एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो

छवि स्रोत,रिश्तों में सेक्स

तस्वीर का शीर्षक ,

रिमोट वाली कार दिखाइए: एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो, परिवार चिंतित था मेरी लम्बाई पिछले 3 वर्षो में केवल 2 इंच ही बढ़ी थी जो कि उचित दर से नहीं बढ़ रही थी.

डॉक्टर और नर्स की चुदाई

ये सुनकर मुझे बहुत खुश मिली … साथ में गम भी हुआ क्योंकि अब निगार आंटी भी नहीं चुदवाएंगी. बिहारी चूत चुदाईकरीब ऐसे ही दो घंटे की चुदाई में हम दोनों तीन बारे झड़े और ऐसे ही नंगे लेटे रहे.

मैं दीदी को कभी किस करता, कभी उनकी टी-शर्ट में हाथ डाल कर ब्रा खींचता. सेक्सी फिल्म ब्लू ब्लूअगर मुझसे कहानी लिखने में कोई गलती हुई हो … तो उसकी लिए माफी चाहता हूँ.

जैसे वो अन्दर आईं, मैंने झट से दरवाजा बंद करके उन्हें पीछे से पकड़ लिया और उनके मोटे मोटे मम्मों को कपड़ों के ऊपर से ही दबाने में लग गया.एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो: जब मुझे ये मालूम चला तो मानो मेरे नसीब जग गए थे कि अब बेधड़क चुदाई होगी … लेकिन डिलीवरी के बाद.

मामा का एक्सपोर्ट इम्पोर्ट का बिजनेस है इसलिए वो महीने में एक बार दुबई जाते रहते हैं.माहौल को सेक्सी बनाने के मकसद से अपना लण्ड रेखा की चूत के अन्दर बाहर करते हुए मैंने पूछा- पहली बार चुदी थी तो कैसा लगा था?अपने चेहरे पर कुटिल मुस्कान लाते हुए रेखा ने बताया कि पहली बार तो मैं बिना चुदे ही चुद गई थी.

बायको सेक्स - एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो

ललिता की जांघें पकड़ कर मैंने ठोकर मारी तो मेरे लण्ड का सुपारा ललिता की चूत के लबों में फंस गया.जब मैं सलोनी की चुचियां चूस रहा था तब सलोनी बड़ी ही मादक सिसकारियां ले रही थी, जिससे मेरा और उसका जोश और भी बढ़ता ही जा रहा था.

यह सुन कर अलीज़ा पहले तो गुस्सा हो गई और बोली कि मैं कोई ऐसी वैसी रंडी नहीं हूँ … पुलिस वाली हूँ. एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो तब मैंने मोसी को बोला- अपने बूब्स को लन्ड से सटा दे।उसने वहीं किया.

उसने बताया कि मेरी मां उसके लंड को रात में छेड़ती है और अपनी चूत में ले लेती है.

एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो?

भाभी को रिपोर्ट में क्या निकला, ये बताने के लिए मैंने उनको छत पर बुलाया. हालांकि मुझे अब नंगी गांड मरवाने में मजा आने लगा था … मगर तब भी मैं अंकल आंटी के सामने अपने मजे को शो करना नहीं चाहता था. उसने कहा- प्लीज़ एक बार और चूसो न!मैं झट से उठी और उसके मुर्दा लंड को चूसने लगी.

कुछ देर तक इन पलों का आनंद लेने के बाद मैंने खुद को आंटी से अलग किया. मैंने गौर किया तो पाया कि पापा अपने लंड पर हाथ ले जाकर नीचे ही नीचे चला भी रहे थे. फिर वो मेरी चूचियों को मसलते हुए तेजी के साथ मेरी चूत को चोदने लगा.

अम्मी ने मनोज से कहा- थैंक यू! लेकिन ऐसी जवानी का कोई फायदा नहीं जब उससे कोई प्यार करने वाला ना हो. ये आवाजें सुन कर मेरा लंड और ज्यादा कड़क हो गया और मैं अब पहले से दोगुनी ताकत लगाने लगा. दीदी- आहह ओहह भाई … ओहह यस याह उहह उम्म कितना मजा आ रहा है … आह चोदो अपनी बहन की चुत फाड़ दो … आह!हम दोनों धकापेल चुदाई में लगे ही थे कि किसी ने बाहर से दरवाज़ा नॉक किया.

