विरोध के बाद मेरा साथ देने लगी, आखिर वो तो हमेशा इसके लिए तैयार रहती है. मैंने कहा- भैया को अच्छा लगूँ … इसका क्या मतलब होता है?उन्होंने साड़ी अपने चूचों पर सैट करते हुए कहा- तुम नहीं समझोगे. शायद लंड को साफ करने गया था।तो मैं ऊपर चली गई तो ऊपर के कमरे बंद थे.

उसके बाद उसने अपनी गांड उठाई और मेरे लंड पर अपने चूतड़ों को रगड़ने लगी.

कृपया अपने सुझाव मुझे जरूर भेजें और कोई गलती हुई हो, तो माफ कीजियेगा मेरा मेल आईडी है. भाभी- अच्छा … तो देर कैसी … क्या अब कोई पंडित मुहूर्त निकलेगा क्या?मैं- निकालूँगा तो मैं … पर आपके अन्दर. अगली बार क्या पता दो साल या 4 साल या सारी जिन्दगी इंतज़ार करो … और रही मां पापा की बात, आपके पास इतना समय बहुत है, इतने में तो मैं आपको जन्नत के दरवाजे तक 3-4 बार ले चलूंगी और तब तक ले जाती रहूँगी, जब तक आप खुद ना कहो कि बस मोनिका बस … अब और नहीं.

उसको अब मजा आने लगा, प्रीति कहने लगी- संजय, और जोर जोर से चोदो, बहुत मज़ा आ रहा है. मैं सीधा जेन्ट्स के बाथरूम में गया और दीदी के बारे में सोच कर मुठ मारने की सोची.

फिर उन्होंने कुछ देर बाद बताया कि वो फोटो बहुत सुन्दर थी, इसलिए कहा था. उफ्फ़ … मैं तो ऐसी हालत में थी कि ना तो वहाँ से हिल सकती थी और ना ही खुल कर मज़ा ले सकती थी. मैंने चालाकी से उसके दोनों मम्मों की तारीफ की, तो बेध्यानी में चुत से हथेलियों को हटा कर उसने अपने दोनों हाथों से चुचियों को छिपा लिया.

नंगी लड़कियों की फोटो दिखाओ

तेरे बारे में जो गांव के लड़के और बुड्ढे बात करते हैं सब बिल्कुल सही है कि तू हमारे गांव की ही नहीं पूरे एरिया की सबसे सेक्सी और सबसे चुदासी लड़की है.

मैं उसके होंठ चूसने लगा और एक तेजी से शॉट मारा, तो इस बार मेरा लौड़ा पूरा अन्दर चला गया. उसने जैसे ही करवट बदली मैंने अपने होंठ उसके होंठ से सटा दिए और उसे चूसने लगा। चूसते चूसते मैं उसके बूब्स भी दबा रहा था वो भी मेरा साथ दे रही थी।फिर वो अलग होकर मेरे कपड़े उतारने लगी, मैंने भी उसके कपड़े उतार दिए. चाची ने कहा- मुझे गांड में लंड लेना बहुत अच्छा लगता है और मजा भी आता है.

मगर अभी के लिए थोड़ी देर तो इसे अपने हाथ में पकड़ ले यार। कब से मेरा लंड तुझ से प्यार करने को तरस रहा है।मैंने उसका लंड अपने हाथ में पकड़ा और धीरे धीरे उसे हिलाने लगी. चुत में लंड अन्दर डालते हुए मेरे लंड के टोपे पर भी थोड़ा दर्द हुआ, पर चुदाई के नशे में मैंने दर्द की परवाह न करते हुए अन्दर बाहर करना शुरू कर दिया. हिंदी में बीएफ फुल एचडी वीडियोचित्रा- अब पूरी रात सिर्फ किस ही करोगे या आगे भी कुछ करोगे?दीदी की बात सुनकर मैंने आलिया को घुमा दिया और उसकी ब्रा का हुक खोल कर निकाल दिया.

