स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,गुजरात में बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी की वीडियो बताओ: स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ, मैं मजबूरी दर्शाते हुए उसका आधा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी।उधर नीचे युवराज ने अपनी उंगलियाँ मेरी चूत से निकाल दी और चूत पर अपना मुँह रख दिया.

मुसलमान की सेक्स बीएफ

जैसे ही उंगली उसकी योनि में गई तो उसके मुंह से जोर से आह्ह निकल गई. बीएफ हिंदी समाचारसॉरी … हां तो तूने अपनी मामी से बात की?”कहां यार, टाइम ही नहीं मिला, वैसे मैंने पहले एक बार बात की थी लेकिन उन्हें फर्क ही नहीं पड़ता.

जब भी बोतल का मुंह किसी कि ओर आता है तो उसे अपना एक कपड़ा उतारना होता है. सेक्सी वीडियो बीएफ बीपी वीडियोपरीशा का दिल ज़ोर ज़ोर से धड़कने लगा। तभी मुकुल राय ने एक ज़बरदस्त धक्का लगा दिया और उनका लंड चूत को चीरता हुआ पूरा अंदर समा गया।आऐ ययईईई… आआअहह … आह.

”कमाल है मौसी मना क्यों करती है भला?”वो तहती है यह बहुत गलम होती है.स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ: यह समझ लो कि आज तुम्हें चूत से जंग करनी है और उसको इतना मारना है कि वो फिर कभी तुम्हारे लंड के आगे आंख ना उठा पाए.

खाना खाने के बाद मॉम अपने रूम में गईं और मैं भी पीछे पीछे उनके रूम में आ गया.चूंकि मेरे रूम तक तो उसको चल कर ही आना था तो सोचा होगा कि शायद कोई देख लेखा इस वजह से उसने दूसरे कपड़े पहन लिये थे.

हीरोइन की सेक्सी बीएफ फिल्म - स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ

लगभग आधा घंटे बाद अंजू दूध लेकर आयी और बोली- लो पहले दूध पी लो, फिर मूवी देखना.मैंने पूछा- भैया और अंकल हॉस्पिटल से आ गए क्या?भाभी बोली- नहीं अभी तक नहीं आए.

धीरे धीरे मैंने अपना फोन आंटी की चूत में पूरा का पूरा डाल दिया इससे हुआ ये कि जब भी वाइब्रेशन होता, तो आंटी पूरा सिहर उठतीं और जैसे ही वाइब्रेशन रुकती, तो आंटी प्यासी नज़रों से मुझे देखने लगतीं. स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ ’ की आहें भर रही थी और बोल रही थी कि देव मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है … प्लीज़ अब अपना लंड डाल कर मेरी चूत को चोद दो.

मैंने कहा- यार अभी थोड़ा टाइम का तोड़ा है … और वैसे भी अब उसकी शादी होने वाली है.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ?

फिर उस लड़के ने बताया कि अनु की मम्मी कोमल के पापा से खूब चुदती हैं. थोड़ी देर बाद उसने मेरे पजामे का नाड़ा खोला और मेरे लंड को मुँह में लेकर चूसने लगी. फिर उसने एकदम से मेरे हाथ को अपने हाथ में ले लिया और उसको सहलाने लगी.

वह हैरान हुई मेरी ओर देखने लगी।उसे लगा होगा उसका अज़ीब सा नाम सुनकर मैं शायद कोई अन्यथा टिप्पणी करूंगा। मुझे थोड़ा-थोड़ा याद पड़ता है एक दो बार अनार या अंगूर ने इसका जिक्र तो किया था पर उन्होंने तो इसका नाम मीठी बाई बताया था. उस वक्त मेरी उम्र 23 साल की थी, जब ये घटना मेरी साथ हुई, मैं कॉलेज की समर वेकेशन के लिए अपने दोस्त के पास देहरादून गया था. मेरा लंड उत्तेजित तो पहले ही था, अब 120 डिग्री पर पेट को लगने लगा था.

मैंने तभी संजना को कॉल किया तो उसने अभी भी मेरा फोन रिसीव नहीं किया. मैंने जीभ थोड़ी और अंदर कर दी और उसकी सिसकारियाँ और तेज़ होने लगीं. आप सबका मेल मुझे बहुत प्रोत्साहित करता है और इससे मुझे आगे की कहानी बताने में बहुत सहायता मिलती है.

