बीएफ वीडियो 18 साल

छवि स्रोत,सेक्सी प्रियंका सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो पंजाबी हॉट: बीएफ वीडियो 18 साल, उसके छोटे चाचा दिलजीत सिंह 42 साल के हैं और उनके छोटी चाची अमनदीप 40 साल की हैं.

देसी हिंदी सेक्सी वीडियो डॉट कॉम

मोहन लाल के इस राज का किसी को यहाँ पता नहीं था, क्योंकि उसकी पत्नी और ससुर पहले ही गुजर चुके थे. लेडीज पोलीस का सेक्सी व्हिडिओएक पतिव्रता बीवी और दो बच्चों की माँ अपने शौहर से बेवफाई करके उसी के घर में एक गैर मर्द, जो गैर मज़हबी भी था, उसके साथ चुदाई करवा रही थी.

मैंने अपने लंड को अन्दर बाहर करना शुरू किया, बड़ा आसानी से मेरा लंड उसकी चूत में रगड़ रहा था. ब्लू पिक्चर फिल्म सेक्सी सेक्सीमैं सिर्फ सुबह जाकर काम करके घूमने निकलता और सैंडी के घर में जा बैठता.

नीचे लेटे हुए ओमार का लंड जब एक बार फिसल कर गांड को निशाना बनाने से चूका तो सामने बैठे किड ने इस बात की सजा भी नताशा को उसके चूतड़ों पर पांच चपत लगाते हुए दे डाली और फिर अपने लंड को उसके मुंह से बाहर निकाल कर उसके मोटे माँसल टोपे द्वारा पांच बार उसके गालों पर भी चपत रसीद कर दी.बीएफ वीडियो 18 साल: इस तरह मैंनेदीदी को पहली बार चोदा!जब हमारी आग शांत हुई तो दीदी बोलीं- ये तुमने क्या किया?मैंने कहा कि दीदी आप ही ने मुझे पकड़ लिया था.

मैंने उसे लेटाया और चोदना शुरू कर दिया, उसे दर्द भी हो रहा था पर वो भी मजे ले रही थी और कह रही थी- और जोर से… हाँ!अब मैं जल्दी नहीं झड़ रहा था, करीब बीस मिनट की चुत चुदाई के बाद मैंने फिर से उसकी चूत में अपना वीर्य भर दिया।इस बार वो बहुत खुश लग रही थी।अब रात होने लगी थी, कॉलेज के टूर की वापिसी का टाइम हो रहा था तो अब हमने अपने अपने घर जाने की सोची.माया अंकित की गांड अपनी उंगली से चोदने लगी और अंकित ज्यादा देर टिक ना सका.

लोकांचा सेक्सी व्हिडिओ - बीएफ वीडियो 18 साल

मैं आशा करता हूँ कि मेरी भाभी की चुदाई कहानी पढ़ कर लड़के मुठ जरूर मारेंगे और लड़कियां चूत में उंगली करने लग जाएंगी.मैंने उसे देखा तो उसकी आँखों में आंसू थे, पर होंठों पर एक मुस्कान थी.

मैं उसे बुलाने जा रही थी कि अचानक अमित मेरे सामने आ गया और उसने मुझे ‘हाई. बीएफ वीडियो 18 साल मेरा टोपा उसकी चूत के मुँह पर था और पानी की चिकनाहट से फिसल रहा था.

मेरे चूतड़ों पे करारी थाप मार कर सिराज बोला- साली तू तो एक नंबर की रंडी है यार… सब जगह से खुली हुई है.

बीएफ वीडियो 18 साल?

मैं डर गया और पूछा कि तुम अपने घर क्या कह कर आई हो?वो बोली कि आज उसके घर में कोई नहीं है, सब गाँव गए हैं और मैं कुछ बहाना बना कर रुक गई थी. मैंने विनोद को कुछ देर रुकने को कहा, पर वो कहने लगे कि स्वाति उसके सामने खुल नहीं पाएगी, इसलिए वो नहीं रुकेंगे. मैंने उससे पूछा- क्या इससे पहले गांड नहीं मराई है?उसने मुझे ना में जबाब दिया.

साला मेरे से बातें तो बहुत मीठी मीठी करता था, मेरी ही हम उम्र भी था, मेरे से तगड़ा था और दादा किस्म का भी था. वो चेयर को छोड़ कर सीधा जमीन पर आ गिरी और एक कुतिया के जैसे पड़ी रही. ऐसे आदमी को अपने वश में करना बहुत मुश्किल काम नहीं था, ये बात मयूरी अच्छे तरह से जानती थी.