वो अपने घर के जीने से नीचे जाते हुए बोली- रात को 8 बजे के करीब मेरे घर आना … मुझे तुमसे थोड़ा सा काम है. मैं उठ कर अंदर गयी और अपने बैग से सिगरेट की डिब्बी और लाइटर लेकर आ गयी.

रिश्तों में चुदाई की इस स्टोरी में चाहे मैंने मामी को चोदा नहीं … पर हम दोनों को मजा बहुत आया.

मैं समझ गया कि आधा काम हो गया और बाकी आधा उसके कपड़े उतारने पर हो जाएगा क्योंकि उसने केवल 4 कपड़े पहने हुए थे और सवाल 8 थे.

मेरे पति को गांड मारने का इतना शौक है कि उसने अपने ऑफिस की कई महिलाओं की गांड चुदाई कर रखी है. साढ़े पांच में कमरे का दरवाजा खुला और सुभाष के दोनों दोस्त बाहर निकले और सुभाष मुझे देख कर दोबारा दरवाजा बंद करने लगा. मैं तेजी से जीभ को अंदर बाहर करते हुए मौसी की चूत में जीभ से चोदने लगा.

जैसा मैंने पहले वर्णित किया था वो अनुभव मुझे यौन सम्बन्ध से अधिक दो व्यस्कों के मध्य कोई खेल लगा. सेक्सी नंगी गर्ल की स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं अपने देवर से चुद कर सेक्स का पूरा मजा लेना चाहती थी. तभी लवली भी हम दोनों के पास आ गयी और आकर पापा की गोद में आकर बैठ गयी.

उसने भी स्पीड बढ़ा दी। उसके चूतड़ जो मेरी जांघों पर पटक रहे थे उसकी वजह से रूम में फट … फट … फट … की आवाज गूंज रही थी।उसकी स्पीड की वजह से मेरा निकलने को आ रहा था। मगर मैं ये मजा अभी ख़त्म नहीं करना चाहता था। इसलिए मैंने उसे बीच में रोक दिया और उठ गया.

जिया का हाथ सहलाते हुए आकाश सर बोले- तो फिर अब आगे का क्या प्लान है?जिया- किस बारे में?आकाश- दोबारा उसी के साथ करने का, और किस बारे में!जिया- तुम भी दोबारा? नहीं, मैं नहीं कर सकती. दो दिन बाद पिंकी ने मुझसे बोला- साहब आप तो इतना इंजॉय करते हो, आपकी इतनी सारी गर्लफ्रेंड हैं. मेरे पिताजी कारोबार के सिलसिले में बाहर ही रहते हैं इसलिए घर पर बहुत कम रहते हैं.

उसके बाद मैं भी उनकी गांड में ही झड़ गया और उनके ऊपर लेट कर हांफने लगा. तभी ममता आंटी आयी, वो मुझे चिकोटी काटते हुए बोलीं- सो गए क्या?मैं बोला- नहीं तो!वो बोलीं- चलो खेल शुरू करते हैं. मगर इससे पहले मैं कुछ और प्रतिक्रिया दे पाता मौसी ने अपने हाथ से मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

अब हम दोनों सोच रहे हैं कि एक साथ कानूनी रूप से लिविंग रिलेशन में रहना शुरू कर दें.

मैं तो सोच कर ही परेशान हो जाता हूं कि मुझे ऐसी चालू और चुदक्कड़ लड़कियां क्यों नहीं मिल पाती हैं? काश मेरे साथ भी ऐसी ही कोई घटना हो जाये और मुझे भी नयी चूत चोदने का मौका मिल जाये. मैंने गौर किया तो पाया कि पापा अपने लंड पर हाथ ले जाकर नीचे ही नीचे चला भी रहे थे.

एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो एक दिन में मामी के घर उनको चोदने जा रहा था क्योंकि मामा गांव गए थे. पहले वो कह रही थी- छोड़ो मुझे!लेकिन कुछ देर बाद कह रही थी- और तेजी से चोदो मुझे!उसकी यह बात सुनकर मैं बेड पर गिरा.

एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो अब हालत ये थी कि भाभी जहां जहां जातीं, मैं वहां वहां चला जाता और पीछे से भाभी की हिलती हुई गांड देखकर ड्रिंक का मजा लेने लगता था. वो बोली- बाबा, अब मैं जाऊं?दम घुटने की वजह से मंजू की आंखों में पानी आ गया था.