मैं बोला- अंकल जाने का मन तो मेरा भी नहीं है, सोच रहा हूँ एक बार फिर से आपका लंड अपनी गांड में ले लूँ. मैं अभी कुछ सम्भलती कि तभी उसने अपना एक हाथ मेरी टी-शर्ट में घुसा कर मेरे चुचों को दबा दिया.

पिता जी काम पर चले गए मेरी माँ घर के काम निपटा कर साथ वाले घर (हर्ष के घर) चली गयी.

और अब उसे लगा कि जो एक जोड़ा अब तक थिरक रहा है वो भी ड्रिंक्स टेबल की ओर जा रहा है.

इसलिए आंटी ने एक बार देख कर दोबारा से अपनी आंखें बंद कर लीं और मैं आंटी के पैर की मालिश करता रहा. वो बोली- ओके यकीन है … आपकी जगह कोई और होता, तो अब तक सब कुछ कर चुका होता. फिर मैंने अपने अंडरवियर को निकाल दिया और मेरा तना हुआ लौड़ा बाहर निकल आया.

मुझे कभी खेलने के मन होता था, तो मॉम से बड़ी मुश्किल में परमीशन मिलती थी. इसी बात का फायदा उठा कर मैंने फिर से रजू के चूचों में हाथ डाल दिया. मैंने भी 8 से 10 तेज धक्के और मारे और उसकी चूत में ही अपना बीज डाल दिया.

जैसे ही उसने कमीज उतारा, मैं उसकी ब्रा पर टूट पड़ा और उसकी ब्रा के ऊपर से उसके चूचों को दबाते हुए उसके होंठों को काटने लगा.

खेत के अन्दर जाकर उसने चादर बिछा दी और खुद उस पर बैठ कर बोली- आप भी बैठ जाओ. जब तक दोनों का पानी नहीं निकल गया, हम लोग एक दूसरे के लंड चूत को चूसते रहे. उसकी मासूम सी आंखें, मखमल सा बदन बार बार मेरा लंड खड़ा कर दे रही थी.

साथ ही मैं कुछ गिफ़्ट के साथ प्रीति के लिए भी बिकनी सैट लाया, जो रीतिका ने देखे थे. मेरे पति ने तुरंत फोन करके बोल दिया- अंकल मैं आज ही सीमा को वहां छोड़ जाता हूँ. मैंने एक और जोर से धक्का मारा और अपना पूरा लंड उसकी चूत के अन्दर कर दिया.

जोश तो भरा हुआ पहले से ही था, बस गर्मी बाहर निकालने की जरूरत थी। ये काम एक आंटी ने कर दिया।नेहरू नगर दिल्ली में मेरे घर के पास एक आंटी किराए पर रहती थी। सोनम नाम था आंटी का। क्या बताऊं दोस्तो … क्या माल थी वो, आस पास के सभी लोग उसकी कमर, गोरेपन और चूचियों के दीवाने थे.

फिर स्मायरा ने पूछा कि उस दिन मैं आपसे पूछना ही भूल गयी थी कि हॉस्पिटल में आपके कितने पैसे लगे थे. ” यह कहते हुए वह उसकी ओर बढ़ी और उसका चेहरा अपने हाथों में पकड़ लिया.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ अब सारिका ने राहुल से उसके शौक, लाइफ आदि पर बातें करने शुरू कर दीं. उसने यह भी बताया- मेरे हस्बैंड मेरी चूत को मुँह में लेते ही नहीं हैं.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ खाना खाते हुए उसने मुझसे कहा- आज रात सोना मत … मैं आपको मिस कॉल दूंगी, आप बाहर जो नहर के पास खेत है, वहां आ जाना. इस बार आंटी ने मुझे कसके पकड़ रखा था और वो धीरे धीरे अपना हाथ मेरे लंड पर ले जा रही थीं.

उसने चारों ओर देखा तो उसे लगा कि एक या दो जोड़े तो मैदान छोड़ गए हैं.

सेक्सी विडियो रेप

कई मिनट तक मैंने चाची की गांड की जोरदार तरीके से चुदाई की तो मेरा माल भी झड़ने को आ गया. तभी हिना आंटी ने मेरा लंड हाथ में पकड़ लिया और फट से मेरा अंडरवियर नीचे खींच दिया. वो उठा कर अपने बैग से कपड़ा ले आयी, उस कपड़े से उसने अपनी चूत और मेरा लंड को साफ़ किया.