तुझे बेड पर कुतिया बना कर चोदने में जो मजा है, वह कहीं नहीं!उफ़ कुतिया क्यों ब्रायन? चुदवा तो रही हूँ चुपचाप. फिर मेरी छोटी सी कमर को पकड़ कर वह वैसे ही कमोड पर मुझे झुकाए मेरी चूत चोद रहा था. मैं बोली- नहीं मेरी प्यारी वर्षा रानी तू अभी गांड मारने के लिए छोटी है, इसमें पहले बहुत दर्द होता है.

यह सब कुछ क्षण भर में, सब घर वालों के सामने ही हुआ और किसी को भनक तक नहीं लगी. सो अपने बेडरूम में जाकर लेट गई और रात की बात सोचने लगी कि कहीं ऐसा तो नहीं कि यश मुझे चोद ही न पाए। यह सोच कर ही डर सा लगने लगा। फिर खुद को समझाया कि नहीं ऐसा कुछ नहीं है आज मेरी चुदाई अच्छी होगी और सोचते हुए सो गई। शाम को उठी.

बहरहाल वो 15 मिनट ऐसे लग रहे थे जैसे 15 घंटे हों, साला टाइम ही नहीं कट रहा था.

फिर मैं उनकी चूत पे आ गया और मैं भी चूत को कस कस के काटने और चूसने लगा.

”ट्राय करोगी क्या?”ट्राय कर सकती हूँ, पर अच्छा ना लगे तो कंटिन्यू नहीं करूँगी. उसने मेरी जींस के चैन खोली और लंड को बाहर निकाला, उसे हाथ में लेते ही वो बोली- ये तो इतना लंबा है रे!मैं समझ गया था, वो इतना लंबा मूसल लंड सहन नहीं कर पाएगी, मेरा लंड 7 इंच लंबा 3 इंच मोटा था. अब अंकित माया के दाने को जीभ से चाट रहा था और साथ ही साथ चूस भी रहा था.

मैं मेनका के ऊपर आ गया और फिर उसने अपनी चूत को अपनी दोनों उंगलियों से खोल कर कहा- अतुल, अब मत तड़पाओ, चोद दो मुझे… मेरी चूत मैं अपना लंड डाल दो… बना लो मुझे अपनी रानी… मेरे राजा… बजा दो मेरा बाजा… फाड़ दो मेरी चूत को आज… अपने अजगर से…मैं अपना खड़ा लंड मेनका की चूत में धीरे धीरे डालने लगा. दीदी- सन्नी, लंड चूसने के लिए तुमने सारे कपड़े क्यूँ उतार दिए?मैं- अरे दीदी जब मस्ती ही करनी है तो पूरी तरह करो ना!दीदी- नहीं सन्नी, मैं इस से आगे कुछ नहीं करूँगी. एक दिन रविवार को मेरी तबीयत ठीक नहीं थी, पापा भी डयूटी पर गए थे और मैं अकेला था.

तभी थोड़ी देर में मेरा शरीर भी अकड़ने लगा और मैंने धक्के और तेज कर दिए और उसकी चूत में ही झड़ गया.

मेरे ऊपर जैसे कोई सुगन्धित रेशम का ढेर हो वैसी ही फीलिंग देता बहूरानी का नंगा जिस्म मुझसे लिपटा हुआ था. वो इन सबको आपस में चुदाई करते हुए देख कर थोड़ा आश्चर्यचकित जरूर था, पर उसे कुछ बुरा नहीं लग रहा था. इसके बाद मेरे लंड ने जोर से झटका मारा और मेरा लंड आंटी की चूत में माल अन्दर ही छोड़ने लगा.

मैंने और कुणाल ने कल्याणी और कौमुदी से लंड चुसवाया, एक घंटे तक हम दोनों ने दोनों बहनों की चूतों को रौंद डाला. मैंने भी अब दीदी की पूरी तरह नंगी पीठ को प्यार से सहलाना शुरू कर दिया. मैंने अब लंड उसकी चूत की बजाय उसकी गांड पर रखा तो वो मना करने लगी तो मैंने उसे समझाया और वो मान गयी.

देवर जी के लंड ने सरसराते हुए योनिद्वार को फाड़ कर अन्दर तक भेद दिया.

बहुत ही किस्मत वाले होते हैं वो लोग जिन पर कोई नारी इतना विश्वास करती है कि उन्हें अपने गोपनीय नारीत्व के प्रतीक अंगों को निहारने और छूने की इज़ाज़त देती है. [emailprotected]भाई बहन सेक्स कहानी का अगला भाग :कंजरी मंजरी की पहली चुदाई-2.

बीएफ वीडियो 18 साल उसका लंड ढीला पड़ गया, वो मुझे बोला- जान कितनी प्यास है तुझे?और मेरी लेगिंग नीचे सरका कर मेरी गान्ड मसलने लगा. दीदी के कमीज़ उतारते ही मैं दीदी के बड़े बड़े बूब्स को खा जाने वाली नज़र से देखने लगा.