कुछ देर के बाद मैंने उसको खड़ा किया और खुद नीचे बैठ कर उसका लन्ड बड़ी तसल्ली से चूसने लगी.

हिंदी आदिवासी सेक्सी

हमारी पहली चुदाई काफी देर तक चली जिसमें मैं अमन के लंड पर दो बार झड़ गयी. रघु जैसे ही रूम से बाहर निकला, माँ ने तेजी से मेरे हाथ से अपनी चुटिया छुड़ाई और दरवाजे की तरफ भागी. उसके जाते ही अलीज़ा बाथरूम में चली गई और उधर नहा कर उसने अपनी वर्दी पहन ली.

और वो बेड की उछाल जो मुझे वापस लंड की तरफ़ धकेल रही थी।इस तरह मैं कई बार झड़ गई और वो भी मेरे अंदर ही झड़ गया।पूरी रात हमने कई बार चुदाई की. इसके बाद मैंने उनकी साड़ी और पेटीकोट खोलकर उनको पूरी तरीके से नंगा कर दिया. मैं अपनी सहेली सपना और उसके भाई के सेक्स रिश्तों के बारे में सोचने लगी.

उसकी चूत की चुदाई से होने वाली पच-पच की आवाजें पूरे रूम में गूंज रही थी.

मेरी उफनती जवानी में परेशान कर रही चूत ने ठान लिया कि चूत का उद्घाटन होगा तो मौसा के लंड से ही. मेरी चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैं मेरी सहेली को डिलीवरी के लिए अस्पताल ले गयी. तो वो बोले- अरे पागल, इसमें तो प्रोटीन होता है, नीरा तो मेरी आखरी बूंद तक पी जाती है।मुझे बड़ी हैरानी हुई कि यार ऐसे कैसे कोई किसी की पेशाब करने वाली जगह को मुँह में ले सकता है।हालांकि मुझे पता था कि ऐसा होता है.

फिर वो नॉर्मल सी हुई और बोली- देखो बुआ जी को इस बारे में कुछ मत बोलना. ये अलग बात है कि जो कोई मेरी वाईफ को देखता है, उसकी आँखों में कामुकता नजर आने लगती है. मैंने पहले ही आपको बताया था कि भाभी की गांड बहुत बड़ी और सेक्सी थी, इस वजह से उनकी गांड मेरे हाथ में अच्छे से नहीं आ रही थी.

यह सुन कर रोशन लाल ने लंड फिर से बाहर निकाला और बिना देर किए फिर से अन्दर पेल डाला. सक्सेना बोले कि वो मेरी कम्पनी में 50 पर्सेंट का शेयर लगा सकते हैं.

एक सेक्सी भाभी को चोदा मैंने उसी के घर में! कैसे? मेट्रो की भीड़ में मैंने भाभी को छुआ तो वो कुछ नहीं बोली. वो लंड सहलाती रही … और मैं चुपचाप हो कर खुद को सामान्य दिखाने की कोशिश कर रहा था. बहू की चूत के चस्के में मेरा बापू भी ये भूल चुका था कि अगर उसका बेटा बीच में आ गया तो उसके बाद क्या होगा.

मैंने दो टिकट लिए और प्लेटफार्म पर खड़े होकर ट्रेन आने का इन्तजार करने लगे.

वहां पर एक लड़के ने मुझसे पूछा- ये रंडी है क्या आपके साथ में?मैं बोला- हां. जैसे ही मामी अन्दर आईं, मैंने उन्हें बांहों में जकड़ लिया और किस करना शुरू कर दिया. मुझे पूरा झंझोड़ते हुए झटके दर झटके मेरा लिंग स्खलित होता रहा और ऐसा लगा कि किसी ने शरीर से सारी ऊर्जा खींच कर निकाल ली हो.

और वो भी कई बार इतना चूसती है, इतना चूसती है कि मैं उसके मुँह में ही स्खलित हो जाता हूँ।मैंने थोड़ा अजीब सा मुँह बनाया. आंटी की गांड टाइट होने के कारण लंड थोड़ा मुश्किल से अंदर बाहर हो रहा था और वो लगातार हाय … हाय … आह आह आह कर रही थी.

फिर अगर कुछ लोग कर भी लेते हैं तो उसको खुल कर सबके सामने नहीं ला पाते हैं और इनमें से कई लोग ओपन हो भी जाते हैं. जब लंड अंदर गया तो वो चिल्ला दी- हाय मेरी फट गई!मैं यही सुनना चाहता था. वो बोली- अपनी तोप को कब आजाद करोगे देवर जी?मैं बोला- लो मेरी जान, अभी कर देता हूं.