ऋतु ने उठ कर सारी लाइटें बंद कर दीं और सिर्फ एक मंद रोशनी वाली लाइट जला दी. मैंने भाभी को छेड़ा भी, उन्हें बांहों में लेने की कोशिश भी की कि अब मौक़ा है तो भाभी जरूर चुदवा लेगी. तभी समुद्र की एक बड़ी उफनती हुई लहर आई जो उसके जिस्म को पूरी तरह पानी में डुबा गई और फिर जब वह लहर वापस लौटी तो पीछे छोड़ गई मेरी पत्नी का पूर्णतया निर्वस्त्र फैला हुआ जिस्म!यह सब कुछ देखना बहुत ही उत्तेजक लगा लेकिन तभी मेरी पत्नी चिल्लाते हुए एकदम उठ बैठी और उसने अपनी चूत के ऊपर हाथ रख दिए.

जिन पाठकों ने मेरी वो कहानी नहीं पढ़ी है, वे इस लिंक पर जाकर पढ़ सकते हैं.

उधर टीवी पर सनी लीयोनि तेज़ी से चुद रही थी इधर रुचि भी अब मदहोश हो रही थी. बात ठीक थी … दोनों संभले और ड्रिंक्स वाली टेबल पर जाकर एक पेग बनाया और दोबारा थिरकते हुए एक ही गिलास से सिप लेने लगे. सभी के ज़ोर देने पर मैंने भी एक पैग लगा लिया और दिलावर मेरे पास बैठ गई.

एक बार मन किया कि घर पर फ़ोन करके पूछ लूं कि सब ठीक है या नहीं … लेकिन हिम्मत नहीं हो रही थी. तब उन्होंने कहा- आह सच में बड़ा मजा आ रहा है … तुम थोड़ा और ऊपर कंधों से पूरी पीठ तक हाथ फेर कर करो. मैंने आंटी के कहने पर अपना सात इंच लंबा लंड नेहा की चूत पर लगा दिया.

मैंने लोअर पहनी हुई थी जिसे मैंने नीचे करके अपनी चूत को नंगी कर लिया. हल्के-हल्के उसका लंड मुझे अपनी गांड पर बड़ा होता हुआ महसूस हो रहा था। मुझे उसका लंड बहुत ज्यादा बड़ा लग रहा था.

शाम के छह बजे … मामा मामी सुन लें, ऐसे अर्पित ने मुझसे थोड़ा तेज स्वर में पूछा- आशना … एक मस्त फिल्म लगी है … देखने जाना है?ये सुनकर मामा ने ही सामने से कह दिया- हां क्यों नहीं … जाओ जाओ. ”क्यों बेटी … क्या मैं अपनी बेटी से यह उम्मीद भी नहीं रख सकता? जब तुम अपने भाई को इतने मजे दे सकती हो तो क्या तुम्हारे पिता का तुम पर कोई हक नहीं बनता?” महेश ने अपना मुँह बनाते हुए कहा।पिता जी मुझे शर्म आती है. मुझे उसकी आंखों में तैरती हुई प्यास का आभास हो चुका था, इसलिए थोड़ा सा उसके पास सरक गया और उसका हाथ पकड़ लिया.

ये बोल कर चाची एक ताला हाथ में लेकर गईं, मैं पीछे से दरवाजा बंद करने चला गया, लेकिन मैंने कुंडी नहीं लगाई.

सबका पहला पैग सॉलिड बनाया, फिर धीरे धीरे हम चारों ने सारी बोतल खाली कर दी. ऋतु ने अनिल का लंड जब पहली बार देखा तो उसके मुंह से निकल गया- वाऊ!उसको अनिल का लंड पसंद आ गया. उसकी आखिरी की थोड़ी सी पेशाब को मैंने वैसे ही अपने मुँह में रखे रखा और उसे पास बुलाकर उसके मुँह में डाल दिया.

फिर उसने एकदम से मेरे हाथ को अपने हाथ में ले लिया और उसको सहलाने लगी. मेरे मुंह से हां सुनकर वो हल्के से मुस्कराई और बोली- आइये न, अंदर बैठिए.

अबकी बार कुछ 10 मिनट की चुदाई के दौरान मैं उसकी गांड में भी उंगली डाल रहा था. घर आकर मैंने दीदी से झट से सवाल कर दिया- आपकी सेक्स लाइफ बेकार क्यों है? आप तो बहुत सुंदर हो. इस पर भाभी ने मुझे गुस्से से देखा, तो मैंने कहा- अरे भाभी मैं तो मजाक कर रहा हूँ.

नई नई सेक्सी वीडियो नई नई सेक्सी वीडियो

लगभग बीस मिनट तक मैंने नेहा की चूत को चोदा और फिर मैं उसकी चूत में झड़ने को हुआ तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया.