उस वक्त मेरी जान पर आ गई मुझे इतना तेज दर्द हुआ कि मैं जोर से चिल्ला पड़ी- मम्मीईई ईईईई नहीं मत करो!वो इतनी जोर से मुझे दबा रहा था कि उसका लंड सीधा मेरे बच्चेदानी से टकरा रहा था. भाभी- मुझे पता था, वो मना करेंगे क्योंकि 3 दिन पहले ही उन्होंने मुझे किया था.

संगीता की कमर पकड़कर चोदना शुरू ही किया था कि सीढ़ियां चढ़ती मीना की आवाज सुनाई दी. एक दो बार तो उसने अपनी उंगली को मेरी फुदी के अंदर घुसेड़ने की कोशिश भी की, मगर पैंटी और पजामी के कारण वो सफल नहीं हो सका. फिर उसने मेरी मेरी मुँह से अपना लंड निकाला, जिससे मेरी लार से मेरे मुँह से उसके लंड तक एक तार बन गयी थी.

मैं भी उनका पूरा साथ दे रही थी क्योंकि हम दोनों एक दूसरे को खा जाना चाहते थे. मैंने उसकी ब्राउजिंग हिस्ट्री को खोल कर देखा तो मेरे होश ही उड़ गये. मैंने पूछा- क्या हुआ?वो बोली- मैं झड़ गई … तेरा नहीं हुआ क्या?मैंने कहा- नहीं यार.

वो बोले- कैसा है?उई माँ … ये इतना मोटा कैसे जायेगा मेरी फुद्दी में?”सब चला जायेगा; और एक बार के बाद तुमको यही पसंद भी आएगा; तेरी इस जवानी के लिए ऐसा लंड ही चाहिए! इतना मस्त गदराया हुआ बदन है तेरा … छोटे लंड से तो तेरी प्यास नहीं बुझेगी.

तभी दीदी मेरे बालों को सहलाते और नोंचते हुए ‘आई लव यू गीत … फक मी … फक मी. … आह … खा जाओ चुत को … मेरे राजा बहुत मजा आ रहा है … अब जल्दी से लंड पेलो … मुझसे रहा नहीं जाता … आई लव यू राज … कहां से सीखा ये सब … आंह मेरी चुत से मूत निकलने वाला है … जल्दी मुँह हटाओ राजा.

उसने ऐसा कहते हुए मेरी ब्रा के ऊपर ही से अपना मुंह मेरे दूधों पर रख दिया. लेखक की पिछली कहानी थीकुंवारी लड़की की चुदाई का सपनासेवक राम मनवानी हमारे मुहल्ले में रहते हैं. उसने मेरी नाइटी की डोरियों को मेरे कंधे से हटा कर साइड में कर दिया और मेरे मम्मों को दबाने लगा और चूसने लगा.

अंदर वसुंधरा की दो-तीन ड्रेसेस के साथ-साथ साटन के दो नाईट-सूट और उन के नीचे साटन के तीन सेट डिज़ाइनर ब्रा-और पैंटीज़ के पड़े थे. अब उसके 6 साल के भाई और संदीप के अलावा मैं और मनु ही उस घर में रह गए थे. तभी विवेक झुका और घुटनों के पास से मेरी नाइटी पकड़कर धीरे-धीरे ऊपर करने लगा।मैं विवेक को बोली- मुझे शर्म आ रही है, प्लीज इसे रहने दो.

पाकिस्तानी वीडियो बीएफ मैंने कहा- बाबू … एक बार मेरे लंड को मुंह में लेकर इसको अच्छे से टाइट और गीला तो कर दो. स्कूल, कॉलेज, नौकरी, कार्यक्षेत्र के अलावा बचपन, जवानी, जज़्बात और जिम्मेदारियों के बीच झूलती जिन्दगी के हर पड़ाव पर हमें कुछ नये दोस्त मिलते हैं.