लेडीस और कुत्ता का सेक्सी वीडियो

प्रिया गुर्राते हुए कहने लगी- मेरी चूत का पानी निकालो और पियो … कल तुम्हें प्रमोशन मिल जाएगा और सरप्राइज भी.

मेरी चूत और गांड से दोनों का माल बूंद बूंद करके बाहर आने लगा और मेरे दोनों छेद पूरे चिकने हो गये. वो अपनी लोवर को ऊपर खींच कर मेरे सामने गिड़गिड़ाने लगा और प्लान के मुताबिक बोला- भैया, मेरा कोई दोष नहीं है. मैंने मालूम किया तो पता चला कि वाशरूम डिनर हॉल से निकल कर दूसरी तरफ बने हुए थे.

मैं वहां से जाने लगी, तभी शिबु ने मुझे पीछे से पकड़ लिया और गले में किस करने लगा. वो भी शायद मुझमें रूचि रखती थी, इसका एहसास मुझे होने लगा था।दिन बीतते गए और हम अच्छे दोस्त बन गए और हमारी बात व्हाट्सएप पर भी होने लगी।मैं उससे दिल खोल के फ़्लर्ट करता, उसे भी मेरी बातें बहुत पसन्द आती थी. एक्स एक्स एक्स मूवी सेक्सीदो मिनट किस करने के बाद अब समय दीदी की मस्त चुत में लंड घुसाने का आ गया था.

मैं अक्सर छुट्टी पर यहां आता रहता हूं … लेकिन इस बार मुझे अजीब सी फीलिंग हो रही थी. इसी बीच मैंने एक बार गुड़िया बुआ की गांड भी मारी … उसकी कथा फिर कभी लिखूंगा.

मैंने उससे कहा- ये चाय यहां रख दो और ये जो फटे हुए कपड़े यहां पर पड़े हुए हैं इनको उठा कर डस्टबिन में डाल देना. मैं बोला- दामाद के दोस्त के लंड का मज़ा लो मेरी सासू अम्मा!मैं धीरे-धीरे दोस्त की सास की चूत में लंड के धक्के मारने लगा. वो बोला- पहले तो भूमि अपने चूचे पिलाती थी और फिर चूत भी चुसवाती थी.

इन्हीं सब ख्यालों के चलते मुझे मुठ मारने में चुदाई के जैसा आनंद आने लगा. अब वो भी हरकत में आ गयी और उसने मेरी स्वेटर को उतारा और शर्ट के बटन खोलने शुरू कर दिये. फिर पिंकी ने बोला- आज इतनी तेज बारिश हो रही है … आपकी गर्लफ्रेंड आज कैसे आ पाएगी?मैंने बोला- मेरी वो गर्लफ्रेंड आज तुम ही हो.

तो क्यों न आज सासू मां की चूत चोदी जाये! ऐसा मौका फिर हाथ नहीं लगेगा.

मैं प्रीति की इस साजिश से हैरान था मगर तब भी मैंने प्रिया से पूछा- ये प्रमोशन का क्या माजरा है?ये कह कर मैंने फिर से उसकी चूत में मुँह डाल दिया. मैंने किसी को पता नहीं लगने दिया कि मैं वीडियो रिकॉर्डिंग कर रहा हूं.

मौसा से मेरी दोस्ती हो गयी, उनको मैं सिनेमा ले गयी जहां मैंने पहली बार उनका लंड चूसा. जब मैं स्टूल पर ऊपर से सामान दे रहा था, तो उनके गहरे गले के ब्लाउज में साफ़ दिख रहे मम्मे मुझे मस्ती दे रहे थे. झड़ने के बाद मैंने सलोनी को पकड़ कर कुछ इस तरह पलटा कि मैं नीचे और सलोनी मेरे ऊपर आ गयी.

उस जवान लड़के को चूत का अहसास मिलने से वो इतना गर्म हो गया था कि उसके लंड ने उसकी लोअर को लंड के टोपे के इर्द गिर्द से गीला करना शुरू कर दिया था. मैंने उसे मामी के पास बैठे देखा तो उसका नंगा गोरा पेट देख कर मेरा लंड खडा हो गया. उन्होंने जानबूझ कर उसी वक्त एक सवाल दागा- तूने कभी किसी लड़की के साथ सेक्स किया है?मैंने उन्हें देखते हुए कहा- नहीं.

एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो उसके होंठों की कभी ऊपर वाली फांक को चूसता तो कभी नीचे वाली को चूस लेता. फिर कुछ देर के बाद उसने मेरी लोअर में अंदर हाथ दे दिया और मेरे लंड को पकड़ कर आगे पीछे करते हुए मुठ मारने लगी.

सेक्सी वीडियो इंग्लिश ओपन

तो उसने पूछा- तुम्हें कौन सा फ्लेवर पसंद है?मैंने भाभी को अपनी तरफ खींचा और साड़ी के ऊपर से ही उनकी चूत सहला कर बोला- ये वाला फ्लेवर. प्रीति की शादी हो चुकी है और मेरे दफ्तर के पास ही उसका घर (ससुराल) है. दीदी ने सिगरेट जलाते हुए कहा- हम्म … एक ही दिन में तुम्हारी डिमांड बहुत बढ़ गई हैं.

मैंने मैडम की गांड मारना चालू रखा और पन्द्रह मिनट की धक्कम पेलाई में मैंने मैडम की गांड में ही अपना वीर्य डाल दिया. वो बोले- तो फिर जनाब, अब तो तुम्हारी ख्वाहिश खूब अच्छे तरीके से पूरी हो गयी होगी न?मैंने कहा- हां सर, मैंने तो कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि जिया मेम के साथ इस तरह का वक्त भी गुजारने के लिए मिलेगा. सेक्सी पिक्चर नंगी सीनहाय दोस्तो, मैं राजकुमार अपनी बहन बनी बीवी की चुदाई कहानी को आगे बढ़ा रहा हूं.

थोड़ी देर उसकी चूत पर लंड से गुदगुदी करने के बाद मैंने अचानक ही लंड को अंदर धकेल दिया और इस झटके से भाभी की चीख निकल गयी.

बिना किसी लिहाज के और मैं भी तुमसे कुछ ऐसे प्रश्न पूछूंगा, जो हो सकता है, तुम्हें अजीब लगें. ”मुंह लटकाये डरते डरते मैंने लिफाफा पकड़ा तो ललिता बोली- पेज पलटकर पढ़ लेना.

तभी मेरे दिमाग में ख्याल आया कि क्यों न मैं अपनी छोटी बहन को नहाते हुए देखूं? हो सकता है कि उसको नहाते हुए देखते समय मुझे अपनी बहन की चूत ही देखने को मिल जाये? यही सोच कर मैं एक्साइटेड हो गया. उसने उसी समय मेरे बालों में हाथ डाला और मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए. उसकी आंखें खुली की खुली रह गयी थी क्योंकि वो और बड़ा होकर बाहर आना चाह रहा था।मैंने उसका ध्यान न हटाकर दूसरा सवाल पूछा- आज तक आपने कितने मर्दों को नंगा देखा है?वो चुप रही और अपनी पीठ मेरी तरफ कर दी.

मैंने उनसे कहा- मैं आपको आपकी पसंद की आइसक्रीम लाकर दे दूंगा भाभी, तो मुझे मेरी पसंद का टेस्ट करा दोगी?भाभी ने हंस कर मना कर दिया.

मैंने आंटी के शरीर पर साबुन लगा दिया और आंटी के मम्मों को दबाने लगा. मोहित अंकल ने मेरी नंगी गांड के छेद के पास आकर अपने लंड पर कंडोम चढ़ाया और मेरी गांड के छेद के ऊपर अपना लंड रखकर धीरे-धीरे अपना लौड़ा डाल दिया. नहीं तो स्कूल इतना बड़ा भी नहीं है कि आपके कारनामे किसी से छिपे रह जाएं.

भोजपुरी सेक्सी बीपीपीयूष के पिताजी ने मुझे दो लाख रूपए का चैक दिया और उनके घर का काम करने के लिए आगे की बातचीत होने लगी. फिर वो खड़ी हुई और मेरे सामने अपनी जीभ से अपने होंठों को चाटते हुए बोली- कैसा लगा मेरे राजा!मेरे चेहरे पर एक वासना से भरी मुस्कुराहट आयी और मैं बोला- साली, उम्मीद से भी ज्यादा मस्त है तू!वो बोली- अभी कहां मेरी जान, अभी तो पूरी रात बाक़ी है.