जब मैंने लंड के टोपे को अपने हाथ से ऊपर नीचे करना शुरू किया तो मेरी आंखें स्वत: ही बंद होने लगीं. लेकिन मैंने उसकी बात नहीं सुनी और उसकी गांड को अपने हाथों से पकड़ कर उसको थोड़ी अपनी तरफ खींचा और तेजी के साथ उसकी चूत में फिर से लंड को घुसाने लगा. आज जब मौका आया तो उसे जाने मत दो, मैं आज तक किसी से नहीं चुदी … अब तुम मेरी आग बुझा दो, मेरी चूत जल रही है.

जैसे-जैसे माल निकल रहा था वैसे-वैसे उसकी चूत में लंड देने के लिए मेरे अंदर की प्यास और ज्यादा बढ़ती जा रही थी. वो भी मेरे मन को पढ़ने की कोशिश कर रही थी शायद लेकिन दोनों में से ही कोई भी जाहिर नहीं होने देना चाह रहा था. सेक्सी बीएफ छोटी बच्ची वालीवो बोली- तुम हाथ-मुंह धोकर बैठो, मैं तुम्हारे लिये खाना लगा देती हूं.

उसने अपने दोनों हाथों से मेरे हाथों को जोर से पकड़ा हुआ था। दोनों ओर से मेरे ऊपर हमला हो रहा था और मुझे प्रतिकार करने का मौका ही नहीं मिल रहा था।युवराज मेरे दांयें निप्पल को चूसता, फिर स्तनों के बीच की घाटी को चूमते हुए बांयें निप्पल को मुँह में पकड़ता, दूसरी तरफ अमित मेरे पैरों को किस कर रहा था। घुटनों से शुरू करते हुए वह जांघों तक किस करता रहा और फिर मेरी चूत की तरफ बढ़ने लगा. मैंने प्रिंस के लंड को आखिरकार अपने मुँह में भर ही लिया और लंड चूसने लगी.

लेकिन मेरी लड़कियों से बात न कर पाने की वजह से ऐसा कुछ नहीं हुआ और मैं हवस की आग में जलता रहा. वहां मुझे सहयोग करने के लिए हमारी मेक्सिकन कंपनी की एक कर्मचारी मिली. आनन्द भारी चीख निकल गई मेरी बीवी की!यह सब करतब देख कर डॉक्टर वाइफ भी आहें भरने लगी.

लंड अन्दर तक पेलने के बाद फिर से ताबड़तोड़ चुदाई का खेला शुरू हो गया. उन्होंने मेरे लंड को प्यासी नजरों से देखा और हाथ बढ़ा कर उसे टटोलते हुए कहा- ओके, अभी इसे अन्दर करो, रात में मेरे पास आने की कुछ तरकीब लगाना. बंगलो किसी शौक़ीन जमींदार का है इसलिए बेहतरीन सोफे भी उसी हॉल में पड़े थे.

मैं भी उसकी पीठ पर पेट के बल लेट गया और मैंने अपने हाथों से उसके नितंबों को सहलाना शुरू कर दिया था.

साथ ही उसने बताया कि वो घर का सारा काम करना भी जानती है और मेरी बीवी की मदद भी कर दिया करेगी. अब आगे की कहानी …बाम की शीशी देकर वो वापस अपने कमरे में चली गई लेकिन मुझे अभी भी नींद नहीं आ रही थी.

मुझे कभी खेलने के मन होता था, तो मॉम से बड़ी मुश्किल में परमीशन मिलती थी. तो मैं अपनी पत्नी से बोला- तुम चिंता मत करो … मैं उन्हें कहीं बाहर घुमा कर लाता हूँ, जिससे उनका मन बहल जाएगा. उसने हल्के से मेरी चूत पर एक किस जड़ा तो मेरा रोम रोम मचल गया।आह … भाभी … कितनी सेक्सी हो आप …” अमित मेरे पैरों को अपनी बाँहों में जकड़ते हुए बोला।अमित का शरीर भी कसरती था, उसके सीने पर और पीठ पर घने काले बाल थे।मैं उन दोनों नंगे पुरुषों के बीच में नंगी खड़ी थी.