सेक्सी पिक्चर चुड़ै वाली

लाईट जल रही थी और मेरी दोनों सहेलियों के बदन पर नाममात्र भी कपड़े नहीं थे. वो पूरे जोश में आकर चिल्लाने लगी- आंह जल्दी चोदो … फाड़ दो मेरी बुर को. हम सभी साथ मिलकर पैग बनाने लगे और साथ में चियर्स कहकर पैग मारने शुरू कर दिए.

यहां एक भूल हो गई, मैंने उसके दूध में नींद की गोली नहीं डाल सकी थी. वो तेज तेज बोलने लगी- आंह साहिल चूसो … इन्हें चूसते जाओ … आह बहुत मज़ा आ रहा इस्स … आह उईईई!मैं उसकी चूचियों को बेदर्दी से मसलते हुए चूसने में लगा हुआ था और वो मेरे सर को अपने मम्मों पर दबाए हुए मजा ले रही थी. गुजराती सेक्सी बीएफ वीडियोप्रीति:मैं छत पर बैठी रो रही थी, मेरे हाथों में शराब की बोतल थी। वैसे मैं शराब पीने की आदी नहीं थी.

मैंने कहा- बैठो, बताओ क्या बात करनी है?रेखा ने कहा- चाचा जी, चाची को मरे काफी टाइम हो गया और इनको मरे हुए भी छह साल हो गये.

आंखों में वासना की मस्ती और चाल में चंचल हिरनी की अदा … होंठ जैसे मद से भरे प्याले हों. मेरी कहानियों पे जो प्यार आपका मिलता है वो अभूतपूर्व है, अकल्पनीय है। आप सब का इस प्यार के लिए मैं राहुल श्रीवास्तव दिल से आभार प्रकट करता हूँ आशा है आप अपनी राय कमैंट्स बॉक्स में या ईमेल के जरिये मुझे देते रहेंगे.

दीदी अपने दोनों पैर हवा में उठाए हुए अपने दोनों हाथों से मेरी पीठ पकड़ कर अपने भाई के लंड से चुदाई का मजा ले रही थीं. फिर धीरे-धीरे मजा आने लगा।बहुत बहुत देर तक उसने मुझे ऐसे ही चोदा, पीछे से उसने मेरे बाल भी पकड़ लिए. उसकी आवाज ने मेरे दिल में हलचल मचा दी … मैं अपनी सहेलियों समेत रूक गई.

मैंने उसको सोफे पर धक्का देकर बैठा दिया, उसके लंड को पकड़ा और अपनी चुत पर सेट कर दिया.

दीदी की साड़ी को उतारने के बाद अंकल ने दीदी की साड़ी को बालकनी में हैंगर पर डाल दिया. चाची धीरे धीरे आवाज निकालने लगीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आ … उ … ओ … उइ माँ … करो जोर से करो. उसके छोटे छोटे मम्मे पूरे के पूरे मेरे मुँह में अन्दर चले जा रहे थे.

देसी बीएफ चोदी चोदाइस सबसे उनके अन्दर इतनी आग बढ़ गई थी कि वो सेक्स करने के लिए मुझसे भी ज्यादा वो तड़पने लगी थीं. आपको मेरी यह कहानी पसंद आई या नहीं … मुझे नीचे दी गई मेल आइडी पर मैसेज करें.

हिंदी में चोदने वाला वीडियो

साड़ी ब्लाउज़ उतारकर वो बेड पर बैठ गई और मुझे अपने करीब खींचकर मेरा लोअर उतार दिया. वो बोली- लो आवाज लगाओ मेरे को … ऐसे बुलाओ मेरे को, जैसे मैं घर में ही हूँ. नीचे बैठ कर वो बोला- मैं देखना चाहता हूं कि आशीष ने जो माल पटाया है वो कितना करारा है.