मां की दर्द भरी कहानी

वो सिसकारते हुए बोला- आह्ह … डिम्पल क्या चूत है तुम्हारी! ऐसी चूत तो नंगी फिल्मों में भी देखने के लिए नहीं मिलती. मैं लवली की चूत को चाट रहा था और पापा से मैंने कहा कि आप चूचियों को दबाने वाला काम करिए. मैं ताई के पास गया और बोला- क्या बात है कमला ताई? आपने खुद पहल करके मेरे साथ चुदाई का मजा लिया.

फिर से लंड सैट करके मैंने एक जोर का झटका मारा, जिससे मेरा लंड भाभी की चुत को चीरता हुआ पूरा का पूरा घुस गया. मैं मन ही मन कल्पना करने लगा कि कैसे उस जवान लड़की को नंगी करके वो आदमी मजा लूट रहा होगा. हालांकि गलती मां की थी कि उसने अपनी ननद के बेटे के लंड का गलत इस्तेमाल किया.

पर अब तक शायद आंटी की निगाह मेरी खिड़की पर कभी गई ही नहीं थी, इसलिए वो इस बात पर बिल्कुल ध्यान नहीं देती थीं कि कोई उनको ताक रहा है. आपको मेरी ये नई भाभी की चुदाई की सेक्स कहानी कैसी लगी? आप मुझे मेरी ईमेल पर अपनी राय और कमेंट ज़रूर कीजिए. मैं प्रीति को सबक सिखाना चाहता था, तो मैंने अगली सुबह होटल जाकर अपना प्रमोशन लैटर लेकर हाफ-डे में ही वापस आ गया.

पहले तो मुझे गुस्सा आया लेकिन फिर मैंने खुद को समझाया कि आंटी के भाई कहने से मुझे क्या फर्क है. अगले दिन आंटी का फोन आया और उन्होंने मुझे घर आने के लिए कहते हुए बताया कि आज आ जाओ, तेरे अंकल भी घर पर नहीं हैं.

ये कहते हुए पूजा आंटी ने मेरे गांड के छेद पर प्रेशर बढ़ाया और धीरे धीरे करके पूरा डिल्डो मेरी नंगी गांड में घुसेड़ दिया.

दीदी हंसते हुए बोलीं- हां … आज तुम्हारा जोश देख कर मैं समझ गई थी कि तुम्हें चुत से मूत टपकते देख कर कितना मज़ा आया था. एक्स एक्स एक्स इंडियन एचडीमैंने सोचा कि ये दीवार कहां से आ गयी? मैंने देखा तो सामने एक 35-40 साल का बाऊंसर था. कामवाली बाई सेक्सजब मैंने रिसेप्शन रूम की ओर देखा तो पाया कि उन दो लड़कों में से एक जाग रहा था और मुझे ही देख रहा था. इस काल्पनिक सेक्स कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि जिया की गांड में जब पहली बार लंड गया तो उसको कैसा लगा और उसका अनुभव कैसा रहा गांड मरवाने का.

तब मैंने अपने हाथ से लंड को पकड़ा और चूत के छेद पर रखकर एक जोरदार धक्का लगा दिया और मेरा लंड उसकी चूत को फाड़ता हुआ करीब 2 इंच तक घुस गया.

ऐसे ही मजे मजे में मेरा स्टॉप भी आ गया लेकिन मैंने स्टॉप मिस कर दिया. उसके बाद मैंने उसे गुड मॉर्निंग और गुड नाइट के मैसेज भेजने शुरू कर दिये. वो बोली- आप सच बोल रहे हो क्या?मैंने कहा- हां, बिल्कुल सच बोल रहा हूं.

फिर मेरे बिना कहे ही वो मेरे घुटनों में बैठ गयी और मेरे लंड को मुंह में भर कर चूसने लगी. मैंने साइड से झुक कर अपना मुंह उसके लंड के पास करके उसके लंड को मुंह में ले लिया और तेजी से चूसने लगी. रंग, रूप, लम्बाई, मोटाई इत्यादि अदरक-लहसुन जानकर आप क्या करोगे? इसलिए केवल आम खाओ और लौड़ा सहलाओ!यह किस्सा मेरा और मेरी गर्लफ्रेंड का है।हां… सही सुना! वही अंग्रेजी वाली गर्लफ्रेंड!बाकी सबकी तरह अकेले नहीं हैं गुरू! मैं तो इस पेज का नियमित पाठक हूं.