”अच्छा?” उसकी आँखों की चमक तो ऐसे थी जैसे किसी अंधे को आँखें मिलने वाली हो।तुमने आज नाश्ते में क्या खाया?”कुछ नहीं. आख़िर पूरा लंड चुत में घुसा कर ही मैंने दम लिया … मुझे बेहद दर्द हुआ, हल्का खून भी निकला, पर इतने दिनों से डिल्डो से खेलते रहने से मुझे इसकी आदत सी हो गई थी और इससे होने वाला डर अब मजे में बदलने लगा था. चलो जैसी सोनिका की मर्जी … शायद उसका मन भर गया होगा मोहनीश के लंड से! एक दिन जब मेरा मन भी उसके लंड से भर जाएगा तो मैं भी अपनी चूत के लिए नया लौड़ा तलाश ही लूंगी.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ माँ बोली- अभी तक तूने खाना भी नहीं बनाया है?मैंने कहा- मुझे गर्मी लग रही थी इसलिए मैं थोड़ी देर बैठ गई थी. अपनी बहनों की आवाज सुनी, तो चाची ने जल्दी से ब्रा और पैंटी पहनी और नाइटी पहन कर दरवाजा खोलने चली गईं.

छोटी चूत की सेक्सी वीडियो

तो दोस्तो, इस समय मैं अपनी कॉलेज फ्रेंड चारू के साथ होटल के रूम में पूरे मजे लेते हुए उसके चूतड़ दबा रहा था और काट रहा था. इसी बीच मेरे बॉस ने मुझे अपनी तरफ खींचा और मुझे कसकर अपनी छाती से लगा लिया. वो मुझे मारने लगा और बोला- क्राई … डोंट लाफ … (चिल्लाओ … हंसो मत!)मैंने उससे अंग्रेजी में बोला- साले उसके लिए दम लगाओ भोसड़ी के …अब वो ये सुनते ही मानो जल्लाद बन गया और जानवर जैसे ज़ोर से मेरी गांड मारने लगा.

वो भी अब बेशर्म होकर पैंट खोलने लगी और अगले ही पल वो केवल ब्रा और पैंटी में थी. जब वो भी सेक्स के लिए उत्तेजित हो गये तो उनके लंड से नमकीन पानी रस कर बाहर आने लगा. बीएफ सेक्सी चित्र दिखाएंवो बोले- अभी तक उसकी सील तो टूटी नहीं है … क्या किया होगा तेरे भतीजे ने.

लगभग 10 मिनट तक हम दोनों एक दूसरे के होंठों के रस का स्वाद लेते रहे.

चूंकि तुम मेरे पति के दोस्त हो इसलिए मैं आगे नहीं बढ़ना चाहती थी लेकिन आज जब घर पर मैं तुम्हारे साथ अकेली थी तो मैं भी खुद को रोक नहीं पाई. ये बात उन दिनों की है, जब मैं 19 साल का था और 12 वीं पास करके इंदौर आया था.

उसकी बीवी ने अपने पति का लंड पकड़ा और मेरी बीवी की चूत पर रगड़ने लगी. पेशाब की धार बंद होते ही मैंने आंटी को नीचे गिरा दिया और अपना लंड आंटी चूत पर लगाकर उनको जोर से चूसने लगा. तुम अपने आपके बारे में अगर नहीं सोचोगी तो कौन सोचेगा?उसने मेरा हौसला काफ़ी बढ़ा दिया था, मैंने कहा- बात तो तुम ठीक कर रही हो.

तभी उन्होंने बात करते करते अपनी सलवार बाँधी, तो मुझे उनका पेट भी दिखा.

इस पर उसने फिर से पूछा- ये लौड़े लगना मतलब क्या हुआ?अब उसको क्या बताऊँ? मैसेज पर बात करते हुए ही मेरा लंड खड़ा होने लगा था. स्प्रे करने के बाद मैंने आंटी को उठने के लिए कहा क्योंकि गर्म खून में उठना आसान होता है. मित्रो, मुझे मेरे बचपन में ही मुठ मारने की आदत पड़ गयी थी, जो कि मेरे एक दोस्त ने मुझे लगाई थी.

सेक्स इंग्लिश पिक्चर बीएफपंकज बहुत रिफाइंड टेस्ट वाला व्यक्ति था और सारिका ने भी अपना फ्लैट बहुत खूबसूरती से सजा रखा था. बच्चे तो घर पर हैं नहीं इसलिए मेरा मन भी नहीं किया खाना बनाने के लिए.

