हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी

छवि स्रोत,हिंदी में रोमांटिक सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

राजस्थान चुदाई बीएफ: हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी, मैंने उससे कुछ नहीं पूछा और अगले ही दूसरा झटका मार कर अपना पूरा लंड उसकी चुत में पेल दिया.

सेक्सी पिक्चर पिक्चर ब्लू पिक्चर

गांवों में रात का खाना जल्दी होता है, सो हम सभी 8 बजे तक सो जाते हैं. नींद में चोदने वाला सेक्सी वीडियोबहुत ही कामुक नजारा चल रहा था वो … जिसे देख मेरे खाली हाथ को भी अब एक काम सूझ गया.

फिर चाची ने अपनी चूत पर भी साबुन लगाया और चूत को ज़ोर ज़ोर से रगड़ने लगीं. क्ष सेक्सी वीडियोसतभी उन्होंने अचानक फिर से अपने हब्शी लंड का एक जोरदार धक्का और दे दिया.

विक्रम लगभग दो मिनट तक मेरी बीवी की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत चाटते हुए उठा और उसने संजू को बेड पर धकेल दिया.हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी: हम दोनों की नजरें आपस में एक‌ बार तो टकराईं … मगर फिर अगले ही पल उसने अपनी नजरें वापस टीवी की ओर घुमा लीं और मूवी देखने लगी.

चाची- अच्छा मदद करूँगी … दोनों की चुत गांड दिलाऊंगी … तू धीरे कर प्लीज.चाय पीने के बाद मीरा ने खाली बर्तन उठाये और जाते समय मेरे लण्ड पर हाथ फेरकर बोली- अभी थोड़ी देर में आऊँगी राजा!और मुझे आँख मारकर चली गई.

वीडियो फिल्म सेक्सी मूवी - हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी

सेल्सगर्ल- मैम एक बार देख तो लीजिए, हमारे यहां का कलेक्शन और वैरायटी बहुत ही अच्छा है, मार्केट में और कहीं नहीं मिलेगा.मैंने प्रियंका को इशारा किया कि वो फ्रिज से आइस क्यूब (बर्फ के टुकड़े) लाकर दे.

मैंने उसकी ब्रा का हुक खोलकर चूचियों को नंगा किया और थोड़ा नीचे होकर चूचियां चूसने लगा तो ज़ारा आहें भरने लगी और मेरी टीशर्ट निकाल दी. हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी अपने पति की मृत्यु के बाद उसकी सारी खुशियां ही शायद उससे दूर हो गई थीं.

खैर … इन सबके चलते अब ऐसे ही एक दिन जब मैं कॉलेज से घर आया, तो‌ मकान मालकिन और शायरा बाहर बैठकर चाय पी रही थीं.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी?

लेकिन मुझे थोड़ा डर भी लग रहा था क्योंकि मैं इस तरह से पहले कभी मिलने उसके कमरे पर नहीं गयी थी. अभिषेक बोला- ऐसे बिना चिकनाई के गांड मारूंगा, तो तुम्हें बहुत दर्द होगा. उन पर खड़े हुए रोयें साफ नजर आ रहे थे। गहरे भूरे रंग के बड़े बड़े घेरे में उनके भूरे भूरे निप्पल सुपारी के जितने बड़े और इतने तने हुए थे कि उनको देखते ही मेरा गला सूख सा गया.

मैं- वैसे मैं तो अब भी तैयार हूँ … आप चाहो तो!मैं भी उनके साथ मस्ती के मूड में बात करने लगा था. मैंने जल्दी से मेडिकल दुकान से लाई शीशी को खोला और एक गोली अविना के गिलास में डाल दीं. शायरा का दर्द कम‌ करने के लिए मैंने उसके होंठों को चूसना शुरू कर दिया.

फिर उन्होंने टेक्स्ट मैसेज किया- विक्की जी ये मैं बोल रही हूं, फोन उठाइए. मैं बोली- अरे आओ भी अब … बीयर खोलो चलो!फर्श पर हमने एक दरी बिछा ली. ”चल!”उसने मेरी नंगी कमर में हाथ डाला और हम चलने लगे।कामिनी वो दोनों सो गए होंगे?”क्या पता, उपिन्दर भी मम्मी को ऐसे ही बाथरूम में ले जा रहा हो सोने से पहले सुनहरी जल पिलाने!”हाँ शायद!” वो मुस्कुराई.