मैंने कहा- हेलो, रोज़ खड़े दिखते हो, एक-आध बार मुँह से कुछ बोल भी दिया करो काहे का घमंड है तुमको रे?उसने झेंपते हुए कहा- भाभी जी नमस्ते! वो मैं नया आया हूँ ना, आपको परेशान नहीं करना चाहता था, वैसे मेरा नाम रोहित है. मैंने राज को फोन किया- कहां हो?तो राज ने कहा- मैं घर पर हूं, एक पार्टी का इन्तज़ार कर रहा हूं, जैसे ही वो आएगा, मैं उसको एक प्रॉपर्टी दिखाने ले जाऊँगा. मैं- और सेठजी?मालकिन- वह आज घर पर नहीं हैं, कहीं बाहर जाने वाले हैं.

उधर उसके जिस्म के सारे गैरज़रूरी बालों को रिमूव करवा के वैक्सिंग और मसाज करवा दिया. हमने देर रात एक बजे तक बातें की और कब नींद आ गई कि पता ही नहीं चला. वो अपना हाथ बदल बदल कर गाड़ी चला रहा था और हाथ बदल बदल कर ही मेरी फुदी और गांड को मसल रहा था.

वो बोली- ऐसी कोई बात नहीं है सर!तो मैंने कहा- मैंने तुमसे पहले ही कहा था तुम मेरा ध्यान रखोगी, मुझे खुश करोगी. फिर अब मैंने अपना हाथ ऊपर ले जाकर पीछे से उसके ब्रा की हुक खोल दी और उसके बूब्स आजाद हो गए थे जो कह रहे थे- खा जाओ हमें!मैं उसके बूब्स चूसने लगा और एक हाथ से दूसरे बूब्स को दबाने लगा। वो आह आह आह आह की सिसकियां लेने लगी.

उसके बाद मैं रसोई साफ करने लगी, जेठजी अभी भी वहीं रसोई में ही खड़े खड़े मेरे फ्री होने का इंतजार कर रहे थे.

तभी मैंने उनकी सलवार को खोला और उनको घोड़ी बना कर सूट को ऊपर कर के लंड को अन्दर डाल कर चोदने लगा. सेक्सी वीडियो बीएफ भोजपुरी हिंदीतभी मेरी नज़र सामने लगे आईने पर गयी, जिस में ड्राइवर की आँखें दिख रही थी और वो मेरी तरफ़ ही देख रहा था. बीएफ वीडियो 15 सालमैंने इतनी लड़कियां चोदीं, अपनी बीवी को भी चोदा, पर मेरा लंड चूस कर कोई माल निकाल दे, ऐसा तेरे अलावा कोई नहीं कर सकती. रिक्वेस्ट करते हुए मैं बोला- प्रोमिस करता हूं कि मैं तुम्हें हाथ भी नहीं लगाऊंगा.

इतना बोल कर मैं जाने लगा तो वो बोली- फिर तुम कहां पर जा रहे हो?मैंने कहा- मैं वापस छत पर चला जाता हूं.

अब मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने सोचा कि इस गधे को मुझे ही सीधा करना पड़ेगा. प्रकाश की बीवी ममता बहुत हंसमुख और जिंदादिल और उम्र में प्रकाश से चार पांच साल छोटी थी. दीदी अंकल के हर एक झटके का जबाब ‘आआह्हह ऊऊह्हह आआह्ह्हह … धीईईरे ईईए.

भाभी ने लंड को प्यार करते हुए उसके करीब मुंह ले जाकर कहा- हाय, मेरा शोना … मेरा बाबू, मैंने तुमको दर्द कर दिया. उसके साथ साथ वो मुझे इधर उधर किस भी करने लगी, मेरे अण्डों को भी वो चूसने लगी. इसके बाद चुचियों को मसलने के साथ ही दीदी की चुत में अपने लंड को अन्दर और अन्दर पेलने के लिए जोर जोर से झटके देने लगे.