सेक्सी वीडियो जंगली सेक्सी वीडियो

इस वक्त लंड चूसना मुझे ज़रा भी अच्छा नहीं लग रहा था क्योंकि मोहित अंकल अपना लौड़ा मेरे गले में फंसा रहे थे और उनके लंड का टेस्ट भी मुझे अजीब लग रहा था. वरना जितनी आसानी से मेरे चमचों ने कपड़े उतार लिए थे, उससे तो लगा था कि कोई रंडी है. मैंने उस समय अपनी बारहवीं की परीक्षा पास कर ली थी और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अपने शहर से बाहर कोटा पढ़ने के लिए गया था.

मैंने कहा- आप इधर ही रुकना भाभी मैं अभी आपकी पसंद की आइसक्रीम लाया.

दो मिनट बाद अमिता भी डाईनिंग टेबल पर आ गई और हमने साथ में खाना खाया.

उसने अपने तपते होंठों को मेरे प्यासे होंठों पर रख दिया और मेरे होंठों को जोर जोर से चूसने लगी. मुझे उनके मुँह से ऐसे शब्द निकलना अजीब से लगे, लेकिन सुनकर बड़ा मज़ा आया. सेक्सी वीडियो देसी लड़कियों काअब मैं मामी के दोनों मम्मों को एक साथ दबा दबा कर बारी बारी से उनके दोनों निप्पलों को चूस रहा था.

प्रिया ने मुझे बधाई दी और पूछा- प्रीति का क्या हो रहा होगा?मैंने कहा- प्रिया ये बात तुम अच्छी तरह से जानती हो कि प्रीति मेरा इस्तेमाल कर रही थी. भाभी की चुदाई का ये मजा अब भी मैं ले रहा हूं और हम दोनों का ये खेल खूब अच्छे से चल रहा है. मैंने पाया कि मनोहर एक अच्छा दोस्त ही नहीं बल्कि एक अच्छा इन्सान भी है.

मैंने निढाल स्वर में कहा- आह तुमने अपने मुँह में ही ले लिया!मेरा सारा वीर्य पीने के बाद पिंकी बोली- आप जैसे अमीरों का अमृत कहां रोज-रोज नसीब होता है. अमन देखने में अच्छा था और मेरी चूत भी उसका लंड लेने का सपना देखने लगी थी.

तब तो आपको बहुत मजा आ रहा था, अब क्या हो गया?ताई बोली- वो सब गलत हुआ है.

कोई दस मिनट की चुदाई के बाद दीदी हांफते हुए झड़ गईं, लेकिन मैं अभी भी बहन की चुदाई कर रहा था. वहीं पुरुषों को छेद के अलावा और कुछ नहीं दिखता।तो अगली बार जब वो मेरे बगल में बैठी तो मैंने मौका देखकर उसका हाथ पकड़ और फिर देर तक पकड़े रहा।एक सेकण्ड के लिए वह थोड़ा कसमसाई फिर मुस्कराने लगी। इससे मेरी हिम्मत और बढ़ गयी।अब मैं अपनी कोहनी से उसकी चूची हल्के से दबा देता। वह भी इतने पास सरक आयी कि मुझे उसकी चूची छूने के लिए ज़रा भी कोशिश न करनी पड़े. कुछ देर बाद मैंने आरज़ू को सीधी साइड करके फिर से उसकी गांड में लंड पेलकर गांड मारने लगा और साथ उसकी चूचियां भी दबाने लगा.

desi sex वीडियो जब मां की चीखें ज्यादा बढ़ती दिखीं तो निखिल ने अपना लंड मेरी मां के मुंह में दे दिया और बोला- चूस बहन की लौड़ी।माँ मजे से निखिल का लंड मुंह में भर भर कर चूसने लगी. इस इरोटिक ब्लोजॉब से जैसे ही मेरे लंड का पानी छूटा, तो उसने शायद बदला लेते हुए अपनी बीच की दो उंगलियों को मेरी गांड के छेद में डाल दिया.

आंटी बोलीं- तौलिया पहनने के लिए बाथरूम में जाने की क्या जरूरत है, यहीं चेंज कर लो. एक तो इतनी चिकनी सफेद, ऊपर से सॉफ्ट … दिल कर रहा था कि आइसक्रीम की तरह खा जाऊँ।डेढ़ बज चुका था, रूम साफ हो चुका था. मैं भाभी के निप्पलों पर जीभ घुमाता, तो भाभी के मुँह से ‘आहहहह …’ की मदमस्त सिसकारी निकल जाती.