मेरे चुत चाटने से अब मॉम मदहोश होने लगी थीं, उनके मुँह से मादक सिसकारियाँ निकल रही थीं- उह … आह … चाट ले!मैं भी उनकी चुत मस्ती से चाटे जा रहा था. इस तरह से वो मेरी दोस्त बन गई और वहीं से मेरा मसाज ब्वॉय का काम शुरू हो गया.

उसको मैं बेडरूम में ले गयी और बेड के पास ले जाकर उसको बेड पर धक्का दे दिया.

कुछ ही देर तक लंड को मुठियाने से वो रो पड़ा और उसने बहुत सारा वीर्य पिचकारियों की शक्ल में सामने की दीवार पर मार दीं.

मामी कहने लगीं- राजा इतना बड़ा और मोटा लंड मैंने आज तक नहीं देखा … तुम्हारे मामा को तो इसका आधा भी नहीं है. मैंने अब तक खुद को किसी तरह से रोका हुआ था लेकिन आज नहीं रोकना चाह रही थी. रामू- भाभी आप कुछ परेशान लग रही हैं … कुछ बात है क्या?आरिषा- नहीं, कुछ बात नहीं है … तुमको ऐसा क्यों लग रहा है?रामू- वो भाभी मैं देख रहा हूँ कि भैया भी आपसे सही से बात नहीं कर रहे हैं और आपका चेहरा उदास रहता है.

उससे मेरी पैंटी सरक नहीं रही थी तो उसने फाड़ दी और मेरी चिकनी चूत के दर्शन किए. मैंने भी कहा कि मैं भी झड़ने वाला हूँ … किधर निकालूं?उसने कहा- आह … पूछ क्या रहा है … रस डाल दे अन्दर … तेरा पूरा रस मेरी चुत का ठंडक देगा … आह … अन्दर ही डाल दे … इसी लिए तो तड़फ रही थी राहुल. मेरे दिमाग में काफी कुछ चल रहा था मन कर रहा था कि उसी रात सुधा को चोद डालूं मगर मैंने अपने ऊपर संयम रखा क्योंकि सुधा मुझसे 20 साल छोटी एक कमसिन लड़की थी.

और साथ ही मैंने योगेश की चड्डी नीचे की तरफ खींच कर उतार दी।अब मैं और योगेश पूरी तरह मादरजात नंगे थे।मैंने देखा कि आज योगेश का लंड नाग जैसा फुफकार रहा था।योगेश अब मेरी कमर को चूम रहा था।जब उसने अपनी जुबान मेरी नाभि में डाली तब मेरे मुंह से ‘आहह हहह अहह … उईई ईश्स … मर गई …’ इस तरह के सीत्कार फूटने लगे।योगेश ने अब मेरी कमर से नीचे मेरी जांघों के सबसे ऊपरी भाग को अच्छे से चूस चूस के काटना शुरू किया.

मामी बोलीं- कोई नहीं राजा … मैं दूसरी ले लूंगी … फिलहाल अभी जो कर रहे हो, वो करो. आपकी रूपा रानी[emailprotected]कालगर्ल सेक्स कहानी अगला भाग:इस चुत की प्यास बुझती नहीं- 4. करीब 20 मिनट के बाद मैं बोला- मामी मेरा लंड झड़ने वाला है … लंड का माल चुत में निकालूं या पीना है?मामी बोलीं- अभी चूत में ही छोड़ दो … मेरा भी निकलने वाला है.

मेरा लंड अब उसकी गान्ड में चुभने लगा।मैं दोनों हाथों से उसके बूब्स दबाने लगा और वो उसकी गान्ड मेरे लौड़े पर रगड़ने लगी।मैंने उसे बिस्तर पर उल्टा लिटा दिया और तेल की कटोरी से उसकी गान्ड के छेद में तेल की बूंदें डालकर उंगली से चोदने लगा. मुझे चलने में थोड़ी दिक्कत होने लगी थी … क्योंकि मेरी आज ही गांड और चुत दोनों फटी थीं, तो अभिषेक ने मुझे रिक्शा करवा के घर भिजवाया. अपनी क्लास के ऐसे ही हम पांच-सात माशूक लौंडे थे, जिनकी गांड अधिकतर रगड़ी जाती थी.

मैंने ये देख लिया था, इसलिए कहीं उसकी साड़ी फट ना जाए … ये सोचकर जल्दी से उसे निकालने की सोची.