बीएफ वीडियो 18 साल कुछ ही देर में दीदी की सिसकारियाँ फिर शुरू हो गई और जो हाथ मेरे बालों को कस के खींच रहा था, उसने मेरे सर को सहलाना शुरू कर दिया था और दूसरे हाथ ने मेरे हाथ को पकड़ कर तेज़ी से चूत में आगे पीछे करना शुरू कर दिया था, दीदी फिर से मस्ती में आ चुकी थी. मैंने कहा- नमस्ते छाया जी, बोलिए कैसे याद किया?छाया बोली- आज मिलना चाहती हूँ.

मैंने जाकर अपने कपड़े वहां रखे और दोनों कमरे और बाल्कनी सब कुछ देख लिया.

सेक्सी फिल्म गर्ल

तभी सिराज ने अपना लंड मेरे मुँह से बाहर खींचा, मैं तड़प उठी, ऐसे लगा कि मेरा मनपसंद खिलौना मेरे हाथ से निकल गया. मेरे ऐसा करते ही ममता अपनी आँखें खोलकर मुझे धक्का देने लगी, किन्तु मैंने उसे जोर से अपने से चिपका लिया और लंड को भाभी की चूत में अन्दर बाहर करने लगा. जो कुछ हो रहा था, उसे बहुत अच्छा लग रहा था, सुमित का उसकी टांगों पर स्पर्श उसे उत्तेजित भी कर रहा था.

और मुझे बाँहों में भर कर मुझे चूमने लगा, मेरे होंठ अपने मुंह में चूसने लगा, उसके मुख से बीड़ी की दुर्गन्ध आ रही थी, मैंने मुंह फेर लिया. पांच दस मिनट किस कर कर मैंने उसे कहा- अब तुम्हारी बारी, मुझे किस करो…वो भी मुझे किस करने लगी. जैसे ही लंड खड़ा हुआ, वो मेरे ऊपर आ गई और लंड को अपनी चूत में डालने लगी.

कुछ 5 मिनट की लंड चुसाई के बाद मैंने खुद ही उनको पकड़ कर खड़ा किया और बेड पर लेटा दिया, उनकी दोनों मखमली टांगों को फैला कर, मैं उनकी चुत में अपनी उंगलियों से खेलने लगा.

मैंने अपने दोस्त से कहा- अब तू जा इन्हें छोड़ने!वो उन्हें लेकर चला गया और मैंने उनके जाने के बाद कमरा बन्द किया और गांव की तरफ आ गया।यह कहानी बिल्कुल असली है. तीव्र काम-उत्तेज़ना के कारण मेरे नलों में हल्का-हल्का सा दर्द भी हो रहा था लेकिन प्रिया को सम्पूर्ण रूप से पाने की लगन कुछ और सूझने ही नहीं दे रही थी. अभी वक़्त की नजाकत को समझो आप! मैंने भी तो जैसे तैसे खुद को संभाला है आप भी कंट्रोल करो खुद को!”ठीक है बेटा, तू सही कह रही है, इतना उतावलापन भी ठीक नहीं है.

मैं चाची को बाथरूम से उठा कर उनको रूम में ले गया और बेड पर लिटा दिया. फूफा ने अपने लंड को मम्मी की चूत पर टिकाया और एक धक्के में अन्दर कर दिया. मैं ऊपर बढ़ती जा रही थी क्योंकि नीचे मेरी गांड में अमित का लंड घुसने वाला था.

कुछ देर यूं ही कुतिया बना कर चोदने के बाद मैंने अपना लंड निकाला और बेड पर लेट गया. उसे बोलने में कैसी शरम? मैं बोलता हूँ तो तुमको अच्छा लगता है ना? तुम बोलोगी तो मुझे अच्छा लगेगा.

इसके बाद मैं फिर से उठा और कोल्ड ड्रिंक फिर से भाभी की नाभि में भर कर बर्फ के दो टुकड़े उठा लिए. मैंने उसी के तौलिये से उसे साफ़ किया, उसके हाथ खोल दिए और उसी के पास लेटा रहां. मैंने फटाफट अपना गिफ्ट और चॉकलॅट ली और मम्मी से छुपाते हुए भाभी के घर की तरफ चल पड़ा.

मोहन लाल की पत्नी के पिता यानि के मोहन लाल के ससुर भी उसको उतना ही प्यार करते थे, जितना वो उसको करता था.

अब मुझे लगा कि अमित दो गिफ्ट देकर हमेशा ही गले लगाने के प्लान में शुरू हो गया था. कॉलेज में सब टीचर और स्टूडेंट्स उसके बारे में जानते हैं कि वो कितनी सरलता से जिस लड़की को चाहे पटा लेता है. जब वो तैयार होकर अपने कमरे से बाहर आईं तो एक पल के लिए मेरी साँसें थम गईं.