भोजपुरी सेक्सी चुदाई

वो बोली- यहीं करोगे?मैंने कुछ नहीं कहा और जिया को उठाकर हॉल में ले आया. मैंने एक बार वहीं बाथरूम में चाची की चुदाई की और इस बार उनकी चूत में ही अपना पानी छोड़ दिया. भाभी की चूचियों के निप्पल पहाड़ की चोटियों के जैसे तन कर खड़े हुए थे.

मेरे पति का लंड मेरी छोटी बहन की चूत में अंदर बाहर हो रहा था और उनकी जीभ अपनी साली के चूचों का दूध निचोड़ने में लगी हुई थी.

अगली सुबह लगभग दस बज रहे होंगे, श्वेता दीदी मेरे घर आई … वो अपने हाथ में वहीं कॉपी लिए हुए थी, जो दीदी ने कल श्वेता दीदी को दी थी … मेरी दीदी और मम्मी थोड़ा जल्दी में थीं.

वो घबराते हुए- आइये ना अंदर!अंदर जाते ही माहौल पता चला, खूब गंदगी थी, खाने के पैकेट इधर उधर और कुछ बियर की बोतलें भी थी. फिर हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे और वो मेरा शर्ट को खोल कर मेरे सीने को अपने होंठों से चूसने लगी. सेक्सी पिक्चर का बीएफउनके लंड को मैंने हाथ में पकड़ लिया तो वो मेरी चूचियों को दबाते हुए पीने लगे.

उसने फिर अपने लंड की मुठ मारना शुरू कर दिया और एकदम से उसके लंड से माल की पिचकारी निकल कर मेरे पेट पर गिरने लगी. फिर उसने एकदम से एक जोर की सिसकारी भरी और उसकी चूत का पानी छूट गया. तभी वो बोली- देवर जी, कहां खो गए?मैंने अपने आपको सम्भालते हुए कहा- कुछ नहीं भाभी … बस लाइफ़ में पहली बार इतने पास से आपकी ख़ूबसूरती देखी है.

करीब 20 मिनट के बाद उसने अपना लंड बाहर निकाल दिया और जैसे ही लंड बाहर आया तेज़ पिचकारी छूट गई और सीधा मेरे चेहरे पर आकर पड़ी।चेहरे के साथ साथ मेरे पेट और चूचियों पर उसका वीर्य बह गया था. मैंने कहा- पर क्यों?वो बोली- मैं जानना चाहती हूँ, तुम आज भी मुझको उतनी ही अच्छी तरह जानते हो या नहीं.

संदीप का लंड बड़ा था, इसलिए मैं चाहती, तो भी आधे से भी कम लंड ही मुँह में समा पाता.

मैंने अपने दोनों पैर उठाकर सोफे पर रख कर और फैला दिए जिससे मेरी चूत पूरी तरह खुल गयी. पर उस वक्त मेरा पूरा शरीर कांपने लगा, जब मामी ने मुझे देखा और उन्होंने मेरे गाल पर एक किस कर ली. उस कमरे की बालकनी हमारी बालकनी से लगी हुई थी या ये कहिए कि दोनों कमरों के लिए एक ही बालकनी थी.

बंगाली एक्स एक्स एक्स वीडियो बीएफ इस बार तो मैंने संदीप के लंड की गोलियों को भी बीच बीच में मुँह में भर कर मजा लिया. मैं उन्हें धक्का देकर अपने से अलग करते हुए बोली- क्या भैया जी, अभी भी आप मुझे श्वेता भाभी ही समझ रहे हैं क्या? इस बार तो मैंने अपनी नाइटी पहनी है.

तब मैं बोली- दूसरे राउंड के किये रेडी हो या अभी नहीं?वो बोला- बस दस मिनट रुकिए मेम. लेकिन वो मुझे एक अच्छा दोस्त समझती थी, इसीलिए मैंने कभी प्रयास नहीं किया. इधर दीदी का चेहरा देखकर और बात सुनकर मेरी हवा निकल गई थी, क्योंकि रात रुकने का कोई प्रोग्राम नहीं बना था और दीदी का आज बर्थ-डे है, हमें ये भी नहीं पता था.