इतनी देर में मेरे किसी मित्र का मैसेज आ गया और मैं वहां व्यस्त हो गया. मगर जैसे ही मैंने उसकी साड़ी के पल्लू को उस कील से निकालकर अलग किया.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी वंदना जल्दी से उतर कर पिशाब करने भागी और एक पेड़ की ओट में पिशाब करने लगी. दीपा ने सिगरेट ले ली और एक लम्बा कश खींच कर धुंए का गुबार सुनील के ऊपर छोड़ दिया और मुस्कुरा दी.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी खाने के आधे घंटे बाद अभिषेक मुझे फिर से उसी बारिश में छत पर ले गया और मैंने उसी बारिश में भीग कर अभिषेक का लंड चूस चूस कर खड़ा कर दिया. उसने पहले तो सोचा मगर फिर मेरे दोबारा पूछने पर उसने मेरे प्यार को कुबूल कर लिया.

मॉम मेरे लंड को ऐसे चूस रही थीं मानो वो लंड को किसी कुल्फी की तरह चूस रही हों.

ट्रैन में सेक्सी वीडियो

अब मैं झड़ने वाला था तो मैंने कहा- मामी लंड का माल कहां निकालूं?मामी बोलीं- जहां मन करे राजा … निकाल दो. फिर बाद में रिया को पता चला कि जिस क्लाइंट से रिया को नवीन ने मिलवाया था वो तो नवीन का ही कोई दोस्त था जो नया क्लाइंट बनने का नाटक कर रहा था. हमें एक दूसरे से किसी बात ने बांधे रखा था, तो वो हमारी बेटी की चाहत ने.

अगर इस सेक्स कहानी पर कोई अपनी राय मुझे भेजना चाहता है, तो जरूर भेज सकता है. फिर अभिषेक ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और मुझे आगे पीछे करके खड़े खड़े चोदने लगा. हमने उठ कर अपने कपड़ों को ठीक किया और आस-पास ध्यान से देखा कि कोई हमें देख तो नहीं रहा था.

मां बनने के बाद जितना चूदो दर्द नहीं सिर्फ मज़ा आता है।भले ही मैं कितनी बड़ी रण्डी चुदक्कड़ थी। पर उसके लिए लक्की थी।शादी के बाद उसे बड़ी कंपनी में नौकरी मिल गई। उसके लिए हम दूसरे शहर चले गए.

फिर अंकल ने मॉम के पेटीकोट के नाड़े को ढीला करके पेटीकोट को अलग कर दिया. फिर मैंने उसे मिलने के लिए कहा तो उसने कहा कि उसकी माँ उसे कॉलेज छोड़ने और घर वापस लेने आती है इसलिए वह कॉलेज टाइम में नहीं मिल सकती।मिलने का पहला प्लान फेल होने के बाद मैंने कुछ दिन उसके साथ चैट किया. इस पर रामू ने पूछा- क्या हुआ भाभी! बहुत ज़्यादा दर्द हो रहा है क्या?आरिषा- हां रामू.

हैलो फ्रेंड्स, मैं महेश आपको शायरा से अपने प्रेम की सेक्स कहानी सुना रहा था. वो तेज तेज अपनीमोटी गांडको हिला कर मॉम की चूत में धक्के लगा रहे थे और बड़बड़ा रहे थे. तभी मैंने मॉम से कहा- पापा को भी कुछ नहीं पता चलेगा, आप मुझ पर भरोसा कर सकती हो.

फिर उसने कहा- रुको बाबा … सारी रात है ये सब करने के लिये, अब अंदर चलो, पहले कुछ खा पी लेते हैं. अब तो चौड़ी हो गई है … बचपन की कोमल चिकनी गांड पर बड़ बड़े लंड झेले हैं.

आपको मेरी पड़ोसन कोमल भाभी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. अब और तो कोई जगह नहीं थी, जिस पर वो बैठ सकता … इसलिए वो भी बेड पर ही बैठ गया. नंगा होने के बाद जब मैं रजाई में घुसा तो साली ने लंड को हाथ में पकड़ कर कहा- अरे बाप रे! इतना बड़ा! इतना मोटा.

मैंने उसकी टांगें चौड़ी कर दीं और लंड को तेल की कटोरी में डुबा दिया.

वो मस्ती में गालियां देने लगी, रेखा बोली- आंह मादरचोद … कसके चोद साले … आज दिखा दे अपने लंड का जलवा … आह मैं झड़ने वाली हूँ और जोर से चोद मेरे राजा. करीब दस मिनट बाद अंकल ने मॉम को बेड पर लिटा दिया और एक हाथ उनकी चूत पर … और एक चूचे पर रख दिया. जेम्स- आप पेमेन्ट नहीं, आप एक काम करें … मैं आप जैसा माशूक नमकीन तो नहीं … पर आप बदले में मेरी मार दें, ये राशि राकेश को दे दें, उसे जरूरत है.