दोनों ने अपनी गति बढ़ाई और कुछ ही देर में एक के बाद एक ने अपना उबलता लावा मेरे अंदर उड़ेल दिया।मैंने खुद को दोनों से अलग किया और वहीं जमीन पर गिर कर मैं अपनी उखड़ी हुई साँसें संयत करने लगी. और गाड़ी फिर से हाई वे पे डाल दी, अब भीड़भाड़ से दूर आने पर कहा कि तुम अपना गीला टॉप खोल कर यही बदल सकती हो, मेरे से शर्माने का कोई डर नहीं है.

30-12 के समय यश लड़खड़ाते हुए आए और बिस्तर पर पड़ गए। मैंने सोचा शायद शादी की खुशी में दोस्तो ने ज्यादा पिला दी होगी. और उनके लंड को अपने दांतों से इतने जोर से काटा कि वो जोर से आह करते ही उठ बैठे और मुझे देखते ही बोले- मेरे रानी बेटी को आज मेरी याद कैसे आ गई?पूरी कहानी सुन कर मजा लीजिये. फिर मैंने उसके सारे कपड़े निकाल दिए, अब वो बिल्कुल नंगी मेरे सामने थी, उसने मेरे कपड़े भी निकाल दिए.

पंजाबी सेक्सी एचडी वीडियो में

बीस मिनट बाद मेरी चूत में लंड झड़ गया, तब जाकर मुझे मेरी चूत में थोड़ी ठंडक मिली.

उतार देती हूँ।यह कह कर मैंने अपनी कमीज़ उतार दी। नीचे वाइट ब्रा थी। फिर उसने मेरी ब्रा खोलने की कोशिश की. गेट कीपर ने दरवाजा खोला पर ब्लैक शीशा होने से अन्दर नहीं देख पाया और अवी ने कार ले जाकर अपने रूम के पास रोका और मुझसे कहा कि अभी मैं आऊंगा और कहूँगा, तब बाहर निकलना. की आवाजें निकाल कर कहने लगीं- हाँ ब्रायन चोद ऐसे ही, आज तक मुझे इस पोजीशन में किसी ने नहीं चोदा.

हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों पर किस किया और होटल से बाहर आकर मैंने अपना रास्ता पकड़ लिया. कुछ दमदार शॉट लगे ही थे कि मेरा पूरा माल मामी की चूत में ही छूट गया. 16 साल की सेक्सी गर्लतभी रजनी की आवाज़ मुझे सुनाई दी- किधर गए?मैंने कहा- क्या हुआ भाबी?उसने कहा- ज़रा मुझे तौलिया दे देना, मैं लाना भूल गई.

”साले रोकने की बात क्या कहता है, सीधे बोल ना कि उसको चोदने से मत रोकना. रजनी ने जल्दी से नाइटी का बेबी फीडिंग हुक खोला और चिंटू को दूध पिलाने लगी.

बहूरानी के मायके वाले हमें रिसीव करने आये थे, सब लोगों से बड़ी आत्मीयता से हाय हेलो हुई और हम लोग अपने ठहरने की जगह की ओर निकल लिए. मैंने अंजलि को कोई दो ढाई साल बाद देखा था, इन दो ढाई सालों में वो एकदम बदल गई थी, उसकी जवानी खिल कर निखर गई थी. कुछ मिनट के बाद उसके साथी ने अपना लंड पदमा की चूत पर सैट किया और एक जोर का धक्का दिया तो पूरा मोटा कलुआ लंड मेरी बीवी की चूत को शायद चीरता हुआ अन्दर घुस गया.

कि 3-4 इन्च का लिंग भी औरत की इच्छा पूरी करने के लिए काफी होता है।हाँ, यह बात ठीक है. कुछ देर बाद उसने अपना लंड मेरी चुत से निकाला और बिना कुछ कहे मुझे घुटने पे होने का इशारा किया।मैं भी तुरंत घुटनों पे हो गयी, उसने अपनी तीन उंगलियाँ सीधी मेरे चुत में घुसेड़ी और मेरी गीली चुत का मर्दन करने लगा. अभी तक इस फ्री सेक्सी कहानी में आपने पढ़ा कि मैंने रात को अपनी पुत्रवधू को फर्स्ट क्लास ए सी के प्राईवेट केबिन में पूरा मजा लेकर और देकर चोदा.

क्या न करूँ?” दिनेश उसके साथ खेल रहा था, वो उससे गन्दी बातें बुलवाना चाहता था क्योंकि एक औरत सिर्फ उससे ही खुलती है जिसका लन्ड उसकी फुद्दी को खोलता है।यही जो… आप कर रहे हो.