ಡಬ್ಲ್ಯೂ ಡಬ್ಲ್ಯೂ ಸೆಕ್ಸ್ ಫಿಲಂ

मैं प्रीति से प्यार करता था और उसकी मर्दखोर सोच ने मुझे उससे अलग हो जाने के लिए मजबूर कर दिया था. भाभी ने मेरी पैन्ट की जिप खोलकर चड्डी से लंड निकाल लिया और उसे सहलाने लगीं. कभी एक जांघ फैला कर तो कभी सीधी लेट कर दोनों जांघें आधी उठा कर फैला लेती थी.

मैं जैसे ही खड़ा हुआ, पिंकी ने मेरा लंड देखकर बोला- यह आपको क्या हो गया साहब?मैंने कामुक स्वर में कहा- एक जवान लड़के को अपने बड़े बड़े बूब्स दिखाओगे, नंगी चिकनी चुत दिखाओगी, तो यही हाल तो होगा. अचानक ही मेरी नींद में ही मुझे महसूस हुआ कि मुझे बहुत अच्छी फीलिंग आ रही है.

मौसा जी ने मैडम को नीचे जाकर बताया कि किस तरह जरूरत के कारण उन्हीं के किचन से दूध लेकर हमने चाय बनाई.

मेरा लंड एक बार बाथरूम में जाकर झड़ चुका था इसलिए जल्दी झड़ने वाला नहीं था. पट्टी करने के बाद डॉक्टर चला गया और फिर पड़ोस वाली आंटी भी चली गयी. मगर इससे पहले मैं कुछ और प्रतिक्रिया दे पाता मौसी ने अपने हाथ से मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया.

मैंने उनसे कहा- दीदी अकेली सिगरेट! व्हिस्की नहीं चलेगी क्या?कंडोम के पैकेट को मैंने बेड के पास डेस्क पर रख दिया. इन सब के बीच मेरा ध्यान मेरी चड्डी पर तो गया ही नहीं कि जिसके अंदर मेरा लिंग अपने पूर्ण उत्तेजित अवस्था के आकार में आ गया था. ये बोलकर मैं अपने बैग से बाम लेकर आँटी के रूम में पहुँचा जहाँ आँटी अपने बिस्तर में लेटी हुई थी.

वहीं दूसरी तरफ दीदी का पंकज से चुदना और हम दोनों के बीच में ये भाई-बहन का रिश्ता। दिमाग की दही हो रही थी.

एक्स एक्स एक्स चुदाई बीएफ वीडियो: उसने अपनी साड़ी को ऊपर करके अपनी पैंटी उतार दी और पापा के ऊपर बैठ गयी. पिंकी प्यास शांत करने वाले मर्द की बात सुनकर वासना में गर्म होने लगी.

एग्जाम तो मुझे वैसे भी नहीं देना था क्योंकि जिसे ये पता लग गया हो कि आज उसकी मां चुदने वाली है तो वो बंदा फिर क्या एग्जाम देगा?वहीं पर टाइम पास करने के एक घंटे बाद मैं घर की तरफ गया तो देखा कि वही गाड़ी मेरे घर के बाहर खड़ी थी. मैंने सोचा क्यों न भाभी से थोड़ी बात कर लूं … हो सकता है कि उससे शायद उनका मन कुछ हल्का हो जाए. मैंने फोन किया तो वो बोला- अगर तेरी बेटी अंकिता की भी मिल जाये तो?मैं बोली- वो अभी बहुत छोटी है.

मौसी की उम्र 38 साल है और वो साढ़े पांच फिट की हाइट वाली एक मदमस्त महिला हैं.

मैं आंटी के पास गया और उनसे कहा- हैलो आंटी … क्या मैं आपकी कोई हेल्प कर दूं?आंटी ने मेरी तरफ देखा और कहा- हां शायद मैं इन दोनों को एक साथ नहीं ले जा सकती हूँ … ये बहुत भारी हैं. तब से मेरी माँ बहुत अकेली रहने लगी।अब मैं आपको अपनी माँ के बारे में बताता हूँ. मनोज और अम्मी ने दोनों ने एक ही स्वर में कहा- बताओ क्या शर्त है?आंटी ने कहा- तुम्हें मेरे सामने ही सब कुछ करना पड़ेगा और मैं भी इसमें तुम्हारा साथ दूंगी.