”नहीं दीदी, ये पाप हैं और वो उनके छोटे भाई हैं, आप कैसी बात कर रही हो?”भाभी आपको कुछ नहीं पता; आप अभी तक कुंवारी हो। आपको लगता है कि बड़े भैया रोज़ आपसे सेक्स करते हैं पर सेक्स आपके साथ आज तक नहीं हुआ. इसलिए मैंने विवेक को फोन पर सारी बात बता दी कि पापा के आने बाद तुमको लेकर बहुत बवाल होने वाला है.

चूंकि मेरी वाली बर्थ में एक आदमी की जगह खाली थी, तो बस का कंडक्टर यानि मेरा दोस्त मेरे पास आया. पंकज की ओर देखते हुए मैंने उसे पीठ के बल लेटने को बोला। सुमन ने अपनी गाँड और ऊपर उचका ली और पंकज नीचे लेट गया।मैंने उसके लंड को थोड़ा सहलाया और सुमन को प्यार से देखते हुए उसे अपनी चूत को लंड के ऊपर लाने को कहा।सुमन भी वासना के आवेग में जल रही थी. मेरा भाई घर वापस आने वाला था जिसके बारे में पता लगते ही बिक्कू की गांड फट गई और उसने मुझे ऐसे ही तड़पते हुए छोड़ दिया.

पंजाबी सेक्सी पिक्चर 2021

मगर दो बेडरूम का फ्लैट चाहिए क्योंकि कभी ना कभी कोई रिश्तेदार या पेरेंट्स आएंगे ही इसलिए इतना तो चाहिए ही होगा.

मैंने उनकी जांघों से धीरे धीरे चुसाई करते करते चूत का रास्ता ले लिया. मुझे उसकी उम्र चालीस के आस पास की मालूम थी, लेकिन अभी वो दिखने में तीस की लग रही थी. पूजा जवान थी, कमसिन थी और अभी अभी अपने पति से चुदते हुए स्खलित नहीं हुई थी लिहाजा इस समय उसके जिस्म की गर्मी भी बाहर निकलने को आतुर थी.

आपको मेरी पड़ोसन कोमल भाभी की चुदाई की कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं. मैंने उसे थोड़ी देर आराम करने को कहा तो वो भी मेरी बगल में लेट गया और मुझे चूमने लगा. कटरीना हीरोइन सेक्सी व्हिडीओइस सब का जिक्र मैं इस सेक्सी वाइफ की कहानी के अगले भाग में लिखूंगा.

मेरे कम्प्यूटर में एक से एक पोर्न वीडियो का कलेक्शन है जिसको देख कर मैं लंड को हिला कर मजा ले लेता हूं. मैं उसके पेट को चूमता हुआ नीचे आ गया और भाभी की पैंटी के ऊपर से ही उसकी चूत पर हाथ फिराने लगा.

मैंने कहा- जानेमन कोई बात नहीं, मैं तुम्हारे अन्दर थोड़ी सी जान डाल देता हूँ. शादी के बाद आज पहली बार ऐसा हुआ था कि संजू किसिंग के दौरान ही झड़ गई थी. फिर शायद अभिषेक को ये जगह पसंद नहीं आई, तो वो मुझे और क्रीम लेकर बाहर आ गया और दूसरे कमरे देखने लगा.

ऐसी पोजीशन्स ट्राई करें कि लंड को भी बाहर ना निकालना पड़े और पोजीशन भी बदल जाये. रोहित दीदी के सामने भी मुझसे बात कर लेता था इसलिए हमें दीदी का भी कोई डर नहीं था।वह दीदी से बहुत घुल मिल गया था इसलिए मेरे बारे में भी वह बात कर लेता था।एक बार बातों बातों में दीदी ने उससे कह दिया होगा कि नीलम की और तुम्हारी शादी करवा देंगे. मेरा हाथ उसके घुटनों के बीच से होते हुए उसकी जांघों के जोड़ तक चला गया.

मैंने उसे इतना डरा दिया था कि वो रात को सोता भी था तो मेरी बुर या गांड के पास मुँह लगा कर सोता था.

वे बोलीं- मैंने कब सताया है?मैं स्माइल करके बोला- भाभी मुझे आपके ऊपर चढ़ने की परमिशन चाहिए. उसने भी मेरे जिस्म को अपनी मजबूत बाजुओं में उठा लिया और कमरे की तरफ ले जाने लगा.