और हां सबसे खास बात यह कि मेरा बॉयफ्रेंड अवी भी था, वो मुझसे रोज कहता कि चलो कहीं घूमने चलते हैं पर मैं मना कर देती थी. मैं सोच रहा था कि आज मुझे दीदी को पूरी नंगी देखने का चान्स मिल ही गया.

संजय मेरे होंठ गाल कान और गरदन पर बेतहाशा चूम रहा था और अपनी दो उंगलियों को मेरी रसभरी गीली चुत में अन्दर बाहर कर रहा था. गांड इतनी टाइट थी कि एक चौथाई लंड ही अभी अन्दर गया था और जोया के आँखों से आंसू आ गए. मैंने अपने सभी कपड़े उतार फेंके और पूरी तरह से नंगा होकर ममता के ऊपर जाकर चढ़ गया.

लेकिन मेरा असली इरादा तो उसकी माँ तक पहुँचने का था जिसे मैंने अभी तक देखा भी नहीं था. कभी क्लास की लड़कियों का सोच कर कभी क्लास की टीचर्स का सोच कर लंड हिलाता रहता था, पर कभी सेक्स करने का या किसी को सेक्स के लिए पटाने की हिम्मत नहीं हो सकी. मोना- रवि, अभी मेरी लेग की कसरत बाकी है, वो तो मुझे खत्म करनी ही है.

बीएफ वीडियो 18 साल हाथों-पैरों पर मेहंदी और झांजरें डाली हुई थीं, मैं नई दुल्हन बन कर आई थी।तभी मेरे पति का फोन ही आ गया, उन्होंने कहा- तुम भी यहाँ ही आ जाओ. आह…मैंने उन्हें चुप कराने के लिए तुरंत ही उनके होंठ चूसने शुरू कर दिए.

ஆன்டி செக்ஸ் வீடியோக்கள்

मैं समझ गया कि वो झड़ रही है, मैं और तेज़ चाटने लगा उसकी टांगें कंप गईं और वो जोर से अकड़ते हुए झड़ गई. मुझे सभी लोग अपनी प्रतिक्रिया जरूर दें! मैं आपके मेसेज का इंतजार करूँगा. इसके भाभी चली गईं… और जब भी मौका मिलता है, हम दोनों चुदाई कर लेते हैं.

नया नया ऑफिस होने की वजह से जब मैं इधर उधर भटकने लगता तो किसी को पूछना पड़ता. फिर उस दिन जान बूझ कर नखरा कर रहे थे, कर रहे थे कि नहीं? बाद में तो लंड की ठोकरों से ढीली हो ही जाती है. एचडी टीवी सेक्सी वीडियोमैं ऐसे ही नीचे बैठे और उसके बूब्स को दबाने लगा। फिर मैंने उसे लिटा दया और बोला- मैं तुम्हारी चूत को टेस्ट करना चाहता हूँ.

तभी मानवी भाभी बाथरूम से नंगी ही बाहर तौलिया लेने निकली, मैं उसे देखता ही रह गया, मेरा लंड कस के एकदम टाइट हो गया.

कर लूं क्या?तो उसने बोला- नहीं यार… कैसी बात कर रहे हो? ये बहुत गन्दी जगह होती है!मैंने कहा- श्री यार… ऐसा कुछ नहीं है, यह चूत चाटना, लंड चूसना तो सम्भोग क्रिया का एक हिस्सा ही है. अब मेरा पूरा डर खत्म हो गया, मुझे राहत की सांस लेने का मौका मिला, अब मेरे अंदर सिर्फ जिस्म की भूख बची थी.

मैंने कल्याणी के दोनों पैरों के नीचे से हाथ डाल कर उसी कमर को उठाया और खुद खटिया पर बैठ गया. चूसते चूसते ही मैंने अपनी शर्ट उतार दी… फिर अपनी बनियान भी उतार दी. मेरा भी गरमागरम लावा उनकी चूत में फूट पड़ा ‘आह… जान… आइ एम कमिंग… आह…’मैं भाभी के ऊपर ही गिर पड़ा और कुछ मिनट तक हम दोनों बेजान लाशों की तरह पड़े रहे.

अन्तर्वासना पर हिंदी में गंदी सेक्स कहानी का मजा लेने वाले मेरे प्यारे दोस्तो, मैं एक और चुदाई स्टोरी के साथ आपके सामने आया हूं.

उनका जवाब आया- सरप्राइज़ है तो सब्र तो करना ही पड़ेगा और हाँ खाना मत खाना… यहीं आकर खाना…मैंने भी सोचा कि सब्र का फल मीठा ही होता है तो कुछ घंटे और सही… तब तक मैं अपना प्लान बना लेता हूँ. अब मैं उसके लबों के रस का पान करते हुए निप्पल को जोर जोर से दबाने लगा. अब मैं भी गुस्से से किचन से निकल कर अपने बेडरूम में चला आया और लेट गया.