देसी सेक्स ऑनलाइन

मैं गई … ज़ोर से चोद … और ज़ोर से … अआह अआह गई मैं आह!बोल कर उसने अपना पानी गिरा दिया. वहीं रसोई में रेखा को कुतिया बनाकर पीछे से उसकी चूत में लण्ड पेलकर मैं धीरे धीरे चोदने लगा, जब धक्के पड़ने लगे तो बोली- चाचा जी बेड पर ले चलो, मेरा काम तो हो गया, अब आप अपना निपटा लो. तभी आलिया ने मेरी टी-शर्ट निकाल दी और मैंने भी आलिया की टी-शर्ट निकाल दी.

मैंने अपनी ब्रा को देखा तो अभय सेठ ने कहा- तू चिंता मत कर, मैं तेरे लिए अच्छी क्वालिटी की मस्त सी ब्रा ला दूंगा. मैं जाकर चुपचाप सोफे पर बैठ गया और अपना मोबाइल निकाल कर उसमें गेम खेलने लगा.

उनका दो बार में ही इतना अधिक रस निकला कि बेड की चादर तक गीली हो गई.

चाची की फिगर 34-28-36 है और वो दिखने में भी काफी सेक्सी हैं … उनका रंग हल्का सा सांवला है. तो सायरा भी पीछे नहीं रहने वाली थी, वो भी मेरे निप्पल को मसल रही थी और इसी मदहोशी में सायरा मेरे निप्पल को दांतों से काटती तो कभी उसको पीने की कोशिश करती. उसकी इस बात पर मैंने भी बेशर्मी से कहा- तू तो ऐसे कह रही है … जैसे कि मेरी चूत में इतना बड़ा एक फुट का डिल्डो चला ही जाएगा.

हो सकता है कि कहानी को लिखते समय मुझसे कुछ गलतियां हो जायें तो कृपया सबसे निवेदन है कि गलतियों पर ध्यान न दें. मेरी पड़ोसन ने बताया कि अपने मोहल्ले के आगे वाली सड़क पर एक नए डॉक्टर ने बच्चे का क्लिनिक खोला है … सुना था कि वो काफी अच्छा है. अब तक मोना के भाई के आने का टाइम हो गया था और वो जाने की कह रही थी.

उसने बताया कि उसका पति साहिल और सास अमृतसर किसी रिश्तेदार के यहां 5 दिन लिए गए हैं.

पाकिस्तानी वीडियो बीएफ: मैं रजनी शेखावत मुम्बई से!आपने मेरी पिछली डर्टी सेक्स कहानीकॉलेज में चुदती हुई पकड़ी गईपढ़ी होगी. मालकिन तूफानी ताकत से लंड पर हिल रही थी … और ऐसे हिलते समय उनके बड़े बड़े दोनों स्तन ऊपर नीचे झूल रहे थे.

आलिया की इस हॉट फिगर को देखकर मुझे ऐसा लग रहा था कि अभी उसके मम्मों को दबा डालूं और उसको अभी चोद डालूं. उसके दोनों हाथ मेरे कंधों के नीचे थे और वो मेरे उपर लेट कर मुझे ज़ोर ज़ोर से पेले जा रहा था. … तुम तो ये बताओ कि तुम उनके लैटर का जवाब कब दोगी?दीदी- मुझे सोचने का समय दो.

फिर मोना ने मेरे लंड को पकड़ कर डोली की चुत पर रखा और सुपारा चुत की फांकों में फंसा दिया.

वो मेरी गांड को पकड़ के जोर लगा रहे थे, गप गप लंड मेरी चुत के अंदर घुस रहा था. गूं की आवाज करते हुए कुछ कहने की कोशिश कर रही थी मगर शब्द बाहर नहीं आ रहे थे. मुझे थोड़ा दर्द हो रहा था, पर शायद संदीप को इसी में आनन्द आ रहा था.