फोन उठा कर बात की तो उन्होंने वहां से बताया कि आपके मरीज की मृत्यु हो चुकी है. मैं- जरा एक बार ये भी तो देखूं, जो इनको खरीदने में तुम‌ इतना शर्मा रही थी. वो तुरंत आ गयी, उछल उछल कर कूदने लगी।मैं उसके चुचे मसल रहा था, वो मुझे पागलों की तरह किस कर रही थी।थोड़ी देर बाद मैंने उसे डॉगी स्टाइल में चोदा और अब मैं झड़ने वाला था तो दूसरी तरफ सौरभ के साथ लगी सोनाली ने अपने वक्ष पे माल गिराने का इशारा किया।मैंने मालविका की चूत से लंड निकाल कर सोनाली के चेहरे और स्तनों पे अपना सारा माल गिरा दिया।सौरभ ने फिर से सोनाली के चेहरे और चुचे से सारा माल चाट लिया.

मैंने दादी की चूत पर हाथ फेरते फेरते चूत में ऊंगली चलाना शुरू कर दिया. मैंने आंखों से उसकी तरफ वासना से देखा और हाथ के इशारे से लंड रस मुँह में छोड़ देने का कह दिया. वो अपनी सहेलियों के बारे में बताती थी कि किसकी सेटिंग किसके साथ है.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी अंशिका हम सभी को देख रही थी और अपनी चूत पे तेज तेज उंगली चला रही थी।मैंने सोचा भी नहीं था कि अंजू की चूत का रस बहकर मेरे मुंह में आने लगा और मेरी जीभ को भिगोने लगा, मैं उसका रस पिए जा रहा था। अंजू की चूत को मैंने अपने होंठों में कस लिया ताकि वो इस बहते झरने का पूरा मज़ा ले सके।अंजू मेरे मुंह से उठ गयी और अंशिका ने उसकी जगह ले ली। दूसरी तरफ मैंने सपना की चूत में धक्के तेज कर दिए थे. तब अभिषेक ने अपना लंड का टोपा मेरी गांड के छेद पर सैट किया और एक ज़ोर का झटका मारा.

कराड सेक्सी

मैंने प्रीति पर ध्यान दिया, तो पता चला कि वो मेरे ऊपर नंगी बैठी थी. आज छुट्टी का दिन है और तुम फोन करके घर पर बोल दो कि किसी सहेली के साथ हो, शाम को ही वापिस आओगी. इस अचानक हमले से उसकी तेज चीख निकल गई- उई मां मर गई … आह फट गई मेरी!उसकी चीख बता रही थी कि अभी तक उसने छोटे लंड ही लिए होंगे या बहुत टाइम बाद चुद रही होगी.

लेकिन उसने जवाब दिया- नहीं, अभी तक कुछ वैसा नहीं किया जैसा तुम सोच रहे हो।मैं समझ गया कि अब लोहा गर्म हो रहा है, मैं अब माहौल बनाने में लग गया।तकरीबन बारह बजे इधर उधर की बात करते करते मैंने कहा- चलो चाय बनाते हैं. उधर बैठे लोग मेरी बात को समझ ही नहीं पाते, पर मेरा ग़ुलाम समझ जाता था और वो मेरा कहा मानने के लिए तुरंत खड़ा हो जाता था. हिंदी सेक्सी ग्रामीण वीडियोमेरा मन नीचे जाने को हुआ, तो मैंने उसके घाघरे को उठाया, जो पहले से ही घुटने तक था.

मैं अब फुल मस्ती में आ गया था और भाभी के गुलाबी होंठों को चूमते हुए उसके एक भरे हुए दूध को सहलाने लगा, जिससे वो फिर से गर्म होने लगी थीं.

शिल्पा- तुम्हें क्या है … तुम तो मजे करके चले जाते हो … संभालना तो मुझे पड़ता है. मामी ने अपनी गांड में जोर लगाया और सारा पानी गांड से मेरे मुँह में निकाल दिया.

मैं तो बस इंतजार कर रही थी … उसके बोलने भर की देर थी, मैंने झट से अपने कपड़े उतारे और बेड पर लेट गयी. चाची चीखते हुए चुदाई के मज़े ले रही थीं- आआह ऊऊम्म … और ज़ोर से कर, मुझे पूरी तरह से शांत कर दे … आह. जब मैंने उन्हें कसके गले से लगाया, तो इस उम्र में भी उनके चूचे मुझे काफी टाइट लगे.

मेरी आग फिर जल उठी थी।मैं अपने चूत में ठंडा खीरा डाल कर अपनी चूत की आग बुझाती थी और अपनी चूचियों को मसलती थी.