रेखा का सेक्सी गानाअब वो 69 की स्थति में मेरा लंड पकड़ कर चूसने लगी और मैं चुत और गांड बारी बारी से उंगली पेलने लगा. मैं ऐसे ही लैपटॉप लेकर xxx वीडियोज देखने लगी और मेरी चुत चटवाने की इच्छा और जाग उठी.

10 फन वाला सांप

मैंने कुछ ग़लत कह दिया?मैं उसे नाराज़ नहीं करना चाहती थी तो मैं उसे मनाने लगी।वो- चाची प्लीज़ मुझे आपके साथ करना है. थोड़ी देर में मैंने अपना सारा वीर्य सुकुमारी भौजी के मुख में उड़ेल दिया और दूसरी ओर हो गया. मैंने भी देर करना उचित नहीं समझा और अपना लंड उनकी चूत में ठोक दिया.

मैंने ऊपर जा कर छत का दरवाजा लॉक कर दिया और अब उस रात मैं और ललिता अकेले मैरिज हॉल की छत पर थे. फिर मैंने चॉकलेट के टुकड़ा उठाया और उसकी बुर के दाने पर रगड़ा तो वो मना करने लगी, वो बोली- वहां नहीं. मुझे ऐसा देख कर चाची ने दोनों हाथ अपने होंठों पर रख लिए और आँखें बड़ी बड़ी करके लंड देखने लगीं.

अब आगे क्या हुआ, कहानी का मजा लें:तभी पेंट्री कार का स्टाफ चाय नाश्ता लेकर आ गया, साथ में ताजा न्यूज़पेपर भी था. बोल?शाकिर फिर से हँस दिया, अनजान बन कर बोला- क्या?इरशाद ने आगे बढ़ कर किवाड़ दुबारा लगा दिए और जोर से कहा- किवाड़ नहीं पैन्ट खोल. कुछ देर बाद हम दोनों एक लेडीज अंडरगारमेंट की दुकान के सामने पहुँच गए.

अगले ही दिन मैंने एक बहुत नामी कम्प्यूटर इंस्टिट्यूट के मालिक से बात पक्की की जिसने एक-आध दिन पहले ही सुबह 10 से 2 टाइमिंग का नया बैच शुरू किया था और उसी शाम को थोड़ा अँधेरा हुये मैं अपनी कार पर प्रिया को लेने प्रिया के घर जा पहुंचा. सैम- ठीक है, तुम्हें अब यही उतने दिन रहना है जितने दिन पापा यहाँ रुकेंगे बस.

मैंने लेने से मना किया तो उसने कहा- आपने पैसों को लेने से मना किया था इसलिए विनोद और मैं आपको ऐसे धन्यवाद कहना चाहते हैं, प्लीज इसे मना मत कीजिएगा.

करीब दो मिनट के लिप स्मूच के बाद संजय के होंठ मेरे गालों को चूमते हुए मेरी गरदन पे जा पहुँचे. सेक्सी वीडियो टाइटअब ओमार अत्यधिक उत्तेजित हो तेज आवाज में सिसकियाँ भरते हुए धीरे धीरे अपने टोपे को मेरी पत्नी के मुंह में धकेल रहा था और उसी समय किड ने मेरी गुड़िया के सैंडल उतारने चालू कर दिए. सेक्सी वीडियो भाभी देवर सेक्सी वीडियोफिर हम दोनों ने कपड़े पहने ओर मैंने उससे इजाजत ली, उसे हग किया और अपने घर वापस आ गया. उसने मेरी तरफ देखा भी नहीं, वो मम्मी से बोली- मम्मी, हम फ़िल्म देखने जा रहे हैं, दोपहर का खाना भी रेस्टोरेंट में खायेंगे.

मैं उसे बिना कुछ बोले अपने रूम में जाकर बहुत रोया उसे भूलने के लिए मैंने अपना हाथ भी काट लिया था, लेकिन उसे कोई फ़र्क नहीं पड़ा.

मैं उन दोनों के लिए एक अच्छा सा गिफ्ट और फूलों का गुलदस्ता खरीद कर उसके घर पहुंच गया. कितनी बार वो उसकी ब्रा पैंटी को चोरी-छुपे छू कर मजे लेते लेते मुठ मार लिया करता था. ये सुमित के मुँह से सुनते ही माया के होश उड़ गए सुमित तुम भी?”माया बस इतना ही बोल पाई.

इसे आप यहाँ से download करें!भारतीय लड़कियों से हिंदी अंग्रेजी और स्थानीय भाषाओं में सेक्स चैट, वीडियो सेक्स करने के लियेसेक्स चैट, विडियो चैटपर आयें और सेक्स की मजेदार बातें करके, नंगी लड़कियों को देख कर मजा लें![emailprotected]. वर्षा भी उसका मुँह अपने चूचों पर दबा दबा कर चुसाई का मजा ले रही थी. अपने आप ही अब मेरा सिर उनकी जांघों के बीच झुकता चला गया जहाँ से उनकी नंगी चुत की हल्की हल्की मादक सी गँध आ रही थी.