मां और बेटे का हिंदी में सेक्सी वीडियो

वीना आंटी अब फिर से मेरे पीछे बैठ गईं और इस बार उनके हाथ मेरी कमर को पकड़े हुए थे. ” महेश का लंड भी अपनी बहू की बातों से और ज़्यादा कठोर होता जा रहा था। जिसे वह अपनी बहू की चूत पर रख कर 2-3 धक्के मारते हुआ बोला।महेश का लंड फिर से नीलम की चूत में 6 इंच तक अंदर घुस चुका था जिसे महसूस करके उसके मुंह से मज़े से सीत्कार निकल रहे थे. मैंने कहा- आप खुल कर बताओ ना … उस दिन क्या किया था … मुझे पूरा किस्सा सुनाओ न?पहले उन्होंने ना में सर हिलाया, फिर मेरे जोर देने पर वो पहले मुझसे लिपट गयीं.

कुछ देर तक उसकी चूचियों को मसलने के बाद हमने उसे उठाया और बेडरूम में ले गये. उसका गोरा रंग, छाती पर उठे हुए मम्मे … पूरी गोल और भरी हुई गांड को कोई भी देख ले, तो मुठ मारे बिना रह नहीं पाए. वो बोली- आप भी न! पता नहीं क्या-क्या बोलते रहते हो!मैंने कहा- क्यूं, मैंने कुछ गलत कह दिया क्या?मेरी बात पर वो थोड़ी गम्भीर होते हुए कहने लगी- अरे आपके साढू साहब को इतनी फुरसत कहां है!इतना कहते-कहते वो उठ कर किचन की ओर जाने लगी.

तुरन्त ही तुम्हारे ससुरजी ने अपने होंठों को मेरे होंठों में बुरी तरह फंसा लिया और अपनी जीभ से मेरी जीभ को दबाते हुए सारी तम्बाकू अपने मुँह में खींच ली. उनके निप्पल खड़े हो गए थे … क्योंकि मुझे उनके निप्पल महसूस हो रहे थे. वो मेरी तरफ देखने लगे तो मुझे शर्म आने लगी क्योंकि वो मेरे पापा जैसे थे.

मैंने पांच तक आंटी की चूत चोदी और फिर दूसरी बार मेरा लंड झड़ने के कगार पर पहुंच गया. मैं सोचती कि तुम कभी तो इशारा समझोगे, पर तुम बुद्धू बॉलम, मेरी नजर को कभी नहीं समझे.

मैंने भी देर न करते हुए अनिता भाभी की लाल पेंटी को जाली वाली जगह से पूरा फाड़ कर अलग कर दिया.

अब चूंकि शबनम ने राहुल के गले में बाहें डाल दी थी तो उसका टॉप काफी उठ चुका था. चुदाई हिंदी बीएफ वीडियोये सुनकर मुझे बहुत शर्म आई … और वो दोनों एक दूसरे के सामने हंसने लगे. सेक्सी फिल्में बीएफ सेक्समैं सोच रहा था कि चाची खुद ही मेरे लंड को मुंह में लेने के लिए कहेगी लेकिन चाची मेरे लंड को मुंह में लेने के लिए पहल नहीं कर रही थी. ” नीलम ने अपने ससुर की बात सुनकर कहा। नीलम का जिस्म अपने ससुर की बातों को सुनकर गर्म हो रहा था। इसीलिए वह जल्दी से कपड़े पहनना चाहती थी।अरे यह क्या बात हुई बेटी? इससे अच्छा था कि तुम मेरी बात मानती ही नहीं.

इसके बाद मैंने ऑफिस के वाशरूम में ले जाकर उसकी पैंटी नीचे कर दी और उसकी चूत में उंगली फिराने लगा.

मुझसे तो वो ड्रामा झेला नहीं गया इसलिए उठ कर अपने कमरे में आ गया और बेड पर लेट कर फोन हाथ में उठा लिया. जब माल निकलने वाला था, मैंने तुरंत लंड बाहर निकाल कर उनके मुँह में रस छोड़ दिया. उसने दोबारा से आंखें बंद कीं और फिर मेरे और अनिल के एक-एक हाथ को अपनी चूची पर रखवा लिया.

उपासना तड़पने लगी और अपने आप को मुझसे छुड़ाने की नाकाम कोशिश करने लगी. मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैं चूत के सुराख को हेरम के ऊपर से ही सहलाने लगा. मेरी चूत का खून तो तुमने ही निकाला था अपने लंड से … आह पता नहीं कहां कहां से चूत ढूँढता रहता है अपने लंड के लिए … और बदनाम मेरी चूत को करता रहता है.