इसके अलावा आप सब से निवेदन है कि कहानी पूरी पढ़िये और अंत में मैंने आप सब पाठकों के लिए एक संदेश भी दिया है तो उसे भी जरूर पढ़ें, ज्यादा बड़ा नहीं है संदेश … पर हाँ कहानी कुछ लोगों को लंबी लग सकती है. सेल्सगर्ल- नहीं, सर यहां एटीएम तो नहीं मगर कोई नहीं हम कार्ड से भी पेमेंट लेते हैं. ये सोचकर मैंने काफ़ी गर्व का अनुभव करते हुए पंकज के लंड को पकड़ लिया.

झाबुआ की सेक्सीमॉम मेरे लंड को ऐसे चूस रही थीं मानो वो लंड को किसी कुल्फी की तरह चूस रही हों. मेरे पास बहाना हो गया था … इसलिए मैंने भी थोड़ा सा आगे होकर उसे अपने‌ पर्स से पैसे निकालकर दे दिए.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो यूट्यूब पर

मुझे मेडीकल स्टोर तो मिल गया मगर मैंने जब उससे पेट दर्द की दवाई देने को‌ कहा, तो उसने पूछ लिया कि पेट दर्द किसको है. फिर मैंने पूछा- अब मुझे क्या मिलेगा?उसने बोला- जो आप बोलो … मैंने तो पहले भी बोला था. संजू ने वीर्य को तौलिये से पौंछा और विक्रम के लंड को अपने मुँह से लगाकर उसका बचा हुआ सारा वीर्य चाट गई.

मेरी एक महिला पाठक ने मुझे मेल करके इस कहानी को लिखने का बहुत जोर दिया था. फिर मैं चूत में लन्ड अन्दर बाहर करते करते उसके बूब्स को भी दबाने लगा. मेरे साथ मेरा एक साथी रहता था, जो अपनी गर्लफ्रेंड के लिए बाजार में स्थित एक गिफ्ट कॉर्नर से गिफ्ट वगैरह लिया करता था.

वो मेरी आंखों में झांकते हुए बोली- सर मैं आपसे एक बात पूछ सकती हूँ?मैं- हां बोलो ना!वो बोली- मेरी एक सहेली ने मुझे एक वीडियो दिखाया था. मैं अपने ठेकेदार दोस्तों के साथ मिल कर उसको दारू और मुर्गा खिलाउंगा. अब दुकान वालों का तो काम ही ये होता है कि कैसे भी अपनी सेल बढ़ानी है और उसके लिए ही वो सेल्सवर्कर रखते हैं.

तभी रोहित बोला- इतने दिनों बाद मिली हो जान … एक किस तो दे दो!और वो मुझे पकड़ कर किस करने लगा।मैंने सोचा कि एक दो बार किस करेगा, चलो कर देती हूँ।उसने दो, चार बार किस करी फिर वो करता ही गया. उसके हाथ मेरे लंड को पकड़ने लगे, जिससे मेरे लंड में फिर से हलचल शुरू हो गई और वो कड़ा होने लगा.

अब मैंने नीता को बताया कि पास के ही शहर में एक बहुत अच्छा मसाजर है, वो मेरा बहुत अच्छा दोस्त है, वो हमारी मदद कर सकता है.

सेल्सगर्ल- मैम एक बार देख तो लीजिए हमारे यहां का कलेक्शन और वैरायटी बहुत ही अच्छा है. ओपन सेक्सी पिक्चर का वीडियोबिन्नी के गोल गुदाज़ चूतड़ बिल्कुल मेरे सामने आ गए और मैंने उसकी टांगों को थोड़ा खोलते हुए ताबड़ तोड़ चुदाई शुरू कर दी. विदेशी सेक्सी वीडियो फुलउसने अपनी जीभ को अपने पिता के मुँह में डाल दिया और अपनी जीभ को अपने पिता के होंठों से चुसवाते हुए अपने चूतड़ों को भी उछालने लगी. तब तक सैम ने भी अपने लंड को मेरी गांड में घुसाने लायक चिकना कर लिया था.

ये बोल कर मैंने नीरू के कंधे को चूमा और धीरे धीरे धक्के मारने शुरू कर दिए.

वो भी यही चाहती थी कि मिलने से पहले हम दोनों एक दूसरे को ठीक से समझ लें. मैं भी जान गयी थी कि ये हो न हो जरूर मेरे ही जिस्म के बारे में बातें कर रहे हैं. सुबह 11 बजे उनकी ट्रेन थी तो हम सभी स्टेशन गए।उनको ट्रेन में बैठा कर हम सामान लाने बाजार की तरफ चल दिये और सबसे पहले दारू के ठेके पर जाकर हमने 12 बियर के कैन लिए.