चाइनीस सेक्सी वीडियो पिक्चर

” वो बड़ी मुश्किल से खुद को रोक पा रही थी।क्या न रगड़ूँ? बहू पहलियाँ मत बुझाओ, साफ साफ बोलो कहीं देर न हो जायेऍ” उसने आरुषि की चूत को लन्ड से थपथपाते हुए पूछा।पापा लिंग को मत रगड़ो. जब मैंने दरवाजा खोलने की कोशिश की तो पता चला कि दरवाजा अन्दर से लॉक है. मैं बहुत खुश थी कि सब मुझे गिफ्ट देंगे खूब एंजाय करेंगे, पर मुझे क्या पता था कि उस रात में ही सबकी गिफ्ट रहूँगी.

चाची मुझे खाना देने के लिए जैसे ही झुकीं, तो उनकी चूचियां साफ नजर आ रही थीं.

फिर मैं नीचे हुआ और वो मेरे ऊपर सिर रख कर लेट गई, हम दोनों कब सोए पता ही नहीं चला.

लेकिन अभी जो मिले थे, उन्ही से मुझे खुश होना था और मैं खुश था भी…और ऐसे ही 5 मिनट बाद मुठ मारने से मेरा पानी आ गया जो पूरा समीरा के हाथो पर ही गिर गया, उसके हाथ चिपचिपे से हो गए, उसने अपने आप को बाथरूम में जाकर साफ़ किया और कपड़े पहन कर के थोड़े टाइम बातें करती रही. उसने पूरे सुपारे को चॉकलेट लॉलीपॉप की तरह मुँह में भर लिया और चूसने लगी. क्सक्सक्स सेक्सी मूवीसकुछ देर बाद मैं रीना को कोठड़े में छोड़ बाजार से खाने का सामान लाने चला गया.

सिराज ने पूछा- क्या हुआ? लगे रहो उसके साथ!तो एक ने कहा- जनाब उसको तो दारु ज्यादा हो गई है, अब वो लुढ़क गयी घंटे तक! हमारा तो एक ही बार हुआ था, अभी मन भी नहीं भरा. अब उन्होंने साफ मना कर दिया और कहा- चूत मार लो लेकिन गांड में मत डालो. उस दिन मैंने ब्रा पहनी तो बहुत टाइट हो गई थी, तो जो अमित ने ही दूसरी ड्रेस दी थी, मैंने उसी को पहन लिया.

मेरे एक दोस्त ने मुझे बताया कि उसका एक दोस्त मेरे लिए रूम अरेंज कर देगा और उसने कर भी दिया. मैं दीदी को ले कर बेड पर लेट गया और उन्हें भी लिटा कर किस करने लगा.

मैं जब भी छुट्टियों में घर आता, पायल भाभी हमारे घर ज़रूर आतीं और मुझसे मेरी कॉलेज और पढ़ाई के बारे में पूछतीं.

अब मेरी ज्वाइनिंग में केवल एक महीना बचा था और मैं हर टाइम उनके चोदने की सोचता रहता था. मेरी नंगी छाती उनकी चूचियों की पिसाई कर रही थी तो मेरा उत्तेजित लंड ममता जी की दोनों जांघों के बीच अपनी असली जगह ढूंढ रहा था।ममता ने अपनी दोनों जांघों को‌ जोरो से भींच रखा था और मेरे लण्ड के स्पर्श से बचने के‌ लिये वो कसमसाते हुए मुझे हटाने की भी कोशिश कर रही थी. मैंने कारण जानने की कोशिश की, उससे पूछा तो उसने बताने से इन्कार कर दिया.

हिंदी सेक्सी xx.com फिर मेरे हाथ उसकी चुचियों पे चले गए, मैं उसकी रसीली चुचियों को दबाने लगा. अब तक उसके जिस्म के लिए मैं इतना पागल हो चुका था कि मेरा एक एक दिन बड़ी मुश्किल से कट रहा था.

फिर मैंने उसे गोद में उठाया और बेड पर लिटाकर पहले उसके माथे पे किस किया, फिर होंठों पर. अदिति बेटा, तू इतनी बदल कैसे गयी, पहचान में ही नहीं आ रही आज तो?”अच्छा, ऐसा क्या दिख रहा है मुझमें जो पहले नहीं दिखाई दिया आपको?” बहूरानी जरा इठला कर बोली. इस बार उसकी चीख पहले से भी तेज थी, लेकिन मुँह में लंड होने की वजह से उतनी तेज नहीं निकली, लेकिन उसकी आँखों से निकलने वाले आंसू सारी कहानी खुद ही कह रहे थे.