मेरी बहन की सेक्सी वीडियो

मैंने पैंटी को सूंघते हुए मुठ मारी और अपना वीर्य उसकी ब्रा के कप में गिरा दिया. नीता ने काम देख कर उन्हें जाने को कह दिया कि जब जरुरत होगी बुला लेगी. इसलिए इस मुलाकात को हर हाल में होना था और इसे ख़ास भी बनाना था।अगले दिन शाहमीन अपनी सहेली के साथ बस से शहर आयी, मैंने ऑफिस में अपने बॉस को बता दिया कि मुझे कुछ पर्सनल काम है इसलिए दो बजे के बाद ही ऑफिस आ पाऊँगा।मैं अपनी कार लेकर नियत समय पर बस अड्डे पहुंच गया। हम दोनों ही अपनी इस पहली मुलाकात के लिए बहुत ही ज्यादा उत्तेजित थे। सबसे पहले उन दोनों को लेकर रेस्टोरेंट गया.

इसलिए आपसे कहना चाहती हूँ कि मेरी कहानियों पर ‘मुझे भी एक मौका दो’ वाले कमेंट्स करने का कोई फायदा नहीं है.

अंजू बोली- अब अपना लंड मेरी चूत में डालो यार … अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

आंटी ने मेरी गर्दन पर होंठ चिपका दिये और पूरी लार मेरी गर्दन पर लपेटती हुई मेरी गर्दन को चूसने लगी. मैं बोला- कंडोम लगा कर डालूं … या बिना कंडोम के?वो बोली- बिना कंडोम के ही डाल दो. हिंदी हीरोइनों की बीएफउफ़्फ़ … क्या बला की खूबसूरत लग रही थीं वो नंगे बदन …मैं भी पूरा नंगा हो गया और उनके ऊपर चढ़ गया.

अब उसका हाथ नीचे से होता हुआ मेरे लंड को टटोलता हुआ मेरे लंड पर जा पहुंचा. अब वो मुझसे चोदने के लिए कहने लगी- अब बर्दाश्त नहीं होता … मेरी चूत में अपना लंड डाल दो. फिर मैंने वैसलीन ली और उसे अपने लंड और अंजू की चूत में लगाकर चिकनाई पैदा की.

तब उसने मुझे अपना व्हाटसअप नम्बर दे दिया और हम समय मिलते ही विडियो कॉल करने लगे. किस के साथ ही मैं एक हाथ से उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से दबाता रहा और दूसरे हाथ उसकी सफाचट चुत को सहलाता रहा.

तभी महेश ने एक झटका मारा और नीलम की चूत में पूरा लंड समा गया क्योंकि नीलम की चूत एकदम गीली थी इसलिए लंड फच्च से अंदर चला गया.

कुछ दिन बाद मेरे बॉस ने मुझसे रात का खाना किसी होटल में करने के लिए पूछा, तो मैंने हाँ कर दी. मैंने देखा दोनों लड़कियां धीरे से हाथ पीछे ले आईं और इशिता के चूतड़ों पर हाथ फेरने लगीं. हम लोग जैसे ही दुकान के पास पहुंचे, तो मैंने उससे कहा- लो … आपके मतलब की दुकान आ गई.

हिंदी बीएफ एचडी हिंदी बीएफ सेक्सी ” मैंने उसे समझाते हुए कहा तो अब गौरी के पास सिवाय ‘हओ’ बोलने के और क्या बचा था।फिर मैंने एक कटोरी में पहले तो आधा चम्मच शहद डाला और फिर उचित मात्रा में अन्य चीजें डाल कर उनका लेप सा तैयार कर लिया।गौरी साथ वाले सोफे पर बैठी यह सब देख रही थी। मैंने उसे अपने पास आने को कहा तो वह बिना किसी ना-नुकर के मेरी बगल में आकर बैठ गई।गौरी तुम्हें तो इन मुंहासों की कोई परवाह और चिंता ही नहीं है. मैं नौकरी ढूँढ रहा था, तो मेरी बुआ जी ने मुझे एक जगह जॉब बताई और कहा कि मैं उनके यहां आ जाऊं, तो वहीं से जॉब के लिए इंटरव्यू दे दूं, तो आसान रहेगा.

वो बोली- मन बहलाने का क्या मतलब है?मैंने कहा- बस मोबाइल में कुछ-कुछ देख कर अपने मन को बहला लेता हूं और खुद को संतुष्ट कर लेता हूं. लेकिन वे मुझे छूटने की कोशिश नहीं कर रही थीं जिससे मेरी हिम्मत और बढ़ गई, मैंने कहा- मॉम इसमें गलत क्या है? मैं तो इससे बचपन में पहले भी खेल चुका हूं. उनको चूत मरवाने का तजुरबा भी बहुत होता है और कोई नखरा भी नहीं करतीं.