इस समय हम दोनों के ऊपर गिरता फव्वारे का पानी हमको महसूस ही नहीं हो रहा था. दूध पिलाते हुए भाबी ने कहा- अब दूध ही पियोगे या आगे भी कुछ करोगे?मैंने भाबी से कहा- आप मार्गदर्शन कीजिए. वो मस्ती में गालियां देने लगी, रेखा बोली- आंह मादरचोद … कसके चोद साले … आज दिखा दे अपने लंड का जलवा … आह मैं झड़ने वाली हूँ और जोर से चोद मेरे राजा.

सेक्सी वीडियो ईगलीस

फिर वो लंड पर आई और उसने पहले लंड के टोपे को मुँह में लेकर चूसना शुरू किया. चाची- आह अब आया मजा … मैं कितना भी चुद लूँ … मगर अभी जो तू चोद रहा है … उसके बराबर कोई मजा नहीं है. पैसे लिये और सीधा ज्वेलरी शॉप पर पहुंचकर एक नथ और मांग-टीका खरीद लिया!इतनी सारी खरीदारी मैंने क्यों की?क्योंकि ज़ारा का जन्मदिन आने वाला था और सुहागरात से बेहतर कोई तोहफा मैं उसे नहीं दे सकता था.

मैं खाना खाकर 11:30 बजे बाईपास पर बताए गए बस स्टैंड पर प्रतीक्षा करने लगा.

हम दोनों मर्द जिस वक्त का बहुत बेसब्री से इंतजार कर रहे थे वह यूं अचानक आ जाएगा हमें इसका अंदाजा न था.

सेक्स से ध्यान भटकाने के लिए मैं कॉर्स करने लगी।मेरे सास ससुर ने भी मेरा साथ दिया कुछ साल में मुझे रेलवे में टिकट काउंटर पर नौकरी मिल गई।मैंने तय किया कि अब गांव जाकर चुदाई नहीं कराऊंगी. जब मैंने उन्हें कसके गले से लगाया, तो इस उम्र में भी उनके चूचे मुझे काफी टाइट लगे. सेक्सी वाला फोटो भेजोमेरे भाई शिवम की लम्बाई 5 फीट 8 इंच है और विवेक भी उसी के बराबर की हाइट का है.

पता नहीं कितने दिनों से उसका लंड चुत का प्यासा था, जो एकदम से तैयार हो गया. सर के मोटे लंड के घुसते ही मेरी दर्द से भरी हुई तेज आवाज पूरे रूम में गूंजने लगी. दोस्तो, मेरी और शायरा की प्रेम कहानी को एक सेक्स कहानी के रूप में लिख कर मुझे बेहद रोमांच हो रहा है.

मगर मुझे पता था कि दर्द के बिना मजा कैसे मिल सकता है, इसलिए मैंने पायल के होंठों पर अपने होंठ फिर रख दिए और पूरी ताकत से धक्का दे मारा. दरवाजा खुला, लाल रंग की साड़ी पहने बिना बाजू और गहरे गले व कमर पर पट्टी वाले ब्लाउज़ में पूजा का सफेद जिस्म ऐसा दमक रहा था कि मानो बिजली के गुल हो जाने पर भी बिजली की भी जरूरत महसूस न हो.

वो बोला कि तू होटल रेडिसन में क्या कर रहा है?पहले तो अनिल घबरा गया.

उसे तो लग रहा था, जैसे वो किसी जन्नत की हूर के साथ सेक्स कर रहा हो. विजय रह रह कर बार-बार मेरे बूब्स पर नजरें गड़ा रहा था और बात भी मेरी आंखों में आंखें डाल कर बात रहा था. मैंने ये सब इसलिए किया था क्योंकि मुझे मालूम था कि पायल ने अपनी सहेली को सब बता ही दिया होगा कि आज क्या होने वाला था.

सेक्सी वीडियो खुल्लम खुल्ला चुदाई उसकी तो जैसे मन की मुराद पूरी हो गई थी, वो तुरंत बोला- बस मैं कुछ ही देर में आ रहा हूँ।और ठीक 10 बजे वो आ गया। वो एक शराब की बोतल भी साथ लाया था।पूजा उसे देख बहुत शर्मा रही थी. अनिल ने पिंकी को बहुत दवाब दिया कि वो अभी होटल में आ जाता है और फटाफट सेक्स का एक सेशन करके चला जाएगा.