रात कैसे मनाई जाती है

सुरेश ने काजल के होंठों पर अपने होंठ रख दिए और अपनी जुबान उसके मुँह में डाल कर चलाने लगा. मैंने पूछा- कौन है?तो पता चला कि मेरी सास का कॉल है औऱ पायल अपनी माँ से बात करने के लिए बाल्कनी में चली गई. मैंने और जोर से शॉट लगाया तो आधा लंड मामी की चूत को फाड़ता हुआ चला गया.

”मेरे सीने मैं धक धक हो रही थी कि अगर वो चिल्लाएगी तो मेरे इज्जत का तो फालूदा निकल जायेगा. स्कूल की छुट्टी हुई और मैं घर गया तो अपनी मोबाइल की तलाश करने लगा तो माँ ने पूछा- क्या कर रहे हो?तो मैं बोला- अपना मोबाइल ढूँढ रहा हूँ…तो उन्होंने बोला- वो मेरे रूम में है, ले लो!तो मैंने मां के कमरे में जाकर मोबाइल लिया और सोचा कि वीडियो डिलीट कर दूँ लेकिन मोबाइल में वीडियो तो थी ही नहीं.

मैं उसे जाते हुए देख रहा था, उसके पुठ्ठे मस्त गोल गोल होकर लचक खा रहे थे.

इसलिए आप सभी थोड़ा सब्र रख कर इस स्टोरी को पढ़ते जाइए बहुत मज़ा आएगा. वो भी कामुक हो कर उसको एन्जॉय कर रही थी और अपना हाथ मेरी पैन्ट के ऊपर से मेरे लंड पर रख दिया. मेरी बात सुन कर वो मुस्कुरा दी और हाँ में गर्दन हिलाई उसने, तो मैं भी सक्म्जः गया कि से भी पटा है कि पहली चुदाई में दर्द होगा.

पर एक दिन उसने कहा- आज तुम्हें मेरी कसम है, बताओ मुझसे मिलने कब आओगी?अब मैं उसकी बातों में फंस गई थी तो मैंने कहा कि शनिवार को चलूंगी. उसने मेरा नाम पूछा, मैंने शुभम बताया और उसे कहा- अगर हम दोबारा कभी मिले तो मेरा नसीब अच्छा होगा. फिर राजधानी एक्सप्रेस के प्राइवेट केबिन में डेढ़ दिन यानि पूरे 36-37 घंटे वासना और चोदन का नंगा धमाल होना तय था.

तो फिर मैंने अपने आपको संभाला और बाहर आ गया।उसने ऑमलेट और परांठे बनाए और बेडरूम में लेकर आ गई.

बीएफ वीडियो 18 साल: फिर मेरा हाथ धीरे धीरे और ऊपर उनकी टाँगों के बीच स्पर्श करने लगा और चाची मदहोश होने लगीं और मेरा हाथ ज़ोर ज़ोर से दबाने लगीं. लेकिन मैंने पहले अपना लंड चाची के मुँह में पूरा घुसेड़ दिया और 15 सेकंड बाद निकाला, जो कि चाची में थूक से गीला हो गया था.

माया के उछलते हुए मम्मों को देख के अंकित और उत्तेजित हो रहा था और माया के चुत की गर्मी अंकित की हवस को और भड़का रही थी. मैं बहुत खुश हो गयी थी क्योंकि हम गोवा जाने वाले थे… वो भी हनीमून के लिये।फिर रोहण ने हमारी 2 दिन बाद की गोवा की टिकट बुक करा दी थी और एक फाइव स्टार होटल में हनीमून स्वीट भी बुक करवा लिया था।रात में रोहण और मैंने खूब चुदाई की और अगले दिन शॉपिंग की, मेरे लिये साड़ी खरीदी और रोहण के लिये भी हमने कपड़े लिये. रजनी ने मुस्कुरा कर कहा- चलो एक काम करते हैं, तुम मुझे अपनी जीएफ बना लो.

लगभग आधे घंटे यूं ही रोने में और एक दूसरे को संभालने में निकल गये, फिर मैंने उनका ध्यान भटकाने के लिए पूछा बाथरूम किधर है.

वो मुझे चाची जी कह कर बुलाता था। वो भी मेरे साथ जाने की ज़िद करने लगा।सकी माँ ने समझाया. मैंने उनकी साड़ी पेटीकोट को जैसे ही ऊपर किया तो देखा कि जैसे उन्होंने मुझसे चुदने की पहले से तैयारी कर रखी थी. यह बहुत दिनों तक चला, इसी बीच दोस्त को दूसरी आंटी मिलीं तो वो बोला इधर का कुछ नहीं हो सकता.