करीना कपूर की नंगी सेक्सी वीडियो

हालाँकि पिछले बारह घंटों में उन सभी की जम कर चुदाई हुई थी पर अभी भी वो चुदाई को बेताब नजर आ रहीं थी. मैंने देखा तो वो उस पर आइसक्रीम लगा रही थी। अभी मैं कुछ समझता, तब तक मेरा आधा लंड उसके मुंह में था. आंटी तो मचल गईं- आआआह ऊऊऊउफ … उमम्म …मैं ऐसे ही ज़ोर ज़ोर से डिल्डो को आगे पीछे कर रहा था.

मुझे उसकी नज़र में कोई कमीनापन नज़र नहीं आ रहा था। मैं भी बिना कुछ सवाल किए अपना पर्स लेकर उसके साथ चल दी. इसलिए मैं बाम की शीशी को उसके पास ही छोड़ कर अपने कमरे में वापस आ गया.

मैं तो एकदम स्तब्ध उसे देखते ही रह गया, क्या करिश्मा था कुदरत का, एक 23 या 24 साल की अदम्य सुंदरता की मूरत मेरे सामने खड़ी थी.

टी-शर्ट में उसकी चूचियों के बीच में ‘हग मी’ (मुझे गले लगा लो) लिखा हुआ था. मेरा काम मूतने के अलावा लंड को अपनी चुत में ले जाकर उसको ढीला करना भी होता है. मुझे तो जैसे जन्नत का मज़ा मिल रहा था, लेकिन जो मज़ा लंड चूसने में था, वो चुसवाने में नहीं आ रहा था.

जब वो मुझे किस कर रहा था तो उसकी पैंट में से तना हुआ उसका लंड मेरे बदन पर घिस रहा था. नित्या- मैं कभी किसी से नहीं कहूँगी कि मैं तुमसे प्यार करती हूँ और तुम्हें शादी करने के लिए मजबूर भी नहीं करूंगी. ये सीन मोहिनी ने आते हुए देख लिया और वो किचन के दरवाजे पर खड़े खड़े हमें देखने लगीं.

मैं कुछ समझी नहीं?”तुझे कुछ समझना नहीं है, बस टांगें चौड़ी कर के अपनी भोसड़ी खोल के लेट जा!”मम्मी लेटी, उपिंदर ने उसकी चूत की फांकों के बीच में एक गुलाब जामुन रखा और बोला ‘पेल दे राजेश …’राजेश ने लण्ड मेरी माँ की चूत के अंदर कर दिया, धक्के शुरू किये.

स्कूल टीचर की सेक्सी बीएफ: कपड़ों का छोटापन इतना हावी था कि लड़कियों ने तो हाफ पेंट और टी शर्ट से ज्यादा कुछ पहना ही नहीं. मैं- चाची कैसे लगा?चाची- बहुत मस्त लगा जीशान … मुझे इतना मज़ा कभी नहीं मिला.

पहले तो वो थोड़ा ना नुकर कर रही थीं, पर पर थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगीं. मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे जन्नत मिल गई हो … क्या मस्त लंड चूस रही थीं. मुकुल राय के मोटे मूसल ने परीशा की चूत को बुरी तरह से फैला के चौड़ा कर दिया था। अब मुकुल राय ने परीशा की कमर पकड़ के धक्के लगाना शुरू कर दिया। आसानी से उनका लंड परीशा की चूत में जा सके इसलिए अब उसने टाँगें बिल्कुल चौड़ी कर दी थी। मीठा मीठा दर्द हो रहा था। परीशा अपने ही बाप से कुतिया बन के चुदवा रही थी।मुकुल राय- परीशा बेटी तुम्हारी चूत तो बहुत टाइट है.

वो देखने में भी बहुत हैंडसम था और उसकी बॉडी भी बहुत अच्छी बनाई हुई थी उसने.

उसने कहा- कुछ नहीं, छोड़ो।इतने में ही राहुल बाइक लेकर आ गया और हम घर वापस आ गये. अब हमें चेहरे दिखाई नहीं दे रहे थे एक-दूसरे के!फिर ऋतु तीसरा ड्रिंक बनाने के लिए गई तो मैंने अनिल से पूछा- क्या दिखा रही थी ये?वो बोला कि तुम्हारी वाइफ ने बहुत सेक्सी शूट किया है. दोस्तो, मेरे सामने एकदम गोरी गोरी और भारी-भरकम गांड आज खुद चुदने को तैयार थी.