क्लिप मैंने वहां चिपकाईं थीं जहां पर मोमबत्ती का गर्म मोम टपका हुआ था. उन्होंने जिस सत्य घटना का जिक्र मुझसे किया था, मैंने उसी घटना को सेक्स कहानी के रूप में आपके लिए पेश कर रही हूँ. मैंने अपने सारे कपड़े उतारकर सूखने के लिए फैला दिये और टॉवल लपेट लिया.

मियां खलिफा सेक्सी

इतनी देर में श्रेया का मैसेज आ गया; उसने लिखा- डन (हो गया)मैंने लिखा- मी टू … लाइक नेवर बिफोर (मेरा भी अभी तक का सबसे अच्छा. आपको दो बेडरूम का मकान चाहिए था ना … मगर आपकी किस्मत में ड्यूप्लेक्स मकान है. फिर मैंने लकड़ी की छड़ी उठाई और उसकी जांघों के अंदरूनी हिस्से पर मारने लगी.

बस फिर क्या था … मैंने उसे हग कर लिया। उसके सुर्ख लाल गुलाबी होंठों को अपने होंठों से जोड़ दिया।क्या अद्भुत आनंद आ रहा था … मैं तो जन्नत में था. ये सोच कर मैंने पहले तो मैंने कार अंडरग्राउंड पार्किंग में एक अँधेरे से कोने में लगायी.

मैंने देखा कि वो चुदासी औरत पेटीकोट को स्तन के ऊपर तक बांध कर नहा रही थी।फिर मैंने उनको पुकारा तो वो बोली- मैं नहा रही हूँ.

उसने ललचाई नजर से मेरी गीली हो चुकी चूत को निहारा और फिर मेरी टांगें चौड़ी खोल कर मेरी चूत में जीभ लगा दी. तो पिंकी ने हैंड टॉवल से चूत को साफ़ किया और रवि से कहा- आओ जान, अब तुम इसे फाड़ो. संजू ने जैसे ही लंड को फुंफकारते हुए देखा, वो उसकी विशालता को देख कर आश्चर्यचकित हो गई.

विकी बोला- बिना लंड लिए ही झड़ गई तुम तो!मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और सर को पकड़ कर चूमने लगी. जैसे कि आप सभी को मालूम है कि इस कायनात में नर मादा दोनों को ही सेक्स की जरूरत होती है. उसके बाद एक झटके में आधा लंड गांड में पेला ही था कि वो जोर से चिल्ला पड़ी.

लंड डालने से पहले मैं उसे चूमता रहा और धीरे धीरे अपना लंड उसकी फुद्दी में डालने की कोशिश करता रहा.

हिंदी सेक्सी बीएफ पिक्चर सेक्सी: सास दामाद Xxx कहानी में मैंने अपनी ससुराल में अपनी सास को ब्लू फिल्म देखकर चूत में उंगली करते देखा. उसके बाद वो उठी और मैंने देखा कि उसकी गांड देखने में और भी ज्यादा मस्त थी.

मैं नए नए तरीके ढूंढ़ती रहती थी कि गुलामों को कैसे पेलते हैं और ग़ुलामों से कैसे बर्ताव करते हैं. यह कहानी तब की है जब मैं 19 साल का था और मेरी बड़ी चाची 38 की थी।मेरे तीन दादा थे. तभी अनुपमा ने एक टांग उठाई और बिस्तर के किनारे पर रखा और पीछे से लंड पकड़ कर चूत पर टिका दिया। मैं उस वक़्त पूरे जोश में था समझ नहीं आ रहा था कि जिसे सिर्फ ख्यालों में चोदा है उसके साथ अब असली में क्या करूँ?चूत को छूते ही मैंने धक्का लगाना शुरू किया.

हमारे यहां पैसों की अब कोई दिक्कत नहीं है।मैंने अपने भाई कमल की मदद की और उसे एक अच्छे स्कूल में डाल दिया।अब मैंने गांव जाना भी छोड़ दिया है। मेरा बेटा 20 साल का है। कॉलेज में पढ़ता है। और वो भी एक अच्छे खासे लंड का मालिक है।आप सोच रहे होंगे कि मुझे कैसे मालूम? क्या मैंने उससे चुदाई कराई है?नहीं … मैं अपने बेटे सुमित से नहीं चुदी हूँ।पर मैं उसकी मां हूं … बचपन से उसे देख रही हूं.

लेकिन मैंने उन्हें यह नहीं बताया कि मैं विजय के घर होम आइसोलेट हो गई हूं. फिर क्या था … मैंने उसी डिल्डो को चुत में अन्दर तक घुसाने की कोशिश की. मैंने इस बात पर उनका धन्यवाद किया और कुछ देर बाद अपने घर वापिस आ गया.